UPSC मेन्स में निबंध लेखन के लिए मिताली सेठी क्या सुझाव देंगी, क्योंकि उन्होंने इस पेपर में 160 अंक हासिल किए हैं?...


play
user

Mittali Sethi

IAS 2017 Batch

4:46

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

एंग्री बर्ड को मुझे माफ क्यों मिले तो मैं भी नहीं बता सकती मैं कोई भी बताता इनसाइड बहुत लंबा पहली आज तक किसी के बारे में ज्यादा सोचते हैं वह पेपर पर उतारने की एक रात में करे जो मुझे आप हिम्मत होनी चाहिए कि आप जो अच्छी सोचते हैं वह कागज में पाकिस्तान कैसे होता है तू अभी ऐसी बात कर रही हूं और मैं कैसे अपनी चीज को आपके सामने रख रही हूं कि आप काट लेता उसे कैसे सामने आएगा तो कैसे समझेंगे तो आपको ही समझ में आना चाहिए क्या आप सो पॉइंट आप ऊपर क्रॉस कर रहे हैं उसको आप कैसे टूटा स्वस्थ करें कि सामने वाले को नीचे लिखी समझ में आए तो पढ़ना मेंटीनेंस के आप कभी भी एग्जामिनेशन डायरेक्ट ही तो मिलेंगे और जो आपकी लाइफ में परसेप्शन क्या है आपको दुनिया के बारे में कैसा लगता है वह सब चीज का माध्यम आपका वह कागज है तो आपको एक उदाहरण के तौर पर शामिल इंटरलिंकिंग आफ रिवर्स के बारे में कैसे टेक्निकल टॉपिक को जब आपको किसी के सामने रखना है तो आप उसे कैसे रखें नौटंकी पर वह दे दो पहले यह सोचिए कि ऐसा नार्मल ह्यूमन बीइंग पानी की बोतल को पानी नहीं मिल रहा है तो उसे वह पानी देना है आपको ऐसे तो आपका कर्नाटका में बैठे हैं वहां पर बहुत ज्यादा तो आपको समझ में नहीं आएगा कि आप से रहता है कि आप हर किसी के स्पॉट पर बैठकर समझ पाएंगे लोगों को क्या लगता है और क्यों लगता है शुरू में पोयम करके लिखा कि बच्चे की मां से पूछा कि मेरे बाजू के घर पर जो लड़की रहती है वह उसके पास पानी इतना कम क्यों है वैसे कभी-कभी गोलू कभी वहां नहीं आती है तो उसकी मां ने सोचा कि पानी पर तो मुझे लगता है कि कभी-कभी तो आप लिखते हैं और जब मैं 1 दिन में पता नहीं कितने दिन पर शुरुआत और दूसरा दिन टेस्ट रिपोर्ट मांगी है उसके बाद आपकी टॉपिक को किसने देख लेना सबसे पहले बहुत इंटेक्स रिक्वेस्ट एवरीबॉडी की एक बार बता दिया पंजाबी कोचिंग पार्टी के कांसेप्ट को दूसरे फोन से कैसे लिंक करते हैं उसकी कहानी आपके दिमाग में कैसे बनती है तुझे नहीं रहेगा कि उसको कहानी के जैसी सोचिए और जैसे कि उसको कागज पर उतारी और जो लगता है जैसे भावना में आपको लिखना है वह भावना में बाबू करेंगे तो अपने हमेशा आसपास के लिए उसको दीजिए

angry bird ko mujhe maaf kyon mile toh main bhi nahi bata sakti main koi bhi batata inside bahut lamba pehli aaj tak kisi ke bare mein zyada sochte hain vaah paper par utarane ki ek raat mein kare jo mujhe aap himmat honi chahiye ki aap jo achi sochte hain vaah kagaz mein pakistan kaise hota hai tu abhi aisi baat kar rahi hoon aur main kaise apni cheez ko aapke saamne rakh rahi hoon ki aap kaat leta use kaise saamne aayega toh kaise samjhenge toh aapko hi samajh mein aana chahiye kya aap so point aap upar cross kar rahe hain usko aap kaise tuta swasthya kare ki saamne waale ko niche likhi samajh mein aaye toh padhna mentinens ke aap kabhi bhi examination direct hi toh milenge aur jo aapki life mein perception kya hai aapko duniya ke bare mein kaisa lagta hai vaah sab cheez ka madhyam aapka vaah kagaz hai toh aapko ek udaharan ke taur par shaamil intaralinking of reverse ke bare mein kaise technical topic ko jab aapko kisi ke saamne rakhna hai toh aap use kaise rakhen nautanki par vaah de do pehle yah sochiye ki aisa normal human being paani ki bottle ko paani nahi mil raha hai toh use vaah paani dena hai aapko aise toh aapka karnataka mein baithe hain wahan par bahut zyada toh aapko samajh mein nahi aayega ki aap se rehta hai ki aap har kisi ke spot par baithkar samajh payenge logo ko kya lagta hai aur kyon lagta hai shuru mein poem karke likha ki bacche ki maa se poocha ki mere baju ke ghar par jo ladki rehti hai vaah uske paas paani itna kam kyon hai waise kabhi kabhi golu kabhi wahan nahi aati hai toh uski maa ne socha ki paani par toh mujhe lagta hai ki kabhi kabhi toh aap likhte hain aur jab main 1 din mein pata nahi kitne din par shuruat aur doosra din test report maangi hai uske baad aapki topic ko kisne dekh lena sabse pehle bahut intex request everybody ki ek baar bata diya punjabi coaching party ke concept ko dusre phone se kaise link karte hain uski kahani aapke dimag mein kaise banti hai tujhe nahi rahega ki usko kahani ke jaisi sochiye aur jaise ki usko kagaz par utaari aur jo lagta hai jaise bhavna mein aapko likhna hai vaah bhavna mein babu karenge toh apne hamesha aaspass ke liye usko dijiye

एंग्री बर्ड को मुझे माफ क्यों मिले तो मैं भी नहीं बता सकती मैं कोई भी बताता इनसाइड बहुत लं

Romanized Version
Likes  150  Dislikes    views  3127
WhatsApp_icon
1 जवाब
qIcon
ask
ऐसे और सवाल
Loading...
Loading...
Likes    Dislikes    views  
WhatsApp_icon
qIcon
ask
QuestionsProfiles

Vokal App bridges the knowledge gap in India in Indian languages by getting the best minds to answer questions of the common man. The Vokal App is available in 11 Indian languages. Users ask questions on 100s of topics related to love, life, career, politics, religion, sports, personal care etc. We have 1000s of experts from different walks of life answering questions on the Vokal App. People can also ask questions directly to experts apart from posting a question to the entire answering community. If you are an expert or are great at something, we invite you to join this knowledge sharing revolution and help India grow. Download the Vokal App!