मुझे योगा कब नहीं करना चाहिए?...


चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

आपको भी वही होगा भोजन के तुरंत बाद नहीं करना चाहिए दोपहर के समय नहीं करनी चाहिए और ज्यादा बीमार है तब आप ही होगा योगासन नहीं कर सकते

aapko bhi wahi hoga bhojan ke turant baad nahi karna chahiye dopahar ke samay nahi karni chahiye aur zyada bimar hai tab aap hi hoga yogasan nahi kar sakte

आपको भी वही होगा भोजन के तुरंत बाद नहीं करना चाहिए दोपहर के समय नहीं करनी चाहिए और ज्यादा

Romanized Version
Likes  41  Dislikes    views  1097
WhatsApp_icon
28 जवाब
qIcon
ask
ऐसे और सवाल
Loading...
Loading...
user

Ashish Lavania

Yoga Trainer

0:22
Play

Likes  402  Dislikes    views  2574
WhatsApp_icon
user

Jyoti Garg

Yoga Trainer | Dietitian

0:25
Play

Likes  158  Dislikes    views  4692
WhatsApp_icon
user
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

आपको कुछ नहीं होगा कब नहीं करना चाहिए तब तो आप नहीं कर सकते खाना पूरा शरीर एनी पेट हल्का होना चाहिए और कब नहीं करना चाहिए जब लेडीस जो होती लेडी होती है जब मासिक धर्म उनका स्टार्ट रहता है तब उनको किसी भी प्रकार का योगासन प्रणाम गिरा नहीं करना चाहिए केवल अगर चाहे तो डीप ब्रीथिंग कर सकती हैं इसके अलावा उनको योगासन वर्जित हैं मासिक धर्म के पीरियड टाइम और नॉर्मल खाना खाए हुए होते हैं तो तीन-चार घंटे नहीं करना चाहिए तो आशा करते समझ में आ गया होगा धन्यवाद

aapko kuch nahi hoga kab nahi karna chahiye tab toh aap nahi kar sakte khana pura sharir any pet halka hona chahiye aur kab nahi karna chahiye jab ladies jo hoti lady hoti hai jab maasik dharm unka start rehta hai tab unko kisi bhi prakar ka yogasan pranam gira nahi karna chahiye keval agar chahen toh deep breathing kar sakti hain iske alava unko yogasan varjit hain maasik dharm ke period time aur normal khana khaye hue hote hain toh teen char ghante nahi karna chahiye toh asha karte samajh me aa gaya hoga dhanyavad

आपको कुछ नहीं होगा कब नहीं करना चाहिए तब तो आप नहीं कर सकते खाना पूरा शरीर एनी पेट हल्का ह

Romanized Version
Likes  154  Dislikes    views  5132
WhatsApp_icon
user
1:09
Play

Likes  289  Dislikes    views  3257
WhatsApp_icon
user

Kavita gandhi

Founder and director Of Aasra Fitness hub....health and Fitness Expert ...Yoga Instructor ...instructor Of Aerobic .Zumba .pilate..physiotherapist Nutritionists and Weight Loss Expert

0:22
Play

Likes  46  Dislikes    views  794
WhatsApp_icon
user

Chun Chun Ji Charwak.

Master In Yoga.Rly.Service.

5:34
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

नमस्कार दोस्तों पूछा गया है मुझे योग कब नहीं करना चाहिए तो दोस्तों मैं कुछ उपाय बता रहा हूं कि कब बता रहा कब योग करना चाहिए कब नहीं करना चाहिए जिससे कि आपको पूर्ण लाभ मिल सके तो दोस्तों सुबह सुबह उठकर के पहले सोच क्रिया से निवृत्त होकर के योग क्रिया करना चाहे योग में प्राणायाम और योग दोनों ही आते हैं दोस्तों तो सुबह सुबह सूर्योदय से 1 घंटे पहले से लेकर के दो-तीन घंटे बाद तक प्रणाम और योग किया जा सकता है तो दोस्तों खाना खाने के तुरंत बाद योग नहीं करना चाहिए या नहीं खाना खाने के 1 घंटे के बाद योग करना चाहिए या 2 घंटे के बाद और खाना खाने के आधा एक घंटा पहले योग करना चाहिए तो दोस्त मुश्किल आसनों से योग का शुरुआत ना करें यानी शुरुआत में आप प्रणाम करें इसके बाद जो हल्के आसन है जिसे आसानी से किया जा सके उसे करें इसके बाद जो है धीरे-धीरे कठिन आसनों के तरफ आगे बढ़े तो दोस्तों और एक है जब बीमार हो यह हड्डियां टूटी हुई हो उस समय योग नहीं करना चाहिए यानी कोई कठिन बीमारी हो कहीं हड्डी टूटी हुई हो या मूछ हुई हो या कोई असुविधा हो हड्डियों में दर्द हो तो उस समय योग नहीं करना चाहिए गलत योगासन या पॉज ना करें जो योगासन का पोज है उसे धीरे धीरे करें और गलत तरीका से कभी ना करें इससे नुकसान होने की संभावना रहती है गर्भवती महिलाएं योग ना करें गर्भवती महिलाएं प्रणाम बहुत कुछ परिणाम है जो धीरे धीरे कर सकते हैं प्रयोग ना करें और इस समय में महीना चल चल रहा है या मासिक धर्म आया हुआ हो उस समय भी योग नहीं करना चाहिए या प्रणब भी नहीं करना चाहिए तो दोस्तों योग के लिए प्रणाम के लिए शोरगुल वाले स्थान गंदी स्थान दुर्गंध वाले स्थानों पर योग ना करें यहां का वातावरण साथ हो हवा स्वस्थ हो परिवेश से स्वस्थ हो शोरगुल रहित हो उन्हीं जगहों पर प्रणाम और योग करने का प्रयास करें तो दोस्तों सुबह और शाम दोनों समय योग कर सकते हैं सुबह कर सकते हैं और शाम को भी कर सकते हैं तो इसमें जो है सूर्योदय से लेकर के आधा एक घंटा पहले और दो-तीन घंटे बाद तक कर सकते हैं तो दोस्तों नहाने के आधा घंटा पहले योग करें यानी योग करने के आधे घंटे के बाद नहाए और नहाने अगर नहा लिए हैं तो उसके दो-तीन घंटे के बाद योग करें ऐसा नहीं हो कि तुरंत तुरंत करूंगी क्योंकि शरीर उस समय ठंडा रहता है और योग करने के बाद शरीर का ताप बढ़ा हुआ रहता है तो दोस्तों पूरी लाभ के लिए नियमित योग करें ऐसा नहीं कि आज के कल छोड़ दिया फिर परसों की है इसके लिए आपको रोज या नहीं नियमित हर रोज योग प्रणाम करना है ताकि आपको जीवन में पूर्ण लाभ मिल सके तो दोस्तों खाली जमीन पर कभी योग ना करें उस पर चटाई दरी योगा मैट या कोई चादरिया कुछ भी बिछा लें इसके बाद उस पर योग करें तो दोस्तों खाली पेट ही योग करने का प्रयास करें या प्रणाम करें या खाने के दो-तीन घंटे बाद ही करें तो पहले जो है दोस्तों प्रणाम करें इसके बाद योग करें ऐसा ना कि योग करें इसके बाद प्रणाम करें ऐसा नहीं गलत है पहले प्राणायाम बाद में योग दोस्तों महिलाएं विशेष ध्यान दें क्योंकि उनको जो है जब पीरियड जाता है उस समय में योग्य प्रणब ने करना चाहिए जो प्रणाम जब महावारी खत्म हो जाए उसके बाद करना चाहिए और दोस्तों मन अगर तनाव रहित है तभी योग करना चाहिए या नहीं तनाव है किसी तनाव से ग्रसित हैं मानसिक तनाव से या कोई बात है वह हमेशा सोचते रहते हैं यह जो है उस समय में योग प्रणाम ना करें इससे मुक्त हो जाए पहले मन को शांत कर ले फिर जो है प्रणाम और योग करें अपनी क्षमता से ज्यादा योग ना करें यानी जितना आपका क्षमता है उतना ही करें या थोड़ा ज्यादा करें बहुत ज्यादा ना करें क्योंकि इससे नुकसान होने की संभावना रहती है तो योग का अर्थ उसमे प्रणाम विश्वास जुड़ा प्राणायाम और योग अपनी क्षमता से ज्यादा ना करें कम से कम एक घंटा तक योग और प्रेम दोनों मिलाकर करने का प्रयास करें या नहीं जो समय सीमा है उसे कम से कम योग और प्राणायाम के लिए 1 घंटे का समय निकाल रखें और दोस्तों अंत में शवासन या कोई भी ध्यान जरूर करें ताकि मन्या शांत रहे शरीर शांत हो जाए तो अंत में शवासन कर ले थोड़ी देर के लिए यह कोई ध्यान कर ले इसके बाद अपने दोनों हथेलियों को मिलते ही अपने चेहरे को भी ऊपर उसे लगाते हुए और इसके बाद जो है योग का क्रिया को खत्म करें और धीरे से उठ करके फिर अपने दैनिक कार्यों में लग जाए तो दोस्तों आज के लिए इतना ही बंदे मातरम भारत माता की जय

namaskar doston poocha gaya hai mujhe yog kab nahi karna chahiye toh doston main kuch upay bata raha hoon ki kab bata raha kab yog karna chahiye kab nahi karna chahiye jisse ki aapko purn labh mil sake toh doston subah subah uthakar ke pehle soch kriya se sevanervit hokar ke yog kriya karna chahen yog me pranayaam aur yog dono hi aate hain doston toh subah subah suryoday se 1 ghante pehle se lekar ke do teen ghante baad tak pranam aur yog kiya ja sakta hai toh doston khana khane ke turant baad yog nahi karna chahiye ya nahi khana khane ke 1 ghante ke baad yog karna chahiye ya 2 ghante ke baad aur khana khane ke aadha ek ghanta pehle yog karna chahiye toh dost mushkil aasanon se yog ka shuruat na kare yani shuruat me aap pranam kare iske baad jo halke aasan hai jise aasani se kiya ja sake use kare iske baad jo hai dhire dhire kathin aasanon ke taraf aage badhe toh doston aur ek hai jab bimar ho yah haddiyan tuti hui ho us samay yog nahi karna chahiye yani koi kathin bimari ho kahin haddi tuti hui ho ya mooch hui ho ya koi asuvidha ho haddiyon me dard ho toh us samay yog nahi karna chahiye galat yogasan ya pause na kare jo yogasan ka pawege hai use dhire dhire kare aur galat tarika se kabhi na kare isse nuksan hone ki sambhavna rehti hai garbhwati mahilaye yog na kare garbhwati mahilaye pranam bahut kuch parinam hai jo dhire dhire kar sakte hain prayog na kare aur is samay me mahina chal chal raha hai ya maasik dharm aaya hua ho us samay bhi yog nahi karna chahiye ya pranab bhi nahi karna chahiye toh doston yog ke liye pranam ke liye shoragul waale sthan gandi sthan durgandh waale sthano par yog na kare yahan ka vatavaran saath ho hawa swasth ho parivesh se swasth ho shoragul rahit ho unhi jagaho par pranam aur yog karne ka prayas kare toh doston subah aur shaam dono samay yog kar sakte hain subah kar sakte hain aur shaam ko bhi kar sakte hain toh isme jo hai suryoday se lekar ke aadha ek ghanta pehle aur do teen ghante baad tak kar sakte hain toh doston nahane ke aadha ghanta pehle yog kare yani yog karne ke aadhe ghante ke baad nahae aur nahane agar naha liye hain toh uske do teen ghante ke baad yog kare aisa nahi ho ki turant turant karungi kyonki sharir us samay thanda rehta hai aur yog karne ke baad sharir ka taap badha hua rehta hai toh doston puri labh ke liye niyamit yog kare aisa nahi ki aaj ke kal chhod diya phir parso ki hai iske liye aapko roj ya nahi niyamit har roj yog pranam karna hai taki aapko jeevan me purn labh mil sake toh doston khaali jameen par kabhi yog na kare us par chatai dari yoga mat ya koi chadriya kuch bhi bicha le iske baad us par yog kare toh doston khaali pet hi yog karne ka prayas kare ya pranam kare ya khane ke do teen ghante baad hi kare toh pehle jo hai doston pranam kare iske baad yog kare aisa na ki yog kare iske baad pranam kare aisa nahi galat hai pehle pranayaam baad me yog doston mahilaye vishesh dhyan de kyonki unko jo hai jab period jata hai us samay me yogya pranab ne karna chahiye jo pranam jab Mahavari khatam ho jaaye uske baad karna chahiye aur doston man agar tanaav rahit hai tabhi yog karna chahiye ya nahi tanaav hai kisi tanaav se grasit hain mansik tanaav se ya koi baat hai vaah hamesha sochte rehte hain yah jo hai us samay me yog pranam na kare isse mukt ho jaaye pehle man ko shaant kar le phir jo hai pranam aur yog kare apni kshamta se zyada yog na kare yani jitna aapka kshamta hai utana hi kare ya thoda zyada kare bahut zyada na kare kyonki isse nuksan hone ki sambhavna rehti hai toh yog ka arth usme pranam vishwas juda pranayaam aur yog apni kshamta se zyada na kare kam se kam ek ghanta tak yog aur prem dono milakar karne ka prayas kare ya nahi jo samay seema hai use kam se kam yog aur pranayaam ke liye 1 ghante ka samay nikaal rakhen aur doston ant me shavasan ya koi bhi dhyan zaroor kare taki manya shaant rahe sharir shaant ho jaaye toh ant me shavasan kar le thodi der ke liye yah koi dhyan kar le iske baad apne dono hatheliyon ko milte hi apne chehre ko bhi upar use lagate hue aur iske baad jo hai yog ka kriya ko khatam kare aur dhire se uth karke phir apne dainik karyo me lag jaaye toh doston aaj ke liye itna hi bande mataram bharat mata ki jai

नमस्कार दोस्तों पूछा गया है मुझे योग कब नहीं करना चाहिए तो दोस्तों मैं कुछ उपाय बता रहा हू

Romanized Version
Likes  8  Dislikes    views  136
WhatsApp_icon
user

inderjeet singh

Yoga Trainer

1:07
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

आपने पूछा ही नहीं होगा कब नहीं करना चाहिए कि आप पर डिपेंड करता है कि आपके पास जब समय हो तभी करें कम से कम आप के पास एक घंटा समय हो तभी करें जल्दबाजी में ना करें और आपने कम से कम चार 5 घंटे पहले खाना खाया हो पेट खाली हो तब करें अगर कोई आपको प्रॉब्लम ना पेट में दर्द है तो आगे झुकने वाले आसन ना करें अगर बीपी है तो थोड़ा आराम से करें तेरी चिड़िया को थोड़ा ध्यान रखना पड़ता है ज्यादा तो यही खुली हवा में करें खाली पेट करें बस जब खाना खाया हो तब ना करें ना कि करते रहे करें समय की कोई फाउंडेशन नहीं जब भी आपको समय मिले तो कर ले

aapne poocha hi nahi hoga kab nahi karna chahiye ki aap par depend karta hai ki aapke paas jab samay ho tabhi kare kam se kam aap ke paas ek ghanta samay ho tabhi kare jaldabaji me na kare aur aapne kam se kam char 5 ghante pehle khana khaya ho pet khaali ho tab kare agar koi aapko problem na pet me dard hai toh aage jhukane waale aasan na kare agar BP hai toh thoda aaram se kare teri chidiya ko thoda dhyan rakhna padta hai zyada toh yahi khuli hawa me kare khaali pet kare bus jab khana khaya ho tab na kare na ki karte rahe kare samay ki koi foundation nahi jab bhi aapko samay mile toh kar le

आपने पूछा ही नहीं होगा कब नहीं करना चाहिए कि आप पर डिपेंड करता है कि आपके पास जब समय हो तभ

Romanized Version
Likes  120  Dislikes    views  1384
WhatsApp_icon
user

Yogacharya Bindu Rani

Yoga Instructor Yog Teacher Yogacharya=yogdham Yog Center In Meerut, 19 Years Experience,yoga Classes At Home Yoga, Mediation Classes, Aerobic Classes ,yoga Classes For Ladies, Power Yoga Classes, Pilates Yoga Classes, Yoga Classes For Children's, Yoga Classes For Pregnant Women, आयुर्वेदाचार्य, नैचुरोपैथी

1:02
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

योगाभ्यास करने का सर्वोत्तम समय है ब्रह्म मुहूर्त शुभ प्रातः 3:45 से 8:45 बजे का समय सर्वोत्तम समय होता है योग का अभ्यास करने के लिए योगाभ्यास के लिए स्वच्छ वातावरण और स्वस्थ मस्तिष्क के साथियों का प्यार करें जिससे सकारात्मक ऊर्जा को अपने अंदर भर के सुबह के समय अगर मनुष्य योग का अभ्यास करता है तो मानचित्र आत्मा शरीर पवित्र हो जाता है इसलिए प्रत्येक मनुष्य को ब्रह्म मुहूर्त के समय सूर्य उदय के समय योग का अभ्यास करना चाहिए योगाभ्यास में सर्वोत्तम है प्रणाम प्रणाम ज्ञानस साधना का अभ्यास करना चाहिए जिससे शरीर स्वस्थ हो

yogabhayas karne ka sarvottam samay hai Brahma muhurt shubha pratah 3 45 se 8 45 baje ka samay sarvottam samay hota hai yog ka abhyas karne ke liye yogabhayas ke liye swachh vatavaran aur swasthya mastishk ke sathiyo ka pyar kare jisse sakaratmak urja ko apne andar bhar ke subah ke samay agar manushya yog ka abhyas karta hai toh manchitra aatma sharir pavitra ho jata hai isliye pratyek manushya ko Brahma muhurt ke samay surya uday ke samay yog ka abhyas karna chahiye yogabhayas mein sarvottam hai pranam pranam gyanas sadhna ka abhyas karna chahiye jisse sharir swasthya ho

योगाभ्यास करने का सर्वोत्तम समय है ब्रह्म मुहूर्त शुभ प्रातः 3:45 से 8:45 बजे का समय सर्वो

Romanized Version
Likes  19  Dislikes    views  430
WhatsApp_icon
play
user

Yog Guru Amit Agrawal Rishiyog

Yoga Acupressure Expert

1:21

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

आपका प्रश्न है मुझे योगा अब नहीं करना चाहिए देखिए योग योगासन कुछ खास समस्याएं ऐसी होती हैं कि जिसमें हमें बिगर बिना गाइडेंस के कि बिना किसी गुरु के निर्देशन के योग नहीं करना चाहिए बहुत सी ऐसी सर्जरी होती हैं बहुत से ऐसे लोग होते हैं आपको कोई क्रिटिकल समस्या है रीड की हड्डी की आपको कोई पेट से संबंधित क्रिटिकल समस्या है कोई अल्सर है कोई कैंसर है इसके अतिरिक्त कोई ऐसा ऐप ब्रेन में या मस्तिष्क में ट्यूमर है इसके अलावा कुछ ऐसे शारीरिक रोग हैं उनमें बिना डॉक्टर के संपर्क के या बिना किसी गुरु के निर्देशन के योग हमें नहीं करना चाहिए अन्यथा कई बार हमारे लिए नुकसान भी इन देवी साबित होता है इसलिए कुछ खास हीरो कैसे होते हैं जिनमें आपको किसी के निर्देशन में योग करना होता है अन्यथा तो योग बच्चों से लेकर बूढ़ों तक कर सकता है और अधिकतर स्थितियों में योग लाभ देता है हरि ओम

aapka prashna hai mujhe yoga ab nahi karna chahiye dekhiye yog yogasan kuch khaas samasyaen aisi hoti hain ki jisme hamein bigger bina guidance ke ki bina kisi guru ke nirdeshan ke yog nahi karna chahiye bahut si aisi surgery hoti hain bahut se aise log hote hain aapko koi critical samasya hai read ki haddi ki aapko koi pet se sambandhit critical samasya hai koi Ulcer hai koi cancer hai iske atirikt koi aisa app brain mein ya mastishk mein tumour hai iske alava kuch aise sharirik rog hain unmen bina doctor ke sampark ke ya bina kisi guru ke nirdeshan ke yog hamein nahi karna chahiye anyatha kai baar hamare liye nuksan bhi in devi saabit hota hai isliye kuch khaas hero kaise hote hain jinmein aapko kisi ke nirdeshan mein yog karna hota hai anyatha toh yog baccho se lekar boodhon tak kar sakta hai aur adhiktar sthitiyo mein yog labh deta hai hari om

आपका प्रश्न है मुझे योगा अब नहीं करना चाहिए देखिए योग योगासन कुछ खास समस्याएं ऐसी होती हैं

Romanized Version
Likes  101  Dislikes    views  1853
WhatsApp_icon
user

xyz

nothing

0:37
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

प्रश्न है मुझे योगा कब नहीं करना चाहिए मेरे ख्याल से यह एक जनरल क्वेश्चन है सामान्य कोई प्रश्न है इसका जवाब है कि आप जब बुखार में हो तब आपने योग नहीं करना चाहिए जब जब आपने खाना खाया हुआ हो तब आपको किसी भी प्रकार का योग नहीं करना चाहिए और महिलाओं को जब मासिक धर्म होता है उस दौरान महिलाओं को योगा नहीं करना चाहिए हरि ओम

prashna hai mujhe yoga kab nahi karna chahiye mere khayal se yah ek general question hai samanya koi prashna hai iska jawab hai ki aap jab bukhar mein ho tab aapne yog nahi karna chahiye jab jab aapne khana khaya hua ho tab aapko kisi bhi prakar ka yog nahi karna chahiye aur mahilaon ko jab maasik dharm hota hai us dauran mahilaon ko yoga nahi karna chahiye hari om

प्रश्न है मुझे योगा कब नहीं करना चाहिए मेरे ख्याल से यह एक जनरल क्वेश्चन है सामान्य कोई प्

Romanized Version
Likes  109  Dislikes    views  1529
WhatsApp_icon
user

Abhijeet Soni

Yoga Instructor & Software Developer

1:40
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

नमस्कार मैं बिजी सोनी बात कर रहा हूं आपने पूछा मुझे ही होगा कब नहीं करना चाहिए कुछ चीजों पर मैं बात करना चाहूंगा जैसे कि खाने के बाद ही होगा नहीं करना चाहिए खाने के बाद सिर्फ योगासन किया जा सकता है वह वज्रासन है उससे करने से जो भी आपने खाया बराबर तरीके से प्रश्न है जब भी आप ट्रैवल किए हो उसके बाद घर आकर ही होगा ना करें लड़ाई झगड़ा इस तरीके की चीजें या फिर प्रदूषण भरे परिस्थिति में शाम को भी अवार्ड करने कोशिश करें जो वस्त्र समय होगा योगा करने का बहुत सवेरे ही होगा सवेरे बात में इसलिए कर रहा हूं क्योंकि वायु मंडल उस समय शांत होता है ऑक्सीजन भी प्रचुर मात्रा में होता है प्रदूषण नहीं होता है और वायुमंडल में भी ठंडक होती है तो वह एक बेस्ट समय होगा योगा करने के लिए जब आप बीमार हो उस समय योगा ना करें ऑपरेशन से ऑपरेट होकर आए हो तो योग ना करे किसी भी तरीके की परिस्थिति जिसमें आप महसूस कर रहे हो कि आपकी शारीरिक स्थिति ठीक नहीं चाहे वह हाईवीपी हो या फिर एक्सट्रीम शुगर हो पहले थोड़ा सा पंछी जो पर अपनी लाइफ स्टाइल में चेंज असला कर थोड़े से स्वस्थ हो जाए फिर धीरे-धीरे योगा को अपना आइए रात को भी होगा ना करें उसके भी कुछ रीजन है योगा करने के बाद आप जबरदस्त एनर्जी महसूस करेंगे तो आपकी उससे नींद भी उड़ सकती है तो बस समय यही रहेगा सवेरे योगा करने का ताकि एनर्जी जो जनरेट हो आप उसे कुछ काम पर लगा सके और रात को भी आपको भरपूर नींद आ सके धन्यवाद

namaskar main busy sony baat kar raha hoon aapne poocha mujhe hi hoga kab nahi karna chahiye kuch chijon par main baat karna chahunga jaise ki khane ke baad hi hoga nahi karna chahiye khane ke baad sirf yogasan kiya ja sakta hai vaah vajrasan hai usse karne se jo bhi aapne khaya barabar tarike se prashna hai jab bhi aap travel kiye ho uske baad ghar aakar hi hoga na kare ladai jhagda is tarike ki cheezen ya phir pradushan bhare paristithi mein shaam ko bhi award karne koshish kare jo vastra samay hoga yoga karne ka bahut savere hi hoga savere baat mein isliye kar raha hoon kyonki vayu mandal us samay shaant hota hai oxygen bhi prachur matra mein hota hai pradushan nahi hota hai aur vayumandal mein bhi thandak hoti hai toh vaah ek best samay hoga yoga karne ke liye jab aap bimar ho us samay yoga na kare operation se operate hokar aaye ho toh yog na kare kisi bhi tarike ki paristithi jisme aap mehsus kar rahe ho ki aapki sharirik sthiti theek nahi chahen vaah haivipi ho ya phir extreme sugar ho pehle thoda sa panchhi jo par apni life style mein change ASLA kar thode se swasthya ho jaaye phir dhire dhire yoga ko apna aaiye raat ko bhi hoga na kare uske bhi kuch reason hai yoga karne ke baad aap jabardast energy mehsus karenge toh aapki usse neend bhi ud sakti hai toh bus samay yahi rahega savere yoga karne ka taki energy jo generate ho aap use kuch kaam par laga sake aur raat ko bhi aapko bharpur neend aa sake dhanyavad

नमस्कार मैं बिजी सोनी बात कर रहा हूं आपने पूछा मुझे ही होगा कब नहीं करना चाहिए कुछ चीजों प

Romanized Version
Likes  28  Dislikes    views  353
WhatsApp_icon
user

Dharminder Kumar

Yoga Trainer

1:50
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

आपने पूछा है कि आपको जो काम नहीं करना चाहिए जो सुबह उठते वक्त पहले शरीर की शुद्धि क्रिया करनी चाहिए उसके बाद करना चाहिए बिना फ्रेश हुए योग नहीं करना चाहिए सुबह उठकर पहले सोच करनी चाहिए उसके बाद फ्रेश होने के बाद आप यहां आकर जो करना स्टार्ट करें उसमें पहले प्राणायाम करें उसके बाद योगासन की क्रियाएं करें फिर ध्यान में बैठे जॉब का समय जो सही समय है वह सुबह 4:00 बजे से लेकर सुबह 9:00 बजे तक हो सकता है अपने ब्रेकफास्ट से पहले आपने करना है नाश्ता लेने से पहले खाना खाने के बाद योग आसन नहीं करना है जब भी योगासन करना है खाना खाने के 3 घंटे कम से कम उसके बाद करना है खाना खाने के तुरंत बाद नहीं करना है इससे नुकसान हो सकता है खाना खाने के 3 घंटे बाद भी जो हासिल करने हैं उसमें आपने उलटे खड़े होकर करने वाले आसन सर्वांगासन शीर्षासन बगैरा नहीं करनी है उससे आपको उल्टी आ सकती है यह आपके लिए सही राय धन्यवाद

aapne poocha hai ki aapko jo kaam nahi karna chahiye jo subah uthte waqt pehle sharir ki shudhi kriya karni chahiye uske baad karna chahiye bina fresh hue yog nahi karna chahiye subah uthakar pehle soch karni chahiye uske baad fresh hone ke baad aap yahan aakar jo karna start kare usme pehle pranayaam kare uske baad yogasan ki kriyaen kare phir dhyan mein baithe job ka samay jo sahi samay hai vaah subah 4 00 baje se lekar subah 9 00 baje tak ho sakta hai apne Breakfast se pehle aapne karna hai nashta lene se pehle khana khane ke baad yog aasan nahi karna hai jab bhi yogasan karna hai khana khane ke 3 ghante kam se kam uske baad karna hai khana khane ke turant baad nahi karna hai isse nuksan ho sakta hai khana khane ke 3 ghante baad bhi jo hasil karne hain usme aapne ulte khade hokar karne waale aasan sarvangasan Shirshasan bagaira nahi karni hai usse aapko ulti aa sakti hai yah aapke liye sahi rai dhanyavad

आपने पूछा है कि आपको जो काम नहीं करना चाहिए जो सुबह उठते वक्त पहले शरीर की शुद्धि क्रिया क

Romanized Version
Likes  36  Dislikes    views  444
WhatsApp_icon
user

Kumar Ajit

Yoga Trainer (पतंजलि योग समिति योग शिक्षक)

3:01
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

मुझे योगा कब नहीं करना चाहिए आपका प्रश्न है इससे पहले तो यह बात है कि व्यक्ति जब आवश्यकता महसूस करते हैं तो तब तो करना ही करना चाहिए आवश्यकता महसूस नहीं है आवश्यकता नहीं समझते आप सब यह प्रश्न उठता है कि कल नहीं करना चाहिए तो योग्य जब देखती व्हाट्सएप से बैठ नहीं सकता आप इस प्रकार से कह सकते हैं कि जो भी कार्य हैं वह पूरी तरह से प्रभावित कर रखा है वह बाधा बन रहा है जैसे आपका शरीर में कोई पेन हो रहा है कहीं भी किसी भी अंग में तो उस समय नहीं करना चाहिए आपको बैठने में तकलीफ हो रही है आप बेस्ट नहीं पा रहे हैं किसी तरह से तो बैठ करके नहीं किया जाएगा अगले करने वाले बहुत सारे आयाम है तो उसको आप कर सकते हैं मतलब आपको किसी भी तरह से कोई परेशानी हो किसी भी तरह का किसी भी प्रकार का किसी भी अंदर में तो उस समय और प्रभाव उसका प्रभाव उस समय उस समय हो रहा है संभावित हो रहे हैं उस समय के लिए रोक करके फिर करना चाहिए कुछ चीजें ऐसे हैं जिसमें योगाभ्यास शंकर सकते हैं जैसे मानसिक रोग है तनाव है तो फोन कर सकते हैं अगर तू कर सकते सारी समस्याओं समस्याएं प्रभावित हो रही है बाय रूप से प्रभावित हो रही है भाई जो हमारा भक्ति शरीर है स्थूल शरीर है उसका अवर या किसी अन्य विशेष या कोई भी किसी प्रकार की त्रुटि हो विकार उत्पन्न हो रखा है अगर वह इजाजत नहीं दे रहा है आपको करने का तो उस समय क्लियर नहीं करना चाहिए और कुछ मन के स्तर से जो सारे विकार होते हैं तो अध्यात्मिक जो भी कार्य हैं मन से जुड़ी हुई भी कार्य है उसको आप मन्ना भी करें तभी भी करना चाहिए

mujhe yoga kab nahi karna chahiye aapka prashna hai isse pehle toh yah baat hai ki vyakti jab avashyakta mehsus karte hain toh tab toh karna hi karna chahiye avashyakta mehsus nahi hai avashyakta nahi samajhte aap sab yah prashna uthata hai ki kal nahi karna chahiye toh yogya jab dekhti whatsapp se baith nahi sakta aap is prakar se keh sakte hain ki jo bhi karya hain vaah puri tarah se prabhavit kar rakha hai vaah badha ban raha hai jaise aapka sharir mein koi pen ho raha hai kahin bhi kisi bhi ang mein toh us samay nahi karna chahiye aapko baithne mein takleef ho rahi hai aap best nahi paa rahe hain kisi tarah se toh baith karke nahi kiya jaega agle karne waale bahut saare aayam hai toh usko aap kar sakte hain matlab aapko kisi bhi tarah se koi pareshani ho kisi bhi tarah ka kisi bhi prakar ka kisi bhi andar mein toh us samay aur prabhav uska prabhav us samay us samay ho raha hai sambhavit ho rahe hain us samay ke liye rok karke phir karna chahiye kuch cheezen aise hain jisme yogabhayas shankar sakte hain jaise mansik rog hai tanaav hai toh phone kar sakte hain agar tu kar sakte saree samasyaon samasyaen prabhavit ho rahi hai bye roop se prabhavit ho rahi hai bhai jo hamara bhakti sharir hai sthool sharir hai uska avar ya kisi anya vishesh ya koi bhi kisi prakar ki truti ho vikar utpann ho rakha hai agar vaah ijajat nahi de raha hai aapko karne ka toh us samay clear nahi karna chahiye aur kuch man ke sthar se jo saare vikar hote hain toh adhyatmik jo bhi karya hain man se judi hui bhi karya hai usko aap manna bhi kare tabhi bhi karna chahiye

मुझे योगा कब नहीं करना चाहिए आपका प्रश्न है इससे पहले तो यह बात है कि व्यक्ति जब आवश्यकता

Romanized Version
Likes  9  Dislikes    views  186
WhatsApp_icon
user

Dr. Akash Mishra

Founder Of Healthcare Hub (Naturopath, Yoga Therapist, Pharmacist)

0:46
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

आपका प्रश्न है योगा कब नहीं करना चाहिए तो यह जान लीजिए कि योगा सिर्फ तब नहीं आप कर सकते हैं जब आपने कुछ खाया पिया हो या नहीं जैसे खाने-पीने के 3 से 4 घंटे के बाद में ही योगा कर सकते हैं लेकिन उसके बाद भी ऐसे दो चीजें हैं 2 आसन कह सकते हैं जो कि आप खाना खाने के बाद में भी कर सकते हैं तो इसमें एक आता है वज्रासन एनिया वज्रासन में बैठ सकते हैं खाना खाने के बाद में और दूसरी चीजें अनुलोम विलोम प्राणायाम यह भी आप कर सकते हैं तो बस यह दो चीजें ऐसी हैं जो आप खाना खाने के बाद में भी कर सकते हैं बाकि पूरा होगा आप खाली पेट करिए सुबह सोच के बात करिए और सामने अगर करना है आपको तो फिर इस बात का ध्यान रखिएगा कि 3000 घंटे पहले से कुछ खाया पिया ना हो धन्यवाद दोस्तों

aapka prashna hai yoga kab nahi karna chahiye toh yah jaan lijiye ki yoga sirf tab nahi aap kar sakte hain jab aapne kuch khaya piya ho ya nahi jaise khane peene ke 3 se 4 ghante ke baad mein hi yoga kar sakte hain lekin uske baad bhi aise do cheezen hain 2 aasan keh sakte hain jo ki aap khana khane ke baad mein bhi kar sakte hain toh isme ek aata hai vajrasan eniya vajrasan mein baith sakte hain khana khane ke baad mein aur dusri cheezen anulom vilom pranayaam yah bhi aap kar sakte hain toh bus yah do cheezen aisi hain jo aap khana khane ke baad mein bhi kar sakte hain baki pura hoga aap khaali pet kariye subah soch ke baat kariye aur saamne agar karna hai aapko toh phir is baat ka dhyan rakhiega ki 3000 ghante pehle se kuch khaya piya na ho dhanyavad doston

आपका प्रश्न है योगा कब नहीं करना चाहिए तो यह जान लीजिए कि योगा सिर्फ तब नहीं आप कर सकते है

Romanized Version
Likes  27  Dislikes    views  373
WhatsApp_icon
user

Rajkumar Koree

Founder & Director - Fitstop Fitness Studio

0:15
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

दिन के वक्त दिन में आपको योगा नहीं करना चाहिए और जब आप भरे पेट हैं तो बिल्कुल भी नहीं करना चाहिए सुबह जरा संकट हनुमान

din ke waqt din mein aapko yoga nahi karna chahiye aur jab aap bhare pet hain toh bilkul bhi nahi karna chahiye subah zara sankat hanuman

दिन के वक्त दिन में आपको योगा नहीं करना चाहिए और जब आप भरे पेट हैं तो बिल्कुल भी नहीं करना

Romanized Version
Likes  33  Dislikes    views  745
WhatsApp_icon
user

Yog Guru Gyan Ranjan Maharaj

Founder & Director - Kashyap Yogpith

1:36
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

आपका क्वेश्चन है मुझे योगा कब नहीं करनी चाहिए यह क्वेश्चन ही आपका गलत है पेट सुरक्षा यानी खाली हो गैस की समस्या ना हो तनाव मुक्त हो पर्यावरण साफ सुथरा कोलाहल ना हो बिल्कुल स्वच्छ वातावरण हो तो कभी भी होगा किया जा सकता है योगा करने का कोई टाइमिंग और कोई ध्यान नहीं है कि इस समय योगा करनी चाहिए इस समय नहीं करनी चाहिए इसलिए इस चीज को दिमाग से निकाल दीजिए कि होगा कब करनी चाहिए और कब नहीं करनी चाहिए ऐसे जनरल आमतौर पर हम लोग सुबह और शाम दोनों का टाइमिंग बताते हैं लेकिन योग करने का कोई भी टाइमिंग का ऐसा कुछ नहीं है पेट खाली होना चाहिए दिमाग शांत ना चाहिए तनाव मुक्त होना चाहिए वातावरण शांत होना चाहिए उस जगह पर शख्स ऑक्सीजन का आना-जाना होना चाहिए उस जगह में उस समय आप कहीं भी कभी भी तो कर सकते हैं धन्यवाद

aapka question hai mujhe yoga kab nahi karni chahiye yah question hi aapka galat hai pet suraksha yani khaali ho gas ki samasya na ho tanaav mukt ho paryavaran saaf suthara kolahal na ho bilkul swachh vatavaran ho toh kabhi bhi hoga kiya ja sakta hai yoga karne ka koi timing aur koi dhyan nahi hai ki is samay yoga karni chahiye is samay nahi karni chahiye isliye is cheez ko dimag se nikaal dijiye ki hoga kab karni chahiye aur kab nahi karni chahiye aise general aamtaur par hum log subah aur shaam dono ka timing batatey hain lekin yog karne ka koi bhi timing ka aisa kuch nahi hai pet khaali hona chahiye dimag shaant na chahiye tanaav mukt hona chahiye vatavaran shaant hona chahiye us jagah par sakhs oxygen ka aana jana hona chahiye us jagah mein us samay aap kahin bhi kabhi bhi toh kar sakte hain dhanyavad

आपका क्वेश्चन है मुझे योगा कब नहीं करनी चाहिए यह क्वेश्चन ही आपका गलत है पेट सुरक्षा यानी

Romanized Version
Likes  33  Dislikes    views  1096
WhatsApp_icon
user

Sandeep Tiwari

Yoga Instructor And Teacher

1:37
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

मुझे योगा कब नहीं करना चाहिए यहां नहीं बताया गया है कि कारण क्या है योगा कब नहीं करना चाहिए कोई प्रॉब्लम है शारीरिक या टाइम का फिर भी यहां पर हम यह बता देना चाहेंगे कि योगा करने का सबसे बेहतरीन टाइम सबसे अच्छा शरीर के लिए उपयोगी टाइम ब्रह्म मुहूर्त से लेकर के सुबह के आंख से हार्डली 9:00 बजे तक का अच्छा माना गया है आप बेशक करते रहिए लेकिन फिर भी अगर आप कर ही रहे हैं तो कब नहीं करना चाहिए हमारा मानना यह है कि 11:00 बजे सुबह की 11:00 बजे से लेकर के शाम के होते होते 4:00 से 5:00 बजे तक तो कंपलीटली योग से लड़ाई करना क्योंकि उस समय हमारा हर समय में खाने-पीने का दवा चलता रहता है योग करने के लिए कंपलीटली मिनिमम 328 पाली तक हमको बस खाए रहना चाहिए मेरा पेट पूरी तरह खाली होना चाहिए इसलिए हमारा मानना है कि सुबह के 11:00 बजे से लेकर 5:00 बजे तक कोशिश करना चाहिए योग करने से उसके बाद 5:00 बजे के बाद शाम से करना चाहिए और 11:00 बजे के पहले तक जो हम कर सकते हैं धन्यवाद

mujhe yoga kab nahi karna chahiye yahan nahi bataya gaya hai ki karan kya hai yoga kab nahi karna chahiye koi problem hai sharirik ya time ka phir bhi yahan par hum yah bata dena chahenge ki yoga karne ka sabse behtareen time sabse accha sharir ke liye upyogi time Brahma muhurt se lekar ke subah ke aankh se hardali 9 00 baje tak ka accha mana gaya hai aap beshak karte rahiye lekin phir bhi agar aap kar hi rahe hain toh kab nahi karna chahiye hamara manana yah hai ki 11 00 baje subah ki 11 00 baje se lekar ke shaam ke hote hote 4 00 se 5 00 baje tak toh kampalitli yog se ladai karna kyonki us samay hamara har samay mein khane peene ka dawa chalta rehta hai yog karne ke liye kampalitli minimum 328 paali tak hamko bus khaye rehna chahiye mera pet puri tarah khaali hona chahiye isliye hamara manana hai ki subah ke 11 00 baje se lekar 5 00 baje tak koshish karna chahiye yog karne se uske baad 5 00 baje ke baad shaam se karna chahiye aur 11 00 baje ke pehle tak jo hum kar sakte hain dhanyavad

मुझे योगा कब नहीं करना चाहिए यहां नहीं बताया गया है कि कारण क्या है योगा कब नहीं करना चाहि

Romanized Version
Likes  65  Dislikes    views  844
WhatsApp_icon
user
0:50
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

आपको कभी होगा नहीं करना चाहिए आपका पेट भरा हुआ है आपने भोजन कर रखा है क्या आपके पेट में गैस वाला की भोजन नहीं किया था भोजन के विचार से 5 घंटे हो चुके पेट में गैस तारा कब से भरा बहुत ज्यादा बन रही है पेट में दर्द हो रहा है उसमें आपको योग नहीं करना है नहीं करना चाहे जहां पर भी आपको योग नहीं करना है आपको ऐसे ही स्थान पर भी नहीं करना चाहते थे और आप विदाउट नेट वगैरा कर रहे हैं बिना कोई सपोर्ट के अगर आप गिरेंगे तो आप पर चोट लगने की संभावना बढ़ जाएगी युग आपको ऐसी जगह भी नहीं करना चाहिए जहां पर बहुत तेज हवाएं चल रही है उस जगह पर भी नहीं करना चाहिए ऐसी बहुत सी चीजें हैं जहां पर आपको योग पर विशेष रूप से ध्यान देना चाहिए धन्यवाद

aapko kabhi hoga nahi karna chahiye aapka pet bhara hua hai aapne bhojan kar rakha hai kya aapke pet mein gas vala ki bhojan nahi kiya tha bhojan ke vichar se 5 ghante ho chuke pet mein gas tara kab se bhara bahut zyada ban rahi hai pet mein dard ho raha hai usme aapko yog nahi karna hai nahi karna chahen jaha par bhi aapko yog nahi karna hai aapko aise hi sthan par bhi nahi karna chahte the aur aap without net vagera kar rahe hain bina koi support ke agar aap girenge toh aap par chot lagne ki sambhavna badh jayegi yug aapko aisi jagah bhi nahi karna chahiye jaha par bahut tez hawaye chal rahi hai us jagah par bhi nahi karna chahiye aisi bahut si cheezen hain jaha par aapko yog par vishesh roop se dhyan dena chahiye dhanyavad

आपको कभी होगा नहीं करना चाहिए आपका पेट भरा हुआ है आपने भोजन कर रखा है क्या आपके पेट में गै

Romanized Version
Likes  70  Dislikes    views  1207
WhatsApp_icon
user

Sunil Singh Rajput

Yoga Expert & Yoga Therapist & Director- Amaya The Yogic Fitness (The Yoga Studio )

0:32
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

आपको युवक कब नहीं करना चाहिए योगा खाने के बाद हम कर सकते हैं बड़े पेट नहीं कर सकते हैं या आपको कोई इमरजेंसी मंजरी है तो आप लोग नहीं कर सकते हैं यह आपके शरीर में बीमारी है जो आपको कष्ट दे रहे हैं आप कुछ दर्द वगैरह हो तो भी आप के ऊपर ध्यान नहीं कर सकते हैं

aapko yuvak kab nahi karna chahiye yoga khane ke baad hum kar sakte hai bade pet nahi kar sakte hai ya aapko koi emergency manjari hai toh aap log nahi kar sakte hai yah aapke sharir mein bimari hai jo aapko kasht de rahe hai aap kuch dard vagera ho toh bhi aap ke upar dhyan nahi kar sakte hain

आपको युवक कब नहीं करना चाहिए योगा खाने के बाद हम कर सकते हैं बड़े पेट नहीं कर सकते हैं या

Romanized Version
Likes  77  Dislikes    views  1259
WhatsApp_icon
user

Ankit Bhardwaj

Yoga Instructor

0:35
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

मैं आपका सवाल ठीक से समझा नहीं आपने लिखा है मुझे योगा कब नहीं करना चाहिए मैं समझा नहीं कि आप किस संबंध में यह सारी चीजें बोल रहे हैं या बोल रही हैं आप को योग कब नहीं करना चाहिए यह इस तरह से कहना अभी मैं पूरी बात सुने मैंने कुछ कह नहीं पाऊंगा सुन मेरी ईमेल आईडी पर है आप चाहे तो उस पर आप मेरे प्रोफाइल से ईमेल आईडी लेकर अब तक की डिटेल मुझे भेज सकते तो मैं पूरी बात जानने के बाद कुछ बताता हूं कि योग कब नहीं करना चाहिए से आप का मतलब क्या है क्या तात्पर्य

main aapka sawaal theek se samjha nahi aapne likha hai mujhe yoga kab nahi karna chahiye main samjha nahi ki aap kis sambandh mein yah saree cheezen bol rahe hain ya bol rahi hain aap ko yog kab nahi karna chahiye yah is tarah se kehna abhi main puri baat sune maine kuch keh nahi paunga sun meri email id par hai aap chahen toh us par aap mere profile se email id lekar ab tak ki detail mujhe bhej sakte toh main puri baat jaanne ke baad kuch batata hoon ki yog kab nahi karna chahiye se aap ka matlab kya hai kya tatparya

मैं आपका सवाल ठीक से समझा नहीं आपने लिखा है मुझे योगा कब नहीं करना चाहिए मैं समझा नहीं कि

Romanized Version
Likes  94  Dislikes    views  1326
WhatsApp_icon
user

Girijakant Singh

Founder/ President Yog Bharati Foundation Trust

1:16
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

आपका प्रश्न है कि मुझे योगा कब नहीं करना चाहिए तो एक सामान्य प्रश्न है और इसमें सबसे पहले तो यह है कि जब हम कुछ खाए हुए हो जो हमारा पेट भरा हुआ हो तो हमें योग नहीं करना चाहिए अभी खाना खाने के पश्चात में योग नहीं करना चाहिए हमें योग खाली पेट ही करना चाहिए इसके अलावा जो है अगर हमें कोई बीमारी है कोई इस तरह की प्रॉब्लम से वैसे तो बीमारियों की ठीक करने के लिए योग करना चाहिए किया जाता है ऐसे माली जी हमें सीवर है यह हमको जो है एकदम अचानक हमारा ब्लड प्रेशर बढ़ा हुआ है तो अगर हम ऐसे में योगाभ्यास करेंगे तो हमें दिक्कत होगी हमें और शरीर में कहीं चोट लगी हुई है या हमारे अभी ऑफिस हुआ हुआ है शरीर का कोई भी अभी ऑपरेशन हुआ है तो हमें बिना डॉक्टर की सलाह के योगाभ्यास नहीं करना चाहिए जिन्होंने आप का ऑपरेशन किया है उनसे सलाह लेने के बात करना चाहिए या नहीं अगर कहीं ऑपरेट हुआ है तो मानते हैं सामान्यतः 6 महीने के बाद ही हो करना चाहिए और या फिर आप अपने सर्जन से भी कर सकते हैं तो यह कई 4 5 अवस्थाएं हैं दिन में आप को योग नहीं करना चाहिए

aapka prashna hai ki mujhe yoga kab nahi karna chahiye toh ek samanya prashna hai aur isme sabse pehle toh yah hai ki jab hum kuch khaye hue ho jo hamara pet bhara hua ho toh hamein yog nahi karna chahiye abhi khana khane ke pashchat mein yog nahi karna chahiye hamein yog khaali pet hi karna chahiye iske alava jo hai agar hamein koi bimari hai koi is tarah ki problem se waise toh bimariyon ki theek karne ke liye yog karna chahiye kiya jata hai aise maali ji hamein seevar hai yah hamko jo hai ekdam achanak hamara blood pressure badha hua hai toh agar hum aise mein yogabhayas karenge toh hamein dikkat hogi hamein aur sharir mein kahin chot lagi hui hai ya hamare abhi office hua hua hai sharir ka koi bhi abhi operation hua hai toh hamein bina doctor ki salah ke yogabhayas nahi karna chahiye jinhone aap ka operation kiya hai unse salah lene ke baat karna chahiye ya nahi agar kahin operate hua hai toh maante hain samanyatah 6 mahine ke baad hi ho karna chahiye aur ya phir aap apne Surgeon se bhi kar sakte hain toh yah kai 4 5 avasthae hain din mein aap ko yog nahi karna chahiye

आपका प्रश्न है कि मुझे योगा कब नहीं करना चाहिए तो एक सामान्य प्रश्न है और इसमें सबसे पहले

Romanized Version
Likes  151  Dislikes    views  1892
WhatsApp_icon
user

Dr. Deepak Limsay

Founder & Director - FITNESS FIRST HEALTH CENTER

1:45
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

योगा कब नहीं करना चाहिए अगर आप बीमार हो बहुत ज्यादा कोई परेशानी है आपको तो युवा ना करें बहुत ज्यादा दर्द है पीठ में दर्द है सर में दर्द है और आप स्वस्थ नहीं महसूस कर रहे हो इस टाइम युगा ना करें साथ ही हम खाना खा लेते हैं और उसके तुरंत बाद योगा ना करें योगा टांडे क्योंकि खाना खाने में और उसमें योगा करने के समय में कुछ अंतर होना जरूरी होता है और हमारा मन तथा शरीर स्वस्थ होना चाहिए हमें योगा करते वक्त ना कि हम अगर मन से विचलित है तो भी हम युवा में कॉन्सन्ट्रिक नहीं कर सकते इसलिए योगा करते समय इन बातों का ध्यान रखें कि हम स्वस्थ हो तथा प्रसन्न रहो हमारा मन प्रसन्न रहें यह बहुत जरूरी होता है योगा करने में क्योंकि हमारा मन ही अगर प्रसन्न नहीं तो हमें सकारात्मक रिजल्ट नहीं मिलेगी और अगर हमें सकारात्मक रिजल्ट चाहिए तो मन का प्रसन्न होना शरीर का स्वस्थ होना जरूरी है बहुत ज्यादा गर्म दौड़-धूप करके आते हैं उसके बाद भी होगा ना करें हमारे हट बिछड़े हुए हम बहुत ज्यादा दर्द करके कहीं से आ रहे हैं ताकि हार है बहुत ज्यादा थके हारे हैं तो भी हम योगा को डाल दे पहले कुछ देर शांत रहें स्वस्थ रहें अपना जो ब्लड प्रेशर का नार्मल आने दे और उसके बाद ही योगाभ्यास को शुरू करें धन्यवाद

yoga kab nahi karna chahiye agar aap bimar ho bahut zyada koi pareshani hai aapko toh yuva na kare bahut zyada dard hai peeth mein dard hai sir mein dard hai aur aap swasthya nahi mehsus kar rahe ho is time yuga na kare saath hi hum khana kha lete hai aur uske turant baad yoga na kare yoga tande kyonki khana khane mein aur usme yoga karne ke samay mein kuch antar hona zaroori hota hai aur hamara man tatha sharir swasthya hona chahiye hamein yoga karte waqt na ki hum agar man se vichalit hai toh bhi hum yuva mein concentrix nahi kar sakte isliye yoga karte samay in baaton ka dhyan rakhen ki hum swasthya ho tatha prasann raho hamara man prasann rahein yah bahut zaroori hota hai yoga karne mein kyonki hamara man hi agar prasann nahi toh hamein sakaratmak result nahi milegi aur agar hamein sakaratmak result chahiye toh man ka prasann hona sharir ka swasthya hona zaroori hai bahut zyada garam daudh dhoop karke aate hai uske baad bhi hoga na kare hamare hut bichde hue hum bahut zyada dard karke kahin se aa rahe hai taki haar hai bahut zyada thake hare hai toh bhi hum yoga ko daal de pehle kuch der shaant rahein swasthya rahein apna jo blood pressure ka normal aane de aur uske baad hi yogabhayas ko shuru kare dhanyavad

योगा कब नहीं करना चाहिए अगर आप बीमार हो बहुत ज्यादा कोई परेशानी है आपको तो युवा ना करें बह

Romanized Version
Likes  37  Dislikes    views  466
WhatsApp_icon
user

Ashok Clinic

Sexologist

0:39
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

मुझे योगा कब नहीं करना चाहिए योगा आपको जल्दी जल्दी में नहीं करना चाहिए भरे पेट नहीं करना चाहिए जब आप आराम की हालत में है खाली बैठे खाना खाए हुए आपको 3 घंटे हो गए हैं तो आपको जो करना चाहिए योग को योगा नाम है सेहत तंदुरुस्ती का लंबी उम्र का युवा नाम है निरोग जीवन का प्रोग्राम है एकाग्रता का जल्दी में एकाग्रता नहीं हो सकती फिर आपको जाने आने की काम करने की इच्छा करोगी उसमें योगा करने का शक नहीं कि काव्य मंच से योगा कीजिए अप लाइफ इंजॉय करेंगे

mujhe yoga kab nahi karna chahiye yoga aapko jaldi jaldi mein nahi karna chahiye bhare pet nahi karna chahiye jab aap aaram ki halat mein hai khaali baithe khana khaye hue aapko 3 ghante ho gaye hain toh aapko jo karna chahiye yog ko yoga naam hai sehat tandurusti ka lambi umr ka yuva naam hai nirog jeevan ka program hai ekagrata ka jaldi mein ekagrata nahi ho sakti phir aapko jaane aane ki kaam karne ki iccha karogi usme yoga karne ka shak nahi ki kavya manch se yoga kijiye up life enjoy karenge

मुझे योगा कब नहीं करना चाहिए योगा आपको जल्दी जल्दी में नहीं करना चाहिए भरे पेट नहीं करना च

Romanized Version
Likes  301  Dislikes    views  4379
WhatsApp_icon
user

Anil Ramola

Yoga Instructor | Engineer

0:29
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

भी खाना खाने के तुरंत बाद कभी भी योगा नहीं करना चाहिए और जब आपको किसी प्रकार की कोई इंजरी हो चाहे हाथ में हो जाए पांव में हो तो आपको उस समय आपने जो पैरों पर प्रश्न देने वाली मां करने से बचना चाहिए और जब आपका बहुत ज्यादा अवसाद हो या फिर बहुत ज्यादा टेंशन में हो तो उस समय भी आपको थोड़ा सा आसन को करने से बच्चा जी आपको उससे मेडिसिन करना जी तो इस तरीके से छोटी मोटी बातों का ध्यान रखते हैं तो आपको भंवरी फायदा होगा

bhi khana khane ke turant baad kabhi bhi yoga nahi karna chahiye aur jab aapko kisi prakar ki koi injury ho chahen hath mein ho jaaye paav mein ho toh aapko us samay aapne jo pairon par prashna dene wali maa karne se bachna chahiye aur jab aapka bahut zyada avsad ho ya phir bahut zyada tension mein ho toh us samay bhi aapko thoda sa aasan ko karne se baccha ji aapko usse medicine karna ji toh is tarike se choti moti baaton ka dhyan rakhte hain toh aapko bhanvari fayda hoga

भी खाना खाने के तुरंत बाद कभी भी योगा नहीं करना चाहिए और जब आपको किसी प्रकार की कोई इंजरी

Romanized Version
Likes  231  Dislikes    views  2070
WhatsApp_icon
user

Radha Mohan

Yoga & Naturopathy Expert

1:43
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

नमस्कार दोस्तों प्रश्न है मुझे योग कब नहीं करना चाहिए उसे कुछ ऐसे ही सामान्य से अवस्थाएं होती है जिनमें हम व्यस्त नहीं करना होता है यदि आपने खाना खा लिया है तो फिर भरे पेट आपका क्या नहीं करना होता है टेस्ट अब खाना खाने के लगभग 4 घंटे बाद ही योग का अभ्यास करें सिर्फ दोस्तों जब आपके किसी प्रकार की एक्टिंग डिजीज होती है क्यूट कंडीशन में योग का अभ्यास नहीं करना होता है बहुत तेज बुखार आना पेट में दर्द होना सिर दर्द होना उल्टी होना डायरी होना पेचिश हो ना फिर बात करते हैं दोस्तों किसी प्रकार के लिए कोई क्रॉनिक डिजीज है जो बहुत ही ज्यादा आपका शरीर में परेशान कर रही है तो उसमें व्यस्त नहीं करते हैं ऐसे हार्ट डिजीज इन है बिहार डिजीज है तो दोस्तों योग का अभ्यास उसमें नहीं किया जाता है आई ब्लड प्रेशर तो उसमें भी योग काव्य सावधानी से किया जाता है कि आने के बाद ही ऑफिस बात कान के ऑपरेशन के अभी तुरंत बाद हमें योग का अभ्यास नहीं करना चाहिए इसके साथ-साथ यदि हमें हारने की प्रॉब्लम है या फिर पेट में किसी प्रकार का व्यस्त नहीं किया जाना चाहिए और सबसे अच्छा तरीका है दोस्तों क्योंकि आपकी बॉडी की क्या रिक्वायरमेंट है किस तरह का कॉन्स्टिट्यूशन है आपको किस तरह की रिक्वायरमेंट है क्या आवश्यकता है तो वह आवश्यकता है यह सारी चीजें दोस्त को एक अच्छा योग शिक्षक ही समझ सकता है तो सबसे आसान और सरल तरीका है कि आप प्रारंभ में लगभग 2 से 3 महीने किसी अच्छे योग शिक्षक के सानिध्य में योग की शुरुआत करें तो वह अपनी रिक्वायरमेंट मेडिकल स्ट्रीम बैकग्राउंड के आधार पर आपको योग सजेस्ट करेंगे उसके बाद में दोस्तों आप अपने आप लोग कर सकते हैं धन्यवाद

namaskar doston prashna hai mujhe yog kab nahi karna chahiye use kuch aise hi samanya se avasthae hoti hai jinmein hum vyast nahi karna hota hai yadi aapne khana kha liya hai toh phir bhare pet aapka kya nahi karna hota hai test ab khana khane ke lagbhag 4 ghante baad hi yog ka abhyas kare sirf doston jab aapke kisi prakar ki acting disease hoti hai cute condition mein yog ka abhyas nahi karna hota hai bahut tez bukhar aana pet mein dard hona sir dard hona ulti hona diary hona pechish ho na phir baat karte hain doston kisi prakar ke liye koi chronic disease hai jo bahut hi zyada aapka sharir mein pareshan kar rahi hai toh usme vyast nahi karte hain aise heart disease in hai bihar disease hai toh doston yog ka abhyas usme nahi kiya jata hai I blood pressure toh usme bhi yog kavya savdhani se kiya jata hai ki aane ke baad hi office baat kaan ke operation ke abhi turant baad hamein yog ka abhyas nahi karna chahiye iske saath saath yadi hamein haarne ki problem hai ya phir pet mein kisi prakar ka vyast nahi kiya jana chahiye aur sabse accha tarika hai doston kyonki aapki body ki kya requirement hai kis tarah ka Constitution hai aapko kis tarah ki requirement hai kya avashyakta hai toh vaah avashyakta hai yah saree cheezen dost ko ek accha yog shikshak hi samajh sakta hai toh sabse aasaan aur saral tarika hai ki aap prarambh mein lagbhag 2 se 3 mahine kisi acche yog shikshak ke sanidhya mein yog ki shuruat kare toh vaah apni requirement medical stream background ke aadhar par aapko yog suggest karenge uske baad mein doston aap apne aap log kar sakte hain dhanyavad

नमस्कार दोस्तों प्रश्न है मुझे योग कब नहीं करना चाहिए उसे कुछ ऐसे ही सामान्य से अवस्थाएं ह

Romanized Version
Likes  158  Dislikes    views  1559
WhatsApp_icon
user

Akash Mishra

Yoga Expert | Author | Naturopathist | Acupressure Specialist |

1:03
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

आपका प्रश्न है मुझे योग कब नहीं करना चाहिए देखें युवकों करने के लिए सबसे पहले अगर हम रितु ओं की बात करें यह की सीजन की बात करें ठंडक हो या बहुत अधिक गर्मी हो तो आपको योग का अभ्यास नहीं करने से ही आपने भोजन यदि कुछ समय पहले किया है तो आपको योग का अभ्यास नहीं करना चाहिए भोजन और योग के अभ्यास के बीच में 3 से 4 घंटे का अंतराल होना चाहिए बहुत अधिक थकावट होने पर योग का अभ्यास नहीं करना चाहिए ज्वर की स्थिति में योग का अभ्यास नहीं करना चाहिए यदि आपको किसी प्रकार की कोई सर्जरी हुई है कोई ऑपरेशन हुआ है या किसी प्रकार की चोट लगी है तो आपको योग का अभ्यास कदापि नहीं करना चाहिए इन सारी स्थितियों में योग का अभ्यास नहीं करना और यदि आपको कोई इस प्रकार का कोई रोग हो गया है कुछ समझते हो गए हैं जिसमें आपको लगता है कि ऐसी समस्या हो सकती तो आपको अपनी योग विशेषज्ञ से संपर्क कर उनसे परामर्श करना चाहिए

aapka prashna hai mujhe yog kab nahi karna chahiye dekhen yuvakon karne ke liye sabse pehle agar hum ritu on ki baat kare yah ki season ki baat kare thandak ho ya bahut adhik garmi ho toh aapko yog ka abhyas nahi karne se hi aapne bhojan yadi kuch samay pehle kiya hai toh aapko yog ka abhyas nahi karna chahiye bhojan aur yog ke abhyas ke beech mein 3 se 4 ghante ka antaral hona chahiye bahut adhik thakawat hone par yog ka abhyas nahi karna chahiye jvar ki sthiti mein yog ka abhyas nahi karna chahiye yadi aapko kisi prakar ki koi surgery hui hai koi operation hua hai ya kisi prakar ki chot lagi hai toh aapko yog ka abhyas kadapi nahi karna chahiye in saree sthitiyo mein yog ka abhyas nahi karna aur yadi aapko koi is prakar ka koi rog ho gaya hai kuch samajhte ho gaye hain jisme aapko lagta hai ki aisi samasya ho sakti toh aapko apni yog visheshagya se sampark kar unse paramarsh karna chahiye

आपका प्रश्न है मुझे योग कब नहीं करना चाहिए देखें युवकों करने के लिए सबसे पहले अगर हम रितु

Romanized Version
Likes  9  Dislikes    views  72
WhatsApp_icon
user

viresh yogi

Yoga Guru

0:33
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

वैसे तो यदि आपको कोई मेडिकल प्रॉब्लम है और अपने डॉक्टर से सलाह ले कर आपको ऐसे पर्टिकुलर बताएं मैं आपको योगाभ्यास नहीं करना चाहिए और दूसरा यह बुखार से पीड़ित हैं तो उसमें भी योगा नहीं करना चाहिए तीसरा बरसात के दिनों में योग का अभ्यास थोड़ा नहीं करना चाहिए धन्यवाद

waise toh yadi aapko koi medical problem hai aur apne doctor se salah le kar aapko aise particular bataye main aapko yogabhayas nahi karna chahiye aur doosra yah bukhar se peedit hain toh usme bhi yoga nahi karna chahiye teesra barsat ke dino mein yog ka abhyas thoda nahi karna chahiye dhanyavad

वैसे तो यदि आपको कोई मेडिकल प्रॉब्लम है और अपने डॉक्टर से सलाह ले कर आपको ऐसे पर्टिकुलर बत

Romanized Version
Likes  6  Dislikes    views  116
WhatsApp_icon
qIcon
ask
QuestionsProfiles

Vokal App bridges the knowledge gap in India in Indian languages by getting the best minds to answer questions of the common man. The Vokal App is available in 11 Indian languages. Users ask questions on 100s of topics related to love, life, career, politics, religion, sports, personal care etc. We have 1000s of experts from different walks of life answering questions on the Vokal App. People can also ask questions directly to experts apart from posting a question to the entire answering community. If you are an expert or are great at something, we invite you to join this knowledge sharing revolution and help India grow. Download the Vokal App!