#KamleshTiwari: क्या पैग़म्बर पर विवादित बयान देने के लिए हिंदू महासभा के नेता कमलेश तिवारी को गोली मारी गई? आपकी क्या राय है?...


play
user

N. K. SINGH 'Nitesh'

Educator, Life Coach, Writer and Expert in British English Language, Author of Book/Fiction Lucky Girl (Love vs Marriage)

2:44

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

यहां इसमें कोई दो राय नहीं है कि यह बात बिल्कुल ही साबित हो चुकी है कि कमलेश तिवारी जी ने पैगंबर पर विवादित बयान दिया था विवादित टिप्पणी की थी और उनके इस विवादित टिप्पणी को लेकर के और कई संगठनों द्वारा विरोध जताया गया था खास करके जो मुस्लिम कट्टरपंथी लोग थे उन्होंने तल्ख टिप्पणियां भी की थी और यहां तक कि उनके खिलाफ फतवा भी जारी किए गए थे कि कमलेश तिवारी की हत्या करने वालों को उचित इनाम की राशि दी जाएगी तिवारी को लेकर के और कट्टरपंथियों और खास करके आतंकवादी संगठनों के बीच एक बहन मनमुटाव मनमुटाव क्या कहेंगे एक तरह से विरोध किया उन्होंने प्लानिंग किया था कि कहीं किसी न किसी तरीके से कमलेश तिवारी को हटाया जाए रास्ते से हटाया जाए यहां तक कि गुजरात में भी 2018 में किसी दूसरे मुद्दे पर एक दाखिल हुआ था जिसमें आईएसआईएस के कुछ आतंकवादी पकड़े गए थे यह बात आई कि सामने कि कमलेश तिवारी को हत्या उनकी हत्या करने के लिए और कहीं ना कहीं कोई बातचीत चल रही है ऐसा इनपुट भी मिला था हमारी एजेंसियों को और इसी को लेकर एक कमलेश तिवारी ने कई बार अपनी सुरक्षा की मांग भी कहते आवर उन्हें सुरक्षा दी भी गए थे अब घाट की स्थिति में ही एक सुरक्षा गार्ड उनके घर में था बावजूद इसके हमको आपके घर में गोली मार दी गई और वह भी भगवा ड्रेस में कुछ लोग मिठाई लेकर के आए उनसे मिलने के बहाने और आगे उन्होंने मार दिया यह बात निश्चित रूप से है कि जो उनकी हत्या हुई है और उनकी हत्या कहीं न कहीं विरोध करना कमलेश तिवारी को नापसंद करने वाले लोगों द्वारा ही की गई हत्या किसने किया और क्या यह टिप्पणी देने के लिए ही हुआ है यह इसकी भी जांच हो रही है जांच के दायरे में हैं और जब तक जहां तक हो रिजल्ट आया था तब तक इसका कुछ कहा नहीं जा सकता इतना जरूर है कि जिस तरह से इनके खिलाफ फतवा जारी किया गया था उसे लेकर के एजेंसियों को शक है और उसी दिशा में जांच चल ही रही है और जांच के बाद जब परिणाम आएगा उससे ही अस्पष्ट

yahan isme koi do rai nahi hai ki yah baat bilkul hi saabit ho chuki hai ki kamlesh tiwari ji ne paigambar par vivaadit bayan diya tha vivaadit tippani ki thi aur unke is vivaadit tippani ko lekar ke aur kai sangathano dwara virodh jataya gaya tha khas karke jo muslim kattarapanthi log the unhone talkh tippaniyaan bhi ki thi aur yahan tak ki unke khilaf fatwa bhi jaari kiye gaye the ki kamlesh tiwari ki hatya karne walon ko uchit inam ki rashi di jayegi tiwari ko lekar ke aur kattarapanthiyon aur khas karke aatankwadi sangathano ke beech ek behen manmutaav manmutaav kya kahenge ek tarah se virodh kiya unhone planning kiya tha ki kahin kisi na kisi tarike se kamlesh tiwari ko hataya jaaye raste se hataya jaaye yahan tak ki gujarat mein bhi 2018 mein kisi dusre mudde par ek dakhil hua tha jisme ISIS ke kuch aatankwadi pakde gaye the yah baat I ki saamne ki kamlesh tiwari ko hatya unki hatya karne ke liye aur kahin na kahin koi batchit chal rahi hai aisa input bhi mila tha hamari Agencyon ko aur isi ko lekar ek kamlesh tiwari ne kai baar apni suraksha ki maang bhi kehte hour unhe suraksha di bhi gaye the ab ghat ki sthiti mein hi ek suraksha guard unke ghar mein tha bawajud iske hamko aapke ghar mein goli maar di gayi aur vaah bhi bhagva dress mein kuch log mithai lekar ke aaye unse milne ke bahaane aur aage unhone maar diya yah baat nishchit roop se hai ki jo unki hatya hui hai aur unki hatya kahin na kahin virodh karna kamlesh tiwari ko napasand karne waale logon dwara hi ki gayi hatya kisne kiya aur kya yah tippani dene ke liye hi hua hai yah iski bhi jaanch ho rahi hai jaanch ke daayre mein hain aur jab tak jahan tak ho result aaya tha tab tak iska kuch kaha nahi ja sakta itna zaroor hai ki jis tarah se inke khilaf fatwa jaari kiya gaya tha use lekar ke Agencyon ko shak hai aur usi disha mein jaanch chal hi rahi hai aur jaanch ke baad jab parinam aayega usse hi aspast

यहां इसमें कोई दो राय नहीं है कि यह बात बिल्कुल ही साबित हो चुकी है कि कमलेश तिवारी जी ने

Romanized Version
Likes  88  Dislikes    views  1796
KooApp_icon
WhatsApp_icon
6 जवाब
no img
qIcon
ask
ऐसे और सवाल
Loading...
Loading...
qIcon
ask

Related Searches:
kuchh aisa kar kamateraho jaan ;

QuestionsProfiles

Vokal App bridges the knowledge gap in India in Indian languages by getting the best minds to answer questions of the common man. The Vokal App is available in 11 Indian languages. Users ask questions on 100s of topics related to love, life, career, politics, religion, sports, personal care etc. We have 1000s of experts from different walks of life answering questions on the Vokal App. People can also ask questions directly to experts apart from posting a question to the entire answering community. If you are an expert or are great at something, we invite you to join this knowledge sharing revolution and help India grow. Download the Vokal App!