IAS अधिकारी दीपक रावत के कार्यों को आप कैसे देखते हैं?...


user

DR OM PRAKASH SHARMA

Principal, Education Counselor, Best Experience in Professional and Vocational Education cum Training Skills and 25 years experience of Competitive Exams. 9212159179. dsopsharma@gmail.com

2:17
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

देखिए दीपक रावत के कार्यों के विषय में सब लोग जानते हैं कि वह किस व्यक्ति की हस्ती हैं और कैसा उनका विचार और उनकी सोच है क्योंकि उन्होंने जो अभी तक परिणाम जो अभी तक कार्य किए हैं वह प्रशंसनीय है उस पर टिप्पणी करना या उनके विषय में किसी भी विचारधारा को रखने से पहले सभी दृष्टिकोण को ध्यान में रखना चाहिए टोन के कार्य प्रशंसनीय और यह अलग नजरिया है कि लोग किस नजरिए से देखते हैं यह उन पर डिपेंड करता है लेकिन मैं माल के चलता हूं कि इंसान का व्यक्तित्व इंसान की छाप उसके कार्यों से होती है उसके नाम से नहीं अब कोई भी व्यक्ति हो किरण बेदी को डीपी सिंह 9 आईपीएस ने उनके नाम से जानते थे क्योंकि उनका काम इतना प्रभावशाली था किए काम जरूर किरण बेदी ने किया होगा अगर यह हो गया तो जरूर किरण बेदी ने किया होगा इसी तरह से अब देखिए रंजन गोगोई जी इनकी काम से पूरे विश्व में चर्चा है लेकिन कुछ गलत अवधारणा वाले लोग कुछ गलत शब्दों का प्रयोग करते हैं उन्हें यह भी नहीं मालूम कि उसके उनके मुख से निकले हुए शब्द कितने अपमानजनक हैं और वह किस मनोज प्रवृत्ति की शिकार है जो मुंह में आया बोल दिया तो इसमें कुछ नहीं कर सकते व्यक्ति 3 साल का नामकरण या नाम को जोड़ने का कारण बनता है

dekhiye deepak rawat ke karyo ke vishay mein sab log jante hain ki vaah kis vyakti ki hasti hain aur kaisa unka vichar aur unki soch hai kyonki unhone jo abhi tak parinam jo abhi tak karya kiye hain vaah prashansaniya hai us par tippani karna ya unke vishay mein kisi bhi vichardhara ko rakhne se pehle sabhi drishtikon ko dhyan mein rakhna chahiye tone ke karya prashansaniya aur yah alag najariya hai ki log kis nazariye se dekhte hain yah un par depend karta hai lekin main maal ke chalta hoon ki insaan ka vyaktitva insaan ki chhaap uske karyo se hoti hai uske naam se nahi ab koi bhi vyakti ho kiran bedi ko dipi Singh 9 ips ne unke naam se jante the kyonki unka kaam itna prabhavshali tha kiye kaam zaroor kiran bedi ne kiya hoga agar yah ho gaya toh zaroor kiran bedi ne kiya hoga isi tarah se ab dekhiye ranjan gogoi ji inki kaam se poore vishwa mein charcha hai lekin kuch galat avdharna waale log kuch galat shabdon ka prayog karte hain unhe yah bhi nahi maloom ki uske unke mukh se nikle hue shabd kitne apamanajanak hain aur vaah kis manoj pravritti ki shikaar hai jo mooh mein aaya bol diya toh isme kuch nahi kar sakte vyakti 3 saal ka namakaran ya naam ko jodne ka karan baata hai

देखिए दीपक रावत के कार्यों के विषय में सब लोग जानते हैं कि वह किस व्यक्ति की हस्ती हैं और

Romanized Version
Likes  64  Dislikes    views  1287
KooApp_icon
WhatsApp_icon
3 जवाब
no img
qIcon
ask
ऐसे और सवाल
Loading...
Loading...
qIcon
ask
QuestionsProfiles

Vokal App bridges the knowledge gap in India in Indian languages by getting the best minds to answer questions of the common man. The Vokal App is available in 11 Indian languages. Users ask questions on 100s of topics related to love, life, career, politics, religion, sports, personal care etc. We have 1000s of experts from different walks of life answering questions on the Vokal App. People can also ask questions directly to experts apart from posting a question to the entire answering community. If you are an expert or are great at something, we invite you to join this knowledge sharing revolution and help India grow. Download the Vokal App!