क्या IAS अधिकारीयों को हमारे देश में कुछ ज़्यादा ही प्रशंसा मिलती है या बहुत कम?...


play
user

Adityavikram Hirani

IAS Officer Trainee at LBSNAA

3:27

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

यह सवाल जवाब तो यह तेरा सवाल है जो रचना हुई थी इस चीज की तरीका जो इंसान सेंटर ऑफ एडमिनिस्ट्रेशन है बेशक अभी नहीं किया जा सकता कि सेंटर ऑफिस कहां कहां जाता है कि मिक्स टू कराड ग्रुप की होती है पेट से जन्म होता है तो मैं कहूंगा क्या स्पेलिंग होगा डेकोरेटिव युटुब चैनल पर हो तो युद्ध इतने अच्छे से करते हैं और जो हमारे काम के हिसाब से जो होना चाहिए अपने डिस्ट्रिक्ट का उद्धार कर चुका स्टोर उत्तर में 1 तरीके से अपना कॉन्स्टिट्यूशन में यह काम अगर करते करते हैं आपको पब्लिक सराहना मिल जाती है आपकी पोस्ट को बहुत ज्यादा तबीयत खराब हो जाती है या फिर आपके शाम को मिलती है रामपुर तक नहीं निकलती सब पर चक चक मुझे ऐसा नहीं लगता कि आज की दिन की सैलरी कितनी है वह मैंने आंटी है कि नहीं सो वही प्रिंसिपल अप्लाई होता है कि हमारी जो सैलरी हमको जिंदगी है वह हमें जब तक हमें लगता नहीं समझा कि और तभी आता है जब हमारे पूरे होते हैं ना कि हमारी पब्लिकेशन कैसी है और पब्लिक लिमिटेड

yah sawaal jawab toh yah tera sawaal hai jo rachna hui thi is cheez ki tarika jo insaan center of administration hai beshak abhi nahi kiya ja sakta ki center office kahaan kahaan jata hai ki mix to karad group ki hoti hai pet se janam hota hai toh main kahunga kya spelling hoga decorative yutub channel par ho toh yudh itne acche se karte hain aur jo hamare kaam ke hisab se jo hona chahiye apne district ka uddhar kar chuka store uttar mein 1 tarike se apna Constitution mein yah kaam agar karte karte hain aapko public sarahana mil jaati hai aapki post ko bahut zyada tabiyat kharab ho jaati hai ya phir aapke shaam ko milti hai rampur tak nahi nikalti sab par chak chak mujhe aisa nahi lagta ki aaj ki din ki salary kitni hai vaah maine aunty hai ki nahi so wahi principal apply hota hai ki hamari jo salary hamko zindagi hai vaah hamein jab tak hamein lagta nahi samjha ki aur tabhi aata hai jab hamare poore hote hain na ki hamari publication kaisi hai aur public limited

यह सवाल जवाब तो यह तेरा सवाल है जो रचना हुई थी इस चीज की तरीका जो इंसान सेंटर ऑफ एडमिनिस्ट

Romanized Version
Likes  170  Dislikes    views  2759
WhatsApp_icon
5 जवाब
qIcon
ask
ऐसे और सवाल
Loading...
Loading...
user

Pragti Tripathi

UPSC Aspirant

1:09
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

प्रशंसा की बात नहीं है ठीक है जो जैसा काम करता है ठीक है किसी भी देश में आई आर एस यू आइ पी एस ओ आई एस बैंक का कलर को ठीक है बैंक मैनेजर डॉक्टर को इंजीनियरों एक अकाउंटेंट कोई भी ठीक है हमारे देश में एक निबल कार्यकारी अधिकारी सबको बराबर दर्जे का काम के हिसाब से प्रशंसा मिलती है सब को इज्जत मान सम्मान मिलते हैं ऐसा कुछ नहीं है कि प्रधानमंत्री जी के सामने एक आईएएस ऑफिसर अकाउंटेंट हूं तो आईएस कोचादा फैसिलिटी ज्यादा वह देंगे सम्मान देंगे उनको हीरे की कुर्सी पर बैठे अकाउंटेंट है उसको बुध चमड़े की कुर्सी पर बैठेंगे ऐसा कुछ नहीं है बराबर सम्मान मिलता है सब ठीक है यह भारत देश हमारा यहां पर छोटा बड़ा ऊंच-नीच सबको बराबर नजर से देखा जाता है उतना ही प्यार सम्मान मिलता है

prashansa ki baat nahi hai theek hai jo jaisa kaam karta hai theek hai kisi bhi desh me I R S you i p S O I S bank ka color ko theek hai bank manager doctor ko engineero ek accountant koi bhi theek hai hamare desh me ek nibble kaaryakari adhikari sabko barabar darje ka kaam ke hisab se prashansa milti hai sab ko izzat maan sammaan milte hain aisa kuch nahi hai ki pradhanmantri ji ke saamne ek IAS officer accountant hoon toh ias kochada facility zyada vaah denge sammaan denge unko heere ki kursi par baithe accountant hai usko buddha chamde ki kursi par baitheange aisa kuch nahi hai barabar sammaan milta hai sab theek hai yah bharat desh hamara yahan par chota bada unch neech sabko barabar nazar se dekha jata hai utana hi pyar sammaan milta hai

प्रशंसा की बात नहीं है ठीक है जो जैसा काम करता है ठीक है किसी भी देश में आई आर एस यू आइ पी

Romanized Version
Likes  5  Dislikes    views  146
WhatsApp_icon
user

Rihan Shah

I want to become An IAS Officer (Love Realationship Full Experience)

0:24
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

लेकिन मेरा मन नहीं किया आईएएस आईएएस अधिकारी को जाए किसी भी कंट्री में चले आओ देखे उसे ज्यादा प्रशंसा मिलती है क्योंकि वह देश का नागरिक होता है जिसे समाचार आना चाहती नाइयों का सामना करना पड़ता है उन्हें हल करना पड़ता है उनके जवाब दो एक आईएएस अधिकारी को देना पड़ता है देश में समाज में क्या चल रहा है सब का जिम्मेदार जोया यह अधिकारी होता है

lekin mera man nahi kiya IAS IAS adhikari ko jaaye kisi bhi country mein chale aao dekhe use zyada prashansa milti hai kyonki vaah desh ka nagarik hota hai jise samachar aana chahti naiyo ka samana karna padta hai unhe hal karna padta hai unke jawab do ek IAS adhikari ko dena padta hai desh mein samaj mein kya chal raha hai sab ka zimmedar joya yah adhikari hota hai

लेकिन मेरा मन नहीं किया आईएएस आईएएस अधिकारी को जाए किसी भी कंट्री में चले आओ देखे उसे ज्या

Romanized Version
Likes  28  Dislikes    views  711
WhatsApp_icon
user
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

दिखी ज्यादा ज्यादा तो कहीं सकते हैं लेकिन हम तो कहा ही नहीं रह सकता है कि आपका क्वेश्चन है कि क्या यह सब कार्यों को हमारी कुछ ज्यादा ही प्रशंसा मिलती है बहुत कम देखी एक लीडर हो शायर जॉब ऑफिस तू दिखे जॉब तो उसकी बड़ी कही जाएगी आपके जो पेमेंट देने में बहुत ही सत्य है कि कोई भी आईएस इस कार्य को माय हमारे देश में कुछ जानकारी उसका नाम पड़ा समझा जाएगा जॉब पड़ी है सभी जानेंगे लेकिन उसकी प्रशंसा उसके काम पर डिपेंड करती है जिस प्रकार से जिसका जैसा वर्क होगा उसी प्रकार से उसका वैसे प्रशंसा मिलती है अगर कोई एक अच्छी सोच और देश की इलू का मतलब कि अपनी जो जिस-जिस स्केलेबल कंसार होगा उसकी सभी समस्याओं का समाधान करता है तो नॉर्मल सी बात है कि प्रशंसा ज्यादा मिलेंगे ज्यादा श्री बाबा योग योग एक प्रकार का एक आया है क्या इस ऑफिसर की काम कुछ नहीं करता है यह किसी को समानता की भावना से नहीं देखता है तो प्रशंसा का सवाल ही नहीं उठता है

dikhi zyada zyada toh kahin sakte hain lekin hum toh kaha hi nahi reh sakta hai ki aapka question hai ki kya yah sab karyo ko hamari kuch zyada hi prashansa milti hai bahut kam dekhi ek leader ho shayar job office tu dikhe job toh uski badi kahi jayegi aapke jo payment dene mein bahut hi satya hai ki koi bhi ias is karya ko my hamare desh mein kuch jaankari uska naam pada samjha jaega job padi hai sabhi jaanege lekin uski prashansa uske kaam par depend karti hai jis prakar se jiska jaisa work hoga usi prakar se uska waise prashansa milti hai agar koi ek achi soch aur desh ki ilu ka matlab ki apni jo jis jis scalable kansar hoga uski sabhi samasyaon ka samadhan karta hai toh normal si baat hai ki prashansa zyada milenge zyada shri baba yog yog ek prakar ka ek aaya hai kya is officer ki kaam kuch nahi karta hai yah kisi ko samanata ki bhavna se nahi dekhta hai toh prashansa ka sawaal hi nahi uthata hai

दिखी ज्यादा ज्यादा तो कहीं सकते हैं लेकिन हम तो कहा ही नहीं रह सकता है कि आपका क्वेश्चन है

Romanized Version
Likes  7  Dislikes    views  143
WhatsApp_icon
user

Aahinav aditya

UPSC(Student)

1:29
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

देखी आपने यहां पर यह क्वेश्चन टाइप किया है क्या आईएएस अधिकारियों को हमारे देश में कुछ ज्यादा ही प्रशंसा मिलती है बहुत कम gk2 की एक आईएएस अधिकारी यानी इंडिया का टॉप लिस्ट ऑफ मोस्ट जाम से यहां अधिकारी बना बनाया जाता है या बनता है आपने यह भी दिखाओगे कि कई ऐसे आयोजन पावस है जो वह मेडिकल टॉपर्स है जो मोटी तनख्वाह को छोड़कर के यूपीएससी में आते हैं क्योंकि यूपीएससी में जो समान है जो रुतबा है जो पावर है वह किसी आदमी जॉब में नहीं हो सकता भले ही इसकी जो सैलरी है यूपीएससी की तुलना में बहुत कम है यूपी में कहां पर किसी से अगर कोई अधिकारी बनते हैं कि ₹100000 सकती है लेकिन की बात की जाए तो आपस की तो उसकी सैलरी काफी अधिक होती है दो करो 3:00 कल पैकेज मिलता है लेकिन वह लोग भी छोड़ना चाहते हैं क्योंकि इस जॉब में जो प्रतिष्ठा है जो सम्मान है वो किसी जॉब में नहीं मिल सकता और यह भारत की सर्वश्रेष्ठ जॉब है इसलिए आईएएस अधिकारियों को काफी सम्मान बजाता है इस जॉब में

dekhi aapne yahan par yah question type kiya hai kya IAS adhikaariyo ko hamare desh mein kuch zyada hi prashansa milti hai bahut kam gk2 ki ek IAS adhikari yani india ka top list of most jam se yahan adhikari bana banaya jata hai ya baata hai aapne yah bhi dikhaoge ki kai aise aayojan pavasa hai jo vaah medical toppers hai jo moti tankhvaah ko chhodkar ke upsc mein aate hain kyonki upsc mein jo saman hai jo rutbaa hai jo power hai vaah kisi aadmi job mein nahi ho sakta bhale hi iski jo salary hai upsc ki tulna mein bahut kam hai up mein kahaan par kisi se agar koi adhikari bante hain ki Rs sakti hai lekin ki baat ki jaaye toh aapas ki toh uski salary kaafi adhik hoti hai do karo 3 00 kal package milta hai lekin vaah log bhi chhodna chahte hain kyonki is job mein jo prathishtha hai jo sammaan hai vo kisi job mein nahi mil sakta aur yah bharat ki sarvashreshtha job hai isliye IAS adhikaariyo ko kaafi sammaan bajata hai is job mein

देखी आपने यहां पर यह क्वेश्चन टाइप किया है क्या आईएएस अधिकारियों को हमारे देश में कुछ ज्या

Romanized Version
Likes  6  Dislikes    views  114
WhatsApp_icon
qIcon
ask
QuestionsProfiles

Vokal App bridges the knowledge gap in India in Indian languages by getting the best minds to answer questions of the common man. The Vokal App is available in 11 Indian languages. Users ask questions on 100s of topics related to love, life, career, politics, religion, sports, personal care etc. We have 1000s of experts from different walks of life answering questions on the Vokal App. People can also ask questions directly to experts apart from posting a question to the entire answering community. If you are an expert or are great at something, we invite you to join this knowledge sharing revolution and help India grow. Download the Vokal App!