तस्करों और शिकारियों की उपस्थिति को देखते हुए IFS का काम कितना जोखिम भरा है?...


play
user

PRAMOD KUMAR

Retired IFS Officer | Advisor to TRIFED

6:08

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

नमस्कार आपने पूछा कि तस्करी और शिकारियों की उपस्थिति को देखते हुए आईएफएससी काम करना कितना जोखिम भरा है जी हां आपके जो फसना है उसमें जरूर मैं बोलूंगा कि बड़े चैलेंजिंग जॉब है क्योंकि इस जांच अधिकारी विभाग का अधिकारी बेकरी सोर्स कैसे मैनेज करते हो प्रकट करते हो जो कि खुला पड़ा हुआ है आपके पास अभी ₹5 भी है तो आप उसको आपके पकड़ना जेब में रखते हो और पैसा है तो आपके पास तिजोरी में रखते हो भक्तों भक्तों फोटो जो हमारी तरफ फर्स्ट खबर है जिसका मूल्य का माखन भी नहीं कर सकते खुला पड़ा हुआ है और उसके लिए सभी का उसके ऊपर नजरें भूमाफिया हो उनका फर्ज जमीन के ऊपर नजर बारिश के टाइम में बंद होगी बहुत ही कम हो जाता है मकान बन जाता है खुशी ब्रोकली को चलाता है वह चित्र में बहुत सारे माइनिंग का भंडार रहता है तो अवैध माइनिंग चलता रहता है वाइल्ड लाइफ सेंचुरी में भी चलता रहता है उसको भी प्रकट करवानी है बोलो रिया को पूरा सुरक्षित करवानी है और जहां पर सदर वंचित रहे उसमें आपके जो पैरों का कटाई होती है तो विभिन्न प्रकार का हिस्सा काजल गुलबर्गा डिस्ट्रिक्ट ज्यादा उसके लिए करना पड़ता है उसके लिए उसके पास सपोर्टिंग स्टाफ भी है ऐसा ऐसा स्टेज पहले जब मैं नहीं बताता हूं हमारे बंद चित्र जो होना है जो कि छोटा यूनिट होती है जंगल के अंदर में या फॉरेस्ट चुकी होती है उसमें भी नियम आधारभूत सुविधा भी नहीं है ना तो पानी का प्रभाव सुविधा है या ना बाकी की लखन का सुविधा है इसी को देखते हुए उनको या काम करना बड़ा कठिन होते हैं और कोई मॉर्निंग और नॉन सीरियस नहीं होते हैं और जो था उसको रहते उनका मॉडल्स होती है तो उनको टक्कर देना बड़ा जोखिम भरा काम होता है वाइल्ड लाइफ में अवतार सिंह का काम चीजों की आप की जानकारी बताओ कितने शरीफ हो चुकी होती है चाहे टाइगर की हो और दूसरे वन्य प्राणी को तो उनको भी बचा के रखना और यह भी एक बहुत बड़ा काम होता है माइनिंग कार्यक्रम माफिया काम करते हैं बट बट स्टेट जहां पर आप जाएंगे जहां पर इंपॉर्टेंट महिंद्रा उसे माफिया से आपके गाल माइनिंग चाहे वह छोटे पत्थर से लेकर 50 मंदिरों को उसके प्रेशर भी रहते तुम किसी पुरुष को बतानी है ए सब चीज को देखते हुए यह चोली बड़ा जोखिम भरा तो है फोटो चेंज कर लेना पड़ेगा आपके पास जितने प्रोसेस में काम करेंगे तेवर गांव वालों के साथ लेकर करते हैं और जहां पर पूरा लोड नेट का प्रॉब्लम होती है तो पुलिस को साथ लेकर आपका कुछ जवाब भी देखोगे जिसे वीरप्पन का जो तस्करी चल रहा था चंदन की तस्करी इतने सारे भ्रष्ट ऑफिसर कॉलोनी जान दिए थे एक आईएएस अधिकारी होंगे द्रविड़ ने दूसरे रेंजर्स गॉड्स बगैरा हुई है आईबी ने अपनी खबर में आते हो बताते हैं कि आपने भूमाफिया नहीं है इसका पराठा कर दिए इसी वन अधिकारी को हटा कर दिए तो यह तो चलता रहता है ए टू जेड पार्ट ऑफ दिस जॉब चैलेंज एस है व्हाट इस चैलेंज है उसको लेते ही काम करना और देश का एक बड़ा इंपोर्टेंट विशेष आपके हाथ में है आप उसका कस्टोडियन ग्रुप में काम करते हो तो उसको बचा कर रखना उसके फोटो ऐड करना उसको कंजर नावेल आई को प्रकट करना और वनों का विकास करना एक सचमुच बड़ा चैलेंज की बातें दा रियल फील दैट यू आर डूइंग समथिंग फॉर र कंट्री एंड पीपल पेड़ लगाकर विकसित करते हो मान लो अपने 50 28 21 22 सेक्टर जहां पर अपने प्लांटेशंस करते हो कुछ साल के बाद आप आकर देखते हो बड़ा आनंद मिलता है और जो जो आपका वाइल्ड लाइफ सेंचुरी में कराओ जिम में पानी के साथ रहते हो वह ड्यूटी करते हो उनको पास से दिखते हो उनका कैरेक्टर सवार होके आई वेट फॉर सोम सर करते हो इमेज भेजो रोशनी मिलता है डायरेक्ट जवाब काम करोगे तो चीज है उसमें टेंशन रहता है इनकी फ्रिज का पानी पीना प्रकार का प्रेशर से स्पेशल संस्कार और भूमाफिया जवाई डैम का फोटो और उनके आए दिन लड़ाई करना पड़ता है तो उनको इस प्रकार चीज में जिसे आईएफएससी सोती है उनका एड्रेस होती है कहां पर है ऐड करनी है कहां पर हो कार्रवाई करनी है यह सब चीज में होल्डर के रूप में भूमिका लेते तो आप का मनोबल बढ़ाते हुए बड़ा चैलेंजिंग और चुनौतीपूर्ण चुनौती भरी बेल चौक में बताऊंगा मेरा 32 साल का अनुभव है और कई बार मैंने भी खुद ही पेश किया मेरे लिए होगा टाइम में डूंगरपुर बांसवाड़ा में उदयपुर में भू-माफिया ने अगस्त में माइनिंग माफिया गाया गया उसमें हम लोग बड़े कई बार हमने में काम करते हमारा स्टाफ के साथ मारपीट हुई है क्या पिंजौर की हुई है दो 2 महीने दिन 3 महीने हॉस्पिटल में पड़े यावर सामने की बात है एक बार मैं भी उसका शिकार हुआ था पाठकपुर जाओ उसके बीच में क्या कानून है और सेटिस्फेक्शन धन्यवाद

namaskar aapne poocha ki taskari aur shikariyon ki upasthitee ko dekhte hue IFSC kaam karna kitna jokhim bhara hai ji haan aapke jo fasana hai usmein zaroor main boloonga ki bade chailenjing job hai kyonki is jaanch adhikari vibhag ka adhikari bakery source kaise manage karte ho prakat karte ho jo ki khula pada hua hai aapke paas abhi Rs bhi hai toh aap usko aapke pakadna jeb mein rakhte ho aur paisa hai toh aapke paas tijori mein rakhte ho bhakton bhakton photo jo hamari taraf first khabar hai jiska mulya ka makkhan bhi nahi kar sakte khula pada hua hai aur uske liye sabhi ka uske upar najarein bhumafiya ho unka farz jameen ke upar nazar barish ke time mein band hogi bahut hi kam ho jata hai makan ban jata hai khushi broccoli ko chalata hai vaah chitra mein bahut saare Mining ka bhandar rehta hai toh awaidh Mining chalta rehta hai wild life century mein bhi chalta rehta hai usko bhi prakat karvani hai bolo riya ko pura surakshit karvani hai aur jahan par sadar vanchit rahe usmein aapke jo pairon ka katai hoti hai toh vibhinn prakar ka hissa kajal gulbarga district zyada uske liye karna padta hai uske liye uske paas supporting staff bhi hai aisa aisa stage pehle jab main nahi batata hoon hamare band chitra jo hona hai jo ki chota unit hoti hai jungle ke andar mein ya forrest chuki hoti hai usmein bhi niyam adharbhut suvidha bhi nahi hai na toh paani ka prabhav suvidha hai ya na baki ki lakhan ka suvidha hai isi ko dekhte hue unko ya kaam karna bada kathin hote hain aur koi morning aur non serious nahi hote hain aur jo tha usko rehte unka models hoti hai toh unko takkar dena bada jokhim bhara kaam hota hai wild life mein avatar Singh ka kaam chijon ki aap ki jaankari batao kitne sharif ho chuki hoti hai chahen tiger ki ho aur dusre vanya prani ko toh unko bhi bacha ke rakhna aur yah bhi ek bahut bada kaam hota hai Mining karyakram mafia kaam karte hain but but state jahan par aap jaenge jahan par important mahindra use mafia se aapke gaal Mining chahen vaah chhote patthar se lekar 50 mandiro ko uske pressure bhi rehte tum kisi purush ko batani hai a sab cheez ko dekhte hue yah choli bada jokhim bhara toh hai photo change kar lena padega aapke paas jitne process mein kaam karenge tewar gaon walon ke saath lekar karte hain aur jahan par pura load net ka problem hoti hai toh police ko saath lekar aapka kuch jawab bhi dekhoge jise virappan ka jo taskari chal raha tha chandan ki taskari itne saare bhrasht officer colony jaan diye the ek IAS adhikari honge dravid ne dusre rangers gods bagaira hui hai IB ne apni khabar mein aate ho batatey hain ki aapne bhumafiya nahi hai iska paratha kar diye isi van adhikari ko hata kar diye toh yah toh chalta rehta hai a to z part of this job challenge s hai what is challenge hai usko lete hi kaam karna aur desh ka ek bada important vishesh aapke hath mein hai aap uska custodian group mein kaam karte ho toh usko bacha kar rakhna uske photo aid karna usko kanjar navel I ko prakat karna aur vanon ka vikas karna ek sachmuch bada challenge ki batein the real feel that you rss doing something for r country and pipal ped lagakar viksit karte ho maan lo apne 50 28 21 22 sector jahan par apne planteshans karte ho kuch saal ke baad aap aakar dekhte ho bada anand milta hai aur jo jo aapka wild life century mein karao gym mein paani ke saath rehte ho vaah duty karte ho unko paas se dikhte ho unka character savar hoke I wait for Som sir karte ho image bhejo roshni milta hai direct jawab kaam karoge toh cheez hai usmein tension rehta hai inki fridge ka paani peena prakar ka pressure se special sanskar aur bhumafiya javai dam ka photo aur unke aaye din ladai karna padta hai toh unko is prakar cheez mein jise IFSC soti hai unka address hoti hai kahaan par hai aid karni hai kahaan par ho karyawahi karni hai yah sab cheez mein holder ke roop mein bhumika lete toh aap ka manobal badhate hue bada chailenjing aur chunautipurn chunauti bhari bell chauk mein bataunga mera 32 saal ka anubhav hai aur kai baar maine bhi khud hi pesh kiya mere liye hoga time mein dungarpur banswada mein udaipur mein bhu mafia ne august mein Mining mafia gaaya gaya usmein hum log bade kai baar humne mein kaam karte hamara staff ke saath maar peet hui hai kya pinjaur ki hui hai do 2 mahine din 3 mahine hospital mein pade yavar saamne ki baat hai ek baar main bhi uska shikaar hua tha pathakapur jao uske beech mein kya kanoon hai aur setisfekshan dhanyavad

नमस्कार आपने पूछा कि तस्करी और शिकारियों की उपस्थिति को देखते हुए आईएफएससी काम करना कितना

Romanized Version
Likes  422  Dislikes    views  3388
WhatsApp_icon
4 जवाब
qIcon
ask
ऐसे और सवाल
Loading...
Loading...
user

Ajay Sinh Pawar

Founder & M.D. Of Radiant Group Of Industries

2:35
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

पत्थरों और शिकारियों की उपस्थिति को देखते हुए इंडियन फॉरेस्ट आई एफ एस का काम कितना जो चिंता है कि जो जो है वह बहुत ही जोखिम भरी है फिजिकल फिटनेस और जावा जी और साहस जिसके में कूट-कूट कर भरा हो और वह खतरा लेने की जो भावना जिसके में हो वह इसमें जाता है लेकिन हमारे यहां जंगलों की जो हालत है इस तरह है कि जंगलों को काटे जाने का यानी कि लोगों को जंगल काटने हैं और लकड़ियों को ले जाना है कोई इंजन के ले जाता है कोई अपने उपयोग के लिए ले जाता है किंतु लकड़ियां भी होती है जंगल में जैसे कि चंदन होता है और स्त्रोत से उन लोगों को रोकते एक्शन गैरकानूनी काम नहीं करने देते हैं इसलिए उनको अपने गांव अपनी जान तक अदाओं पर लगानी पड़ती है इसके अलावा यह तो वह तस्करी की बात और दूसरा होता है कि शिकारी लोग जो है वह वन्यजीवों को शिकार करके उसका जो चमड़ा है उसमें सुरसिंह है और बाघ नख है वगैरह की व्यापार करते हैं और विदेशों में निकास तक की जाती है वह बहुत ही कीमती होता है अब वन्यजीवों की रक्षा करनी है शिकारियों से जबकि जो वन्यजीव हैं उससे भी खुद की रक्षा करनी है क्योंकि जिसकी वो रक्षा करना चाहते हैं जो कर रहे हैं जो उनकी ड्यूटी है शिकारियों से भी रक्षा करनी है और वन्यजीव से भी अपनी रक्षा करनी इसलिए बहुत ही जोखिम भरा काम है लेकिन साहस भरा काम है चैलेंजिंग जॉब है और करने में बहुत ही आनंद आता है हमें अवश्य लेना चाहिए आनंद लेना है बहुत सुंदर होता है धन्यवाद ऑल द बेस्ट

pattharon aur shikariyon ki upasthitee ko dekhte hue indian forrest I f s ka kaam kitna jo chinta hai ki jo jo hai vaah bahut hi jokhim bhari hai physical fitness aur java ji aur saahas jiske mein kut kut kar bhara ho aur vaah khatra lene ki jo bhavna jiske mein ho vaah isme jata hai lekin hamare yahan jungalon ki jo halat hai is tarah hai ki jungalon ko kaate jaane ka yani ki logon ko jungle katne hain aur lakdiyon ko le jana hai koi engine ke le jata hai koi apne upyog ke liye le jata hai kintu lakdiyan bhi hoti hai jungle mein jaise ki chandan hota hai aur satrot se un logon ko rokte action gairkanuni kaam nahi karne dete hain isliye unko apne gaon apni jaan tak adaon par lagaani padti hai iske alava yah toh vaah taskari ki baat aur doosra hota hai ki shikaaree log jo hai vaah vanyajivon ko shikaar karke uska jo chamara hai usmein sursinh hai aur bagh nakh hai vagairah ki vyapar karte hain aur videshon mein nikaas tak ki jaati hai vaah bahut hi kimti hota hai ab vanyajivon ki raksha karni hai shikariyon se jabki jo vanyajeev hain usse bhi khud ki raksha karni hai kyonki jiski vo raksha karna chahte hain jo kar rahe hain jo unki duty hai shikariyon se bhi raksha karni hai aur vanyajeev se bhi apni raksha karni isliye bahut hi jokhim bhara kaam hai lekin saahas bhara kaam hai chailenjing job hai aur karne mein bahut hi anand aata hai hamein avashya lena chahiye anand lena hai bahut sundar hota hai dhanyavad all the best

पत्थरों और शिकारियों की उपस्थिति को देखते हुए इंडियन फॉरेस्ट आई एफ एस का काम कितना जो चिंत

Romanized Version
Likes  62  Dislikes    views  1222
WhatsApp_icon
user

Shri Praveen Srivastava

Indian Forest Service officer; Currently serving as PCCF of Maharashtra Forest Department at its Nagpur Head Office

2:52
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

यह बात सही है इंडियन फॉरेस्ट सर्विस में है हिंदी सितंबर के बाद मोबाइल में काम करता है कुपोषण से खतरा अवश्य रहता है और वह खतरा एक प्रोफेशनल रिस्क है इसको अवार्ड नहीं किया जा सकता लेकिन उसको हैंडल करने के लिए तौर-तरीके ट्रेनिंग में समझाए जाते हैं बहुत कुछ आदमी अपने एक्सपीरियंस दिखता है बुनियादी तौर पर इनफॉरमेशन गैदरिंग इंफॉर्मेशन डिस्ट्रिक्ट और आईटी सर्विसेज जरिए हैं जिसके जरिए कोई भी ऑफिसर अपने आप को शेर सीखे और और एक्टिव कर सकता है क्योंकि ऐसे खतरों को हैंडल करने के लिए जो भी स्टाफ है उसको ट्रेन किया जाता है और निबंध का स्टार किस प्रकार के खतरों को इफेक्टिवली हैंडल करता है और जहां तक मेरा अपना एक्सपीरियंस है ऐसा कोई एक्सीडेंट जिसमें किसी फॉरेस्ट ऑफिसर को कई इंजरी वगैरह जरूर हुई है किसी को लाइक दवा ना पढ़ा हो ऐसा कुछ नहीं हुआ है कहने के बाद भी मैं यही करूंगा हर ऑफिसर को पकड़ना और अपने आप के साथ अपने हिस्टॉप को विशेष सचिव रखना उसकी जवाबदारी है इसके लिए एयरपोर्ट लगता है और विशेष एयरपोर्ट प्लानिंग स्ट्रेटेजी लगती है जो की ट्रेनिंग के दरमियान सिखाई जाती है और मुझे नहीं लगता कि इस चीज को अगर आदमी एक्टिविटी एम्पलेमेंट करें तो रियल लाइफ में किसी जोखिम का उसको सामना करना पड़े उसकी प्रवृत्ति बहुत कम रहती है मेरा यही कहना है कि कोई भी स्टूडेंट्स इस बात से कोई भी एक स्टूडेंट्स बाद से इस करें जितना खतरा है खतरा है तो उसको हैंडल करने के तौर-तरीके भी एडमिनिस्ट्रेशन मीनिंग आफ के सीनियर कास्टिकली आपके सबोर्डिनेट आपको जरूर बताते हैं जो आपको अपना कांच फैक्ट्री परफॉर्म करने में मदद करते हैं

yah baat sahi hai indian forrest service mein hai hindi september ke baad mobile mein kaam karta hai kuposhan se khatra avashya rehta hai aur vaah khatra ek professional risk hai isko award nahi kiya ja sakta lekin usko handle karne ke liye taur tarike training mein samjhaye jaate hain bahut kuch aadmi apne experience dikhta hai buniyaadi taur par information gathering information district aur it services jariye hain jiske jariye koi bhi officer apne aap ko sher sikhe aur aur active kar sakta hai kyonki aise khataron ko handle karne ke liye jo bhi staff hai usko train kiya jata hai aur nibandh ka star kis prakar ke khataron ko effectively handle karta hai aur jahan tak mera apna experience hai aisa koi accident jisme kisi forrest officer ko kai injury vagairah zaroor hui hai kisi ko like dawa na padha ho aisa kuch nahi hua hai kehne ke baad bhi main yahi karunga har officer ko pakadna aur apne aap ke saath apne histap ko vishesh sachiv rakhna uski javabdari hai iske liye airport lagta hai aur vishesh airport planning strategy lagti hai jo ki training ke darmiyaan sikhai jaati hai aur mujhe nahi lagta ki is cheez ko agar aadmi activity empalement karen toh real life mein kisi jokhim ka usko samana karna pade uski pravritti bahut kam rehti hai mera yahi kehna hai ki koi bhi students is baat se koi bhi ek students baad se is karen jitna khatra hai khatra hai toh usko handle karne ke taur tarike bhi administration meaning of ke senior kastikali aapke sabordinet aapko zaroor batatey hain jo aapko apna kanch factory perform karne mein madad karte hain

यह बात सही है इंडियन फॉरेस्ट सर्विस में है हिंदी सितंबर के बाद मोबाइल में काम करता है कुपो

Romanized Version
Likes  10  Dislikes    views  88
WhatsApp_icon
user
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

वैसे तो तस्करों के शिकारियों की उपस्थिति इतनी जो क्यों नहीं है आईपीएस ऑफिसर के लिए बट फिर भी एक आईपीएस ऑफिसर के ऊपर के पास बहुत ताकत होती है और वह होता है कि वह आसानी से उनका सामना कर सके वह अपने नीचे वाले अधिकारियों का किताब को तो करके या जिस जो भी जो फॉरेस्ट है या जब भी जो भी जंगल है उसके आसपास के लोगों को जागरूक करके करके उन चीजों का पालन करवाया जा सकता है उनके आसपास के गांवों को शहरों को जागरूक कर के चौराहों को सही तरीके से समझा कर उनकी भी जरूरी है कि पर वह कानून का दबाव होना भी चाहिए उनके ऊपर एक बार होना चाहिए ठीक है पर इतना जहां तक हो सके उन्हें समझाना चाहिए और अपना बखूबी तरीके से का एपिसोड पश्चिम को आराम से सुन कर सकता है कि ज्यादा मुश्किल नहीं है कि सीबीआई ऑफिसर के लिए कई कई पर होता है कि कई सारे लोग होते हैं जो अलग-अलग धारणाएं रक्षकों काटते हैं बकरे को काटते हैं ऐसे लोगों को समझाना चाहिए और कार्रवाई करनी चाहिए जैसी परिस्थिति को उसके अनुसार एक बार ठीक है समझ जाए तो ठीक बढ़ेगा इसके ऊपर चुनौती होती है बस तुम चुनौती भी नहीं कि बिना समा आराम से कर सकता है कोई भी असामान्य थैंक यू

waise toh taskaron ke shikariyon ki upasthitee itni jo kyon nahi hai ips officer ke liye but phir bhi ek ips officer ke upar ke paas bahut takat hoti hai aur vaah hota hai ki vaah aasani se unka samana kar sake vaah apne niche waale adhikaariyo ka kitab ko toh karke ya jis jo bhi jo forest hai ya jab bhi jo bhi jungle hai uske aaspass ke logo ko jagruk karke karke un chijon ka palan karvaya ja sakta hai unke aaspass ke gaon ko shaharon ko jagruk kar ke chaurahon ko sahi tarike se samjha kar unki bhi zaroori hai ki par vaah kanoon ka dabaav hona bhi chahiye unke upar ek baar hona chahiye theek hai par itna jaha tak ho sake unhe samajhana chahiye aur apna bakhubi tarike se ka episode paschim ko aaram se sun kar sakta hai ki zyada mushkil nahi hai ki cbi officer ke liye kai kai par hota hai ki kai saare log hote hain jo alag alag dharnae rakshakon katatey hain bakre ko katatey hain aise logo ko samajhana chahiye aur karyawahi karni chahiye jaisi paristhiti ko uske anusaar ek baar theek hai samajh jaaye toh theek badhega iske upar chunauti hoti hai bus tum chunauti bhi nahi ki bina sama aaram se kar sakta hai koi bhi asamanya thank you

वैसे तो तस्करों के शिकारियों की उपस्थिति इतनी जो क्यों नहीं है आईपीएस ऑफिसर के लिए बट फिर

Romanized Version
Likes  2  Dislikes    views  76
WhatsApp_icon
qIcon
ask
QuestionsProfiles

Vokal App bridges the knowledge gap in India in Indian languages by getting the best minds to answer questions of the common man. The Vokal App is available in 11 Indian languages. Users ask questions on 100s of topics related to love, life, career, politics, religion, sports, personal care etc. We have 1000s of experts from different walks of life answering questions on the Vokal App. People can also ask questions directly to experts apart from posting a question to the entire answering community. If you are an expert or are great at something, we invite you to join this knowledge sharing revolution and help India grow. Download the Vokal App!