उत्तानासन में मेरा सिर मेरे पैरों तक क्यों नहीं पहुंचता है मैं यह कैसे कर सकता हूँ?...


user

Rekha Agarwal

Yoga Teacher

0:39
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

हेलो फ्रेंड सा का प्रश्न है उतारा सन में मेरा सर पैरों तक क्यों नहीं पहुंच पाता यह मैं कैसे कर सकता हूं कोई भी आशंका हम करते हैं तो हमें उसका डेली प्रैक्टिस करना होता है डेली प्रैक्टिस अब आप करेंगे तभी आपका यह पॉसिबल हो पाएगा यानी की आशंका निरंतर अभ्यास करें और डेली उस पोस्ट को बनाएं धीरे-धीरे जवाब प्रैक्टिस करेंगे और लगातार अभ्यास करेंगे तभी सफल हो पाएगा आप पर पैर होता तो आराम से लग जाएगा लेकिन उसके लिए आपको इसकी जरूरत धन्यवाद

hello friend sa ka prashna hai utara san me mera sir pairon tak kyon nahi pohch pata yah main kaise kar sakta hoon koi bhi ashanka hum karte hain toh hamein uska daily practice karna hota hai daily practice ab aap karenge tabhi aapka yah possible ho payega yani ki ashanka nirantar abhyas kare aur daily us post ko banaye dhire dhire jawab practice karenge aur lagatar abhyas karenge tabhi safal ho payega aap par pair hota toh aaram se lag jaega lekin uske liye aapko iski zarurat dhanyavad

हेलो फ्रेंड सा का प्रश्न है उतारा सन में मेरा सर पैरों तक क्यों नहीं पहुंच पाता यह मैं कैस

Romanized Version
Likes  67  Dislikes    views  1332
WhatsApp_icon
12 जवाब
qIcon
ask
ऐसे और सवाल
Loading...
Loading...
user

Gyanchand Soni

Yoga Instructor.

0:31
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

शारीरिक क्षमता के अनुसार ही हमें अपने अभ्यास बढ़ाने से शारीरिक क्षमता से अधिक अभ्यास का मृत शरीर के किसी भी भाग में दर्द हो सकता है हमें योग में किसी से कम नहीं करना चाहिए और अपनी शारीरिक क्षमता को ध्यान में रखते हुए धीरे-धीरे योगा धन्यवाद

sharirik kshamta ke anusaar hi hamein apne abhyas badhane se sharirik kshamta se adhik abhyas ka mrit sharir ke kisi bhi bhag me dard ho sakta hai hamein yog me kisi se kam nahi karna chahiye aur apni sharirik kshamta ko dhyan me rakhte hue dhire dhire yoga dhanyavad

शारीरिक क्षमता के अनुसार ही हमें अपने अभ्यास बढ़ाने से शारीरिक क्षमता से अधिक अभ्यास का मृ

Romanized Version
Likes  169  Dislikes    views  2156
WhatsApp_icon
play
user

Narendar Gupta

प्राकृतिक योगाथैरिपिस्ट एवं योगा शिक्षक,फीजीयोथैरीपिस्ट

1:30

Likes  216  Dislikes    views  2473
WhatsApp_icon
user
4:06
Play

Likes  299  Dislikes    views  3326
WhatsApp_icon
user

Shailesh Kumar Dubey

Yoga Teacher , Retired Government Employee

0:41
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

प्रश्न है उत्तानासन में मेरा सिर पैरों मेरे पैरों तक क्यों नहीं पहुंचता है मैं कैसे कर सकता हूं इसका उत्तर है जो क्रिया या पांच कर रहे हैं पूरा नहीं हो रहा है उसमें घबराने की जरूरत नहीं है अभ्यास करने की आवश्यकता है अभ्यास करेंगे तो आप तो ज्ञानी हैं एक दोहा है करत करत अभ्यास के जड़मति होत सुजान तो अभ्यास कीजिए सब बिल्कुल ठीक हो जाएगा

prashna hai uttanasan me mera sir pairon mere pairon tak kyon nahi pahuchta hai main kaise kar sakta hoon iska uttar hai jo kriya ya paanch kar rahe hain pura nahi ho raha hai usme ghabrane ki zarurat nahi hai abhyas karne ki avashyakta hai abhyas karenge toh aap toh gyani hain ek doha hai karat karat abhyas ke jadmati hot sujaan toh abhyas kijiye sab bilkul theek ho jaega

प्रश्न है उत्तानासन में मेरा सिर पैरों मेरे पैरों तक क्यों नहीं पहुंचता है मैं कैसे कर सकत

Romanized Version
Likes  78  Dislikes    views  1785
WhatsApp_icon
user

Priyanka Bhatele

Yoga Trainer

0:29
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

जैसा क्या पूछ रहा है कि उत्तानासन में मेरा से पैरों तक क्यों नहीं पहुंचा पहली बात तो है कि उसे को पैरों से लगाना ही नहीं है इसकी सही टेक्निक कि आप अपने बेड पर सीधे लेट जाइए अपने दोनों हाथों को बगल से सटाकर रखिए स्वास भरी है और स्वास्थ्य के दोनों पैरों को 30 डिग्री एंगल तक उठाइए और गोल्ड कीजिए तो छोड़ते हुए वापस आइए द करेक्ट पोजिशन

jaisa kya puch raha hai ki uttanasan me mera se pairon tak kyon nahi pohcha pehli baat toh hai ki use ko pairon se lagana hi nahi hai iski sahi technique ki aap apne bed par sidhe late jaiye apne dono hathon ko bagal se satakar rakhiye swas bhari hai aur swasthya ke dono pairon ko 30 degree Angle tak uthaiye aur gold kijiye toh chodte hue wapas aaiye the correct position

जैसा क्या पूछ रहा है कि उत्तानासन में मेरा से पैरों तक क्यों नहीं पहुंचा पहली बात तो है कि

Romanized Version
Likes  23  Dislikes    views  413
WhatsApp_icon
user

Girijakant Singh

Founder/ President Yog Bharati Foundation Trust

0:59
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

मैं आपका सर नहीं लगता है तो इसके लिए आप है पहले कुछ नहीं करना है इसलिए भी सर आपका जवाब भाई जो है उसमें उसकी जो मसलत हैं वो टाइट होंगी हार्ड होगी जो आगे ऊर्जा को नहीं देती होगी और कुछ आपके पेट की चर्बी भी इसके लिए आप थोड़ा सा कुछ समय पैरों को टाइट करने के लिए मसल्स को सॉफ्ट बनाने के लिए जॉब वगैरा करें इसके बाद आप कभी अपना भी आसान होगा और इसमें जो है शुरुआत में आप थोड़ा सा पैरों में गैप देकर दौड़ाकर आप सब काम करते जाएं फिर आपका पिलाने के बाद भी शराब तक आसानी से आएगा

main aapka sir nahi lagta hai toh iske liye aap hai pehle kuch nahi karna hai isliye bhi sir aapka jawab bhai jo hai usme uski jo maslat hain vo tight hongi hard hogi jo aage urja ko nahi deti hogi aur kuch aapke pet ki charbi bhi iske liye aap thoda sa kuch samay pairon ko tight karne ke liye muscles ko soft banane ke liye job vagera kare iske baad aap kabhi apna bhi aasaan hoga aur isme jo hai shuruat mein aap thoda sa pairon mein gap dekar daudakar aap sab kaam karte jaye phir aapka pilane ke baad bhi sharab tak aasani se aayega

मैं आपका सर नहीं लगता है तो इसके लिए आप है पहले कुछ नहीं करना है इसलिए भी सर आपका जवाब भाई

Romanized Version
Likes  158  Dislikes    views  2258
WhatsApp_icon
user

Dr Asha B Jain

Dip in Naturopathy, Yoga therapist Pranic healer, Counselor

0:25
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

आपका सिर पैरों तक इसलिए नहीं पहुंचता है क्योंकि अभी आपकी स्पाइन की फ्लैक्सिबिलिटी अच्छी नहीं है आप प्रयास करते रहें धीरे-धीरे फाइंड फ्लैक्सिबल हो जाएगी तो आपका सिर वहां तक पहुंच जाएगा जहां तक आप चाहते हैं कोशिश जारी रखें

aapka sir pairon tak isliye nahi pahuchta hai kyonki abhi aapki spine ki flaiksibiliti achi nahi hai aap prayas karte rahein dhire dhire find flaiksibal ho jayegi toh aapka sir wahan tak pohch jaega jaha tak aap chahte hai koshish jaari rakhen

आपका सिर पैरों तक इसलिए नहीं पहुंचता है क्योंकि अभी आपकी स्पाइन की फ्लैक्सिबिलिटी अच्छी नह

Romanized Version
Likes  82  Dislikes    views  1924
WhatsApp_icon
user

Aparesh

Yoga Instructor

0:19
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

यदि आप उत्तानासन करने से पहले ही चोपन एक्सरसाइजेज और हंटिंग सेटिंग जैसे एक्सरसाइज करोगे तो उत्तानासन करने में आपको काफी आसानी जाएगी और धीरे-धीरे आपका सर पर कब तक हो जाएगा

yadi aap uttanasan karne se pehle hi chopan eksarasaijej aur hunting setting jaise exercise karoge toh uttanasan karne mein aapko kaafi aasani jayegi aur dhire dhire aapka sir par kab tak ho jaega

यदि आप उत्तानासन करने से पहले ही चोपन एक्सरसाइजेज और हंटिंग सेटिंग जैसे एक्सरसाइज करोगे तो

Romanized Version
Likes  41  Dislikes    views  542
WhatsApp_icon
user

Yog Guru Gyan Ranjan Maharaj

Founder & Director - Kashyap Yogpith

0:58
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

आपका क्वेश्चन है उत्तानासन उसका नाम लिखिए थोड़ा सा आप तो उस चीज को अच्छा से क्वेश्चन करेंगे तो मैं ऐसा संसार दे पाऊंगा उत्तानपादासन उसका नाम है तो वतन प्रदर्शन करने के लिए आप बोल रहे हैं कि मेरा हाथ है यानी आपकी आपका जो शरीर अलग जयपुर नहीं है वह बारंबार उस चीज को कीजिए और अपने पेट को नीट एंड क्लीन कीजिए और गर्म पानी का मदद और तदुपरांत आपको नहाने के बाद योग करेंगे तो उत्तानपादासन करने में आपको मदद मिलेगी और जहां तक मेरा मानना है कि प्रणाम करूं बदल देंगे तो अच्छा रहेगा शरीर को लचीला बनाने के लिए परिणाम भी आवश्यक है धन्यवाद

aapka question hai uttanasan uska naam likhiye thoda sa aap toh us cheez ko accha se question karenge toh main aisa sansar de paunga uttanapadasan uska naam hai toh vatan pradarshan karne ke liye aap bol rahe hain ki mera hath hai yani aapki aapka jo sharir alag jaipur nahi hai vaah barambar us cheez ko kijiye aur apne pet ko neet and clean kijiye aur garam paani ka madad aur taduprant aapko nahane ke baad yog karenge toh uttanapadasan karne mein aapko madad milegi aur jaha tak mera manana hai ki pranam karu badal denge toh accha rahega sharir ko lachila banane ke liye parinam bhi aavashyak hai dhanyavad

आपका क्वेश्चन है उत्तानासन उसका नाम लिखिए थोड़ा सा आप तो उस चीज को अच्छा से क्वेश्चन करेंग

Romanized Version
Likes  15  Dislikes    views  1065
WhatsApp_icon
play
user

xyz

nothing

0:58

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

उत्तान उत्तानासन में आपका सिर पैर तक इससे नहीं पहुंचता तो कि जो आपके घुटने के पीछे जो जंघा के पीछे जो मां सरस्वती हंस को हैंग सिंह महसूस करते हैं वह आपकी बहुत ज्यादा स्थित है जिसकी वजह से आपका सिर पैरों तक नहीं पहुंचता है आपको करना ही चाहिए अगर पैरों तक सिर को ले जाना है शुरू में आप पैरों को थोड़ा सा खाना कर कम से कम 10 से 1 फीट का डाकघर या फिर और दो शतक लगाकर नीचे झुकने की कोशिश करेंगे पैर सीधे रखकर तो हैमस्ट्रिंग मसल्स अंकल के सुनना शुरू हो जाएगी और कुछ दिनों के बाद आप पैर में जाकर अपने सिर को पैरों तक लगा सकते हैं धन्यवाद

utaan uttanasan mein aapka sir pair tak isse nahi pahuchta toh ki jo aapke ghutne ke peeche jo jangha ke peeche jo maa saraswati hans ko hang Singh mehsus karte hai vaah aapki bahut zyada sthit hai jiski wajah se aapka sir pairon tak nahi pahuchta hai aapko karna hi chahiye agar pairon tak sir ko le jana hai shuru mein aap pairon ko thoda sa khana kar kam se kam 10 se 1 feet ka dakghar ya phir aur do shatak lagakar niche jhukane ki koshish karenge pair sidhe rakhakar toh haimastring muscles uncle ke sunana shuru ho jayegi aur kuch dino ke baad aap pair mein jaakar apne sir ko pairon tak laga sakte hai dhanyavad

उत्तान उत्तानासन में आपका सिर पैर तक इससे नहीं पहुंचता तो कि जो आपके घुटने के पीछे जो जंघा

Romanized Version
Likes  118  Dislikes    views  1522
WhatsApp_icon
user

Sks

योग

0:57
Play

Likes  38  Dislikes    views  748
WhatsApp_icon
qIcon
ask
QuestionsProfiles

Vokal App bridges the knowledge gap in India in Indian languages by getting the best minds to answer questions of the common man. The Vokal App is available in 11 Indian languages. Users ask questions on 100s of topics related to love, life, career, politics, religion, sports, personal care etc. We have 1000s of experts from different walks of life answering questions on the Vokal App. People can also ask questions directly to experts apart from posting a question to the entire answering community. If you are an expert or are great at something, we invite you to join this knowledge sharing revolution and help India grow. Download the Vokal App!