मैं UPSC के लिए अपने लेखन कौशल में सुधार कैसे करूं?...


user

DR OM PRAKASH SHARMA

Principal, Education Counselor, Best Experience in Professional and Vocational Education cum Training Skills and 25 years experience of Competitive Exams. 9212159179. dsopsharma@gmail.com

2:03
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

आपने कहा कि मैं यूपी टीचर डे लेखन कौशल में सुधार कैसे एग्जाम कंडक्ट आफ डिस्क्रिप्टिव पेपर को देखना चाहते हैं और यह भी चाहते किसके लिखने की कला में और पार्टी में इंप्रूवमेंट तो बहुत आसान है पहले हम चैप्टर के कंसेप्ट को चित्र सुनने की जतन क्या कहना चाहता है आखिरकार और चेतन में इसका सार क्या है यह राजनीतिक या सामाजिक या आर्थिक नजरिए से इस चैप्टर में बात की गई है जवानी ट्रैक्टर कि कल चेक क्लियर हो जाएंगे तो फिर हमें उनके छोटे-छोटे नोट्स बनाने और सुनाने के बाद उसको हमें लिखना है कि किसी भी दोस्त को या किसी भी पांच को हम लिखते हैं पढ़ते हैं फिर उसमें कमियां निकालते खुद ही रोचक पर चोट के पढ़ने और लिखने से हमें दो फायदे होते हैं एक तो हमारा लेखन कला निखर जाती है उसने गलतियों की संभावना ना के बराबर जाती है और दूसरी चीज हमारा कॉन्फिडेंट जाता है जो कि लिखने वाले को जितना कॉन्फिडेंट चाहते हैं उतना बोलने वाले कौन है क्योंकि लिखने के बाद आपको उस चीज का किसी हद तक 9 जो जाता है वही चीज और अर्जुन लीजिए फिर भूल सकते हैं कल आप फिर भटक सकते हैं क्योंकि उसके आधार पर कॉन्फिडेंस नहीं हो सकते

aapne kaha ki main up teacher day lekhan kaushal mein sudhaar kaise exam conduct of Descriptive paper ko dekhna chahte hain aur yah bhi chahte kiske likhne ki kala mein aur party mein improvement toh bahut aasaan hai pehle hum chapter ke concept ko chitra sunne ki jatan kya kehna chahta hai aakhirkaar aur chetan mein iska saar kya hai yah raajnitik ya samajik ya aarthik nazariye se is chapter mein baat ki gayi hai jawaani tractor ki kal check clear ho jaenge toh phir hamein unke chote chhote notes banane aur sunaane ke baad usko hamein likhna hai ki kisi bhi dost ko ya kisi bhi paanch ko hum likhte hain padhte hain phir usme kamiyan nikalate khud hi rochak par chot ke padhne aur likhne se hamein do fayde hote hain ek toh hamara lekhan kala nikhar jaati hai usne galatiyon ki sambhavna na ke barabar jaati hai aur dusri cheez hamara confident jata hai jo ki likhne waale ko jitna confident chahte hain utana bolne waale kaun hai kyonki likhne ke baad aapko us cheez ka kisi had tak 9 jo jata hai wahi cheez aur arjun lijiye phir bhool sakte hain kal aap phir bhatak sakte hain kyonki uske aadhaar par confidence nahi ho sakte

आपने कहा कि मैं यूपी टीचर डे लेखन कौशल में सुधार कैसे एग्जाम कंडक्ट आफ डिस्क्रिप्टिव पेपर

Romanized Version
Likes  62  Dislikes    views  1234
KooApp_icon
WhatsApp_icon
15 जवाब
no img
qIcon
ask
ऐसे और सवाल
Loading...
Loading...
qIcon
ask
QuestionsProfiles

Vokal App bridges the knowledge gap in India in Indian languages by getting the best minds to answer questions of the common man. The Vokal App is available in 11 Indian languages. Users ask questions on 100s of topics related to love, life, career, politics, religion, sports, personal care etc. We have 1000s of experts from different walks of life answering questions on the Vokal App. People can also ask questions directly to experts apart from posting a question to the entire answering community. If you are an expert or are great at something, we invite you to join this knowledge sharing revolution and help India grow. Download the Vokal App!