क्या हमारे पास योग के माध्यम से पार्किंसंस रोग का प्रबंधन करने का तरीका है?...


user
2:20
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

हरि ओम नमस्कार हमारे पास करने का तरीका होता है वह कहीं ना कहीं हमारे लवर सिस्टम से कनेक्ट होने के कारण हमारा रोकता है और साथ ही साथ लंबे समय से अनियमित जीवनशैली हमारी हो रही है उससे भी तो फिर उत्पन्न होने की कई अधिकता होती है तो इसका प्रबंधन इस रोग को ठीक करने का प्रबंध हम निश्चित रूप से योग से कर सकते हैं क्योंकि जितनी भी असाध्य रोग होते हैं जिनका मेडिसिन से बहुत लंबा इलाज चलता है तुम लोग तो निश्चित रूप से उपयोग कर सकते हैं आ तो पार्किंसन किसी के लिए प्राणायाम का अभ्यास कर सकते हैं क्योंकि यह कही ना कोई वस्तु से कनेक्टेड हमारे मानव से कनेक्ट होते हैं संबंधित रोग होते हैं उनको प्राणायाम के द्वारा ही ठीक कर सकते हैं उसको भी ऐड कर सकते हैं वह भी हमारे लिए काफी लाभदायक सिद्ध होता है तो जिससे हम तान पादासन भी कर सकते हैं यह भी हमारे लिए बहुत अच्छा सिंगर कौन पादा सुन कर सकते हैं सूर्य नमस्कार का अभ्यास कर सकते हैं कुछ चरण और साथ ही साथ प्राणायाम में आप नाड़ी शोधन प्राणायाम शुरू करेंगे पहले अपनी बिल्डिंग को नार्मल करेंगे नाड़ी शोधन प्राणायाम का अभ्यास करेंगे अपनी क्षमता अनुसार यदि आप 5 मिनट कंफर्टेबल कि कल क्या कर सकते हैं आप हम कर सकते हैं और ओमकार का उच्चारण नियमित रूप से इनका यदि आप अभ्यास करते हैं एक अपनी जीवनशैली में इन को नियमित रूप से लेकर आते हैं तो निश्चित रूप से आप ग्रुप से बाहर निकल सकते हैं काफी लाभ मिल सकता है और अपने रूप से निजात पा सकते हैं धन्यवाद

hari om namaskar hamare paas karne ka tarika hota hai vaah kahin na kahin hamare lover system se connect hone ke karan hamara rokta hai aur saath hi saath lambe samay se aniyamit jeevan shaili hamari ho rahi hai usse bhi toh phir utpann hone ki kai adhikata hoti hai toh iska prabandhan is rog ko theek karne ka prabandh hum nishchit roop se yog se kar sakte hain kyonki jitni bhi asadhya rog hote hain jinka medicine se bahut lamba ilaj chalta hai tum log toh nishchit roop se upyog kar sakte hain aa toh Parkinson's kisi ke liye pranayaam ka abhyas kar sakte hain kyonki yah kahi na koi vastu se connected hamare manav se connect hote hain sambandhit rog hote hain unko pranayaam ke dwara hi theek kar sakte hain usko bhi aid kar sakte hain vaah bhi hamare liye kaafi labhdayak siddh hota hai toh jisse hum taan padasan bhi kar sakte hain yah bhi hamare liye bahut accha singer kaun pada sun kar sakte hain surya namaskar ka abhyas kar sakte hain kuch charan aur saath hi saath pranayaam me aap naadi sodhan pranayaam shuru karenge pehle apni building ko normal karenge naadi sodhan pranayaam ka abhyas karenge apni kshamta anusaar yadi aap 5 minute Comfortable ki kal kya kar sakte hain aap hum kar sakte hain aur omkar ka ucharan niyamit roop se inka yadi aap abhyas karte hain ek apni jeevan shaili me in ko niyamit roop se lekar aate hain toh nishchit roop se aap group se bahar nikal sakte hain kaafi labh mil sakta hai aur apne roop se nijat paa sakte hain dhanyavad

हरि ओम नमस्कार हमारे पास करने का तरीका होता है वह कहीं ना कहीं हमारे लवर सिस्टम से कनेक्ट

Romanized Version
Likes  11  Dislikes    views  145
WhatsApp_icon
10 जवाब
qIcon
ask
ऐसे और सवाल
Loading...
Loading...
user
2:16
Play

Likes  271  Dislikes    views  3094
WhatsApp_icon
user

Dr.Swatantra Sharma

Yoga Expert & Consultant

0:18
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

बिल्कुल योग के द्वारा पार्किंसन रोग का प्रबंधन किया जा सकता है योग के कई आसन और प्राणायाम पार्किंसन रोग को दूर करने में लाभकारी है और उसके अच्छे परिणाम कुशल योग विशेषज्ञ द्वारा इन आसनों को सीखा जा सकता है

bilkul yog ke dwara Parkinson's rog ka prabandhan kiya ja sakta hai yog ke kai aasan aur pranayaam Parkinson's rog ko dur karne mein labhakari hai aur uske acche parinam kushal yog visheshagya dwara in aasanon ko seekha ja sakta hai

बिल्कुल योग के द्वारा पार्किंसन रोग का प्रबंधन किया जा सकता है योग के कई आसन और प्राणायाम

Romanized Version
Likes  91  Dislikes    views  1138
WhatsApp_icon
user

Aparesh

Yoga Instructor

0:45
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

पार्किंसन एक न्यूरोलॉजिकल डिसऑर्डर है और यह एक प्रोग्रेसिव दिस इज है इस दिस इज में आपके हाथ पैर कांपने लगते हैं आप ढंग से चल भी नहीं पाते हैं कोई चीज को उठा भी नहीं पाते हैं आपके बॉडी में पेन होना चालू हो जाता है और साथ ही आपकी बॉडी स्टिक होने लगती है और यदि आप योगा करते हैं तो आप की मसल्स फ्लैक्सिबल होने लगते हैं और जो जहां पर स्पीचलेस है वहां वह मसल्स लूज़ हो जाता ईट मसल्स आपके न्यूज़ होने लगते हैं और साथ ही साथ आपके मसल्स की ताकत भी बढ़ने लगती है पर किशन के लिए योगा सबसे बेस्ट दवाई है

Parkinson's ek nyurolajikal disorder hai aur yah ek progressive this is hai is this is mein aapke hath pair kaapne lagte hain aap dhang se chal bhi nahi paate hain koi cheez ko utha bhi nahi paate hain aapke body mein pen hona chaalu ho jata hai aur saath hi aapki body stick hone lagti hai aur yadi aap yoga karte hain toh aap ki muscles flaiksibal hone lagte hain aur jo jaha par speechless hai wahan vaah muscles lose ho jata eat muscles aapke news hone lagte hain aur saath hi saath aapke muscles ki takat bhi badhne lagti hai par kishan ke liye yoga sabse best dawai hai

पार्किंसन एक न्यूरोलॉजिकल डिसऑर्डर है और यह एक प्रोग्रेसिव दिस इज है इस दिस इज में आपके हा

Romanized Version
Likes  44  Dislikes    views  563
WhatsApp_icon
user

Anil pareek

Yoga Instructor

0:43
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

मैं अनिल पारीक अजमेर से योगा योग एंड माइन ट्रेनर हम लोग कहते हैं पार्किंसन का इलाज हो सकता है हाथों के सूक्ष्म राम के द्वारा पार्किंसन रोग का रूपए मैनेजमेंट चल सकता है साथ ही भ्रमरी प्राणायाम जिसने हमारे नियमों से काम होता है अगर हम प्रॉपर तरीके से ब्रह्म जी को सुबह-शाम करें हमारे को प्राचीन फेसबुक पार्किंसन रोग की संभावना नहीं के बराबर होती है साथ में आप अगर हाथों के सूक्ष्म यहां पर काम करेंगे तो बहुत फायदा मिलेगा आपको अगर बहुत इसके बारे में और प्रॉपर वीडियो देखना है या कुछ और चाहे आप मुझे बता सकते हैं मैं उसके लिए भी आपको वीडियो पूछ कर सकता हूं धन्यवाद

main anil parik ajmer se yoga yog and mine trainer hum log kehte hain Parkinson's ka ilaj ho sakta hai hathon ke sukshm ram ke dwara Parkinson's rog ka rupee management chal sakta hai saath hi bhramari pranayaam jisne hamare niyamon se kaam hota hai agar hum proper tarike se Brahma ji ko subah shaam kare hamare ko prachin facebook Parkinson's rog ki sambhavna nahi ke barabar hoti hai saath mein aap agar hathon ke sukshm yahan par kaam karenge toh bahut fayda milega aapko agar bahut iske bare mein aur proper video dekhna hai ya kuch aur chahen aap mujhe bata sakte hain main uske liye bhi aapko video puch kar sakta hoon dhanyavad

मैं अनिल पारीक अजमेर से योगा योग एंड माइन ट्रेनर हम लोग कहते हैं पार्किंसन का इलाज हो सकता

Romanized Version
Likes  15  Dislikes    views  435
WhatsApp_icon
play
user

Dr.Pavan Mishra

Naturopath Doctor | Physician

0:25

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

देखिए सहयोग का जो मतलब होता है आत्मा और परमात्मा का मिलन और जहां आत्मा परमात्मा का मिलन होता है वहां पर पार्किंसंस जैसे लोग तो क्या कोई भी रोक टिक नहीं पाते वह सोता ही चले जाते हैं ऐसी कोई दिक्कत नहीं है आप थोड़ा सा व्यवस्थित तरीके से अगर योग करते हैं तो पार केशंस या कोई भी रोग है वह सोता ही चले जाएंगे इसमें कोई दिक्कत की बात

dekhiye sahyog ka jo matlab hota hai aatma aur paramatma ka milan aur jaha aatma paramatma ka milan hota hai wahan par parkinsans jaise log toh kya koi bhi rok tick nahi paate vaah sota hi chale jaate hain aisi koi dikkat nahi hai aap thoda sa vyavasthit tarike se agar yog karte hain toh par keshans ya koi bhi rog hai vaah sota hi chale jaenge isme koi dikkat ki baat

देखिए सहयोग का जो मतलब होता है आत्मा और परमात्मा का मिलन और जहां आत्मा परमात्मा का मिलन हो

Romanized Version
Likes  123  Dislikes    views  1772
WhatsApp_icon
user

Yogi Vinit

Yogi , Astrologer , Vastushastra Expert, Reiki Healing , Crystal Healing , Meditation Expert , Bach Flower Therapy Specialist

0:37
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

नमस्कार अपने पार्किंसन के बारे में पूछा है अगर आपके पहचान वालों में किसी को यह है तो इसका मेडिकल रिपोर्ट पैथोलॉजी रिपोर्ट सब मुझे लगेंगे तो आपको मैसेजेस कर सकता हूं इसमें हम कौन से आसन पद्धति कर सकते हैं मैं मेडिकल योगा थेरेपी पद्धति लेता हूं जिसे वाईजक योग्य कहते हैं जिसमें रूप और बेल्ट थेरेपी यूज होती है तो इसमें हम काफी अच्छा ट्रीटमेंट पेशेंट को दे सकते हैं अगर आपको इंटरेस्ट है तो मुझे सब रिपोर्ट रखेंगे तो मैं आपको बता पाऊंगा कि मैं कितने परसेंट तक आपको इलाज दे सकता हूं थैंक यू धन्यवाद

namaskar apne Parkinson's ke bare mein poocha hai agar aapke pehchaan walon mein kisi ko yah hai toh iska medical report pathology report sab mujhe lagenge toh aapko messages kar sakta hoon isme hum kaun se aasan paddhatee kar sakte hain main medical yoga therapy paddhatee leta hoon jise vaijak yogya kehte hain jisme roop aur belt therapy use hoti hai toh isme hum kaafi accha treatment patient ko de sakte hain agar aapko interest hai toh mujhe sab report rakhenge toh main aapko bata paunga ki main kitne percent tak aapko ilaj de sakta hoon thank you dhanyavad

नमस्कार अपने पार्किंसन के बारे में पूछा है अगर आपके पहचान वालों में किसी को यह है तो इसका

Romanized Version
Likes  11  Dislikes    views  157
WhatsApp_icon
user

Girijakant Singh

Founder/ President Yog Bharati Foundation Trust

0:53
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

यह अभी पुनः मेरे पास यह प्रश्न आया है क्या हमारे पास योग के माध्यम से पार किशन स्वरूप के प्रबंधन का तरीका है जी हां बिल्कुल तरीका है और यह कृत्य से संबंधित है और मेडिकल साइंस में अभी कोई स्थाई स्थाई प्रबंध नहीं है मेडिकल साइंस में लगातार चल रहे हैं प्रबंधन नहीं दे पाए माध्यम से और ध्यान बहुत ज्यादा लाभकारी है इसीलिए अगर आप नियमित रूप से इसको यह फंक्शन समस्या है अगर वह निश्चय तो यार जो है योगाभ्यास करते हैं ध्यान और प्राणायाम करते हैं तो निश्चित रूप से लाभान्वित रहते हैं और इस लोक को प्रबंधन में रहता है

yah abhi punh mere paas yah prashna aaya hai kya hamare paas yog ke madhyam se par kishan swaroop ke prabandhan ka tarika hai ji haan bilkul tarika hai aur yah kritya se sambandhit hai aur medical science mein abhi koi sthai sthai prabandh nahi hai medical science mein lagatar chal rahe hain prabandhan nahi de paye madhyam se aur dhyan bahut zyada labhakari hai isliye agar aap niyamit roop se isko yah function samasya hai agar vaah nishchay toh yaar jo hai yogabhayas karte hain dhyan aur pranayaam karte hain toh nishchit roop se labhanvit rehte hain aur is lok ko prabandhan mein rehta hai

यह अभी पुनः मेरे पास यह प्रश्न आया है क्या हमारे पास योग के माध्यम से पार किशन स्वरूप के प

Romanized Version
Likes  178  Dislikes    views  2125
WhatsApp_icon
user

Anil Ramola

Yoga Instructor | Engineer

1:15
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

तनाव पैदा होता है और हमारा जो सरकुलेशन है बॉडी का अच्छा हो जाएगी जितने भी योगेश पूछने बिल्कुल ठीक हो जाता है और आपका जो चेहरे की जिसकी नियत से आसन और कपूर शिखर जा रहे हैं अब जयपुर में है तो हमारे केंद्रित योग सेंटर के निर्माण नगर स्थित और अर्जुन की

tanaav paida hota hai aur hamara jo sarakuleshan hai body ka accha ho jayegi jitne bhi Yogesh poochne bilkul theek ho jata hai aur aapka jo chehre ki jiski niyat se aasan aur kapur shikhar ja rahe hain ab jaipur mein hai toh hamare kendrit yog center ke nirmaan nagar sthit aur arjun ki

तनाव पैदा होता है और हमारा जो सरकुलेशन है बॉडी का अच्छा हो जाएगी जितने भी योगेश पूछने बिल्

Romanized Version
Likes  180  Dislikes    views  2055
WhatsApp_icon
user

Sks

योग

1:09
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

क्या हमारे पास जॉब के माध्यम से भर्ती उसी रोग का प्रबंधन करने का तरीका है हरीश चंद्र बुक करने का तरीका तो है लेकिन बहुत ही कम लोग जानते हैं सर की दू दू को मुक्ति कैसे किया जाता है इसलिए किसी और के प्रकार और किसी रोग विशेषज्ञ स्पेशलिस्ट जोधपुर गुरु दैनिक जागरण प्रबंधन सीखे और लोग करें कि आपका परमिशन रोगी नहीं हो जाएगा अन्यथा आपका हरिकिशन घर से चला जाएगा इसलिए सही जो ग्रुप सेक्स ना करें

kya hamare paas job ke madhyam se bharti usi rog ka prabandhan karne ka tarika hai harish chandra book karne ka tarika toh hai lekin bahut hi kam log jante hain sir ki do do ko mukti kaise kiya jata hai isliye kisi aur ke prakar aur kisi rog visheshagya specialist jodhpur guru dainik jagran prabandhan sikhe aur log kare ki aapka permission rogi nahi ho jaega anyatha aapka harikishan ghar se chala jaega isliye sahi jo group sex na kare

क्या हमारे पास जॉब के माध्यम से भर्ती उसी रोग का प्रबंधन करने का तरीका है हरीश चंद्र बुक क

Romanized Version
Likes  40  Dislikes    views  519
WhatsApp_icon
qIcon
ask
QuestionsProfiles

Vokal App bridges the knowledge gap in India in Indian languages by getting the best minds to answer questions of the common man. The Vokal App is available in 11 Indian languages. Users ask questions on 100s of topics related to love, life, career, politics, religion, sports, personal care etc. We have 1000s of experts from different walks of life answering questions on the Vokal App. People can also ask questions directly to experts apart from posting a question to the entire answering community. If you are an expert or are great at something, we invite you to join this knowledge sharing revolution and help India grow. Download the Vokal App!