क्या महाभारत कभी सच घटी थी?...


user

Gyandeep Kkr

Social Activist

2:00
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

हां जी महाभारत सच में घटी थी परंतु कुछ चीजें ऐसी हैं जो हमें नहीं पता चली और हमें कुछ और बताया गया जैसे महाभारत खत्म होने के बाद युधिष्ठिर की और पांडव कुंती ज्योतिष हिमालय में गले की श्री कृष्ण जी के कहने से क्योंकि युद्ध में किए हुए पापों के कारण श्री कृष्ण जी ने उनको यह शादी थी तो युद्ध किसने करवाया युद्ध करवाया था काल भगवान श्री कृष्ण जी के शरीर में प्रवेश होकर और मरने के बाद जब पांडव युधिष्ठिर को छोड़कर बाकी पांडव कुंती वाकिंग नर्क में चले गए और युधिष्ठिर जी को धर्मराज जी अपने साथ लेकर गए थे तब उन्हें युधिष्ठिर को वहां अपने भाइयों की याद आई तो उन्होंने वहां से मिलने के लिए कहा तो फिर इसके जी को भी कुछ कमेंट नर्क में ले जाना पड़ा क्योंकि लिखी थी कि मैं झूठ बोला था कि अश्वत्थामा मारा गया वह हाथी था तो इतने काबिल ओपन भोगना पड़ा तो इन्होंने तो बहुत ही दुल्हन किए थे तो अपने उन कर्मों से उनको नर्क से निकाला था उसके बाद फिर इन लोगों को नर्क में जाना पड़ेगा क्योंकि जो पाप कर्म किए हैं वह बोलने पड़ेंगे और स्वर्ग युद्धों से फुर्सत मिली थी जो पाप कर्म हुए वह उनको भी भोगनी पड़ेगी इसलिए सच्चाई को प्रमाण की जाली आप पढ़िए पुस्तक जान कम का यह पुस्तक मैंने भी देखी है आप इसको मेरे डिस्क्रिप्शन में जाकर प्रोफाइल के लिस्ट में जाकर डाउनलोड कर सकते हैं

haan ji mahabharat sach me ghati thi parantu kuch cheezen aisi hain jo hamein nahi pata chali aur hamein kuch aur bataya gaya jaise mahabharat khatam hone ke baad yudhishthir ki aur pandav kuntee jyotish himalaya me gale ki shri krishna ji ke kehne se kyonki yudh me kiye hue paapon ke karan shri krishna ji ne unko yah shaadi thi toh yudh kisne karvaya yudh karvaya tha kaal bhagwan shri krishna ji ke sharir me pravesh hokar aur marne ke baad jab pandav yudhishthir ko chhodkar baki pandav kuntee Walking nark me chale gaye aur yudhishthir ji ko Dharamraj ji apne saath lekar gaye the tab unhe yudhishthir ko wahan apne bhaiyo ki yaad I toh unhone wahan se milne ke liye kaha toh phir iske ji ko bhi kuch comment nark me le jana pada kyonki likhi thi ki main jhuth bola tha ki ashvatthaama mara gaya vaah haathi tha toh itne kaabil open bhogna pada toh inhone toh bahut hi dulhan kiye the toh apne un karmon se unko nark se nikaala tha uske baad phir in logo ko nark me jana padega kyonki jo paap karm kiye hain vaah bolne padenge aur swarg yuddhon se phursat mili thi jo paap karm hue vaah unko bhi bhogni padegi isliye sacchai ko pramaan ki jaali aap padhiye pustak jaan kam ka yah pustak maine bhi dekhi hai aap isko mere description me jaakar profile ke list me jaakar download kar sakte hain

हां जी महाभारत सच में घटी थी परंतु कुछ चीजें ऐसी हैं जो हमें नहीं पता चली और हमें कुछ और ब

Romanized Version
Likes  192  Dislikes    views  1919
WhatsApp_icon
10 जवाब
qIcon
ask
ऐसे और सवाल
Loading...
Loading...
user

Nikhil Ranjan

HoD - NIELIT

0:23
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

जैसे कि आपका प्रश्न क्या मारो भारत कभी सच में घटी थी तो इसके पीछे कई सारे कारण हैं कुछ वैज्ञानिक तथ्य भी हैं जो कहते हैं कि हां इस तरह की चीजें हुई थी वहीं पर कुछ धार्मिक मान्यता है वह भी इसको कहती हैं कि यह हुआ था वहीं पर कुछ पॉलिटिकल और कुछ दूसरे धर्मों के लोग हैं जो कि इसको सिर्फ एक कहानी मात्री मानते हैं धन्यवाद

jaise ki aapka prashna kya maaro bharat kabhi sach mein ghati thi toh iske peeche kai saare karan hai kuch vaigyanik tathya bhi hai jo kehte hai ki haan is tarah ki cheezen hui thi wahi par kuch dharmik manyata hai vaah bhi isko kehti hai ki yah hua tha wahi par kuch political aur kuch dusre dharmon ke log hai jo ki isko sirf ek kahani matri maante hai dhanyavad

जैसे कि आपका प्रश्न क्या मारो भारत कभी सच में घटी थी तो इसके पीछे कई सारे कारण हैं कुछ वैज

Romanized Version
Likes  359  Dislikes    views  6886
WhatsApp_icon
play
user

महेश दुबे

कवि साहित्यकार

1:04

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

महाभारत की घटना एक ऐसी घटना है जिसके पुख्ता सबूत भी उपस्थित हैं अभी समुद्र में द्वारिका नगरी का पूरा पता चला है हाल में ही वो बात पता चली है पूरी द्वारका नगरी जो समुद्र में समा गई थी उसके अवशेष मिले हैं कुरुक्षेत्र में जहां महाभारत का युद्ध हुआ था आज भी जमीन खोदने पर नीचे की मिट्टी लाल मिलती है जो रक्त बहने से हुई है ऐसा माना जाता है तो महाभारत की घटना तो हुई थी बहुत सारे ऐसे छद्म साहित्यकार और छत में इतिहासकार हैं जो इस बात को झूठ लाने का प्रयास करते हैं सनातन संस्कृति के जितने शत्रु हैं वे कहते हैं राम भी काल्पनिक से कुछ भी कार्मिक से महाभारत हुई ही नहीं क्योंकि जिनका इतिहास ही कुछ हजार सालों का है यह सहन नहीं कर सकते कि उनके पहले भी कोई ऐसी सम्रत आ रही होगी सिंधु घाटी की सभ्यता थी जब पश्चिम में इंसान पेड़ों पर चढ़कर पत्ते जब आते थे तब हमारे यहां भूमिगत जल निकास प्रणाली का आविष्कार हो चुका था इस बात को लोग सहन नहीं कर पाते इसलिए घटनाओं को झूठ लाने का प्रयास करते हैं

mahabharat ki ghatna ek aisi ghatna hai jiske pukhta sabut bhi upasthit hain abhi samudra mein dwarika nagari ka pura pata chala hai haal mein hi vo baat pata chali hai puri dwarka nagari jo samudra mein sama gayi thi uske avshesh mile hain kurukshetra mein jaha mahabharat ka yudh hua tha aaj bhi jameen khodne par niche ki mitti laal milti hai jo rakt behne se hui hai aisa mana jata hai toh mahabharat ki ghatna toh hui thi bahut saare aise chadm sahityakaar aur chhat mein itihaaskar hain jo is baat ko jhuth lane ka prayas karte hain sanatan sanskriti ke jitne shatru hain ve kehte hain ram bhi kalpnik se kuch bhi karmik se mahabharat hui hi nahi kyonki jinka itihas hi kuch hazaar salon ka hai yah sahan nahi kar sakte ki unke pehle bhi koi aisi samrat aa rahi hogi sindhu ghati ki sabhyata thi jab paschim mein insaan pedon par chadhakar patte jab aate the tab hamare yahan bhumigat jal nikaas pranali ka avishkar ho chuka tha is baat ko log sahan nahi kar paate isliye ghatnaon ko jhuth lane ka prayas karte hain

महाभारत की घटना एक ऐसी घटना है जिसके पुख्ता सबूत भी उपस्थित हैं अभी समुद्र में द्वारिका नग

Romanized Version
Likes  63  Dislikes    views  1283
WhatsApp_icon
user

Daulat Ram Sharma Shastri

Psychologist | Ex-Senior Teacher

1:43
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

फेसबुक पर फेसबुक पर मैं आपको दे चुका हूं फिर भी दे रहा हूं तो महाभारत की घटनाएं घटी हैं यह विश्वास करना चाहिए आप उसके लिए यदि कभी खुशी तुम्हें देखने जाएं आप कुरुक्षेत्र हरियाणा में पता है और सोनीपत से थोड़ा ही आगे आगे पानीपत तो सोनीपत से आगे कुछ कुरुक्षेत्र कहां देखे तो वहां की भूमि आज भी तुमको लाल दिखाई देती है जहां पर गिर चुका था वहां की मिट्टी देखें एकदम लाल हैं तो वहां आज भी बताते हैं कि वह भूमि क्षेत्र में महाभारत जो हुआ था उसमें कितने लोग मरे थे उनका ब्लड नाम आता कि आई विल बी मां के लाल हैं अपॉइंटमेंट बुक पाए जाते हैं इससे लगता है कि महाभारत की घटना वास्तव में यदि थी और इसके लिए एक और उदाहरण दे रहा हूं मैं आपको राजस्थान में अलवर के पास एक पांडुपोल नाम का स्थान है वहां जा करके देखें एक चट्टान ऐसी बनी हुई है वह चट्टान जिसमें छेद है हम लोग कहते हैं कि पांच पांडव पुत्र दिन में एक बार करके जैसल बनवा अज्ञातवास में रह रहे थे अब यहां पर एक मजबूरी में चट्टान गदा मारी थी विश्व प्रसिद्ध हो गया है और उसमें खिल जाना मेरा है वह पांडुपोल के नाम से आज भी दिक्कत है तो आप जा सकते हैं विश्वास होता है यह महाभारत दिन वाकई हुआ था महाभारत की घटना वाकई करती थी

facebook par facebook par main aapko de chuka hoon phir bhi de raha hoon toh mahabharat ki ghatnaye ghati hain yah vishwas karna chahiye aap uske liye yadi kabhi khushi tumhe dekhne jayen aap kurukshetra haryana mein pata hai aur sonipat se thoda hi aage aage panipat toh sonipat se aage kuch kurukshetra kahaan dekhe toh wahan ki bhoomi aaj bhi tumko laal dikhai deti hai jaha par gir chuka tha wahan ki mitti dekhen ekdam laal hain toh wahan aaj bhi batatey hain ki vaah bhoomi kshetra mein mahabharat jo hua tha usme kitne log mare the unka blood naam aata ki I will be maa ke laal hain appointment book paye jaate hain isse lagta hai ki mahabharat ki ghatna vaastav mein yadi thi aur iske liye ek aur udaharan de raha hoon main aapko rajasthan mein alwar ke paas ek pandupol naam ka sthan hai wahan ja karke dekhen ek chattan aisi bani hui hai vaah chattan jisme ched hai hum log kehte hain ki paanch pandav putra din mein ek baar karke jaisal banwa agyatavas mein reh rahe the ab yahan par ek majburi mein chattan gada mari thi vishwa prasiddh ho gaya hai aur usme khil jana mera hai vaah pandupol ke naam se aaj bhi dikkat hai toh aap ja sakte hain vishwas hota hai yah mahabharat din vaakai hua tha mahabharat ki ghatna vaakai karti thi

फेसबुक पर फेसबुक पर मैं आपको दे चुका हूं फिर भी दे रहा हूं तो महाभारत की घटनाएं घटी हैं यह

Romanized Version
Likes  69  Dislikes    views  1378
WhatsApp_icon
user

Siyaram Dubey

YouTuber/Spiritual Person/Thinker/Social-media Activist

3:09
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

जय श्रीमन्नारायण आप ने प्रश्न किया है कि क्या महाभारत कभी तक घटी थी आपके प्रश्नों से नास्तिकता की बू आ रही है तो मैं आपको एक ही बात कहना चाहता हूं कि आपने अपने दादाजी के दादाजी को देखा था तो आपका बिल्कुल जवाब होगा कि हमने नहीं देखा था तो तो क्या आप मानते हैं कि आपके दादा जी के दादा भी थे तो आप बिल्कुल कहेंगे कि हां थे तभी तो हम आज हैं ठीक उसी प्रकार से कुछ ऐसी चीजें होती है जो ना होते हुए भी वर्तमान में हमें उसे मानना पड़ता है कि की सारी चीजें आपके बुद्धि आपके विवेक आपकी सोच पर निर्भर करती है अगर आप उसे नेगेटिव लेते हैं तो यह नहीं कि उस सब के लिए नेगेटिव भी हो जाएगी कितने लोग उसे पॉजिटिव में भी मिल लेते हैं इतने लोग नेगेटिव हुए में भी लेते हैं तो इसे आप झूठ नहीं मान सकते जितने भी हमारे धर्म शास्त्र ग्रंथ हैं सब कुछ किसी ना किसी ने अपने बुद्धि विवेक विचार से घटनाओं को देखते हुए उसकी रचना की है क्योंकि इतनी सारी जो घटनाएं हैं वह मनगढ़ंत नहीं हो सकती उसमें सच्चाई कूट-कूट कर भरी होती है जिसे आजकल के लोग जो है उसे झूठ लाने पर तुले हुए हैं उन्हें बस यही दिखता है कि जो हमारे सामने घटना घटी है जिसके बारे में कोई प्रमाण है उसी को सच मानते हैं तो आपको इस वह हम से निकल जाना चाहिए और नहीं निकल पा रहे हैं तो यह आपकी कमजोरी है इसमें दूसरा कोई कुछ नहीं कर सकता है लेकिन जो भी घटनाएं घटी है जो भी हमारे प्राचीन ग्रंथों में लिखा है बिल्कुल सच्ची घटना है मैं इसे पूरी तरफ से संतुष्ट हूं

jai shrimannarayan aap ne prashna kiya hai ki kya mahabharat kabhi tak ghati thi aapke prashnon se nastikata ki bu aa rahi hai toh main aapko ek hi baat kehna chahta hoon ki aapne apne dadaji ke dadaji ko dekha tha toh aapka bilkul jawab hoga ki humne nahi dekha tha toh toh kya aap maante hain ki aapke dada ji ke dada bhi the toh aap bilkul kahenge ki haan the tabhi toh hum aaj hain theek usi prakar se kuch aisi cheezen hoti hai jo na hote hue bhi vartaman mein hamein use manana padta hai ki ki saari cheezen aapke buddhi aapke vivek aapki soch par nirbhar karti hai agar aap use Negative lete hain toh yah nahi ki us sab ke liye Negative bhi ho jayegi kitne log use positive mein bhi mil lete hain itne log Negative hue mein bhi lete hain toh ise aap jhuth nahi maan sakte jitne bhi hamare dharm shastra granth hain sab kuch kisi na kisi ne apne buddhi vivek vichar se ghatnaon ko dekhte hue uski rachna ki hai kyonki itni saari jo ghatnaye hain vaah managdhant nahi ho sakti usme sacchai kut kut kar bhari hoti hai jise aajkal ke log jo hai use jhuth lane par tule hue hain unhe bus yahi dikhta hai ki jo hamare saamne ghatna ghati hai jiske bare mein koi pramaan hai usi ko sach maante hain toh aapko is vaah hum se nikal jana chahiye aur nahi nikal paa rahe hain toh yah aapki kamzori hai isme doosra koi kuch nahi kar sakta hai lekin jo bhi ghatnaye ghati hai jo bhi hamare prachin granthon mein likha hai bilkul sachi ghatna hai ise puri taraf se santusht hoon

जय श्रीमन्नारायण आप ने प्रश्न किया है कि क्या महाभारत कभी तक घटी थी आपके प्रश्नों से नास्त

Romanized Version
Likes  151  Dislikes    views  1284
WhatsApp_icon
user
0:14
Play

Likes  3  Dislikes    views  165
WhatsApp_icon
user
1:00
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

जी हां महाभारत महाभारत में इतना करम कर दे ओ रब्बा कसम से अब लड़ा गया था याराना भाई और उसके कई प्रमाण के साथ जानकारी है अभी हाल ही में जो मीडिया में खबर आई थी पर मुबारक हो सा मंदिर है जो सामग्री गलत हो गया उपलब्धि होती तो उसको सतगुरु से मिला दे रब्बा प्यार से जो हमारे देश के गद्दारों को उनका व्रत को मिलता है तो हम प्रसन्न कर सकते क्या जानते कि मैं फालतू लोगों ने सपना को गाना चलता है जो सबको धन्यवाद

ji haan mahabharat mahabharat me itna karam kar de O rabba kasam se ab lada gaya tha yarana bhai aur uske kai pramaan ke saath jaankari hai abhi haal hi me jo media me khabar I thi par mubarak ho sa mandir hai jo samagri galat ho gaya upalabdhi hoti toh usko satguru se mila de rabba pyar se jo hamare desh ke gaddaaron ko unka vrat ko milta hai toh hum prasann kar sakte kya jante ki main faltu logo ne sapna ko gaana chalta hai jo sabko dhanyavad

जी हां महाभारत महाभारत में इतना करम कर दे ओ रब्बा कसम से अब लड़ा गया था याराना भाई और उसके

Romanized Version
Likes  20  Dislikes    views  358
WhatsApp_icon
user
1:33
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

नमस्कार आपका प्रश्न है क्या महाभारत कभी सच में घटी थी बिल्कुल घटी थी इसमें कोई शक वाली बात ही नहीं है आपको विश्वास करना पड़ेगा क्योंकि आपने कभी महात्मा गांधी जी से मिले हो या कभी स्वामी विवेकानंद जी से आप मिले हो या भीमराव अंबेडकर जी से आप मिले उनके इतिहासकारों द्वारा या लेखकों द्वारा लिखी हुई बातें हैं हमारे पास और आज हम उनका अनुसरण करते हैं उन्होंने यह किया उन्होंने यह किया डेफिनेट महाभारत काल भी रहा है और महाभारत जैसे रचना भी हुई है और महाभारत जैसा युद्ध भी हुआ है पांडव वित्त है श्री कृष्ण भगवान भी थे ट्रैटर युग की जो कथा है उस आफ सब कुछ सच है यानी मैं तो आपको यहां तक कह सकती हूं कि सतयुग त्रेता द्वापर भी था और श्वेता भी था और कलयुग आप देख रहे हो इसलिए बिल्कुल था फिर भी आप अपने मन की संतुष्टि के लिए हरियाणा में सोनीपत जालंधर के बीच में जगह पड़ती है कुरुक्षेत्र आप वहां चाहिए आपको बहुत सारे प्रमाण मिलेंगे कि महाभारत कथा युद्ध यहां पर लड़ा गया था और क्या-क्या यहां पर हुआ था एक बार वहां का टूट जरूर करिए तो आपको आपके जो मन की शंका है वह आपकी दूर होगी धन्यवाद

namaskar aapka prashna hai kya mahabharat kabhi sach me ghati thi bilkul ghati thi isme koi shak wali baat hi nahi hai aapko vishwas karna padega kyonki aapne kabhi mahatma gandhi ji se mile ho ya kabhi swami vivekananda ji se aap mile ho ya bhimrao ambedkar ji se aap mile unke itihasakaron dwara ya lekhako dwara likhi hui batein hain hamare paas aur aaj hum unka anusaran karte hain unhone yah kiya unhone yah kiya definet mahabharat kaal bhi raha hai aur mahabharat jaise rachna bhi hui hai aur mahabharat jaisa yudh bhi hua hai pandav vitt hai shri krishna bhagwan bhi the traitar yug ki jo katha hai us of sab kuch sach hai yani main toh aapko yahan tak keh sakti hoon ki satayug treta dwapar bhi tha aur shweta bhi tha aur kalyug aap dekh rahe ho isliye bilkul tha phir bhi aap apne man ki santushti ke liye haryana me sonipat jalandhar ke beech me jagah padti hai kurukshetra aap wahan chahiye aapko bahut saare pramaan milenge ki mahabharat katha yudh yahan par lada gaya tha aur kya kya yahan par hua tha ek baar wahan ka toot zaroor kariye toh aapko aapke jo man ki shanka hai vaah aapki dur hogi dhanyavad

नमस्कार आपका प्रश्न है क्या महाभारत कभी सच में घटी थी बिल्कुल घटी थी इसमें कोई शक वाली बात

Romanized Version
Likes  9  Dislikes    views  122
WhatsApp_icon
user
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

नमस्कार आपका परिचय नहीं क्या महाभारत कभी सच घटी थी आपका प्रश्न आध्यात्मिक है और इसका अध्ययन करने ठीक होगा तो यह पूर्ण रूप से सत्य है सही घटना है महाभारत की अगर आध्यात्मिक क्षेत्र में देखे तुम अगर विज्ञान के क्षेत्र में भी तू कहीं कहीं इसका प्रमाण मिलता है महाभारत का युद्ध कहां हुआ कैसे हो कुछ न कुछ सुराग मिलते हैं विज्ञान के क्षेत्र में जानना चाहते हैं हम गूगल में सर्च कर लीजिए आपको बहुत सारी जानकारियां मिल जाएंगे धन्यवाद क्षेत्र में

namaskar aapka parichay nahi kya mahabharat kabhi sach ghati thi aapka prashna aadhyatmik hai aur iska adhyayan karne theek hoga toh yah purn roop se satya hai sahi ghatna hai mahabharat ki agar aadhyatmik kshetra me dekhe tum agar vigyan ke kshetra me bhi tu kahin kahin iska pramaan milta hai mahabharat ka yudh kaha hua kaise ho kuch na kuch surag milte hain vigyan ke kshetra me janana chahte hain hum google me search kar lijiye aapko bahut saari jankariyan mil jaenge dhanyavad kshetra me

नमस्कार आपका परिचय नहीं क्या महाभारत कभी सच घटी थी आपका प्रश्न आध्यात्मिक है और इसका अध्यय

Romanized Version
Likes  13  Dislikes    views  236
WhatsApp_icon
user
0:24
Play

Likes  59  Dislikes    views  1179
WhatsApp_icon
qIcon
ask
QuestionsProfiles

Vokal App bridges the knowledge gap in India in Indian languages by getting the best minds to answer questions of the common man. The Vokal App is available in 11 Indian languages. Users ask questions on 100s of topics related to love, life, career, politics, religion, sports, personal care etc. We have 1000s of experts from different walks of life answering questions on the Vokal App. People can also ask questions directly to experts apart from posting a question to the entire answering community. If you are an expert or are great at something, we invite you to join this knowledge sharing revolution and help India grow. Download the Vokal App!