कुछ विशेषज्ञों का कहना है कि "योग एक चिकित्सा नहीं है", क्या कोई समझा सकता है कि यह एक चिकित्सा क्यों नहीं है?...


user
2:10
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

लेकिन सबकी अपनी अपनी विशेषज्ञता है सबका अपना अपना सोच है कुछ लोग विशेषज्ञ ईर्ष्या बस भी बन जाते हैं जैसे एलोपेड को मानने वाला जब आयुर्वेद या प्राकृतिक चिकित्सा के बारे में बात करेगा तो अपने आप को विशेषज्ञ बताकर के आयुर्वेद और प्राकृतिक चिकित्सा का अवमूल्यन करेगा अर्थात सही चिकित्सा व एलोपैथिक को ही बताएगा तो निश्चित ही है कि जो विशेषज्ञ है वह किस पक्ष को लेकर के बात कर रहा है यह महत्वपूर्ण है और यदि वायु के पक्ष को लेकर के बात नहीं कर रहा है तो वही लोग कुछ करता नहीं कहेगा वस्त्रों में योग चिकित्सा है और चिकित्सा सर्व समर्थ चिकित्सा सभी रोगों की पूर्ण चिकित्सा योग के साथ आयुर्वेद और योग के साथ प्राकृतिक चिकित्सा योग प्रदीपिका में भी आप देखिए तो इसमें आयुर्वेद के उपयोग का साथ में वर्णन किया गया है तो निश्चित ही है कि योग चिकित्सा के साथ एक दो बातें आवश्यक है उनका भी ध्यान रखना आपको आवश्यक होता है तो तभी उसकी पूर्णता है जैसे एलोपैथी चिकित्सा में पूर्ण चिकित्सा की मशीनरी जांच जब तक आप नहीं करेंगे तब तक आप के चिकित्सा शुरू नहीं होगी गंभीर रोगों में तो इसलिए आप सिर्फ एलोपैथिक दवाइयों को दे देना खिला देना यह चूहे पूर्व चिकित्सा नहीं है तो इसी तरह सिर्फ योगासनों को कर लेना गंभीर रोगों में पूर्व चिकित्सा नहीं है अर्ध चिकित्सा समझ सकते हैं इसके साथ में प्राकृतिक चिकित्सा और आयुर्वेद नया मिल करके आपको चिकित्सा लेनी पड़ती है सही जीवन शैली निभाते हुए योग चिकित्सा का पालन करना पड़ता है और जो ऐसा कहते हैं कि योगिक चिकित्सा नहीं है तो वह निश्चित ही है कि योग के प्रति पथपाती व्यक्ति हैं विशेषज्ञ जरूर है लेकिन योग के प्रति पक्षपाती हैं इसलिए वो ऐसा कहते हैं

lekin sabki apni apni visheshagyata hai sabka apna apna soch hai kuch log visheshagya irshya bus bhi ban jaate hain jaise eloped ko manne vala jab ayurveda ya prakirtik chikitsa ke bare me baat karega toh apne aap ko visheshagya batakar ke ayurveda aur prakirtik chikitsa ka avamulyan karega arthat sahi chikitsa va allopathic ko hi batayega toh nishchit hi hai ki jo visheshagya hai vaah kis paksh ko lekar ke baat kar raha hai yah mahatvapurna hai aur yadi vayu ke paksh ko lekar ke baat nahi kar raha hai toh wahi log kuch karta nahi kahega vastron me yog chikitsa hai aur chikitsa surv samarth chikitsa sabhi rogo ki purn chikitsa yog ke saath ayurveda aur yog ke saath prakirtik chikitsa yog pradipika me bhi aap dekhiye toh isme ayurveda ke upyog ka saath me varnan kiya gaya hai toh nishchit hi hai ki yog chikitsa ke saath ek do batein aavashyak hai unka bhi dhyan rakhna aapko aavashyak hota hai toh tabhi uski purnata hai jaise allopathy chikitsa me purn chikitsa ki machinery jaanch jab tak aap nahi karenge tab tak aap ke chikitsa shuru nahi hogi gambhir rogo me toh isliye aap sirf allopathic dawaiyo ko de dena khila dena yah chuhe purv chikitsa nahi hai toh isi tarah sirf yogasanon ko kar lena gambhir rogo me purv chikitsa nahi hai ardh chikitsa samajh sakte hain iske saath me prakirtik chikitsa aur ayurveda naya mil karke aapko chikitsa leni padti hai sahi jeevan shaili nibhate hue yog chikitsa ka palan karna padta hai aur jo aisa kehte hain ki yogic chikitsa nahi hai toh vaah nishchit hi hai ki yog ke prati pathpati vyakti hain visheshagya zaroor hai lekin yog ke prati pakshapaati hain isliye vo aisa kehte hain

लेकिन सबकी अपनी अपनी विशेषज्ञता है सबका अपना अपना सोच है कुछ लोग विशेषज्ञ ईर्ष्या बस भी बन

Romanized Version
Likes  46  Dislikes    views  631
KooApp_icon
WhatsApp_icon
11 जवाब
no img
qIcon
ask
ऐसे और सवाल
Loading...
Loading...
qIcon
ask
QuestionsProfiles

Vokal App bridges the knowledge gap in India in Indian languages by getting the best minds to answer questions of the common man. The Vokal App is available in 11 Indian languages. Users ask questions on 100s of topics related to love, life, career, politics, religion, sports, personal care etc. We have 1000s of experts from different walks of life answering questions on the Vokal App. People can also ask questions directly to experts apart from posting a question to the entire answering community. If you are an expert or are great at something, we invite you to join this knowledge sharing revolution and help India grow. Download the Vokal App!