भगवान की मूर्तियों में सोने के गहने एवं पैसों को अगर देश की ग़रीबी मिटाने में इस्तेमाल किया जाए तो भारत में कितना सुधार आएगा?...


user

Dr.Nisha Joshi

Psychologist

0:35
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

छपरा का भगवान की मूर्तियों में सोने के गहने एवं पैसों को अगर देश की गरीबी मिटाने में इस्तेमाल किया जाए तो भारत में कितना सुधार आएगा रे बहुत सुधार आएगा भारत के पास जितने पैसे उतने पैसे तो किसी के भी पास नहीं होगी लेकिन यह तो भारत में गरीबी कम नहीं हो रही है अगर वह सब कुछ बाहर आ जाए तो पता चलेगा कि भारत गरीब है या मेरे

chapra ka bhagwan ki murtiyon mein sone ke gehne evam paison ko agar desh ki garibi mitne mein istemal kiya jaaye toh bharat mein kitna sudhaar aayega ray bahut sudhaar aayega bharat ke paas jitne paise utne paise toh kisi ke bhi paas nahi hogi lekin yah toh bharat mein garibi kam nahi ho rahi hai agar vaah sab kuch bahar aa jaaye toh pata chalega ki bharat garib hai ya mere

छपरा का भगवान की मूर्तियों में सोने के गहने एवं पैसों को अगर देश की गरीबी मिटाने में इस्ते

Romanized Version
Likes  391  Dislikes    views  5579
WhatsApp_icon
11 जवाब
qIcon
ask
ऐसे और सवाल
Loading...
Loading...
play
user

Ajay Sinh Pawar

Founder & M.D. Of Radiant Group Of Industries

3:38

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

भगवान की मूर्तियों में सोने के गहने एवं पैसों को गरीबी मिटाने में इस्तेमाल किया जाए तो भारत में कितना सुधार आएगा बहुत ही उत्तम कोटि का सवाल है और आज के वर्तमान समय में इसका बहुत ही सोच विचार करना अति आवश्यक हो गया है हमारे देश में बहुत अच्छा मंदिर और मठ है उसमें चाहे साउथ के मंदिर हो यार दोस्त के मंदिर हो हमारे पूरे देश में बहुत से मंदिर हैं और उसमें बहुत सारा सोना चांदी प्लैटिनम और जो फेक प्रतिरूप में धन लक्ष्मी या नहीं पैसा है लेकिन वह उसका सदुपयोग मंदिर के व्यवस्थापक क्या वहां पर ट्रस्ट बहुत कम मात्रा में करते हैं सोना हमारे देश में इतना ज्यादा है कि हम फिर से सोने की चिड़िया बन सकते हैं और हम हैं ऐसा नहीं है कि हम सोने की चिड़िया आज नहीं आज भी हम सोने लेकिन सोना बहुत जितना भारत सरकार ने अपना सोना गोल्ड रखा हुआ है उससे तीन ज्यादा गोल्ड हमारे इन मंदिरों के पास कितना सोना है जैसे कि सबके साईं बाबा उनके पास कितना सोना है वह ट्रस्ट के पास चाहे और भी मंदिर हैं कितना सोना है सोने का अगर सदुपयोग हो तो भारत देश बहुत ही प्रगति कर सकता है लेकिन उस होने का उपयोग किस तरह से किया जाए वह बहुत ही सोचनीय होगा क्योंकि वह सोने को समझ लीजिए कि गोल्ड रिजर्व में अगर सरकार ले जाती है या गोल्ड को अग्रसर प्लस गोल्ड जो मंदिरों में है उसको अगर सरकार लेकर और मैं सामने को नोट भी इस प्रकरण की भी जा सकती है लेकिन कानून के तहत बोलेगी वह सरकार को प्रावधान करना पड़ेगा इसका सदुपयोग होता है हमारे देश में गरीबी को भी निर्मल गरीबी निर्मल और भारत में इस तरह की क्रांति आ सकती है लेकिन उन सोने का उपयोग उत्पादक इकाइयों के लिए होना चाहिए गैर उत्पादक इकाइयों के लिए उसका उपयोग नहीं होना चाहिए धन्यवाद बहुत सारी शुभकामनाएं

bhagwan ki murtiyon mein sone ke gehne evam paison ko garibi mitne mein istemal kiya jaaye toh bharat mein kitna sudhaar aayega bahut hi uttam koti ka sawaal hai aur aaj ke vartaman samay mein iska bahut hi soch vichar karna ati aavashyak ho gaya hai hamare desh mein bahut accha mandir aur math hai usme chahen south ke mandir ho yaar dost ke mandir ho hamare poore desh mein bahut se mandir hain aur usme bahut saara sona chaandi platinum aur jo fake pratirup mein dhan laxmi ya nahi paisa hai lekin vaah uska sadupyog mandir ke vyavasthapak kya wahan par trust bahut kam matra mein karte hain sona hamare desh mein itna zyada hai ki hum phir se sone ki chidiya ban sakte hain aur hum hain aisa nahi hai ki hum sone ki chidiya aaj nahi aaj bhi hum sone lekin sona bahut jitna bharat sarkar ne apna sona gold rakha hua hai usse teen zyada gold hamare in mandiro ke paas kitna sona hai jaise ki sabke sai baba unke paas kitna sona hai vaah trust ke paas chahen aur bhi mandir hain kitna sona hai sone ka agar sadupyog ho toh bharat desh bahut hi pragati kar sakta hai lekin us hone ka upyog kis tarah se kiya jaaye vaah bahut hi sochniya hoga kyonki vaah sone ko samajh lijiye ki gold reserve mein agar sarkar le jaati hai ya gold ko agrasar plus gold jo mandiro mein hai usko agar sarkar lekar aur main saamne ko note bhi is prakaran ki bhi ja sakti hai lekin kanoon ke tahat bolegi vaah sarkar ko pravadhan karna padega iska sadupyog hota hai hamare desh mein garibi ko bhi nirmal garibi nirmal aur bharat mein is tarah ki kranti aa sakti hai lekin un sone ka upyog utpadak ikaeyon ke liye hona chahiye gair utpadak ikaeyon ke liye uska upyog nahi hona chahiye dhanyavad bahut saree subhkamnaayain

भगवान की मूर्तियों में सोने के गहने एवं पैसों को गरीबी मिटाने में इस्तेमाल किया जाए तो भार

Romanized Version
Likes  64  Dislikes    views  1273
WhatsApp_icon
user

Vinod Tiwari

Journalist

1:54
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

दिल से ज्यादा अगर आपको कहीं कमाई दिखेगी सभी धर्म प्रेमी बंधु मंदिरों में सबसे ज्यादा चढ़ावा आता है उसे कभी देश में काम किधर बहुत हद तक जो है गरीबी मिट जाएगी इसकी ऊंचाई कितना है किसको बांट रहा है पुजारी अपने लिए कितना उपयोग करना अपने बच्चों के लिए कितना उपयोग कर रहा है देश के 8 मंदिर स्कूल और अपने जो है स्कूल रोजगार कीजिए हमारे देश में हमारे देश की गरीबी बढ़ सकती है और भारत की सुधर जाएगी और भक्तों के मोटे होते जा रहे हैं

dil se zyada agar aapko kahin kamai dikhegi sabhi dharm premi bandhu mandiro mein sabse zyada chadhava aata hai use kabhi desh mein kaam kidhar bahut had tak jo hai garibi mit jayegi iski uchai kitna hai kisko baant raha hai pujari apne liye kitna upyog karna apne baccho ke liye kitna upyog kar raha hai desh ke 8 mandir school aur apne jo hai school rojgar kijiye hamare desh mein hamare desh ki garibi badh sakti hai aur bharat ki sudhar jayegi aur bhakton ke mote hote ja rahe hain

दिल से ज्यादा अगर आपको कहीं कमाई दिखेगी सभी धर्म प्रेमी बंधु मंदिरों में सबसे ज्यादा चढ़ाव

Romanized Version
Likes  63  Dislikes    views  1557
WhatsApp_icon
user

महेश सेठ

रेकी ग्रैंडमास्टर,लाइफ कोच

0:58
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

भगवान की मूर्तियों में सोने के गहने अगर इस तरह से सोचा जाए तो मस्जिद में भी जो पैसे खर्चा होते हैं मंदिर में भी जो पैसे खर्चा होते हैं चर्च में भी जो पैसे खर्चा होते हैं वह भी देश की गरीबी मिटाने में इस्तेमाल किया जाए ना केवल बम मूर्तियों में ही क्यों कहीं भी धर्म के नाम पर जो पैसे खर्चा किए जाते हैं जो भी होता है वह सब गरीबी मिटाएं एक्शन में गरीबी इससे नहीं होती गरीबी एक मानसिकता है आप इसको पढ़िए सही बात क्या है कि गरीबी एक मानसिकता होती है गरीबी को मानसिकता को अगर बदला जाए तो गरीब बदल जाएगा इसको मदम सोने के गहने में पैसों को मोतियों वाले निकालने या मन मंदिर के निकालने अमरजीत के निकालने उसे कुछ नहीं होता ठीक है ना धन्यवाद नमस्कार

bhagwan ki murtiyon mein sone ke gehne agar is tarah se socha jaaye toh masjid mein bhi jo paise kharcha hote hain mandir mein bhi jo paise kharcha hote hain church mein bhi jo paise kharcha hote hain vaah bhi desh ki garibi mitne mein istemal kiya jaaye na keval bomb murtiyon mein hi kyon kahin bhi dharm ke naam par jo paise kharcha kiye jaate hain jo bhi hota hai vaah sab garibi mitaye action mein garibi isse nahi hoti garibi ek mansikta hai aap isko padhiye sahi baat kya hai ki garibi ek mansikta hoti hai garibi ko mansikta ko agar badla jaaye toh garib badal jaega isko madam sone ke gehne mein paison ko motiyon waale nikalne ya man mandir ke nikalne amarjeet ke nikalne use kuch nahi hota theek hai na dhanyavad namaskar

भगवान की मूर्तियों में सोने के गहने अगर इस तरह से सोचा जाए तो मस्जिद में भी जो पैसे खर्चा

Romanized Version
Likes  218  Dislikes    views  2421
WhatsApp_icon
user

Umesh Upaadyay

Life Coach | Motivational Speaker

4:32
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

शैलेश को समझते हैं मंदिरों में जो भगवान की मूर्तियां हैं उसके ऊपर जो कहने आते हैं या जो पैसे आते हैं वहां पर दानपात्र में वह कहां से आते हैं यह सारे दान से ही तो आते हैं दान कौन करते हैं आप और हम जैसे इंसान ही तो करते हैं कोई अमीर होता है कोई गरीब होता है लेकिन दान सब लोग करते हैं कोई ₹1 करता है तो कोई एक करोड़ करता है इसे इंग्लिश में सब लोग कहते हैं अब यह लोग ही तो दान कर रहे हैं और कहां के हैं मंदिरों में तो क्या यह लोग अपने आप लोगों के लिए लोगों की भलाई के लिए कुछ नहीं कर सकते सोच कर देखिए मंदिर में करने की वजह से उन्होंने जबरदस्ती तो नहीं बोला कि आप को मंदिर में नहीं करना है वह तो अपनी श्रद्धा से विश्वास है जो भी ठीक लगता है उसे वो करते हैं लेकिन अगर चाहे तो वह बाहर भी तो कर सकते हैं ना रह सकते इसमें से काफी सारे लोग बाहर भी कुछ ना कुछ छोटे पैमाने पर बड़े पैमाने पर लोगों के लिए कुछ ना कुछ करते हो अच्छा दूसरा कई सारे अब मंदिर हैं जैसे हम बड़े बड़े मंदिरों की बात करें तिरुपति बालाजी की बात करें और बहुत सारे हैं उन लोगों ने अपने ट्रस्ट या फाउंडेशन बना रखे हैं और उसके तहत कई स्कूल और और कई सारे प्रोग्राम किए जाते हैं जहां पर वहां से पैसा लगता है हां अभी बहुत स्कोर पर बहुत कुछ किया जा सकता है बट ऐसा करके होता है अब सरकार का कोई कानून बनाना है ऐसा कुछ आना कि वह पैसे हम रख ले अपने पास ले ले ले आइए शायद उतना मुनासिब नहीं होगा विकास इसमें कोई कंसिस्टेंसी नहीं है मतलब कितना पैसा आएगा कौन से मंदिर में है कौन से मंदिर को बोला जाए इतने सारे मंदिर है कोई छोटा है कोई बड़ा है कोई कहीं कुछ है कहीं कुछ है वगैरह वगैरह तो इसमें सरकार की मदद तथा शायद उतनी ही अहमियत नहीं रखेगी और शायद सही भी नहीं हो जाए क्योंकि कहीं पर तो छोड़ देना चाहिए क्या यही एक तरीका बचा है जिस तरीके से हम गरीबी हटाने में अपने हाथ करें सबसे पहले तो आप और हम भी प्रयास कर सकते हैं दूसरी बात आती है कि भाई सरकार को और यह जितने भी लोग हैं हम सब मिलकर क्वेश्चन पूछ कर सकते हैं खाली सरकार पर बोलना उनके ऊपर आरोप देना कि भैया आपकी जिम्मेदारी है तो यह तो थोड़ा ज्यादा हो जाएगा क्योंकि देखिए आगरे का छोटा देश होता है तो वहां पर आसान होते हैं बातें आसान होती है चीजें करनी इतना बड़ा देश 130 करोड़ आबादी वाला देश इसमें अर्बन पापुलेशन को छोड़ दीजिए जो कि बहुत कम है बाकी पापुलेशन तो रूरल इंडिया में और रूरल इंडिया की बात छोड़िए आप जितने भी लोग हैं बहुत सारे लोग हैं जिनके भाषा खाने को नहीं है पहनने को नहीं है वगैरह वगैरह तो बहुत सारी ऐसी हैं जहां चीजें हैं आज इसके लिए सरकार को कदम उठाना चाहिए और आपको और हमको भी मिलकर काम करना चाहिए खाली मंदिरों से थोड़ा सा पैसा निकाल कर गरीब कुछ कर देना शायद यह इतना फायदेमंद है इतना बढ़िया तरीका नहीं वहां मैं बोलता हूं आप मंदिर में दान किया गया है उसको उतार कर और फिर कुछ करना वह शायद मेरे हिसाब से सही नहीं है कहीं पर हमको ऐसा कर सकते हैं ना कुछ तो रहने दे सकते जब हम खाली मंदिर की बात कहते तो खाली मंदिर की बात क्यों करते हैं आप तो फिर नाम तो हर जगह होता होगा चाहे वह जैन लोग का हो चाहे वह गुरुद्वारा हो जाए जहां पर भी वादे के गुरुद्वारा का भात आया जिक्र आया तो वहां पर भी क्या बोलूं काम ही करते हैं डेफिनेटली वहां पर लंगर चलता है आप देखेंगे तो अधिकतर गुरुद्वारा में लंगर चलता है वहां भी कई सारी सेवाएं शुरू की हुई है लेकिन यह थोड़ी ना है कि वह अब क्योंकि वह स्वर्ण मंदिर अमृतसर का तो भाई वहां के जो भी है सोने उतार के कई गरीबों को ऐसे करके देखा जाए तो बहुत सारी चीजें हमारे स्पीड लाइट जलाने की क्या जरूरत है मत जलाई आप स्वीट लाइट जो रोड पर जाए लाइट जलती है उस पैसे को बचाकर गरीबों में दे दीजिए सीडीएम में जो मैच होते हैं इतनी सारी लाइट जलते हैं वह मैच बंद कर दीजिए कि वह पैसा गरीबों में दे देंगे ऐसे नहीं होता है ना बहुत सारी चीज को देख गार्डन नहीं बनाते हम फालतू फालतू नहीं लगाते ना करेंगे कहां से करेंगे तो सोचना पड़ता है बहुत सारी चीजें होती है ना तो यह तो मेरा है

shailesh ko samajhte hai mandiro mein jo bhagwan ki murtiya hai uske upar jo kehne aate hai ya jo paise aate hai wahan par danpatra mein vaah kahaan se aate hai yah saare daan se hi toh aate hai daan kaun karte hai aap aur hum jaise insaan hi toh karte hai koi amir hota hai koi garib hota hai lekin daan sab log karte hai koi Rs karta hai toh koi ek crore karta hai ise english mein sab log kehte hai ab yah log hi toh daan kar rahe hai aur kahaan ke hai mandiro mein toh kya yah log apne aap logo ke liye logo ki bhalai ke liye kuch nahi kar sakte soch kar dekhiye mandir mein karne ki wajah se unhone jabardasti toh nahi bola ki aap ko mandir mein nahi karna hai vaah toh apni shraddha se vishwas hai jo bhi theek lagta hai use vo karte hai lekin agar chahen toh vaah bahar bhi toh kar sakte hai na reh sakte isme se kaafi saare log bahar bhi kuch na kuch chote paimane par bade paimane par logo ke liye kuch na kuch karte ho accha doosra kai saare ab mandir hai jaise hum bade bade mandiro ki baat kare tirupati balaji ki baat kare aur bahut saare hai un logo ne apne trust ya foundation bana rakhe hai aur uske tahat kai school aur aur kai saare program kiye jaate hai jaha par wahan se paisa lagta hai haan abhi bahut score par bahut kuch kiya ja sakta hai but aisa karke hota hai ab sarkar ka koi kanoon banana hai aisa kuch aana ki vaah paise hum rakh le apne paas le le le aaiye shayad utana munasib nahi hoga vikas isme koi kansistensi nahi hai matlab kitna paisa aayega kaunsi mandir mein hai kaunsi mandir ko bola jaaye itne saare mandir hai koi chota hai koi bada hai koi kahin kuch hai kahin kuch hai vagera vagairah toh isme sarkar ki madad tatha shayad utani hi ahamiyat nahi rakhegi aur shayad sahi bhi nahi ho jaaye kyonki kahin par toh chod dena chahiye kya yahi ek tarika bacha hai jis tarike se hum garibi hatane mein apne hath kare sabse pehle toh aap aur hum bhi prayas kar sakte hai dusri baat aati hai ki bhai sarkar ko aur yah jitne bhi log hai hum sab milkar question puch kar sakte hai khaali sarkar par bolna unke upar aarop dena ki bhaiya aapki jimmedari hai toh yah toh thoda zyada ho jaega kyonki dekhiye agre ka chota desh hota hai toh wahan par aasaan hote hai batein aasaan hoti hai cheezen karni itna bada desh 130 crore aabadi vala desh isme urban population ko chod dijiye jo ki bahut kam hai baki population toh rural india mein aur rural india ki baat chodiye aap jitne bhi log hai bahut saare log hai jinke bhasha khane ko nahi hai pahanne ko nahi hai vagera vagairah toh bahut saree aisi hai jaha cheezen hai aaj iske liye sarkar ko kadam uthna chahiye aur aapko aur hamko bhi milkar kaam karna chahiye khaali mandiro se thoda sa paisa nikaal kar garib kuch kar dena shayad yah itna faydemand hai itna badhiya tarika nahi wahan main bolta hoon aap mandir mein daan kiya gaya hai usko utar kar aur phir kuch karna vaah shayad mere hisab se sahi nahi hai kahin par hamko aisa kar sakte hai na kuch toh rehne de sakte jab hum khaali mandir ki baat kehte toh khaali mandir ki baat kyon karte hai aap toh phir naam toh har jagah hota hoga chahen vaah jain log ka ho chahen vaah gurudwara ho jaaye jaha par bhi waade ke gurudwara ka bhat aaya jikarr aaya toh wahan par bhi kya bolu kaam hi karte hai definetli wahan par langar chalta hai aap dekhenge toh adhiktar gurudwara mein langar chalta hai wahan bhi kai saree sevayen shuru ki hui hai lekin yah thodi na hai ki vaah ab kyonki vaah swarn mandir amritsar ka toh bhai wahan ke jo bhi hai sone utar ke kai garibon ko aise karke dekha jaaye toh bahut saree cheezen hamare speed light jalane ki kya zarurat hai mat jalai aap sweet light jo road par jaaye light jalti hai us paise ko bachakar garibon mein de dijiye CDM mein jo match hote hai itni saree light jalte hai vaah match band kar dijiye ki vaah paisa garibon mein de denge aise nahi hota hai na bahut saree cheez ko dekh garden nahi banate hum faltu faltu nahi lagate na karenge kahaan se karenge toh sochna padta hai bahut saree cheezen hoti hai na toh yah toh mera hai

शैलेश को समझते हैं मंदिरों में जो भगवान की मूर्तियां हैं उसके ऊपर जो कहने आते हैं या जो पै

Romanized Version
Likes  495  Dislikes    views  7277
WhatsApp_icon
user

Liyakat Ali Gazi

Motivational Speaker, Life Coach & Soft Skills Trainer 📲 9956269300

1:10
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

मेरी प्यारी जिस प्यारे साथी नहीं है सवाल पूछा है सबसे पहले तो मैं उसको अपना नमन पेश करता हूं क्योंकि मेरे इस प्यारे साथी की बहुत ही बेहतरीन सोच है हकीकत में यदि मंदिर के माल को मंदिर के पास उनको मंदिर के जेवरात ओं को सोने को चांदी को वहां पर भेंट किए चीजों को अगर भारत के विकास में लगाया जाए तो निश्चित रूप से भारत देश का सभी कर्जा माफ हो सकता है वह देश विश्व गुरु बन सकता है भारत देश विश्व का सबसे विकसित देश बन सकता है कि कई बार इकोनॉमिक्स टाइम्स की रिपोर्ट आई है यार उससे न्यूज़ चैनल्स की बहुत सी सरकारी संस्थाओं की रिपोर्ट में सोना जमा है जितना कि भारत के पूरे समस्त नागरिकों के पास में नहीं है और यदि उस सोने का पूरा इस्तेमाल कर लिया जाए तो भारत विश्व में सबसे विकसित सबसे धनवान देश भारत की सबसे मजबूत अर्थव्यवस्था बन जाएगी तो मैं समझता हूं यह सही बात है आपकी बिल्कुल सही विचार और सही रहता है

meri pyaari jis pyare sathi nahi hai sawaal poocha hai sabse pehle toh main usko apna naman pesh karta hoon kyonki mere is pyare sathi ki bahut hi behtareen soch hai haqiqat mein yadi mandir ke maal ko mandir ke paas unko mandir ke jevarat on ko sone ko chaandi ko wahan par bhent kiye chijon ko agar bharat ke vikas mein lagaya jaaye toh nishchit roop se bharat desh ka sabhi karja maaf ho sakta hai vaah desh vishwa guru ban sakta hai bharat desh vishwa ka sabse viksit desh ban sakta hai ki kai baar economics times ki report I hai yaar usse news channels ki bahut si sarkari sasthaon ki report mein sona jama hai jitna ki bharat ke poore samast nagriko ke paas mein nahi hai aur yadi us sone ka pura istemal kar liya jaaye toh bharat vishwa mein sabse viksit sabse dhanwan desh bharat ki sabse majboot arthavyavastha ban jayegi toh main samajhata hoon yah sahi baat hai aapki bilkul sahi vichar aur sahi rehta hai

मेरी प्यारी जिस प्यारे साथी नहीं है सवाल पूछा है सबसे पहले तो मैं उसको अपना नमन पेश करता ह

Romanized Version
Likes  84  Dislikes    views  1670
WhatsApp_icon
user

Daulat Ram Sharma Shastri

Psychologist | Ex-Senior Teacher

4:04
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

प्रश्न आपका बड़ा सार्थक है बहुत सारगर्भित यार अच्छा है आप सही कहते हैं मूर्तियों में सोना पैसा देना यदि हम मामा भी करके देश की गरीबी मिटाने के लिए या बेरोजगारी मिटाने के लिए या देश का विकास करने के लिए इसको यूज़ करें बहुत अच्छी बात होगी एक दिए और मूत्र से संबंधित सभी धार्मिक स्थलों से कहिए आप सभी धार्मिक स्थलों पर जितना पैसा यह डोनेशन का आता है उसका यूज़ देश विकास के लिए करें गरीबी मिटाने के लिए करें बेरोजगारी मिटाने के लिए करें बहुत कुछ अच्छा हो सकता है एक रचनात्मक कार्य और अच्छा विचार है लेकिन दुर्भाग्य इस बात इस पैसे को देने वाला कौन है यह मैं और आप जैसे ही चढ़ाते हैं हम हमारी बुद्धि खुद की काम नहीं करती इस बात के लिए कि हम जो पैसा इनको जा रहा है यह पट्टी खाएंगे यह लोग पस्ती लोग इस बंदरबांट करेंगे हकीकत यह है कि यह हम सब को सोचने का विषय है हम सबको ध्यान देना चाहिए कि राम रहीम पर इतना पैसा कहां से आ गया आसाराम जी पर तलाक करोड़ों अरबों रुपए गांव से आ गए यह आप और हम जैसे जो ब्लाइंड सपोर्टर हैं यह लोग देते हैं भारत में कितने बाबाजी पले हुए हैं उन सब को कौन देता है उन सब को तुम और हम जैसे ब्लाइंड सपोर्टर जो हैं पहुंचाते हैं अपने बच्चों को अच्छा नहीं खिलाएंगे बच्चों को अच्छा नहीं पहना सकते लेकिन माओवादियों के लिए अर्पित करेंगे यह हमारी आपकी इच्छा है अमला हमारे आपकी अज्ञान है क्योंकि हम धर्म के मूल तत्व को नहीं समझ सके हैं इसलिए ऐसे आप देखते हो कि देश में हमारे बाहों के कितनी बड़ी हुई है इनका जीवन में आप देखेंगे तो कितने ऐसो आराम से भरा हुआ है कितना मेट्रो माया कलेक्शन ही उनके पास है वह सब गलती हमारे तुम जैसे ब्लाइंड सपोर्टर की है आज भी तुमको आसाराम जबकि जेल में पड़ा हुआ है अपने को कर्मों के कारण से लेकिन आज भी तो मैं उसके ऐसे ब्लाइंड सपोर्टर मिल सकते हैं यदि तुम्हें आसाराम की पढ़ाई कर दो तो वह तुम से लड़ने को तैयार है अब इनको क्या कहेंगे आप अज्ञान नहीं कहेंगे मूर्खता नहीं कहेंगे तो सिर्फ मक्खी को भी निकल जाना चाहते हैं तो कहते हैं कि नहीं हमारा गुरुदेव तो एकदम सच्चा है तो तुम सोचो इतनी सेवा उन्होंने जितनी शर्मा के तरीके की उत्पाद यानी यदि ईश्वर मेला आया होता तो कब के तर जाते लेकिन उसकी क्षमता चिंता नहीं करते हैं वह तो कहते हो उसी ग्रुप के माध्यम से बनता है अरे गुरु खुद ही प्राप्त कर सका वह तुम्हें क्या देगा वो कहते बंदा ग्रुप है अकेला होना फिल्म थे ना तो मेरे मित्रों यह सब बातें सभी धर्मों को ध्यान देना चाहिए सभी धर्मों में सत्संग चिंता के अज्ञान हटे धर्म के मूल तत्व को समझा जाए मानव मात्र की सेवा पर भी ध्यान दिया जाए मालूमात की सहायता पर ध्यान दिया जाए मानव मात्र की भूख आदि को मिटाने के लिए बेरोजगारी आदि को मिटाने के लिए समस्याओं पर ध्यान देकर कि हम एक दूसरे की सहायता करें देश विकास में हम जुड़ जाएं तो इससे बड़ा मेरी दृष्टि में और कोई कार्य नहीं हो सकता है तो देश हित सर्वोपरि है देश हमारा मंदिर है जैसे हमारी राष्ट्रीयता है और देश के राष्ट्रीय हमारी हमारे अच्छे धर्म है सभी को चमारा राष्ट्रपति का आज से यह बात हमें ध्यान देना चाहिए

prashna aapka bada sarthak hai bahut saragarbhit yaar accha hai aap sahi kehte hai murtiyon mein sona paisa dena yadi hum mama bhi karke desh ki garibi mitne ke liye ya berojgari mitne ke liye ya desh ka vikas karne ke liye isko use kare bahut achi baat hogi ek diye aur mutra se sambandhit sabhi dharmik sthalon se kahiye aap sabhi dharmik sthalon par jitna paisa yah donation ka aata hai uska use desh vikas ke liye kare garibi mitne ke liye kare berojgari mitne ke liye kare bahut kuch accha ho sakta hai ek rachnatmak karya aur accha vichar hai lekin durbhagya is baat is paise ko dene vala kaun hai yah main aur aap jaise hi chadhate hai hum hamari buddhi khud ki kaam nahi karti is baat ke liye ki hum jo paisa inko ja raha hai yah patti khayenge yah log pasti log is bandarabant karenge haqiqat yah hai ki yah hum sab ko sochne ka vishay hai hum sabko dhyan dena chahiye ki ram rahim par itna paisa kahaan se aa gaya asharam ji par talak karodo araboon rupaye gaon se aa gaye yah aap aur hum jaise jo blind supporter hai yah log dete hai bharat mein kitne babaji PALAY hue hai un sab ko kaun deta hai un sab ko tum aur hum jaise blind supporter jo hai pahunchate hai apne baccho ko accha nahi khilaenge baccho ko accha nahi pehna sakte lekin maovadiyon ke liye arpit karenge yah hamari aapki iccha hai amla hamare aapki agyan hai kyonki hum dharm ke mul tatva ko nahi samajh sake hai isliye aise aap dekhte ho ki desh mein hamare baahon ke kitni baadi hui hai inka jeevan mein aap dekhenge toh kitne aiso aaram se bhara hua hai kitna metro maya collection hi unke paas hai vaah sab galti hamare tum jaise blind supporter ki hai aaj bhi tumko asharam jabki jail mein pada hua hai apne ko karmon ke karan se lekin aaj bhi toh main uske aise blind supporter mil sakte hai yadi tumhe asharam ki padhai kar do toh vaah tum se ladane ko taiyar hai ab inko kya kahenge aap agyan nahi kahenge murkhta nahi kahenge toh sirf makkhi ko bhi nikal jana chahte hai toh kehte hai ki nahi hamara gurudev toh ekdam saccha hai toh tum socho itni seva unhone jitni sharma ke tarike ki utpaad yani yadi ishwar mela aaya hota toh kab ke tar jaate lekin uski kshamta chinta nahi karte hai vaah toh kehte ho usi group ke madhyam se baata hai are guru khud hi prapt kar saka vaah tumhe kya dega vo kehte banda group hai akela hona film the na toh mere mitron yah sab batein sabhi dharmon ko dhyan dena chahiye sabhi dharmon mein satsang chinta ke agyan hate dharm ke mul tatva ko samjha jaaye manav matra ki seva par bhi dhyan diya jaaye malumat ki sahayta par dhyan diya jaaye manav matra ki bhukh aadi ko mitne ke liye berojgari aadi ko mitne ke liye samasyaon par dhyan dekar ki hum ek dusre ki sahayta kare desh vikas mein hum jud jayen toh isse bada meri drishti mein aur koi karya nahi ho sakta hai toh desh hit sarvopari hai desh hamara mandir hai jaise hamari rastriyata hai aur desh ke rashtriya hamari hamare acche dharm hai sabhi ko chamara rashtrapati ka aaj se yah baat hamein dhyan dena chahiye

प्रश्न आपका बड़ा सार्थक है बहुत सारगर्भित यार अच्छा है आप सही कहते हैं मूर्तियों में सोना

Romanized Version
Likes  68  Dislikes    views  1355
WhatsApp_icon
user

Ghanshyamvan

मंदिर सेवा

0:34
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

देखिए देश के भ्रष्ट नेताओं और देश के भ्रष्ट ऑफिसर जो सरकारी नौकरी करते हैं उनके पास जो पैसा है सरकार उसका इस्तेमाल क्यों नहीं करती भगवान के सोने के गहने और पैसे तो अमर जेंसी में भी काम आ सकते हैं मगर पहले सरकार इन नेताओं को ऑन ऑफिसर ओके जो काला धन छुपा कर बैठे हैं वह धन को इस्तेमाल लेना चाहिए और ने सजा देनी चाहिए

dekhiye desh ke bhrasht netaon aur desh ke bhrasht officer jo sarkari naukri karte hain unke paas jo paisa hai sarkar uska istemal kyon nahi karti bhagwan ke sone ke gehne aur paise toh amar jensi mein bhi kaam aa sakte hain magar pehle sarkar in netaon ko on officer ok jo kaala dhan chupa kar baithe hain vaah dhan ko istemal lena chahiye aur ne saza deni chahiye

देखिए देश के भ्रष्ट नेताओं और देश के भ्रष्ट ऑफिसर जो सरकारी नौकरी करते हैं उनके पास जो पैस

Romanized Version
Likes  37  Dislikes    views  940
WhatsApp_icon
user

Abhishek Sharma

Forest Range Officer, MP

1:11
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

दिखी सबसे पहले मैं आपको बताना चाहूंगा कि भगवान की मूर्तियों पर या भगवान के मंदिरों में जो पैसा दिया जाता है चढ़ावा चढ़ा जाता है उसका सम्मान अभी भी काफी स्थान पर हो रहा है एग्जांपल के लिए माता वैष्णो देवी के मंदिर की बात करता हूं माता वैष्णो देवी के मंदिर में चढ़ावा आता है उस चढ़ावे का इस्तेमाल वहां माता वैष्णो देवी के नाम से किस रूट बना हुआ है जिन कॉलेज बना हुआ है वहां पर इसका इस्तेमाल किया जाता है ट्यूशन फीस भरने के लिए गरीब बच्चों के लिए इसके अलावा अमृतसर के गोल्डन टेंपल पर चढ़ाने का इस्तेमाल भी किया जाता है भारत में कई स्थानों पर ऐसे मंदिर हैं जिनका इस्तेमाल गरीबों के लिए या एजुकेशन के लिए या कई अन्य संसाधनों की सरकारी कामों के लिए सामाजिक कामों के लिए किया जाता है तो अगर आप बात करते हैं कि सुधार करना चाहिए चीजों के बारे में और भी तरीके चीज होनी चाहिए तो एक बेशक एक बहुत अच्छा आईडिया है और इस तरह की चीजें और बढ़ती हुई चाय हर मंदिर में ऐसा चीज होनी चाहिए जो सांप जो इतना समर्थ है कि वह कर सके किसी और सामाजिक कार्य को तो मुझे लगता है हरमंदिर को से पार्टिसिपेट करना चाहिए बहुत-बहुत धन्यवाद

dikhi sabse pehle main aapko bataana chahunga ki bhagwan ki murtiyon par ya bhagwan ke mandiro mein jo paisa diya jata hai chadhava chadha jata hai uska sammaan abhi bhi kaafi sthan par ho raha hai example ke liye mata vaishno devi ke mandir ki baat karta hoon mata vaishno devi ke mandir mein chadhava aata hai us chadhave ka istemal wahan mata vaishno devi ke naam se kis root bana hua hai jin college bana hua hai wahan par iska istemal kiya jata hai tuition fees bharne ke liye garib baccho ke liye iske alava amritsar ke golden temple par chadhane ka istemal bhi kiya jata hai bharat mein kai sthano par aise mandir hai jinka istemal garibon ke liye ya education ke liye ya kai anya sansadhano ki sarkari kaamo ke liye samajik kaamo ke liye kiya jata hai toh agar aap baat karte hai ki sudhaar karna chahiye chijon ke bare mein aur bhi tarike cheez honi chahiye toh ek beshak ek bahut accha idea hai aur is tarah ki cheezen aur badhti hui chai har mandir mein aisa cheez honi chahiye jo saap jo itna samarth hai ki vaah kar sake kisi aur samajik karya ko toh mujhe lagta hai haramandir ko se participate karna chahiye bahut bahut dhanyavad

दिखी सबसे पहले मैं आपको बताना चाहूंगा कि भगवान की मूर्तियों पर या भगवान के मंदिरों में जो

Romanized Version
Likes  50  Dislikes    views  1006
WhatsApp_icon
user

Mohitg

Student & Shopkeeper

3:18
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

भगवान जी की मूर्तियों में गैस होने के गहने और पैसे को अगर देश की गरीबी मिटाने में इस्तेमाल किया जाए तो भारत में कितना सुधार आएगा भारत के एक मंदिर की बात करो एक मंदिर से प्राप्त धन सोना के गहने पैसों को 1 साल में जो प्राप्त होता उसको देश के प्रत्येक व्यक्ति में भी वार्ड गया उस मंदिर में जो पैसे और सोने हैं वह बच जाएगा पर सारे देश की करीब 1 साल देश की आवादी को बांटने का कुछ हिस्सा बचेगा जाएगा मंदिरों में रिकॉर्ड तोड़ते हैं उनके पास जोड़ स्टोरी स्टोरी उसका उसका एक परसेंट स्थाई पूरे भारत में गरीबी हटाने में काम आ सकता है लेकिन हम चाहते ठीक है क्या हम किसी व्यक्ति ने वहां लिया के सामने तो पैसे नहीं रखे वह धीरे-धीरे आए हैं और वह देश में मंदिर का टेस्ट का है तो ठीक है उनका लेकिन अपने जिस एरिया में वहां का काम तो हैंडल कर सकते हैं वहां के गवर्नमेंट को परेशान करते हैं यदि भगवान की सेफ्टी के लिए पर्सनल सिक्योरिटी लगा क्यों पुलिस को परेशान करता वहां पर आप झूला अपने भगवान की सिक्योरिटी के अलावा कोई होने वाले फंक्शन के लिए पंडाल वगैरह उसमें स्वयं का खर्चा करें कहां भगवान खुद कहेंगे वह सोने के गहने एक गरीब बाप मंदिर में के बाद एक हजारों पुजारी बैठे थे कंबल कंबल दे सकते हैं सोने की व्यवस्था कर सकते उन्होंने बैठकर के लिए रिमाइंडर लगा तुमको भी कौन देगा आप यह सोच क्यों उनका काम नहीं करते भारत सरकार को हर मंदिर के आने वाले पैसे का 10% तो उन गरीबों को यूज करना चाहिए मंदिर के आस-पास रहते साल में उनमें यूज़ करना चाहिए तो भारत की कम से कम 10% गरीबी तो दूर होगी मंदिरों के नाम पर आने वाला चढ़ावा भारत में सबसे ज्यादा होने का दीजिए कि उस पर नाटक टैक्स देना पड़ता है ना ही उसका कोई ब्लैक मैन व्यक्ति के कोई ब्लैक मनी की टैक्स जीएसटी जमा होती है भारत का आदमी अपना ब्लैक मनी को भगवान ने दान करके उसको वाइट में कन्वर्ट करने की कोशिश करता है तो इसको भारत सरकार को नियम बनाकर करती गरीबी मिटाने में भारत की जो अभी आर्थिक स्थिति की ओर से दूर करने में यूज हो सकती है

bhagwan ji ki murtiyon mein gas hone ke gehne aur paise ko agar desh ki garibi mitne mein istemal kiya jaaye toh bharat mein kitna sudhaar aayega bharat ke ek mandir ki baat karo ek mandir se prapt dhan sona ke gehne paison ko 1 saal mein jo prapt hota usko desh ke pratyek vyakti mein bhi ward gaya us mandir mein jo paise aur sone hai vaah bach jaega par saare desh ki kareeb 1 saal desh ki aavadi ko baantne ka kuch hissa bachega jaega mandiro mein record todte hai unke paas jod story story uska uska ek percent sthai poore bharat mein garibi hatane mein kaam aa sakta hai lekin hum chahte theek hai kya hum kisi vyakti ne wahan liya ke saamne toh paise nahi rakhe vaah dhire dhire aaye hai aur vaah desh mein mandir ka test ka hai toh theek hai unka lekin apne jis area mein wahan ka kaam toh handle kar sakte hai wahan ke government ko pareshan karte hai yadi bhagwan ki safety ke liye personal Security laga kyon police ko pareshan karta wahan par aap jhoola apne bhagwan ki Security ke alava koi hone waale function ke liye pandal vagera usme swayam ka kharcha kare kahaan bhagwan khud kahenge vaah sone ke gehne ek garib baap mandir mein ke baad ek hazaro pujari baithe the kambal kambal de sakte hai sone ki vyavastha kar sakte unhone baithkar ke liye reminder laga tumko bhi kaun dega aap yah soch kyon unka kaam nahi karte bharat sarkar ko har mandir ke aane waale paise ka 10 toh un garibon ko use karna chahiye mandir ke aas paas rehte saal mein unmen use karna chahiye toh bharat ki kam se kam 10 garibi toh dur hogi mandiro ke naam par aane vala chadhava bharat mein sabse zyada hone ka dijiye ki us par natak tax dena padta hai na hi uska koi black man vyakti ke koi black money ki tax gst jama hoti hai bharat ka aadmi apna black money ko bhagwan ne daan karke usko white mein convert karne ki koshish karta hai toh isko bharat sarkar ko niyam banakar karti garibi mitne mein bharat ki jo abhi aarthik sthiti ki aur se dur karne mein use ho sakti hai

भगवान जी की मूर्तियों में गैस होने के गहने और पैसे को अगर देश की गरीबी मिटाने में इस्तेमाल

Romanized Version
Likes  6  Dislikes    views  126
WhatsApp_icon
user
2:20
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

कौन सा पेड़ पौधे जो है ना होती उसके पास एक बार एक बार हावड़ा का पुल लेने के लिए जाने के लिए बदमाश मनुष्य का पेन कार्ड प्राप्त नहीं कर पाता

kaun sa ped paudhe jo hai na hoti uske paas ek baar ek baar howrah ka pool lene ke liye jaane ke liye badamash manushya ka pen card prapt nahi kar pata

कौन सा पेड़ पौधे जो है ना होती उसके पास एक बार एक बार हावड़ा का पुल लेने के लिए जाने के लि

Romanized Version
Likes  6  Dislikes    views  99
WhatsApp_icon
qIcon
ask
QuestionsProfiles

Vokal App bridges the knowledge gap in India in Indian languages by getting the best minds to answer questions of the common man. The Vokal App is available in 11 Indian languages. Users ask questions on 100s of topics related to love, life, career, politics, religion, sports, personal care etc. We have 1000s of experts from different walks of life answering questions on the Vokal App. People can also ask questions directly to experts apart from posting a question to the entire answering community. If you are an expert or are great at something, we invite you to join this knowledge sharing revolution and help India grow. Download the Vokal App!