क्या योग करने से PCOD पूरी तरह से ठीक हो सकता है?...


user

Hem Singh

Yoga Trainer

0:55
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

हां बिल्कुल ठीक हो सकता है आपका फोन क्यों नहीं लगता है

haan bilkul theek ho sakta hai aapka phone kyon nahi lagta hai

हां बिल्कुल ठीक हो सकता है आपका फोन क्यों नहीं लगता है

Romanized Version
Likes  15  Dislikes    views  332
WhatsApp_icon
20 जवाब
qIcon
ask
ऐसे और सवाल
Loading...
Loading...
user

Dr Arti Gupta

Yoga Trainer and Life Coach (instra Id-artipaharia135)

3:10
Play

Likes  61  Dislikes    views  1200
WhatsApp_icon
user

Rekha Agarwal

Yoga Teacher

1:30
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

हेलो फ्रेंड सब का पेस्ट लेके योग करने से पीसीओडी पूरी तरह से ठीक हो जाता है जी हां पूरी तरह से तो नहीं लेकिन फिर भी काफी हद तक बहुत बड़ा अंतर नजर आता है पीसीओडी के विशेष क्योंकि यह घर मनी प्रॉब्लम है जो कि ज्यादातर लड़कियों में लेडीस में सभी में देखने में आ रही है आजकल आजकल किस सामान्य प्रॉब्लम है जो कि य से लड़कियों में भी बहुत ज्यादा मात्रा में देखने में आ रही है इसमें हमारी बॉडी में हार्मोन बैलेंस जाते हैं पीरियड कभी आता है कभी नहीं आता है और दवाई खाने पर आता है यह सब समस्या बनी रहती है इसके लिए आप युवा कीजिए युवा करने से आपको एक पर्सेंट तक आराम भेज सकता है लेकिन युवा का अभ्यास प्लेन करना बहुत जरूरी है जो हमारे हारमोंस बैलेंस होते हैं तो हमारा वजन ही बहुत तेजी से बढ़ने लगता है यह सभी समस्याएं उत्पन्न होने लगती है इसलिए इसको पूरी तरह से ठीक करना है तो आप युवा को लगातार 1 घंटे दोस्त करिए वॉक वॉक दिखाइए दोनों चीजें बहुत ही जरूरी है आप योगाभ्यास करेंगे क्योंकि योगा का कार्य ही बॉडी के हारमोंस को बैलेंस करना होता है जमाई हारमोंस बैलेंस हो जाएंगे तो हमें यह सब समस्या नहीं होगी और मुझे डिस्टर्ब होते हैं तभी सीटेट की प्रॉब्लम होती है धन्यवाद

hello friend sab ka paste leke yog karne se pisiodi puri tarah se theek ho jata hai ji haan puri tarah se toh nahi lekin phir bhi kaafi had tak bahut bada antar nazar aata hai pisiodi ke vishesh kyonki yah ghar money problem hai jo ki jyadatar ladkiyon me ladies me sabhi me dekhne me aa rahi hai aajkal aajkal kis samanya problem hai jo ki ya se ladkiyon me bhi bahut zyada matra me dekhne me aa rahi hai isme hamari body me hormone balance jaate hain period kabhi aata hai kabhi nahi aata hai aur dawai khane par aata hai yah sab samasya bani rehti hai iske liye aap yuva kijiye yuva karne se aapko ek percent tak aaram bhej sakta hai lekin yuva ka abhyas plane karna bahut zaroori hai jo hamare hormones balance hote hain toh hamara wajan hi bahut teji se badhne lagta hai yah sabhi samasyaen utpann hone lagti hai isliye isko puri tarah se theek karna hai toh aap yuva ko lagatar 1 ghante dost kariye walk walk dikhaiye dono cheezen bahut hi zaroori hai aap yogabhayas karenge kyonki yoga ka karya hi body ke hormones ko balance karna hota hai jamai hormones balance ho jaenge toh hamein yah sab samasya nahi hogi aur mujhe disturb hote hain tabhi CTET ki problem hoti hai dhanyavad

हेलो फ्रेंड सब का पेस्ट लेके योग करने से पीसीओडी पूरी तरह से ठीक हो जाता है जी हां पूरी त

Romanized Version
Likes  28  Dislikes    views  388
WhatsApp_icon
user

योगाचार्य S.S.Rawat🕉🔱🚩🙏

Lecturer Of Yog And Alternative Therapy

0:32
Play

Likes  61  Dislikes    views  1507
WhatsApp_icon
play
user

Dr. R. K. Gupta

Yoga & Nature Care Health center

0:34

Likes  81  Dislikes    views  774
WhatsApp_icon
user

Chun Chun Ji Charwak.

Master In Yoga.Rly.Service.

7:23
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

नमस्कार दोस्तों पूछा गया है क्या योग करने से पीसीओडी पूरी तरह से ठीक हो सकता है तो दोस्तों पीसीओडी यानी पॉलीसिस्टिक ओवरी डिसऑर्डर तो दोस्तों इसमें जो है महामारी अनियमित हो जाती है और जिसके चलते महिलाओं या नो विवाहिता में जो संतान उत्पत्ति की समस्या है वह बढ़ जाती है और दोस्तों इसके कारण हार्मोन असंतुलन हो जाता है और जिसके चलते पेट में दर्द रहता है किसी किसी महिलाओं के बाल भी झड़ने लगते हैं सर के बाल और दोस्तों शुगर प्रेशर और किडनी के रोग और भी बहुत से हरि रोग जो है धीरे-धीरे आगे चलकर हो सकती हैं तो दोस्तों इसका मुख्य कारण है मोटापा आराम तलबी शारीरिक श्रम कम करना ज्यादातर तनाव में रहना अनिद्रा यानी रात को नींद कम आना या कम सोना तो दोस्तों इसके चलते जो है हार्मोन असंतुलन हो जाता है और महामारी जो है महावारी महिलाओं में अनियमित हो जाते हैं यानी पास 10 दिन आगे पीछे आते जाते रहते हैं तो दोस्तों यह समस्या आजकल जो है बहुत सारी लड़कियों में विवाहिता में नवविवाहिता में या महिलाओं में देखा जाता है तो दोस्तों इस से निवारण के लिए मैं कुछ युवक प्रणाम बता रहा हूं और इसमें खानपान का भी बहुत बड़ा महत्व होता है इसलिए खानपान पर भी ध्यान देना चाहिए तो दोस्तों इसमें जो है कुछ मुख्य प्राणायाम आते हैं वह हैं बालभारती प्रणाम बाह्य प्रणम प्रणम पेट को अंदर की ओर खींच करके उसको चलाना आगे पीछे कोई सेवा ही प्रणाम और नौली क्रिया यह एक बहुत ही कठिन क्रिया है पर धीरे-धीरे कोशिश करना चाहिए इसमें पेट को गोल-गोल घुमाना पड़ता है दोस्तों इससे पेट से पेट से संबंधित जो भी बेकार है वह दूर हो जाती है तो दोस्तों इसमें भस्त्रिका प्राणायाम कर सकते हैं अनुलोम विलोम प्राणायाम भी कर सकते हैं तो दोस्तों मुख्य प्रणाम हुआ कपालभाति और ना ही प्रणब जो कोई भी कर सकता है और अनुलोम विलोम प्राणायाम इसको भी आराम से कोई भी महिलाएं कर सकती है तो दोस्तों इसमें कुछ योग करने से भी लाभ देखा गया है और दोस्त ऐसा भी देखा गया है कि जिन महिलाओं में महावारी बंद होने के कगार पर है उनमें भी फिर से चालू हो गई इस प्रणाम और योगा को करने से तो दोस्तों की नहीं प्रणाम और योगा को करें अब मैं योग बताने जा रहा हूं तो दोस्तों इस योगा में बालासन तितली आसन तितली आसन ने दोनों पैर को बैठकर के आपस में जोड़ करके हिलाना उष्ट्रासन सर्वांगासन हलासन तो दोस्तों हलासन जो है यह इसका बहुत ही अद्भुत लाभ देखा गया है इस स्थिति में तो हलासन थोड़ा कठिन होता है पहले सर्वांगासन और धीरे-धीरे हालात में लगाने का कोशिश करना भुजंगासन मर्जरी आसन यानी पंजों के बल बैठकर के इस घुटने को उसके को सटाना और उस घुटने को फिर वापस इस अंगूठे में सटाना ऐसे पारा पारी तो यह हुआ मर्जरी आसन ना भाषण यानी नाभि के बल लेटकर के पीछे से पैर को खाना और सामने से अपने शरीर और हाथों को आगे की ओर उठाना या नहीं नाभि के बल लेट मना भी तो ऊपर पूरे शरीर का वजन रहेगा धनु राशन उत्तानासन या जानू राशन यानी खड़े हो कर के अपने अंखे को छूने का प्रयास करना चक्की संचालन यानी बैठ कर के जैसे महिलाएं पहले चक्की चलाती थी उस तरह से चलाना और पवनमुक्तासन तो दोस्तों यह ऊपर कुछ प्रणाम और नीचे कुछ में आसान बता रहा हूं बहुत सारी महिलाओं को इससे लाभ हुआ है पर दोस्तों इन प्रणाम आसनों को करने से पहले अपनी शारीरिक क्षमता को देख लीजिएगा और धीरे-धीरे इस को बढ़ाती जाइएगा ऐसा नहीं क्योंकि शरीर जब मोटा हो जाता है भारी हो जाता है तो इन क्रियाओं को करने में बहुत सारी सुविधाएं आती है तो दोस्तों प्रयास कीजिएगा कि धीरे-धीरे इसको बढ़ाते जाएं और हार भी अपना धीरे-धीरे कंट्रोल करें जिससे शरीर जो है वह ठीक रहे मजबूत हो और यह जो है उसके बाद किसी और से बहुत सारी महिलाएं मुक्त हो गई हैं और आप भी मुक्त हो सकते हैं यानी महीना यह एकदम समय पर आने लगेगा और गर्भधारण में भी सुविधा रहेगी आराम रहेगा और कोई दिक्कत नहीं आएगी अंडा भी ठीक तरीका से बनने लगेगा तो दोस्तों खानपान सही रखे पानी पिए तली हुई चीजें चर्बी वाली चीजें ना खाएं इसे खाने का कम प्रयास करें सेब खा सकते हैं हरी सब्जी खा सकते हैं नारियल पानी पी सकते हैं नेट से आपदा में अगर खा सकते हैं जिसमें न्यूट्रिशन ज्यादा हो सकती ज्यादा हो शरीर को स्वस्थ रखने वाले पदार्थ है दूध दही पनीर का सेवन कर सकते हैं दोस्तों तो यह सारी चीजें आप खाइए पर सबसे बड़ी बड़ा लाभ जो देता है इसमें प्रणाम और योग देता है दोस्तों तो इसे रोज सुबह करने का प्रयास करें और आप देखिएगा कि इसके अद्भुत लाभ मिलेंगे तो दोस्तों पहले देख लीजिएगा कि कहीं ऐसा ना हो कि योग करने के समय कहीं हड्डियों में खिंचाव या जाए या कोई नसों में तनाव आ जाए इसलिए धीरे-धीरे इस कन्या और योग करते हुए आप आगे बढ़ते हैं पूर्णिया में तो कोई असुविधा नहीं है कपालभाति अनुलोम विलोम आराम से कर सकते हैं पर नौली क्रिया और ना ही प्रणब में थोड़ी सी दिक्कत आएगी जो थोड़ा सा प्रेक्टिस करने के बाद आपको जो है यह करने का आप जो है कर लेंगे इस दिन को तो दोस्तों लोग जो है इस युग में भी जो है बहुत ही धीरे-धीरे शरीर को लचीला बनाना पड़ता है क्योंकि शरीर अकड़ जाता है नशे अकड़ जाती है तो दोस्तों धीरे-धीरे महिलाएं अगर इन क्रियाओं को कर नहीं लगती हैं प्रणाम और यूको करने लगती हैं तो पीसीओडी में निश्चित लाभ होगा और जो डॉक्टर सलाह दे रहे हैं उनके अनुसार कुछ दवा जो बताते हैं उनका भी आप सेवन करते रहिए पालन करते रहिए तो दोस्तों आज के लिए इतना ही नमस्कार वंदे मातरम भारत माता की जय

namaskar doston poocha gaya hai kya yog karne se pisiodi puri tarah se theek ho sakta hai toh doston pisiodi yani polycystic ovary disorder toh doston isme jo hai mahamari aniyamit ho jaati hai aur jiske chalte mahilaon ya no vivahita me jo santan utpatti ki samasya hai vaah badh jaati hai aur doston iske karan hormone asantulan ho jata hai aur jiske chalte pet me dard rehta hai kisi kisi mahilaon ke baal bhi jhadne lagte hain sir ke baal aur doston sugar pressure aur KIDNEY ke rog aur bhi bahut se hari rog jo hai dhire dhire aage chalkar ho sakti hain toh doston iska mukhya karan hai motapa aaram talabi sharirik shram kam karna jyadatar tanaav me rehna anidra yani raat ko neend kam aana ya kam sona toh doston iske chalte jo hai hormone asantulan ho jata hai aur mahamari jo hai Mahavari mahilaon me aniyamit ho jaate hain yani paas 10 din aage peeche aate jaate rehte hain toh doston yah samasya aajkal jo hai bahut saari ladkiyon me vivahita me navavivahita me ya mahilaon me dekha jata hai toh doston is se nivaran ke liye main kuch yuvak pranam bata raha hoon aur isme khanpan ka bhi bahut bada mahatva hota hai isliye khanpan par bhi dhyan dena chahiye toh doston isme jo hai kuch mukhya pranayaam aate hain vaah hain balbharti pranam bahya pranam pranam pet ko andar ki aur khinch karke usko chalana aage peeche koi seva hi pranam aur nauli kriya yah ek bahut hi kathin kriya hai par dhire dhire koshish karna chahiye isme pet ko gol gol ghumaana padta hai doston isse pet se pet se sambandhit jo bhi bekar hai vaah dur ho jaati hai toh doston isme bhastrika pranayaam kar sakte hain anulom vilom pranayaam bhi kar sakte hain toh doston mukhya pranam hua kapalbhati aur na hi pranab jo koi bhi kar sakta hai aur anulom vilom pranayaam isko bhi aaram se koi bhi mahilaye kar sakti hai toh doston isme kuch yog karne se bhi labh dekha gaya hai aur dost aisa bhi dekha gaya hai ki jin mahilaon me Mahavari band hone ke kagar par hai unmen bhi phir se chaalu ho gayi is pranam aur yoga ko karne se toh doston ki nahi pranam aur yoga ko kare ab main yog batane ja raha hoon toh doston is yoga me balasan titli aasan titli aasan ne dono pair ko baithkar ke aapas me jod karke hilana ushtrasan sarvangasan halasan toh doston halasan jo hai yah iska bahut hi adbhut labh dekha gaya hai is sthiti me toh halasan thoda kathin hota hai pehle sarvangasan aur dhire dhire haalaat me lagane ka koshish karna bhujangasan marjari aasan yani panjon ke bal baithkar ke is ghutne ko uske ko satana aur us ghutne ko phir wapas is anguthe me satana aise para paari toh yah hua marjari aasan na bhashan yani nabhi ke bal letakar ke peeche se pair ko khana aur saamne se apne sharir aur hathon ko aage ki aur uthana ya nahi nabhi ke bal late mana bhi toh upar poore sharir ka wajan rahega dhanu raashan uttanasan ya janu raashan yani khade ho kar ke apne ankhe ko chune ka prayas karna chakki sanchalan yani baith kar ke jaise mahilaye pehle chakki chalati thi us tarah se chalana aur pavanamuktasan toh doston yah upar kuch pranam aur niche kuch me aasaan bata raha hoon bahut saari mahilaon ko isse labh hua hai par doston in pranam aasanon ko karne se pehle apni sharirik kshamta ko dekh lijiega aur dhire dhire is ko badhati jaiega aisa nahi kyonki sharir jab mota ho jata hai bhari ho jata hai toh in kriyaon ko karne me bahut saari suvidhaen aati hai toh doston prayas kijiega ki dhire dhire isko badhate jayen aur haar bhi apna dhire dhire control kare jisse sharir jo hai vaah theek rahe majboot ho aur yah jo hai uske baad kisi aur se bahut saari mahilaye mukt ho gayi hain aur aap bhi mukt ho sakte hain yani mahina yah ekdam samay par aane lagega aur garbhadharan me bhi suvidha rahegi aaram rahega aur koi dikkat nahi aayegi anda bhi theek tarika se banne lagega toh doston khanpan sahi rakhe paani piye tali hui cheezen charbi wali cheezen na khayen ise khane ka kam prayas kare seb kha sakte hain hari sabzi kha sakte hain nariyal paani p sakte hain net se aapda me agar kha sakte hain jisme nutrition zyada ho sakti zyada ho sharir ko swasth rakhne waale padarth hai doodh dahi paneer ka seven kar sakte hain doston toh yah saari cheezen aap khaiye par sabse badi bada labh jo deta hai isme pranam aur yog deta hai doston toh ise roj subah karne ka prayas kare aur aap dekhiega ki iske adbhut labh milenge toh doston pehle dekh lijiega ki kahin aisa na ho ki yog karne ke samay kahin haddiyon me khinchav ya jaaye ya koi nason me tanaav aa jaaye isliye dhire dhire is kanya aur yog karte hue aap aage badhte hain purniya me toh koi asuvidha nahi hai kapalbhati anulom vilom aaram se kar sakte hain par nauli kriya aur na hi pranab me thodi si dikkat aayegi jo thoda sa practice karne ke baad aapko jo hai yah karne ka aap jo hai kar lenge is din ko toh doston log jo hai is yug me bhi jo hai bahut hi dhire dhire sharir ko lachila banana padta hai kyonki sharir akad jata hai nashe akad jaati hai toh doston dhire dhire mahilaye agar in kriyaon ko kar nahi lagti hain pranam aur yuko karne lagti hain toh pisiodi me nishchit labh hoga aur jo doctor salah de rahe hain unke anusaar kuch dawa jo batatey hain unka bhi aap seven karte rahiye palan karte rahiye toh doston aaj ke liye itna hi namaskar vande mataram bharat mata ki jai

नमस्कार दोस्तों पूछा गया है क्या योग करने से पीसीओडी पूरी तरह से ठीक हो सकता है तो दोस्तों

Romanized Version
Likes  9  Dislikes    views  104
WhatsApp_icon
user
1:20
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

नमस्कार आपका प्रश्न योग करने से पीसीओडी पूरी तरह से ठीक हो जाता है या नहीं तो योग करने से जो भी बीमारी आपको हो गई है जैसे बहुत सारे लोगों ने ऐसा भी कहा है कि कैंसर हो गया तो योग करने से कैंसर रोग में ठीक हो गया या बाबा रामदेव का योग करने से बीपी या डायबिटीज ठीक हो गया ऐसा बिल्कुल भी नहीं है मेरी नॉलेज में क्योंकि 16 साल हमें भी हो गए लेते हुए योग योग प्रशिक्षक लेकिन अगर कोई भी बीमारी पहले ही आप योग करेंगे तो आप किसी भी बीमारी से बचे रह सकते हैं लेकिन पीसीओडी के लिए ऐसा है कि 1 महिलाओं की बीमारी है एक किए मंथली स्थिति यह है तो जहां तक एक ही है सिंपल बीमारी है पीसीओडी इतना बड़ा कोई केस नहीं हो जाता है तो इसको अगर आप प्रॉपर किसी प्रशिक्षक के देखरेख में प्रॉपर सिलेबस में अगर आप करेंगे तो इसकी बहुत ज्यादा ठीक हो जाने की यह है शक करता है मतलब यह हो सकता है कि ठीक हो जाए क्योंकि मेरे आपके पास दो-तीन ऐसे स्टूडेंट है जिनका पीसीओडी पेपर पढ़ा है लेकिन उसमें फिर सिलेबस प्रॉपर होना चाहिए और आपको फिर उसका ध्यान भी रखना चाहिए लेकिन योगा के साथ आप एक अच्छे गायनिक को भी दिखाते जाए जिससे आपका पीसीओडी जो है प्रॉपर पूरी तरह से ठीक हो सके धन्यवाद

namaskar aapka prashna yog karne se pisiodi puri tarah se theek ho jata hai ya nahi toh yog karne se jo bhi bimari aapko ho gayi hai jaise bahut saare logo ne aisa bhi kaha hai ki cancer ho gaya toh yog karne se cancer rog me theek ho gaya ya baba ramdev ka yog karne se BP ya diabetes theek ho gaya aisa bilkul bhi nahi hai meri knowledge me kyonki 16 saal hamein bhi ho gaye lete hue yog yog parshikshak lekin agar koi bhi bimari pehle hi aap yog karenge toh aap kisi bhi bimari se bache reh sakte hain lekin pisiodi ke liye aisa hai ki 1 mahilaon ki bimari hai ek kiye monthly sthiti yah hai toh jaha tak ek hi hai simple bimari hai pisiodi itna bada koi case nahi ho jata hai toh isko agar aap proper kisi parshikshak ke dekhrekh me proper syllabus me agar aap karenge toh iski bahut zyada theek ho jaane ki yah hai shak karta hai matlab yah ho sakta hai ki theek ho jaaye kyonki mere aapke paas do teen aise student hai jinka pisiodi paper padha hai lekin usme phir syllabus proper hona chahiye aur aapko phir uska dhyan bhi rakhna chahiye lekin yoga ke saath aap ek acche gaynik ko bhi dikhate jaaye jisse aapka pisiodi jo hai proper puri tarah se theek ho sake dhanyavad

नमस्कार आपका प्रश्न योग करने से पीसीओडी पूरी तरह से ठीक हो जाता है या नहीं तो योग करने से

Romanized Version
Likes  46  Dislikes    views  515
WhatsApp_icon
user

Manmohan Bhutada

Founder & Director - Yog Prayog

1:14
Play

Likes  268  Dislikes    views  2300
WhatsApp_icon
user

Kshama dutt

Yoga Trainer

1:58
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

एक तो आपको कोई भी दिक्कत है मैं पूरी तरह ठीक हो जाए इसीलिए आपको निरंतर अपने आप करना पड़ेगा भुजंगासन शलभासन का अभ्यास करना चाहिए कितनी आसानी से आप की पहली किरण के साथ होती है और आपके शरीर में चूत ही समस्या होती यूट्रस के प्रति दिक्कत है दूर हो जाती है इसके अलावा अपने आप पर भी ध्यान दें और अपने जीवन में बहुत कम से कम प्रयोग करें आप इसका प्रयोग करें आपकी समस्या पूरी तरह दूर हो जाएगी इसके अलावा कपालभाति का अभ्यास करें कपालभाति करने से आपके लिए प्रसव पूर्व और प्राणायाम का अभ्यास

ek toh aapko koi bhi dikkat hai main puri tarah theek ho jaaye isliye aapko nirantar apne aap karna padega bhujangasan shalabhasan ka abhyas karna chahiye kitni aasani se aap ki pehli kiran ke saath hoti hai aur aapke sharir me chut hi samasya hoti yutras ke prati dikkat hai dur ho jaati hai iske alava apne aap par bhi dhyan de aur apne jeevan me bahut kam se kam prayog kare aap iska prayog kare aapki samasya puri tarah dur ho jayegi iske alava kapalbhati ka abhyas kare kapalbhati karne se aapke liye prasav purv aur pranayaam ka abhyas

एक तो आपको कोई भी दिक्कत है मैं पूरी तरह ठीक हो जाए इसीलिए आपको निरंतर अपने आप करना पड़ेग

Romanized Version
Likes  103  Dislikes    views  2962
WhatsApp_icon
user

Anil Ramola

Yoga Instructor | Engineer

1:00
Play

Likes  561  Dislikes    views  5444
WhatsApp_icon
user

Jyoti Garg

Yoga Trainer | Dietitian

0:32
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

क्या योग करने से 30 मई तक हो सकता है तो हो सकता है बॉडी को टाइम देना है प्रॉपर डाइट

kya yog karne se 30 may tak ho sakta hai toh ho sakta hai body ko time dena hai proper diet

क्या योग करने से 30 मई तक हो सकता है तो हो सकता है बॉडी को टाइम देना है प्रॉपर डाइट

Romanized Version
Likes  129  Dislikes    views  3351
WhatsApp_icon
user

S Bajpay

Yoga Expert | Beautician & Gharelu Nuskhe Expert

0:46
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

शर्मा जी की आपका पता क्या योग करने से शिवपुरी तक हो सकता है उसके लिए आपको आयुर्वेदिक संस्था में जाना होगा जहां पर यह खुले हुए हैं वहां पर जाकर आप इसकी दवा लेने के लिए आपको काफी होंगे और जो है आपको यह मैंने पढ़ा भी था वहीं पर थी उसके योग करने से अब कितनी सीटें सहयोग है और जो है लेकिन उसके साथ में दवा लेने हो आप किसी आयुर्वेदिक डॉक्टर से संपर्क करें और उससे जो योग सिखाते उनसे भी संपर्क या दोनों आपका तो आप ही सही हो जाएगी आपका दिन शुभ हो और आपका वजन ज्यादा है तो भजन आप अवश्य करें

sharma ji ki aapka pata kya yog karne se shivpuri tak ho sakta hai uske liye aapko ayurvedic sanstha me jana hoga jaha par yah khule hue hain wahan par jaakar aap iski dawa lene ke liye aapko kaafi honge aur jo hai aapko yah maine padha bhi tha wahi par thi uske yog karne se ab kitni seaten sahyog hai aur jo hai lekin uske saath me dawa lene ho aap kisi ayurvedic doctor se sampark kare aur usse jo yog sikhaate unse bhi sampark ya dono aapka toh aap hi sahi ho jayegi aapka din shubha ho aur aapka wajan zyada hai toh bhajan aap avashya kare

शर्मा जी की आपका पता क्या योग करने से शिवपुरी तक हो सकता है उसके लिए आपको आयुर्वेदिक संस्थ

Romanized Version
Likes  529  Dislikes    views  4175
WhatsApp_icon
user
1:50
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

हरि ओम नमस्कार प्रश्न में क्या योग करने से पीसीओडी पूरी तरह से ठीक हो सकता है पर मेरा है हां पूरी तरह से ठीक हो सकता है कि और हो सकता है डिपेंड करता है आप कैसा अभ्यास करते पीसीओडी छात्र बात है पॉलीसिस्टिक ओवरी डिजीज जो हमारी ओबरी हमारे रीप्रोडक्टिव सिस्टम से रिलेटेड शादी है वह कहीं ना कहीं हमारी मानसिकता से जुड़ी होती हमारी जीवनशैली से जुड़ी होती किस संशोधन में अकाउंट हो जाती है क्योंकि यदि हमारे खान-पान में बहुत ही ज्यादा और पदार्थों का सेवन कर रहे हैं तो यह सारी परेशानियों में खेलते हैं और हमारी जो ओवरीज है उसके फंक्शनिंग में बाधा उत्पन्न करती है तो यदि हम अपनी ओवरी का फंक्शन और अपनी पीसीओडी प्योर करना चाहते हैं तो हमें योग से निश्चित रूप से जुड़ जाना चाहिए उपयोग में ही वह निदान हैं जो हमारी समझ से बाहर निकाल कर के अपनी समस्या का निदान कर सकते हो पूरी तरह से बाहर निकल सकते सब प्राणायाम का अभ्यास करते हैं पूर्ण रूप से तो वह आपको निश्चित रूप से बहुत ज्यादा लिख देता है और जितने भी हमारे प्रजनन तंत्र से संबंधित रोग है ध्यान दिया है उनको खत्म करने में मेरी मदद करता है तो आप निश्चित रूप से योग से जुड़ सकते हैं पूरी तरह से ठीक हो जाएगा हरि ओम धन्यवाद

hari om namaskar prashna me kya yog karne se pisiodi puri tarah se theek ho sakta hai par mera hai haan puri tarah se theek ho sakta hai ki aur ho sakta hai depend karta hai aap kaisa abhyas karte pisiodi chatra baat hai polycystic ovary disease jo hamari obari hamare riprodaktiv system se related shaadi hai vaah kahin na kahin hamari mansikta se judi hoti hamari jeevan shaili se judi hoti kis sanshodhan me account ho jaati hai kyonki yadi hamare khan pan me bahut hi zyada aur padarthon ka seven kar rahe hain toh yah saari pareshaniyo me khelte hain aur hamari jo ovaries hai uske functioning me badha utpann karti hai toh yadi hum apni ovary ka function aur apni pisiodi pure karna chahte hain toh hamein yog se nishchit roop se jud jana chahiye upyog me hi vaah nidan hain jo hamari samajh se bahar nikaal kar ke apni samasya ka nidan kar sakte ho puri tarah se bahar nikal sakte sab pranayaam ka abhyas karte hain purn roop se toh vaah aapko nishchit roop se bahut zyada likh deta hai aur jitne bhi hamare prajanan tantra se sambandhit rog hai dhyan diya hai unko khatam karne me meri madad karta hai toh aap nishchit roop se yog se jud sakte hain puri tarah se theek ho jaega hari om dhanyavad

हरि ओम नमस्कार प्रश्न में क्या योग करने से पीसीओडी पूरी तरह से ठीक हो सकता है पर मेरा है ह

Romanized Version
Likes  13  Dislikes    views  205
WhatsApp_icon
user

Dr.Bharti Tonger

Yoga Instructor

0:18
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

जी हां योग करने से पीसीओडी पूरी तरह खत्म हो जाता है इसमें आप हलासन सर्वांगासन धनुरासन कंधरासन करें अनुलोम विलोम प्राणायाम करें करें

ji haan yog karne se pisiodi puri tarah khatam ho jata hai isme aap halasan sarvangasan dhanurasan kandharasan kare anulom vilom pranayaam kare kare

जी हां योग करने से पीसीओडी पूरी तरह खत्म हो जाता है इसमें आप हलासन सर्वांगासन धनुरासन कंधर

Romanized Version
Likes  82  Dislikes    views  438
WhatsApp_icon
user

Girijakant Singh

Founder/ President Yog Bharati Foundation Trust

0:34
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

आपका प्रश्न है कि क्या योग करने से पीसीओडी पूरी तरह से ठीक हो सकता है तो इस प्रश्न का जवाब मैं किसी और को भी देख चुका हूं बिल्कुल ठीक हो सकता है बिल्कुल आप मेरे से योगाभ्यास करें अगर आप नहीं करते हैं तो आपका यह पता पता

aapka prashna hai ki kya yog karne se pisiodi puri tarah se theek ho sakta hai toh is prashna ka jawab main kisi aur ko bhi dekh chuka hoon bilkul theek ho sakta hai bilkul aap mere se yogabhayas kare agar aap nahi karte hain toh aapka yah pata pata

आपका प्रश्न है कि क्या योग करने से पीसीओडी पूरी तरह से ठीक हो सकता है तो इस प्रश्न का जवाब

Romanized Version
Likes  98  Dislikes    views  2053
WhatsApp_icon
play
user

Yog Guru Amit Agrawal Rishiyog

Yoga Acupressure Expert

0:29

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

आपका प्रश्न है क्या योग करने से पीसीओडी पूरी तरह से ठीक हो सकता है जी हां बिल्कुल अगर थोड़ा सा आहार में चेंज लाया जाए और दिनचर्या में योग को शामिल किया जाए एक सिस्टमैटिक तरीके से इसी के निर्देशन में योगाभ्यास जो खास पीसीओडी में कराए जाते हैं उन अभ्यास ओं को सीखा जाए और प्राणायाम और ध्यान किया जाए तो आप पूरी तरह सौ परसेंट नियंत्रण पा सकते हैं हरि ओम

aapka prashna hai kya yog karne se pisiodi puri tarah se theek ho sakta hai ji haan bilkul agar thoda sa aahaar mein change laya jaaye aur dincharya mein yog ko shaamil kiya jaaye ek systematic tarike se isi ke nirdeshan mein yogabhayas jo khaas pisiodi mein karae jaate hain un abhyas on ko seekha jaaye aur pranayaam aur dhyan kiya jaaye toh aap puri tarah sau percent niyantran paa sakte hain hari om

आपका प्रश्न है क्या योग करने से पीसीओडी पूरी तरह से ठीक हो सकता है जी हां बिल्कुल अगर थोड़

Romanized Version
Likes  123  Dislikes    views  1756
WhatsApp_icon
user

Dr Asha B Jain

Dip in Naturopathy, Yoga therapist Pranic healer, Counselor

0:59
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

योग करने से पीसीओडी पूरी तरह से ठीक हो सकता है अगर आप प्रतिदिन रेगुलेटर के साथ योग करें जिसमें आप एक्चुअली में सभी आसन कर सकते हैं कोई भी इसमें ऐसा नहीं है कि आपको यह नहीं करना है वह नहीं करना है सभी कुछ कर सकते हैं और पर आप अगर सूर्य नमस्कार को उसमें शामिल करेंगे तो आपको जल्दी धीरे-धीरे सूर्य नमस्कार के काउंटिंग बढ़ाते अच्छे से आप प्रैक्टिस करेंगे पूरे मन से आपकी प्रॉब्लम दूर हो जाएगी प्राणायाम भी साथ में शंकर मैडिटेशन करें तो योग के द्वारा आप कौन ठीक हो जाएगा क्योंकि एक तरह की बहुत बड़ी प्रॉब्लम नहीं है बहुत जो कम लोग एक्सरसाइज करते हैं उन लोगों की प्रॉब्लम है तो आप इसको जरूर करें जो भी लड़कियां या लेडीस एक्सरसाइज नहीं करती है बिल्कुल भी सैलरी उनको यह प्रॉब्लम हो जाती है

yog karne se pisiodi puri tarah se theek ho sakta hai agar aap pratidin regulator ke saath yog kare jisme aap actually mein sabhi aasan kar sakte hain koi bhi isme aisa nahi hai ki aapko yah nahi karna hai vaah nahi karna hai sabhi kuch kar sakte hain aur par aap agar surya namaskar ko usme shaamil karenge toh aapko jaldi dhire dhire surya namaskar ke counting badhate acche se aap practice karenge poore man se aapki problem dur ho jayegi pranayaam bhi saath mein shankar meditation kare toh yog ke dwara aap kaun theek ho jaega kyonki ek tarah ki bahut badi problem nahi hai bahut jo kam log exercise karte hain un logo ki problem hai toh aap isko zaroor kare jo bhi ladkiyan ya ladies exercise nahi karti hai bilkul bhi salary unko yah problem ho jaati hai

योग करने से पीसीओडी पूरी तरह से ठीक हो सकता है अगर आप प्रतिदिन रेगुलेटर के साथ योग करें जि

Romanized Version
Likes  150  Dislikes    views  2079
WhatsApp_icon
user

xyz

nothing

0:37
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

सहयोग करने देती और भी बहुत सारी बच्ची है लेडीस जिनको यह प्रॉब्लम थी उनमें बहुत ज्यादा आश्चर्यजनक फायदे हुए योग का पीसीडीओ में पीसीओडी में बहुत बहुत अच्छा योगदान है अगर आप यह योग करेंगे निश्चित जानिए आपका तीसरी तीसरी ऑडी पूरी तरह से ठीक हो जाएगा धन्यवाद

sahyog karne deti aur bhi bahut saree bachi hai ladies jinako yah problem thi unmen bahut zyada aashcharyajanak fayde hue yog ka PCDO mein pisiodi mein bahut bahut accha yogdan hai agar aap yah yog karenge nishchit janiye aapka teesri teesri audi puri tarah se theek ho jaega dhanyavad

सहयोग करने देती और भी बहुत सारी बच्ची है लेडीस जिनको यह प्रॉब्लम थी उनमें बहुत ज्यादा आश्च

Romanized Version
Likes  148  Dislikes    views  1857
WhatsApp_icon
user

꧁༺Dℛ.LATA PATHAK༻꧂

Founder & Director - Real Lifetime Yoga Foundation

5:29
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

नमस्कार दोस्तों मैं हूं आपकी दोस्त सबसे लता यहां पर प्रश्न है क्या योग करने से पीसीओडी पूरी तरह से ठीक हो सकता है तो दोस्तों मेरा जवाब है हां शत-प्रतिशत योग पीसीओडी की प्रॉब्लम को ठीक करने के लिए कारगर साबित हो सकता है आखिर पीसीओडी है क्या पीसीओडी लाइफस्टाइल डिसऑर्डर है दोस्तों आजकल की भागदौड़ की जिंदगी में हम बहुत ज्यादा स्ट्रेसफुल लाइफ जीने लगे हैं इस तनाव की वजह से हमारे जो हारमोंस होते हैं इसका सिपरेशन काफी बारिश होता है इस हार्मोन किस इक्वेशन को नार्मल करने में योग काफी अच्छी भूमिका निभाता है कुछ आहार विहार में परिवर्तन करके लाइफस्टाइल को सुधार के युग के कुछ आसना करके प्राणायाम करके हम इस समस्या से निजात पा सकते हैं यू के कुछ आसनों के बारे में मैं चर्चा करना चाहूंगी सबसे पहले जो बटरफ्लाई पोस्ट होता है बद्ध कोणासन कम से कम तीन से पांच बार आरंभिक अवस्था में आप करें इसके पश्चात सुप्त बद्ध कोणासन इस आसन का अभ्यास करें ताकि आपके पल विच रीजन में रक्त का प्रवाह रक्त का संचार बहुत अच्छे से हो सके तीसरा आसन उष्ट्रासन इस आसन में भी आपके पेल्विक रीजन को ओपन करने में काफी मदद मिलती है और लडका सरकुलेशन ब्लड का फ्लो बहुत अच्छा होता है शासन शासन शासन में भी आपके काफी हद तक ब्लड का फ्लो बहुत अच्छी तरीके से होता है पांचवा महत्वपूर्ण होता है प्रसारिता पाद उत्तानासन खड़े होकर अपने दोनों पैरों को फैलाकर दोनों हाथों को प्ले जाकर लंबी गहरी श्वास वर्कर सामने झुकते हुए धरती को छुए इसके अलावा आप दोनों पैरों पर भी दोनों हाथों को लगाकर स्पष्ट करके रुक सकते इसमें भी आपके पेल्विक रीजन में काफी हद तक ब्लड सरकुलेशन अच्छा होता है आपकी उंगली जाति फेलोपियन ट्यूब अच्छे से बात करना चालू कर देते हैं इस प्रसारित आप आदत आसन आसन को करते हुए आप खड़े अवस्था में शक्ति चालन भी कर सकते हैं इससे भी आपके यूट्रस की मसाज अच्छी हो जाती है यह तो हो गई आसनों की श्रृंखला इसके अलावा आप कपालभाति अनुलोम विलोम प्राणायाम यह दोनों जरूर करें इसे भी आपके यूट्रस को मजबूती मिलती है रक्त का प्रभाव रक्त का संचार काफी अच्छी मात्रा में हमारी यूट्रस को मिलता है दोस्तों दिल्ली एक सेब आप अपने भोजन में शामिल करें सिली खाने से उसके अंदर जो भी तुम्हें ऐसी कैल्शियम फाइबर फॉलिक एसिड होता है वह आपके शरीर को फायदा पहुंचाता है पपाया पपाया के पीरियड की प्रॉब्लम को रेगुलेट करने में काफी मदद करता है उसमें जो पोटेशियम कैल्शियम विटामिन सी होता है एंटी ऑक्सीडेंट होता है वह भी आपको काफी हेल्प करता है तो मैं ग्रेनेट में भी लाइकोपिन होता है लिपिड प्रोफाइल को नार्मल करने में भी काफी हेल्पफुल होता है एंटीऑक्सीडेंट भरपूर मात्रा में होता है यह भी आपके पीरियड से रिलेटेड प्रॉब्लम पीसीओडी की प्रॉब्लम को दूर करने में काफी हेल्पफुल होता है दोस्तों इस की शादी साथ आप अपने भोजन में संतुलित आहार को जरूर शामिल कीजिए ऐसा करने से आप देखेंगे कि आपकी पीसीओडी की प्रॉब्लम जो है धीरे-धीरे आपसे कोसों दूर चली जाएगी और आप बहुत ही स्वस्थ हो जाएंगे आप डॉक्टर से भी दूर रहेंगे और योग के माध्यम से नेचुरल तरीके से अपने आप को स्वस्थ बनाए रखने में अपनी खुद की हेल्प कर सकेंगे आपको मेरा सुझाव कैसा लगा अपनी फीडबैक से मुझे जरुर बताइएगा थैंक यू सो मच अपना ख्याल रखिए

namaskar doston main hoon aapki dost sabse lata yahan par prashna hai kya yog karne se pisiodi puri tarah se theek ho sakta hai toh doston mera jawab hai haan shat pratishat yog pisiodi ki problem ko theek karne ke liye kargar saabit ho sakta hai aakhir pisiodi hai kya pisiodi lifestyle disorder hai doston aajkal ki bhagdaud ki zindagi mein hum bahut zyada stressful life jeene lage hain is tanaav ki wajah se hamare jo hormones hote hain iska separation kaafi barish hota hai is hormone kis equation ko normal karne mein yog kaafi achi bhumika nibhata hai kuch aahaar vihar mein parivartan karke lifestyle ko sudhaar ke yug ke kuch asana karke pranayaam karke hum is samasya se nijat paa sakte hain you ke kuch aasanon ke bare mein main charcha karna chahungi sabse pehle jo butterfly post hota hai baddh konasan kam se kam teen se paanch baar aarambhik avastha mein aap kare iske pashchat supt baddh konasan is aasan ka abhyas kare taki aapke pal which reason mein rakt ka pravah rakt ka sanchar bahut acche se ho sake teesra aasan ushtrasan is aasan mein bhi aapke pelvic reason ko open karne mein kaafi madad milti hai aur ladka sarakuleshan blood ka flow bahut accha hota hai shasan shasan shasan mein bhi aapke kaafi had tak blood ka flow bahut achi tarike se hota hai panchava mahatvapurna hota hai prasarita pad uttanasan khade hokar apne dono pairon ko failaakar dono hathon ko play jaakar lambi gehri swas worker saamne jhukate hue dharti ko chuye iske alava aap dono pairon par bhi dono hathon ko lagakar spasht karke ruk sakte isme bhi aapke pelvic reason mein kaafi had tak blood sarakuleshan accha hota hai aapki ungli jati felopiyan tube acche se baat karna chaalu kar dete hain is prasarit aap aadat aasan aasan ko karte hue aap khade avastha mein shakti chaalan bhi kar sakte hain isse bhi aapke yutras ki Massage achi ho jaati hai yah toh ho gayi aasanon ki shrinkhala iske alava aap kapalbhati anulom vilom pranayaam yah dono zaroor kare ise bhi aapke yutras ko majbuti milti hai rakt ka prabhav rakt ka sanchar kaafi achi matra mein hamari yutras ko milta hai doston delhi ek seb aap apne bhojan mein shaamil kare silly khane se uske andar jo bhi tumhe aisi calcium fiber folic acid hota hai vaah aapke sharir ko fayda pohchta hai papaya papaya ke period ki problem ko regulate karne mein kaafi madad karta hai usme jo Potassium calcium vitamin si hota hai anti aksident hota hai vaah bhi aapko kaafi help karta hai toh main grenet mein bhi laikopin hota hai lipid profile ko normal karne mein bhi kaafi helpful hota hai Antioxidant bharpur matra mein hota hai yah bhi aapke period se related problem pisiodi ki problem ko dur karne mein kaafi helpful hota hai doston is ki shadi saath aap apne bhojan mein santulit aahaar ko zaroor shaamil kijiye aisa karne se aap dekhenge ki aapki pisiodi ki problem jo hai dhire dhire aapse koson dur chali jayegi aur aap bahut hi swasthya ho jaenge aap doctor se bhi dur rahenge aur yog ke madhyam se natural tarike se apne aap ko swasthya banaye rakhne mein apni khud ki help kar sakenge aapko mera sujhaav kaisa laga apni feedback se mujhe zaroor bataiega thank you so match apna khayal rakhiye

नमस्कार दोस्तों मैं हूं आपकी दोस्त सबसे लता यहां पर प्रश्न है क्या योग करने से पीसीओडी पूर

Romanized Version
Likes  137  Dislikes    views  1696
WhatsApp_icon
user

Yog Guru Gyan Ranjan Maharaj

Founder & Director - Kashyap Yogpith

2:30
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

आपका क्वेश्चन है क्या योगा करने से पीसीओडी पूरी तरह ठीक हो जाएगा तो फिर पुनः में बताना चाहूंगा अभी अभी जस्ट ए क्वेश्चन इसी पर आया था तो देखिए पीसीओडी मने मेरा मानना है कि बीमारी तो है ही है जो कि अधिकतर महिलाओं में या लेडीस समुदाय में ज्यादा पाया जाता है यह एक तरह की मस्तिष्क से रिलेटेड है बीमारी से खा सकते हैं और आपको मैं बताना चाहूंगा कि आप तो बिल्कुल अपने मस्तिष्क को तनाव मुक्त रखें और योग के अंतर्गत आने वाले परिणाम और कुछ आसान है जैसे ही कर सकते हैं तो सर्वांगासन हो रहा प्रशासन कर सकते हैं यह हार्मोन डिसऑर्डर हार्मोन से रिलेटेड यह बीमारी है इसमें कोई घबराने की बात नहीं है योग से ठीक हो जाता है और विशेष तौर से आपको प्रणाम गर्मी टेशन करें और बिल्कुल खुली हवा में और प्रशांत के वातावरण का ज्यादा प्रयोग करें और प्राणायाम और ध्यान से ज्यादा जुड़े और अपने आप को थोड़ा सा फैक्टर अगर निकले नीट एंड क्लीन रखा कीजिए और गर्म पानी का ज्यादा सेवन कीजिए राशन का प्रयोग ज्यादा करें बिल्कुल ठीक हो जाएगा उसके अंतर्गत ओम की ध्वनि और उनके बने और ब्राह्मण बिल्कुल कब आने की बात नहीं है यह बीमारी आपका क्यों हो जाएगा धन्यवाद

aapka question hai kya yoga karne se pisiodi puri tarah theek ho jaega toh phir punh mein bataana chahunga abhi abhi just a question isi par aaya tha toh dekhiye pisiodi mane mera manana hai ki bimari toh hai hi hai jo ki adhiktar mahilaon mein ya ladies samuday mein zyada paya jata hai yah ek tarah ki mastishk se related hai bimari se kha sakte hain aur aapko main bataana chahunga ki aap toh bilkul apne mastishk ko tanaav mukt rakhen aur yog ke antargat aane waale parinam aur kuch aasaan hai jaise hi kar sakte hain toh sarvangasan ho raha prashasan kar sakte hain yah hormone disorder hormone se related yah bimari hai isme koi ghabrane ki baat nahi hai yog se theek ho jata hai aur vishesh taur se aapko pranam garmi teshan kare aur bilkul khuli hawa mein aur prashant ke vatavaran ka zyada prayog kare aur pranayaam aur dhyan se zyada jude aur apne aap ko thoda sa factor agar nikle neet and clean rakha kijiye aur garam paani ka zyada seven kijiye raashan ka prayog zyada kare bilkul theek ho jaega uske antargat om ki dhwani aur unke bane aur brahman bilkul kab aane ki baat nahi hai yah bimari aapka kyon ho jaega dhanyavad

आपका क्वेश्चन है क्या योगा करने से पीसीओडी पूरी तरह ठीक हो जाएगा तो फिर पुनः में बताना चा

Romanized Version
Likes  15  Dislikes    views  1192
WhatsApp_icon
qIcon
ask
QuestionsProfiles

Vokal App bridges the knowledge gap in India in Indian languages by getting the best minds to answer questions of the common man. The Vokal App is available in 11 Indian languages. Users ask questions on 100s of topics related to love, life, career, politics, religion, sports, personal care etc. We have 1000s of experts from different walks of life answering questions on the Vokal App. People can also ask questions directly to experts apart from posting a question to the entire answering community. If you are an expert or are great at something, we invite you to join this knowledge sharing revolution and help India grow. Download the Vokal App!