यदि कोई व्यक्ति किसी IAS या IPS अफ़सर का कॉलर पकड़ ले है या उसके साथ दुर्व्यवहार करे, तो वो उसके ख़िलाफ़ क्या क़दम उठा सकते हैं?...


user

Ashok Bajpai

Rtd. Additional Collector P.C.S. Adhikari

1:03
Play

Likes  162  Dislikes    views  2566
WhatsApp_icon
15 जवाब
qIcon
ask
ऐसे और सवाल
Loading...
Loading...
user

Ansh jalandra

Motivational speaker

0:25
Play

Likes  120  Dislikes    views  2375
WhatsApp_icon
user

Sanjeev Vaidya

सिविल सेवा मार्गदर्शक

1:18
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

आपका प्रश्न है यदि कोई व्यक्ति किसी आईएएस या आईपीएस अफसर का कॉलर पकड़ ले या उसके साथ दुर्व्यवहार करे तो उसके खिलाफ क्या कदम उठा सकते हैं देखें इस प्रश्न को जवाब देने के लिए अधिकृत नहीं हो क्योंकि मैं ना तो आइए सुना आईपीएस हूं मगर मेरे बहुत सारे स्टूडेंट जरूर इस पद पर पहुंच चुके हैं तो मैंने उनकी जीवनशैली को देखा है और एडमिट स्विफ्ट कोड आफ कंडक्ट पड़ा है आईपीसी को पड़ा है एक भारतीय संविधान को पड़ा है रुला लो को पड़ा है तो इन सब के आधार पर मैं आपके जवाब भी दे सकता हूं कि सिर्फ आईएसआईएस नहीं जितने भी सरकारी कर्मचारी और अधिकारी होते हैं यदि उनके साथ कोई दूर व्यवहार करता है पार्लर पकड़ लेता है तो उसके खिलाफ उस व्यक्ति के खिलाफ कानूनी कार्रवाई की जाएगी आईपीसी में ऐसे प्रावधान हैं साक्षी कर्मचारियों को और अधिकारियों को संरक्षण प्राप्त है और इस देश में विधि का शासन नोहे ने चली सिर्फ आईएस राइट एस्से नहीं जितने भी सरकारी कर्मचारी और अधिकारी हैं उनके खिलाफ दुर्व्यवहार अगर कोई व्यक्ति करता है तो उसके खिलाफ कठोर कानूनी कार्रवाई अवश्य की जाएगी यह बात है

aapka prashna hai yadi koi vyakti kisi IAS ya ips officer ka collar pakad le ya uske saath durvyavahar kare toh uske khilaf kya kadam utha sakte hain dekhen is prashna ko jawab dene ke liye adhikrit nahi ho kyonki main na toh aaiye suna ips hoon magar mere bahut saare student zaroor is pad par pohch chuke hain toh maine unki jeevan shaili ko dekha hai aur admit swift code of conduct pada hai ipc ko pada hai ek bharatiya samvidhan ko pada hai rula lo ko pada hai toh in sab ke aadhar par main aapke jawab bhi de sakta hoon ki sirf ISIS nahi jitne bhi sarkari karmchari aur adhikari hote hain yadi unke saath koi dur vyavhar karta hai parlour pakad leta hai toh uske khilaf us vyakti ke khilaf kanooni karyawahi ki jayegi ipc me aise pravadhan hain sakshi karmachariyon ko aur adhikaariyo ko sanrakshan prapt hai aur is desh me vidhi ka shasan nohe ne chali sirf ias right essay nahi jitne bhi sarkari karmchari aur adhikari hain unke khilaf durvyavahar agar koi vyakti karta hai toh uske khilaf kathor kanooni karyawahi avashya ki jayegi yah baat hai

आपका प्रश्न है यदि कोई व्यक्ति किसी आईएएस या आईपीएस अफसर का कॉलर पकड़ ले या उसके साथ दुर्व

Romanized Version
Likes  9  Dislikes    views  133
WhatsApp_icon
play
user

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

भारत में 2 क्वेश्चन बोलूंगा कि एक सरकारी अधिकारी कोई भी है अगर उनका काम रुका जाता है उसमें स्ट्रीट एक्शन लिया जा सकता है तो बिल्कुल वैक्सीन लिया जाएगा लेकिन मैं बोलूंगा कॉलर पकड़ लिया किसी ने प्रोविजन से लिया जा सकता है

bharat mein 2 question boloonga ki ek sarkari adhikari koi bhi hai agar unka kaam ruka jata hai usme street action liya ja sakta hai toh bilkul vaccine liya jaega lekin main boloonga collar pakad liya kisi ne provision se liya ja sakta hai

भारत में 2 क्वेश्चन बोलूंगा कि एक सरकारी अधिकारी कोई भी है अगर उनका काम रुका जाता है उसमें

Romanized Version
Likes  313  Dislikes    views  7061
WhatsApp_icon
user
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

देखे तो कोई किसी अधिकारी का या किसी आम आदमी का कॉलर पकड़ आता है तो कॉलर पकड़ ली क्या इसमें कोई धारा नहीं है लेकिन यह नहीं कि उसने कोई अपराध नहीं किया उसने पाठ किया है उसने अपराध किया है कि उसको हर्ट वह से तकलीफ पहुंची है ऐसा उसने जो काम किया है तो आईपीसी इसमें 337 आईपीसी की धारा लगती है 4 साल तक की सजा का प्रावधान है और जुर्माना भी है दोनों से दंडित भी किया जा सकता है साथ ही जब उसने खोले पकड़ा है किसी का अगर सभी के सामने उसने उसका पूरा है तो उसने उसके मानहानि भी की है तो आईपीसी की सेक्शन धारा 500 अपराध किया है यही नहीं आकर उसने जो कलर पकड़ा था गुस्से में पकड़ा था तो उसने दो को धमकी भी दी होगी तो कुछ अपशब्द भी किए होंगे जिसमें धारा 504 506 आईपीसी की भी लगेगी थैंक यू

dekhe toh koi kisi adhikari ka ya kisi aam aadmi ka collar pakad aata hai toh collar pakad li kya isme koi dhara nahi hai lekin yah nahi ki usne koi apradh nahi kiya usne path kiya hai usne apradh kiya hai ki usko heart vaah se takleef pahuchi hai aisa usne jo kaam kiya hai toh ipc isme 337 ipc ki dhara lagti hai 4 saal tak ki saza ka pravadhan hai aur jurmana bhi hai dono se dandit bhi kiya ja sakta hai saath hi jab usne khole pakada hai kisi ka agar sabhi ke saamne usne uska pura hai toh usne uske manhani bhi ki hai toh ipc ki section dhara 500 apradh kiya hai yahi nahi aakar usne jo color pakada tha gusse mein pakada tha toh usne do ko dhamki bhi di hogi toh kuch apashabd bhi kiye honge jisme dhara 504 506 ipc ki bhi lagegi thank you

देखे तो कोई किसी अधिकारी का या किसी आम आदमी का कॉलर पकड़ आता है तो कॉलर पकड़ ली क्या इसमें

Romanized Version
Likes  15  Dislikes    views  139
WhatsApp_icon
user
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

नमस्ते आप ने सवाल किया है कि यदि किसी आई ए एस ऑफिसर या आईपीएस ऑफिसर की कॉलर को किसी व्यक्ति द्वारा पकड़ लिया जाए तो एक आईएएस ऑफिसर और एक आईपीएस ऑफिसर दोनों में से कोई भी क्या कदम उठा सकते हैं हमें इज्जत देती है हमें समाज की सेवा करने के लिए कड़ी मेहनत करवाती है उसके बाद से हम समाज की सेवा करने के लिए उतरते हैं और ऐसे में अगर समाज हमारा ही कॉलर पकड़ लेती है तो उसके लिए भी आईपीसी में है कानून अभी सर ने बताया गाना मैं भूल गया तो बिल्कुल क्यों नहीं जो कानून है उस कानून के दायरे में ही उनको सजा दिया जाएगा व्यवसाय नहीं है क्या मेक आईएस ऑफिसर हैं और हमारा कोई कॉल पकड़ लिया हम भी पकड़कर कम को मारना शुरू कर दे ऐसा हम लोग कर नहीं कर सकते और ऐसे हमारे कानून के दायरे में नहीं आता और जो भी आईपीसी के रोल ऑफ एक्ट के तहत जो भी प्रावधान उनके लिए है मैं किसी प्रावधानों को मैं यहां पर नहीं एक्सप्लेन करना चाहता पर हां जो भी वैधानिक तत्व है उसी के अनुसार ही उन्हें सजा दिया जाएगा हम अपनी तरफ से किसी भी प्रकार का एक्शन नहीं लेते नहीं लेते रहे नाले और कोई भी आईएस ऑफिसर आईपीएस ऑफिसर आईपीएस ऑफिसर ओके मैं कह नहीं सकता क्योंकि ट्रांसजेल होते हैं लेकिन आईएस ऑफिसर आज तक नहीं किए हैं एक बार एक घटना हुई थी खुशियां डिस्टिक लेकिन वह अनजाने में हुई तो मैं समझता हूं कि जो कुछ भी होता है वह रूल आफ लॉ आईपीसी के तहत होती है धन्यवाद

namaste aap ne sawaal kiya hai ki yadi kisi I a s officer ya ips officer ki collar ko kisi vyakti dwara pakad liya jaaye toh ek IAS officer aur ek ips officer dono mein se koi bhi kya kadam utha sakte hain hamein izzat deti hai hamein samaj ki seva karne ke liye kadi mehnat karwati hai uske baad se hum samaj ki seva karne ke liye utarate hain aur aise mein agar samaj hamara hi collar pakad leti hai toh uske liye bhi ipc mein hai kanoon abhi sir ne bataya gaana main bhool gaya toh bilkul kyon nahi jo kanoon hai us kanoon ke daayre mein hi unko saza diya jaega vyavasaya nahi hai kya make ias officer hain aur hamara koi call pakad liya hum bhi pakadakar kam ko marna shuru kar de aisa hum log kar nahi kar sakte aur aise hamare kanoon ke daayre mein nahi aata aur jo bhi ipc ke roll of act ke tahat jo bhi pravadhan unke liye hai kisi pravdhano ko main yahan par nahi explain karna chahta par haan jo bhi vaidhyanik tatva hai usi ke anusaar hi unhe saza diya jaega hum apni taraf se kisi bhi prakar ka action nahi lete nahi lete rahe naale aur koi bhi ias officer ips officer ips officer ok main keh nahi sakta kyonki transajel hote hain lekin ias officer aaj tak nahi kiye hain ek baar ek ghatna hui thi khushiya district lekin vaah anjaane mein hui toh main samajhata hoon ki jo kuch bhi hota hai vaah rule of law ipc ke tahat hoti hai dhanyavad

नमस्ते आप ने सवाल किया है कि यदि किसी आई ए एस ऑफिसर या आईपीएस ऑफिसर की कॉलर को किसी व्यक्त

Romanized Version
Likes  38  Dislikes    views  284
WhatsApp_icon
user

Govihnsingh

कृषि

1:12
Play

Likes  16  Dislikes    views  311
WhatsApp_icon
user
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

अगर कोई आईएएस अफसर आवर बताकर गलत करता है तो उसे गलत का तो सजा देना है और गलत कोई ना करें तो उसे भी गलत सजा देता है उसे भी गुनाह माफ नाम चाहूंगा कि सभी अफसर आलम और हम सब मिलकर काम करें सारी के अनुसार चलना ही चाहिए

agar koi IAS officer hour batakar galat karta hai toh use galat ka toh saza dena hai aur galat koi na kare toh use bhi galat saza deta hai use bhi gunah maaf naam chahunga ki sabhi officer aalam aur hum sab milkar kaam kare saari ke anusaar chalna hi chahiye

अगर कोई आईएएस अफसर आवर बताकर गलत करता है तो उसे गलत का तो सजा देना है और गलत कोई ना करें त

Romanized Version
Likes  6  Dislikes    views  149
WhatsApp_icon
user
0:58
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

आप किस पार्टी के नेता है जो आईएएस और आईपीएस अफसर की कलर पकड़ने के लिए जा रहे हैं बिगर नेता आम आदमी उसको मिलने के लिए मुश्किल देखूंगी के पाले हुए क्या बोलते उसको आज के जमाने के जानवर बाहर खड़े होते तो आपको मिलने नहीं देंगे ना वह आप को काट कर खा जाएंगे उससे पहले आप सर कुछ नहीं करेगा अच्छा अच्छा छोड़ो छोड़ो शाबाश शाबाश अच्छा किया करके छोड़ देगा लेकिन दरवाजे पर जो खड़े रहते हैं ना जीत के ऊपर हो आपको कुत्ते जैसे तोड़ कर खा जाएंगे मारेंगे नहीं लेकिन कमजोर बनाएंगे

aap kis party ke neta hai jo IAS aur ips officer ki color pakadane ke liye ja rahe hain bigger neta aam aadmi usko milne ke liye mushkil dekhungi ke pale hue kya bolte usko aaj ke jamane ke janwar bahar khade hote toh aapko milne nahi denge na vaah aap ko kaat kar kha jaenge usse pehle aap sir kuch nahi karega accha accha chodo chodo shabash shabash accha kiya karke chhod dega lekin darwaze par jo khade rehte hain na jeet ke upar ho aapko kutte jaise tod kar kha jaenge marenge nahi lekin kamjor banayenge

आप किस पार्टी के नेता है जो आईएएस और आईपीएस अफसर की कलर पकड़ने के लिए जा रहे हैं बिगर नेता

Romanized Version
Likes  15  Dislikes    views  216
WhatsApp_icon
user

Rihan Shah

I want to become An IAS Officer (Love Realationship Full Experience)

0:19
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

लिखे आप अगर इतने बड़े अधिकारी का जो आए कॉलेज भी खोल रहे हैं तो आपको यह सजा तगड़ी मिलने वाली थी क्या आप मुकेश नागरिक व बेहाल था रहे हैं जो आपके समाज के अपने देश की सेवा कर रहे और आप माननीय सोच रहे हैं कॉलेज खोलने क्लॉक को कड़ी से कड़ी सजा मिलेगी

likhe aap agar itne bade adhikari ka jo aaye college bhi khol rahe hain toh aapko yah saza tagdi milne wali thi kya aap mukesh nagarik va behal tha rahe hain jo aapke samaj ke apne desh ki seva kar rahe aur aap mananiya soch rahe hain college kholne clock ko kadi se kadi saza milegi

लिखे आप अगर इतने बड़े अधिकारी का जो आए कॉलेज भी खोल रहे हैं तो आपको यह सजा तगड़ी मिलने वाल

Romanized Version
Likes  29  Dislikes    views  726
WhatsApp_icon
user
0:22
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

यदि कोई व्यक्ति आईएएस या आईपीएस का कॉलर पकड़ लेता है तो वह जिस प्रकार का हुआ व्यक्ति व्यवहार करेगा इसी प्रकार वह आईएस प्ले सेक्रेटरी या पुलिस ऑफिसर उसके साथ चालू करेंगे और उसे जेल भी हो सकती है

yadi koi vyakti IAS ya ips ka collar pakad leta hai toh vaah jis prakar ka hua vyakti vyavhar karega isi prakar vaah ias play secretary ya police officer uske saath chaalu karenge aur use jail bhi ho sakti hai

यदि कोई व्यक्ति आईएएस या आईपीएस का कॉलर पकड़ लेता है तो वह जिस प्रकार का हुआ व्यक्ति व्यवह

Romanized Version
Likes  5  Dislikes    views  74
WhatsApp_icon
user

Krishanlal Kanwat

Retire Officer

2:01
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

आपका प्रसन्न है यदि कोई व्यक्ति किसी आईएएस या आईपीएस अफसर का कॉलर पकड़ ले या उसके साथ दुर्व्यवहार करें तो उसके खिलाफ है देखिए किसी भी व्यक्ति को किसी भी सरकारी कर्मचारी के कार्य में बाधा डालने का या उसको बेइज्जत करने का अधिकार नहीं है हमारी आईपीसी सीआरपीसी के अंतर्गत जो ऐसा करता उसे खिलाफ किस दया हो सकता है और उसको सजा मिल सकती है यह ऐसा करना सरासर गैरकानूनी और और अपराधिक कार्य है और इसके अंतर्गत सजा का प्रावधान है हमें जो भी अपनी बात कहनी हो अपनी कानूनी तरीके से सब तरीके से सब भाषा में लिखित रूप से यह मौखिक रूप से अपनी प्रस्तुति करनी चाहिए धन्यवाद

aapka prasann hai yadi koi vyakti kisi IAS ya ips officer ka collar pakad le ya uske saath durvyavahar kare toh uske khilaf hai dekhiye kisi bhi vyakti ko kisi bhi sarkari karmchari ke karya mein badha dalne ka ya usko beijjat karne ka adhikaar nahi hai hamari ipc crpc ke antargat jo aisa karta use khilaf kis daya ho sakta hai aur usko saza mil sakti hai yah aisa karna sarasar gairkanuni aur aur apradhik karya hai aur iske antargat saza ka pravadhan hai hamein jo bhi apni baat kahani ho apni kanooni tarike se sab tarike se sab bhasha mein likhit roop se yah maukhik roop se apni prastuti karni chahiye dhanyavad

आपका प्रसन्न है यदि कोई व्यक्ति किसी आईएएस या आईपीएस अफसर का कॉलर पकड़ ले या उसके साथ दुर्

Romanized Version
Likes  38  Dislikes    views  506
WhatsApp_icon
user

Bhagwati

Selsman Sarees

0:17
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

अगर कोई ऐसा करता है तो उसको गैर कानूनी तौर पर रेस्ट कर देना चाहिए

agar koi aisa karta hai toh usko gair kanooni taur par rest kar dena chahiye

अगर कोई ऐसा करता है तो उसको गैर कानूनी तौर पर रेस्ट कर देना चाहिए

Romanized Version
Likes  2  Dislikes    views  74
WhatsApp_icon
user
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

किसी अफसर के खिलाफ में दुर्व्यवहार करना या उसकी खोज पकड़ना यह सरासर संविधान कानून के खिलाफ में है आप अपनी बातचीत आप अपनी इच्छा आप अपनी मान सदा अच्छे व्यवहार से और अच्छे तरीके से अफसर के सामने रखें अफसर भी एक आपके तरह ही एक परिवार से निकला हुआ व्यक्ति है जो आपकी हर तर्क को और आपके दुख दर्द को समझता है तुम्हें इसके खिलाफ में हूं मैं चाहता हूं कि कोई भी व्यक्ति ऐसे कोई काम ना करें जिससे कानून के खिलाफ में जाएं

kisi officer ke khilaf mein durvyavahar karna ya uski khoj pakadna yah sarasar samvidhan kanoon ke khilaf mein hai aap apni batchit aap apni iccha aap apni maan sada acche vyavhar se aur acche tarike se officer ke saamne rakhen officer bhi ek aapke tarah hi ek parivar se nikala hua vyakti hai jo aapki har tark ko aur aapke dukh dard ko samajhata hai tumhe iske khilaf mein hoon main chahta hoon ki koi bhi vyakti aise koi kaam na kare jisse kanoon ke khilaf mein jayen

किसी अफसर के खिलाफ में दुर्व्यवहार करना या उसकी खोज पकड़ना यह सरासर संविधान कानून के खिलाफ

Romanized Version
Likes  3  Dislikes    views  115
WhatsApp_icon
user
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

तो सारे हम पहले उसको पूछेंगे ऐसी क्या बात हो गई जो आपने हमारा कॉलर पकड़ा है अगर कोई दूरी वार करता है कोई व्यक्ति हमारे साथ तो हम उसके खिलाफ सख्त से सख्त कदम उठाएंगे और उसको के अवतार करवाएंगे और शर्ट के साथ करेंगे

toh saare hum pehle usko puchenge aisi kya baat ho gayi jo aapne hamara collar pakada hai agar koi doori war karta hai koi vyakti hamare saath toh hum uske khilaf sakht se sakht kadam uthayenge aur usko ke avatar karavaenge aur shirt ke saath karenge

तो सारे हम पहले उसको पूछेंगे ऐसी क्या बात हो गई जो आपने हमारा कॉलर पकड़ा है अगर कोई दूरी व

Romanized Version
Likes  3  Dislikes    views  114
WhatsApp_icon
qIcon
ask
QuestionsProfiles

Vokal App bridges the knowledge gap in India in Indian languages by getting the best minds to answer questions of the common man. The Vokal App is available in 11 Indian languages. Users ask questions on 100s of topics related to love, life, career, politics, religion, sports, personal care etc. We have 1000s of experts from different walks of life answering questions on the Vokal App. People can also ask questions directly to experts apart from posting a question to the entire answering community. If you are an expert or are great at something, we invite you to join this knowledge sharing revolution and help India grow. Download the Vokal App!