कैंसर के इलाज में योग और प्राकृतिक चिकित्सा कितना प्रभावी है?...


user

Dr. Parveen Mehta

Naturopathy Doctor

0:25
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

जी कैंसर के इलाज में योग और प्राकृतिक चिकित्सा में आपको कह सकते कि अगर हम लोग एलोपैथिक दवाइयों के साथ-साथ योग और प्राकृतिक चिकित्सा का सहारा लेंगे तो हंड्रेड परसेंट ठीक हो जाएंगे बाकी पूरा तो नहीं जा सकते

ji cancer ke ilaj me yog aur prakirtik chikitsa me aapko keh sakte ki agar hum log allopathic dawaiyo ke saath saath yog aur prakirtik chikitsa ka sahara lenge toh hundred percent theek ho jaenge baki pura toh nahi ja sakte

जी कैंसर के इलाज में योग और प्राकृतिक चिकित्सा में आपको कह सकते कि अगर हम लोग एलोपैथिक दवा

Romanized Version
Likes  9  Dislikes    views  162
WhatsApp_icon
30 जवाब
qIcon
ask
ऐसे और सवाल
Loading...
Loading...
user

Dr.Pavan Mishra

Naturopath Doctor | Physician

2:11
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

देखिए ऐसा है जो कैंसर होता है हमारा सिगनलिंग सिस्टम किसी भी कारण है ब्लॉक हो जाता है और हमारे शरीर के जोड एंटीक सेल है जो रोग प्रतिरोधक क्षमता यानी कि किसी भी निजी से लड़ने में सक्षम होते हैं सहायता करते हैं आपको अच्छी तरह से प्रोडक्ट करते हैं छोटे से बड़ी चीज है जो भी आपके सामने जीवाणु विषाणु होते हैं तो जो प्राकृतिक चिकित्सा है यह मुझे लगता है कि अपने आप में संपूर्ण चिकित्सा मानी जा सकती है या है क्योंकि यह जो प्राकृतिक चिकित्सा है जो पांच तत्वों से चिकित्सा की जाती है जल अग्नि वायु पृथ्वी और आकाश तो जो भी चीजें बनी हुई है इस पूरे ब्रह्मांड में वह इनसे ही निर्मित है बिना इनके कोई भी चीज संभव नहीं है ना जल नर सजीव और ना ही नहीं जी वह तो इस पूरे ब्रह्मांड में जो कुछ भी है जल अग्नि वायु पृथ्वी और आकाश के पास तत्व विद्यमान है और इनसे ही सब कुछ बनता है बिगड़ता है तो जो प्राकृतिक चिकित्सा है वह इसी के आधार पर काम करती हैं यहां पर मैं इतना कहना चाहूंगा कि चाहे वह कैंसर हो या कोई भी बीमारी हो उससे अगर आप प्राकृतिक चिकित्सा के समय जाते हैं और किसी अच्छे डॉक्टर के संपर्क में हैं तो ऐसा कोई कारण नहीं है कि आप की बीमारी ठीक ना हो सके बशर्ते आपको भी उतना ही विश्वास होना चाहिए जितना आप इस समय अत्याधुनिक चिकित्सा एडवांस चिकित्सा यानी की एलोपैथिक चिकित्सा पर विश्वास करते हैं अगर इस तरीके का विश्वास है तो चाहे कैंसर हो या न्यूरो की कोई समस्या हो उसको आप प्राकृतिक चिकित्सा से पूरी तरह से ठीक कर सकते हैं धन्यवाद अधिक जानकारी के लिए हमें संपर्क कर सकते हैं

dekhiye aisa hai jo cancer hota hai hamara siganaling system kisi bhi karan hai block ho jata hai aur hamare sharir ke jod entik cell hai jo rog pratirodhak kshamta yani ki kisi bhi niji se ladane me saksham hote hain sahayta karte hain aapko achi tarah se product karte hain chote se badi cheez hai jo bhi aapke saamne jivanu vishnu hote hain toh jo prakirtik chikitsa hai yah mujhe lagta hai ki apne aap me sampurna chikitsa maani ja sakti hai ya hai kyonki yah jo prakirtik chikitsa hai jo paanch tatvon se chikitsa ki jaati hai jal agni vayu prithvi aur akash toh jo bhi cheezen bani hui hai is poore brahmaand me vaah inse hi nirmit hai bina inke koi bhi cheez sambhav nahi hai na jal nar sajeev aur na hi nahi ji vaah toh is poore brahmaand me jo kuch bhi hai jal agni vayu prithvi aur akash ke paas tatva vidyaman hai aur inse hi sab kuch banta hai bigadta hai toh jo prakirtik chikitsa hai vaah isi ke aadhar par kaam karti hain yahan par main itna kehna chahunga ki chahen vaah cancer ho ya koi bhi bimari ho usse agar aap prakirtik chikitsa ke samay jaate hain aur kisi acche doctor ke sampark me hain toh aisa koi karan nahi hai ki aap ki bimari theek na ho sake basharte aapko bhi utana hi vishwas hona chahiye jitna aap is samay atyadhunik chikitsa advance chikitsa yani ki allopathic chikitsa par vishwas karte hain agar is tarike ka vishwas hai toh chahen cancer ho ya neuro ki koi samasya ho usko aap prakirtik chikitsa se puri tarah se theek kar sakte hain dhanyavad adhik jaankari ke liye hamein sampark kar sakte hain

देखिए ऐसा है जो कैंसर होता है हमारा सिगनलिंग सिस्टम किसी भी कारण है ब्लॉक हो जाता है और हम

Romanized Version
Likes  272  Dislikes    views  3621
WhatsApp_icon
user

Vipin Sharma

Ayurvedic Doctor | Naturopath

0:17
Play

Likes  14  Dislikes    views  164
WhatsApp_icon
user

Dr.Bharti Tonger

Yoga Instructor

0:25
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

कैंसर के इलाज में योग बहुत प्रभावी है कपालभाति प्राणायाम से रोगी अगर दो बार करें सुबह और शाम आधा-आधा अनुलोम विलोम प्राणायाम भस्त्रिका बहुत ही ज्यादा लाभदायक

cancer ke ilaj me yog bahut prabhavi hai kapalbhati pranayaam se rogi agar do baar kare subah aur shaam aadha aadha anulom vilom pranayaam bhastrika bahut hi zyada labhdayak

कैंसर के इलाज में योग बहुत प्रभावी है कपालभाति प्राणायाम से रोगी अगर दो बार करें सुबह और श

Romanized Version
Likes  92  Dislikes    views  544
WhatsApp_icon
user

vivek sharma

BANK PO| Astrologer | Mutual Fund Advisor। Career Counselor

0:59
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

नमस्कार कैंसर के इलाज में योग और प्राकृतिक चिकित्सा कितना प्रभावी है मैं आपको बता रहा हूं कि किसी भी तरह का कैंसर जीवन ब्लड कैंसर तक मैंने प्राकृतिक चिकित्सा से ठीक होता हुआ अपनी आंखों के सामने देखा है प्राकृतिक चिकित्सा और निर्धारित सिस्टम जो है जो डाइट से ही आपको अच्छी करते हैं बीमारियों को ऐसे लोग हैं जो तू तो तीन-तीन दिन निर्जला रहकर और बिल्कुल बिना किसी कमजोरी के कार्य करते हैं और वह ठीक हो जाते हैं तो कैंसर ही नहीं वरन और भी जितनी बीमारी है बड़े से बड़ा कैंसर उसमें प्राकृतिक चिकित्सा बहुत ही प्रभावी है और मैं आपको बोलता हूं कि जो व्यक्ति अपने जीवन से निराश हो चुका हो उसको प्राकृतिक चिकित्सा में एक बार जरूर ही जरूर पूरी शिद्दत से उसको फॉलो करना चाहिए धन्यवाद

namaskar cancer ke ilaj me yog aur prakirtik chikitsa kitna prabhavi hai main aapko bata raha hoon ki kisi bhi tarah ka cancer jeevan blood cancer tak maine prakirtik chikitsa se theek hota hua apni aakhon ke saamne dekha hai prakirtik chikitsa aur nirdharit system jo hai jo diet se hi aapko achi karte hain bimariyon ko aise log hain jo tu toh teen teen din nirjala rahkar aur bilkul bina kisi kamzori ke karya karte hain aur vaah theek ho jaate hain toh cancer hi nahi WREN aur bhi jitni bimari hai bade se bada cancer usme prakirtik chikitsa bahut hi prabhavi hai aur main aapko bolta hoon ki jo vyakti apne jeevan se nirash ho chuka ho usko prakirtik chikitsa me ek baar zaroor hi zaroor puri shiddat se usko follow karna chahiye dhanyavad

नमस्कार कैंसर के इलाज में योग और प्राकृतिक चिकित्सा कितना प्रभावी है मैं आपको बता रहा हूं

Romanized Version
Likes  162  Dislikes    views  2173
WhatsApp_icon
user

Pardeep

Naturopath

0:29
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

कैंसर का इलाज में योग आयुर्वेद प्राकृतिक चिकित्सा लेकिन सबसे बड़ा हथियार इसमें पंचगव्य का अद्भुत परिणाम हमेशा ए कैंसर के जो कि हमने ठीक भी किए हैं हमारे डॉक्टर भाई शैलेश हैं जो आयुर्वेद गोल्ड मेडलिस्ट है तो वह बहुत अच्छा काम कर रहे हैं और हमारा कांटेक्ट नंबर है गुरुकुल का 98134 64803 धन्यवाद

cancer ka ilaj me yog ayurveda prakirtik chikitsa lekin sabse bada hathiyar isme panchagavya ka adbhut parinam hamesha a cancer ke jo ki humne theek bhi kiye hain hamare doctor bhai shailesh hain jo ayurveda gold medlist hai toh vaah bahut accha kaam kar rahe hain aur hamara Contact number hai gurukul ka 98134 64803 dhanyavad

कैंसर का इलाज में योग आयुर्वेद प्राकृतिक चिकित्सा लेकिन सबसे बड़ा हथियार इसमें पंचगव्य का

Romanized Version
Likes  92  Dislikes    views  1618
WhatsApp_icon
user
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

स्टार आपका पसंद है कि कुछ लाइलाज बीमारियों में योग और प्राकृतिक दिखता कैसे काम कर सकती है देखिए योग कहीं ना कहीं आपको प्रकृतिक चिकित्सा कहीं ना कहीं लाभ देती है परंतु कुछ गंभीर बीमारियों में आपको एलोपैथिक की दवाई और जो उनकी प्रक्रिया है वह उनका इस्तेमाल भी करना जरूरी है परंतु साथ-साथ में यदि आप इनको भी करते हैं तो निश्चित तौर पर आपको लाभ दोगुना होगा धन्यवाद

star aapka pasand hai ki kuch laailaaj bimariyon me yog aur prakirtik dikhta kaise kaam kar sakti hai dekhiye yog kahin na kahin aapko prakritik chikitsa kahin na kahin labh deti hai parantu kuch gambhir bimariyon me aapko allopathic ki dawai aur jo unki prakriya hai vaah unka istemal bhi karna zaroori hai parantu saath saath me yadi aap inko bhi karte hain toh nishchit taur par aapko labh doguna hoga dhanyavad

स्टार आपका पसंद है कि कुछ लाइलाज बीमारियों में योग और प्राकृतिक दिखता कैसे काम कर सकती है

Romanized Version
Likes  86  Dislikes    views  2874
WhatsApp_icon
user

योगाचार्य S.S.Rawat🕉🔱🚩🙏

Lecturer Of Yog And Alternative Therapy

1:12
Play

Likes  64  Dislikes    views  1604
WhatsApp_icon
play
user

Dr. R. K. Gupta

Yoga & Nature Care Health center

0:56

Likes  84  Dislikes    views  348
WhatsApp_icon
user
1:04
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

नमस्कार अभी कैंसर तो बहुत प्रकार के होते हैं और किस स्टेट में पाया गया है मतलब उसकी कौन सी स्टेज है तो ऐसे तो योगा से कैंसर नहीं ठीक हो जाएगा यह बोलना गलत है कि कैंसर ठीक हो जाएगा लेकिन योगा करने से उपचार में बहुत सहायता मिलेगी कैंसर के रोगी को उस माउस को मेंटली बहुत रिलैक्स रिलैक्स कर देते हैं हम लोग और जल्दी ठीक होने में सहायता जैसे पहले और दूसरे स्टेट में पाया गया तो थोड़ा सा मानसिक तनाव जो है वह नियंत्रित हो सकता है और वह तेजी से लाभ प्राप्त कर सकते हैं और कैंसर जैसे असाध्य बीमारी जो है उसको सिर्फ योगा से ठीक कर देना ऐसा तो अभी देखने में नहीं आया है पर इस स्थिति में मानसिक धैर्य और भावनात्मक संतुलन बनाए रखने में योगा योग साधना जो है वह बहुत लाभदायक होगी तो बात जरूर है धन्यवाद

namaskar abhi cancer toh bahut prakar ke hote hain aur kis state me paya gaya hai matlab uski kaun si stage hai toh aise toh yoga se cancer nahi theek ho jaega yah bolna galat hai ki cancer theek ho jaega lekin yoga karne se upchaar me bahut sahayta milegi cancer ke rogi ko us mouse ko mentally bahut relax relax kar dete hain hum log aur jaldi theek hone me sahayta jaise pehle aur dusre state me paya gaya toh thoda sa mansik tanaav jo hai vaah niyantrit ho sakta hai aur vaah teji se labh prapt kar sakte hain aur cancer jaise asadhya bimari jo hai usko sirf yoga se theek kar dena aisa toh abhi dekhne me nahi aaya hai par is sthiti me mansik dhairya aur bhavnatmak santulan banaye rakhne me yoga yog sadhna jo hai vaah bahut labhdayak hogi toh baat zaroor hai dhanyavad

नमस्कार अभी कैंसर तो बहुत प्रकार के होते हैं और किस स्टेट में पाया गया है मतलब उसकी कौन सी

Romanized Version
Likes  55  Dislikes    views  478
WhatsApp_icon
user

Atul Kumar

Yoga Trainer

0:41
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

देखिए यह कहना गलत होगा कि कैंसर का इलाज योग से या प्राप्ति श्वेता से प्राप्त किया जा सकता है जी लेकिन एक बात जरूर कहूंगा अगर आप किसी अच्छे गाइडर के तो अच्छे योगी से संपर्क में आकर योग करते हैं तो फर्स्ट स्टेट सेकंड स्टेज आपका कैंसर सही हो सकता है और संयम के साथ रहें बाकी अपना जो दावा कर रहे हैं डॉक्टर को दिखाएं सिर्फ योग और प्राकृतिक सिविस्ता के सहारे ना रहे जी हां लेकिन आप योग करेंगे तो आपको सहायता मिलेगी कैंसर को जल्दी ठीक करने

dekhiye yah kehna galat hoga ki cancer ka ilaj yog se ya prapti shweta se prapt kiya ja sakta hai ji lekin ek baat zaroor kahunga agar aap kisi acche gaidar ke toh acche yogi se sampark me aakar yog karte hain toh first state second stage aapka cancer sahi ho sakta hai aur sanyam ke saath rahein baki apna jo daawa kar rahe hain doctor ko dikhaen sirf yog aur prakirtik sivista ke sahare na rahe ji haan lekin aap yog karenge toh aapko sahayta milegi cancer ko jaldi theek karne

देखिए यह कहना गलत होगा कि कैंसर का इलाज योग से या प्राप्ति श्वेता से प्राप्त किया जा सकता

Romanized Version
Likes  10  Dislikes    views  306
WhatsApp_icon
play
user

Dr. Jaydev Banerjee

Naturopath & Ayurvedic

1:06

Likes  10  Dislikes    views  302
WhatsApp_icon
user

positive patidaar

Celebrity & Tycoon's Trainer ,yoga Entrepreneur..aanando Parmo Dharm

1:35
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

वह किस देश का और किस प्रकार का कैंसर है उस पर निर्भर करता है कैंसर में भी कई प्रकार होते हैं और उसके भी कई चीजें ठीक है दूसरी बात कैंसर अगर डिटेक्ट होता है जानकारी मिलती है तो उसकी दवाइयां बंद नहीं करनी है अगर आप को प्राकृतिक चिकित्सा भी करते हो या यूं पुराने भी करते हो पर एलोपैथिक दवा और आपके डॉक्टर की गाइडलाइंस को फॉलो करना ही करना है वो ऐसा करते नहीं सोचना है कि आवाज बहुत ही हो प्रणाम कर ले गए और कुछ उचित चिकित्सा कर ले गए तो हम ठीक हो जाएंगे और हमें कोई दवाओं की जरूरत नहीं अगर एक बार अपने एलोपैथिक दवा स्टार्ट कर ली है और उसकी ट्रीटमेंट लेना चालू कर दिए तो उसको बीच में से बंद नहीं करते और साथ में योग प्राणायाम और यह तो चालू ही रखना है और बोली भी आपके डॉक्टर के गाइडलाइन के अनुसार ही बंद करना है कम करना है जो भी डॉक्टर से उस चीज को फॉलो करना है कि कैंसर एक ऐसा मामला है उसमें हम दिल नहीं दे सकते हैं उसमें 19 20 20 नहीं चल सकता है जो सिस्टम से जैसा चलता है वही सबसे चलेगा तो यह सब चीजों को ध्यान में रखना है और योग प्राणायाम और प्राकृतिक चिकित्सा भी करते रहना है धन्यवाद

vaah kis desh ka aur kis prakar ka cancer hai us par nirbhar karta hai cancer me bhi kai prakar hote hain aur uske bhi kai cheezen theek hai dusri baat cancer agar detect hota hai jaankari milti hai toh uski davaiyan band nahi karni hai agar aap ko prakirtik chikitsa bhi karte ho ya yun purane bhi karte ho par allopathic dawa aur aapke doctor ki gaidalains ko follow karna hi karna hai vo aisa karte nahi sochna hai ki awaaz bahut hi ho pranam kar le gaye aur kuch uchit chikitsa kar le gaye toh hum theek ho jaenge aur hamein koi dawaon ki zarurat nahi agar ek baar apne allopathic dawa start kar li hai aur uski treatment lena chaalu kar diye toh usko beech me se band nahi karte aur saath me yog pranayaam aur yah toh chaalu hi rakhna hai aur boli bhi aapke doctor ke guideline ke anusaar hi band karna hai kam karna hai jo bhi doctor se us cheez ko follow karna hai ki cancer ek aisa maamla hai usme hum dil nahi de sakte hain usme 19 20 20 nahi chal sakta hai jo system se jaisa chalta hai wahi sabse chalega toh yah sab chijon ko dhyan me rakhna hai aur yog pranayaam aur prakirtik chikitsa bhi karte rehna hai dhanyavad

वह किस देश का और किस प्रकार का कैंसर है उस पर निर्भर करता है कैंसर में भी कई प्रकार होते ह

Romanized Version
Likes  180  Dislikes    views  1174
WhatsApp_icon
user

Manmohan Bhutada

Founder & Director - Yog Prayog

1:21
Play

Likes  299  Dislikes    views  2948
WhatsApp_icon
user

Hemraj Gurjar

Yoga Trainer

0:46
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

नमस्कार कैंसर के इलाज में योग और प्राकृतिक चिकित्सा मेरे अनुभव के आधार पर सो प्रतिशत प्रभावशाली है सिर्फ मुख्य बात है कि एक अच्छे अनुभवी चिकित्सक और योग शिक्षक की देखरेख में इस घातक बीमारी का इलाज करवाना चाहिए धन्यवाद

namaskar cancer ke ilaj me yog aur prakirtik chikitsa mere anubhav ke aadhar par so pratishat prabhavshali hai sirf mukhya baat hai ki ek acche anubhavi chikitsak aur yog shikshak ki dekhrekh me is ghatak bimari ka ilaj karwana chahiye dhanyavad

नमस्कार कैंसर के इलाज में योग और प्राकृतिक चिकित्सा मेरे अनुभव के आधार पर सो प्रतिशत प्र

Romanized Version
Likes  252  Dislikes    views  3432
WhatsApp_icon
user

Swami Umesh Yogi

Peace-Guru (Global Peace Education)

0:19
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

देखे योग प्राकृतिक चिकित्सा से सभी रोगों में लाभ मिलता है और कैंसर में भी लाभ मिलता है ऐसा नहीं मिलता है कि कैंसर के और योग आपका अभ्यास किस स्टेट में है

dekhe yog prakirtik chikitsa se sabhi rogo me labh milta hai aur cancer me bhi labh milta hai aisa nahi milta hai ki cancer ke aur yog aapka abhyas kis state me hai

देखे योग प्राकृतिक चिकित्सा से सभी रोगों में लाभ मिलता है और कैंसर में भी लाभ मिलता है ऐसा

Romanized Version
Likes  392  Dislikes    views  3088
WhatsApp_icon
user

Anil Ramola

Yoga Instructor | Engineer

0:46
Play

Likes  620  Dislikes    views  5924
WhatsApp_icon
user

Anshu Sarkar

Founder & Director, Sarkar Yog Academy

2:12
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

सबसे पहले तो आप को मेरा नमस्कार आप का सवाल है कैंसर के इलाज में योग और प्राकृतिक चिकित्सा कितना प्रभावी है कि जहां तक कि मेरा नाराज है जो कि दुनिया में 36 साल का तजुर्बा है जिला स्तरीय राज्य स्तरीय राष्ट्रीय स्तरीय अंतरराष्ट्रीय करियर में कई उपलब्धियां हासिल किए कई अवार्ड मैंने जीते कई पुरस्कार भी जाए कि मैं आपको कहना चाहूंगा जहां तक मेरी नॉलेज में है कैंसर पेशेंट को योग नहीं चलना चाहिए जब यह पता चल जाए कि इनको कैंसिल है उस अवस्था में उनको योगा नहीं करना चाहिए क्योंकि कैंसर को एग्जॉशन नहीं करना चाहिए लेकिन अगर कोई इंसान योगदान कर रहे हैं उनका सर्वांगीण विकास होता है शारीरिक मानसिक नैतिक आध्यात्मिक और शारीरिक रूप से मजबूत हो जाता है स्वास्थ्य गतिविधि नियंत्रण में आता है चंचल मन बस में आता है योग प्रणाम एवं ध्यान के माध्यम से अपने आपको अपनी शक्ति का विकास करके क्षमता को बढ़ाकर इंटरनेट को बढ़ाने के साथ-साथ अपनी मिलिट्री तो बढ़ाकर बीमारी से लड़ने की ताकत को बढ़ाता है और बीमार उससे दूर रहता है जिसके कारण कैंसर भी अपना पाप नहीं सुधार सकता है कल आ सकता है इसी के माध्यम से कहना चाहूंगा कि जो कैंसर के पेशेंट है योग ना करें लेकिन अगर कोई योग कर रहा उनका कैंसर होने का चांस बहुत कम हो जाता है क्योंकि उनका रोक प्रतीत होता है दिमाग चलाने का ताकत बढ़ता है बढ़ता है तो मैं यही कहना चाहूंगा कि योग अपनाए रोग भगाए योग अपनाएं मोटापा घटाएं धन्यवाद

sabse pehle toh aap ko mera namaskar aap ka sawaal hai cancer ke ilaj me yog aur prakirtik chikitsa kitna prabhavi hai ki jaha tak ki mera naaraj hai jo ki duniya me 36 saal ka tajurba hai jila stariy rajya stariy rashtriya stariy antararashtriya career me kai upalabdhiyaan hasil kiye kai award maine jeete kai puraskar bhi jaaye ki main aapko kehna chahunga jaha tak meri knowledge me hai cancer patient ko yog nahi chalna chahiye jab yah pata chal jaaye ki inko cancel hai us avastha me unko yoga nahi karna chahiye kyonki cancer ko egjashan nahi karna chahiye lekin agar koi insaan yogdan kar rahe hain unka Sarvangiṇa vikas hota hai sharirik mansik naitik aadhyatmik aur sharirik roop se majboot ho jata hai swasthya gatividhi niyantran me aata hai chanchal man bus me aata hai yog pranam evam dhyan ke madhyam se apne aapko apni shakti ka vikas karke kshamta ko badhakar internet ko badhane ke saath saath apni miltary toh badhakar bimari se ladane ki takat ko badhata hai aur bimar usse dur rehta hai jiske karan cancer bhi apna paap nahi sudhaar sakta hai kal aa sakta hai isi ke madhyam se kehna chahunga ki jo cancer ke patient hai yog na kare lekin agar koi yog kar raha unka cancer hone ka chance bahut kam ho jata hai kyonki unka rok pratit hota hai dimag chalane ka takat badhta hai badhta hai toh main yahi kehna chahunga ki yog apnaye rog bhagaye yog apanaen motapa ghataye dhanyavad

सबसे पहले तो आप को मेरा नमस्कार आप का सवाल है कैंसर के इलाज में योग और प्राकृतिक चिकित्सा

Romanized Version
Likes  417  Dislikes    views  1968
WhatsApp_icon
user

S Bajpay

Yoga Expert | Beautician & Gharelu Nuskhe Expert

1:14
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

राम जी की आपका पर कौन सी चीज में कैंसर पहुंचने के बाद बहुत दिक्कत हो जाती लेकिन अगर आप की शुरुआत में किसी अच्छे आयुर्वेद में जाकर के और देखे लेकिन आप इलाज करवाए उसके बाद आपको कितना लाभ होगा ऐसा नहीं है कि जो है मैसेज में योग 2 है और योग पद्धति जो है प्राकृतिक चिकित्सा की बहुत पुरानी तो आप जो हैं वहां पर दिखा ले आपका कैंसर किस पर और आप जाकर केरल में बहुत अच्छा संस्थान है इसका तो आप पता करें नेट पर सर्च करें कौन सा सबसे अच्छा है आप वहां पर जाकर दिखाएं

ram ji ki aapka par kaun si cheez me cancer pahuchne ke baad bahut dikkat ho jaati lekin agar aap ki shuruat me kisi acche ayurveda me jaakar ke aur dekhe lekin aap ilaj karwaye uske baad aapko kitna labh hoga aisa nahi hai ki jo hai massage me yog 2 hai aur yog paddhatee jo hai prakirtik chikitsa ki bahut purani toh aap jo hain wahan par dikha le aapka cancer kis par aur aap jaakar kerala me bahut accha sansthan hai iska toh aap pata kare net par search kare kaun sa sabse accha hai aap wahan par jaakar dikhaen

राम जी की आपका पर कौन सी चीज में कैंसर पहुंचने के बाद बहुत दिक्कत हो जाती लेकिन अगर आप की

Romanized Version
Likes  579  Dislikes    views  6442
WhatsApp_icon
play
user

Narendar Gupta

प्राकृतिक योगाथैरिपिस्ट एवं योगा शिक्षक,फीजीयोथैरीपिस्ट

0:31

Likes  272  Dislikes    views  2682
WhatsApp_icon
user

Sachidanand Joshi

Naturopath Yoga Trainer

1:03
Play

Likes  103  Dislikes    views  3425
WhatsApp_icon
user

Girijakant Singh

Founder/ President Yog Bharati Foundation Trust

0:24
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

आपका प्रश्न कैंसर के इलाज में योग और प्राकृतिक कितना प्रभावी देखिए अभी कोई कैंसर पेशेंट्स है उसका ट्रीटमेंट चल रहा है और उसके साथी आदमी योग करता है तो उसमें उसको लाभ की संभावना कई गुना ज्यादा बढ़ जाती है उसको शीघ्र लाभ होने की संभावना बढ़ जाती है बताइएगा

aapka prashna cancer ke ilaj mein yog aur prakirtik kitna prabhavi dekhiye abhi koi cancer patients hai uska treatment chal raha hai aur uske sathi aadmi yog karta hai toh usme usko labh ki sambhavna kai guna zyada badh jaati hai usko shighra labh hone ki sambhavna badh jaati hai bataiega

आपका प्रश्न कैंसर के इलाज में योग और प्राकृतिक कितना प्रभावी देखिए अभी कोई कैंसर पेशेंट्स

Romanized Version
Likes  175  Dislikes    views  2186
WhatsApp_icon
user

Dharminder Kumar

Yoga Trainer

2:18
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

आपने पूछा है कि कैंसर के इलाज में जॉब और प्राकृतिक चिकित्सा कितना प्रभावी है जो मैं बहुत सारे उदाहरण मिलते हैं जैसे स्वामी रामदेव जी के प्रोग्राम में देखने में मिलता है कि कुछ लोगों को इसका बहुत फायदा हुआ है कैंसर पर जो फर्स्ट स्टेज पर जिन को पता चल जाता है वह जॉब करने से और साथ में आयुर्वेद दवाई खाने से उनको आराम मिला है लेकिन इसका भी स्पष्ट कोई परिणाम नहीं है कि हम आपको बता सके ए जोक से कोई कैंसर पेशेंट कितना ठीक हुआ है या उसको आगे चलकर कोई प्रॉब्लम बड़ी है जो कम हुई है ऐसे शिविरों में देखने में मिलता है कि कुछ लोग खड़े होकर बताते हैं कि हमें प्रॉब्लम थी और हम ठीक हुए हैं तो इसी प्रकार प्राकृतिक चिकित्सा में भी है कुछ लोग कान के जवारे निवारा है उसका जूस निकालकर पीते हैं काफी दिन तक पीने से उनको नाम मिलता है वह भी अपनी जॉन के फायदा हुआ है उसके बारे में बताते हैं लेकिन अभी इस का भयानक रूप में कोई सरकारी तौर पर इसका कोई स्पष्ट पर नाम नहीं मिला है इसलिए कैंसर के पेशेंट को अपने ट्रीटमेंट के साथ-साथ जय जॉब और प्राकृतिक चिकित्सा लेनी चाहिए एकदम अपनी एलोपैथी जान दोस्ती दवाइयां बांधनी करनी चाहिए क्योंकि अपने शरीर का अपने जीवन का रिस्क लेना ठीक नहीं है इसलिए मेरी राय यही है कि अपने चिकित्सक के परामर्श के मुताबिक की चलने दो वह दवाई जो ट्रीटमेंट बताते उसके साथ-साथ जोगा करें धन्यवाद

aapne poocha hai ki cancer ke ilaj mein job aur prakirtik chikitsa kitna prabhavi hai jo main bahut saare udaharan milte hai jaise swami ramdev ji ke program mein dekhne mein milta hai ki kuch logo ko iska bahut fayda hua hai cancer par jo first stage par jin ko pata chal jata hai vaah job karne se aur saath mein ayurveda dawai khane se unko aaram mila hai lekin iska bhi spasht koi parinam nahi hai ki hum aapko bata sake a joke se koi cancer patient kitna theek hua hai ya usko aage chalkar koi problem baadi hai jo kam hui hai aise shiviron mein dekhne mein milta hai ki kuch log khade hokar batatey hai ki hamein problem thi aur hum theek hue hai toh isi prakar prakirtik chikitsa mein bhi hai kuch log kaan ke javare chahiye hai uska juice nikalakar peete hai kaafi din tak peene se unko naam milta hai vaah bhi apni john ke fayda hua hai uske bare mein batatey hai lekin abhi is ka bhayanak roop mein koi sarkari taur par iska koi spasht par naam nahi mila hai isliye cancer ke patient ko apne treatment ke saath saath jai job aur prakirtik chikitsa leni chahiye ekdam apni allopathy jaan dosti davaiyan bandhani karni chahiye kyonki apne sharir ka apne jeevan ka risk lena theek nahi hai isliye meri rai yahi hai ki apne chikitsak ke paramarsh ke mutabik ki chalne do vaah dawai jo treatment batatey uske saath saath joga kare dhanyavad

आपने पूछा है कि कैंसर के इलाज में जॉब और प्राकृतिक चिकित्सा कितना प्रभावी है जो मैं बहुत स

Romanized Version
Likes  32  Dislikes    views  459
WhatsApp_icon
user

xyz

nothing

1:43
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

कैंसर में योग्य कोई भी दूसरी तरह थी जो मॉडर्न मेडिसिन से हटके जो अल्टरनेटिव मेडिसिंस है उस सभी बहुत अच्छा रोल अदा करती हैं उन मॉडर्न मेडिसिंस के साथ-साथ अगर कैंसर हो गया है तो अगर पेंशन नहीं हुआ है तो योग करेंगे तो हमारे जो चल सेवा एक्टिव रहेंगे डैडी नहीं होंगे और कैंसर सेल्स डिवेलप नहीं होंगे लेकिन अगर कैंसर हो गया है तो फर्स्ट सेकंड स्पेस में तो यह उन दवाइयों के साथ-साथ मॉडर्न मेडिसिंस के इलाज के साथ-साथ योग बहुत ज्यादा मदद करता है कि हमारे शरीर में इम्यूनिटी पावर अलग करता है लेकिन अगर अंतिम स्टेज में है कैंसर तो दूसरी कोई भी रहती है काम नहीं करती है इन मॉडर्न मेडिसिंस भी वहां पर कुछ नहीं कर पाता है तो हमें जीवन में याद रखना चाहिए इस तरह की बीमारी हमारे जीवन में आए आए ना इसके लिए हमें पहले से ही अपनी लाइफ को हेल्थी लाइफ जीना चाहिए सही टाइम पर सोना चाहिए सही टाइम तो उठना चाहिए तनाव नहीं लेना चाहिए हमेशा खुश रहना चाहिए और योग जरूर करना चाहिए धन्यवाद

cancer mein yogya koi bhi dusri tarah thi jo modern medicine se hatake jo Alternative medisins hai us sabhi bahut accha roll ada karti hai un modern medisins ke saath saath agar cancer ho gaya hai toh agar pension nahi hua hai toh yog karenge toh hamare jo chal seva active rahenge daddy nahi honge aur cancer sales develop nahi honge lekin agar cancer ho gaya hai toh first second space mein toh yah un dawaiyo ke saath saath modern medisins ke ilaj ke saath saath yog bahut zyada madad karta hai ki hamare sharir mein immunity power alag karta hai lekin agar antim stage mein hai cancer toh dusri koi bhi rehti hai kaam nahi karti hai in modern medisins bhi wahan par kuch nahi kar pata hai toh hamein jeevan mein yaad rakhna chahiye is tarah ki bimari hamare jeevan mein aaye aaye na iske liye hamein pehle se hi apni life ko healthy life jeena chahiye sahi time par sona chahiye sahi time toh uthna chahiye tanaav nahi lena chahiye hamesha khush rehna chahiye aur yog zaroor karna chahiye dhanyavad

कैंसर में योग्य कोई भी दूसरी तरह थी जो मॉडर्न मेडिसिन से हटके जो अल्टरनेटिव मेडिसिंस है उस

Romanized Version
Likes  66  Dislikes    views  1502
WhatsApp_icon
user

Yogacharya Bindu Rani

Yoga Instructor Yog Teacher Yogacharya=yogdham Yog Center In Meerut, 19 Years Experience,yoga Classes At Home Yoga, Mediation Classes, Aerobic Classes ,yoga Classes For Ladies, Power Yoga Classes, Pilates Yoga Classes, Yoga Classes For Children's, Yoga Classes For Pregnant Women, आयुर्वेदाचार्य, नैचुरोपैथी

2:32
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

ओम सुप्रभात कैंसर के इलाज में योग व प्राकृतिक चिकित्सा 100% प्रभावशाली है हमारे शरीर में 100% कैंसर के इलाज योग आयुर्वेद द्वारा ही किया जा सकता है योगाभ्यास का सही स्थिति में अभ्यास करने से और प्राकृतिक चिकित्सा लेने से प्राकृतिक औषधियां देने से शरीर से कैंसर समाप्त किया जाता है शरीर में कैंसर को समाप्त करने के लिए योग आयुर्वेद लघुत्तम है सही जानकारी होते हुए सही समय पर योग का अभ्यास शुरू करना सबसे ज्यादा उत्तम है जो भी एक कैंसर के मरीज या पेशेंट है अगर उन्होंने तीन से पांच की मौत नहीं कराई है तो वह युवा वृद्ध प्रकृति चिकित्सा द्वारा कैंसर को जड़ से समाप्त कर सकते हैं अपने शरीर से और कैंसर के जो कि पूर्ण स्वास्थ्य को प्राप्त कर सकते हैं लेकिन अगर कैंसर पेशेंट में कैंसर के रोगी ने 3 से 5 बाकी मुकर आती है तो तीन से छह से 7 महीने लग जाते हैं लोग को समाप्त करने के लिए प्राकृतिक चिकित्सा का प्राकृतिक चिकित्सा लेने से और योग के अभ्यास करने से प्रणब की साधना करने से कैंसर के मरीज को कैंसर के रोगी को सबसे ज्यादा प्रणाम का अभ्यास करना चाहिए जिसमें तीन प्रणाम मुख्य हैं कपालभाति प्राणायाम बहारें प्राणायाम अनुलोम विलोम प्राणायाम इससे शरीर के कैंसर के जीन समाप्त हो जाते हैं और नियंता 8 घंटे इन तीनों का अभ्यास करने से कैंसिल करो स्वास्थ्य को प्राप्त कर लेता है सही आहार आहार लेने से सही आहार से कैंसर हमेशा से जड़ से समाप्त हो जाता है कैंसर के रोगी को सबसे ज्यादा हल्दी उबालकर पीनी चाहिए नींद का अर्थ लेना चाहिए तुलसी का अर्क लेना चाहिए आपला लेना चाहिए एलोवेरा लेना चाहिए गिलोरी लेना चाहिए जिससे शरीर के कैसे के दिन समाप्त हो जाए

om suprabhat cancer ke ilaj mein yog va prakirtik chikitsa 100 prabhavshali hai hamare sharir mein 100 cancer ke ilaj yog ayurveda dwara hi kiya ja sakta hai yogabhayas ka sahi sthiti mein abhyas karne se aur prakirtik chikitsa lene se prakirtik aushadhiyan dene se sharir se cancer samapt kiya jata hai sharir mein cancer ko samapt karne ke liye yog ayurveda laghuttam hai sahi jaankari hote hue sahi samay par yog ka abhyas shuru karna sabse zyada uttam hai jo bhi ek cancer ke marij ya patient hai agar unhone teen se paanch ki maut nahi karai hai toh vaah yuva vriddh prakriti chikitsa dwara cancer ko jad se samapt kar sakte hain apne sharir se aur cancer ke jo ki purn swasthya ko prapt kar sakte hain lekin agar cancer patient mein cancer ke rogi ne 3 se 5 baki mukar aati hai toh teen se cheh se 7 mahine lag jaate hain log ko samapt karne ke liye prakirtik chikitsa ka prakirtik chikitsa lene se aur yog ke abhyas karne se pranab ki sadhna karne se cancer ke marij ko cancer ke rogi ko sabse zyada pranam ka abhyas karna chahiye jisme teen pranam mukhya hain kapalbhati pranayaam baharen pranayaam anulom vilom pranayaam isse sharir ke cancer ke gene samapt ho jaate hain aur niyanta 8 ghante in tatvo ka abhyas karne se cancel karo swasthya ko prapt kar leta hai sahi aahaar aahaar lene se sahi aahaar se cancer hamesha se jad se samapt ho jata hai cancer ke rogi ko sabse zyada haldi ubalkar peeni chahiye neend ka arth lena chahiye tulsi ka ark lena chahiye apla lena chahiye aloevera lena chahiye gilori lena chahiye jisse sharir ke kaise ke din samapt ho jaaye

ओम सुप्रभात कैंसर के इलाज में योग व प्राकृतिक चिकित्सा 100% प्रभावशाली है हमारे शरीर में 1

Romanized Version
Likes  19  Dislikes    views  483
WhatsApp_icon
user

Dr Chandra Shekhar Jain

MBBS, Yoga Therapist Yoga Psychotherapist

3:41
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

अगर आप केवल योग और प्राकृतिक चिकित्सा द्वारा कैंसर का इलाज करना चाहते हैं तो यह निश्चित रूप से संभव है यह बात सुनकर अधिकांश लोग सहमत नहीं होंगे और एलोपैथी डॉक्टर तो इसे मूर्त कहेंगे लेकिन जब हम अधूरे रूप में किसी भी पद्धति को समझते हैं तो हमारी यही हालत होती है कि हमारा उस पर विश्वास ही नहीं होता है योग प्राकृतिक चिकित्सा और इसके साथ यदि आयुर्वेद मिला दिया जाए तो फिर संसार की अधिकांश समस्याओं का समाधान मिल सकता है जहां पर इमरजेंसी है और सर्जरी की आवश्यकता है वहां पर निश्चित रूप से एलोपैथी मेडिसिन का महत्व है और एलोपैथी मेडिसिन में सर्जरी के कारण ही आज एलोपैथी मेडिसिन की साख बची हुई है वरना योगा आयुर्वेदा और नेचुरोपैथी से किसी भी समस्या का समाधान हो सकता है अगर आप कैंसर का समाधान चाहते हैं तो फिर आपको किसी आश्रम में जाकर रहना होगा जहां पर आपको जो को प्राकृतिक करवाई जाएगी और उस आश्रम में भी जो योगी होंगे जो एक चिकित्सक होंगे उनका पूर्ण रूप से इस विषय का जानना बहुत आवश्यक है जो तन मन और प्राण को नियंत्रित करने की बहुत ही प्रभावी प्रक्रिया है परंतु इसके लिए अत्यधिक अनुशासन की आवश्यकता पड़ती है क्योंकि आप संसार में हजारों लोग ऐसे नहीं सकते हैं जिनको एलोपैथी डॉक्टर ने और दूसरा चिकित्सा पद्धतियों वालों ने साफ मना कर दिया था कि अब आपके कैंसर का इलाज नहीं होगा लेकिन सिर्फ अपनी विल पावर और जीवन चर्या में परिवर्तन करके उन्होंने स्वयं से ही कैंसर का इलाज कर लिया एक्चुअली हम लोग को सिर्फ आसन प्राणायाम रिलैक्सेशन मेडिटेशन के रूप में देखते हैं योग का एक बहुत बड़ा अंग है योग दर्शन जब तक हम योग दर्शन का अध्ययन नहीं करेंगे उसको समझेंगे नहीं उसको अनुभव नहीं करेंगे तब तक हमें योग की शक्ति का एहसास नहीं होगा तो योग का दर्शन कहता है कि मैं आत्म स्वरूप और ना मेरी मृत्यु होती है और ना में जन्म लेता हूं सिर्फ अपने कर्मों के अनुसार पर शरीर का परिवर्तन करता हूं जब यह भाव किसी व्यक्ति के मन में बहुत ज्यादा गहरी बैठ जाता है तो उसके मन से मृत्यु का भय निकल जाता है और जब मृत्यु का भय निकल जाता है तो फिर मैं अपने शरीर से खेलना शुरू करता है और अनुशासित होना शुरू कर देता है संसार की कोई भी समस्या क्यों ना हो उसका समाधान मिलता है पर तू कि आज हमारे जीवन में अनुशासन बिल्कुल समाप्त हो चुका है इसलिए इन पद्धतियों को समझने वाले लोग भी नहीं है अगर आप से ग्रुप में प्राकृतिक चिकित्सा और योग का उपयोग कर सकते हैं और किसी अनुभवी योग चिकित्सक के संपर्क में आ सकते हैं तो इन वादियों का संपूर्ण इलाज संभव है और मैं वापस से दोहराता हूं इस संसार में हजारों लोग ऐसे हैं जिन्होंने किसी भी चिकित्सा पद्धति का लाभ उठाएं बगैर या उपयोग किए बगैर ही अपनी विल पावर और अपनी जीवन चर्या को परिवर्तन परिवर्तित करके बड़े से बड़े लोगों को ठीक कर लिया है और उसमें कैंसर भी है उदाहरण आपको यूट्यूब पर और पुस्तकों में मिल जाएंगे

agar aap keval yog aur prakirtik chikitsa dwara cancer ka ilaj karna chahte hai toh yah nishchit roop se sambhav hai yah baat sunkar adhikaansh log sahmat nahi honge aur allopathy doctor toh ise murt kahenge lekin jab hum adhure roop mein kisi bhi paddhatee ko samajhte hai toh hamari yahi halat hoti hai ki hamara us par vishwas hi nahi hota hai yog prakirtik chikitsa aur iske saath yadi ayurveda mila diya jaaye toh phir sansar ki adhikaansh samasyaon ka samadhan mil sakta hai jaha par emergency hai aur surgery ki avashyakta hai wahan par nishchit roop se allopathy medicine ka mahatva hai aur allopathy medicine mein surgery ke karan hi aaj allopathy medicine ki saakh bachi hui hai varna yoga ayurveda aur naturopathy se kisi bhi samasya ka samadhan ho sakta hai agar aap cancer ka samadhan chahte hai toh phir aapko kisi ashram mein jaakar rehna hoga jaha par aapko jo ko prakirtik karwai jayegi aur us ashram mein bhi jo yogi honge jo ek chikitsak honge unka purn roop se is vishay ka janana bahut aavashyak hai jo tan man aur praan ko niyantrit karne ki bahut hi prabhavi prakriya hai parantu iske liye atyadhik anushasan ki avashyakta padti hai kyonki aap sansar mein hazaro log aise nahi sakte hai jinako allopathy doctor ne aur doosra chikitsa paddhatiyon walon ne saaf mana kar diya tha ki ab aapke cancer ka ilaj nahi hoga lekin sirf apni will power aur jeevan charya mein parivartan karke unhone swayam se hi cancer ka ilaj kar liya actually hum log ko sirf aasan pranayaam Relaxation meditation ke roop mein dekhte hai yog ka ek bahut bada ang hai yog darshan jab tak hum yog darshan ka adhyayan nahi karenge usko samjhenge nahi usko anubhav nahi karenge tab tak hamein yog ki shakti ka ehsaas nahi hoga toh yog ka darshan kahata hai ki main aatm swaroop aur na meri mrityu hoti hai aur na mein janam leta hoon sirf apne karmon ke anusaar par sharir ka parivartan karta hoon jab yah bhav kisi vyakti ke man mein bahut zyada gehri baith jata hai toh uske man se mrityu ka bhay nikal jata hai aur jab mrityu ka bhay nikal jata hai toh phir main apne sharir se khelna shuru karta hai aur anushasit hona shuru kar deta hai sansar ki koi bhi samasya kyon na ho uska samadhan milta hai par tu ki aaj hamare jeevan mein anushasan bilkul samapt ho chuka hai isliye in paddhatiyon ko samjhne waale log bhi nahi hai agar aap se group mein prakirtik chikitsa aur yog ka upyog kar sakte hai aur kisi anubhavi yog chikitsak ke sampark mein aa sakte hai toh in vadiyon ka sampurna ilaj sambhav hai aur main wapas se dohrata hoon is sansar mein hazaro log aise hai jinhone kisi bhi chikitsa paddhatee ka labh uthaye bagair ya upyog kiye bagair hi apni will power aur apni jeevan charya ko parivartan parivartit karke bade se bade logo ko theek kar liya hai aur usme cancer bhi hai udaharan aapko youtube par aur pustakon mein mil jaenge

अगर आप केवल योग और प्राकृतिक चिकित्सा द्वारा कैंसर का इलाज करना चाहते हैं तो यह निश्चित रू

Romanized Version
Likes  85  Dislikes    views  1209
WhatsApp_icon
user

Yog Guru Gyan Ranjan Maharaj

Founder & Director - Kashyap Yogpith

1:39
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

जहां पर आप का क्वेश्चन है कैंसर के ऊपर के कैंसर के इलाज में योग कितना अधिकार है और नेचुरोपैथी प्राकृतिक जी का कितना प्रभावी है एक बहुत ही घातक बीमारी है पहले तो पता करना पड़ेगा कि कैंसर की स्टेज का है क्योंकि लोग एज के मुताबिक का और नेचुरोपैथी हो गए नेचुरोपैथी और योग स्टेज के मुताबिक काम करता है अगर फोर्थ स्टेज का कैंसर होगा तो थोड़ी दिक्कत जाएगी कैंसर हो तो यह है पियो गाना प्राकृतिक चिकित्सा के द्वारा प्रभावित होने में फर्स्ट सेकंड और थर्ड तक योग ज्यादा काम करता है अगर स्टेज तक का योग हैप्पी कैंसिल है तो वह हमें जहां तक उम्मीद है कि नेचुरोपैथी और आपको योग्य दोनों काफी कारगर साबित होंगे सर देखिए आप का प्रयोग किया जाए अगले से अगला करें तो हमें उम्मीद है कि इस समय तो लगेगा काफी समय लगता है व्यक्ति स्वस्थ हो सकता है इसमें कोई संदेश की बात नहीं धन्यवाद

jahan par aap ka question hai cancer ke upar ke cancer ke ilaj mein yog kitna adhikaar hai aur naturopathy prakirtik ji ka kitna prabhavi hai ek bahut hi ghatak bimari hai pehle toh pata karna padega ki cancer ki stage ka hai kyonki log age ke mutabik ka aur naturopathy ho gaye naturopathy aur yog stage ke mutabik kaam karta hai agar fourth stage ka cancer hoga toh thodi dikkat jayegi cancer ho toh yah hai piyo gaana prakirtik chikitsa ke dwara prabhavit hone mein first second aur third tak yog zyada kaam karta hai agar stage tak ka yog happy cancel hai toh vaah hamein jaha tak ummid hai ki naturopathy aur aapko yogya dono kaafi kargar saabit honge sir dekhiye aap ka prayog kiya jaaye agle se agla kare toh hamein ummid hai ki is samay toh lagega kaafi samay lagta hai vyakti swasthya ho sakta hai isme koi sandesh ki baat nahi dhanyavad

जहां पर आप का क्वेश्चन है कैंसर के ऊपर के कैंसर के इलाज में योग कितना अधिकार है और नेचुरोप

Romanized Version
Likes  16  Dislikes    views  1054
WhatsApp_icon
play
user

Pankaj Sharma

Yoga Instructor

1:09

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

कैंसर के इलाज में योग और पौष्टिकता बहुत ही प्रभाव डाला है और डालता रहेगा यदि आपको कैंसर बीमारी है तो आप रेगुलर कपाल भारती बस्ती का अनुलोम विलोम अवधेश जी इशारे प्राणायाम आप विधायक 3 घंटे तक उसको पर यह अंतराल में पढ़िए संयोजक लेट लेटर को आराम आराम से बैलेंस शुरुआत में बीएसएफ घड़ी ऑफिस को बढ़ाते रहिए और इसका स्वामी पतंजलि से आपको स्तन कैंसर ठीक हो जाएगा और उस करने वालों की कभी हार नहीं होती लास्ट तक आप अगर कोशिश कर रहे हैं आपको सफलता अवश्य मिलेगी आपका कैंसर ही ठीक होगा और आप पर और अच्छी लाइफ भी नहीं लगेंगे

cancer ke ilaj mein yog aur paushtikata bahut hi prabhav dala hai aur dalta rahega yadi aapko cancer bimari hai toh aap regular kapal bharati basti ka anulom vilom awdhesh ji ishare pranayaam aap vidhayak 3 ghante tak usko par yah antaral mein padhiye sanyojak late letter ko aaram aaram se balance shuruat mein bsf ghadi office ko badhate rahiye aur iska swami patanjali se aapko stan cancer theek ho jaega aur us karne walon ki kabhi haar nahi hoti last tak aap agar koshish kar rahe hain aapko safalta avashya milegi aapka cancer hi theek hoga aur aap par aur achi life bhi nahi lagenge

कैंसर के इलाज में योग और पौष्टिकता बहुत ही प्रभाव डाला है और डालता रहेगा यदि आपको कैंसर बी

Romanized Version
Likes  102  Dislikes    views  1270
WhatsApp_icon
user

Dhananjay Janardan Suryavanshi

Founder & Director - Yogeej Meditation

0:47
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

कैंसर एक्चुअली साइकोसोमेटिक डिसऑर्डर है जिसे हम मानव का एक वादे करते हैं जिसकी वजह से तनाव जने को जैसी जहां में कोई वीकली को अपने बदन में वहां पर वह भूल जाते हैं फाइल जाते हैं तो उसके लिए योगा प्राणायाम यह सब साबित हो सकता है आपके मन की ताकत बढ़ा सकते अगर मिल्क और बढ़ेगी तो हम उसको आराम से कंट्रोल कर सकते बाकी जो बैठी है बाकी पैसे का भी उपचार करते हुए हम योग और प्राणायाम से भी अपने मन मस्तिष्क को ठंडा रख कर आराम से इससे हम निपट सकते हैं

cancer actually saikosometik disorder hai jise hum manav ka ek waade karte hain jiski wajah se tanaav jane ko jaisi jaha mein koi weekly ko apne badan mein wahan par vaah bhool jaate hain file jaate hain toh uske liye yoga pranayaam yah sab saabit ho sakta hai aapke man ki takat badha sakte agar milk aur badhegi toh hum usko aaram se control kar sakte baki jo baithi hai baki paise ka bhi upchaar karte hue hum yog aur pranayaam se bhi apne man mastishk ko thanda rakh kar aaram se isse hum nipat sakte hain

कैंसर एक्चुअली साइकोसोमेटिक डिसऑर्डर है जिसे हम मानव का एक वादे करते हैं जिसकी वजह से तनाव

Romanized Version
Likes  41  Dislikes    views  1153
WhatsApp_icon
Likes  41  Dislikes    views  1129
WhatsApp_icon
qIcon
ask
QuestionsProfiles

Vokal App bridges the knowledge gap in India in Indian languages by getting the best minds to answer questions of the common man. The Vokal App is available in 11 Indian languages. Users ask questions on 100s of topics related to love, life, career, politics, religion, sports, personal care etc. We have 1000s of experts from different walks of life answering questions on the Vokal App. People can also ask questions directly to experts apart from posting a question to the entire answering community. If you are an expert or are great at something, we invite you to join this knowledge sharing revolution and help India grow. Download the Vokal App!