दशहरे पर रावण दहन के लिए द्वारका पहुंचे मोदी - क्या आपको लगता है की पीएम शो ऑफ़ ज़्यादा करते हैं?...


user

Dr. Guddy Kumari

UPSC Coach / Ph.d

0:45
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

द्वारका पहुंचे मोदी क्या आपको लगता है कि ज्यादा करते हैं सबका अपना-अपना नजरिया होता है लेकिन अच्छी बातें जनता के बीच जा रहे हैं जनता का जनता को समझने जनता को अच्छा लग रहा है उनका नेता उनके बीच आया हुआ है साथी मोदी जी को भी शहर शहर जाकर वहां की स्थिति क्या वह देखने का मौका मिलेगा और साथ में भाग ले रहे हैं और अच्छी बात है इनका भी हो यह भी हो सकता है या आपने जो कहा वह भी हो सकता है सबका देखने का अपना नजरिया होता है

dwarka pahuche modi kya aapko lagta hai ki zyada karte hain sabka apna apna najariya hota hai lekin achi batein janta ke beech ja rahe hain janta ka janta ko samjhne janta ko accha lag raha hai unka neta unke beech aaya hua hai sathi modi ji ko bhi shehar shehar jaakar wahan ki sthiti kya vaah dekhne ka mauka milega aur saath mein bhag le rahe hain aur achi baat hai inka bhi ho yah bhi ho sakta hai ya aapne jo kaha vaah bhi ho sakta hai sabka dekhne ka apna najariya hota hai

द्वारका पहुंचे मोदी क्या आपको लगता है कि ज्यादा करते हैं सबका अपना-अपना नजरिया होता है लेक

Romanized Version
Likes  21  Dislikes    views  419
WhatsApp_icon
5 जवाब
qIcon
ask
ऐसे और सवाल
Loading...
Loading...
user

Ved prakash Mishra

Journalist Dainik jagran { Naidunia}

0:17
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

ऐसा लगता तो है पर यदि मोदी जी रावण दहन की द्वारका पहुंचे हैं तो इसमें बुराई में क्या

aisa lagta toh hai par yadi modi ji ravan dahan ki dwarka pahuche hain toh isme burayi mein kya

ऐसा लगता तो है पर यदि मोदी जी रावण दहन की द्वारका पहुंचे हैं तो इसमें बुराई में क्या

Romanized Version
Likes  38  Dislikes    views  764
WhatsApp_icon
user

Ajay Sinh Pawar

Founder & M.D. Of Radiant Group Of Industries

2:36
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

दशहरे पर रावण दान के लिए द्वारका कौन से मोदी क्या आपको लगता है कि पीएम को ज्यादा करते हैं लिखित हमारे देश में जब अलग-अलग समय में अलग-अलग पीएम आए हैं उनका अलग-अलग दृष्टिकोण उनके शासनकाल के दरमियान दा अब देख लीजिए आपको पीवी नरसिम्हा राव थे तो उनका एक अलग ही व्यक्ति तथा बोलते कम से और लोग कहते थे कि बोलेंगे प्रियंका हॉट लटक जाएगा लेकिन उन्हें कितनी बुद्धि थी और कितनी चक्र विजेता थी कि वह मनमोहन सिंह जी को ले आए और अर्थ मंत्री के रूप में उनको बैठाया और राज्यसभा में क्या सामने पेश कर उनको और मनमोहन सिंह जी ने देश के अर्थतंत्र की काया पलट कर किसी तरह से अटल बिहारी बाजपेई की एक शैली की और उनकी एक अपनी स्टाइल की उनकी सोच थी देशभक्ति की जो भावना उनके में कूट-कूट कर भरी थी वह सब की अलग अलग स्टाइल अलग अलग हो चुकी है उसी तरह मनमोहन सिंह जी के बीच अलग स्टाइल से अब उनकी सोच थी वह अलग ही तरह की थी और उन्होंने देश को कहीं आगे लेकर गए हो पूरे विश्व में जब मंदी छाई थी तब भी भारत को उन्होंने बंदी से बचाकर रखा यह से हमारे प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह जी इसी तरह इंदिरा गांधी जी की अलग से ली थी इसी तरह से नरेंद्र मोदी के वर्तमान में प्रधानमंत्री का एक भाग है एक स्टाइल है उनकी कि वह लोगों को आश्चर्यजनक रूप से पेश आते हैं वह कब क्या करेंगे कोई पाप नहीं सकता उनको जाना होगा उधर अब बोले जाएंगे कहीं यह उनका स्टाइल है उनका अप करने का तेल सत्य आपकी करते हैं जब गुजरात की जब एक मित्र थे तब भी ऐसा बहुत ही व्यक्ति से अलग अलग होता है कार्यक्रम में उतर जाते हैं और पब्लिक को मंत्रमुग्ध कर देते धन्यवाद बहुत सारी

dussehra par ravan daan ke liye dwarka kaunsi modi kya aapko lagta hai ki pm ko zyada karte hain likhit hamare desh mein jab alag alag samay mein alag alag pm aaye hain unka alag alag drishtikon unke shasankal ke darmiyaan the ab dekh lijiye aapko pv narsimha rav the toh unka ek alag hi vyakti tatha bolte kam se aur log kehte the ki bolenge priyanka hot latak jaega lekin unhe kitni buddhi thi aur kitni chakra vijeta thi ki vaah manmohan Singh ji ko le aaye aur arth mantri ke roop mein unko baithaya aur rajya sabha mein kya saamne pesh kar unko aur manmohan Singh ji ne desh ke arthatantra ki kaaya palat kar kisi tarah se atal bihari baajpayee ki ek shaili ki aur unki ek apni style ki unki soch thi deshbhakti ki jo bhavna unke mein kut kut kar bhari thi vaah sab ki alag alag style alag alag ho chuki hai usi tarah manmohan Singh ji ke beech alag style se ab unki soch thi vaah alag hi tarah ki thi aur unhone desh ko kahin aage lekar gaye ho poore vishwa mein jab mandi chhai thi tab bhi bharat ko unhone bandi se bachakar rakha yah se hamare pradhanmantri manmohan Singh ji isi tarah indira gandhi ji ki alag se li thi isi tarah se narendra modi ke vartaman mein pradhanmantri ka ek bhag hai ek style hai unki ki vaah logo ko aashcharyajanak roop se pesh aate hain vaah kab kya karenge koi paap nahi sakta unko jana hoga udhar ab bole jaenge kahin yah unka style hai unka up karne ka tel satya aapki karte hain jab gujarat ki jab ek mitra the tab bhi aisa bahut hi vyakti se alag alag hota hai karyakram mein utar jaate hain aur public ko mantramugdh kar dete dhanyavad bahut saree

दशहरे पर रावण दान के लिए द्वारका कौन से मोदी क्या आपको लगता है कि पीएम को ज्यादा करते हैं

Romanized Version
Likes  63  Dislikes    views  1253
WhatsApp_icon
user

Abhishek Sharma

Forest Range Officer, MP

1:15
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

देखी आजकल हमारी सोचिए बन गई है कि मूवीस जोड़ा आदमी है तो हर जगह मूवी का प्रमोशन करेगा राजनीति से जुड़ा व्यक्ति है तो हर जगह राजनीति करेगा खेल से जुड़ा हुआ व्यक्ति है तो हार गई तो हमें स्टेट ऑफ माइंड से पहले बाहर निकलना चाहिए कि हर स्थान पर हर जगह पर यह नहीं किया जा सकता दूसरी बात यह है कि शो ऑफ करने की बात कर रहे हैं तो थोड़ा प्रचार तो वह करते हैं इसमें कोई दो राय नहीं लेकिन इसको गलत तरीके से नहीं देखना चाहिए दशहरा उत्सव है प्रधानमंत्री जी मना रहे हैं अच्छी बात है मनाना चाहिए इसमें क्या गलत हो गया इसके अलावा भारत में कोई जाने वाले हर उत्सव को मनाना चाहिए और इसके साथ-साथ एक चीज और है कि अगर इसको प्रधानमंत्री देश के प्रधानमंत्री सर्च मना रहे हैं तो जनता को संदेश भी दे रहे हैं जनता को संदेश जा रहा है कि आप भी उस हर्ष और उल्लास के सदस्य और तो अगर वह भी इस तरह से देश की जनता भी इस तरह से त्योहारों को मनाती है तो एक अच्छा संदेश जाता है और जनता बहुत सकारात्मक रूप से अपील करती है आपकी अगर राय अलग है तो उसमें कोई परेशानी नहीं है सभी लोगों की एक कॉपी पर लड़ाई हो सकती और होनी भी चाहिए यही तो हमारी लोकतांत्रिक देश का एक सबसे बड़ा एक पोस्ट पॉइंट है आपकी राय अगर कुछ और है तो कमेंट में अवश्य दें बहुत धन्यवाद

dekhi aajkal hamari sochiye ban gayi hai ki Movies joda aadmi hai toh har jagah movie ka promotion karega raajneeti se juda vyakti hai toh har jagah raajneeti karega khel se juda hua vyakti hai toh haar gayi toh hamein state of mind se pehle bahar nikalna chahiye ki har sthan par har jagah par yah nahi kiya ja sakta dusri baat yah hai ki show of karne ki baat kar rahe hain toh thoda prachar toh vaah karte hain isme koi do rai nahi lekin isko galat tarike se nahi dekhna chahiye dussehra utsav hai pradhanmantri ji mana rahe hain achi baat hai manana chahiye isme kya galat ho gaya iske alava bharat mein koi jaane waale har utsav ko manana chahiye aur iske saath saath ek cheez aur hai ki agar isko pradhanmantri desh ke pradhanmantri search mana rahe hain toh janta ko sandesh bhi de rahe hain janta ko sandesh ja raha hai ki aap bhi us harsh aur ullas ke sadasya aur toh agar vaah bhi is tarah se desh ki janta bhi is tarah se tyoharon ko manati hai toh ek accha sandesh jata hai aur janta bahut sakaratmak roop se appeal karti hai aapki agar rai alag hai toh usme koi pareshani nahi hai sabhi logo ki ek copy par ladai ho sakti aur honi bhi chahiye yahi toh hamari loktantrik desh ka ek sabse bada ek post point hai aapki rai agar kuch aur hai toh comment mein avashya de bahut dhanyavad

देखी आजकल हमारी सोचिए बन गई है कि मूवीस जोड़ा आदमी है तो हर जगह मूवी का प्रमोशन करेगा राजन

Romanized Version
Likes  53  Dislikes    views  1037
WhatsApp_icon
play
user

Kumar

Social Worker

2:30

Likes  32  Dislikes    views  632
WhatsApp_icon
qIcon
ask
QuestionsProfiles

Vokal App bridges the knowledge gap in India in Indian languages by getting the best minds to answer questions of the common man. The Vokal App is available in 11 Indian languages. Users ask questions on 100s of topics related to love, life, career, politics, religion, sports, personal care etc. We have 1000s of experts from different walks of life answering questions on the Vokal App. People can also ask questions directly to experts apart from posting a question to the entire answering community. If you are an expert or are great at something, we invite you to join this knowledge sharing revolution and help India grow. Download the Vokal App!