सरकार की इतनी योजना के बाद भी युवा बेरोज़गार और किसान परेशान क्यों है?...


user

Dr. Radha kant Singh

किसान

1:58
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

सरकार की इतनी योजनाओं के बाद भी युवा बेरोजगारों के साथ आपने बहुत अच्छा प्रश्न किया है यह चिंता का विषय है युवा परेशान है बेरोजगार है किसान दुखी है बढ़ती हुई जनसंख्या हमारी और घटते हुए साधन संसाधन हमारे घटते जा रहे हैं संख्या बढ़ती जा रही थी जंगल घट रहे हैं तो जलती है हम सब को जागृत होना होगा सरकार ही नहीं कर सकती है हम सब को भी सहयोग देना होगा अगर हम b2b वन हम दो हमारे एक पॉलिसी पर नहीं आएंगे तो शायद यह देश में और ज्यादा बेरोजगारी बढ़ेगी किसान और ज्यादा दुखी होगा संसाधन और कम होंगे प्रति व्यक्ति आय घटती जाएगी कर्ज बढ़ता जाएगा आत्महत्या की घटनाएं बढ़ती जाएगी और हमारे यहां एक और बुरी बात है अगर हमारे यहां कोई शादी नहीं करता ना तो उसको बड़ा है दृष्टि से देखा जाता है मैंने स्वर में शादी नहीं किए मैं शायद इस अभियान का हिस्सा बन सकूं मैं आगे की आने वाली एक जनसंख्या को रोक दिया तो यह हमको चाहिए हम लोगों के अंदर यह उत्साह ही होना चाहिए कि हम अपने देश के लिए कुछ करके जाएंगे अगर हम कुछ नहीं कर सकते तो कम से कम जनसंख्या पर

sarkar ki itni yojnao ke baad bhi yuva berozgaron ke saath aapne bahut accha prashna kiya hai yah chinta ka vishay hai yuva pareshan hai berozgaar hai kisan dukhi hai badhti hui jansankhya hamari aur ghatate hue sadhan sansadhan hamare ghatate ja rahe hain sankhya badhti ja rahi thi jungle ghat rahe hain toh jalti hai hum sab ko jagrit hona hoga sarkar hi nahi kar sakti hai hum sab ko bhi sahyog dena hoga agar hum b2b van hum do hamare ek policy par nahi aayenge toh shayad yah desh mein aur zyada berojgari badhegi kisan aur zyada dukhi hoga sansadhan aur kam honge prati vyakti aay ghatati jayegi karj badhta jaega atmahatya ki ghatnaye badhti jayegi aur hamare yahan ek aur buri baat hai agar hamare yahan koi shadi nahi karta na toh usko bada hai drishti se dekha jata hai maine swar mein shadi nahi kiye main shayad is abhiyan ka hissa ban sakun main aage ki aane wali ek jansankhya ko rok diya toh yah hamko chahiye hum logo ke andar yah utsaah hi hona chahiye ki hum apne desh ke liye kuch karke jaenge agar hum kuch nahi kar sakte toh kam se kam jansankhya par

सरकार की इतनी योजनाओं के बाद भी युवा बेरोजगारों के साथ आपने बहुत अच्छा प्रश्न किया है यह च

Romanized Version
Likes  52  Dislikes    views  745
KooApp_icon
WhatsApp_icon
7 जवाब
no img
qIcon
ask
ऐसे और सवाल
Loading...
Loading...
qIcon
ask
QuestionsProfiles

Vokal App bridges the knowledge gap in India in Indian languages by getting the best minds to answer questions of the common man. The Vokal App is available in 11 Indian languages. Users ask questions on 100s of topics related to love, life, career, politics, religion, sports, personal care etc. We have 1000s of experts from different walks of life answering questions on the Vokal App. People can also ask questions directly to experts apart from posting a question to the entire answering community. If you are an expert or are great at something, we invite you to join this knowledge sharing revolution and help India grow. Download the Vokal App!