इंसान अपने आप को सक्सेसफुल क्यों बनाना चाहते हैं?...


user

Dr.Nisha Joshi

Psychologist

0:25
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

आपका प्रश्न है इंसान अपने आप को सक्सेसफुल क्यों बनाता है इंसान अपने आप को सबसे पुलिस से बनाता है कि वह अपने लिए और अपने परिवार के लिए कुछ करना चाहता है ठीक है और वह जब अपने परिवार के लिए कुछ करता है अपने लिए कुछ करता है तो उसे आत्मा संतोष बोल मिलता है ठीक है इन सब से शुरू होता है और यह उसकी जरूरत है

aapka prashna hai insaan apne aap ko successful kyon banata hai insaan apne aap ko sabse police se banata hai ki vaah apne liye aur apne parivar ke liye kuch karna chahta hai theek hai aur vaah jab apne parivar ke liye kuch karta hai apne liye kuch karta hai toh use aatma santosh bol milta hai theek hai in sab se shuru hota hai aur yah uski zarurat hai

आपका प्रश्न है इंसान अपने आप को सक्सेसफुल क्यों बनाता है इंसान अपने आप को सबसे पुलिस से बन

Romanized Version
Likes  317  Dislikes    views  4484
WhatsApp_icon
7 जवाब
qIcon
ask
ऐसे और सवाल
Loading...
Loading...
user

Ajay Sinh Pawar

Founder & M.D. Of Radiant Group Of Industries

3:31
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

किसान अपने आपको शक्ति स्कूल क्यों बनाना चाहते हैं आज के समय में सबसे स्कूल की परिभाषा अलग-अलग है हरि की सोच अलग-अलग होती है कोई इंसान की इच्छा होती है सबसे पहले कि मैं पढ़ाई में सबसे सो अच्छे नंबरों से पास होकर प्रायरिटी पास उसके बाद इंसान को पैसा कमाने के चाउस्में हो सकते होना चाहता है और जब इतना पैसा कमा लेता है अपनी जरूरत पूरी उसकी हो जाती है उसके परिवार की तो फ्यूचर अपना सिक्योर करना चाहता है आर्थिक रूप से वह भी जब कर लेता है और उसके बाद भी उसको सक्सेस मिलती रहती है अपने कर्मों के द्वारा अपने विचारों के द्वारा अपने पोस्ट के द्वारा वह हेल्थ भी अपनी मेंटेन करना चाहता है सब कुछ होने के बाद आदमी को फ्रेम जाने की फेमस होने की सत्ता प्राप्त करने की इच्छा होती उसमें भी सक्सेस अगर वह हो जाता है तब जाकर इंसान को फिर आजा कि ताकि और विचार आता है अगर वह अच्छा सोच उसकी अच्छी है भक्ति जगतपुरा झुकाऊ कम हो जाता है सक्सेसफुल होना है तो कोई भी एक एजुकेशन पॉइंट इंसान में अवश्य होना चाहिए क्योंकि सक्सेसफुल वही इंसान है कि जिस में सब कुछ पाने के बाद सिचुएशन पॉइंट हो और वह संतोष फेल कर सके कि आई एम ए सक्सेसफुल पर्सन जब तक वहीं सचिव रोशन पॉइंट पर नहीं पहुंचता वह महसूस नहीं कर सकता कि मैं सब से भी इसलिए कहीं न कहीं उसे संतोष मांगना पड़ता है नहीं तो जिंदगी कब पूरी हो जाती है लेकिन उस सक्सेस के पीछे भागता रहता है इसलिए यह कौन है सक्सेसफुल इंसान बनने के लिए सबको सब कुछ चाहिए एजुकेशन चाहिए परिवार चाहिए अच्छी सुंदर बीवी चाहिए बच्चे चाहिए बच्चे भी सफल होने चाहिए माता-पिता को भी अच्छे से रखना है घर एक अच्छा सा चाहिए कपड़े बकरा सब अच्छे चाहिए सोच अच्छी चाहिए सब कुछ मतलब वही इंसान स्कूल है और वह भागता रहता है भक्ताई रहता है यह अंधी दौड़ और जब सक्सेसफुल होता है तब कभी-कभी बहुत देर हो जाती है कि वह सक्सेस को एंजॉय नहीं कर पाता है इसलिए सक्सेस होने के बाद हमें अपने विचारों से सूचना चाहिए और सक्सेस को भी एंजॉय करने की चीज है संतोष मिलने के बाद ही वह संभव है बहुत-बहुत शुभकामनाएं

kisan apne aapko shakti school kyon banana chahte hai aaj ke samay mein sabse school ki paribhasha alag alag hai hari ki soch alag alag hoti hai koi insaan ki iccha hoti hai sabse pehle ki main padhai mein sabse so acche numberon se paas hokar prayariti paas uske baad insaan ko paisa kamane ke chausmen ho sakte hona chahta hai aur jab itna paisa kama leta hai apni zarurat puri uski ho jaati hai uske parivar ki toh future apna secure karna chahta hai aarthik roop se vaah bhi jab kar leta hai aur uske baad bhi usko success milti rehti hai apne karmon ke dwara apne vicharon ke dwara apne post ke dwara vaah health bhi apni maintain karna chahta hai sab kuch hone ke baad aadmi ko frame jaane ki famous hone ki satta prapt karne ki iccha hoti usme bhi success agar vaah ho jata hai tab jaakar insaan ko phir aajad ki taki aur vichar aata hai agar vaah accha soch uski achi hai bhakti jagatapura jhukaoo kam ho jata hai successful hona hai toh koi bhi ek education point insaan mein avashya hona chahiye kyonki successful wahi insaan hai ki jis mein sab kuch paane ke baad situation point ho aur vaah santosh fail kar sake ki I M a successful person jab tak wahi sachiv roshan point par nahi pahuchta vaah mehsus nahi kar sakta ki main sab se bhi isliye kahin na kahin use santosh maangna padta hai nahi toh zindagi kab puri ho jaati hai lekin us success ke peeche bhagta rehta hai isliye yah kaun hai successful insaan banne ke liye sabko sab kuch chahiye education chahiye parivar chahiye achi sundar biwi chahiye bacche chahiye bacche bhi safal hone chahiye mata pita ko bhi acche se rakhna hai ghar ek accha sa chahiye kapde bakara sab acche chahiye soch achi chahiye sab kuch matlab wahi insaan school hai aur vaah bhagta rehta hai bhaktai rehta hai yah aandhi daudh aur jab successful hota hai tab kabhi kabhi bahut der ho jaati hai ki vaah success ko enjoy nahi kar pata hai isliye success hone ke baad hamein apne vicharon se soochna chahiye aur success ko bhi enjoy karne ki cheez hai santosh milne ke baad hi vaah sambhav hai bahut bahut subhkamnaayain

किसान अपने आपको शक्ति स्कूल क्यों बनाना चाहते हैं आज के समय में सबसे स्कूल की परिभाषा अलग-

Romanized Version
Likes  54  Dislikes    views  1084
WhatsApp_icon
user

Umesh Upaadyay

Life Coach | Motivational Speaker

2:43
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

देखिए क्या इंसान की अभिलाषा हो सकती है डिजाइन सो सकते हैं वह कुछ पाने की कामना कर सकता है क्यों क्योंकि जीवन उसका है वह इस जीवन को जिस तरीके से जीना चाहता है उसका याद का है कि वह उस सजीवन को उस तरीके से या अपने जीवन को उस तरीके से जी सकें इंसान यह क्षमता रखता है कि जो वह सोच सकता है जिसकी कल्पना करता है उसे वह पाने की कोशिश कर सकते हैं और उसे वह मिल भी सकता है इंसान के पास दिमाग है भावनाएं हैं कर्म करने की इच्छा शक्ति होती है और वह कर्म कर कर भी सकता है और फिर रिजल्ट उसके हिसाब से आ सकता है जब इंसान अपने आप में सक्षम है तो वह क्यों नहीं चाहेगा कि उसकी इच्छाओं की पूर्ति हो वह तो चाहेगा कि मैं यहां पहुंच जाऊं यह मैं यह वाला काम कर लूं या मैं अपनी लाइफ को इस तरीके से ले जाऊं तो इसमें कोई गलत बात नहीं है यह तो बहुत अच्छी बात है बल्कि हमें तो यह देखना चाहिए कि हमारे हमें जो लाइक मिली है जो जीवन मिला है यह बहुत अच्छे कर्मों के करने के बाद हम को यह मिलता है तो इस जीवन का मैक्सिमम फायदा कैसे उठाना चाहिए फायदा इंद्रसेन कि हमें कैसे जीना चाहिए अपने आप को और कैसे बेहतर बनाना चाहिए इस मौके को गंवाना नहीं चाहिए तो अगर कोई इंसान दिखता है कि भाई मैं ऐसा स्कूल हो जाऊं तो इसमें कोई बुरी बात नहीं है भाई उसका जीवन है यह उसका चुनाव है कि भाई मैं अपने आपको यहां इस तरीके से देखना चाहता हूं इतनी अवधि में तो कोई अधिक परेशानी नहीं है वह इससे साथ है क्योंकि उसको लगता है कि वह वह चीज हासिल कर सकता है वह अपना जीवन इस तरीके से जीना चाहता है और जिसके लिए शायद वह अपने आप को समझता है कि मैं ऐसा कर सकता हूं तो इसीलिए वह सोचता है कई बार ऐसा भी होता है कि लोग सोचते हैं कि आज नहीं वह नहीं बाकी लोग नहीं मैं कर सकता हूं कि जब मैं कर सकता हूं तो वह देखने के लिए उसे हिसाब से अपने आपको तैयार करते हैं और आगे बढ़ता है और करना भी चाहिए अगर आपके दिल से कोई बात आती है आपको लगता है कि मैं यह काम कर सकता हूं यार कुमार ले जा सकता हूं जहां अभी तक कोई नहीं गया तो जैसे कि आपको ट्राई करना चाहिए प्रयास करना चाहिए क्योंकि यह जीवन है आपका जीवन है इसके इसको आप अधूरे सपने के साथ कैसे छोड़ देंगे महेश कॉलेज आईएस टो फुलफिल खींचें और कंप्लीट कीजिए जो आपके दिल में आए हैं और जो वास्तव में सही हैं आप तो देखने के लिए उनके प्रति आपका इंटरेस्ट रहेगा ही रहेगा और आप उनको फुल फिल करना चाहेंगे इसमें कोई गलत बात नहीं है आप जरूर प्रयास कीजिए

dekhiye kya insaan ki abhilasha ho sakti hai design so sakte hain vaah kuch paane ki kamna kar sakta hai kyon kyonki jeevan uska hai vaah is jeevan ko jis tarike se jeena chahta hai uska yaad ka hai ki vaah us sajivan ko us tarike se ya apne jeevan ko us tarike se ji sake insaan yah kshamta rakhta hai ki jo vaah soch sakta hai jiski kalpana karta hai use vaah paane ki koshish kar sakte hain aur use vaah mil bhi sakta hai insaan ke paas dimag hai bhaavnaye hain karm karne ki iccha shakti hoti hai aur vaah karm kar kar bhi sakta hai aur phir result uske hisab se aa sakta hai jab insaan apne aap mein saksham hai toh vaah kyon nahi chahega ki uski ikchao ki purti ho vaah toh chahega ki main yahan pohch jaaun yah main yah vala kaam kar loo ya main apni life ko is tarike se le jaaun toh isme koi galat baat nahi hai yah toh bahut achi baat hai balki hamein toh yah dekhna chahiye ki hamare hamein jo like mili hai jo jeevan mila hai yah bahut acche karmon ke karne ke baad hum ko yah milta hai toh is jeevan ka maximum fayda kaise uthana chahiye fayda indrasen ki hamein kaise jeena chahiye apne aap ko aur kaise behtar banana chahiye is mauke ko ganvana nahi chahiye toh agar koi insaan dikhta hai ki bhai main aisa school ho jaaun toh isme koi buri baat nahi hai bhai uska jeevan hai yah uska chunav hai ki bhai main apne aapko yahan is tarike se dekhna chahta hoon itni awadhi mein toh koi adhik pareshani nahi hai vaah isse saath hai kyonki usko lagta hai ki vaah vaah cheez hasil kar sakta hai vaah apna jeevan is tarike se jeena chahta hai aur jiske liye shayad vaah apne aap ko samajhata hai ki main aisa kar sakta hoon toh isliye vaah sochta hai kai baar aisa bhi hota hai ki log sochte hain ki aaj nahi vaah nahi baki log nahi main kar sakta hoon ki jab main kar sakta hoon toh vaah dekhne ke liye use hisab se apne aapko taiyar karte hain aur aage badhta hai aur karna bhi chahiye agar aapke dil se koi baat aati hai aapko lagta hai ki main yah kaam kar sakta hoon yaar kumar le ja sakta hoon jaha abhi tak koi nahi gaya toh jaise ki aapko try karna chahiye prayas karna chahiye kyonki yah jeevan hai aapka jeevan hai iske isko aap adhure sapne ke saath kaise chod denge mahesh college ias toe fulfil khinchen aur complete kijiye jo aapke dil mein aaye hain aur jo vaastav mein sahi hain aap toh dekhne ke liye unke prati aapka interest rahega hi rahega aur aap unko full fill karna chahenge isme koi galat baat nahi hai aap zaroor prayas kijiye

देखिए क्या इंसान की अभिलाषा हो सकती है डिजाइन सो सकते हैं वह कुछ पाने की कामना कर सकता है

Romanized Version
Likes  571  Dislikes    views  8156
WhatsApp_icon
play
user

Greeshma Nataraj

Psychology Counseling, Life Coach, NLP, Cognitive Behavioral Therapist, Motivational Speaker, Handwriting Signature Analyst.

1:09

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

गुड इवनिंग जिंदगी में हर कोई सक्सेसफुल इसलिए बनना चाहता है कि वह एक से लाइफ जीना चाहता एक शटल्ड लाइफ जीना चाहता है उन्हें लाइफ में कोई भी दिक्कत है ना आए और जिंदगी सुकून से गुजरे इसलिए इंसान सक्सेसफुल बनना चाहता है वह अपने आप को एक प्रेरणा रखना चाहता है समाज के सामने इसलिए सक्सेसफुल बनना चाहता है हर एक का हर व्यक्ति का अपना एक गोल होता है सक्सेसफुल बनने के लिए जो इंसान हमेशा सक्सेसफुल रहना चाहता है ताकि वह खुद के लिए अपने परिवार के लिए और अपने समाज के आजू-बाजू के लोगों के लिए कुछ ना कुछ कर सके हर एक व्यक्ति का अलग अलग है यह होता है सक्सेसफुल बनने के लिए तो मेरे ख्याल से जितना मुझे पता है मैंने आपको बताया इंसान सक्सेसफुल क्यों बनना चाहते हैं तो आए हो आपको यह जवाब पसंद आया धन्यवाद

good evening zindagi mein har koi successful isliye bana chahta hai ki vaah ek se life jeena chahta ek shuttled life jeena chahta hai unhe life mein koi bhi dikkat hai na aaye aur zindagi sukoon se gujare isliye insaan successful bana chahta hai vaah apne aap ko ek prerna rakhna chahta hai samaj ke saamne isliye successful bana chahta hai har ek ka har vyakti ka apna ek gol hota hai successful banne ke liye jo insaan hamesha successful rehna chahta hai taki vaah khud ke liye apne parivar ke liye aur apne samaj ke aju baju ke logo ke liye kuch na kuch kar sake har ek vyakti ka alag alag hai yah hota hai successful banne ke liye toh mere khayal se jitna mujhe pata hai maine aapko bataya insaan successful kyon bana chahte hain toh aaye ho aapko yah jawab pasand aaya dhanyavad

गुड इवनिंग जिंदगी में हर कोई सक्सेसफुल इसलिए बनना चाहता है कि वह एक से लाइफ जीना चाहता एक

Romanized Version
Likes  183  Dislikes    views  3648
WhatsApp_icon
user

Pankaj Kr(youtube -AJ PANKAJ MATHS GURU)

Motivational Speaker/YouTube-AJ PANKAJ MATHS GURU

0:20
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

व्यक्ति को पैसा कमाने की जिद होती हर व्यक्ति को मेन करने की जिद होती है जो व्यक्ति मेहनत परिश्रम से आगे बढ़ते हुए जीवन में सफलता हासिल करते हैं इंसानों का दिखना चाहिए प्रसन्न करना चाहिए तभी वे जीवन में सफलता हासिल कर सकते हैं और जीवन को सुख में बना सकते हैं

vyakti ko paisa kamane ki jid hoti har vyakti ko main karne ki jid hoti hai jo vyakti mehnat parishram se aage badhte hue jeevan mein safalta hasil karte hain insano ka dikhana chahiye prasann karna chahiye tabhi ve jeevan mein safalta hasil kar sakte hain aur jeevan ko sukh mein bana sakte hain

व्यक्ति को पैसा कमाने की जिद होती हर व्यक्ति को मेन करने की जिद होती है जो व्यक्ति मेहनत प

Romanized Version
Likes  280  Dislikes    views  2747
WhatsApp_icon
user

Vimla Bidawatka

Spiritual Thinker

1:30
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

आपका कहना है कि इंसान अपने आप को सक्सेसफुल क्यों बनाना चाहता है वह किसने सक्सेसफुल बनाना चाहता है कि उसको लगता है कि अगर ऐसा करने से लोगों के सामने मेरी एक इमेज बहुत अच्छी होगी लोग मुझे को समझेंगे लोग समझेंगे कि यह बहुत अकल मंद है और इसलिए यह सक्सेस हुआ है इसके पास पैसे आ गए इसलिए इसमें अक्कल ज्यादा है मतलब बहुत होशियार है हम कई ऐसी बातें हैं एक सक्सेसफुल होने के लिए हम लोगों के अभी उसका लोगों के विचारों का इंतजार करते हैं हमें अपने ऊपर भरोसा नहीं है हम लोगों को दिखाने के लिए सक्सेसफुल होना चाहते हैं उनको लगता है ऐसा करने से हमारा मानजत समाज में बहुत बढ़ जाएगी लोग हमको आदर सम्मान देंगे हमको मांस अभाव में बुलाएंगे इस तरह की बातें जो है वह दिखाने के लिए हम सक्सेसफुल होना चाहते हम ही कोई अपने खुद के लिए सक्सेसफुल होना चाहते हैं उनको अपने से कोई मतलब नहीं है हमको हमेशा लोगों से कि लोग क्या कहेंगे लोगों के लिए हम जो करना चाहते हो सिर्फ लोगों के लिए यह लोगों के बीच में समाज के बीच में हमारा जरा मान सम्मान इज्जत बढ़ जाए बस और कुछ नहीं थैंक यू

aapka kehna hai ki insaan apne aap ko successful kyon banana chahta hai vaah kisne successful banana chahta hai ki usko lagta hai ki agar aisa karne se logo ke saamne meri ek image bahut achi hogi log mujhe ko samjhenge log samjhenge ki yah bahut akal mand hai aur isliye yah success hua hai iske paas paise aa gaye isliye isme akkal zyada hai matlab bahut hoshiyar hai hum kai aisi batein hain ek successful hone ke liye hum logo ke abhi uska logo ke vicharon ka intejar karte hain hamein apne upar bharosa nahi hai hum logo ko dikhane ke liye successful hona chahte hain unko lagta hai aisa karne se hamara manajat samaj mein bahut badh jayegi log hamko aadar sammaan denge hamko maas abhaav mein bulaayenge is tarah ki batein jo hai vaah dikhane ke liye hum successful hona chahte hum hi koi apne khud ke liye successful hona chahte hain unko apne se koi matlab nahi hai hamko hamesha logo se ki log kya kahenge logo ke liye hum jo karna chahte ho sirf logo ke liye yah logo ke beech mein samaj ke beech mein hamara zara maan sammaan izzat badh jaaye bus aur kuch nahi thank you

आपका कहना है कि इंसान अपने आप को सक्सेसफुल क्यों बनाना चाहता है वह किसने सक्सेसफुल बनाना च

Romanized Version
Likes  62  Dislikes    views  1269
WhatsApp_icon
user
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

सक्सेस टिप्स चौधरी के हर इंसान का सबसे सुंदर डिप्रेशन कुछ अलग होता है सच्चा सुख का मतलब जो भी उसने चाहा वो पा लिया उसे जो है वह सक्सेसफुल कहते हैं और हर इंसान को अपनी इच्छाओं को पाने का पूरा का पूरा हक होता है इंसान गुप्ता के पानी का मतलब होता है कि वह हर प्रकार की खुशी जो है उसके पास हो इसलिए हर कुछ प्रकार की खुशी को अर्जित करने के लिए वह अपने आप को सक्सेसफुल बनाना चाहता है

success tips choudhary ke har insaan ka sabse sundar depression kuch alag hota hai saccha sukh ka matlab jo bhi usne chaha vo paa liya use jo hai vaah successful kehte hain aur har insaan ko apni ikchao ko paane ka pura ka pura haq hota hai insaan gupta ke paani ka matlab hota hai ki vaah har prakar ki khushi jo hai uske paas ho isliye har kuch prakar ki khushi ko arjit karne ke liye vaah apne aap ko successful banana chahta hai

सक्सेस टिप्स चौधरी के हर इंसान का सबसे सुंदर डिप्रेशन कुछ अलग होता है सच्चा सुख का मतलब जो

Romanized Version
Likes    Dislikes    views  
WhatsApp_icon
qIcon
ask

Related Searches:
आप इंसान क्यों नहीं हो ;

QuestionsProfiles

Vokal App bridges the knowledge gap in India in Indian languages by getting the best minds to answer questions of the common man. The Vokal App is available in 11 Indian languages. Users ask questions on 100s of topics related to love, life, career, politics, religion, sports, personal care etc. We have 1000s of experts from different walks of life answering questions on the Vokal App. People can also ask questions directly to experts apart from posting a question to the entire answering community. If you are an expert or are great at something, we invite you to join this knowledge sharing revolution and help India grow. Download the Vokal App!