क्या एक अंतर्मुखी व्यक्ति सिविल सेवा प्रणाली में फिट हो सकता है क्या कभी ऐसा कोई IAS अधिकारी हुआ है?...


user

S Bajpay

Yoga Expert | Beautician & Gharelu Nuskhe Expert

2:21
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

अंतर्मुखी व्यक्ति सिविल सेवा प्रणाली में फिट हो सकता है क्या कभी ऐसा आईएएस अधिकारी हुआ है जहां अब मैं अपने सीमित रहने वाला अपने आप में चमके करना हमारा भी सिविल सेवा प्रणाली में फिट हो सकता बहुत सफल होता है बल्कि मैं तो यह कहूंगा कि मूल रूप से अंतर्मुखी व्यक्ति वाले लोग भी आइए सेवा में ज्यादा सफल होते हैं लेकिन अंतर्मुखी से मतलब ऐसा नहीं है कि ठीक है वह ज्यादा लोगों से मिलना जुलना पसंद नहीं करते हैं अपने व्यक्तिगत जिंदगी में लेकिन अंतर्मुखी व्यक्ति अब सर्विस में आता है तो उसे शिवा को देनी पड़ती है शिवा कारण उसे लोगों से मिलना पड़ता है और मिलने के साथ-साथ लूंगी काम भी करने पड़ते लोगों की परेशानियां भी सुननी पड़ती है लोगों की कस्टडी निकालने पड़ते हैं तो ऐसा आवश्यक नहीं दिखे अंतर्मुखी व्यक्ति से हमला कर देते हैं कि वह अपने व्यक्तिगत जीवन में ज्यादा मिलना जुड़ना पसंद नहीं करता लेकिन सर्विस के जीवन में दो अंतर्मुखी व्यक्ति भी अपनी सेवाएं देते समय यदि अच्छा अधिकारी है तो लोगों से मिलता है क्या कोई किसी प्रकार का भावनात्मक संबंध नहीं होता है एमपी में जिला अधिकारी के रूप में वह लोगों की कस्टम को समस्याओं को परेशानियों को दूर करने के लिए अधिकारी बना है ना कि उनसे पारिवारिक संबंध रखने भावनात्मक संबंधों अंतर्मुखी होते हैं जो अपने पारिवारिक जीवन में व्यक्तिगत जीवन में ज्यादा मिलना जुलना पसंद नहीं करते लेकिन सेवाएं देते समय अंतर्मुखी व्यक्ति भी ऊंट की सवारी थी और मैं मानता हूं अंतर्मुखी व्यक्ति बहुत सफल आईएएस अधिकारी होते हैं ऐसे वतन के लोगों ने बहुत ही अच्छी हैं

antarmukhi vyakti civil seva pranali me fit ho sakta hai kya kabhi aisa IAS adhikari hua hai jaha ab main apne simit rehne vala apne aap me chamke karna hamara bhi civil seva pranali me fit ho sakta bahut safal hota hai balki main toh yah kahunga ki mul roop se antarmukhi vyakti waale log bhi aaiye seva me zyada safal hote hain lekin antarmukhi se matlab aisa nahi hai ki theek hai vaah zyada logo se milna julana pasand nahi karte hain apne vyaktigat zindagi me lekin antarmukhi vyakti ab service me aata hai toh use shiva ko deni padti hai shiva karan use logo se milna padta hai aur milne ke saath saath lungi kaam bhi karne padate logo ki pareshaniya bhi sunnani padti hai logo ki custody nikalne padate hain toh aisa aavashyak nahi dikhe antarmukhi vyakti se hamla kar dete hain ki vaah apne vyaktigat jeevan me zyada milna judna pasand nahi karta lekin service ke jeevan me do antarmukhi vyakti bhi apni sevayen dete samay yadi accha adhikari hai toh logo se milta hai kya koi kisi prakar ka bhavnatmak sambandh nahi hota hai MP me jila adhikari ke roop me vaah logo ki custom ko samasyaon ko pareshaniyo ko dur karne ke liye adhikari bana hai na ki unse parivarik sambandh rakhne bhavnatmak sambandhon antarmukhi hote hain jo apne parivarik jeevan me vyaktigat jeevan me zyada milna julana pasand nahi karte lekin sevayen dete samay antarmukhi vyakti bhi unth ki sawari thi aur main maanta hoon antarmukhi vyakti bahut safal IAS adhikari hote hain aise vatan ke logo ne bahut hi achi hain

अंतर्मुखी व्यक्ति सिविल सेवा प्रणाली में फिट हो सकता है क्या कभी ऐसा आईएएस अधिकारी हुआ है

Romanized Version
Likes  446  Dislikes    views  4301
KooApp_icon
WhatsApp_icon
5 जवाब
no img
qIcon
ask
ऐसे और सवाल
Loading...
Loading...
qIcon
ask
QuestionsProfiles

Vokal App bridges the knowledge gap in India in Indian languages by getting the best minds to answer questions of the common man. The Vokal App is available in 11 Indian languages. Users ask questions on 100s of topics related to love, life, career, politics, religion, sports, personal care etc. We have 1000s of experts from different walks of life answering questions on the Vokal App. People can also ask questions directly to experts apart from posting a question to the entire answering community. If you are an expert or are great at something, we invite you to join this knowledge sharing revolution and help India grow. Download the Vokal App!