क्या जातिगत या आर्थिक आधार पर आरक्षण होना चाहिए?...


user

Abhi Kumar Rana

Journalist

2:34
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

मेरा मानना है कि आरक्षण खत्म ही कर देना चाहिए अगर नहीं कर्म करते हैं तो आरक्षण ओबीसी एससी और जनरल तीनों का जातियों को आरक्षण देना चाहिए जिससे आरक्षण से हर कोई फायदा उठा सकें जैसे कि सरकारी नौकरी जो आरक्षण पास है हमारे भाई लोग ऐसी जो हैं वह आरक्षण पास में जॉब मिलती है गोरमेंट जॉब मिलती है बहुत जल्दी ओबीसी की जातिवाद व जातिवाद है इसका निवारण जल्द से जल्द करना कि सरकार से दरखास्त है कि आरक्षण यादों को संपूर्ण आरक्षण खत्म करें या फिर यह सब पर लागू करें जो कि सब लोग इसका फायदा उठा सकें आरक्षण एक ऐसी चीज है कि जो नीचे है सपना सालों से नौकरी कर रहा है वह सिपाही है तो सिपाही रह गया आज 7:00 वाला आरक्षण ऊंचे पद पर पहुंच गया तो मेरा मानना तो यह है कि जातिवाद और आरक्षण दोनों खत्म किए जाएं अन्ना जातिवाद तो बिल्कुल खत्म किया जाए आरक्षण लागू किया जाए तो सभी कॉस्ट पर लागू किया जाए एससी ओबीसी जनरल सारी जिंदगी को आरक्षण बात करना है गोरमेंट को मुझसे कोई गलती हो गई मैंने कोई अपशब्द कह दिए हैं तो कृपया करके मुझे माफ कीजिएगा मेरा यही सुझाव है आरक्षण सभी जातियों को मिलना चाहिए को सबको एक ही निकाल देना चाहिए कि नहीं खाना चाहिए

mera manana hai ki aarakshan khatam hi kar dena chahiye agar nahi karm karte hain toh aarakshan obc SC aur general tatvo ka jaatiyo ko aarakshan dena chahiye jisse aarakshan se har koi fayda utha sake jaise ki sarkari naukri jo aarakshan paas hai hamare bhai log aisi jo hain vaah aarakshan paas mein job milti hai garment job milti hai bahut jaldi obc ki jaatiwad va jaatiwad hai iska nivaran jald se jald karna ki sarkar se darkhast hai ki aarakshan yaadon ko sampurna aarakshan khatam kare ya phir yah sab par laagu kare jo ki sab log iska fayda utha sake aarakshan ek aisi cheez hai ki jo niche hai sapna salon se naukri kar raha hai vaah sipahi hai toh sipahi reh gaya aaj 7 00 vala aarakshan unche pad par pohch gaya toh mera manana toh yah hai ki jaatiwad aur aarakshan dono khatam kiye jayen anna jaatiwad toh bilkul khatam kiya jaaye aarakshan laagu kiya jaaye toh sabhi cost par laagu kiya jaaye SC obc general saree zindagi ko aarakshan baat karna hai garment ko mujhse koi galti ho gayi maine koi apashabd keh diye hain toh kripya karke mujhe maaf kijiega mera yahi sujhaav hai aarakshan sabhi jaatiyo ko milna chahiye ko sabko ek hi nikaal dena chahiye ki nahi khana chahiye

मेरा मानना है कि आरक्षण खत्म ही कर देना चाहिए अगर नहीं कर्म करते हैं तो आरक्षण ओबीसी एससी

Romanized Version
Likes  34  Dislikes    views  525
KooApp_icon
WhatsApp_icon
5 जवाब
no img
qIcon
ask
ऐसे और सवाल
Loading...
Loading...
qIcon
ask

This Question Also Answers:

QuestionsProfiles

Vokal App bridges the knowledge gap in India in Indian languages by getting the best minds to answer questions of the common man. The Vokal App is available in 11 Indian languages. Users ask questions on 100s of topics related to love, life, career, politics, religion, sports, personal care etc. We have 1000s of experts from different walks of life answering questions on the Vokal App. People can also ask questions directly to experts apart from posting a question to the entire answering community. If you are an expert or are great at something, we invite you to join this knowledge sharing revolution and help India grow. Download the Vokal App!