शिक्षक पढ़ाने के अलावा क्या कर सकते है?...


play
user

Ajay Sinh Pawar

Founder & M.D. Of Radiant Group Of Industries

2:02

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

शिक्षक पढ़ाने के अलावा क्या कर सकते हैं वह विद्यार्थियों को शिक्षा देते हैं वह जो विषय के दिन आते हैं पढ़ाने की जो निपुण है उसे जिससे उन्होंने शिक्षा ग्रहण की है जिसको स्पेशलिस्ट शिक्षा देते लेकिन इसके अलावा शिक्षक हैं वह बच्चों को गाइड निकट वह बच्चों के जीवन को गाइड करते हैं एक मोटिवेटेड के रूप में काम करते हैं जो विद्यार्थी पढ़ने में कमजोर है उसे वह मोटिवेट करने का भी कार्य करते हैं जो भी पढ़ने में ज्यादा होशियार है उसको भी मोटिवेट ज्यादा करते उसे अच्छा पढ़ने के लिए प्रेरित करते हैं इसलिए शिक्षक सिर्फ शिक्षक नहीं है वह एक बहुत बड़ा अच्छा मोटिवेटर है चाहे उसको उसके लिए कोई अलग से निपटना मिलता है लेकिन शिक्षक हर एक बच्चों के लिए एक बहुत बड़ा मोटी बचा सकता है इसलिए उनकी एक्सेस और एक शिक्षक के होते हैं और इसके अलावा आजीविका कमाने के लिए बच्चों में वह तो कि बड़े बच्चे उसमें वोकेशनल गाइडेंस का भी कार्य शिक्षक लोग कहीं कहीं करते हैं कि शिक्षा ग्रहण करने के बाद विद्यार्थी किस तरह से अपनी शिक्षा का उपयोग करके और आगे कभी भविष्य में कमा सकते हैं यह भी एक्स्ट्रा वह शिक्षक में विश यू ऑल द बेस्ट

shikshak padhane ke alava kya kar sakte hain vaah vidyarthiyon ko shiksha dete hain vaah jo vishay ke din aate hain padhane ki jo nipun hai use jisse unhone shiksha grahan ki hai jisko specialist shiksha dete lekin iske alava shikshak hain vaah baccho ko guide nikat vaah baccho ke jeevan ko guide karte hain ek motivated ke roop mein kaam karte hain jo vidyarthi padhne mein kamjor hai use vaah motivate karne ka bhi karya karte hain jo bhi padhne mein zyada hoshiyar hai usko bhi motivate zyada karte use accha padhne ke liye prerit karte hain isliye shikshak sirf shikshak nahi hai vaah ek bahut bada accha motivator hai chahen usko uske liye koi alag se nipatna milta hai lekin shikshak har ek baccho ke liye ek bahut bada moti bacha sakta hai isliye unki access aur ek shikshak ke hote hain aur iske alava aajiwika kamane ke liye baccho mein vaah toh ki bade bacche usme vocational guidance ka bhi karya shikshak log kahin kahin karte hain ki shiksha grahan karne ke baad vidyarthi kis tarah se apni shiksha ka upyog karke aur aage kabhi bhavishya mein kama sakte hain yah bhi extra vaah shikshak mein wish you all the best

शिक्षक पढ़ाने के अलावा क्या कर सकते हैं वह विद्यार्थियों को शिक्षा देते हैं वह जो विषय के

Romanized Version
Likes  59  Dislikes    views  1189
WhatsApp_icon
7 जवाब
qIcon
ask
ऐसे और सवाल
Loading...
Loading...
user

Abhishek Tripathi

Founder & Director - AK TRIPATHI Home Tutorial

1:56
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

एक शिक्षक पढ़ाने के अलावा और क्या-क्या कर सकता है यह आपका प्रश्न है तो देखिए सबसे पहले तो बताऊंगा कि शिक्षक स्कूल में कॉलेज में किसी माध्यम से बच्चों को पढ़ाता है बच्चों को ज्ञान बनाता है बच्चों के समाज में उनको समाज की मेरिट मेरिट से वाकिफ कराता है उन्हें उनका जीवन जीना सिखाता उन्हें अपने पैरों पर खड़ा होना सिखाता है शिक्षक का यह तो महत्वपूर्ण रोल है वह केवल ज्ञान का भंडार ही नहीं होता है कि मैंने किसी पिछले ऑडियो में बताया था यदि आपने देखा होगा तो आपको पता होगा कि शिक्षा केवल ज्ञान का भंडार ही नहीं बल्कि समाज और राष्ट्र का निर्माता होता है तो आप देखिए राष्ट्रीय समाज के निर्माता होने के लिए केवल पढ़ पाना ही पढ़ाने से ही तो वह राष्ट्र का निर्माता होगा नहीं इसका मतलब शिक्षक में और भी क्वालिटी लूंगी अभी तो उसके लिए लाइन बोली गई है शिक्षक समाज में लोगों को जागरूक कर सकता है बच्चों को पढ़ाने के साथ-साथ उनके पैरेंट्स को जागरूक कर सकता है और इसके साथ ही समाज कार्य जैसे कि जैसे कि आज के समय में सबसे बड़ी समस्या होती पढ़ने के बाद किस तरीके से रोजगार पाया जाए तो शिक्षक यहां भी अपनी भूमिका अदा कर सकता है कैरियर काउंसलर के रूप में उन्हें पढ़ाने के साथ-साथ यह भी बता सकता कि आगे उनको क्या-क्या करना या उनको मिलेंगे और किस तरीके से उनको अपना रास्ता चुना है तो फिलहाल अभी मैंने छोटा सा एक ऑडियो बनाया है कोशिश करूंगा इसके बारे में थोड़ा सा डिटेल में अच्छे से एक एनालिसिस करके आपको बताऊं फिलहाल के लिए आज इतना ही है आप मुझे कॉल कीजिए यदि आपका कोई सुझाव हो तो कमेंट बॉक्स

ek shikshak padhane ke alava aur kya kya kar sakta hai yah aapka prashna hai toh dekhiye sabse pehle toh bataunga ki shikshak school mein college mein kisi madhyam se baccho ko padhata hai baccho ko gyaan banata hai baccho ke samaj mein unko samaj ki merit merit se wakif karata hai unhe unka jeevan jeena sikhata unhe apne pairon par khada hona sikhata hai shikshak ka yah toh mahatvapurna roll hai vaah keval gyaan ka bhandar hi nahi hota hai ki maine kisi pichle audio mein bataya tha yadi aapne dekha hoga toh aapko pata hoga ki shiksha keval gyaan ka bhandar hi nahi balki samaj aur rashtra ka nirmaata hota hai toh aap dekhiye rashtriya samaj ke nirmaata hone ke liye keval padh paana hi padhane se hi toh vaah rashtra ka nirmaata hoga nahi iska matlab shikshak mein aur bhi quality lungi abhi toh uske liye line boli gayi hai shikshak samaj mein logo ko jagruk kar sakta hai baccho ko padhane ke saath saath unke pairents ko jagruk kar sakta hai aur iske saath hi samaj karya jaise ki jaise ki aaj ke samay mein sabse badi samasya hoti padhne ke baad kis tarike se rojgar paya jaaye toh shikshak yahan bhi apni bhumika ada kar sakta hai carrier counselor ke roop mein unhe padhane ke saath saath yah bhi bata sakta ki aage unko kya kya karna ya unko milenge aur kis tarike se unko apna rasta chuna hai toh filhal abhi maine chota sa ek audio banaya hai koshish karunga iske bare mein thoda sa detail mein acche se ek analysis karke aapko bataun filhal ke liye aaj itna hi hai aap mujhe call kijiye yadi aapka koi sujhaav ho toh comment box

एक शिक्षक पढ़ाने के अलावा और क्या-क्या कर सकता है यह आपका प्रश्न है तो देखिए सबसे पहले तो

Romanized Version
Likes  33  Dislikes    views  643
WhatsApp_icon
user

DR OM PRAKASH SHARMA

Principal, Education Counselor, Best Experience in Professional and Vocational Education cum Training Skills and 25 years experience of Competitive Exams. 9212159179. dsopsharma@gmail.com

2:39
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

शिक्षक का काम अध्यापन करना तो है ही उनका मौलिक कर्तव्य है इसके 3 शिक्षक का काम समाज सुधारना देश में परिवर्तन लाना विद्यार्थियों को विद्यार्थी के जीवन को स्वर्णिम अवसर देना और समाज के अंदर जो है लेवे कम घंटियां अज्ञानता और विभिन्न प्रकार की कुर्सियां हैं उनको दूर करने में सहयोग करना अगर आप यह पूछ रहे हैं कि एक शिक्षक और क्या काम करता है तो सरकार जो काम होने देती है उन्हें वह काम करना पड़ता है जैसे किसी भी क्षेत्र में जहां सरकार को लगता है कि सर्वे करना है या चुनाव में ड्यूटी लगानी है या किसी आपदा में यह कार्य करना है या सरकार के प्रचार प्रसार की प्रशंसा की रूपरेखा बनानी है उनका प्रचार-प्रसार करने मांगू टीचरों को शिक्षकों को लगा देते हैं जबकि यह काम शिक्षकों का नहीं है जो भविष्य माता है उसे एक सिपाही की तरह समझते हुए सरकार और काम चौधरी प्रिय काम करने में कोई बुराई नहीं है लेकिन काम के लिए पद की गरिमा का तो ध्यान दें शिक्षक राज्य सरकारों के लिए राजनीति का खेल बंदर उनका उपयोग कर लो जो अनुचित कानूनन अंकित है नैतिकता से अनुच्छेद क्या है और जो बातचीत के हमारे नेचुरल सिस्टम में प्रिंसिपल ने उसके अनुसार पीएम के

shikshak ka kaam adhyapan karna toh hai hi unka maulik kartavya hai iske 3 shikshak ka kaam samaj sudharna desh mein parivartan lana vidyarthiyon ko vidyarthi ke jeevan ko swarnim avsar dena aur samaj ke andar jo hai leve kam ghantiyaan agyanata aur vibhinn prakar ki kursiyan hain unko dur karne mein sahyog karna agar aap yah puch rahe hain ki ek shikshak aur kya kaam karta hai toh sarkar jo kaam hone deti hai unhe vaah kaam karna padta hai jaise kisi bhi kshetra mein jaha sarkar ko lagta hai ki survey karna hai ya chunav mein duty lagani hai ya kisi aapda mein yah karya karna hai ya sarkar ke prachar prasaar ki prashansa ki rooprekha banani hai unka prachar prasaar karne maangu ticharon ko shikshakon ko laga dete hain jabki yah kaam shikshakon ka nahi hai jo bhavishya mata hai use ek sipahi ki tarah samajhte hue sarkar aur kaam choudhary priya kaam karne mein koi burayi nahi hai lekin kaam ke liye pad ki garima ka toh dhyan de shikshak rajya sarkaro ke liye raajneeti ka khel bandar unka upyog kar lo jo anuchit kanunan ankit hai naitikta se anuched kya hai aur jo batchit ke hamare natural system mein principal ne uske anusaar pm ke

शिक्षक का काम अध्यापन करना तो है ही उनका मौलिक कर्तव्य है इसके 3 शिक्षक का काम समाज सुधारन

Romanized Version
Likes  65  Dislikes    views  1214
WhatsApp_icon
user
1:27
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

शिक्षक पढ़ाने के अलावा क्या कर सकता है शिक्षक के पास यदि अतिरिक्त समय है तो समाज में कोई सदस्य कार्य कर सकता है समाज को मार सकता है समाज में संपर्क कर सकता है जो गरीब अशिक्षित मजबूत करके दो पैसे कमा कर सकता है इसके सिवा ऐसी जो कमजोर है उन्हें घर पर ट्यूशन हो गए उन्हें इसके सिवा वह अपने परिवार में कोई व्यापार व्यापार व्यवसाय है और उसमें एक या 2 घंटे दे सकता है तो उसे देना चाहिए इससे शिक्षक के पास में पढ़ाने क्यों अभी बहुत कुछ कार्य करने का जगह है जिसे आर्थिक रूप से भी कर सकता है यदि वहां से मजबूत है लग रहा है हो सकता है

shikshak padhane ke alava kya kar sakta hai shikshak ke paas yadi atirikt samay hai toh samaj mein koi sadasya karya kar sakta hai samaj ko maar sakta hai samaj mein sampark kar sakta hai jo garib ashikshit majboot karke do paise kama kar sakta hai iske siva aisi jo kamjor hai unhe ghar par tuition ho gaye unhe iske siva vaah apne parivar mein koi vyapar vyapar vyavasaya hai aur usme ek ya 2 ghante de sakta hai toh use dena chahiye isse shikshak ke paas mein padhane kyon abhi bahut kuch karya karne ka jagah hai jise aarthik roop se bhi kar sakta hai yadi wahan se majboot hai lag raha hai ho sakta hai

शिक्षक पढ़ाने के अलावा क्या कर सकता है शिक्षक के पास यदि अतिरिक्त समय है तो समाज में कोई स

Romanized Version
Likes  8  Dislikes    views  154
WhatsApp_icon
user

Kesharram

Teacher

1:06
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

शिक्षक पढ़ाने के अलावा क्या कर सकते हैं दोस्तों शिक्षक पढ़ाने के अलावा आपको पता है आसपास के वातावरण में आमूलचूल परिवर्तन ला सकता है तो लोगों को प्रेरित कर सकता है लोगों को योजनाओं के बारे में जानकारी दे सकता है सरकार की क्या रणनीति है क्या एजेंडा है उसके बारे में बता सकते हैं और दोस्तों आपको पता है कि आप अगर आपको वादा करके सीधे तौर पर आप किसी से बात करते हो तो आपकी बात नहीं सुनी जाती है और भाई दोस्तों स्थानीय लोग भी होते हैं टीचर होते हैं और वहां लोगों को जानकारी देते हैं तो उससे पड़ता है अगर सिंह है वह इस प्रकार से कार्य करता है तो यह उनके जिम्मेदारी का कार्य हैं और इसलिए दोस्तों आशा करता हूं कि मेरे द्वारा दी गई जानकारी से आपका धन्यवाद

shikshak padhane ke alava kya kar sakte hain doston shikshak padhane ke alava aapko pata hai aaspass ke vatavaran mein amulchul parivartan la sakta hai toh logo ko prerit kar sakta hai logo ko yojnao ke bare mein jaankari de sakta hai sarkar ki kya rananiti hai kya agenda hai uske bare mein bata sakte hain aur doston aapko pata hai ki aap agar aapko vada karke sidhe taur par aap kisi se baat karte ho toh aapki baat nahi suni jaati hai aur bhai doston sthaniye log bhi hote hain teacher hote hain aur wahan logo ko jaankari dete hain toh usse padta hai agar Singh hai vaah is prakar se karya karta hai toh yah unke jimmedari ka karya hain aur isliye doston asha karta hoon ki mere dwara di gayi jaankari se aapka dhanyavad

शिक्षक पढ़ाने के अलावा क्या कर सकते हैं दोस्तों शिक्षक पढ़ाने के अलावा आपको पता है आसपास क

Romanized Version
Likes  13  Dislikes    views  319
WhatsApp_icon
user
1:06
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

वैसे कहा जाए तो शिक्षक का काम पड़ा ना ही होता है लेकिन आज की नारियों बदल गया है सिर्फ पढ़ाना उनका व्यवसाय नहीं माना जाता क्योंकि आज महंगाई के जमाने में सिर्फ 1 दिन की कमाई से पूरा परिवार नहीं चलता और सुख-सुविधा के जितने साधन हमें चाहिए और सब के सब साधन एक शिक्षक के परिवार के परिजन से नहीं हो सकता है इसलिए आपका जो पैशन है जो आपको जिसमें मजा आता है वह हम कर सकते हैं क्योंकि स्कूल में 6 घंटे की ड्यूटी करने के बाद हमारे पास काफी समय बचता है और सरकार ने ट्यूशन पर पाबंदी लगा दी है तो ट्यूशन नहीं कर सकते द ट्यूशन करें तो थोड़ी आमदनी बढ़ सकती है लेकिन सरकार ने ट्यूशन पर पाबंदी लगा दी है तो ट्यूशन नहीं कर सकते लेकिन जिस फील्ड में आपको मजा आता हूं जो आपका पेशन हो पेशंस में जाकर हम पैसे भी कमा और हमारा टाइम का यूटिलाइज हो सकता है

waise kaha jaaye toh shikshak ka kaam pada na hi hota hai lekin aaj ki nariyon badal gaya hai sirf padhana unka vyavasaya nahi mana jata kyonki aaj mahangai ke jamane mein sirf 1 din ki kamai se pura parivar nahi chalta aur sukh suvidha ke jitne sadhan hamein chahiye aur sab ke sab sadhan ek shikshak ke parivar ke parijan se nahi ho sakta hai isliye aapka jo passion hai jo aapko jisme maza aata hai vaah hum kar sakte hain kyonki school mein 6 ghante ki duty karne ke baad hamare paas kaafi samay bachta hai aur sarkar ne tuition par pabandi laga di hai toh tuition nahi kar sakte the tuition kare toh thodi aamdani badh sakti hai lekin sarkar ne tuition par pabandi laga di hai toh tuition nahi kar sakte lekin jis field mein aapko maza aata hoon jo aapka peshan ho Patience mein jaakar hum paise bhi kama aur hamara time ka utilize ho sakta hai

वैसे कहा जाए तो शिक्षक का काम पड़ा ना ही होता है लेकिन आज की नारियों बदल गया है सिर्फ पढ़ा

Romanized Version
Likes  7  Dislikes    views  131
WhatsApp_icon
user

Zilpha Dsouza

Teacher- English and Commerce

0:57
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

शिक्षक पढ़ाने के अलावा एकेडमिक राइटयसली होते हैं यानी एकेडमी ज्ञानी स्कॉलरली राइटर्स होते हैं और कंटेंट राइटर होते हैं यानी किसी एक विषय के ऊपर रहा लिखने के लिए किन लिखते हैं और यह जो काम होता है यह फ्रीलांस काम होता है यानी घर से बैठकर करने और लैपटॉप पर करने का काम होता है और इसके अलावा यह पार्ट टाइम जॉब भी है तो यह तो दोनों चीज हां बहुत आसान है शिक्षक लोगों को करने के लिए तो इसके अलावा ऑनलाइन ट्यूशन भी ले सकते हैं लैंग्वेज टीचर के लिए बहुत ही इजी काम होता है तो यह सारा चीज एक शिक्षक कर सकते हैं

shikshak padhane ke alava academic raitayasali hote hain yani academy gyani scholarly writers hote hain aur content writer hote hain yani kisi ek vishay ke upar raha likhne ke liye kin likhte hain aur yah jo kaam hota hai yah frilans kaam hota hai yani ghar se baithkar karne aur laptop par karne ka kaam hota hai aur iske alava yah part time job bhi hai toh yah toh dono cheez haan bahut aasaan hai shikshak logo ko karne ke liye toh iske alava online tuition bhi le sakte hain language teacher ke liye bahut hi easy kaam hota hai toh yah saara cheez ek shikshak kar sakte hain

शिक्षक पढ़ाने के अलावा एकेडमिक राइटयसली होते हैं यानी एकेडमी ज्ञानी स्कॉलरली राइटर्स होते

Romanized Version
Likes  1  Dislikes    views  1
WhatsApp_icon
qIcon
ask
QuestionsProfiles

Vokal App bridges the knowledge gap in India in Indian languages by getting the best minds to answer questions of the common man. The Vokal App is available in 11 Indian languages. Users ask questions on 100s of topics related to love, life, career, politics, religion, sports, personal care etc. We have 1000s of experts from different walks of life answering questions on the Vokal App. People can also ask questions directly to experts apart from posting a question to the entire answering community. If you are an expert or are great at something, we invite you to join this knowledge sharing revolution and help India grow. Download the Vokal App!