7 वें वेतन आयोग के निर्णय ने त्रिपुरा में भाजपा की जीत में कैसे मदद की?...


play
user

Sachin Bharadwaj

Faculty - Mathematics

1:25

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

लेकिन मुझे नहीं लगता कि भारतीय जनता पार्टी त्रिपुरा में या नागालैंड में सेवंथ पे कमिशन के वजह से जीती है क्योंकि सेवंथ पे कमिशन को अगर आप देखेंगे तो उस सरकार कोई भी गवर्नमेंट एंप्लोई आप उससे पूछिए तो आपको पता चलेगा कि सेवंथ पे कमिशन में सरकार ने लोगों को दिया ही नहीं है हां मैं यह बात मानता हूं कि बहुत सारी और और चीजें थी जिनकी वजह से भारतीय जनता पार्टी नोटिस मैं स्पेशली जीती है अब आप जानते हैं भारतीय जनता पार्टी जिस प्रकार के वादे करती है हालांकि चुनाव हो जाने के बाद उनमें से एक भी वादा पूरा नहीं होता है फिर भी जिस प्रकार के वादे करते लोगों में इस तरह का भरोसा दिलाते हैं कि जैसे वह सत्ता में आएंगे और हर चीज एकदम रामराज जी की तरह हो जाएगी जबकि प्रैक्टिकल इतना पॉसिबल नहीं होता तो मुझे लगता है जो लोग इस बहकावे में आ जाते हैं वह भारतीय जनता पार्टी है भारतीय जुमला पार्टी को वोट दे देते हैं अगर आप देखें 2014 का इलेक्शन देख लीजिए तो जो है 14 के इलेक्शन के बाद से पहले जो भी वादे किए क्या सरकार ने पूरे कि अगर आप देखेंगे तो उसमें से 10

lekin mujhe nahi lagta ki bharatiya janta party tripura mein ya nagaland mein sevanth pe commission ke wajah se jeeti hai kyonki sevanth pe commission ko agar aap dekhenge toh us sarkar koi bhi government employee aap usse puchiye toh aapko pata chalega ki sevanth pe commission mein sarkar ne logon ko diya hi nahi hai haan main yah baat manata hoon ki bahut saree aur aur cheezen thi jinki wajah se bharatiya janta party notice main speshli jeeti hai ab aap jante hain bharatiya janta party jis prakar ke waade karti hai halanki chunav ho jaane ke baad unmen se ek bhi vada pura nahi hota hai phir bhi jis prakar ke waade karte logon mein is tarah ka bharosa dilate hain ki jaise vaah satta mein aayenge aur har cheez ekdam ramraj ji ki tarah ho jayegi jabki practical itna possible nahi hota toh mujhe lagta hai jo log is bahakaave mein aa jaate hain vaah bharatiya janta party hai bharatiya jumla party ko vote de dete hain agar aap dekhen 2014 ka election dekh lijiye toh jo hai 14 ke election ke baad se pehle jo bhi waade kiye kya sarkar ne poore ki agar aap dekhenge toh usmein se 10

लेकिन मुझे नहीं लगता कि भारतीय जनता पार्टी त्रिपुरा में या नागालैंड में सेवंथ पे कमिशन के

Romanized Version
Likes  3  Dislikes    views  197
WhatsApp_icon
2 जवाब
qIcon
ask
ऐसे और सवाल
Loading...
Loading...
user

Jyoti Mehta

Ex-History Teacher

1:38
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

त्रिपुरा में 20 साल से सत्ता में रही माणिक सरकार की जगह और विपक्ष में होगी ढाई दशक पुरानी वामदलों के इस लाल किले पर कब्जा करने वाली भाजपा ने चालू पत्नी का चुनावी नारा दिया जो सफल रहा बीजेपी युवाओं को आकर्षित करने में कामयाब रही इसके लिए सोशल मीडिया का खूब इस्तेमाल किया गया जबकि माणिक सरकार स्वयं स्वयं ही मोबाइल का इस्तेमाल नहीं करती है राज्य में एक बड़ा हिस्सा नाथ संप्रदाय के अनुयायियों का था इसमें से 6 प्रति जीत दर्ज हुई है आदित्यनाथ की वजह से जबकि माणिक सरकार से ईमानदार छवि पर ही निर्भर DJ रोजगार स्वास्थ्य सड़क पर पानी जैसी विकास के मुद्दों पर और भ्रष्टाचार पर भाषण भाजपा के हम लोग का जवाब देने में माणिक सरकार नाकाम रही सादगीपूर्ण जीवन जीने वाले सबसे गरीब मुख्यमंत्री का तमगा हासिल करने वाले माणिक सरकार अपने कर्मचारियों के लिए

tripura mein 20 saal se satta mein rahi maanik sarkar ki jagah aur vipaksh mein hogi dhai dashak purani vamadalon ke is lal kile par kabza karne waali bhajpa ne chaalu patni ka chunavi naara diya jo safal raha bjp yuvaon ko aakarshit karne mein kamyab rahi iske liye social media ka khoob istemal kiya gaya jabki maanik sarkar swayam swayam hi mobile ka istemal nahi karti hai rajya mein ek bada hissa nath sampraday ke anuyayiyon ka tha isme se 6 prati jeet darj hui hai adityanath ki wajah se jabki maanik sarkar se imaandaar chhavi par hi nirbhar DJ rojgar swasthya sadak par paani jaisi vikas ke muddon par aur bhrashtachar par bhashan bhajpa ke hum log ka jawab dene mein maanik sarkar nakam rahi sadgipurn jeevan jeene waale sabse garib mukhyamantri ka tamaga hasil karne waale maanik sarkar apne karmachariyon ke liye

त्रिपुरा में 20 साल से सत्ता में रही माणिक सरकार की जगह और विपक्ष में होगी ढाई दशक पुरानी

Romanized Version
Likes    Dislikes    views  115
WhatsApp_icon
qIcon
ask
QuestionsProfiles

Vokal App bridges the knowledge gap in India in Indian languages by getting the best minds to answer questions of the common man. The Vokal App is available in 11 Indian languages. Users ask questions on 100s of topics related to love, life, career, politics, religion, sports, personal care etc. We have 1000s of experts from different walks of life answering questions on the Vokal App. People can also ask questions directly to experts apart from posting a question to the entire answering community. If you are an expert or are great at something, we invite you to join this knowledge sharing revolution and help India grow. Download the Vokal App!