#NarakChaturdashi2019: दीवाली के दिन ही पड़ रही है नरक चतुर्दशी - आपकी राय?...


user

ज्योतिषी झा मेरठ (Pt. K L Shashtri)

Astrologer Jhaमेरठ,झंझारपुर और मुम्बई

0:38
Play

Likes  68  Dislikes    views  2274
WhatsApp_icon
3 जवाब
qIcon
ask
ऐसे और सवाल
Loading...
Loading...
play
user

Ajay Sinh Pawar

Founder & M.D. Of Radiant Group Of Industries

1:43

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

दिवाली के दिन ही पड़ रही है नरक चतुर्थी यह सब हमारे हिंदू पंचांग में इस तरह से ना कल कुलेशन होती है नरक चतुर्दशी काली चौदस का और दिवाली का जो इस तरह से दान किया गया है जो कैलकुलेशन रात के दूसरे पर में होने पर हम रात को तो सो जाएंगे और फिर बाद में दिवाली बैठ जाए तो उसका कोई मतलब नहीं है हम अपनी पूजा नरक चतुर्दशी की करते और फिर बाद में दूसरे दिन सुबह दिवाली का त्यौहार मना सकते हैं ऐसी मान्यता है बाकी तो जो दूसरे लोग कहते हैं उसको भी हम फॉलो कर सकते हैं लेकिन जब दिन होता है हमारा अशोक 27 तारीख को दिवाली का त्योहार मनाना चाहिए आपको घंटा 2 घंटे की बात है तो कोई बात नहीं है हम अपना काम नहीं कर सकते हैं जो भी पूजा है उसे और फिर बाद में दिवाली मनाए

diwali ke din hi pad rahi hai narak chaturthi yah sab hamare hindu panchang mein is tarah se na kal kuleshan hoti hai narak chaturdashi kali chaudas ka aur diwali ka jo is tarah se daan kiya gaya hai jo calculation raat ke dusre par mein hone par hum raat ko toh so jaenge aur phir baad mein diwali baith jaaye toh uska koi matlab nahi hai hum apni puja narak chaturdashi ki karte aur phir baad mein dusre din subah diwali ka tyohar mana sakte hain aisi manyata hai baki toh jo dusre log kehte hain usko bhi hum follow kar sakte hain lekin jab din hota hai hamara ashok 27 tarikh ko diwali ka tyohar manana chahiye aapko ghanta 2 ghante ki baat hai toh koi baat nahi hai hum apna kaam nahi kar sakte hain jo bhi puja hai use aur phir baad mein diwali manaye

दिवाली के दिन ही पड़ रही है नरक चतुर्थी यह सब हमारे हिंदू पंचांग में इस तरह से ना कल कुलेश

Romanized Version
Likes  60  Dislikes    views  1136
WhatsApp_icon
user
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

दीपावली रविवार को है जबकि नरक चतुर्दशी शनिवार को इसलिए दोनों एक दिन नहीं है

deepawali raviwar ko hai jabki narak chaturdashi shaniwaar ko isliye dono ek din nahi hai

दीपावली रविवार को है जबकि नरक चतुर्दशी शनिवार को इसलिए दोनों एक दिन नहीं है

Romanized Version
Likes  29  Dislikes    views  970
WhatsApp_icon
qIcon
ask
QuestionsProfiles

Vokal App bridges the knowledge gap in India in Indian languages by getting the best minds to answer questions of the common man. The Vokal App is available in 11 Indian languages. Users ask questions on 100s of topics related to love, life, career, politics, religion, sports, personal care etc. We have 1000s of experts from different walks of life answering questions on the Vokal App. People can also ask questions directly to experts apart from posting a question to the entire answering community. If you are an expert or are great at something, we invite you to join this knowledge sharing revolution and help India grow. Download the Vokal App!