user

Ashish Ogley

Owner OGLEY IAS MPPSC

3:57
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

यहां का प्रश्न है क्या एक आई एफ एस आई एस से बेहतर है तो पहले तो मैं आपको यह बताना चाहूंगा कि यह बड़ा आवश्यक है कि आपको यह जानना होगा कि यह पद क्या है आईएएस अधिकारी की बात करते हैं तो भारतीय प्रशासनिक सेवा इंडियन एडमिनिस्ट्रेटिव सर्विस आईएएस अगर हम कहे तो दो प्रकार के पद होते हैं एक होता है इंडियन फॉरेन सर्विस और दूसरा होता है इंडियन फॉरेस्ट सर्विसेज मतलब एक होता है भारतीय विदेश सेवा और दूसरा होता है भारतीय वन सेवा स्पष्ट करना जरूरी होगा आपको एक बात बताना चाहूंगा दोनों ही यदि हम बात करें भारतीय वन सेवा यानी कि आई एस एस के दोनों पर भारतीय विदेश सेवा और आईएस एनी इंडियन एडमिशन सर्विस भारतीय प्रशासनिक सेवा को प्राप्त करने की याद परीक्षा में बैठते हैं उस परीक्षा का आयोजन यूपीसी के द्वारा किया जाता है अब दूसरी बात यह है कि देश में सबसे पहले बताना चाहूंगा कि बात करते हैं की परीक्षा में उन पदों को आपको एक पदानुक्रम के माध्यम से प्रदान किया जाता है कि पदों की वरीयता के अनुसार यदि हम पदों की बड़ी ताकि बात करते हैं तो पदों की वरीयता में सर्वोच्च पद जो हमें प्रदान की जाती है बहुत है आईएएस अधिकारी का भारतीय प्रशासनिक सेवा और उसके पश्चात होता है आईएफ ए आईएस के क्या कार्य होते हैं भारतीय विदेश सेवा दूसरी बात कर सकते हैं तो नेक्स्ट हमारे पास होता है भारतीय पुलिस सेवा इसी प्रकार से गर्म करें तो यहां पर सारे पदानुक्रम प्रसाद यहां पर कह सकते हैं कि पदों की वैधता प्रदान की जाती है पदानुक्रम के अनुसार देखा जाए तो प्रधानों क्रम के अनुसार आईएएस अधिकारी सबसे सर्वश्रेष्ठ ठीक है लेकिन बात कर सकते हैं तो इन सभी के कार्यक्षेत्र अलग-अलग होते हैं कार्य से अलग होने का मतलब की बात करते हैं तो आइए हमारे भारतीय संविधान के अनुसार एक अखिल भारतीय अखिल भारतीय सेवाएं मतलब यहां पर क्यों जाता है संपूर्ण भारतीय किसी भी क्षेत्र में इसकी यहां पर सेवा ली जा सकती है किसी मंत्रालय किस विभाग बड़ी बात करते हैं कि भारतीय विदेश बाकी बात करें भारतीय विदेश सेवा की बात करते हैं तो भारतीय विदेश सेवा जो है इसमें विशेष रूप से क्या हो जाता है यह एक केंद्रीय सेवा है सेंट्रल गवर्नमेंट की सबसे बड़ी सेवा के अंतर्गत भारतीय विदेश सेवा के अधिकारी है इसे विशेष विश्व के अन्य देशों में यह भारत के विदेश मंत्रालय से किन्ही विभागों में जो अंतरराष्ट्रीय कूटनीतिक मामलों की देखरेख करते हैं उनमें इनका यहां पर विशेष रूप से नियुक्ति की जाती है उन्हीं के अंतर्गत कार्य किया जाता है इसमें आती है भारतीय वन सेवा भारतीय वन सेवा की बात की जाए तो भारतीय वन सेवा के अधिकारियों का जो विशेष रूप से नियुक्ति की जाती हैं वह हमारे भारत के केंद्र सरकार के राज्य सरकार के अधीन जो वंचित रहे इन वन क्षेत्रों में विशेष रूप से इन को नियुक्त किया जाता है इनके रखरखाव पर्यवेक्षण और नियंत्रण के उद्देश्य था कि यह वही क्षेत्रों में विशेष कार्य होता है कल की तीनों क्षेत्र अलग है एक ही क्षेत्र में तीनों पद कार्य नहीं करते हैं अतः प्रत्येक पद का अपना महत्व है अगर हम जहां बात करते हैं कि आप क्या चयन करना चाहते हैं तो यह आपके रुचि पर निर्भर करता है कि किस क्षेत्र में होती है उसके अनुकूल आप उसे अपने अनुसार बेहतर मान सकते हैं ठीक है नमस्कार मेरा नाम है आशीष शुक्ला और मेरा एमपी नगर भोपाल में अपना एक कोचिंग इंस्टीट्यूट है अगले आईएएस इंस्टीट्यूट के नाम से परे खास बात और भैया हमारे यहां पर रेगुलर क्लासेस होती हैं हम यूपीएससी दोनों के लिए तैयारी कराता इसके अलावा मैं आपको बताना चाहूंगा हम लोगों का यूट्यूब पर एक चैनल भी चलता है अगले आई एस ओ जी एल आई एस आई एस के नाम से तो आप चाहे तो प्लीज यूट्यूब के शुक्ला आईएएस के चैनल को भी सबस्क्राइब कीजिएगा थैंक्यू नमस्कार और बताएं

yahan ka prashna hai kya ek I f s I s se behtar hai toh pehle toh main aapko yah bataana chahunga ki yah bada aavashyak hai ki aapko yah janana hoga ki yah pad kya hai IAS adhikari ki baat karte hain toh bharatiya prashaasnik seva indian administrative service IAS agar hum kahe toh do prakar ke pad hote hain ek hota hai indian foreign service aur doosra hota hai indian forest services matlab ek hota hai bharatiya videsh seva aur doosra hota hai bharatiya van seva spasht karna zaroori hoga aapko ek baat bataana chahunga dono hi yadi hum baat kare bharatiya van seva yani ki I s s ke dono par bharatiya videsh seva aur ias any indian admission service bharatiya prashaasnik seva ko prapt karne ki yaad pariksha mein baithate hain us pariksha ka aayojan UPC ke dwara kiya jata hai ab dusri baat yah hai ki desh mein sabse pehle bataana chahunga ki baat karte hain ki pariksha mein un padon ko aapko ek padanukram ke madhyam se pradan kiya jata hai ki padon ki variyata ke anusaar yadi hum padon ki badi taki baat karte hain toh padon ki variyata mein sarvoch pad jo hamein pradan ki jaati hai bahut hai IAS adhikari ka bharatiya prashaasnik seva aur uske pashchat hota hai IF a ias ke kya karya hote hain bharatiya videsh seva dusri baat kar sakte hain toh next hamare paas hota hai bharatiya police seva isi prakar se garam kare toh yahan par saare padanukram prasad yahan par keh sakte hain ki padon ki vaidhata pradan ki jaati hai padanukram ke anusaar dekha jaaye toh pradhanon kram ke anusaar IAS adhikari sabse sarvashreshtha theek hai lekin baat kar sakte hain toh in sabhi ke karyakshetra alag alag hote hain karya se alag hone ka matlab ki baat karte hain toh aaiye hamare bharatiya samvidhan ke anusaar ek akhil bharatiya akhil bharatiya sevayen matlab yahan par kyon jata hai sampurna bharatiya kisi bhi kshetra mein iski yahan par seva li ja sakti hai kisi mantralay kis vibhag badi baat karte hain ki bharatiya videsh baki baat kare bharatiya videsh seva ki baat karte hain toh bharatiya videsh seva jo hai isme vishesh roop se kya ho jata hai yah ek kendriya seva hai central government ki sabse badi seva ke antargat bharatiya videsh seva ke adhikari hai ise vishesh vishwa ke anya deshon mein yah bharat ke videsh mantralay se kinhi vibhagon mein jo antararashtriya kutanitik mamlon ki dekhrekh karte hain unmen inka yahan par vishesh roop se niyukti ki jaati hai unhi ke antargat karya kiya jata hai isme aati hai bharatiya van seva bharatiya van seva ki baat ki jaaye toh bharatiya van seva ke adhikaariyo ka jo vishesh roop se niyukti ki jaati hain vaah hamare bharat ke kendra sarkar ke rajya sarkar ke adheen jo vanchit rahe in van kshetro mein vishesh roop se in ko niyukt kiya jata hai inke rakharakhav paryavekshan aur niyantran ke uddeshya tha ki yah wahi kshetro mein vishesh karya hota hai kal ki tatvo kshetra alag hai ek hi kshetra mein tatvo pad karya nahi karte hain atah pratyek pad ka apna mahatva hai agar hum jaha baat karte hain ki aap kya chayan karna chahte hain toh yah aapke ruchi par nirbhar karta hai ki kis kshetra mein hoti hai uske anukul aap use apne anusaar behtar maan sakte hain theek hai namaskar mera naam hai aashish shukla aur mera mp nagar bhopal mein apna ek coaching institute hai agle IAS institute ke naam se pare khaas baat aur bhaiya hamare yahan par regular classes hoti hain hum upsc dono ke liye taiyari karata iske alava main aapko bataana chahunga hum logo ka youtube par ek channel bhi chalta hai agle I s o ji el I s I s ke naam se toh aap chahen toh please youtube ke shukla IAS ke channel ko bhi Subscribe kijiega thainkyu namaskar aur batayen

यहां का प्रश्न है क्या एक आई एफ एस आई एस से बेहतर है तो पहले तो मैं आपको यह बताना चाहूंगा

Romanized Version
Likes  38  Dislikes    views  517
WhatsApp_icon
3 जवाब
qIcon
ask
ऐसे और सवाल
Loading...
Loading...
play
user

Dr.Santosh Adil

Motivational Speaker & Career Counselor

0:37

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

यह सब्जेक्ट मैटर है यह डिपेंड करता है कि आपको क्या पसंद है अगर आपको नेचर से लगाओ है प्रकृति से लगा है आपको वाइल्डलाइफ से लगाओ आपको पेड़ पौधे से जीव जंतुओं से लगाओ है तो डेफिनेटली आईएस मच मच बेटर है आईएस थे लेकिन अगर आपको इन चीजों से लगाओ ही नहीं है ना कि आपको जंगल में से कोई लगाव है ना पेड़ पौधों से वाइल्ड एनीमल सेना वहां के लोगों से तो देखने की इस कंडीशन में आपके लिए आईएफएससी कक्षा ऑप्शन हो ही नहीं सकता फिर आपको आइए सेलेक्ट करना चाहिए तो हम नहीं कर सकते क्या पसंद है

yah subject matter hai yah depend karta hai ki aapko kya pasand hai agar aapko nature se lagao hai prakriti se laga hai aapko wildlife se lagao aapko ped paudhe se jeev jantuon se lagao hai toh definetli ias match match better hai ias the lekin agar aapko in chijon se lagao hi nahi hai na ki aapko jungle mein se koi lagav hai na ped paudho se wild enimal sena wahan ke logo se toh dekhne ki is condition mein aapke liye IFSC kaksha option ho hi nahi sakta phir aapko aaiye select karna chahiye toh hum nahi kar sakte kya pasand hai

यह सब्जेक्ट मैटर है यह डिपेंड करता है कि आपको क्या पसंद है अगर आपको नेचर से लगाओ है प्रकृत

Romanized Version
Likes  142  Dislikes    views  1508
WhatsApp_icon
user
1:03
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

हेलो फ्रेंड साहब ने क्वेश्चन किया है आईएएस और आईएएस बेहतर है इसमें आपको बता देना चाहता हूं कि दोनों ही अधिकारी सेंट्रल गवर्नमेंट के होते हैं और आईएफएस अधिकारी विदेश मंत्रालय में अपना योगदान देते हैं और आईएएस अधिकारी अपने स्टेट में रहकर अलग-अलग स्टेट ओ में 2 जिले होते हैं वहां तैनात किए जाते हैं और यह इन आईएएस आईएएस के भी अनेक विभागों की तैनाती होती है और

hello friend saheb ne question kiya hai IAS aur IAS behtar hai isme aapko bata dena chahta hoon ki dono hi adhikari central government ke hote hain aur IFS adhikari videsh mantralay mein apna yogdan dete hain aur IAS adhikari apne state mein rahkar alag alag state o mein 2 jile hote hain wahan tainat kiye jaate hain aur yah in IAS IAS ke bhi anek vibhagon ki tainati hoti hai aur

हेलो फ्रेंड साहब ने क्वेश्चन किया है आईएएस और आईएएस बेहतर है इसमें आपको बता देना चाहता हूं

Romanized Version
Likes  33  Dislikes    views  657
WhatsApp_icon
qIcon
ask
QuestionsProfiles

Vokal App bridges the knowledge gap in India in Indian languages by getting the best minds to answer questions of the common man. The Vokal App is available in 11 Indian languages. Users ask questions on 100s of topics related to love, life, career, politics, religion, sports, personal care etc. We have 1000s of experts from different walks of life answering questions on the Vokal App. People can also ask questions directly to experts apart from posting a question to the entire answering community. If you are an expert or are great at something, we invite you to join this knowledge sharing revolution and help India grow. Download the Vokal App!