IFS अधिकारी बनने के लिए मुझे किन विषयों की पढ़ाई करने की आवश्यकता है?...


user

Shri Praveen Srivastava

Indian Forest Service officer; Currently serving as PCCF of Maharashtra Forest Department at its Nagpur Head Office

1:27
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

यह सब्जेक्ट ऑफ आदमी ने दिया किसी भी स्टूडेंट ने अपने ग्रेजुएशन नया पोस्ट ग्रेजुएशन में क्या सब्जेक्ट कर रहे हैं कि मैं उसका दिया गया है उसके बारे में किसके बारे में उसको रिलेटेड जानकारी है तो आपकी सिस्टमैटिक ऑर्गेनाइजेशनल लाडली होती है वही आपको यूपीएससी एग्जाम में भी बेहतर परफॉर्म करने के लिए हेल्प करती है कि यूपीएससी का बहुत कंपटीशन होता है जिसमें आप की क्वालिटी ऑफ अंडरस्टैंडिंग रेट के साथ आर्किटेक्ट ऑफ अंडरस्टैंडिंग बहुत मायने रखती है और इसको ध्यान में रखते हुए जो भी स्टूडेंट जो भी सब्जेक्ट सिलेक्ट करें तो आवश्यक सिर्फ इतना नहीं है कि उस विषय की जानकारी हो उस विषय की जानकारी कुछ ऐसे दृष्टिकोण से आप अवश्य करें जो भी आपको आपके ग्रुप के साथ बैठने वाले स्टूडेंट से आपको कहीं न कहीं बेहतर सिद्ध करके का ऐसा दृष्टिकोण जो कि उसकी वजह से इलेक्शन का कारण बताओ

yah subject of aadmi ne diya kisi bhi student ne apne graduation naya post graduation mein kya subject kar rahe hain ki main uska diya gaya hai uske bare mein kiske bare mein usko related jaankari hai toh aapki systematic argenaijeshanal laadalee hoti hai wahi aapko upsc exam mein bhi behtar perform karne ke liye help karti hai ki upsc ka bahut competition hota hai jisme aap ki quality of understanding rate ke saath architect of understanding bahut maayne rakhti hai aur isko dhyan mein rakhte hue jo bhi student jo bhi subject select karen toh aavashyak sirf itna nahi hai ki us vishay ki jaankari ho us vishay ki jaankari kuch aise drishtikon se aap avashya karen jo bhi aapko aapke group ke saath baithne waale student se aapko kahin na kahin behtar siddh karke ka aisa drishtikon jo ki uski wajah se election ka karan batao

यह सब्जेक्ट ऑफ आदमी ने दिया किसी भी स्टूडेंट ने अपने ग्रेजुएशन नया पोस्ट ग्रेजुएशन में क्य

Romanized Version
Likes  12  Dislikes    views  100
WhatsApp_icon
2 जवाब
qIcon
ask
ऐसे और सवाल
Loading...
Loading...
play
user

DR OM PRAKASH SHARMA

Principal, Education Counselor, Best Experience in Professional and Vocational Education cum Training Skills and 25 years experience of Competitive Exams. 9212159179. dsopsharma@gmail.com

1:13

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

भाई आईएएस अधिकारी बनने के लिए मैंने आपसे पहले भी कहा है कि जो आपकी क्रिश्चियन पोस्ट ग्रेजुएशन स्तर के जो आपके सब्जेक्ट हैं आप उन्हीं मिर्ची टू वैकल्पिक सब्जेक्ट देंगे जो आपने पढ़ी नहीं उनमें से आप बारिश अत्याचार के क्या करेंगे आपका द्वारा उनके लिए जिन करेंगे उन्हें आपका कमांड है उन्हें अध्यक्ष क्यों क्यों मैनेजमेंट क्यों ब्लॉक किया हो या किसी वर्गी क्यों और उन्हीं शब्दों में से आपको पढ़ाई करनी है तो यह प्रश्न बार-बार आता है क्योंकि पढ़ाई करें अरे भाई जो आपकी स्नातक व परास्नातक में आपने पढ़ा है उन्ही से आपको दो तीन विषयों का चुनाव करना है और यह देखिए कि कृपया आपका कमांड अच्छा है तो यह बात आप ही जान सकते हैं कि आपने किस टीम का चुनाव किया था और आज जहां खड़े वह किस सिस्टम पर खड़े और किसके सहारे यहां तक पहुंचे हैं इसलिए आईएएस की परीक्षा के लिए विषयों का कोई खास मायने नहीं

bhai IAS adhikari banne ke liye maine aapse pehle bhi kaha hai ki jo aapki Christian post graduation sthar ke jo aapke subject hain aap unhin mirchi to vaikalpik subject denge jo aapne padhi nahi unmen se aap barish atyachar ke kya karenge aapka dwara unke liye jin karenge unhe aapka command hai unhe adhyaksh kyon kyon management kyon block kiya ho ya kisi vargi kyon aur unhin shabdon mein se aapko padhai karni hai toh yah prashna baar baar aata hai kyonki padhai karen arre bhai jo aapki snatak v para snatak mein aapne padha hai unhi se aapko do teen vishyon ka chunav karna hai aur yah dekhiye ki kripya aapka command accha hai toh yah baat aap hi jaan sakte hain ki aapne kis team ka chunav kiya tha aur aaj jahan khade vaah kis system par khade aur kiske sahare yahan tak pahuche hain isliye IAS ki pariksha ke liye vishyon ka koi khas maayne nahi

भाई आईएएस अधिकारी बनने के लिए मैंने आपसे पहले भी कहा है कि जो आपकी क्रिश्चियन पोस्ट ग्रेजु

Romanized Version
Likes  31  Dislikes    views  1260
WhatsApp_icon
qIcon
ask
QuestionsProfiles

Vokal App bridges the knowledge gap in India in Indian languages by getting the best minds to answer questions of the common man. The Vokal App is available in 11 Indian languages. Users ask questions on 100s of topics related to love, life, career, politics, religion, sports, personal care etc. We have 1000s of experts from different walks of life answering questions on the Vokal App. People can also ask questions directly to experts apart from posting a question to the entire answering community. If you are an expert or are great at something, we invite you to join this knowledge sharing revolution and help India grow. Download the Vokal App!