जलवायु परिवर्तन को लेकर कितनी गंभीर है सरकार?...


play
user

Vinod Tiwari

Journalist

3:08

Likes  112  Dislikes    views  1609
WhatsApp_icon
7 जवाब
qIcon
ask
ऐसे और सवाल
Loading...
Loading...
user

Kesharram

Teacher

0:25
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

दोस्तों जलवायु परिवर्तन को लेकर सरकार समय-समय पर कदम उठा रही है और नई तकनीक के साथ में वह अपनी योजनाएं बनाकर और उससे निपटने के लिए प्रयासरत है और दोस्तों आने वाले समय में जलवायु परिवर्तन पर हम बहुत बड़ा काबू पा लेंगे जिसे हर समस्या का समाधान हो पाएगा आशा करता हूं मेरे द्वारा दी गई जानकारी आपको पसंद आए तो शेर और

doston jalvayu parivartan ko lekar sarkar samay samay par kadam utha rahi hai aur nayi taknik ke saath mein vaah apni yojanaye banakar aur usse nipatane ke liye prayasarat hai aur doston aane waale samay mein jalvayu parivartan par hum bahut bada kabu paa lenge jise har samasya ka samadhan ho payega asha karta hoon mere dwara di gayi jaankari aapko pasand aaye toh sher aur

दोस्तों जलवायु परिवर्तन को लेकर सरकार समय-समय पर कदम उठा रही है और नई तकनीक के साथ में वह

Romanized Version
Likes  15  Dislikes    views  306
WhatsApp_icon
user

Dr.Nisha Joshi

Psychologist

0:19
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

जलवायु परिवर्तन को लेकर कितनी गंभीर है सरकार एक है सरकार तो बिल्कुल भी गंभीर नहीं है अगर वह कमजोर होती तो कुछ ना कुछ अच्छे स्टेम करो लेकिन लेकिन वह सब नहीं ले रही जाकर जलवायु के लिए प्रॉब्लम हो रहा है होने वाला है ठीक है

jalvayu parivartan ko lekar kitni gambhir hai sarkar ek hai sarkar toh bilkul bhi gambhir nahi hai agar vaah kamjor hoti toh kuch na kuch acche stem karo lekin lekin vaah sab nahi le rahi jaakar jalvayu ke liye problem ho raha hai hone vala hai theek hai

जलवायु परिवर्तन को लेकर कितनी गंभीर है सरकार एक है सरकार तो बिल्कुल भी गंभीर नहीं है अगर व

Romanized Version
Likes  404  Dislikes    views  5049
WhatsApp_icon
user

Ajay Sinh Pawar

Founder & M.D. Of Radiant Group Of Industries

0:58
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

जलवायु परिवर्तन को लेकर गंभीर है सरकार जलवायु परिवर्तन को लेकर सरकार गंभीरता दिखाती है लेकिन कार्यों में उसका जो इंक्रीमेंट टेंशन है वह हमें कम दिखता है एक चीज होता है कि गंभीरता दिखाना किसी भी प्रश्न के पति और उसके प्रति जो कार्य होने चाहिए जितने होने चाहिए जो गंभीरता से उसे लेना चाहिए उसका गिनती मिलता है इसलिए नाम आशा करते हैं कि सरकार जिस गंभीरता से जलवायु परिवर्तन की समस्या को ले रही है वह अपने कार्यों से भी दिखाएं

jalvayu parivartan ko lekar gambhir hai sarkar jalvayu parivartan ko lekar sarkar gambhirta dikhati hai lekin karyo mein uska jo increment tension hai vaah hamein kam dikhta hai ek cheez hota hai ki gambhirta dikhana kisi bhi prashna ke pati aur uske prati jo karya hone chahiye jitne hone chahiye jo gambhirta se use lena chahiye uska ginti milta hai isliye naam asha karte hain ki sarkar jis gambhirta se jalvayu parivartan ki samasya ko le rahi hai vaah apne karyo se bhi dikhaen

जलवायु परिवर्तन को लेकर गंभीर है सरकार जलवायु परिवर्तन को लेकर सरकार गंभीरता दिखाती है लेक

Romanized Version
Likes  60  Dislikes    views  1167
WhatsApp_icon
user

Abhishek Sharma

Forest Range Officer, MP

1:54
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

देखी काफी गंभीर है मैं आपको एक बात बताना चाहूंगा और यह सेट नया है और यह सरकार पर कॉल नहीं होता यह हमारे देश में अभी तक काम करने वाली सरकार पर लागू होता है जो पहले से काम कर रही थी हमारे देश में जो कार्बन उत्सर्जन और सर्जन जो होता है वह चीन की कंपैरिजन में लगभग 15 से 20% कम होता है 15% पूरी दुनिया में भारत को भेजता है और वहां से फंड्री करता है जलवायु के लिए जो परिवर्तन हो रहा है उसमें बहुत अच्छा योगदान दे रहा है इसमें कहा गया था कि चीन और भारत की वजह से ही जंगल दुनिया की जंगल की रचना भारत बहुत सीरियस है हमें और आगे बढ़ने की जरूरत है प्लास्टिक को बैन करने की जरूरत पूरी तरह से प्लास्टिक कंप्लीट बंद करने की जरूरत है इसके साथ पेड़ों को लगाना और उनका ध्यान रखना वीर लगाकर हमारा कार्य पूरा नहीं होता उनकी क्या जल्दी बढ़ जाती है क्या गलती रेट को कम से कम करना पेड़ लगाना 1 महीने ध्यान रखना ध्यान रखना कि कम से कम फिर सचिन कर सके अगर एडवांस इन्वायरमेंट है तो वहां के चीफ मिनिस्टर ने इतना ज्यादा चंद्रावल नाइट जी ने बहुत जबरदस्त काम किया है अगर आप उसके आने पड़ेंगे पूरे हैदराबाद में 124 जो है इको गार्डन पार्क बनाए जा रहे हैं तो बहुत अच्छा लगा कर सितम अगर पूरे देश में चालू हो जाए तो मैं गारंटी दे सकता हूं कि देश में क्रांति आ जाएगी और यह बात तो मान सकता हूं कुछ भी हुई है केदारनाथ यात्रा क्यों निकाल दिया एकदम से रुक जाएंगे यह पक्की बात है

dekhi kaafi gambhir hai aapko ek baat bataana chahunga aur yah set naya hai aur yah sarkar par call nahi hota yah hamare desh mein abhi tak kaam karne wali sarkar par laagu hota hai jo pehle se kaam kar rahi thi hamare desh mein jo carbon utsarjan aur Surgeon jo hota hai vaah china ki kampairijan mein lagbhag 15 se 20 kam hota hai 15 puri duniya mein bharat ko bhejta hai aur wahan se fandri karta hai jalvayu ke liye jo parivartan ho raha hai usme bahut accha yogdan de raha hai isme kaha gaya tha ki china aur bharat ki wajah se hi jungle duniya ki jungle ki rachna bharat bahut serious hai hamein aur aage badhne ki zarurat hai plastic ko ban karne ki zarurat puri tarah se plastic complete band karne ki zarurat hai iske saath pedon ko lagana aur unka dhyan rakhna veer lagakar hamara karya pura nahi hota unki kya jaldi badh jaati hai kya galti rate ko kam se kam karna ped lagana 1 mahine dhyan rakhna dhyan rakhna ki kam se kam phir sachin kar sake agar advance environment hai toh wahan ke chief minister ne itna zyada chandrawal night ji ne bahut jabardast kaam kiya hai agar aap uske aane padenge poore hyderabad mein 124 jo hai iko garden park banaye ja rahe hain toh bahut accha laga kar sitam agar poore desh mein chaalu ho jaaye toh main guarantee de sakta hoon ki desh mein kranti aa jayegi aur yah baat toh maan sakta hoon kuch bhi hui hai kedarnath yatra kyon nikaal diya ekdam se ruk jaenge yah pakki baat hai

देखी काफी गंभीर है मैं आपको एक बात बताना चाहूंगा और यह सेट नया है और यह सरकार पर कॉल नहीं

Romanized Version
Likes  57  Dislikes    views  1143
WhatsApp_icon
user
1:16
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

मोदी सरकार जलवायु को लेकर लगभग 80 परसेंट चिंतित है 70 सालों में जितने पीएम बने क्या किसी ने कचरा पॉलिथीन प्रदूषण पर रोक लगाई इसके बारे में सोचा नहीं सोचा पहली बार मोदी सरकार जलवायु पर 89 परसेंट जोर दे रही है जो सोएं और चीन सफाई कर सकता है उसको हम सौ परसेंट कि इसमें रख सकते हैं क्योंकि दूसरे से काम ना कराकर सुबह काम करना वह सौ परसेंट के बराबर हो जाता है

modi sarkar jalvayu ko lekar lagbhag 80 percent chintit hai 70 salon mein jitne pm bane kya kisi ne kachra polythene pradushan par rok lagayi iske bare mein socha nahi socha pehli baar modi sarkar jalvayu par 89 percent jor de rahi hai jo soen aur china safaai kar sakta hai usko hum sau percent ki isme rakh sakte hain kyonki dusre se kaam na karakar subah kaam karna vaah sau percent ke barabar ho jata hai

मोदी सरकार जलवायु को लेकर लगभग 80 परसेंट चिंतित है 70 सालों में जितने पीएम बने क्या किसी

Romanized Version
Likes    Dislikes    views  1
WhatsApp_icon
play
user

Kumar

Social Worker

1:05

Likes  30  Dislikes    views  593
WhatsApp_icon
qIcon
ask
QuestionsProfiles

Vokal App bridges the knowledge gap in India in Indian languages by getting the best minds to answer questions of the common man. The Vokal App is available in 11 Indian languages. Users ask questions on 100s of topics related to love, life, career, politics, religion, sports, personal care etc. We have 1000s of experts from different walks of life answering questions on the Vokal App. People can also ask questions directly to experts apart from posting a question to the entire answering community. If you are an expert or are great at something, we invite you to join this knowledge sharing revolution and help India grow. Download the Vokal App!