भारत को वैश्विक स्तर पर अमेरिका और चीन के साथ प्रतिस्पर्धा करने के लिए क्या करना चाहिए?...


user
0:49
Play

Likes  155  Dislikes    views  1241
WhatsApp_icon
14 जवाब
qIcon
ask
ऐसे और सवाल
Loading...
Loading...
user

Rakesh Tiwari

Life Coach, Management Trainer

0:58
Play

Likes  294  Dislikes    views  3234
WhatsApp_icon
user

Anil Ramola

Yoga Instructor | Engineer

0:28
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

भारत और चीन से भारत का यूज कर पाता है तो निशा आने वाले समय में भारत और अमेरिका के बीच भारत

bharat aur china se bharat ka use kar pata hai toh nisha aane waale samay me bharat aur america ke beech bharat

भारत और चीन से भारत का यूज कर पाता है तो निशा आने वाले समय में भारत और अमेरिका के बीच भारत

Romanized Version
Likes  409  Dislikes    views  2742
WhatsApp_icon
user

Harender Kumar Yadav

Career Counsellor.

0:38
Play

Likes  646  Dislikes    views  3959
WhatsApp_icon
play
user
0:20

Likes  197  Dislikes    views  1268
WhatsApp_icon
user

Ansh jalandra

Motivational speaker

0:34
Play

Likes  148  Dislikes    views  2494
WhatsApp_icon
user

Daulat Ram Sharma Shastri

Psychologist | Ex-Senior Teacher

1:35
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

भारत को वैश्विक स्तर पर अधिकारियों को पूरी मेहनत के साथ पूरी देश भक्ति के साथ पूरी भारत को विकास की यात्रा में सफल बनाने की भावना के साथ जुड़ जाना चाहिए मेहनत करनी चाहिए बजाय शॉर्ट में तलाश करने के और निश्चित रूप से बांध के चलिए भारत-अमेरिका चाइना का प्रतिस्पर्धा कर सकता है क्योंकि चाइना जन शक्ति के बल पर जीत रहा है चाइना की टेक्नोलॉजी हमारा नागरिक परिश्रम ही देशभक्त है वहां अमिता को जयचंद जैसे पैदा नहीं होते जैसे भारत में पैदा होते हैं क्योंकि यदि हम लोग देश भक्ति से जुड़ जाएं तो क्या कारण है कि भारत आगे नहीं पढ़ सकता है भारत विकसित हो सकता है अस्थान देशभक्ति का अभाव है मेहनत कावा पर फ्री गाना पसंद कर दिल्ली के नागरिकों ने दिखाने के चक्कर में एक ऐसी सरकार को जीता दिया जो जस्ट जीतने के बाद तुरंत दंगे भड़के थे तो यह हमको फ्री खाने की आदत छोड़नी होगी सरकार से मांगने की आदत छोड़नी होगी यदि हम अपनी मेहनत पर विश्वास रखेंगे और मेहनत करेंगे और जापान चाइना की तरह हम लोग भी विकसित हो सकते हैं मेहनत कर सकते हैं हम लोगों को फ्री खाने की आदत हमारे लाल लाल अक्षरा स्वार्थ पर हमारा कमांड होना चाहिए यंत्र होना चाहिए

bharat ko vaishvik sthar par adhikaariyo ko puri mehnat ke saath puri desh bhakti ke saath puri bharat ko vikas ki yatra me safal banane ki bhavna ke saath jud jana chahiye mehnat karni chahiye bajay short me talash karne ke aur nishchit roop se bandh ke chaliye bharat america china ka pratispardha kar sakta hai kyonki china jan shakti ke bal par jeet raha hai china ki technology hamara nagarik parishram hi deshbhakt hai wahan Amita ko jayachand jaise paida nahi hote jaise bharat me paida hote hain kyonki yadi hum log desh bhakti se jud jayen toh kya karan hai ki bharat aage nahi padh sakta hai bharat viksit ho sakta hai asthan deshbhakti ka abhaav hai mehnat kawa par free gaana pasand kar delhi ke nagriko ne dikhane ke chakkar me ek aisi sarkar ko jita diya jo just jitne ke baad turant dange bhadake the toh yah hamko free khane ki aadat chhodni hogi sarkar se mangne ki aadat chhodni hogi yadi hum apni mehnat par vishwas rakhenge aur mehnat karenge aur japan china ki tarah hum log bhi viksit ho sakte hain mehnat kar sakte hain hum logo ko free khane ki aadat hamare laal laal akshara swarth par hamara command hona chahiye yantra hona chahiye

भारत को वैश्विक स्तर पर अधिकारियों को पूरी मेहनत के साथ पूरी देश भक्ति के साथ पूरी भारत को

Romanized Version
Likes  410  Dislikes    views  7388
WhatsApp_icon
user

DR OM PRAKASH SHARMA

Principal, Education Counselor, Best Experience in Professional and Vocational Education cum Training Skills and 25 years experience of Competitive Exams. 9212159179. dsopsharma@gmail.com

1:51
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

माया को बेसिक स्टेप अमेरिका और चीन के साथ प्रतिस्पर्धा करने के लिए क्या करना चाहिए अब प्रतिस्पर्धा की स्थिति में भारत में अमेरिका है दोनों की एक संस्था चरमरा गई है लॉक डाउनलोड आपको रहना बारिश में जमींदोज कर दिए हैं यद्यपि चाइना की अपेक्षा बहुत अच्छी नहीं है लेकिन रैना मेरे पर अंकुश करके अपने सोचता को सम्मान दिया है जब तक दूसरे लोग संभाल लेंगे और शिखर पर होगा यह संभावना है और मजबूर लोगों को चाइना पर निर्भर होना पड़ेगा भारत सरकार ध्यान सरकारों को घुटने टेकने पड़ेंगे क्योंकि नासमझ का परिणाम तो हर इंसान को भुगतना पड़ता है हां अगर हम आत्मनिर्भर हो जाएं समझ के सोच से ओम्कारेश्वर क्यों पुरोहितान मिल जाए साची साची किसी भी तरह का सेवा या वस्तु का उत्पादन करने का जरूरत को पूरा करने चुन्नी संदेश प्रतिस्पर्धा में खड़े हो सकते हैं इतनी क्षमता हमारे नागरिकों में हमारे देशवासियों हमारे टुकड़ों में है बच्चे की सरकारों ने सहयोग करें

maya ko basic step america aur china ke saath pratispardha karne ke liye kya karna chahiye ab pratispardha ki sthiti me bharat me america hai dono ki ek sanstha charmara gayi hai lock download aapko rehna barish me jamindoj kar diye hain yadyapi china ki apeksha bahut achi nahi hai lekin raina mere par ankush karke apne sochta ko sammaan diya hai jab tak dusre log sambhaal lenge aur shikhar par hoga yah sambhavna hai aur majboor logo ko china par nirbhar hona padega bharat sarkar dhyan sarkaro ko ghutne tekne padenge kyonki nasamajh ka parinam toh har insaan ko bhugatna padta hai haan agar hum aatmanirbhar ho jayen samajh ke soch se omkareshwar kyon purohitan mil jaaye sachi sachi kisi bhi tarah ka seva ya vastu ka utpadan karne ka zarurat ko pura karne chunni sandesh pratispardha me khade ho sakte hain itni kshamta hamare nagriko me hamare deshvasiyon hamare tukadon me hai bacche ki sarkaro ne sahyog kare

माया को बेसिक स्टेप अमेरिका और चीन के साथ प्रतिस्पर्धा करने के लिए क्या करना चाहिए अब प्रत

Romanized Version
Likes  412  Dislikes    views  5110
WhatsApp_icon
user
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

इंडिया अपने आप ही बड़ी कमी है और वर्ल्ड पॉपुलेशन वर्ल्ड सेकंड लार्जेस्ट लार्जेस्ट बनने जा रही है इस सेंचुरी ने बहुत कुछ करने की जरूरत नहीं है डूब लेवल पर कंप्लीट करने के लिए हमारी जो एक यंग पापुलेशन है वह वर्ल्ड की सबसे ज्यादा अभी भी है और इंडिया की जो प्लस पॉइंट एंड डेमोक्रेसी हैप्पी मीडिया लाल जी सक्सेसफुल है क्वालिटी में बहुत आगे हैं वहां तक पहुंचना है टाइम लगेगा इंडिया को कंट्रोल करना होगा उसके बारे में बातें करते हैं इस द कंट्री विद मस्त कंट्रोल द पॉपुलेशन इनवाइट करें बड़े बड़े प्रोजेक्ट लगे इंडिया में जो चाइना अच्छी और एशियन कंट्रीज में लग रहे हैं दबा दो हमारे यहां लगे इज डूइंग बिजनेस शुरू होगा अगर हम कमेंट कमेंट फॉर द कॉमन इन्वेस्टमेंट होगा कि लेबर होगी हायर लेवल के प्रोफेशनल तुमने टेक्नोलॉजी को ज्यादा यूज करेंगे तो फिर क्या चीज है जो हमारा बैलेंस पेमेंट की जगह हमें और सारा करेंगे

india apne aap hi badi kami hai aur world population world second largest largest banne ja rahi hai is century ne bahut kuch karne ki zarurat nahi hai doob level par complete karne ke liye hamari jo ek young population hai vaah world ki sabse zyada abhi bhi hai aur india ki jo plus point and democracy happy media laal ji successful hai quality mein bahut aage hain wahan tak pahunchana hai time lagega india ko control karna hoga uske bare mein batein karte hain is the country with mast control the population invite kare bade bade project lage india mein jo china achi aur asian countries mein lag rahe hain daba do hamare yahan lage is doing business shuru hoga agar hum comment comment for the common investment hoga ki labour hogi hire level ke professional tumne technology ko zyada use karenge toh phir kya cheez hai jo hamara balance payment ki jagah hamein aur saara karenge

इंडिया अपने आप ही बड़ी कमी है और वर्ल्ड पॉपुलेशन वर्ल्ड सेकंड लार्जेस्ट लार्जेस्ट बनने जा

Romanized Version
Likes  74  Dislikes    views  2450
WhatsApp_icon
play
user

Dr. Radha kant Singh

किसान

0:14

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

भारत को वैश्विक स्तर पर अमेरिका चीन जापान से भी आगे निकल जाएगा कृषि को एमएसपी की जगह एमआरपी तय करने का अधिकार किसान को दे देना चाहिए

bharat ko vaishvik sthar par america china japan se bhi aage nikal jaega krishi ko MSP ki jagah MRP tay karne ka adhikaar kisan ko de dena chahiye

भारत को वैश्विक स्तर पर अमेरिका चीन जापान से भी आगे निकल जाएगा कृषि को एमएसपी की जगह एमआरप

Romanized Version
Likes  52  Dislikes    views  750
WhatsApp_icon
user

M S Aditya Pandit

Entrepreneur | Politician

2:22
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

सबसे पहले तो उनको जो है इंडिया के 1.4 करोड़ पीपल को सरकार और आम जनता के बीच भरोसा करें ऐसा भरोसा कि जो कभी ना टूटे ट्रांसफर a46 चाहिए कि हमारा सरकार हमारा राजनेता जो भी डिसीजन लेगा वह देश हित में होगा इससे हमारा भला होगा जिससे इंडिया में टैक्स चोरी बंद हो जाए करेक्शन बंद हो जाए बंद हो जाए रेट मुझे सिटी के बंद हो जाएगी यह सारी चीजें जैसी बंद हुआ और सभी के मन में एक ही चीज का जुनून होना चाहिए इंडिया के लिए हमें काम करने हम जहां हैं जिससे जिससे वहां से ही हिंदुस्तान को डेवलप करना है इस सफलता को लेकर बड़े आगे बढ़ते हैं तो देखने के लिए जो है हम अमेरिका और चाइना जैसे देश को बेच कर सकते ऐसे ही हमने यह किया सपने में डिफेंस के लिए काम करना होगा अपना लॉजी के लिए काम करना है अमेरिका और क्यों तोड़ जाते हैं कि शादी कितनी है 34 स्टेट्स करो लेकिन उनके फैंस का पावर बहुत ज्यादा टेक्नोलॉजी से हमारे पास ही होना चाहिए बहुत ज्यादा है इसलिए डेवलपमेंट चाइना अमेरिका रशिया जापान फ्रांस इंग्लैंड ऑस्ट्रेलिया जर्मनी की सभी देशों को मिला लेंगे और सभी लोग एक साथ में हमारे ऊपर आकर ना करें क्योंकि हम उनके लिए हमारे पास कई सारे ऐसे पावर है किसी के पास नहीं जैसी कुदरत का करिश्मा हमारे पास है हमारे पास श्रद्धा कपूर कभी जीत सकते हैं जब जब भारी चीज बनाते हैं

sabse pehle toh unko jo hai india ke 1 4 crore pipal ko sarkar aur aam janta ke beech bharosa kare aisa bharosa ki jo kabhi na tute transfer a46 chahiye ki hamara sarkar hamara raajneta jo bhi decision lega vaah desh hit mein hoga isse hamara bhala hoga jisse india mein tax chori band ho jaaye correction band ho jaaye band ho jaaye rate mujhe city ke band ho jayegi yah saree cheezen jaisi band hua aur sabhi ke man mein ek hi cheez ka junun hona chahiye india ke liye hamein kaam karne hum jaha hain jisse jisse wahan se hi Hindustan ko develop karna hai is safalta ko lekar bade aage badhte hain toh dekhne ke liye jo hai hum america aur china jaise desh ko bech kar sakte aise hi humne yah kiya sapne mein defence ke liye kaam karna hoga apna laji ke liye kaam karna hai america aur kyon tod jaate hain ki shadi kitni hai 34 states karo lekin unke fans ka power bahut zyada technology se hamare paas hi hona chahiye bahut zyada hai isliye development china america rashiya japan france england austrailia germany ki sabhi deshon ko mila lenge aur sabhi log ek saath mein hamare upar aakar na kare kyonki hum unke liye hamare paas kai saare aise power hai kisi ke paas nahi jaisi kudrat ka karishma hamare paas hai hamare paas shraddha kapur kabhi jeet sakte hain jab jab bhari cheez banate hain

सबसे पहले तो उनको जो है इंडिया के 1.4 करोड़ पीपल को सरकार और आम जनता के बीच भरोसा करें ऐसा

Romanized Version
Likes  134  Dislikes    views  1894
WhatsApp_icon
user

Vedachary Pathak Singrauli

सनातन सुरक्षा परिषद् संस्थापक

0:30
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

प्रदोष नमस्कार लिखे आपने कहा भारत को वैश्विक स्तर पर अमेरिका और चीन के साथ प्रतिस्पर्धा करने के लिए क्या करना चाहिए तो भारत को वैश्विक स्तर पर अमेरिका और चीन के साथ प्रतिस्पर्धा करने के लिए इकोनामी और रोजगार का सृजन करना होगा

pradosh namaskar likhe aapne kaha bharat ko vaishvik sthar par america aur china ke saath pratispardha karne ke liye kya karna chahiye toh bharat ko vaishvik sthar par america aur china ke saath pratispardha karne ke liye economy aur rojgar ka srijan karna hoga

प्रदोष नमस्कार लिखे आपने कहा भारत को वैश्विक स्तर पर अमेरिका और चीन के साथ प्रतिस्पर्धा कर

Romanized Version
Likes  24  Dislikes    views  588
WhatsApp_icon
user

Pragti Tripathi

UPSC Aspirant

1:45
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

डीके हमारा भारत देश ऐसा देश है ना कि जो किसी भी देश की कंपटीशन नहीं करता है दूसरे देश हमारे भारत देश की नकल उतारते हैं हमारा भारत देश किसी की भी नकल नहीं करता और ना ही कभी करेगा ठीक है जो किसी को हमारे देश पर किसी को सीखनी तो हमारे देश से सीखे और आगे बढ़ना चाहिए ठीक है हमारा भारत देश कभी किसी की बराबरी नहीं करता क्योंकि वह खुद महान है ठीक है और हमारे भारत देश की जो पिलर है वह हम हैं युवा लोग हैं जो अपने देश को आगे बढ़ाते हैं ठीक है तो बस इतना ही है कि अगर कंपटीशन करना है तो अपने भारतवासियों मत करो देखने को मिलता है आगे बढ़ते हैं यहां नहीं पढ़ाई कर रहे हैं विदेशों में जाकर मैंने तो मैसेज किया इसलिए वहां के लोग सोचते हैं कि है वहां पर कुछ नहीं रखा इसलिए तू अपने भारत में ही यदि आगे बढ़ाना है ना तो अपने इंडिया का सपोर्ट करो

DK hamara bharat desh aisa desh hai na ki jo kisi bhi desh ki competition nahi karta hai dusre desh hamare bharat desh ki nakal utarate hain hamara bharat desh kisi ki bhi nakal nahi karta aur na hi kabhi karega theek hai jo kisi ko hamare desh par kisi ko sikhni toh hamare desh se sikhe aur aage badhana chahiye theek hai hamara bharat desh kabhi kisi ki barabari nahi karta kyonki vaah khud mahaan hai theek hai aur hamare bharat desh ki jo pillar hai vaah hum hain yuva log hain jo apne desh ko aage badhate hain theek hai toh bus itna hi hai ki agar competition karna hai toh apne bharatvasiyon mat karo dekhne ko milta hai aage badhte hain yahan nahi padhai kar rahe hain videshon me jaakar maine toh massage kiya isliye wahan ke log sochte hain ki hai wahan par kuch nahi rakha isliye tu apne bharat me hi yadi aage badhana hai na toh apne india ka support karo

डीके हमारा भारत देश ऐसा देश है ना कि जो किसी भी देश की कंपटीशन नहीं करता है दूसरे देश हमार

Romanized Version
Likes  10  Dislikes    views  222
WhatsApp_icon
user

Amruddin

Student

1:24
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

आपका क्वेश्चन है भारत को वैश्विक स्तर पर अमेरिका और चीन के साथ कंपटीशन करने के लिए क्या-क्या करना चाहिए तो हम आपको बता दें चाइना और अमेरिका में यह है कि कोई व्यक्ति अगर कोई मान लो बंधु किया कोई भी अच्छी चीज बनाता है जो बारूद मसाला ऐसे प्रोडक्ट अगर कोई बनाता है तो वहां उनको सम्मानित किया जाता है और इंडिया में अगर तुमने बंदूक एयर राइफल अच्छी बना ली तो वह आपकी इज्जत तो हो जाएगी और आपको साथ में उसकी सजा भी होगी जेल पहुंचा दिया जाएगा जबकि फॉरेन कंट्री में ऐसा है उसको सम्मानित किया जाता है उसको जो आप बहुत ज्यादा सम्मानित किया जाता है जिससे वह और अच्छे अच्छे बना सके बना लेता है अपने इंडिया में जो है ऐसा नहीं है उसे जेल में डाल दिया जाता है उसके एटीट्यूड और उसके जो है नॉलेज को नहीं चेक करते हैं जबकि विदेशों में उसे सम्मानित किया जाता है और एक चीज जोक बड़े-बड़े रिसर्च करते हैं या बहुत बड़े होते पर हैं बहुत ज्यादा अर्जेंट है बहुत ज्यादा माइंडेड है वह सब फॉरेन कंट्री में मिलेंगे इंडिया के जैसे मान लो गूगल का हो गया गूगल के सीईओ सुंदर पिचाई यहां अमरीका में है उनके कदर नहीं होती है ना इंडिया में अपने इसलिए जो है वह कंपटीशन नहीं कर पा रहा

aapka question hai bharat ko vaishvik sthar par america aur china ke saath competition karne ke liye kya kya karna chahiye toh hum aapko bata de china aur america me yah hai ki koi vyakti agar koi maan lo bandhu kiya koi bhi achi cheez banata hai jo barood masala aise product agar koi banata hai toh wahan unko sammanit kiya jata hai aur india me agar tumne bandook air rifle achi bana li toh vaah aapki izzat toh ho jayegi aur aapko saath me uski saza bhi hogi jail pohcha diya jaega jabki foreign country me aisa hai usko sammanit kiya jata hai usko jo aap bahut zyada sammanit kiya jata hai jisse vaah aur acche acche bana sake bana leta hai apne india me jo hai aisa nahi hai use jail me daal diya jata hai uske attitude aur uske jo hai knowledge ko nahi check karte hain jabki videshon me use sammanit kiya jata hai aur ek cheez joke bade bade research karte hain ya bahut bade hote par hain bahut zyada urgent hai bahut zyada minded hai vaah sab foreign country me milenge india ke jaise maan lo google ka ho gaya google ke ceo sundar pichai yahan america me hai unke kadar nahi hoti hai na india me apne isliye jo hai vaah competition nahi kar paa raha

आपका क्वेश्चन है भारत को वैश्विक स्तर पर अमेरिका और चीन के साथ कंपटीशन करने के लिए क्या-क्

Romanized Version
Likes  5  Dislikes    views  109
WhatsApp_icon
qIcon
ask
QuestionsProfiles

Vokal App bridges the knowledge gap in India in Indian languages by getting the best minds to answer questions of the common man. The Vokal App is available in 11 Indian languages. Users ask questions on 100s of topics related to love, life, career, politics, religion, sports, personal care etc. We have 1000s of experts from different walks of life answering questions on the Vokal App. People can also ask questions directly to experts apart from posting a question to the entire answering community. If you are an expert or are great at something, we invite you to join this knowledge sharing revolution and help India grow. Download the Vokal App!