भारत में आर्थिक स्थिति के चलते हुए लोगों को आरक्षण मिलना सही है या नहीं?...


user
0:35
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

भारत भारती के चलते हुए लोगों को आरक्षण दिया जा रहा है और जिन जातियों को आरक्षण आरक्षण की मांग कई समय से चली आ रही है लेकिन इस पर अभी सरकार ने लिया है

bharat bharati ke chalte hue logo ko aarakshan diya ja raha hai aur jin jaatiyo ko aarakshan aarakshan ki maang kai samay se chali aa rahi hai lekin is par abhi sarkar ne liya hai

भारत भारती के चलते हुए लोगों को आरक्षण दिया जा रहा है और जिन जातियों को आरक्षण आरक्षण की म

Romanized Version
Likes  100  Dislikes    views  2008
WhatsApp_icon
8 जवाब
qIcon
ask
ऐसे और सवाल
Loading...
Loading...
user

Ajay Sinh Pawar

Founder & M.D. Of Radiant Group Of Industries

1:21
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

भारत में आर्थिक स्थिति के चलते हुए लोगों को आरक्षण मिलना सही है या नहीं अभी तक तो लिखा जाता है कि जाति आधारित दो शेड्यूल कास्ट एंड शेड्यूल्ड केस्ट एससी एसटी को जाति आधारित आरक्षण मिलता है लेकिन 10 परसेंट कोटा इस तरफ से प्रावधान किया जा रहा है कि जो आर्थिक पर को मध्य नजर रखते हुए और लोगों को आरक्षण दिया जाए लेकिन उससे कुछ लोगों का विरोध भी हो सकता है लेकिन आरक्षण की किस को जरूरत है रियल में देखा जाए तो जो आर्थिक सरिस्का पिछड़ा आरक्षण की जरूरत है विशेष लाभ मिलना चाहिए और मिलना चाहिए जातियों में शब्द समाज को बांटकर और वोट बैंक समझकर यह सब करती है लेकिन यह बहुत पहले से चला रहा है कि एससी एसटी को रिजर्वेशन कोटा दिया हुआ हो सकता है कि आगे किस प्रकार अन्य वाली इसको फेरबदल करें धन्यवाद

bharat mein aarthik sthiti ke chalte hue logo ko aarakshan milna sahi hai ya nahi abhi tak toh likha jata hai ki jati aadharit do schedule caste and scheduled kest SC ST ko jati aadharit aarakshan milta hai lekin 10 percent quota is taraf se pravadhan kiya ja raha hai ki jo aarthik par ko madhya nazar rakhte hue aur logo ko aarakshan diya jaaye lekin usse kuch logo ka virodh bhi ho sakta hai lekin aarakshan ki kis ko zarurat hai real mein dekha jaaye toh jo aarthik sariska pichda aarakshan ki zarurat hai vishesh labh milna chahiye aur milna chahiye jaatiyo mein shabd samaj ko bantakar aur vote bank samajhkar yah sab karti hai lekin yah bahut pehle se chala raha hai ki SC ST ko reservation quota diya hua ho sakta hai ki aage kis prakar anya wali isko ferabadal kare dhanyavad

भारत में आर्थिक स्थिति के चलते हुए लोगों को आरक्षण मिलना सही है या नहीं अभी तक तो लिखा जात

Romanized Version
Likes  57  Dislikes    views  1140
WhatsApp_icon
play
user

दिनेश कुमार

Social Activist/ Electronic And Domestic Appliances Maintenance And Repair

2:36

Likes  13  Dislikes    views  253
WhatsApp_icon
user

Rs Rathore

Politician

1:16
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

देखेगा किशन है भारत में आरती के चलते हुए लोगों को आरक्षण मिलना चाहिए उसके अंदर कहीं ना कहीं आरक्षण मुद्दा है जितने भी ऐसा प्रावधान किया था लेकिन एक दशक के बाद यानी 10 साल की बात हुई थी इसके बारे में कोई नहीं हुआ है

dekhega kishan hai bharat me aarti ke chalte hue logo ko aarakshan milna chahiye uske andar kahin na kahin aarakshan mudda hai jitne bhi aisa pravadhan kiya tha lekin ek dashak ke baad yani 10 saal ki baat hui thi iske bare me koi nahi hua hai

देखेगा किशन है भारत में आरती के चलते हुए लोगों को आरक्षण मिलना चाहिए उसके अंदर कहीं ना कही

Romanized Version
Likes  5  Dislikes    views  123
WhatsApp_icon
user

Raghuveer Singh

👤Teacher & Advisor🙏

1:21
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

बिल्कुल भारत में आर्थिक स्थिति के चलते हुए लोगों को आरक्षण मिलना चाहिए या नहीं आरक्षण वास्तव में आर्थिक स्थिति के आधार पर ही मिलना चाहिए ऐसे ऐसे ब्राह्मण क्षत्रिय वैश्य जिनको आरक्षण बिल्कुल नहीं मिला है इतने गरीब है इतने गरीब है जिनको देखा नहीं जा सकता फिर भी उनको आरक्षण नहीं मिलता निम्न जाति के लोग हैं जो आज कलेक्टर बन गए आईएएस ऑफिसर बन गए बड़े-बड़े बंगले उनके उनके बच्चे आरक्षण का फायदा उठाते हैं यह कौन सा तरीका है आज हर सरकारी महकमा चाहे वह रेलवे सेक्टर हो चाहे अस्पताल सोचा है पुलिस थाना हो चाहे वह सरकारी स्कूल से चाहे कुछ भी हो सारे सेक्टर जहां पर आरक्षण लागू होता है उनकी स्थिति बहुत दयनीय है मैंने कुछ नहीं आता निम्न जाति को आर्थिक आधार पर आरक्षण दो अगर ऊपर उठाना भी है तो आज राजस्थान में एसटी को अष्टमी 23 का शामिल है एसटी को आरक्षण दिया जाता है लेकिन सबसे ज्यादा कौन उठाता है उसी में 23 कास्ट है लेकिन एक अकेली कास्ट मीना कास्ट पूरे के पूरे आरक्षण का फायदा उठा लेती हैं यह कौन सा तरीका है जो जातियां ऊपर उठ चुके हैं उनको जनरल में डालो आरक्षण आर्थिक आधार पर ही लागू होना चाहिए ना की जाति के आधार पर

bilkul bharat mein aarthik sthiti ke chalte hue logo ko aarakshan milna chahiye ya nahi aarakshan vaastav mein aarthik sthiti ke aadhaar par hi milna chahiye aise aise brahman kshatriya vaiishay jinako aarakshan bilkul nahi mila hai itne garib hai itne garib hai jinako dekha nahi ja sakta phir bhi unko aarakshan nahi milta nimn jati ke log hain jo aaj collector ban gaye IAS officer ban gaye bade bade bangale unke unke bacche aarakshan ka fayda uthate hain yah kaun sa tarika hai aaj har sarkari mahkama chahen vaah railway sector ho chahen aspatal socha hai police thana ho chahen vaah sarkari school se chahen kuch bhi ho saare sector jaha par aarakshan laagu hota hai unki sthiti bahut dayaniye hai maine kuch nahi aata nimn jati ko aarthik aadhaar par aarakshan do agar upar uthana bhi hai toh aaj rajasthan mein ST ko ashtami 23 ka shaamil hai ST ko aarakshan diya jata hai lekin sabse zyada kaun uthaata hai usi mein 23 caste hai lekin ek akeli caste meena caste poore ke poore aarakshan ka fayda utha leti hain yah kaun sa tarika hai jo jatiya upar uth chuke hain unko general mein dalo aarakshan aarthik aadhaar par hi laagu hona chahiye na ki jati ke aadhaar par

बिल्कुल भारत में आर्थिक स्थिति के चलते हुए लोगों को आरक्षण मिलना चाहिए या नहीं आरक्षण वास्

Romanized Version
Likes    Dislikes    views  
WhatsApp_icon
user

Saurabh Singh

Politician

0:59
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

यह बात सही है कि भारत में विदेश की जानकारी पर ही आरक्षण देना चाहिए क्योंकि कुछ जनता डेरी शोषित वर्ग है जो ऊपर आने के लिए उन्हें आरक्षण की सख्त आवश्यकता है कुछ जलता कुछ लोग धन्यवाद में उनकी आर्थिक व्यवस्था को मजबूत होने आरक्षण की कोई आवश्यकता नहीं होती जब तक जब तक कोई भी कोई व्यक्ति का कोई सोशल जिसे जब तक आरक्षण देकर उसे उठाया नहीं जाएगा जब तक उसे सहयोग नहीं दिया जाएगा जब तक वह नहीं खड़ा हो सकता उसे खाने के लिए रिमाइंड कर देना चाहिए जब तू है सही से नहीं आ जाता है चला जाता है तो उसका आरक्षण दिया जाना चाहिए क्या लगता है कि कि समाज अब गरीब नहीं रही तो उसका अच्छा उसके अवश्य को खत्म कर देना चाहिए कोई बड़ी बात नहीं है बीवी एक

yah baat sahi hai ki bharat me videsh ki jaankari par hi aarakshan dena chahiye kyonki kuch janta dairy shoshit varg hai jo upar aane ke liye unhe aarakshan ki sakht avashyakta hai kuch jalta kuch log dhanyavad me unki aarthik vyavastha ko majboot hone aarakshan ki koi avashyakta nahi hoti jab tak jab tak koi bhi koi vyakti ka koi social jise jab tak aarakshan dekar use uthaya nahi jaega jab tak use sahyog nahi diya jaega jab tak vaah nahi khada ho sakta use khane ke liye remind kar dena chahiye jab tu hai sahi se nahi aa jata hai chala jata hai toh uska aarakshan diya jana chahiye kya lagta hai ki ki samaj ab garib nahi rahi toh uska accha uske avashya ko khatam kar dena chahiye koi badi baat nahi hai biwi ek

यह बात सही है कि भारत में विदेश की जानकारी पर ही आरक्षण देना चाहिए क्योंकि कुछ जनता डेरी श

Romanized Version
Likes  2  Dislikes    views  74
WhatsApp_icon
user

Santosh Magadum

Teacher- Mathematics

0:51
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

जब भी आरक्षण का बात आता है तो बहुत सारे लोगों के मन में कुछ भावना ही उठती हैं गलत हो या सही हो तो अपने अपने हिसाब से वह अपनी भावनाओं को भावनाओं का भावना उड़ते हैं तो आरक्षण अगर इस देश का आर्थिक स्थिति बदल जाएगा और इस देश का आर्थिक स्थिति बेहतर होगा तो मुझे लगता है कि किसी को आरक्षण का जो सपोर्ट वह उसका जरूरत नहीं रहेगा और आरक्षण मिला नहीं चाहिए हर एक आदमी को अपना जो वह जो सीखते हैं और वह जो मेहनत करते हैं उसके हिसाब से सब उनको मिलना चाहिए

jab bhi aarakshan ka baat aata hai toh bahut saare logo ke man mein kuch bhavna hi uthati hain galat ho ya sahi ho toh apne apne hisab se vaah apni bhavnao ko bhavnao ka bhavna udte hain toh aarakshan agar is desh ka aarthik sthiti badal jaega aur is desh ka aarthik sthiti behtar hoga toh mujhe lagta hai ki kisi ko aarakshan ka jo support vaah uska zarurat nahi rahega aur aarakshan mila nahi chahiye har ek aadmi ko apna jo vaah jo sikhate hain aur vaah jo mehnat karte hain uske hisab se sab unko milna chahiye

जब भी आरक्षण का बात आता है तो बहुत सारे लोगों के मन में कुछ भावना ही उठती हैं गलत हो या सह

Romanized Version
Likes    Dislikes    views  
WhatsApp_icon
user

munmun

Volunteer

1:03
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

मेरे विचार में जय भारत में आर्थिक स्थिति के चलते हुए जो लोगों का आरक्षण लोगों को जो आरक्षण में जो मिल रहा है वह सही नहीं है वह बिल्कुल गलत है और आरक्षण खत्म कर देना चाहिए ताकि जो है जो डिजर्विंग स्टूडेंट्स होते हैं उनको भी आगे बढ़कर आने का जो है मौका मिलेगा और उनको भी जो है जॉब मिलेंगी यानी कि जो डिजर्विंग स्टूडेंट्स को जॉब मिल जाएगी और बाकी जो दूसरे बच्चे हैं यानी कि जो और थोड़ी डर स्टूडेंट है वे लोग भी जो है थोड़ा अपने आप को डिजाइन बनाने के लिए जो थोड़ा मेहनत करेंगे तो उसे जो है थोड़ा अपनी अपने आपको जो है आगे ला सकते हैं करियर बनाने में जो है करियर में अपने आप को जो आगे आगे ला सकते हैं और अपने बलबूते पर भेजो हेल्प एक नौकरी पा सकेंगे तो इसलिए जो है यह आरक्षण जो है खत्म कर देना चाहिए जिससे जो है वह सारे बच्चे जो हैं वह सारे लोग जो है वह काफी उनकी जो बेरोजगारी है वह खत्म हो जाएगी

mere vichar mein jai bharat mein aarthik sthiti ke chalte hue jo logo ka aarakshan logo ko jo aarakshan mein jo mil raha hai vaah sahi nahi hai vaah bilkul galat hai aur aarakshan khatam kar dena chahiye taki jo hai jo dijarving students hote hai unko bhi aage badhkar aane ka jo hai mauka milega aur unko bhi jo hai job milegi yani ki jo dijarving students ko job mil jayegi aur baki jo dusre bacche hai yani ki jo aur thodi dar student hai ve log bhi jo hai thoda apne aap ko design banane ke liye jo thoda mehnat karenge toh use jo hai thoda apni apne aapko jo hai aage la sakte hai career banane mein jo hai career mein apne aap ko jo aage aage la sakte hai aur apne balbute par bhejo help ek naukri paa sakenge toh isliye jo hai yah aarakshan jo hai khatam kar dena chahiye jisse jo hai vaah saare bacche jo hai vaah saare log jo hai vaah kaafi unki jo berojgari hai vaah khatam ho jayegi

मेरे विचार में जय भारत में आर्थिक स्थिति के चलते हुए जो लोगों का आरक्षण लोगों को जो आरक्षण

Romanized Version
Likes    Dislikes    views  1
WhatsApp_icon
qIcon
ask
QuestionsProfiles

Vokal App bridges the knowledge gap in India in Indian languages by getting the best minds to answer questions of the common man. The Vokal App is available in 11 Indian languages. Users ask questions on 100s of topics related to love, life, career, politics, religion, sports, personal care etc. We have 1000s of experts from different walks of life answering questions on the Vokal App. People can also ask questions directly to experts apart from posting a question to the entire answering community. If you are an expert or are great at something, we invite you to join this knowledge sharing revolution and help India grow. Download the Vokal App!