#Diwali: जो कर्मचारी दिवाली पर घर नहीं जा पाते, वो दिवाली कैसे माना सकते हैं ताकि उन्हें घर की कमी महसूस ना हो?...


user

Ajay Sinh Pawar

Founder & M.D. Of Radiant Group Of Industries

2:14
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

जो कर्मचारी दिवाली पर नहीं जा पाते वह दिवाली कैसे बना सकते हैं ताकि उन्हें घर की कमी महसूस ना जी बहुत ही अच्छा सवाल है कि जो भी कर्मचारी हैं खासकर जैसे अगर बॉर्डर सीमा पर तैनात जा मर जवान वह एलओसी पर जो पहना है वह या कश्मीर में इस समय सीमा सुरक्षा बल है जो पहले हो या या किया वह सब को जरूर कमी लगेगी परिवार की तिथि वार पर अपने परिवार के साथ लाने का स्तर नहीं बना पा रहे हैं अब इतनी दूर घर से अपनों की याद तो जरूर आती है लेकिन दिवाली पर वह अपने दोस्तों के अपने शौक आचार्यों के साथ बैठकर और जो आतिशबाजी अगर होगी तो वह और एक दूसरे को शुभेच्छा संदेश देकर दिवाली अगर मनाएंगे तो वह उनको घर वाले की कमी महसूस तो जहां तक होगा होती है लेकिन कमी को थोड़ा पूरा जरूर कर सकेंगे भले ही हो कोने में जो आंसू अपने घर वालों के लिए बहाने ने किया तो चाय बच्चों की यादों से अपने माता-पिता की याद आती है विवाह के समय अपने परिवार की ओर से बहुत याद आती इसलिए जो भी सरकारी कर्मचारी हैं और जो लोग अपने परिवार से दूर हैं और दिवाली के समय वीडियो कॉल करके अपने परिवार के साथ दिवाली की शुभेच्छा संदेश और बातचीत करके मन बनाने का जरूर प्रयास कर सकते हैं बहुत-बहुत धन्यवाद और आप सबको दिवाली की बहुत सारी शुभकामनाएं

jo karmchari diwali par nahi ja paate vaah diwali kaise bana sakte hai taki unhe ghar ki kami mehsus na ji bahut hi accha sawaal hai ki jo bhi karmchari hai khaskar jaise agar border seema par tainat ja mar jawaan vaah loc par jo pehna hai vaah ya kashmir mein is samay seema suraksha bal hai jo pehle ho ya ya kiya vaah sab ko zaroor kami lagegi parivar ki tithi war par apne parivar ke saath lane ka sthar nahi bana paa rahe hai ab itni dur ghar se apnon ki yaad toh zaroor aati hai lekin diwali par vaah apne doston ke apne shauk acharyon ke saath baithkar aur jo aatishabaji agar hogi toh vaah aur ek dusre ko shubheccha sandesh dekar diwali agar manayenge toh vaah unko ghar waale ki kami mehsus toh jaha tak hoga hoti hai lekin kami ko thoda pura zaroor kar sakenge bhale hi ho kone mein jo aasu apne ghar walon ke liye bahaane ne kiya toh chai baccho ki yaadon se apne mata pita ki yaad aati hai vivah ke samay apne parivar ki aur se bahut yaad aati isliye jo bhi sarkari karmchari hai aur jo log apne parivar se dur hai aur diwali ke samay video call karke apne parivar ke saath diwali ki shubheccha sandesh aur batchit karke man banane ka zaroor prayas kar sakte hai bahut bahut dhanyavad aur aap sabko diwali ki bahut saree subhkamnaayain

जो कर्मचारी दिवाली पर नहीं जा पाते वह दिवाली कैसे बना सकते हैं ताकि उन्हें घर की कमी महसूस

Romanized Version
Likes  60  Dislikes    views  1211
KooApp_icon
WhatsApp_icon
7 जवाब
no img
qIcon
ask
ऐसे और सवाल
Loading...
Loading...
qIcon
ask
QuestionsProfiles

Vokal App bridges the knowledge gap in India in Indian languages by getting the best minds to answer questions of the common man. The Vokal App is available in 11 Indian languages. Users ask questions on 100s of topics related to love, life, career, politics, religion, sports, personal care etc. We have 1000s of experts from different walks of life answering questions on the Vokal App. People can also ask questions directly to experts apart from posting a question to the entire answering community. If you are an expert or are great at something, we invite you to join this knowledge sharing revolution and help India grow. Download the Vokal App!