आपके अनुसार राम जन्मभूमि-बाबरी मस्जिद ज़मीन विवाद का क्या हल होना चाहिए?...


user

Suraj Shaw

Entrepreneur, Career Counsellor

1:57
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

हेलो फ्रेंड्स देखिए जो आप बाबरी मस्जिद का मुद्दा है यह पहली बात तो इतना बड़ा मुद्दा है ही नहीं एक छोटे से जमीन के टुकड़े के लिए अगर पूरा देश लड़े तो इससे बड़ी बेवकूफी कुछ भी नहीं होगी और सबको पता है कि जो चीज है यह कब सामने आती जब इलेक्शन चाहने वाले होते तो उस टाइम पर पॉलिटिशन का काम होता है कि वह मुद्दों को लेकर के लोगों का भरोसा जीता और वोट और उसमें पैसे हम आम लोग हिंदू-मुस्लिम करके तो लोगों को समझना चाहिए कि इतना बड़ा मुद्दा नहीं है इससे आगे भी बहुत सारे मुद्दा है जिस पर उन्हें सूचना दी जिस पर हमें सोचना चाहिए है ना और राय जमीन के टुकड़े की बात तो देखिए औरंगजेब ने खुद ने माना है कि उसमें बहुत सारे हिंदू मंदिरों को तोड़कर के वहां पर मस्जिदें बनवाई तो क्या हो गया अगर उनमें से एक मस्जिद को तोड़ कर के और वापस हिंदू मंदिर बना दिया गया तो मैं ना एक मंदिर से कोई फर्क नहीं पड़ता और बाप पर राम मंदिर के अस्तित्व भी पाए गए हैं या फिर आमने-सामने बना ले मंदिर और मस्जिद पागल पागल बना ले बहुत सारे ऑप्शन से सुप्रीम कोर्ट के पास लेकिन जो पॉलिटिशन चाहिए ऐसा होने नहीं देंगे यह कभी रिजल्ट नहीं आने देंगे क्योंकि उनको पता है जिसकी में पक्ष को रिजल्ट आया तो जो विपक्ष वाले होंगे उनका वोटिंग के हाथों से चला जाएगा यह मुद्दा बंद नहीं होने वाला यह पॉलिटिकल मुद्दा बन चुका है यह रिलीज पर होता है ही नहीं धार्मिक सुधार आई नहीं अब इसको पॉलीटिशियंस अपनी मर्जी से उछाल तो अपनी मर्जी से दबाते हैं हम लोगों को समझना है जमीन इन सब बातों पर ध्यान ना दे करके और भी जो चीज है उन पर ध्यान देना चाहिए

hello friends dekhiye jo aap babri masjid ka mudda hai yah pehli baat toh itna bada mudda hai hi nahi ek chote se jameen ke tukde ke liye agar pura desh lade toh isse badi bewakoofi kuch bhi nahi hogi aur sabko pata hai ki jo cheez hai yah kab saamne aati jab election chahne waale hote toh us time par politician ka kaam hota hai ki vaah muddon ko lekar ke logo ka bharosa jita aur vote aur usme paise hum aam log hindu muslim karke toh logo ko samajhna chahiye ki itna bada mudda nahi hai isse aage bhi bahut saare mudda hai jis par unhe soochna di jis par hamein sochna chahiye hai na aur rai jameen ke tukde ki baat toh dekhiye aurangzeb ne khud ne mana hai ki usme bahut saare hindu mandiro ko todkar ke wahan par masjido banwaai toh kya ho gaya agar unmen se ek masjid ko tod kar ke aur wapas hindu mandir bana diya gaya toh main na ek mandir se koi fark nahi padta aur baap par ram mandir ke astitva bhi paye gaye hain ya phir aamane saamne bana le mandir aur masjid Pagal Pagal bana le bahut saare option se supreme court ke paas lekin jo politician chahiye aisa hone nahi denge yah kabhi result nahi aane denge kyonki unko pata hai jiski mein paksh ko result aaya toh jo vipaksh waale honge unka voting ke hathon se chala jaega yah mudda band nahi hone vala yah political mudda ban chuka hai yah release par hota hai hi nahi dharmik sudhaar I nahi ab isko politicians apni marji se uchal toh apni marji se dabate hain hum logo ko samajhna hai jameen in sab baaton par dhyan na de karke aur bhi jo cheez hai un par dhyan dena chahiye

हेलो फ्रेंड्स देखिए जो आप बाबरी मस्जिद का मुद्दा है यह पहली बात तो इतना बड़ा मुद्दा है ही

Romanized Version
Likes  84  Dislikes    views  1002
WhatsApp_icon
11 जवाब
qIcon
ask
ऐसे और सवाल
Loading...
Loading...
user

Abhishek Shekher Gaur

Civil Engineer

1:41
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

लेकिन मेरा मन है कि जो राम जन्मभूमि बाबरी मस्जिद का विवाद है उसमें कोर्ट को यह फैसला देना चाहिए कि यह जमीन किसकी है लोगों ने इसको बहुत कट्टर धार्मिक बना दिया है जो कि सही नहीं है क्योंकि कोर्ट में भी आप पता करेंगे तो यह जमीनी विवाद है मतलबी जमीन किसकी थी जमीन थी किसी की उसने कब्जा ली या फिर क्या हुआ है उस बारे में कोर्ट सुनवाई करता तो इसमें आना तो फैसला 123 पक्ष में है किसी के पीछे इस तरफ है क्या वह तो मेरा यह मानना है कि जिसकी जमीन है उसको दे दो इसमें क्योंकि मुझे कभी नहीं मुझे सच सच में कभी नहीं लगाता इतनी बार सुलह कराने की और यह एक सलूशन में पहुंचने की है जो कोर्ट के कि मुझे बिल लगा भी नहीं था कि अभी पहुंच पाएंगे किसी सलूशन पर क्योंकि जब भी ऐसी चीज होती ना तो हर एक पक्ष चाहता है कि दूसरा वाला झुक जाए और वह सब अपने सैंपल लेकर बैठे हुई देखना की जमीन किसकी है यह किस को ब्लॉक करती थी या किसको किसके नाम पर थी वह यह देख रहे हैं कि यह मेरे धर्म पर चोट हो जाएगी ऐसे टाइम पर हमें कोर्ट पर भरोसा करना चाहिए कि कोर्ट के पास पर्याप्त सबूत हैं अरे कॉलेज पलसर वेब डिपार्टमेंट ऑफ इंडिया जो है वह सर्वे कर चुका है पर्याप्त सुबूत मुस्लिम पक्ष ने भी दे दिए हैं हिंदू पक्ष ने भी दे दी हैं थैंक यू

lekin mera man hai ki jo ram janmbhoomi babri masjid ka vivaad hai usme court ko yah faisla dena chahiye ki yah jameen kiski hai logo ne isko bahut kattar dharmik bana diya hai jo ki sahi nahi hai kyonki court mein bhi aap pata karenge toh yah zameeni vivaad hai matlabi jameen kiski thi jameen thi kisi ki usne kabza li ya phir kya hua hai us bare mein court sunvai karta toh isme aana toh faisla 123 paksh mein hai kisi ke peeche is taraf hai kya vaah toh mera yah manana hai ki jiski jameen hai usko de do isme kyonki mujhe kabhi nahi mujhe sach sach mein kabhi nahi lagaata itni baar sulah karane ki aur yah ek salution mein pahuchne ki hai jo court ke ki mujhe bill laga bhi nahi tha ki abhi pohch payenge kisi salution par kyonki jab bhi aisi cheez hoti na toh har ek paksh chahta hai ki doosra vala jhuk jaaye aur vaah sab apne sample lekar baithe hui dekhna ki jameen kiski hai yah kis ko block karti thi ya kisko kiske naam par thi vaah yah dekh rahe hain ki yah mere dharm par chot ho jayegi aise time par hamein court par bharosa karna chahiye ki court ke paas paryapt sabut hain are college palsar web department of india jo hai vaah survey kar chuka hai paryapt suboot muslim paksh ne bhi de diye hain hindu paksh ne bhi de di hain thank you

लेकिन मेरा मन है कि जो राम जन्मभूमि बाबरी मस्जिद का विवाद है उसमें कोर्ट को यह फैसला देना

Romanized Version
Likes  55  Dislikes    views  1869
WhatsApp_icon
play
user

Nikhil Ranjan

HoD - NIELIT

1:57

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

नरेश जी इस बात पर चर्चा चल रही है कि आपके अनुसार राम जन्मभूमि बाबरी मस्जिद जमीन विवाद का क्या हल होना चाहिए तो यहां पर हम एक चीज जो मुझे अभी कुछ दिन पहले व्हाट्सएप फेसबुक पर मैंने पढ़ा काफी चला अच्छा लगा कि उसमें लिखा था कि हम उस देश में रहते हैं उस देश के नागरिक हैं और उस देश के मैं ज्यादा लेते हैं और रामनवमी की छुट्टी मनाते हैं वह दशहरे की छुट्टी मनाते हैं वह दिवाली की छुट्टी मनाते हैं और उसी देश में भगवान राम जिनके लिए यह छुट्टियां जिनके नाम पर यह सारी छुट्टियां दी जाती हैं उनको अपने अस्तित्व की लड़ाई लड़नी पड़ रही है कि हां वहां पर कभी हुआ करते थे या उनकी जन्मभूमि है या उनका उस पर हक है तो ऐसे देश में तो हम रहते हैं अब क्या हाल होना चाहिए क्या नहीं होना चाहिए यह तो कोर्ट जाने का है या गवर्नमेंट जाना है क्योंकि कानून नहीं बन सकता है इसके लिए और उसका फैसला भी आ सकता है लेकिन ऐसी सरकारें रहीं हैं यहां पर हो इस तरह की सांप्रदायिक माहौल रहे हैं कि जिसमें से वोट बैंक की राजनीति हुई है जोक सही काम होना चाहिए था वह नहीं हुआ है गंगा जमुना तहजीब यहां पर कहा जाता था कि भारतवर्ष में है और ऐसी तहजीब का क्या कर डाला है लोगों ने वापस के सामने हैं हम सब देख ही रहे हैं तो यहां पर जो भी हल निकले सबके लिए एक अच्छा संकेत होना चाहिए अच्छी चीज होनी चाहिए जहां पर आपसी तालमेल आपसी सद्भाव सौहार्द बना रहे और सभी धर्मों को सम्मान मिले और जिसके लिए लड़ाई हो रही है जैन भगवान राम के लिए उनको अपने जीवन में तू जो नहीं मिला लेकिन आप कम से कम इस दुनिया में इस भारतवर्ष में उनको इतना सम्मान मिले उनको अपना जो जन्मभूमि है उसमें भी उनको जो उनका हक है उनको मिलना चाहिए धन्यवाद

naresh ji is baat par charcha chal rahi hai ki aapke anusaar ram janmbhoomi babri masjid jameen vivaad ka kya hal hona chahiye toh yahan par hum ek cheez jo mujhe abhi kuch din pehle whatsapp facebook par maine padha kaafi chala accha laga ki usme likha tha ki hum us desh mein rehte hain us desh ke nagarik hain aur us desh ke main zyada lete hain aur ramnavami ki chhutti manate hain vaah dussehra ki chhutti manate hain vaah diwali ki chhutti manate hain aur usi desh mein bhagwan ram jinke liye yah chhutiyan jinke naam par yah saree chhutiyan di jaati hain unko apne astitva ki ladai ladani pad rahi hai ki haan wahan par kabhi hua karte the ya unki janmbhoomi hai ya unka us par haq hai toh aise desh mein toh hum rehte hain ab kya haal hona chahiye kya nahi hona chahiye yah toh court jaane ka hai ya government jana hai kyonki kanoon nahi ban sakta hai iske liye aur uska faisla bhi aa sakta hai lekin aisi sarkaren rahin hain yahan par ho is tarah ki sampradayik maahaul rahe hain ki jisme se vote bank ki raajneeti hui hai joke sahi kaam hona chahiye tha vaah nahi hua hai ganga jamuna tahjib yahan par kaha jata tha ki bharatvarsh mein hai aur aisi tahjib ka kya kar dala hai logo ne wapas ke saamne hain hum sab dekh hi rahe hain toh yahan par jo bhi hal nikle sabke liye ek accha sanket hona chahiye achi cheez honi chahiye jaha par aapasi talmel aapasi sadbhav sauhaard bana rahe aur sabhi dharmon ko sammaan mile aur jiske liye ladai ho rahi hai jain bhagwan ram ke liye unko apne jeevan mein tu jo nahi mila lekin aap kam se kam is duniya mein is bharatvarsh mein unko itna sammaan mile unko apna jo janmbhoomi hai usme bhi unko jo unka haq hai unko milna chahiye dhanyavad

नरेश जी इस बात पर चर्चा चल रही है कि आपके अनुसार राम जन्मभूमि बाबरी मस्जिद जमीन विवाद का क

Romanized Version
Likes  479  Dislikes    views  6392
WhatsApp_icon
user

महेश सेठ

रेकी ग्रैंडमास्टर,लाइफ कोच

1:13
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

राम जन्मभूमि जमीन का विवाद यह विवाद का हाल एक ही है कि वहां राम मंदिर बने और मस्जिद कहीं और बने केवल उसी की बात नहीं है जहां जहां मस्जिद बनाई गई है मंदिर तोड़कर 59 जगहों पर मंदिरों का पुनरुद्धार होना चाहिए और सनातन धर्म का जो सत्य है वह स्थापित होना चाहिए कोई भी आक्रांता कोई भी विदेशी आ करके तैयार रहे हमें कोई दिक्कत नहीं है परंतु हमारी मूल संस्कृति को नष्ट करना चाहे तो इसमें हमारा विरोध हैं हम उनकी संस्कृति को नष्ट नहीं करते हम कह रहे हैं क्योंकि और बना ले हम यह नहीं कहते कि हम नहीं बनाने देंगे हम यह भी कह सकते हैं हम नहीं कहते हैं जरूरी नहीं है लोग से सहमत हूं परंतु मुझे भी अधिकार है अपनी बात कहने का धन्यवाद

ram janmbhoomi jameen ka vivaad yah vivaad ka haal ek hi hai ki wahan ram mandir bane aur masjid kahin aur bane keval usi ki baat nahi hai jaha jahan masjid banai gayi hai mandir todkar 59 jagaho par mandiro ka punruddhar hona chahiye aur sanatan dharm ka jo satya hai vaah sthapit hona chahiye koi bhi akranta koi bhi videshi aa karke taiyar rahe hamein koi dikkat nahi hai parantu hamari mul sanskriti ko nasht karna chahen toh isme hamara virodh hain hum unki sanskriti ko nasht nahi karte hum keh rahe hain kyonki aur bana le hum yah nahi kehte ki hum nahi banane denge hum yah bhi keh sakte hain hum nahi kehte hain zaroori nahi hai log se sahmat hoon parantu mujhe bhi adhikaar hai apni baat kehne ka dhanyavad

राम जन्मभूमि जमीन का विवाद यह विवाद का हाल एक ही है कि वहां राम मंदिर बने और मस्जिद कहीं

Romanized Version
Likes  128  Dislikes    views  2307
WhatsApp_icon
user

Dr.Nisha Joshi

Psychologist

0:43
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

आपके अनुसार राम जन्मभूमि बाबरी मस्जिद जमीन का जमीन विवाद का क्या होना चाहिए मुझे लगता है कि दोनों बन जाना चाहिए राम जन्मभूमि और बाबरी मस्जिद मंदिर मस्जिद दोनों बन जाए मस्जिद और सब साथ में ठीक ही होना चाहिए फालतू के लोग ऐसे बकवास करते रहते हैं

aapke anusaar ram janmbhoomi babri masjid jameen ka jameen vivaad ka kya hona chahiye mujhe lagta hai ki dono ban jana chahiye ram janmbhoomi aur babri masjid mandir masjid dono ban jaaye masjid aur sab saath mein theek hi hona chahiye faltu ke log aise bakwas karte rehte hain

आपके अनुसार राम जन्मभूमि बाबरी मस्जिद जमीन का जमीन विवाद का क्या होना चाहिए मुझे लगता है क

Romanized Version
Likes  414  Dislikes    views  5104
WhatsApp_icon
user

Liyakat Ali Gazi

Motivational Speaker, Life Coach & Soft Skills Trainer 📲 9956269300

1:58
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

जी हां बिल्कुल सही बात है इस विवाद का हल होना चाहिए इस को सुप्रीम कोर्ट में जो याचिका दार है उस पर सुनवाई होनी चाहिए उसका एक एग्जैक्ट हल जल्द से जल्द निकलना चाहिए इस मुद्दे को लेकर के भारत को काफी ज्यादा नुकसान हुआ है किस तरीके से नुकसान हुआ मैं आपको बता रहा हूं बताना चाहता हूं कि कुछ राजनीतिक पार्टियों ने उसका एक राजनीतिक मुद्दा बना लिया है जिससे भारत को आज ऐसी पावन भूमि को आर्थिक नुकसान हो रहा है और हुआ है और होगा उसका जो है सामाजिक नुकसान हुआ है और होगा भी और यह है व्यापारिक नुकसान हुआ है इसके साथ साथ में जो धार्मिक नुकसान है वह भी हो रहा है और होगा भी क्योंकि इस मुद्दे से समाज में हमारे बहुत ज्यादा जहर घोला जा रहा है कि यही एक ऐसा मुद्दा है जिसे हिंदू मुस्लिम को आपस में डिवाइड किया जा रहा है दूसरे की आर्थिक नुकसान हो रहा है वहां पर एक कोई अस्थाई एक धार्मिक स्थल बन जाएगा तो वहां से जो है एक पर्यटक स्थल के रूप में वहां से काफी ज्यादा इनकम होगी और इस पर जो और खर्चा गवर्नमेंट कर रही है सरकार कर रही है इसके देख रहे थे रखा में वह कम होगा उससे उससे कमेटी के ऊपर बोझ बढ़ेगा जो यहां की धार्मिक स्थल बनेगा उसकी कमिटी उसका वहन करेगी साथ ही साथ में सिक्योरिटी के रूप में इसमें 22 से बहुत खर्चा होता है वहां पर सरकार में बजट पास होता है बस से होती तो इन सब चीजों का काफी ज्यादा चलता इसलिए मेरे अनुमान से इसका एक एक्ट सुप्रीम कोर्ट के द्वारा न्यायालय के द्वारा हल निकलना परम आवश्यक है भारत की तरक्की के लिए भारत के विकास के लिए भारत की जनता की खुशहाली के लिए और भारत के धर्मों की बचाव के लिए और धर्म परंपराओं के सुरक्षा के लिए यह दर्शन नहीं हुआ तो भारत आगे और ज्यादा समस्याओं से घिर जाएगा थैंक यू

ji haan bilkul sahi baat hai is vivaad ka hal hona chahiye is ko supreme court mein jo yachika daar hai us par sunvai honi chahiye uska ek exact hal jald se jald nikalna chahiye is mudde ko lekar ke bharat ko kaafi zyada nuksan hua hai kis tarike se nuksan hua main aapko bata raha hoon bataana chahta hoon ki kuch raajnitik partiyon ne uska ek raajnitik mudda bana liya hai jisse bharat ko aaj aisi paavan bhoomi ko aarthik nuksan ho raha hai aur hua hai aur hoga uska jo hai samajik nuksan hua hai aur hoga bhi aur yah hai vyaparik nuksan hua hai iske saath saath mein jo dharmik nuksan hai vaah bhi ho raha hai aur hoga bhi kyonki is mudde se samaj mein hamare bahut zyada zehar ghola ja raha hai ki yahi ek aisa mudda hai jise hindu muslim ko aapas mein divide kiya ja raha hai dusre ki aarthik nuksan ho raha hai wahan par ek koi asthai ek dharmik sthal ban jaega toh wahan se jo hai ek paryatak sthal ke roop mein wahan se kaafi zyada income hogi aur is par jo aur kharcha government kar rahi hai sarkar kar rahi hai iske dekh rahe the rakha mein vaah kam hoga usse usse committee ke upar bojh badhega jo yahan ki dharmik sthal banega uski committee uska wahan karegi saath hi saath mein Security ke roop mein isme 22 se bahut kharcha hota hai wahan par sarkar mein budget paas hota hai bus se hoti toh in sab chijon ka kaafi zyada chalta isliye mere anumaan se iska ek act supreme court ke dwara nyayalaya ke dwara hal nikalna param aavashyak hai bharat ki tarakki ke liye bharat ke vikas ke liye bharat ki janta ki khushahali ke liye aur bharat ke dharmon ki bachav ke liye aur dharm paramparaon ke suraksha ke liye yah darshan nahi hua toh bharat aage aur zyada samasyaon se ghir jaega thank you

जी हां बिल्कुल सही बात है इस विवाद का हल होना चाहिए इस को सुप्रीम कोर्ट में जो याचिका दार

Romanized Version
Likes  91  Dislikes    views  1759
WhatsApp_icon
user

Mehnaz Amjad

Certified Life Coach

2:44
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

मेरे अनुसार जो यह राम जन्मभूमि बाबरी मस्जिद का प्रॉब्लम है जमीन का विवाद है 9927 तक चलता रहा है मेरी अपनी राय है कि देखिए अगर हम थोड़ा सा हिस्ट्री में जाएं तो 4949 जब इस मंदिर में पहली बार यह डिस्प्यूट शुरू हुआ यह मंदिर मस्जिद वाला मतलब झगड़ा तो इस समय अगर आप गौर से देखें तो 1947 या ने जब हमें आजादी मिली इसके 2 साल बाद ही उस समय हमारे होम मिनिस्टर पटेल साहब थे प्राइम मिनिस्टर नेहरू जी थे तो इस अगर उस समय ही यह लोगों ने कुछ ऐसा एक्शन लिया होता देखा होता के आदेश आजादी के 2 साल ही हुए हैं और हमें हमारा फोकस कुछ और था कि हम अपने देश को आगे कैसे बढ़ाए और रीसेंट लिए भी हुआ था कि पार्टीशन हुआ हजारों लोग मां टेक ए पंजाब में पाकिस्तान जोबना पंजाबी वाइट होके इंडिया का लोगों में सेंटीमेंट भागना है हिंदू मुस्लिम राइट अद्भुत है तो मेरे हिसाब से घमंड को तभी अगर एक नई चीज उठाई थी 9:49 बजे पहली बार इस राज्य डिस्प्यूट शुरू हुआ घमंड का काम था कि इसे वही रोकती और ऐसा कुछ करते क्या आज यह नौबत ना आती लेकिन उन्होंने नहीं किया अब 92 में फिर जो रथ यात्रा हुई फिर डिमोलिशन आफ बाबरी मस्जिद हुआ फिर उसके बाद यह एक कोर्ट में यह बात चली गई आज की डेट में इसको काफी साल हो गए 4749 से तो ऑलमोस्ट 70 साल के करीब हो चुके हैं अब इसके मेरे हिसाब से दो ही मुझे सलूशन नजर आते हैं एक ही है कि हिंदुस्तान में कई जगह मंदिर मस्जिद साथ बने हुए हैं आओ तिवारी एक ना हो लेकिन बहुत ही क्लोज सत्र माइस उसमें मंदिर मस्जिद है आज भी है बहुत जगह है तो यह भी एक स्ट्रक्चर करके आप ऐसे बना सकते हो जैसे सुप्रीम कोर्ट का ऑर्डर दिया है जितना एरिया हिंदुस को दिया है कुछ एरिया मुस्लिम को वह बना सकते हैं अगर ऐसा नहीं करना चाहते तो दूसरा सलूशन यह है कि नायक पर मंदिर बनेगा मस्जिद के कोई के जुकेशन इंस्टिट्यूट कोई यूनिवर्सिटी को पाठशाला बना दें ताकि बच्चों के काम आए लोग पढ़े ज्ञान हासिल करें और आगे बढ़े यही दो चीजें हैं शायद इससे बहुत लंबे चलते मारे मसले का हल है मेरे हिसाब

mere anusaar jo yah ram janmbhoomi babri masjid ka problem hai jameen ka vivaad hai 9927 tak chalta raha hai meri apni rai hai ki dekhiye agar hum thoda sa history mein jaye toh 4949 jab is mandir mein pehli baar yah dispute shuru hua yah mandir masjid vala matlab jhadna toh is samay agar aap gaur se dekhen toh 1947 ya ne jab hamein azadi mili iske 2 saal baad hi us samay hamare home minister patel saheb the prime minister nehru ji the toh is agar us samay hi yah logo ne kuch aisa action liya hota dekha hota ke aadesh azadi ke 2 saal hi hue hain aur hamein hamara focus kuch aur tha ki hum apne desh ko aage kaise badhae aur recent liye bhi hua tha ki partition hua hazaro log maa take a punjab mein pakistan jobna punjabi white hoke india ka logo mein sentiment bhaagna hai hindu muslim right adbhut hai toh mere hisab se ghamand ko tabhi agar ek nayi cheez uthayi thi 9 49 baje pehli baar is rajya dispute shuru hua ghamand ka kaam tha ki ise wahi rokti aur aisa kuch karte kya aaj yah naubat na aati lekin unhone nahi kiya ab 92 mein phir jo rath yatra hui phir dimolishan of babri masjid hua phir uske baad yah ek court mein yah baat chali gayi aaj ki date mein isko kaafi saal ho gaye 4749 se toh alamost 70 saal ke kareeb ho chuke hain ab iske mere hisab se do hi mujhe salution nazar aate hain ek hi hai ki Hindustan mein kai jagah mandir masjid saath bane hue hain aao tiwari ek na ho lekin bahut hi close satra mice usme mandir masjid hai aaj bhi hai bahut jagah hai toh yah bhi ek structure karke aap aise bana sakte ho jaise supreme court ka order diya hai jitna area hindus ko diya hai kuch area muslim ko vaah bana sakte hain agar aisa nahi karna chahte toh doosra salution yah hai ki nayak par mandir banega masjid ke koi ke jukeshan institute koi university ko pathashala bana de taki baccho ke kaam aaye log padhe gyaan hasil kare aur aage badhe yahi do cheezen hain shayad isse bahut lambe chalte maare masle ka hal hai mere hisab

मेरे अनुसार जो यह राम जन्मभूमि बाबरी मस्जिद का प्रॉब्लम है जमीन का विवाद है 9927 तक चलता र

Romanized Version
Likes  290  Dislikes    views  4214
WhatsApp_icon
user

Ghanshyamvan

मंदिर सेवा

0:55
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

लिखे अयोध्या में राम जन्मभूमि है वहां भगवान राम का जन्म दिया है रामायण बताती है इतिहास बताता है कि बाबरी मस्जिद विदेशी आंख में पारी आतंकवादी की निशानी है इसके विषय में सोचना भी भारत माता का अपमान है राम जी का भव्य मंदिर बनना चाहिए और मुस्लिम भाइयों को विदेशी आतंकवादी के इस बात को भूल जाना चाहिए और अपनी किसी और के नाम से मस्जिद बनवाने के लिए

likhe ayodhya mein ram janmbhoomi hai wahan bhagwan ram ka janam diya hai ramayana batati hai itihas batata hai ki babri masjid videshi aankh mein paari aatankwadi ki nishani hai iske vishay mein sochna bhi bharat mata ka apman hai ram ji ka bhavya mandir banna chahiye aur muslim bhaiyo ko videshi aatankwadi ke is baat ko bhool jana chahiye aur apni kisi aur ke naam se masjid banwane ke liye

लिखे अयोध्या में राम जन्मभूमि है वहां भगवान राम का जन्म दिया है रामायण बताती है इतिहास बता

Romanized Version
Likes  37  Dislikes    views  984
WhatsApp_icon
user

Abhishek Sharma

Forest Range Officer, MP

0:45
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

मुझे लगता है हमें एक दूसरे पर विश्वास करना चाहिए सुप्रीम कोर्ट पर विश्वास करना चाहिए आज जब सुप्रीम कोर्ट जितना बड़ा फैसला है उसको देने में अगर तमे लगा रहा तो डेफिनिटी वहां पर बैठे हुए लोग ज्योति जिम्मेदार लोग हैं जिन्होंने आज तक बड़े बड़े फैसले भी हैं तो वह भी नहीं चाहते कि इस फैसले से किसी के सेंटीमेंट हो तो मुझे लगता है कि इसका फैसला आराम से बैठकर होना चाहिए समझदारी के साथ होना चाहिए और यही सुप्रीमकोर्ट कहता है कि आपस में बैठकर आपस में जो मतलब समझाने के लिए बैठ के अगर कोशिश करते हैं तो ही सूरज पाते हैं बहुत धन्यवाद

mujhe lagta hai hamein ek dusre par vishwas karna chahiye supreme court par vishwas karna chahiye aaj jab supreme court jitna bada faisla hai usko dene mein agar tame laga raha toh definiti wahan par baithe hue log jyoti zimmedar log hain jinhone aaj tak bade bade faisle bhi hain toh vaah bhi nahi chahte ki is faisle se kisi ke sentiment ho toh mujhe lagta hai ki iska faisla aaram se baithkar hona chahiye samajhdari ke saath hona chahiye aur yahi supremecourt kahata hai ki aapas mein baithkar aapas mein jo matlab samjhane ke liye baith ke agar koshish karte hain toh hi suraj paate hain bahut dhanyavad

मुझे लगता है हमें एक दूसरे पर विश्वास करना चाहिए सुप्रीम कोर्ट पर विश्वास करना चाहिए आज जब

Romanized Version
Likes  49  Dislikes    views  1010
WhatsApp_icon
user

Rihan Shah

I want to become An IAS Officer (Love Realationship Full Experience)

0:38
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

आप कह रहे कि आपके अनुसार राम जन्मभूमि बाबरी मस्जिद जमीन विवाद का क्या हाल होना चाहिए लेकिन मेरा मानना तो यह है कि ना तो एक व्हाट्सएप नहीं चलाती कुर्मी इसे हीरो फिल्म डाउनलोड करें कि अगर एक धर्म के पक्ष में जाएगा तो दूसरा धर्म क्लास कर उस पर मुद्दा खड़ा करेगा मैं दोनों धर्म के पक्ष में जाएगा किसी के काम से पढ़ते हो जाएगा तो बीच में दिक्कत हो सकती है कुत्तों कॉमेंट को ऐसा करना चाहिए कि से किसको भी पेंडिंग में डालकर रखें ताकि अभी तक जाए

aap keh rahe ki aapke anusaar ram janmbhoomi babri masjid jameen vivaad ka kya haal hona chahiye lekin mera manana toh yah hai ki na toh ek whatsapp nahi chalati kurmi ise hero film download kare ki agar ek dharm ke paksh mein jaega toh doosra dharm class kar us par mudda khada karega main dono dharm ke paksh mein jaega kisi ke kaam se padhte ho jaega toh beech mein dikkat ho sakti hai kutto comment ko aisa karna chahiye ki se kisko bhi pending mein dalkar rakhen taki abhi tak jaaye

आप कह रहे कि आपके अनुसार राम जन्मभूमि बाबरी मस्जिद जमीन विवाद का क्या हाल होना चाहिए लेकिन

Romanized Version
Likes  32  Dislikes    views  671
WhatsApp_icon
user
1:12
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

क्वेश्चन किया है कि आप के अनुसार राम जन्मभूमि बाबरी मस्जिद विवाद का हल होना चाहिए तो मैं आपको बता देना चाहता हूं कि न्यायालय में विचाराधीन है मामला इसका फैसला हो जाएगा तो निश्चित रूप से राम जन्मभूमि का वहां निर्माण होगा और वहां राम मंदिर बनाई जाएगी लेकिन पहले जो कोर्ट का फैसला है वह हो जाएगा तभी ऐसा होगा ना कि हम वहां जाकर राम जन्म भूमि के राम मंदिर का निर्माण करवाने लगे या फिर बाबरी मस्जिद बनवाने लगे ऐसा नहीं हो सकता है जब तक फैसला नहीं होता उसमें कुछ भी हस्तक्षेप नहीं कर सकते हैं क्योंकि कोर्ट का फैसला हम सभी को समान हैं और उसका आदर करना चाहिए

question kiya hai ki aap ke anusaar ram janmbhoomi babri masjid vivaad ka hal hona chahiye toh main aapko bata dena chahta hoon ki nyayalaya mein vicharadhin hai maamla iska faisla ho jaega toh nishchit roop se ram janmbhoomi ka wahan nirmaan hoga aur wahan ram mandir banai jayegi lekin pehle jo court ka faisla hai vaah ho jaega tabhi aisa hoga na ki hum wahan jaakar ram janam bhoomi ke ram mandir ka nirmaan karwane lage ya phir babri masjid banwane lage aisa nahi ho sakta hai jab tak faisla nahi hota usme kuch bhi hastakshep nahi kar sakte hain kyonki court ka faisla hum sabhi ko saman hain aur uska aadar karna chahiye

क्वेश्चन किया है कि आप के अनुसार राम जन्मभूमि बाबरी मस्जिद विवाद का हल होना चाहिए तो मैं आ

Romanized Version
Likes  36  Dislikes    views  749
WhatsApp_icon
qIcon
ask

Related Searches:
anumaan in english ; ayodhya case ka faisla kab aayega ; babari masjid ; babri masjid ka faisla ; babri masjid ka faisla kab aayega ; babri masjid ka jhagda ; hi-yah! ; jobna ; kaun kehta hai bhagwan aate nahi pagalworld ; mahesh gaur ;

This Question Also Answers:

QuestionsProfiles

Vokal App bridges the knowledge gap in India in Indian languages by getting the best minds to answer questions of the common man. The Vokal App is available in 11 Indian languages. Users ask questions on 100s of topics related to love, life, career, politics, religion, sports, personal care etc. We have 1000s of experts from different walks of life answering questions on the Vokal App. People can also ask questions directly to experts apart from posting a question to the entire answering community. If you are an expert or are great at something, we invite you to join this knowledge sharing revolution and help India grow. Download the Vokal App!