मुख्यमंत्री डर गए हैं क्योंकि लड़कियों ने बीयर पीना शुरू कर दिया है।शराब केवल लड़कियों के लिए बुरा है?...


play
user

Awdhesh Singh

Former IRS, Top Quora Writer, IAS Educator

0:43

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

क्रिकेट मुख्यमंत्री जो भी एक राज्य का होता है उसकी जिम्मेदारी होती लोन ऑर्डर की थी अगर मान लिया कि कभी भी इन लड़कियों के साथ में कोई भी बदतमीजी होती है लड़कियों को कोई भी तरीके का खतरा होता है तो उसके लिए भी लोग जो है फिर चीफ मिनिस्टर को और उसके पुलिस को जिम्मेदार ठहराते हैं तो जो मुख्यमंत्री ने बेसिकली जो कहा है कि लड़कियों को बीयर नहीं पीना चाहिए वह एक तरीके से उसके पीछे जो है उनकी मंशा यही है कि अगर जो है वह शराब पिएंगे तो उनको सपोर्ट किया जा सकता है और यह उनके अपने बेहतरी के लिए है कि वह शराब न पिए इस वजह से मैं समझता हूं कि उन्होंने जो कहा है वह बहुत ही गुड फेस में कहार उसको निगेटिव साइंस में लेना मेरे विचार से उचित नहीं है

cricket mukhyamantri jo bhi ek rajya ka hota hai uski jimmedari hoti loan order ki thi agar maan liya ki kabhi bhi in ladkiyon ke saath mein koi bhi badatamiji hoti hai ladkiyon ko koi bhi tarike ka khatra hota hai to uske liye bhi log jo hai phir chief minister ko aur uske police ko zimmedar thahrate hai to jo mukhyamantri ne basically jo kaha hai ki ladkiyon ko beeyar nahi peena chahiye chahiye wah ek tarike se uske piche jo hai unki mansha yahi hai ki agar jo hai wah sharab piyenge to unko support kiya ja sakta hai aur yeh unke apne behtari ke liye hai ki wah sharab n pa is wajah se main samajhata hoon ki unhone jo kaha hai wah bahut hi good face mein kehar usko negative science mein lena mere vichar se uchit nahi hai

क्रिकेट मुख्यमंत्री जो भी एक राज्य का होता है उसकी जिम्मेदारी होती लोन ऑर्डर की थी अगर मान

Romanized Version
Likes  20  Dislikes    views  442
WhatsApp_icon
12 जवाब
qIcon
ask
ऐसे और सवाल
Loading...
Loading...
user

Ajay Sinh Pawar

Founder & M.D. Of Radiant Group Of Industries

2:06
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

मुख्यमंत्री डर गए हैं क्योंकि इधर क्यों नहीं दिया पीना शुरु कर दिया शराब दिवस की लड़कियां गई शराब मुख्यमंत्री को डरने की कोई जरूरत नहीं है मुख्यमंत्री को क्या है मुख्यमंत्री का काम है तो सप्ताह चलाना लॉ एंड ऑर्डर कैसे पालन हो रहा है और अगर लड़कियां लिए विक्की तो लड़कियों के लिए पीने के बाद एक दिमागी हालत होती कंट्रोल में नहीं रहती और जो जिससे उनके साथी जो अनजान लोग इसका गलत फायदा उठाकर उनके साथ बदतमीजी स्पंदना को महिलाओं के प्रति लड़कियों के प्रति गुनाह को रोकने के लिए मुख्यमंत्री स्टेट के हैं उन्होंने ऐसा कहा होगा आम जनता की भलाई के लिए खासकर महिलाओं के प्रति लड़कियों के विनाश को रोकने में चिंता करते हैं और वैसे भी ज्यादा खराब है चाहे पुरुषों और महिलाओं को बिल्कुल सब चीजों का सेवन बिलकुल नहीं करना चाहिए और करना है तो मैं बंद कमरे में अपने घर में कोई भी व्यक्ति से और शांति से सो जाना चाहिए खाना खाके इसके अलावा अगर ना पीने बहुत ही उत्तम बात है क्योंकि किसी नंबर से महिलाओं के लिए हैदर बहुत-बहुत शुभकामनाएं

mukhyamantri dar gaye hain kyonki idhar kyon nahi diya peena shuru kar diya sharab divas ki ladkiyan gayi sharab mukhyamantri ko darane ki koi zarurat nahi hai mukhyamantri ko kya hai mukhyamantri ka kaam hai toh saptah chalana law and order kaise palan ho raha hai aur agar ladkiyan liye vicky toh ladkiyon ke liye peene ke baad ek dimagi halat hoti control mein nahi rehti aur jo jisse unke sathi jo anjaan log iska galat fayda uthaakar unke saath badatamiji spandana ko mahilaon ke prati ladkiyon ke prati gunah ko rokne ke liye mukhyamantri state ke hain unhone aisa kaha hoga aam janta ki bhalai ke liye khaskar mahilaon ke prati ladkiyon ke vinash ko rokne mein chinta karte hain aur waise bhi zyada kharab hai chahen purushon aur mahilaon ko bilkul sab chijon ka seven bilkul nahi karna chahiye aur karna hai toh main band kamre mein apne ghar mein koi bhi vyakti se aur shanti se so jana chahiye khana khaake iske alava agar na peene bahut hi uttam baat hai kyonki kisi number se mahilaon ke liye haider bahut bahut subhkamnaayain

मुख्यमंत्री डर गए हैं क्योंकि इधर क्यों नहीं दिया पीना शुरु कर दिया शराब दिवस की लड़कियां

Romanized Version
Likes  501  Dislikes    views  5321
WhatsApp_icon
user
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

बीएफ अच्छी है बुरी भी है इसको सब टीवी सकते नहीं पी सकते अब लड़की के लिए बीयर सबसे खराब चीज है इन वेयर को लड़की को नहीं पीना चाहिए क्योंकि देश में बहुत ज्यादा परेशानी बढ़ती जा रही है

bf achi hai buri bhi hai isko sab TV sakte nahi p sakte ab ladki ke liye beer sabse kharab cheez hai in where ko ladki ko nahi peena chahiye kyonki desh mein bahut zyada pareshani badhti ja rahi hai

बीएफ अच्छी है बुरी भी है इसको सब टीवी सकते नहीं पी सकते अब लड़की के लिए बीयर सबसे खराब चीज

Romanized Version
Likes    Dislikes    views  4
WhatsApp_icon

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

हमारा मन किसी लड़कियों के तरफ क्यों भागता क्या मन शांति और मन सही रखने के लिए कोई रास्ता नहीं है और हमारा मन कभी-कभी ऐसा लगता है कि जैसे हम जिंदगी में है या कि नहीं आखिर ऐसा क्यों लगता है जिस पर मन रखें शांति रखने के लिए कोई रास्ता नहीं है पढ़ते लिखते हैं तो उसने मन नहीं लगता है आखिर पढ़ने लिखने में मन क्यों नहीं लगता है क्या कारण है पता ही नहीं लगता है पढ़ाई में नहीं ध्यान लगता है नहीं और भी कुछ

hamara man kisi ladkiyon ke taraf kyon bhagta kya man shanti aur man sahi rakhne ke liye koi rasta nahi hai aur hamara man kabhi kabhi aisa lagta hai ki jaise hum zindagi mein hai ya ki nahi aakhir aisa kyon lagta hai jis par man rakhen shanti rakhne ke liye koi rasta nahi hai padhte likhte hain toh usne man nahi lagta hai aakhir padhne likhne mein man kyon nahi lagta hai kya karan hai pata hi nahi lagta hai padhai mein nahi dhyan lagta hai nahi aur bhi kuch

हमारा मन किसी लड़कियों के तरफ क्यों भागता क्या मन शांति और मन सही रखने के लिए कोई रास्ता न

Romanized Version
Likes  2  Dislikes    views  64
WhatsApp_icon
user

Kunjansinh Rajput

Aspiring Journalist

1:50
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

देखिए जिस प्रकार से गोवा के मुख्यमंत्री जो है पिछले कई महीनों से अपने बयान दे रहे हैं कि आप पब्लिक में ड्रिंक करना अच्छा नहीं है लड़कियों को बिकिनी नहीं पहनना चेहरा बनाने का है कि उन्हें डायरेक्ट की लड़कियां जो है बियर पीना शुरु कर देगी खाना खा पर यह सारे जो बयान है बिल्कुल भी मतलब है पर बेबुनियाद ओ कान्हा को यह बताते किस प्रकार की मानसिकता याद कैसे आई थी किस प्रकार के विचार जो है मुख्यमंत्री हम कहें रखते हैं क्योंकि गोवा के मुख्यमंत्री मनोहर पारिकर जी को जो है बड़ा मान सम्मान दिया जाता है वह मिनिस्ट्री रह चुके मिनिस्ट्री ऑफ डिफेंस जो है उनके अंदर रहा है तो खाना खा पर उनसे इस प्रकार के बहाने वहीं इस प्रकार के रिचार्ज में बिल्कुल एक्सपेक्ट नहीं थे और जिस प्रकार सुना रिमाइंडर आकर यह बिल्कुल खराब है और अगर वह ऐसे विचार रखेंगे तो खाना कपल गोवा और भारत दोनों ही आगे नहीं बढ़ पाएगा मेरे हिसाब से शराब जो है वह दोनों के लिए बुरा ऐसा नहीं है ऐसा कहां लिखा नहीं गया कि शराब जो है महिलाओं के लिए लड़कियों के लिए बुरा शराब दोनों के लिए बुलाया है चलो अच्छा भी होता है ग्राम मौज में हो अगर आपको कोई जिंदगी में कोई चीज का सेलिब्रेशन करना हो तो शराब उसके लिए बहुत अच्छा है लेकिन शराब को एक लिमिट तक पीना जरूर लिमिट क्रॉस कर दे तो शराब जो है सबके लिए बुरा होता है वह पुरुष हो या महिला हो तो का नाका पर शराब अगर सब लोग लिमिट में पिए जितना हो सके उतना लिमिट में पिएंगे तो उनके लिए बुरा नहीं होगा लेकिन जब ज्यादा पी लेते लोग तो महिलाओं के लिए नहीं है लड़कियों के लिए नहीं बल्की पुरुषों के लिए भी बुरा होता है और जिस प्रकार से मुख्यमंत्री मनोहर पारिकर ने जो बयान दिया है यह बिल्कुल सही नहीं है और सिर्फ सिर्फ केवल लड़कियों के लिए नहीं लड़कों के लिए भी बुरा होता है

dekhiye jis prakar se goa ke mukhyamantri jo hai pichle kai mahinon se apne bayan de rahe hai ki aap public mein drink karna accha nahi hai ladkiyon ko bikini nahi pahanna chehra banane ka hai ki unhe direct ki ladkiyan jo hai beer peena shuru kar degi khana kha par yah saare jo bayan hai bilkul bhi matlab hai par bebuniyad o kanha ko yah batatey kis prakar ki mansikta yaad kaise I thi kis prakar ke vichar jo hai mukhyamantri hum kahein rakhte hai kyonki goa ke mukhyamantri manohar parrikar ji ko jo hai bada maan sammaan diya jata hai vaah ministry reh chuke ministry of defence jo hai unke andar raha hai toh khana kha par unse is prakar ke bahaane wahi is prakar ke recharge mein bilkul expect nahi the aur jis prakar suna reminder aakar yah bilkul kharab hai aur agar vaah aise vichar rakhenge toh khana couple goa aur bharat dono hi aage nahi badh payega mere hisab se sharab jo hai vaah dono ke liye bura aisa nahi hai aisa kahaan likha nahi gaya ki sharab jo hai mahilaon ke liye ladkiyon ke liye bura sharab dono ke liye bulaya hai chalo accha bhi hota hai gram mauj mein ho agar aapko koi zindagi mein koi cheez ka celebration karna ho toh sharab uske liye bahut accha hai lekin sharab ko ek limit tak peena zaroor limit cross kar de toh sharab jo hai sabke liye bura hota hai vaah purush ho ya mahila ho toh ka naka par sharab agar sab log limit mein piye jitna ho sake utana limit mein piyenge toh unke liye bura nahi hoga lekin jab zyada p lete log toh mahilaon ke liye nahi hai ladkiyon ke liye nahi bulky purushon ke liye bhi bura hota hai aur jis prakar se mukhyamantri manohar parrikar ne jo bayan diya hai yah bilkul sahi nahi hai aur sirf sirf keval ladkiyon ke liye nahi ladko ke liye bhi bura hota hai

देखिए जिस प्रकार से गोवा के मुख्यमंत्री जो है पिछले कई महीनों से अपने बयान दे रहे हैं कि आ

Romanized Version
Likes  1  Dislikes    views  144
WhatsApp_icon
user

.

Hhhgnbhh

1:13
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

देखें तो आपको यह प्रश्न है कि मुख्यमंत्री डर गए हैं क्योंकि लड़कियों को बियर पीना शुरु कर दिया तो यह चीज मेरे को समझ में नहीं आई कि मुख्यमंत्री उन्होंने यह दो चीज बोलिए इसके पीछे कोई एक बड़ी चीज है यह बिल्कुल उनके मतलब नहीं था कि लड़कियों के बीयर पीने से डर गए लेकिन अगर हम देखें तो जिंदगी में होता क्या है कि कोई भी अगर शराब पीते हैं तो यह दोनों के लिए नुकसानदायक होता लड़का और लड़की दोनों के लिए क्योंकि दोनों यह अपने थोड़े काबू में नियंत्रण केंद्र नहीं होते हैं पर जहां पर गर्म रिकॉर्ड देखेंगे और हम लोग रिपोर्ट देखेंगे नेट पर भी सर्च करेंगे तो लड़कियों का फायदा उठाना ज्यादा आसान होता है मुझे लड़कियों का फायदा नहीं उठा सकते वहीं पर दूसरी और लड़कों का फायदा उठाना थोड़ा मुश्किल है तो इसलिए जो मुख्यमंत्री है वैसे फुल लड़कियों के लिए उनकी एक भावना ही थी कि वह उन्हें सुरक्षित रखें और लड़कियां कुछ इस समय मैं कुछ गलत काम ना करें क्योंकि लड़कियों के लिए उनकी इज्जत बहुत प्यारी होती है और वह जब वह सब पी ली थी और अपने नियंत्रण में नहीं होती तो उस चीज को काफ़ी खतरा होता है तो इसलिए मुख्यमंत्री जी कर सकें कहना था कि लड़कियों को थोड़ा और ध्यान रखना चाहिए क्योंकि लड़कियां का बेकाबू होकर अपने साथ गलत होने दे सकते हैं वहीं पर लड़के भी ऐसा कर सकते हैं पर आशंका है वहां पर लड़कियों की ज्यादा हो जाती है

dekhen toh aapko yah prashna hai ki mukhyamantri dar gaye hai kyonki ladkiyon ko beer peena shuru kar diya toh yah cheez mere ko samajh mein nahi I ki mukhyamantri unhone yah do cheez bolie iske peeche koi ek baadi cheez hai yah bilkul unke matlab nahi tha ki ladkiyon ke beer peene se dar gaye lekin agar hum dekhen toh zindagi mein hota kya hai ki koi bhi agar sharab peete hai toh yah dono ke liye nukasanadayak hota ladka aur ladki dono ke liye kyonki dono yah apne thode kabu mein niyantran kendra nahi hote hai par jaha par garam record dekhenge aur hum log report dekhenge net par bhi search karenge toh ladkiyon ka fayda uthna zyada aasaan hota hai mujhe ladkiyon ka fayda nahi utha sakte wahi par dusri aur ladko ka fayda uthna thoda mushkil hai toh isliye jo mukhyamantri hai waise full ladkiyon ke liye unki ek bhavna hi thi ki vaah unhe surakshit rakhen aur ladkiyan kuch is samay main kuch galat kaam na kare kyonki ladkiyon ke liye unki izzat bahut pyaari hoti hai aur vaah jab vaah sab p li thi aur apne niyantran mein nahi hoti toh us cheez ko kaafi khatra hota hai toh isliye mukhyamantri ji kar sake kehna tha ki ladkiyon ko thoda aur dhyan rakhna chahiye kyonki ladkiyan ka bekabu hokar apne saath galat hone de sakte hai wahi par ladke bhi aisa kar sakte hai par ashanka hai wahan par ladkiyon ki zyada ho jaati hai

देखें तो आपको यह प्रश्न है कि मुख्यमंत्री डर गए हैं क्योंकि लड़कियों को बियर पीना शुरु कर

Romanized Version
Likes  1  Dislikes    views  177
WhatsApp_icon
user

Pragati

Aspiring Lawyer

1:52
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

जी हां हाल ही में होम गोवा के मुख्यमंत्री मनोहर पारिकर जी ने एक कार्यक्रम के दौरान यह बात कही है कि आजकल लड़कियों ने भी बियर पीना शुरू कर दिया है और यह बहुत ही उनको डरावनी बात लग रही है तो मेरे हिसाब से उनको यह बात समझनी चाहिए कि हमारे देश में 21 वीं सदी में एक नया बदलाव आया है वह लड़का लड़की को बराबर ही इसे देखने के लिए लोग इतनी ज्यादा कोशिशें कर रहे हैं इतनी ज्यादा अवेयरनेस क्रिएट करना चाहते हैं और अगर वह एक मिनिस्टर होने के बावजूद इस तरह की सोच रखेंगे कि लड़का लड़की में भेद करेंगे और उनको डर लग रहा है कि लड़कियां बियर पीना शुरू कर दिया है तो उनको इस सोच से ऊपर उठकर आना चाहिए और यह बहुत ही अच्छा आलोचना की बात है और बहुत ही गलत बात है कि उन्होंने इस तरह का बयान दिया है कि कि आप तो लड़का लड़कियों में भेद कर रहे हैं जो कि हमारे देश में आजकल लोग इस चीज के ऊपर इतना ज्यादा अवेयरनेस क्रिएट करना चाह रहे हैं कि लड़का लड़की को एक बराबर देखा जाए उनको इक्वल राइट्स दिए जाएं जब हमारे लोगों में ज्यादा सोच की बढ़त हो रही है तो क्यों एक मिनिस्टर इस तरह की सोच रखते हैं और बीयर पीना एक लड़की के लिए ही क्यों हो रहा है लड़कों के लिए क्यों नहीं क्योंकि हमारे देश में पुरुष प्रधान समाज इतने सालों से चला आ रहा है और उसको तोड़कर लड़कियां आगे बढ़ने की कोशिश कर रहे हैं लेकिन सिर्फ ऐसे ही मिनिस्टर्स की वजह से हमारे देश में लड़कियां आगे नहीं बढ़ पा रही है और मैंने माना कि बीयर आपकी हेल्थ के लिए हानिकारक होती है लेकिन उन्होंने यही कहा कि सिर्फ लड़कियों के लिए बियर पीना खतरनाक है या फिर लड़कियां बियर पी रही है यह खतरे की बात है ऐसा क्यों क्योंकि हमारे देश में लड़कियों को भी समान अधिकार मिलना चाहिए उनके लिए भी सब कुछ वैसा ही होना चाहिए जैसे लड़कों के लिए होता है तो मनोहर पारिकर जी के इस बयान से मैं बिल्कुल भी खुश नहीं हूं और बिल्कुल भी सहमत नहीं हूं मुझे यह बहुत ही गलत चीज लगी कि उन्होंने ऐसा बयान दिया एक मिनिस्टर होने के बावजूद

ji haan haal hi mein home goa ke mukhyamantri manohar parikar ji ne ek karyakram ke dauran yeh baat kahi hai ki aajkal ladkiyon ne bhi beer peena shuru kar diya hai aur yeh bahut hi unko daravni baat lag rahi hai to mere hisab se unko yeh baat samajhni chahiye ki hamare desh mein 21 vi sadi mein ek naya badlav aaya hai wah ladka ladki ko barabar hi ise dekhne ke liye log itni jyada koshishen kar rahe hain itni jyada awareness chahiye create karna chahte hain aur agar wah ek minister hone ke bawajud is tarah ki soch rakhenge ki ladka ladki mein bhed karenge aur unko dar lag raha hai ki ladkiyan beer peena shuru kar diya hai to unko is soch se upar uthakar aana chahiye aur yeh bahut hi accha aalochana ki baat hai aur bahut hi galat baat hai ki unhone is tarah ka bayan diya hai ki ki aap to ladka ladkiyon mein bhed kar rahe hain jo ki hamare desh mein aajkal log is cheez ke upar itna jyada awareness chahiye create karna chah rahe hain ki ladka ladki ko ek barabar dekha jaye unko equal rights diye jayen jab hamare logo chahiye mein jyada soch ki badhat ho rahi hai to kyu ek minister is tarah ki soch rakhate hain aur beeyar peena ek ladki ke liye hi kyu ho raha hai ladko ke liye kyu nahi kyonki hamare desh mein purush pradhan samaj itne salon se chala aa raha hai aur usko todkar ladkiyan aage badhne ki koshish kar rahe hain lekin sirf aise hi ministers ki wajah se hamare desh mein ladkiyan aage nahi badh pa rahi hai aur maine mana ki beeyar aapki health ke liye haanikarak hoti hai lekin unhone yahi kaha ki sirf ladkiyon ke liye beer peena khatarnak hai ya phir ladkiyan beer p rahi hai yeh khatre ki baat hai aisa kyu kyonki hamare desh mein ladkiyon ko bhi saman adhikaar milna chahiye unke liye bhi sab kuch waisa hi hona chahiye jaise ladko ke liye hota hai to manohar parikar ji ke is bayan se main bilkul bhi khush nahi hoon aur bilkul bhi sahmat nahi hoon mujhe yeh bahut hi galat cheez lagi ki unhone aisa bayan diya ek minister hone ke bawajud

जी हां हाल ही में होम गोवा के मुख्यमंत्री मनोहर पारिकर जी ने एक कार्यक्रम के दौरान यह बात

Romanized Version
Likes  2  Dislikes    views  176
WhatsApp_icon
user

Ridhima

Mass Communications Student

1:13
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

विश्व यह जो वोट स्टेटमेंट मुख्यमंत्री ने कहा है वह मेरे सपने वह जेंडर बायस पर जेंडर डिस्क्रिमिनेशन पर हुआ है क्योंकि ऐसी बात नहीं है जिसे फ्लाइट के बीयर पीते हैं या कोई दूसरा अल्कोहल पर लड़कियां भी आजकल पीती है बस वह है कि बहुत सारे फैमिली में चाहते हैं कि वह नहीं किया क्योंकि वह इमेज का हो जाता है और फिर वह यह हो गया है हम इंडिया में ज्यादा टल्ली हो गया कि लड़कियां यह सब नहीं करती है कि क्या करूं करे तो उसका इमेज खराब होता है बोलकर बट आजकल का जमाना बदल गया है कि आजकल सोसाइटी होना चाहिए ओपन माइंडेड होना चाहिए जो थोड़ा-थोड़ा हो रहा है बट अगर ऐसे लोग ऐसे कमेंट मारते हैं तो वह दिखाता है कि उनकी सोच बहुत बैकवर्ड है और बहुत कंजरवेटिव है जो इस टाइम के ऑफिस एंट्री के थॉट प्रोसेस एकदम नहीं और कनेक्ट होता है जो बोल जो इस समय का फोटो से ज्यादा तक ओपन माइंडेड है और नॉन बल्कि ज्यादातर यह लड़कियों को पीने से कुछ बीमारी हो जाएगी अल्कोहल किसी से किसी को भी बीमार पड़ सकता लड़का हो या लड़की हो

vishwa yeh jo vote statement mukhyamantri ne kaha hai wah mere sapne wah gender bayas par gender discrimination par hua hai kyonki aisi baat nahi hai jise flight ke beeyar pite hain ya koi doosra alcohol par ladkiyan bhi aajkal piti hai bus wah hai ki bahut sare family mein chahte hain ki wah nahi kiya kyonki wah image ka ho jata hai aur phir wah yeh ho gaya hai hum india mein jyada tal ho gaya ki ladkiyan yeh sab nahi karti hai ki kya karu chahiye kare to uska image kharab hota hai bolkar but aajkal ka jamana badal gaya hai ki aajkal society hona chahiye open minded hona chahiye jo thoda thoda ho raha hai but agar aise log aise comment marte hain to wah dikhaata hai ki unki soch bahut backward hai aur bahut kanjaravetiv hai jo is time ke office entry ke thought chahiye process ekdam nahi aur connect hota hai jo bol jo is samay ka photo se jyada tak open minded hai aur non balki jyadatar yeh ladkiyon ko peene se kuch bimari ho jayegi alcohol kisi se kisi ko bhi bimar padh sakta ladka ho ya ladki ho

विश्व यह जो वोट स्टेटमेंट मुख्यमंत्री ने कहा है वह मेरे सपने वह जेंडर बायस पर जेंडर डिस्क्

Romanized Version
Likes    Dislikes    views  180
WhatsApp_icon
user

Anukrati

Journalism Graduate

1:03
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

देखिए शराब तो लड़के और लड़कियां दोनों के लिए ही बुरा है पर मुख्यमंत्री जी डर गए हैं क्योंकि लड़कियों ने बीयर पीना शुरू कर दिया है यह बात मुझे बहुत बच्चों वाली लगती है क्योंकि लड़कियों ने बीयर पीना अब शुरू नहीं किया है वह पहले से ही पीती आ रही है उन मुख्यमंत्री जी के ध्यान में अब आया होगा कि लड़कियों ने बीयर पीना शुरू कर दिया है और देश बाद में कुछ गलत भी नहीं है क्योंकि दोनों लड़के लड़की जो चाहे वह कर सकते हैं ऐसे इंडिविजुअल है उनका राइट है कि अगर आपकी कंट्री में यह चीज लीगल है तो वह कर सकते हैं तो मुझे यह शराब केवल लड़कियों के लिए बुरा है यह तो ऐसा तो है नहीं मुझे यह जरूर लगता है कि हमारी सोच बदलने की बहुत जरूरत है भारत में जिस से कम से कम जो हाई पोस्ट पर हमारे नेता और यह सब लोग हैं उनकी तो कम से कम सोच खुले थोड़ी

dekhie chahiye sharab to ladke aur ladkiyan dono ke liye hi bura hai chahiye par mukhyamantri ji dar gaye hain kyonki ladkiyon ne beeyar peena shuru kar diya hai yeh baat mujhe bahut baccho wali lagti hai kyonki ladkiyon ne beeyar peena ab shuru nahi kiya hai wah pehle se hi piti aa rahi hai un mukhyamantri ji ke dhyan mein ab aaya hoga ki ladkiyon ne beeyar peena shuru kar diya hai aur desh baad mein kuch galat bhi nahi hai kyonki dono ladke ladki jo chahe wah kar sakte hain aise imdividual hai unka right hai ki agar aapki country mein yeh cheez legal hai to wah kar sakte hain to mujhe yeh sharab kewal ladkiyon ke liye bura hai yeh to aisa to hai nahi mujhe yeh jarur lagta hai ki hamari soch badalne ki bahut zarurat hai bharat mein jis se kum se kum jo hi post par hamare neta aur yeh sab log hain unki to kum se kum soch khule thodi

देखिए शराब तो लड़के और लड़कियां दोनों के लिए ही बुरा है पर मुख्यमंत्री जी डर गए हैं क्यों

Romanized Version
Likes  1  Dislikes    views  157
WhatsApp_icon
user

Rajsi

Sports Commentator & Reporter

1:26
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

अभय सिंह समय आ गया कि आप लोग भी डर जाएगी कैसे मुख्यमंत्री चल रही है ऐसे में मनोहर पर्रिकर के बारे में ऐसा बोलना चाहती थी क्योंकि बहुत अच्छे CM है गोवा के और एक बात कहूं मुझे बहुत इरिटेट लड़कियों ने भी अब बियर पीना शुरू कर दिया है मतलब कहने का मतलब क्या लड़कियों ने भी पहले नहीं थी थी थी या पीने लग गई है या वह यह कहना चाहते हैं कि अब तो यहां तक बात अधिकृत लवली क्यों नहीं पीना स्टार्ट कर दिया है आई डोंट रामधन चोर को कुछ ना कुछ चेंज के साथ अभी वह दोबारा लौट आएंगे जो कि यीशु टू क्रिएट हो गया तो उनको दोबारा से कोई स्टेटमेंट देना होगा पर आई डोंट थिंक सो कि यह कोई प्रॉपर सेट में जो अभी तक हम लोगों को समझ में आ रहा है कि आप दो लड़कियों ने भी शराब पीना शुरू कर दिया बीयर पीनी शुरू कर दी है अब घर का सीन होता की पहली बात तो लड़कियों ने भी का मतलब क्या होता है अगर लड़के भी सकते हैं लड़कियां क्यों नहीं भेज सकती इसलिए कह दिया करती थी इसमें कुछ नहीं वह बात लिखे रब ने भी कर दे दिया अगर आपकी और मिलाइए BF फेस जाइए आप पर भी मिलती है लेकर 4:00 होती है वहां पर आपको इसलिए लड़कियां बियर पीती या फिर कोई भी शराब पीती हुई नजर आ जाएंगे और बहुत उसमें ऐसा कुछ भी नहीं है वहां के लोग भी बहुत कम है लड़कियों के लिए खुद के लिए बहुत छोटे बच् ID कार्ड ब्लॉक में निधन हो गया कि लोगों ने शिशु को करने के लिए और क्या चाहिए भी नहीं सकती अगर लड़की भी सकते लड़कियां BP सकती हैं तो आई डोंट इंग्लिश में कुछ होना चाहिए नहीं पीनी चाहिए यह सब पर लागू होती है कि बीयर नहीं पीनी चाहिए या शराब नहीं पीनी चाहिए यह सब पर लागू होती है अगर आप यह कहते हो कि लड़कियों ने भी शुरू कर दिया तो भाई आहीर है यह गलत है यह बेहद गलत है

abhay chahiye singh samay aa gaya ki aap log bhi dar jayegi kaise mukhyamantri chal rahi hai aise mein manohar parrikar ke baare mein aisa bolna chahti thi kyonki bahut acche CM hai goa ke aur ek baat kahun mujhe bahut irritate ladkiyon ne bhi ab beer peena shuru kar diya hai matlab kehne ka matlab kya ladkiyon ne bhi pehle nahi thi thi thi ya peene lag gayi hai ya wah yeh kehna chahte hain ki ab to yahan tak baat adhikrit lovely kyu nahi peena start kar diya hai eye don't ramadhan chor ko kuch na kuch change ke saath abhi wah dobara lot aayenge jo ki yeshu to create ho gaya to unko dobara se koi statement dena hoga par eye don't think so ki yeh koi proper set mein jo abhi tak hum logo chahiye ko samajh mein aa raha hai ki aap do ladkiyon ne bhi sharab peena shuru kar diya beeyar pini shuru kar di hai ab ghar ka seen hota ki pehli baat to ladkiyon ne bhi ka matlab kya hota hai agar ladke bhi sakte hain ladkiyan kyu nahi bhej sakti isliye keh diya karti thi isme kuch nahi wah baat likhe rab ne bhi kar de diya agar aapki aur milaiye BF face jaiye aap par bhi milti hai lekar 4:00 hoti hai wahan par aapko isliye ladkiyan beer piti ya phir koi bhi sharab piti hui nazar aa jaenge aur bahut usamen chahiye aisa kuch bhi nahi hai wahan ke log bhi bahut kum hai ladkiyon ke liye khud ke liye bahut chote bach ID card block mein nidhan ho gaya ki logo chahiye ne shishu ko karne ke liye aur kya chahiye bhi nahi sakti agar ladki bhi sakte ladkiyan BP sakti hain to eye don't english mein kuch hona chahiye nahi pini chahiye yeh sab par laagu hoti hai ki beeyar nahi pini chahiye ya sharab nahi pini chahiye yeh sab par laagu hoti hai agar aap yeh kehte ho ki ladkiyon ne bhi shuru kar diya to bhai ahir hai yeh galat hai yeh behad galat hai

अभय सिंह समय आ गया कि आप लोग भी डर जाएगी कैसे मुख्यमंत्री चल रही है ऐसे में मनोहर पर्रिकर

Romanized Version
Likes  1  Dislikes    views  150
WhatsApp_icon
user

Swati

सुनो ..सुनाओ..सीखो!

1:29
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

बिकिनी सीन पर भी क्या हुआ कि मनोहर पारिकर जो गोवा के सीएम है उन्होंने बोला कि वह पार्टी की रैली हुआ रेट है कि लड़कियां शराब पी रही है क्योंकि लड़कियां तो शराब नहीं पीती तो इसके ऊपर कृपा तो टेस्ट भी हुआ बहुत से लोग सामने आए ट्विटर के ऊपर बहुत सारे ट्वीट PK किए गए जिसको लेकर जो चीज बनाई है वह यह कि आज टाइम टेबल नंबर छोड़कर क्यों आ गया है क्यों हर चीज में लड़कियों को पीछे धकेला जा रहा है और यह एक मतलब एक मैसेज करा जाए कि यह चीजें लड़के कर सकते हो चीजें लड़कियां कर सकती हैं हालांकि मैं शराब पीने को सपोर्ट नहीं करती हूं और मैं नहीं यह चीज को एंप्लाइज करूंगी शराब पीने देना चाहिए बट पर बुरी है तो वह हर किसी के लिए बुरी है देखिए माना हमारे लड़का लड़की की बॉडी में कुछ डिफरेंस होते हैं लेकिन जो हमारा और डाइजेशन सिस्टम है जो हमारा इंटरनेट सिस्टम है खाने को प्रोसेस करने का पिन ड्रिंक को पसंद करने को तो सारा सीन ही होता है जैसे शराब लड़कों के पेट में बच्चे की ऐसी लड़कियों के पेट में भी बचेगी तो यह जस्टिफाई करना लड़कियों को लेकर हुआ रेट कैसे उसको इतना हाईलाइट करना यह बहुत गलत चीज है या तो सबके लिए मना कीजिए कि कोई भी युद्ध ना पिए वह बोलते तो समझ में आता कि वह यूथ को लेकर थोड़ा वर्ड है पर या लड़कियों को अलग से हाईलाइट करना यह दिखाता है कि उनकी सोच कैसी है और बल्कि वह तो स्टेट के CM है उन्हें ज्यादा रिस्पांसिबिलिटी से कोटा कल करना चाहिए क्योंकि वह कर नहीं पाए

bikini seen par bhi kya hua ki manohar parikar jo goa ke cm hai unhone bola ki wah party ki rally hua rate hai ki ladkiyan sharab p rahi hai kyonki ladkiyan to sharab nahi piti to iske upar kripa to test bhi hua bahut se log samane aaye twitter ke upar bahut sare tweet PK kiye gaye jisko lekar jo cheez banai hai wah yeh ki aaj time table number chodkar kyu aa gaya hai kyu har cheez mein ladkiyon ko piche dhakela ja raha hai aur yeh ek matlab ek massage kra jaye ki yeh cheezen ladke kar sakte ho cheezen ladkiyan kar sakti hai halaki main sharab peene ko support nahi karti hoon aur main nahi yeh cheez ko emplaij karungi sharab peene dena chahiye but par buri hai to wah har kisi ke liye buri hai dekhie chahiye mana hamare ladka ladki ki body mein kuch difference hote hai lekin jo hamara aur daijeshan system hai jo hamara internet system hai khane ko process karne ka pin drink ko pasand karne ko to saara seen hi hota hai jaise sharab ladko ke pet mein bacche ki aisi ladkiyon ke pet mein bhi bachegee to yeh justify karna ladkiyon ko lekar hua rate kaise usko itna highlight karna yeh bahut galat cheez hai ya to sabke liye mana kijiye ki koi bhi yudh na pa wah bolte to samajh mein aata ki wah youth ko lekar thoda word hai par ya ladkiyon ko alag se highlight karna yeh dikhaata hai ki unki soch kaisi hai aur balki wah to state ke CM hai unhen chahiye jyada responsibility se quota kal karna chahiye kyonki wah kar nahi paye

बिकिनी सीन पर भी क्या हुआ कि मनोहर पारिकर जो गोवा के सीएम है उन्होंने बोला कि वह पार्टी की

Romanized Version
Likes  1  Dislikes    views  180
WhatsApp_icon
user

Ishita Seth

Obstinate Programmer

1:26
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

देखिए मुझे यह पॉइंट समझ में नहीं आया कि मुख्यमंत्री आखिर डर के उपाय है अगर लड़कियों ने भी बीयर पीना शुरू कर दिया है और अगर आप का क्वेश्चन है कि शराब में लड़कियों के लिए बुरा है जी नहीं ऐसा नहीं है जरा उसका लड़कों के लिए बुरा है उतना ही लड़कियों के लिए भी बुरा है दोनों के लिए ऐसा तो कुछ नहीं है कि Sharaabi बहुत ही अच्छी चीज है चाहे वह लड़की चाहिए लड़कियों के शराब पूरी सीरियस है और उसे अवॉइड करें जितना भी पीना और अगर यहां पर जॉब का क्वेश्चन है कि मुख्यमंत्री डर गए हैं क्योंकि लड़कियों ने मुझे पीना सेट कर देखिए अगर लड़की बीयर पीते हैं तो हम इतना उनको जस नहीं करते और अगर वही सिंचित लड़कियां करती हैं तो हम लड़कियों को हरे काम पर क्यों सर्च कर रहे हैं उनकी अपनी लाइफ एंड कि अपनी जॉब को बियर पीनी है उनको भी और नहीं भी नहीं है लेकिन हानिकारक दो है जो है वह तो दोनों के लिए है लड़कों के लिए भी लड़कियों के लिए लड़कियों के लिए भी और जो लोग ड्रिंक करते हैं तो लोग शराब पीते हैं उन्हें अच्छे से बखूबी मालूम होती है कि बुरी चीज है उसके बाद सब अपनी लाइफ के साथ अगर ऐसा कुछ पॉइंट यूज़ करते हैं शराब पीने की कोशिश वाइट गर्ल और बॉय ढूंढो कि हमें किसी भी बात करना चाहिए और शराब दोनों के लिए बहुत बुरी चीज है इससे दूर है जितना हो सके

dekhie chahiye mujhe yeh point samajh mein nahi aaya ki mukhyamantri aakhir dar ke upay hai agar ladkiyon ne bhi beeyar peena shuru kar diya hai aur agar aap ka question hai ki sharab mein ladkiyon ke liye bura hai ji nahi aisa nahi hai jara uska ladko ke liye bura hai utana chahiye hi ladkiyon ke liye bhi bura hai dono ke liye aisa to kuch nahi hai ki Sharaabi bahut hi acchi cheez hai chahe wah ladki chahiye ladkiyon ke sharab puri serious hai aur use avoid kare chahiye jitna bhi peena aur agar yahan par job ka question hai ki mukhyamantri dar gaye hain kyonki ladkiyon ne mujhe peena set kar dekhie chahiye agar ladki beeyar pite hain to hum itna unko jas nahi karte aur agar wahi sinchit ladkiyan karti hain to hum ladkiyon ko hare kaam par kyu search kar rahe hain unki apni life end ki apni job ko beer pini hai unko bhi aur nahi bhi nahi hai lekin haanikarak do hai jo hai wah to dono ke liye hai ladko ke liye bhi ladkiyon ke liye ladkiyon ke liye bhi aur jo log drink karte hain to log sharab pite hain unhen chahiye acche se bakhubi maloom hoti hai ki buri cheez hai uske baad sab apni life ke saath agar aisa kuch point use karte hain sharab peene ki koshish white girl aur boy dhundho ki hume kisi bhi baat karna chahiye aur sharab dono ke liye bahut buri cheez hai isse dur hai jitna ho sake

देखिए मुझे यह पॉइंट समझ में नहीं आया कि मुख्यमंत्री आखिर डर के उपाय है अगर लड़कियों ने भी

Romanized Version
Likes  1  Dislikes    views  126
WhatsApp_icon
qIcon
ask

Related Searches:
शुरू कर दिया है ;

QuestionsProfiles

Vokal App bridges the knowledge gap in India in Indian languages by getting the best minds to answer questions of the common man. The Vokal App is available in 11 Indian languages. Users ask questions on 100s of topics related to love, life, career, politics, religion, sports, personal care etc. We have 1000s of experts from different walks of life answering questions on the Vokal App. People can also ask questions directly to experts apart from posting a question to the entire answering community. If you are an expert or are great at something, we invite you to join this knowledge sharing revolution and help India grow. Download the Vokal App!