इतिहास कितने प्रकार के हैं?...


user

Rajesh

Teacher

0:46
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

इतिहास शब्द की उत्पत्ति 302 से हुई है इति का अर्थ है जैसे हुआ वैसे ही है का अर्थ है सचमुच तथा पास का अर्थ है निरंतर रहना या बोध होना हिस्ट्री शब्द का प्रयोग हेरोडोटस ने अपनी पहली पुस्तक स्टोरी का नहीं किया था इसलिए यारों दोस्त को इतिहास का जनक माना जाता है इतिहास छह प्रकार के होते हैं जैसे आर्थिक इतिहास मोदी की इतिहास राजनीति इतिहास कूटनीतिक इतिहास सांस्कृतिक इतिहास सामाजिक इतिहास धन्यवाद

itihas shabd ki utpatti 302 se hui hai iti ka arth hai jaise hua waise hi hai ka arth hai sachmuch tatha paas ka arth hai nirantar rehna ya bodh hona history shabd ka prayog herodotas ne apni pehli pustak story ka nahi kiya tha isliye yaaron dost ko itihas ka janak mana jata hai itihas cheh prakar ke hote hai jaise aarthik itihas modi ki itihas raajneeti itihas kutanitik itihas sanskritik itihas samajik itihas dhanyavad

इतिहास शब्द की उत्पत्ति 302 से हुई है इति का अर्थ है जैसे हुआ वैसे ही है का अर्थ है सचमुच

Romanized Version
Likes  6  Dislikes    views  305
WhatsApp_icon
5 जवाब
qIcon
ask
ऐसे और सवाल
Loading...
Loading...
play
user

NotInterested

NotInterested

0:06

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

प्रोटो एन्शिएंट मेडिवल मॉडल करके चार हिस्ट्री के टाइप्स थे|

proto enshient medival model karke char history ke types the

प्रोटो एन्शिएंट मेडिवल मॉडल करके चार हिस्ट्री के टाइप्स थे|

Romanized Version
Likes    Dislikes    views  183
WhatsApp_icon
user

Rahul kumar

Junior Volunteer

0:54
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

इतिहास कितने प्रकार के होते हैं तो विश्व के लिए इतिहास को तीन भागों में विभाजित किया गया है पहला प्रागैतिहासिक का दूसरा आदित्य अफ्रीका और तीसरा ऐतिहासिक तो यह तीन भागों में विभाजित किया गया तो प्रागैतिहासिक काल जो विश्व कि उसे कहते हैं जिसमें की लिखित वर्णन ज्योति हास का हाल है जो भी घटनाएं हुई है उसका लिखित वर्णन मिलता है और आदित्य सरकार उसे बोलते हैं किसने की लिखा हुआ है जो वर्णन है लिखा है लेकिन उसे हम पढ़ नहीं पाते और ऐतिहासिक काल उसे कहते हैं जिसमें कि हम लिखा हुआ लिखा हुआ भी है और प्रदीप आते हैं तो इसे ऐतिहासिक काल कहते हैं और ऐतिहासिक काल को भी तीन भागों में विभाजित किया गया है पहला होता है वहां के प्राचीन इतिहास दूसरा है मध्यकालीन इतिहास तीसरा है आधुनिक इतिहास इन तीन भागों में विभाजित किया गया

itihas kitne prakar ke hote hai toh vishwa ke liye itihas ko teen bhaagon mein vibhajit kiya gaya hai pehla pragetihasik ka doosra aditya africa aur teesra etihasik toh yah teen bhaagon mein vibhajit kiya gaya toh pragetihasik kaal jo vishwa ki use kehte hai jisme ki likhit varnan jyoti Haas ka haal hai jo bhi ghatnaye hui hai uska likhit varnan milta hai aur aditya sarkar use bolte hai kisne ki likha hua hai jo varnan hai likha hai lekin use hum padh nahi paate aur etihasik kaal use kehte hai jisme ki hum likha hua likha hua bhi hai aur pradeep aate hai toh ise etihasik kaal kehte hai aur etihasik kaal ko bhi teen bhaagon mein vibhajit kiya gaya hai pehla hota hai wahan ke prachin itihas doosra hai madhyakalin itihas teesra hai aadhunik itihas in teen bhaagon mein vibhajit kiya gaya

इतिहास कितने प्रकार के होते हैं तो विश्व के लिए इतिहास को तीन भागों में विभाजित किया गया ह

Romanized Version
Likes    Dislikes    views  202
WhatsApp_icon
user

Manish Singh

VOLUNTEER

0:38
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

देखिए इतिहास जो है इतिहास को हम इंग्लिश में हिस्ट्री भी कहते हैं इतिहास कुल 2 प्रकार में बटा हुआ है एक तो जिसे हम कहते हैं इंसेंट हिस्ट्री जिसमें हम इससे पहले कि डीसी से पहले की बात करते बिफोर क्राइस्ट चेन्नई की चीज इससे पहले कि बात करते हैं और दूसरा जो है वह मॉडर्न हिस्ट्री है जिसमें मॉडर्न हिस्ट्री में हम जो डेवलपमेंट हुए कंट्री विकी इंडिपेंडेंस के लिए लड़ाई हुई या फिर से पहले जो मुगल थे राजा महाराजा उस वक्त की बात करते हैं तो निश्चित प्रकाश दो प्रकार की है टोटल एक है इंजीनियर एक है मॉडर्न हिस्ट्री

dekhiye itihas jo hai itihas ko hum english mein history bhi kehte hai itihas kul 2 prakar mein BA taa hua hai ek toh jise hum kehte hai insent history jisme hum isse pehle ki dc se pehle ki BA at karte before Christ Chennai ki cheez isse pehle ki BA at karte hai aur doosra jo hai vaah modern history hai jisme modern history mein hum jo development hue country vicky Independence ke liye ladai hui ya phir se pehle jo mughal the raja maharaja us waqt ki BA at karte hai toh nishchit prakash do prakar ki hai total ek hai engineer ek hai modern history

देखिए इतिहास जो है इतिहास को हम इंग्लिश में हिस्ट्री भी कहते हैं इतिहास कुल 2 प्रकार में ब

Romanized Version
Likes    Dislikes    views  235
WhatsApp_icon
user

Kshitij Payasi

Artist / design enthusiast

1:18
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

इतिहास अगर आप जाना चाहे कितने प्रकार के होते हैं तो इतिहास आमतौर पर मोटे मोटे 6 तरह के होते हैं छठ पर्व पर आपको इतिहास पढ़ने को मिलेगा अगर आप पढ़ने उसमें अंदर जाएं पढ़ाई में तो सबसे पहले आता है पोलिटिकल हिस्ट्री आने की जिसको बोलते हैं राजनीतिक इतिहास से देश की राजनीति या दुनिया की राजनीति जाति रही है जिसका शासन कितने साल यह पॉलिटिकल का राजनीतिक इतिहास में आता है उसके अलावा आता है सामाजिक इतिहास की पुस्तक लोगों की पढ़ाई दोनों का जीवन लोगों का जीवन कैसा रहा है कि कोई रीजन या कोई प्रांतीय कोई देश में वह होता है सामाजिक इतिहास उसके अलावा होता कूटनीतिक इतिहास की पुस्तकें देश या उसके उपरांत है उसमें क्या कूटनीति से वह देश चला है या कितने उसका इतिहास फॉलो करता है उसके अलावा का आर्थिक इतिहास कि उस देश किस प्रांत की क्या आर्थिक स्थिति रही है किस तरह से उसने प्यार से तुझको बनाकर रखा है उसमें आर्थिक इतिहास में उसके अलावा आता है सांस्कृतिक इतिहास की वहां की भाषा कला खेल किसी प्रांत की क्या रही है और क्या पसंद करते थे लोग जाना प्रांत के इसके अलावा आता है इंटेलेक्चुअल यानी कि बुद्ध जीवित या कहें कि जो ज्ञान मीमांसा होती है इतिहास में कि क्या लोगों की जिज्ञासा और क्या लोगों ने आविष्कारक जो कहे वह कर सकते हो वह सब मिलाकर पूरा इतिहास बनाया पढ़ा जाता है

itihas agar aap jana chahen kitne prakar ke hote hai toh itihas aamtaur par mote mote 6 tarah ke hote hai chhath parv par aapko itihas padhne ko milega agar aap padhne usme andar jaye padhai mein toh sabse pehle aata hai political history aane ki jisko bolte hai raajnitik itihas se desh ki raajneeti ya duniya ki raajneeti jati rahi hai jiska shasan kitne saal yah political ka raajnitik itihas mein aata hai uske alava aata hai samajik itihas ki pustak logo ki padhai dono ka jeevan logo ka jeevan kaisa raha hai ki koi reason ya koi prantiya koi desh mein vaah hota hai samajik itihas uske alava hota kutanitik itihas ki pustakein desh ya uske uprant hai usme kya kootneeti se vaah desh chala hai ya kitne uska itihas follow karta hai uske alava ka aarthik itihas ki us desh kis prant ki kya aarthik sthiti rahi hai kis tarah se usne pyar se tujhko BA nakar rakha hai usme aarthik itihas mein uske alava aata hai sanskritik itihas ki wahan ki bhasha kala khel kisi prant ki kya rahi hai aur kya pasand karte the log jana prant ke iske alava aata hai intellectual yani ki buddha jeevit ya kahein ki jo gyaan mimansa hoti hai itihas mein ki kya logo ki jigyasa aur kya logo ne avishkarak jo kahe vaah kar sakte ho vaah sab milakar pura itihas BA naya padha jata hai

इतिहास अगर आप जाना चाहे कितने प्रकार के होते हैं तो इतिहास आमतौर पर मोटे मोटे 6 तरह के होत

Romanized Version
Likes  1  Dislikes    views  181
WhatsApp_icon
qIcon
ask

Related Searches:
इतिहास के प्रकार ; इतिहास कितने प्रकार के होते है ; itihas ke prakar ; history kitne prakar ke hote hain ; history ke kitne bhag hai ; history ke kitne part hote hain ; itihas kitne prakar ke hote hain ; itihas kitne prakar ka hota hai ; history kitne prakar ki hoti ; history ko kitne bhago me bata gaya hai ;

This Question Also Answers:

QuestionsProfiles

Vokal App bridges the knowledge gap in India in Indian languages by getting the best minds to answer questions of the common man. The Vokal App is available in 11 Indian languages. Users ask questions on 100s of topics related to love, life, career, politics, religion, sports, personal care etc. We have 1000s of experts from different walks of life answering questions on the Vokal App. People can also ask questions directly to experts apart from posting a question to the entire answering community. If you are an expert or are great at something, we invite you to join this knowledge sharing revolution and help India grow. Download the Vokal App!