इनमें से क्या बेहतर है - विदेशों में स्थायी रूप से रहना या भारत में एक IAS अधिकारी बनना? कृपया मुझे सुझाव दें।?...


user

Ansh jalandra

Motivational speaker

0:24
Play

Likes  138  Dislikes    views  2379
WhatsApp_icon
10 जवाब
qIcon
ask
ऐसे और सवाल
Loading...
Loading...
user

Dr. Guddy Kumari

UPSC Coach / Ph.d

0:59
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

नमस्कार आपने कहा कि इसमें क्या बेहतर है विदेशों में अस्थाई रूप से रहना या भारत में कायस अधिकारी बनना कृपया सुझाव दें देखिए विदेशों में एक अस्थाई रूप में रहने से अच्छा है कि भारत में एक आईएएस बनना क्योंकि किसी के घर कितनी भी मीठे पकवान क्यों ना अपने घर की शादी खाने ही अच्छी लगती है इसीलिए विदेश में क्यों ना स्थाई रूप से राजा या कुछ भी राय अपने देश की शान ही अलग होती है तो अपने देश में अगर कोई आईएस बन के आता है यह सबसे बड़ी बात होती है और यही किसी को भी यह डिसीजन लेना चाहिए अगर दो ऑप्शन किसी के पास हो तो आपको सेकंड वाला ऑप्शन यानी भारत में आईएएस बने रहे देश की सेवा करें अपनी योगदान दें और आप भारत में आपके साथ जो किया उसके अधीन आता भी करें धन्यवाद

namaskar aapne kaha ki isme kya behtar hai videshon me asthai roop se rehna ya bharat me kayas adhikari banna kripya sujhaav de dekhiye videshon me ek asthai roop me rehne se accha hai ki bharat me ek IAS banna kyonki kisi ke ghar kitni bhi meethe pakvaan kyon na apne ghar ki shaadi khane hi achi lagti hai isliye videsh me kyon na sthai roop se raja ya kuch bhi rai apne desh ki shan hi alag hoti hai toh apne desh me agar koi ias ban ke aata hai yah sabse badi baat hoti hai aur yahi kisi ko bhi yah decision lena chahiye agar do option kisi ke paas ho toh aapko second vala option yani bharat me IAS bane rahe desh ki seva kare apni yogdan de aur aap bharat me aapke saath jo kiya uske adheen aata bhi kare dhanyavad

नमस्कार आपने कहा कि इसमें क्या बेहतर है विदेशों में अस्थाई रूप से रहना या भारत में कायस अध

Romanized Version
Likes  322  Dislikes    views  2640
WhatsApp_icon
user

Mukund

Counselor & Coach

2:54
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

इनमें से क्या बेहतर है कि देशों में स्थाई रूप से रहना या भारत में एक आईएएस अधिकारी बनना बिल्कुल ही अलग अलग आपको लगता है कि उसके आसपास भी इतनी मेहनत नहीं लगती है और दूसरा कोई भी देखता रहा है यहां ऑलरेडी विदेश में है अभी आया नहीं है अभी आए नहीं हैं जिन्होंने जो है इसके तहत कंपनी जी जो आप दम पर करने को बोल देना यह सही नहीं है जो है अगर कोई ढंग से करें तो हाउस का जो है लॉन्ग टर्म में अच्छा अच्छा है अच्छा होगा बेहतर जरूरी नहीं है अच्छा हो वहां भी जाकर आपको स्ट्रगल करना पड़ते हैं हमारे जो वर्कर लोग हैं उनकी दशा है सर आने वाला नहीं है बिचारे वह चार पैसे कमाने के लिए जा रहे हैं यह बात विदेश जाने के लिए अनपढ़ आदमी जिसके पास कोई होना नहीं चलता है लंबा और कारपेंटर सालों साल रहते हैं बहुत मुश्किल है कठिन है यह सवाल दोनों विपरीत है हां अगर आप आ सकते हैं अपनी जगह है अच्छा अगर आपका कोई कंपैरिजन नहीं है मेल मिलाप नहीं है

inmein se kya behtar hai ki deshon me sthai roop se rehna ya bharat me ek IAS adhikari banna bilkul hi alag alag aapko lagta hai ki uske aaspass bhi itni mehnat nahi lagti hai aur doosra koi bhi dekhta raha hai yahan already videsh me hai abhi aaya nahi hai abhi aaye nahi hain jinhone jo hai iske tahat company ji jo aap dum par karne ko bol dena yah sahi nahi hai jo hai agar koi dhang se kare toh house ka jo hai long term me accha accha hai accha hoga behtar zaroori nahi hai accha ho wahan bhi jaakar aapko struggle karna padate hain hamare jo worker log hain unki dasha hai sir aane vala nahi hai bichare vaah char paise kamane ke liye ja rahe hain yah baat videsh jaane ke liye anpad aadmi jiske paas koi hona nahi chalta hai lamba aur Carpenter salon saal rehte hain bahut mushkil hai kathin hai yah sawaal dono viprit hai haan agar aap aa sakte hain apni jagah hai accha agar aapka koi kampairijan nahi hai male milap nahi hai

इनमें से क्या बेहतर है कि देशों में स्थाई रूप से रहना या भारत में एक आईएएस अधिकारी बनना बि

Romanized Version
Likes  730  Dislikes    views  6384
WhatsApp_icon
user

Anil Ramola

Yoga Instructor | Engineer

0:55
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

हर्षिता की सूचना तरीका होता उसका रहने का तरीका और उसकी जो अमीर होती वाला रोती है कई लोग होते हैं जो कि आप हिंदुस्तानी भाई करते हैं अच्छी अच्छी जॉब के लिए आउट ऑफ इंडिया चले जाते हैं जैसे गूगल कंपनी बेकार लेकिन वापस लौट के देखा है कि लोग वापस लौट कर आते हैं आईएस के रंग तेरी करते हैं और आगे देखे कोई जो इनकम होती है लेकिन शक्तियों पर बात की जाए आजा और अधिकार की बात की जाए तो एक आईएस का जो अध्याय बहुत ही प्रभावशाली होता है वह तो देख वाला होता कि पूरा होता है दिखाइए अच्छा रहेगा

harshita ki soochna tarika hota uska rehne ka tarika aur uski jo amir hoti vala roti hai kai log hote hain jo ki aap hindustani bhai karte hain achi achi job ke liye out of india chale jaate hain jaise google company bekar lekin wapas lot ke dekha hai ki log wapas lot kar aate hain ias ke rang teri karte hain aur aage dekhe koi jo income hoti hai lekin shaktiyon par baat ki jaaye aajad aur adhikaar ki baat ki jaaye toh ek ias ka jo adhyay bahut hi prabhavshali hota hai vaah toh dekh vala hota ki pura hota hai dikhaiye accha rahega

हर्षिता की सूचना तरीका होता उसका रहने का तरीका और उसकी जो अमीर होती वाला रोती है कई लोग हो

Romanized Version
Likes  419  Dislikes    views  3612
WhatsApp_icon
user

Harender Kumar Yadav

Career Counsellor.

1:05
Play

Likes  560  Dislikes    views  6997
WhatsApp_icon
user

Adityavikram Hirani

IAS Officer Trainee at LBSNAA

1:40
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

यह बेटी है पूरा पर्सनल इंफॉर्मेशन वांट टू सी अ कंट्री ऑफ ऑफिस के उधार में कौन सी ट्यूब चलना है आपको तकलीफ से दिख रही है सामने आपको तकलीफों के सामने जाकर खड़ा रहना है कि जी हां यह तकलीफ है और इसकी कटिंग स्टैंड मैं खड़ा हूं मैं कॉल करूंगा क्योंकि आंखों को आंखों की आंखों में आंखें डाल के देखना है पूरा काम प्रॉब्लम्स मेडिसिन अरे डॉक्टर साहब और अगर आपका क्वेश्चन होती है कि फॉरेन में आपका सप्लाई रिजल्ट

yah beti hai pura personal information want to si a country of office ke udhaar mein kaun si tube chalna hai aapko takleef se dikh rahi hai saamne aapko takaleephon ke saamne jaakar khada rehna hai ki ji haan yah takleef hai aur iski cutting stand main khada hoon main call karunga kyonki aankho ko aankho ki aankho mein aankhen daal ke dekhna hai pura kaam problems medicine are doctor saheb aur agar aapka question hoti hai ki foreign mein aapka supply result

यह बेटी है पूरा पर्सनल इंफॉर्मेशन वांट टू सी अ कंट्री ऑफ ऑफिस के उधार में कौन सी ट्यूब चलन

Romanized Version
Likes  179  Dislikes    views  3180
WhatsApp_icon
user
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

नमस्कार मैं तो आप जानना चाहते हैं कि दो ऑप्शन आपके सामने तो क्या बेहतर है या तो विदेश में स्थाई रूप से रहना या भारत में आईएएस बनना या आपके ऊपर डिपेंड करता है आपकी व्यक्तिगत 24 है ना क्योंकि हर फिल्म कोई ना कोई परेशानी है कोई ना कोई मुसीबत से कोई ना कोई आराम है तो यह आपके ऊपर डिपेंड करता है कि आप किस तरीके से कोई भी काम करते हो आप किस को किस किस चीज को किस तरीके से देखकर रघुराम राजन ने ही किया बाद में वह यूएसए चले गए और वहां जाकर मैनेजमेंट के जो है वो स्टूडेंट हो गए वहीं उनके साथ हुई नचिकेत मोर भी थे जो कि इंडिया में आईएस बन गए आईएएस की परीक्षा दी और अब तो ऐसा किसी के साथ भी हो सकता है यह डिपेंड करता है फैक्ट्री व्हाइटनर व्यक्ति को उसकी क्या पसंद है क्या 24:00 है मैं आपको इस तरीके से सुझाव नहीं दे सकता कि आपके लिए वह रास्ता ज्यादा बैटर बैटर है या ज्यादा सभी अच्छे हैं ऐसा नहीं है कि कोई खराब है और कोई अच्छा है सभी एक जैसे हैं यह आपके ऊपर निर्भर करता है चुनना आपके हाथ में है 24 करना आपके हाथ में अकेले हो सकता था के रूप में सुझाव है कि मेरा सुझाव तो यही है कि लास्ट में अपना देख लिया हमने जग सारा अपना तो अपना जगह सबसे प्यारा अलंकी में कभी विदेश नहीं पर हां यह जरूर है इतना तो जानती है कि अपना देश सबसे प्यारा होता है अपना घर सबसे प्यारा होता है तो मी द मीन आपकी किसी प्रकार से मदद की है धन्यवाद

namaskar main toh aap janana chahte hai ki do option aapke saamne toh kya behtar hai ya toh videsh mein sthai roop se rehna ya bharat mein IAS banna ya aapke upar depend karta hai aapki vyaktigat 24 hai na kyonki har film koi na koi pareshani hai koi na koi musibat se koi na koi aaram hai toh yah aapke upar depend karta hai ki aap kis tarike se koi bhi kaam karte ho aap kis ko kis kis cheez ko kis tarike se dekhkar raghuram rajan ne hi kiya baad mein vaah usa chale gaye aur wahan jaakar management ke jo hai vo student ho gaye wahi unke saath hui nachiket mor bhi the jo ki india mein ias ban gaye IAS ki pariksha di aur ab toh aisa kisi ke saath bhi ho sakta hai yah depend karta hai factory whitner vyakti ko uski kya pasand hai kya 24 00 hai aapko is tarike se sujhaav nahi de sakta ki aapke liye vaah rasta zyada better better hai ya zyada sabhi acche hai aisa nahi hai ki koi kharab hai aur koi accha hai sabhi ek jaise hai yah aapke upar nirbhar karta hai chunana aapke hath mein hai 24 karna aapke hath mein akele ho sakta tha ke roop mein sujhaav hai ki mera sujhaav toh yahi hai ki last mein apna dekh liya humne jag saara apna toh apna jagah sabse pyara alanki mein kabhi videsh nahi par haan yah zaroor hai itna toh jaanti hai ki apna desh sabse pyara hota hai apna ghar sabse pyara hota hai toh me the meen aapki kisi prakar se madad ki hai dhanyavad

नमस्कार मैं तो आप जानना चाहते हैं कि दो ऑप्शन आपके सामने तो क्या बेहतर है या तो विदेश में

Romanized Version
Likes  7  Dislikes    views  151
WhatsApp_icon
play
user

DR OM PRAKASH SHARMA

Principal, Education Counselor, Best Experience in Professional and Vocational Education cum Training Skills and 25 years experience of Competitive Exams. 9212159179. dsopsharma@gmail.com

2:32

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

जैसा कि आप ने प्रश्न किया कि कृपया मुझे सजाएं सुझाव दें कि मैं विदेशी सेवा में रहते हुए स्थाई रूप से विदेश में बस जाऊं या भारत में रहकर का आईएएस अधिकारी बनने का सपना देखना है अग्रसर जो भी है अपने देश की सेवा करती दुखा आनंद की प्राप्ति होगी वह विदेश से नहीं मिल सकती विदेशी दौलत में विदेश से आपको गुडविल मिल सकती है विदेश से आपको आवाज मिल सकते हैं विदेश से आपको बहुत नाम मिल सकता है लेकिन जो खुशी अब जो आनंद है वह शायद अपने देश की सेवा करने में ही मिलेगा मुझे भारत की मिट्टी में जन्म लेकर भारतीयों को छोड़कर विदेश में बसने की बात क्या सोचकर आप आपने कई या मुझसे पूछे जिस मिट्टी में जन्म लिया है उसी मिट्टी की सेवा करिए या सेवा करने की कल्पना कीजिए देखिए भाट की मिट्टी की खुशबू कितनी सुंदर है कितनी आनंददायक है कि दुनिया की किसी देश की तब आप देखना भी पसंद नहीं करेंगे कन्याकुमारी से लेकर हमारे जम्मू कश्मीर तक स्वर्ग ही स्वर्ग है अगर मैं राजनीति को राजनीतिक नेताओं को किनारे कर दूं तो भारत जैसा देश दुनिया में कोई नहीं है मुझे अपने भारत पर गर्व है मैं भी अधिकारी के तौर में मैंने अपने जीवन का समय गुजारा है लेकिन किसी भी कीमत पर मैं भारत से बाहर जाने को तैयार नहीं मुझे दुनिया की कोई दौलत नहीं चाहिए अपने देश की संस्कृति और सभ्यता यह मेरे लिए गौरव और गर्व की बात है जैसा बोया है वैसे ही काटेंगे हमें क्या संस्कार और क्या एनवायरनमेंट मिला है इस पर बहुत कुछ आज के युवाओं की सोच है

jaisa ki aap ne prashna kiya ki kripya mujhe sajayen sujhaav de ki main videshi seva mein rehte hue sthai roop se videsh mein bus jaaun ya bharat mein rahkar ka IAS adhikari banne ka sapna dekhna hai agrasar jo bhi hai apne desh ki seva karti dukha anand ki prapti hogi vaah videsh se nahi mil sakti videshi daulat mein videsh se aapko goodwill mil sakti hai videsh se aapko awaaz mil sakte hain videsh se aapko bahut naam mil sakta hai lekin jo khushi ab jo anand hai vaah shayad apne desh ki seva karne mein hi milega mujhe bharat ki mitti mein janam lekar bharatiyon ko chhodkar videsh mein basne ki baat kya sochkar aap aapne kai ya mujhse pooche jis mitti mein janam liya hai usi mitti ki seva kariye ya seva karne ki kalpana kijiye dekhiye bhaat ki mitti ki khushboo kitni sundar hai kitni anand dayak hai ki duniya ki kisi desh ki tab aap dekhna bhi pasand nahi karenge kanyakumari se lekar hamare jammu kashmir tak swarg hi swarg hai agar main raajneeti ko raajnitik netaon ko kinare kar doon toh bharat jaisa desh duniya mein koi nahi hai mujhe apne bharat par garv hai bhi adhikari ke taur mein maine apne jeevan ka samay gujara hai lekin kisi bhi kimat par main bharat se bahar jaane ko taiyar nahi mujhe duniya ki koi daulat nahi chahiye apne desh ki sanskriti aur sabhyata yah mere liye gaurav aur garv ki baat hai jaisa boya hai waise hi katenge hamein kya sanskar aur kya environment mila hai is par bahut kuch aaj ke yuvaon ki soch hai

जैसा कि आप ने प्रश्न किया कि कृपया मुझे सजाएं सुझाव दें कि मैं विदेशी सेवा में रहते हुए स्

Romanized Version
Likes  55  Dislikes    views  1096
WhatsApp_icon
user

Beer Singh Rajput

Career Counsellor & Lecturer.

3:32
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

यह तो आपकी रुचि बना हुआ है दोनों चीजें चीजों के लिए पात्र हैं क्या भाई अधिकारी बन सकते हैं और विदेश में स्थाई जॉब कर सकते हैं आपके पास एक उच्च स्तर का दिमाग तो है ही आपसे अच्छा और कौन सोच सकता है इस बात में हम लोग तो मानते हैं कि अपना देश ही सब कुछ अच्छा है क्योंकि विदेश तुमने देखा नहीं है अपने हवाई एस अधिकारी है मका ग्लैमरस नक्शा एवं उनकी इतना मान सम्मान है ओ मैं तो यही मांगा गया अपने हाल है कर अपने देश की सेवा करना और रहने से तो अच्छा ही है हां यह जरूर है वर्तमान में विदेशों में बहुत सारी ऐसी सेवाएं हैं जिनमें आईएएस अधिकारी की तुलना में कई गुना धन कमाया जा सकता है और वह भी मानवता की सेवा की जा सकती है फिल्म जितनी अपॉर्चुनिटी सेवा की प्रशासनिक सेवाओं में है जितना हम अधिक गरीबों की सेवा प्रशासनिक अधिकारी बनकर आईएएस अधिकारी बन कर सकती हैं अपने पति विदेश में ना हो वर्तमान में जरूर है यह सरकारी विधवा महसूस करते हैं राजनीतिक रहता है ईमानदारी पर अच्छे काम करने में परेशानी तो आती रहती हैं और जब इतने अच्छे लोग जुट जाइए सब अधिकारी बनने के काबिल है और अगर वह विदेशी उपयोग करने लगेंगे तो फिर इस देश का क्या होगा आगे आपका मस्तिष्क रोग विशेषज्ञ ग्रुप आईएस न पाए लेकिन अब नैडरलैंड तो 29 को भी ध्यान में रखें धन्यवाद

yah toh aapki ruchi bana hua hai dono cheezen chijon ke liye patra kya bhai adhikari ban sakte hain aur videsh me sthai job kar sakte hain aapke paas ek ucch sthar ka dimag toh hai hi aapse accha aur kaun soch sakta hai is baat me hum log toh maante hain ki apna desh hi sab kuch accha hai kyonki videsh tumne dekha nahi hai apne hawai S adhikari hai maka glamorous naksha evam unki itna maan sammaan hai O main toh yahi manga gaya apne haal hai kar apne desh ki seva karna aur rehne se toh accha hi hai haan yah zaroor hai vartaman me videshon me bahut saari aisi sevayen hain jinmein IAS adhikari ki tulna me kai guna dhan kamaya ja sakta hai aur vaah bhi manavta ki seva ki ja sakti hai film jitni opportunity seva ki prashaasnik sewaon me hai jitna hum adhik garibon ki seva prashaasnik adhikari bankar IAS adhikari ban kar sakti hain apne pati videsh me na ho vartaman me zaroor hai yah sarkari vidva mehsus karte hain raajnitik rehta hai imaandaari par acche kaam karne me pareshani toh aati rehti hain aur jab itne acche log jut jaiye sab adhikari banne ke kaabil hai aur agar vaah videshi upyog karne lagenge toh phir is desh ka kya hoga aage aapka mastishk rog visheshagya group ias na paye lekin ab naidaralaind toh 29 ko bhi dhyan me rakhen dhanyavad

यह तो आपकी रुचि बना हुआ है दोनों चीजें चीजों के लिए पात्र हैं क्या भाई अधिकारी बन सकते है

Romanized Version
Likes  144  Dislikes    views  1619
WhatsApp_icon
user

Pragti Tripathi

UPSC Aspirant

0:51
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

देखी हूं आपके कोडिंग है क्या बोलना चाहते हो या विदेश में देखें इंडिया जो है हमारी ना उस सबसे बेस्ट कंट्री आज के कोडिंग आपको हम बताएं पूरे नामा इसके चलते ठीक है जो भी भारतीय हमारे विदेशों में थे ठीक है वहां से हमारी इंडिया उनको ला रही है अपने देश वापस ठीक है इसको इंडिया कहते हैं ऐसा हमारा देश तो मेरा यह सलाह रहेगा क्या आप अपने हिंदुस्तान में ही रहकर अपने हिंदुस्तान को आगे बढ़ाओ

dekhi hoon aapke coding hai kya bolna chahte ho ya videsh me dekhen india jo hai hamari na us sabse best country aaj ke coding aapko hum bataye poore nama iske chalte theek hai jo bhi bharatiya hamare videshon me the theek hai wahan se hamari india unko la rahi hai apne desh wapas theek hai isko india kehte hain aisa hamara desh toh mera yah salah rahega kya aap apne Hindustan me hi rahkar apne Hindustan ko aage badhao

देखी हूं आपके कोडिंग है क्या बोलना चाहते हो या विदेश में देखें इंडिया जो है हमारी ना उस स

Romanized Version
Likes  7  Dislikes    views  167
WhatsApp_icon
qIcon
ask
QuestionsProfiles

Vokal App bridges the knowledge gap in India in Indian languages by getting the best minds to answer questions of the common man. The Vokal App is available in 11 Indian languages. Users ask questions on 100s of topics related to love, life, career, politics, religion, sports, personal care etc. We have 1000s of experts from different walks of life answering questions on the Vokal App. People can also ask questions directly to experts apart from posting a question to the entire answering community. If you are an expert or are great at something, we invite you to join this knowledge sharing revolution and help India grow. Download the Vokal App!