भार और द्रव्यमान में क्या अंतर है?...


user

Er.Prince Lohar

Career counselor, Physics Teacher

1:48
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

भारत होता है वह एक तरह का बल है ठीक है करेगा फोर्स है जो ग्रेविटी के कारण से लगता है कि आप किसी भी पोजीशन में खड़े हो आपका कुछ माह से मतलब आपका कुछ द्रव्यमान है उसको ऑफ ग्रेविटेशनल लेकिन जिस मर्जी है उस जगह का उत्पति पुलिस कभी स्मॉल जी उसके साथ में प्रोडक्ट टिक टॉक विजेता एमजीएमजी को स्टोर वेट होता है भाग तो बाहर कि अगर पूरी सॉन्ग बल है ठीक है जिसकी भिन्न-भिन्न जगह पर वैल्यू है ठीक है वह बदल सकती है तो किसी भी वस्तु का भार है वह अलग-अलग जगह पर बदल सकता है लेकिन बात कीजिए द्रव्यमान द्रव्यमान उसके इनस्य उसके जड़त्व का माप है ठीक है जो कहीं पर भी चले जाओ आप बदलना नहीं जिंदगी अपन देखते हैं डब्लू 1 वर्ष 2mg हिंदी मूवी सोमवार को आप इमोजी मतलब गुरुत्वीय त्वरण ग्रेविटेशनल के साथ में मल्टीप्लाई कर दो गुना कर दो ठीक है तो आपको वेट है वह मिल जाता है तो कहने का मतलब फाइनलाइज हुआ के बाहर एक तरीके का बल है और द्रव्यमान एवं है और एक वस्तु का द्रव्यमान होता जो कभी बदलता नहीं है लेकिन अगर बात कीजिए बाहर की तो स्मॉल जी की वैल्यू मतलब ग्रेविटी स्क्रीन की वैल्यू हर जगह पर कुछ ना कुछ चेंज होने की वजह से अपन क्या बोलते हैं कि एमजी की वाली बदल सकती है ठीक है तो हम कह सकते कि बाहर कहीं पर भी बदल सकता है लेकिन द्रव्यमान कभी बदलता नहीं

bharat hota hai vaah ek tarah ka BA l hai theek hai karega force hai jo gravity ke karan se lagta hai ki aap kisi bhi position mein khade ho aapka kuch mah se matlab aapka kuch dravyaman hai usko of gravitational lekin jis marji hai us jagah ka utpati police kabhi small ji uske saath mein product tick talk vijeta chahiye ko store wait hota hai bhag toh BA har ki agar puri song BA l hai theek hai jiski bhinn bhinn jagah par value hai theek hai vaah BA dal sakti hai toh kisi bhi vastu ka bhar hai vaah alag alag jagah par BA dal sakta hai lekin BA at kijiye dravyaman dravyaman uske chahiye uske jadatva ka map hai theek hai jo kahin par bhi chale jao aap BA dalna nahi zindagi apan dekhte hai w 1 varsh 2mg hindi movie somwar ko aap imoji matlab gurutviya twaran gravitational ke saath mein maltiplai kar do guna kar do theek hai toh aapko wait hai vaah mil jata hai toh kehne ka matlab finalize hua ke BA har ek tarike ka BA l hai aur dravyaman evam hai aur ek vastu ka dravyaman hota jo kabhi BA dalta nahi hai lekin agar BA at kijiye BA har ki toh small ji ki value matlab gravity screen ki value har jagah par kuch na kuch change hone ki wajah se apan kya bolte hai ki mg ki wali BA dal sakti hai theek hai toh hum keh sakte ki BA har kahin par bhi BA dal sakta hai lekin dravyaman kabhi BA dalta nahi

भारत होता है वह एक तरह का बल है ठीक है करेगा फोर्स है जो ग्रेविटी के कारण से लगता है कि आप

Romanized Version
Likes  8  Dislikes    views  113
WhatsApp_icon
10 जवाब
qIcon
ask
ऐसे और सवाल
Loading...
Loading...
user

Rajendra Kumar Jain

Retared servant

0:11
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

द्रव्यमान का पेपर धार में उपस्थित उसका परिमाण भार पृथ्वी के गुरुत्वाकर्षण का वैदिक जब विमान में गुणा कर दे तो बाहर कहलाता है

dravyaman ka paper dhar me upasthit uska parimaan bhar prithvi ke gurutvaakarshan ka vaidik jab Vimaan me guna kar de toh bahar kehlata hai

द्रव्यमान का पेपर धार में उपस्थित उसका परिमाण भार पृथ्वी के गुरुत्वाकर्षण का वैदिक जब विमा

Romanized Version
Likes  4  Dislikes    views  85
WhatsApp_icon
user
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

निर्माण तथा भार में निम्नलिखित अंतर है किसी भी पिंड का द्रव्यमान सदैव नियत रहता जब कि भाड़ स्थान बदलने पर बदलता रहता है ब्राह्मण जगत ओपन निभा पाता है जबकि बाहर गुप्त तौर पर निर्भर करता है

nirmaan tatha bhar mein nimnlikhit antar hai kisi bhi pind ka dravyaman sadaiv niyat rehta jab ki bhad sthan BA dalne par BA dalta rehta hai brahman jagat open nibha pata hai jabki BA har gupt taur par nirbhar karta hai

निर्माण तथा भार में निम्नलिखित अंतर है किसी भी पिंड का द्रव्यमान सदैव नियत रहता जब कि भाड़

Romanized Version
Likes  13  Dislikes    views  315
WhatsApp_icon
user
0:17
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

जयमाला द्रव्यमान होता है वह वास्तव में होता है लेकिन जो बाहर होता है यह बैटल फोर्स ग्रुप य वर्ल्ड के सबसे अलग अलग जगह पर अलग अलग होता है

jaymala dravyaman hota hai vaah vaastav mein hota hai lekin jo BA har hota hai yah BA ttle force group ya world ke sabse alag alag jagah par alag alag hota hai

जयमाला द्रव्यमान होता है वह वास्तव में होता है लेकिन जो बाहर होता है यह बैटल फोर्स ग्रुप य

Romanized Version
Likes  2  Dislikes    views  130
WhatsApp_icon
user

Roshan RAj

Student Of St John's Collage, Ranchi

0:46
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

भार और द्रव्यमान में बेसिकली अंतर होता है कि भारत जो है मतलब है इसका मतलब जगह-जगह पर बदलते रहता है मतलब एक प्लांट से दूसरा भाग जाएंगे तो हम तो उसका जो वेट होगा वह बदलते रहता है लेकिन जग जाता है कांस्टेंट का दर्द समझते हैं उनकी तरफ मान होता है कि वह कभी बदलेगा नहीं जैसे हम चंद्रमा में चलकर मान लेते हैं तो वहां पर उसका एक बटा 6 गुना हो जाता है सब जानते हैं उसका वेट कम होगा उधर जाए बढ़ जाएगा वहां पर लेकिन दरभंगा बदलता है

bhar aur dravyaman mein BA sically antar hota hai ki bharat jo hai matlab hai iska matlab jagah jagah par BA dalte rehta hai matlab ek plant se doosra bhag jaenge toh hum toh uska jo wait hoga vaah BA dalte rehta hai lekin jag jata hai constant ka dard samajhte hai unki taraf maan hota hai ki vaah kabhi BA dalega nahi jaise hum chandrama mein chalkar maan lete hai toh wahan par uska ek BA taa 6 guna ho jata hai sab jante hai uska wait kam hoga udhar jaaye BA dh jaega wahan par lekin darbhanga BA dalta hai

भार और द्रव्यमान में बेसिकली अंतर होता है कि भारत जो है मतलब है इसका मतलब जगह-जगह पर बदलते

Romanized Version
Likes  4  Dislikes    views  138
WhatsApp_icon
user
0:42
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

द्रव्यमान किसी भी वस्तु का उसमें उपस्थित मांस होता है और बाहर किसी भी वस्तु के द्रव्यमान तथा ग्रुप के तोरण के गुणनफल के बराबर होता है अतः ब्राह्मण सभी स्थितियों में समान रहता है जबकि हर स्थिति के बदलने के फल स्वरूप बदल जाता है क्योंकि भार पृथ्वी के गुरुत्व त्वरण के ऊपर निर्भर करता है और धनवान हमेशा हर स्थिति में समान रहता है और बाहर स्थिति के साथ बदलता रहता है यही भारत ओमान में मुख्य डिफरेंस है

dravyaman kisi bhi vastu ka usme upasthit maas hota hai aur BA har kisi bhi vastu ke dravyaman tatha group ke toran ke gunanafal ke BA rabar hota hai atah brahman sabhi sthitiyo mein saman rehta hai jabki har sthiti ke BA dalne ke fal swaroop BA dal jata hai kyonki bhar prithvi ke gurutva twaran ke upar nirbhar karta hai aur dhanwan hamesha har sthiti mein saman rehta hai aur BA har sthiti ke saath BA dalta rehta hai yahi bharat oman mein mukhya difference hai

द्रव्यमान किसी भी वस्तु का उसमें उपस्थित मांस होता है और बाहर किसी भी वस्तु के द्रव्यमान त

Romanized Version
Likes  2  Dislikes    views  118
WhatsApp_icon
user
0:36
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

बाहर का मतलब होता है उस पर जो है नीचे की तरफ से ग्रुप पर इतना भी काम करता है ग्रुप से दौड़ प्लस उसका वस्तु का भार भार ने दोनों आते हैं और तरफ ध्यान केवल द्रव्यमान होता है किसी वस्तु का द्रव्यमान द्रव्यमान में गुड़ की तरह नहीं होता है और भार में ग्रुप चित्र और उस वस्तु का भार दोनों होते हैं

bahar ka matlab hota hai us par jo hai niche ki taraf se group par itna bhi kaam karta hai group se daudh plus uska vastu ka bhar bhar ne dono aate hai aur taraf dhyan keval dravyaman hota hai kisi vastu ka dravyaman dravyaman mein good ki tarah nahi hota hai aur bhar mein group chitra aur us vastu ka bhar dono hote hain

बाहर का मतलब होता है उस पर जो है नीचे की तरफ से ग्रुप पर इतना भी काम करता है ग्रुप से दौड़

Romanized Version
Likes    Dislikes    views  1
WhatsApp_icon
user

NotInterested

NotInterested

0:30
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

बाहर का मतलब होता है कि वह और वह दो जो होता है वह कोई भी प्लानेट का ग्रेविटेशनल फोर्स पर डिपेंड करता है और वेट कभी भी कांस्टेंट नहीं रहता है तो यह वेरिएबल रहता है लेकिन वहां से कंचन क्वांटिटी है और मांस तो हमेशा मतलब कि हर जगह पर सीएम रहता है और मांस को हम लोग द्रव्यमान बोलते हैं

bahar ka matlab hota hai ki vaah aur vaah do jo hota hai vaah koi bhi planet ka gravitational force par depend karta hai aur wait kabhi bhi constant nahi rehta hai toh yah variable rehta hai lekin wahan se kanchan quantity hai aur maas toh hamesha matlab ki har jagah par cm rehta hai aur maas ko hum log dravyaman bolte hain

बाहर का मतलब होता है कि वह और वह दो जो होता है वह कोई भी प्लानेट का ग्रेविटेशनल फोर्स पर ड

Romanized Version
Likes  1  Dislikes    views  231
WhatsApp_icon
user

Riya

Volunteer

0:21
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

मैं कि भारत अपने मन की बात करें तो जब मन का मतलब होता है किसी भी वस्तु के अंदर में कितना दम है या फिर मास्टर मौजूद होता है जो का आंतरिक गुण होता है जो किसी भी ज्यादा परिस्थिति में समान रहता है और बाहर जो है वह उस वस्तु पर लगने वाला गुरुत्वाकर्षण बल यानी कि ग्रेविटी का परिमाण होता है

main ki bharat apne man ki BA at kare toh jab man ka matlab hota hai kisi bhi vastu ke andar mein kitna dum hai ya phir master maujud hota hai jo ka aantarik gun hota hai jo kisi bhi zyada paristithi mein saman rehta hai aur BA har jo hai vaah us vastu par lagne vala gurutvaakarshan BA l yani ki gravity ka parimaan hota hai

मैं कि भारत अपने मन की बात करें तो जब मन का मतलब होता है किसी भी वस्तु के अंदर में कितना द

Romanized Version
Likes    Dislikes    views  3
WhatsApp_icon
play
user

Munmun 🌈

Volunteer

0:36

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

लिखे जो द्रव्यमान होता है उसका मतलब यह होता कि किसी भी चीज के अंदर कितना मैटर मौजूद है तो यह उसकी जो है आंध्र प्रॉपर्टी होती है और जो कि किसी भी जगह और परिस्थिति में जो है समान रहते इसके जैसा इकाई होती वक्त किलोग्राम होती है और यह जो है स्केलर क्वांटिटी होती है और बाहर का मतलब होता है कि बाहर उस वस्तु पर लगाने वाले लगने वाले गुरुत्वाकर्षण बल और बल का जो परिणाम होता है और इसका जो मान होता है जगह के साथ बदलता है इसकी इकाई ऐसा इकाई जो होती मैं न्यूटन होती है और यह वेक्टर क्वांटिटी होती है

likhe jo dravyaman hota hai uska matlab yah hota ki kisi bhi cheez ke andar kitna matter maujud hai toh yah uski jo hai andhra property hoti hai aur jo ki kisi bhi jagah aur paristithi mein jo hai saman rehte iske jaisa ikai hoti waqt kilogram hoti hai aur yah jo hai Scalar quantity hoti hai aur BA har ka matlab hota hai ki BA har us vastu par lagane waale lagne waale gurutvaakarshan BA l aur BA l ka jo parinam hota hai aur iska jo maan hota hai jagah ke saath BA dalta hai iski ikai aisa ikai jo hoti main newton hoti hai aur yah vector quantity hoti hai

लिखे जो द्रव्यमान होता है उसका मतलब यह होता कि किसी भी चीज के अंदर कितना मैटर मौजूद है तो

Romanized Version
Likes  2  Dislikes    views  29
WhatsApp_icon
qIcon
ask

Related Searches:
भार ; द्रव्यमान क्या है ; dravyaman ;

This Question Also Answers:

QuestionsProfiles

Vokal App bridges the knowledge gap in India in Indian languages by getting the best minds to answer questions of the common man. The Vokal App is available in 11 Indian languages. Users ask questions on 100s of topics related to love, life, career, politics, religion, sports, personal care etc. We have 1000s of experts from different walks of life answering questions on the Vokal App. People can also ask questions directly to experts apart from posting a question to the entire answering community. If you are an expert or are great at something, we invite you to join this knowledge sharing revolution and help India grow. Download the Vokal App!