टेरर फ़ंडिंग के लिए क्या पाकिस्तान को ब्लैकलिस्ट कर देना चाहिए? आपकी क्या राय है?...


चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

आपका प्रश्न है टेरर फंडिंग के लिए क्या पाकिस्तान को ब्लैक लिस्ट कर देना चाहिए आप ही कह रहा है पाकिस्तान को बिल्कुल ब्लैक लिस्ट कर देना चाहिए और उसके ऊपर जितनी हो सके उतनी ज्यादा से ज्यादा कानूनी कार्रवाई की जानी चाहिए क्योंकि पाकिस्तान इस संकट की घड़ी में भी चीज सीजफायर का काम कर रहा है और उसे वास्तव में ब्लैक लिस्टेड कर दिया जाना चाहिए उम्मीद करते हैं आप जानकारी समझ चुके होंगे धन्यवाद आपका दिन शुभ हो

aapka prashna hai terror funding ke liye kya pakistan ko black list kar dena chahiye aap hi keh raha hai pakistan ko bilkul black list kar dena chahiye aur uske upar jitni ho sake utani zyada se zyada kanooni karyawahi ki jani chahiye kyonki pakistan is sankat ki ghadi me bhi cheez ceasefire ka kaam kar raha hai aur use vaastav me black listed kar diya jana chahiye ummid karte hain aap jaankari samajh chuke honge dhanyavad aapka din shubha ho

आपका प्रश्न है टेरर फंडिंग के लिए क्या पाकिस्तान को ब्लैक लिस्ट कर देना चाहिए आप ही कह रहा

Romanized Version
Likes  87  Dislikes    views  955
WhatsApp_icon
6 जवाब
qIcon
ask
ऐसे और सवाल
Loading...
Loading...
user

Mahesh Sharma

Journalist

1:55
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

अब तेरे फंडिंग के लिए पाकिस्तान को ब्लैक लिस्टेड कर देना चाहिए बिल्कुल कर देना चाहिए मैं मानता हूं कि पाकिस्तान काफी हद तक टेरर को बढ़ाता है टेररिज्म को सपोर्ट करता है इसका एक उदाहरण है कि अमेरिका ने ओसामा बिन लादेन को पाकिस्तान में ही मारा था शायद कुछ लोग जानते होंगे और शायद कुछ लोग भूल गए होंगे इस बात को लादेन जो वैश्विक आतंकवादी के नाम घोषित था उसको पाकिस्तान में शरण दी थी बहुत से बड़े आतंकवादी हैं जो पाकिस्तान की शरण में है या पाकिस्तान के सरहदी इलाकों में रहते हैं पाकिस्तान शरण देता है तो मेरे हिसाब से ऐसा नहीं कि मैं एक भारतीय होने के नाते पाक पूरे वैश्विक को समुदाय को देखते हुए मैं यह कहना चाहता हूं कि पाकिस्तान की टेरर फंडिंग बिल्कुल रोक देनी चाहिए पूरे विश्व में जहां भी अगर कोई आतंकवादी गतिविधि होती है तो उसको कहीं ना कहीं उसका कोई ना कोई तार पाकिस्तान से अवश्य जुड़ा होता है और मैं भारत का नागरिक हूं तो भारत देश की नागरिकता के हिसाब से और एक भारतीय होने के नाते तो मैं बिल्कुल सही 100% टेरर फंडिंग ने हड़ताल की फंडिंग से उसको रोकना चाहिए जब तक वह अपनी आतंकवादी हरकतों पर रोक नहीं लगा सकता पूरे विश्व में सबसे ज्यादा आंतकवाद को बढ़ावा ही पाकिस्तान ने दिया है और भी मुस्लिम बहुत देश है जो आतंकवाद पर शांत रहते हैं लेकिन पाकिस्तान की डिटेल फंड मेरे हिसाब से तुरंत रोक देनी चाहिए धन्यवाद

ab tere funding ke liye pakistan ko black listed kar dena chahiye bilkul kar dena chahiye main maanta hoon ki pakistan kaafi had tak terror ko badhata hai terrorism ko support karta hai iska ek udaharan hai ki america ne osama bin laden ko pakistan me hi mara tha shayad kuch log jante honge aur shayad kuch log bhool gaye honge is baat ko laden jo vaishvik aatankwadi ke naam ghoshit tha usko pakistan me sharan di thi bahut se bade aatankwadi hain jo pakistan ki sharan me hai ya pakistan ke sarhadi ilako me rehte hain pakistan sharan deta hai toh mere hisab se aisa nahi ki main ek bharatiya hone ke naate pak poore vaishvik ko samuday ko dekhte hue main yah kehna chahta hoon ki pakistan ki terror funding bilkul rok deni chahiye poore vishwa me jaha bhi agar koi aatankwadi gatividhi hoti hai toh usko kahin na kahin uska koi na koi taar pakistan se avashya juda hota hai aur main bharat ka nagarik hoon toh bharat desh ki nagarikta ke hisab se aur ek bharatiya hone ke naate toh main bilkul sahi 100 terror funding ne hartal ki funding se usko rokna chahiye jab tak vaah apni aatankwadi harkaton par rok nahi laga sakta poore vishwa me sabse zyada aatankwad ko badhawa hi pakistan ne diya hai aur bhi muslim bahut desh hai jo aatankwad par shaant rehte hain lekin pakistan ki detail fund mere hisab se turant rok deni chahiye dhanyavad

अब तेरे फंडिंग के लिए पाकिस्तान को ब्लैक लिस्टेड कर देना चाहिए बिल्कुल कर देना चाहिए मैं म

Romanized Version
Likes  5  Dislikes    views  105
WhatsApp_icon
user

Daulat Ram Sharma Shastri

Psychologist | Ex-Senior Teacher

0:41
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

यस आपको कुछ आपको सही है इनको पाकिस्तान को क्या गिफ्ट देना चाहिए कि तू दुर्भाग्यपूर्ण प्रतिरोध की पुनर्रचना अमेरिका नवंबर युक्त

Yes aapko kuch aapko sahi hai inko pakistan ko kya gift dena chahiye ki tu durbhagyapurn pratirodh ki punarrachana america november yukt

यस आपको कुछ आपको सही है इनको पाकिस्तान को क्या गिफ्ट देना चाहिए कि तू दुर्भाग्यपूर्ण प्रति

Romanized Version
Likes  71  Dislikes    views  1417
WhatsApp_icon
play
user

ShAshWaT SRiVaStAvA

CaReer AnD EdUcaTiOnaL GuIde

1:49

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

टेरर फंडिंग के लिए पाकिस्तान तो ब्लैक लिस्टेड है ही ऐसी है फॉलो फाइनेंशियल एक्शन टास्क फोर्स ने फिर से एक नई रिपोर्ट लाइए जिसमें पाकिस्तान अभी भी ग्रे लिस्ट में है इसका क्या मतलब है इसके अंदर जो भी सीमा के रूप में उनका पालन-पोषण हो रहा है उसको खत्म करने के लिए पाकिस्तान की कौन सी चल रही है अमेरिका ने यह लगाया है आप पाकिस्तान के ऊपर से पाकिस्तान आर्थिक रूप से कमजोर हो सकता है लेकिन यह कहना कि टेरर फंडिंग बंद हो जाएगी ऐसा मुमकिन नहीं हो सकता अभी क्योंकि पाकिस्तान को टेरर फंडिंग बहुत देश करते हैं अरब के देश करते हैं चाइना करता है अमेरिका करता था अभी करता है कि नहीं करते ही नहीं पता रसिया का नहीं पता इस तरह देश दुनिया में जो भी देश चोर चोर मौसेरे भाई होते हैं देखिए भारत के विरुद्ध पाकिस्तान की भारत की नाक में दम करें तो इसलिए टेरर फंडिंग तो पाकिस्तान की नहीं बंद होगी क्योंकि पाकिस्तान खुद ही नहीं चाहता कि 13 से छुटकारा मिले कि पाकिस्तान का यही देश में जाने वाली आज पाकिस्तान को मानव बम बोलते हैं मामा हुआ पाकिस्तान से खत्म खत्म है इसलिए हमें पाकिस्तान को हमेशा अभी जब तक पाकिस्तान आतंकवाद नहीं देता और खत्म नहीं करते तब तक पाकिस्तान बॉयकॉट रहेगा और ब्लैक लिस्ट ही रहेगा धन्यवाद पसंद है तो लाइक करें

terror funding ke liye pakistan toh black listed hai hi aisi hai follow financial action task force ne phir se ek nayi report laiye jisme pakistan abhi bhi grey list mein hai iska kya matlab hai iske andar jo bhi seema ke roop mein unka palan poshan ho raha hai usko khatam karne ke liye pakistan ki kaun si chal rahi hai america ne yah lagaya hai aap pakistan ke upar se pakistan aarthik roop se kamjor ho sakta hai lekin yah kehna ki terror funding band ho jayegi aisa mumkin nahi ho sakta abhi kyonki pakistan ko terror funding bahut desh karte hain arab ke desh karte hain china karta hai america karta tha abhi karta hai ki nahi karte hi nahi pata rasiya ka nahi pata is tarah desh duniya mein jo bhi desh chor chor mausere bhai hote hain dekhiye bharat ke viruddh pakistan ki bharat ki nak mein dum kare toh isliye terror funding toh pakistan ki nahi band hogi kyonki pakistan khud hi nahi chahta ki 13 se chhutkara mile ki pakistan ka yahi desh mein jaane wali aaj pakistan ko manav bomb bolte hain mama hua pakistan se khatam khatam hai isliye hamein pakistan ko hamesha abhi jab tak pakistan aatankwad nahi deta aur khatam nahi karte tab tak pakistan baykat rahega aur black list hi rahega dhanyavad pasand hai toh like karen

टेरर फंडिंग के लिए पाकिस्तान तो ब्लैक लिस्टेड है ही ऐसी है फॉलो फाइनेंशियल एक्शन टास्क फोर

Romanized Version
Likes  136  Dislikes    views  1605
WhatsApp_icon
user

Ajay Sinh Pawar

Founder & M.D. Of Radiant Group Of Industries

2:16
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

गुड मॉर्निंग फ्रेंड्स सवाल है कि टेलर करने के लिए क्या पाकिस्तान को ब्लैक लिस्टेड कर देना चाहिए तो इसके बारे में मैं कहूंगा कि भारत के लिए यह निराशाजनक समान है क्योंकि फाइनल सिलेक्शन ट्रांसपोर्ट एटीएस ने पाकिस्तान को व्यक्ति स्टेट नहीं किया है क्योंकि भारत पिछले 1 साल से पाकिस्तान को ब्लैक लिस्ट कराने के लिए बहुत ही लोग भी कर रहा था लेकिन उसको सफलता मिली मेहनत काफी की थी भारत में लेकिन वह ब्लैक लिस्ट कराने में नाकामयाब रहा एक गलत हवा चलाई गई थी कि पाकिस्तान प्रैक्टिस टेस्ट होगा लेकिन वह हवा खाना कि मोदी गवर्नमेंट में विदेश में अपना प्रभाव बहुत बड़ा है और वह बताने के लिए प्रचार किया था लेकिन वास्तव में एटीएफ का नियम है उसमें तीन देश पाकिस्तान को ब्लैक लिस्टेड करने के विरोध में खड़े होंगे उसमें से एक देश है चीन दूसरा है मलेशिया और तीसरा है तुर्की यह तीनों देश पाकिस्तान के बगल में है और अब जो मीटिंग होगी तो पाकिस्तान ब्लैक लिस्ट रेंट शायद नहीं हो पाएगा और वह डार्क ग्रे लिस्ट में ही रहने की संभावना है विश यू ऑल द बेस्ट आपका दिन शुभ रहे

good morning friends sawaal hai ki Tailor karne ke liye kya pakistan ko black listed kar dena chahiye toh iske bare mein main kahunga ki bharat ke liye yah nirashajanak saman hai kyonki final selection transport ATS ne pakistan ko vyakti state nahi kiya hai kyonki bharat pichle 1 saal se pakistan ko black list karane ke liye bahut hi log bhi kar raha tha lekin usko safalta mili mehnat kaafi ki thi bharat mein lekin vaah black list karane mein nakamayab raha ek galat hawa chalai gayi thi ki pakistan practice test hoga lekin vaah hawa khana ki modi government mein videsh mein apna prabhav bahut bada hai aur vaah batane ke liye prachar kiya tha lekin vaastav mein ATF ka niyam hai usme teen desh pakistan ko black listed karne ke virodh mein khade honge usme se ek desh hai china doosra hai malaysia aur teesra hai turkey yah tatvo desh pakistan ke bagal mein hai aur ab jo meeting hogi toh pakistan black list rent shayad nahi ho payega aur vaah dark grey list mein hi rehne ki sambhavna hai wish you all the best aapka din shubha rahe

गुड मॉर्निंग फ्रेंड्स सवाल है कि टेलर करने के लिए क्या पाकिस्तान को ब्लैक लिस्टेड कर देना

Romanized Version
Likes  54  Dislikes    views  1037
WhatsApp_icon
user

Abhishek Sharma

Forest Range Officer, MP

0:33
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

बिल्कुल इसमें तो कुछ पूछने वाली बात नहीं है और इसके लिए हिंदुस्तान हमेशा कोशिश करता है और मुझे लगता है कि भविष्य में जब इस मुद्दे को राष्ट्रीय अंतरराष्ट्रीय मंच पर उठाया जाएगा तब डेफिनेटली के ऊपर कोई न कोई कार्रवाई की जाएगी और इस समय भारत के साथ काफी सारे देश जो है वह सपोर्ट में है टेरर फंडिंग बंद करने के लिए अमेरिका से कह भी चुका है और एक बार डोनेटर मेल लाइव पैसों की बंद की भी थी लेकिन उसके बाद से ही लोग दोबारा शुरू कर दिया है तो मुझे लगता है कि इस पर थोड़ा ज्यादा स्टेशन जाने की आवश्यकता है

bilkul isme toh kuch poochne wali baat nahi hai aur iske liye Hindustan hamesha koshish karta hai aur mujhe lagta hai ki bhavishya mein jab is mudde ko rashtriya antararashtriya manch par uthaya jaega tab definetli ke upar koi na koi karyawahi ki jayegi aur is samay bharat ke saath kaafi saare desh jo hai vaah support mein hai terror funding band karne ke liye america se keh bhi chuka hai aur ek baar donetar male live paison ki band ki bhi thi lekin uske baad se hi log dobara shuru kar diya hai toh mujhe lagta hai ki is par thoda zyada station jaane ki avashyakta hai

बिल्कुल इसमें तो कुछ पूछने वाली बात नहीं है और इसके लिए हिंदुस्तान हमेशा कोशिश करता है और

Romanized Version
Likes  53  Dislikes    views  1069
WhatsApp_icon
qIcon
ask

Related Searches:
vokal funding ; आपकी क्या राय है ;

QuestionsProfiles

Vokal App bridges the knowledge gap in India in Indian languages by getting the best minds to answer questions of the common man. The Vokal App is available in 11 Indian languages. Users ask questions on 100s of topics related to love, life, career, politics, religion, sports, personal care etc. We have 1000s of experts from different walks of life answering questions on the Vokal App. People can also ask questions directly to experts apart from posting a question to the entire answering community. If you are an expert or are great at something, we invite you to join this knowledge sharing revolution and help India grow. Download the Vokal App!