पाकिस्तान को राजनाथ की सलाह,आतंक से लड़ने पर गंभीर हो तो हम मदद करेंगे, आपकी राय?...


user

Karan Janwa

Automobile Engineer

2:26
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

देखे पाकिस्तान हमेशा ही डोगरी भाषा का प्रयोग करता है पहले तो वह खुद ही आतंकवादी अपने देश में फंसता है और दूसरी तरफ को आतंकवाद से लड़ने की बात करता है तो आतंकवादी को पहले तो खुद आतंकवादी फेस थे फिर बाद में आतंकवादी से लड़ने की सलाह देता है अंतरराष्ट्रीय स्तर पर ऐसा बहुत बार हो चुका है शहीद है तो भारत पाकिस्तान में यूनाइटेड नेशन में ऑफिस को भारत को सौंपने की बात करता है लेकिन पाकिस्तान हमेशा चीन की मदद चाहिए टो पावर की उसका क्या उसको आतंकवादी घोषित करने की उसको अंतरराष्ट्रीय स्तर पर आतंकवाद आतंकवादी जैश-ए-मोहम्मद का सरगना है मसूद अजहर पाकिस्तान में छिपा बैठा है और 26 11 में जो टेरर अटैक हुआ था उसका जो मास्टरमाइंड हाफिज सईद अभी पाकिस्तान में छिपा बैठा है ऐसे बहुत सारे आतंकवादी हैं वह सभी पाकिस्तान तोरा स्पॉन्सर्ड होते हैं वह सभी पाकिस्तान के अंतरिक्ष में बैठे हैं और जिनके पास बहुत सारे पैसे होते हैं वो सारे पैसे उसे भी हमला करके खमत है तो भारत के रक्षा मंत्री है वह पहले गृहमंत्री राजनाथ सिंह जी पाकिस्तान को बिल्कुल क्लियर कट बात करनी चाहिए उनको कहो आप हमें जितने भी आतंकवादी है उनका पता बताओ और हर आतंकवादी है मत दो अगर आप तो उनको मैं सब सपने का जो बात कर रहे हैं अगर आप शांति चाहते हैं तो जितने भी आतंकवादी है उनको भारत को सौंप दीजिए ताकि शांति बनी रहे आपके देश में भी और हमारे देश में भी अगर पाकिस्तान ऐसा मजबूर करता है तो मैं एग्रीमेंट करना चाहिए पाकिस्तान के साथ जितने भी आतंकवादी छुपे हैं तो हमारी राय यही है कि जितने भी टेरेरिस्ट हैं वह भारत का सब दीजिए अगर इसमें पाकिस्तान हमारे साथ में है तो हम भी पाकिस्तान की मदद अवश्य करेंगे धन्यवाद जय हिंद जय भारत

dekhe pakistan hamesha hi dogri bhasha ka prayog karta hai pehle toh vaah khud hi aatankwadi apne desh mein fansata hai aur dusri taraf ko aatankwad se ladane ki baat karta hai toh aatankwadi ko pehle toh khud aatankwadi face the phir baad mein aatankwadi se ladane ki salah deta hai antararashtriya sthar par aisa bahut baar ho chuka hai shaheed hai toh bharat pakistan mein united nation mein office ko bharat ko saumpane ki baat karta hai lekin pakistan hamesha china ki madad chahiye toe power ki uska kya usko aatankwadi ghoshit karne ki usko antararashtriya sthar par aatankwad aatankwadi jaish a muhammad ka sargana hai masood azhar pakistan mein chhipa baitha hai aur 26 11 mein jo terror attack hua tha uska jo mastermind haafiz saeed abhi pakistan mein chhipa baitha hai aise bahut saare aatankwadi hain vaah sabhi pakistan tora sponsored hote hain vaah sabhi pakistan ke antariksh mein baithe hain aur jinke paas bahut saare paise hote hain vo saare paise use bhi hamla karke khamat hai toh bharat ke raksha mantri hai vaah pehle grihmantri rajnath Singh ji pakistan ko bilkul clear cut baat karni chahiye unko kaho aap hamein jitne bhi aatankwadi hai unka pata batao aur har aatankwadi hai mat do agar aap toh unko main sab sapne ka jo baat kar rahe hain agar aap shanti chahte hain toh jitne bhi aatankwadi hai unko bharat ko saunp dijiye taki shanti bani rahe aapke desh mein bhi aur hamare desh mein bhi agar pakistan aisa majboor karta hai toh main Agreement karna chahiye pakistan ke saath jitne bhi aatankwadi chhupe hain toh hamari rai yahi hai ki jitne bhi terrorist hain vaah bharat ka sab dijiye agar isme pakistan hamare saath mein hai toh hum bhi pakistan ki madad avashya karenge dhanyavad jai hind jai bharat

देखे पाकिस्तान हमेशा ही डोगरी भाषा का प्रयोग करता है पहले तो वह खुद ही आतंकवादी अपने देश म

Romanized Version
Likes  11  Dislikes    views  238
WhatsApp_icon
4 जवाब
qIcon
ask
ऐसे और सवाल
Loading...
Loading...
user

Daulat Ram Sharma Shastri

Psychologist | Ex-Senior Teacher

1:05
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

पाकिस्तान के झलकता है केवल दुनिया को यह शो करना चाहता है कि मैं आतंकवाद आतंकवाद मिटाने में हम लोग हेल्प कर रहे हैं बाकी सच्चाई में यह पाकिस्तान ने आतंकवाद को बढ़ावा दिया है पन पाया है प्रशिक्षण दे रहा है तो आप यह सोच के ऊपर लिखा भाई होगी यूनुस की उपलब्धि पर यदि ताजमहल भी करेगा तो उनसे करेगा जो पाकिस्तान के लिए खतरा है उन आतंकवादियों को मिटाने भारत के अपनी करेगा जो भारत के लिए लाते हैं उनको तो उनकी सहायता कर रहा है इसलिए पाकिस्तान से पूरी बात तो हम भी उससे उसी डबल फेस में बात करें यह डबल फेस में वह बात कर रहा है वह सारी दुनिया को कुछ और शो करना चाहता है बहुत से ग्रुप में पाकिस्तान कुछ और है

pakistan ke jhalkata hai keval duniya ko yah show karna chahta hai ki main aatankwad aatankwad mitne mein hum log help kar rahe hain baki sacchai mein yah pakistan ne aatankwad ko badhawa diya hai pan paya hai prashikshan de raha hai toh aap yah soch ke upar likha bhai hogi yunus ki upalabdhi par yadi tajmahal bhi karega toh unse karega jo pakistan ke liye khatra hai un aatankwadion ko mitne bharat ke apni karega jo bharat ke liye laate hain unko toh unki sahayta kar raha hai isliye pakistan se puri baat toh hum bhi usse usi double face mein baat kare yah double face mein vaah baat kar raha hai vaah saree duniya ko kuch aur show karna chahta hai bahut se group mein pakistan kuch aur hai

पाकिस्तान के झलकता है केवल दुनिया को यह शो करना चाहता है कि मैं आतंकवाद आतंकवाद मिटाने में

Romanized Version
Likes  66  Dislikes    views  1317
WhatsApp_icon
play
user

Ajay Sinh Pawar

Founder & M.D. Of Radiant Group Of Industries

0:44

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

पाकिस्तान को राजनाथ जी की सलाह है क्या सच लगने पर गंभीर हो तो हम मदद करेंगे लेकिन बिना मांगे सलाह किसी को देनी चाहिए और भी है तो उसके पीछे कुछ भी राजनीतिक कारण होगा विश्व समुदाय को दिखाने का कि आप आतंकी समुद्र से अभी तक गाड़ी नहीं है अगर आप लेंगे तब हम आपको सहयोग करेंगे यह राजनीतिक चाल राजनाथ सिंह जी को है बहुत ही अच्छी है और उसका हमको समर्थन पढ़ना चाहिए

pakistan ko rajnath ji ki salah hai kya sach lagne par gambhir ho toh hum madad karenge lekin bina mange salah kisi ko deni chahiye aur bhi hai toh uske peeche kuch bhi raajnitik karan hoga vishwa samuday ko dikhane ka ki aap aatanki samudra se abhi tak gaadi nahi hai agar aap lenge tab hum aapko sahyog karenge yah raajnitik chaal rajnath Singh ji ko hai bahut hi achi hai aur uska hamko samarthan padhna chahiye

पाकिस्तान को राजनाथ जी की सलाह है क्या सच लगने पर गंभीर हो तो हम मदद करेंगे लेकिन बिना मां

Romanized Version
Likes  69  Dislikes    views  1330
WhatsApp_icon
user

N. K. SINGH 'Nitesh'

Educator, Life Coach, Writer and Expert in British English Language, Author of Book/Fiction Lucky Girl (Love vs Marriage)

3:11
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

राजनाथ सिंह ने अपनी सकता है कि यदि पाकिस्तान आतंकवादी नहीं गंभीर है तो भारत उसकी सहायता करने के लिए तैयार है और जहां भी कहे वह अपनी सैन्य क्षमताओं का उपयोग करके और आतंकवादी संगठन और ठिकानों को नष्ट करने में पाकिस्तान की मदद कर सकता है कि राजनाथ सिंह ने पाकिस्तान को ही करने की कोशिश की है जिस तरह से पाकिस्तान अंतरराष्ट्रीय मंचों पर दिखाता है वह आतंकवाद के लिए उसकी समाप्ति के लिए प्रतिबद्ध है और वह कोशिश कर रहा है अपने देश के कि आतंकवाद का सफाया हो और भारत को उसमें या सीखने की कोशिश बार-बार कर रहा है तो ऐसे में राज यह साला बिल्कुल ही राजनीतिक तरीके से पाकिस्तान को खेलना है ऑडियो कि पाकिस्तान ऐसा करता है तो यह भारत के हित में होगा हम अपनी क्षमता का उपयोग पाकिस्तान में अंदर जाकर सकेंगे पाकिस्तान के आतंकवादी संगठन और ठिकानों को नष्ट कर सकूं क्योंकि उसके दिखाने और खाने वाली बात अलग अलग है पाकिस्तान अंतरराष्ट्रीय जगत को भ्रमित रखना चाहता है कि वह आतंकवाद पर प्रहार करना चाहता है जबकि हकीकत ये है कि वहां आतंकवाद राजनीति मुख्यधारा में है और पाकिस्तान के लिए पाकिस्तान के हुक्मरानों के लिए इसे वहां से समाप्त करना संभव नहीं क्योंकि आतंकवाद का सफाया जो भी प्रधानमंत्री वहां करने की कोशिश करेगा उसे अपनी कुर्सी गंवानी पड़ेगी और आतंकवादी यह दोनों अध्यापन मिले हुए हैं और जिन भरे हैं वहां से कही जाती हैं आतंकवादियों की सरकार की इसमें दो धरे हाथी चलती है और यही वजह है कि आतंकवादी और 84 मजबूत है मजबूत होने के कारण ही वहां आतंकवादियों का हौसला इतना बड़ा हुआ है तो इस तरह से राजनाथ सिंह जी का यह बिल्कुल पूरी तरह से पाकिस्तान को घेरने की कोशिश धन्यवाद

rajnath Singh ne apni sakta hai ki yadi pakistan aatankwadi nahi gambhir hai toh bharat uski sahayta karne ke liye taiyar hai aur jaha bhi kahe vaah apni sainya kshamataon ka upyog karke aur aatankwadi sangathan aur thikanon ko nasht karne mein pakistan ki madad kar sakta hai ki rajnath Singh ne pakistan ko hi karne ki koshish ki hai jis tarah se pakistan antararashtriya manchon par dikhaata hai vaah aatankwad ke liye uski samapti ke liye pratibaddh hai aur vaah koshish kar raha hai apne desh ke ki aatankwad ka safaya ho aur bharat ko usme ya sikhne ki koshish baar baar kar raha hai toh aise mein raj yah sala bilkul hi raajnitik tarike se pakistan ko khelna hai audio ki pakistan aisa karta hai toh yah bharat ke hit mein hoga hum apni kshamta ka upyog pakistan mein andar jaakar sakenge pakistan ke aatankwadi sangathan aur thikanon ko nasht kar saku kyonki uske dikhane aur khane wali baat alag alag hai pakistan antararashtriya jagat ko bharmit rakhna chahta hai ki vaah aatankwad par prahaar karna chahta hai jabki haqiqat ye hai ki wahan aatankwad raajneeti mukhyadhara mein hai aur pakistan ke liye pakistan ke hukmaranon ke liye ise wahan se samapt karna sambhav nahi kyonki aatankwad ka safaya jo bhi pradhanmantri wahan karne ki koshish karega use apni kursi ganvani padegi aur aatankwadi yah dono adhyapan mile hue hain aur jin bhare hain wahan se kahi jaati hain aatankwadion ki sarkar ki isme do dhare haathi chalti hai aur yahi wajah hai ki aatankwadi aur 84 majboot hai majboot hone ke karan hi wahan aatankwadion ka hausla itna bada hua hai toh is tarah se rajnath Singh ji ka yah bilkul puri tarah se pakistan ko gherne ki koshish dhanyavad

राजनाथ सिंह ने अपनी सकता है कि यदि पाकिस्तान आतंकवादी नहीं गंभीर है तो भारत उसकी सहायता कर

Romanized Version
Likes  111  Dislikes    views  2182
WhatsApp_icon
qIcon
ask
QuestionsProfiles

Vokal App bridges the knowledge gap in India in Indian languages by getting the best minds to answer questions of the common man. The Vokal App is available in 11 Indian languages. Users ask questions on 100s of topics related to love, life, career, politics, religion, sports, personal care etc. We have 1000s of experts from different walks of life answering questions on the Vokal App. People can also ask questions directly to experts apart from posting a question to the entire answering community. If you are an expert or are great at something, we invite you to join this knowledge sharing revolution and help India grow. Download the Vokal App!