क्या महाभारत में द्रौपदी सभी पांच पांडवों के साथ सोई थी? यदि हां, तो हम यह कैसे कह सकते हैं कि वह अच्छे चरित्र की महिला थी?...


user

ज्योतिषी झा मेरठ (Pt. K L Shashtri)

Astrologer Jhaमेरठ,झंझारपुर और मुम्बई

0:22
Play

Likes  75  Dislikes    views  2238
WhatsApp_icon
8 जवाब
qIcon
ask
ऐसे और सवाल
Loading...
Loading...
play
user

Ajay Sinh Pawar

Founder & M.D. Of Radiant Group Of Industries

1:34

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

क्या महाभारत में द्रोपती सभी पांच पांडव का कोई सी यदि हां तो हम कैसे कर सकते के चरित्र की द्रौपदी का स्वयंवर हुआ था और उनके पिता ने स्वयंबर किया था उसमें यह पांचो पांडव उसने अर्जुन ने मछली घूम रही थी और उसकी आंख को भेजना था नीचे देख कर पानी उस तरह से उन्होंने उसमें सफलता पाए थे हो द्रौपदी ने उनको वरमाला पहनाई थी और जब वह अपने घर गई थी तो उनकी माता कुंती ने अंदर से पूछा क्या लाए हो तो उन्होंने बोला कि मैं बहुत अच्छी चीज आपके लिए बहुत ही अच्छा लेकर आया हूं देखकर माताजी को माताजी निकालो जो भी लायो पांचों भाइयों में आप बांट लो अंदर से उन्होंने जवाब दिया था और माता जी की पोर्टल पर नहीं तो इस तरह से द्रोपदी पांचो भाइयों के बीच में बट गई थी क्योंकि महाभारत के काल में उस समय बहू पतित वक्त की प्रथा प्रचलन में थी बहू पत्नी तू की भी प्रथा प्रचलन में थी इसलिए यह कहना सर्वथा गलत होगा कि पांच पांडवों के साथ को सोई थी अब वह सोई थी या जो भी था लेकिन वह पांचो पांडव की पत्नी धर्म पत्नी थी धन्यवाद

kya mahabharat mein draupadi sabhi paanch pandav ka koi si yadi haan toh hum kaise kar sakte ke charitra ki draupadi ka sawamber hua tha aur unke pita ne swayambar kiya tha usme yah paancho pandav usne arjun ne machli ghum rahi thi aur uski aankh ko bhejna tha niche dekh kar paani us tarah se unhone usme safalta paye the ho draupadi ne unko varmala pahnai thi aur jab vaah apne ghar gayi thi toh unki mata kuntee ne andar se poocha kya laye ho toh unhone bola ki main bahut achi cheez aapke liye bahut hi accha lekar aaya hoon dekhkar mataji ko mataji nikalo jo bhi layo panchon bhaiyo mein aap baant lo andar se unhone jawab diya tha aur mata ji ki portal par nahi toh is tarah se draupadi paancho bhaiyo ke beech mein but gayi thi kyonki mahabharat ke kaal mein us samay bahu patit waqt ki pratha prachalan mein thi bahu patni tu ki bhi pratha prachalan mein thi isliye yah kehna sarvatha galat hoga ki paanch pandavon ke saath ko soi thi ab vaah soi thi ya jo bhi tha lekin vaah paancho pandav ki patni dharm patni thi dhanyavad

क्या महाभारत में द्रोपती सभी पांच पांडव का कोई सी यदि हां तो हम कैसे कर सकते के चरित्र की

Romanized Version
Likes  66  Dislikes    views  1281
WhatsApp_icon

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

आप जरा इसका एक महाभारत में अध्ययन कीजिएगा द्रोपदी पांच पतियों के साथ ने केवल एक ही पति के साथ सोई थी वह भी बड़े वाली के साथ युधिष्ठिर के साथ बाकी सब के अलग-अलग शादियां हुई बल्कि पांच लोगों का दायित्व था उसकी रक्षा करने का वह उसके साथ लगे रहते तो रक्षा करने के लिए लेकिन संस्कार उसके गंदे रहे थे

aap zara iska ek mahabharat mein adhyayan kijiega draupadi paanch patiyon ke saath ne keval ek hi pati ke saath soi thi vaah bhi bade wali ke saath yudhishthir ke saath baki sab ke alag alag shadiyan hui balki paanch logo ka dayitva tha uski raksha karne ka vaah uske saath lage rehte toh raksha karne ke liye lekin sanskar uske gande rahe the

आप जरा इसका एक महाभारत में अध्ययन कीजिएगा द्रोपदी पांच पतियों के साथ ने केवल एक ही पति के

Romanized Version
Likes  135  Dislikes    views  830
WhatsApp_icon
user

Ghanshyamvan

मंदिर सेवा

1:37
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

द्रोपती के पांचों पुत्र पांचों पांडवों के हैं जो अलग-अलग है जो कि पांचों के साथ रही है और पांचों के ही पुत्र व्यक्ति के गर्भ से जन्म में है द्रोपती जब एक के साथ रहती थी तो दूसरा नहीं आता था यह उसे वरदान था जब एक दूसरे को छोड़ने के बाद दूसरे पास जाती थी उन्हें उसका युवा जाता था और अपने अपने यू आर वेल वॉटर तिथि यानी उसका को रखना जाता था यह शास्त्र कहता है जोकि का जन्म अग्निकुंड से हुआ था इसलिए वह एक आदर्श महिला थी उसके चरित्र पर लांछन लगाना पाप है यह भगवान श्रीकृष्ण ने भी स्पष्ट शब्दों में कहा था कि द्रोपती कभी टूटा नहीं हो सकती और वह पंच कन्याओं में आती है

draupadi ke panchon putra panchon pandavon ke hain jo alag alag hai jo ki panchon ke saath rahi hai aur panchon ke hi putra vyakti ke garbh se janam mein hai draupadi jab ek ke saath rehti thi toh doosra nahi aata tha yah use vardaan tha jab ek dusre ko chodne ke baad dusre paas jaati thi unhe uska yuva jata tha aur apne apne you R well water tithi yani uska ko rakhna jata tha yah shastra kahata hai joki ka janam agnikund se hua tha isliye vaah ek adarsh mahila thi uske charitra par lanchan lagana paap hai yah bhagwan shrikrishna ne bhi spasht shabdon mein kaha tha ki draupadi kabhi tuta nahi ho sakti aur vaah punch kanyaon mein aati hai

द्रोपती के पांचों पुत्र पांचों पांडवों के हैं जो अलग-अलग है जो कि पांचों के साथ रही है और

Romanized Version
Likes  40  Dislikes    views  1006
WhatsApp_icon
user
1:12
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

नारी शक्ति पूज्यंते तत्र देवता रमंते झा नारियों की पूजा होती है वहां देवता निवास करते हैं और नारी तुम केवल श्रद्धा हो विश्वास रखना फिल्में फुल एचडी भाकर जीवन के सुंदर समतल हॉस्पिटल से जो है सभी तत्वों से महान और श्रेष्ठ उपाय कोई भी नारी है सभी नदियों का देश में शुमार होता किसी भी मैं भी के बारे में ऐसी बातें करना जो हैप्पी करवा चौथ लगता वो हमारे लिए कल्याणकारी नहीं होता है वह जो है उनके बारे में सरकारी कथा है कि जब जो है अर्जुन दिसंबर में जीतकर जो है अपने घर जो है ज्योति जी और बहनों के साथ पहुंचे उनकी माताजी को है खाना बना रही थी पेमेंट बैंक मुंबई शाखा के देखो माताजी हम तुम्हारे लिए क्या लाए थे उन्होंने कहा कि भूकंप चलाएं उनके मुंह से निकले वहां पर सोमवार को करने के लिए किस प्रकार

nari shakti pujyante tatra devta ramante jha nariyon ki puja hoti hai wahan devta niwas karte hain aur nari tum keval shraddha ho vishwas rakhna filme full hd bhakar jeevan ke sundar samtal hospital se jo hai sabhi tatvon se mahaan aur shreshtha upay koi bhi nari hai sabhi nadiyon ka desh me shumaar hota kisi bhi main bhi ke bare me aisi batein karna jo happy karva chauth lagta vo hamare liye kalyaankari nahi hota hai vaah jo hai unke bare me sarkari katha hai ki jab jo hai arjun december me jeetkar jo hai apne ghar jo hai jyoti ji aur bahnon ke saath pahuche unki mataji ko hai khana bana rahi thi payment bank mumbai shakha ke dekho mataji hum tumhare liye kya laye the unhone kaha ki bhukamp chalaye unke mooh se nikle wahan par somwar ko karne ke liye kis prakar

नारी शक्ति पूज्यंते तत्र देवता रमंते झा नारियों की पूजा होती है वहां देवता निवास करते हैं

Romanized Version
Likes  21  Dislikes    views  553
WhatsApp_icon
user
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

हम यह कह सकते हैं कि द्रोपती एक अच्छे चरित्र की महिला थी क्योंकि पांच पति की पत्नी होने के बाद ही उसने सभी पतियों के साथ नियम पूर्वक अपना जीवन व्यतीत किया जिस तरह से नियम बनाए गए कभी द्रोपती ने अपनी नियम का उल्लंघन नहीं किया और पांचों पांडवों में जितने भी नियम का उल्लंघन किया उन्हें 12 वर्ष की वनवास भोगना पड़ा जैसे अर्जुन ने एक ब्राह्मण के गाय की रक्षा के लिए अपना नियम तोड़ा तो उन्हें 12 वर्ष के वनवास हर एक पांडव के साथ द्रोपती का 1 वर्ष का दांपत्य वर्ष बनाया गया था जो वह बखूबी निभाते थे

hum yah keh sakte hain ki draupadi ek acche charitra ki mahila thi kyonki paanch pati ki patni hone ke baad hi usne sabhi patiyon ke saath niyam purvak apna jeevan vyatit kiya jis tarah se niyam banaye gaye kabhi draupadi ne apni niyam ka ullanghan nahi kiya aur panchon pandavon me jitne bhi niyam ka ullanghan kiya unhe 12 varsh ki vanvas bhogna pada jaise arjun ne ek brahman ke gaay ki raksha ke liye apna niyam toda toh unhe 12 varsh ke vanvas har ek pandav ke saath draupadi ka 1 varsh ka danpatya varsh banaya gaya tha jo vaah bakhubi nibhate the

हम यह कह सकते हैं कि द्रोपती एक अच्छे चरित्र की महिला थी क्योंकि पांच पति की पत्नी होने के

Romanized Version
Likes  4  Dislikes    views  119
WhatsApp_icon
user
0:41
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

यह तो सही भी माना जा सकता है क्योंकि 24 घंटे में एक ही आदमी के साथ शरीर संबंध रखने से उसकी पवित्रता भंग नहीं होती और अति आप मुझे आज के नेता कौन सी पिक्चर है जो बड़े-बड़े भाषण देते हैं दूसरे के ऊपर ए लाइन चल लगा जाओ 24 घंटे में एक ही बार शरीर संबंध रखने का भात को पवित्र होती है

yah toh sahi bhi mana ja sakta hai kyonki 24 ghante mein ek hi aadmi ke saath sharir sambandh rakhne se uski pavitrata bhang nahi hoti aur ati aap mujhe aaj ke neta kaun si picture hai jo bade bade bhashan dete hain dusre ke upar a line chal laga jao 24 ghante mein ek hi baar sharir sambandh rakhne ka bhat ko pavitra hoti hai

यह तो सही भी माना जा सकता है क्योंकि 24 घंटे में एक ही आदमी के साथ शरीर संबंध रखने से उसकी

Romanized Version
Likes  12  Dislikes    views  231
WhatsApp_icon
user
0:52
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

आपकी सोच गलत है कि जो पति पिक्चर रिचेकिंग नहीं है अगर वह भी तो चलती हो सकता है लेकिन लड़कियां लेकिन बताया जाता है कि वह गलत पढ़ोगे

aapki soch galat hai ki jo pati picture rechecking nahi hai agar vaah bhi toh chalti ho sakta hai lekin ladkiyan lekin bataya jata hai ki vaah galat padhoge

आपकी सोच गलत है कि जो पति पिक्चर रिचेकिंग नहीं है अगर वह भी तो चलती हो सकता है लेकिन लड़कि

Romanized Version
Likes  1  Dislikes    views  3
WhatsApp_icon
qIcon
ask
QuestionsProfiles

Vokal App bridges the knowledge gap in India in Indian languages by getting the best minds to answer questions of the common man. The Vokal App is available in 11 Indian languages. Users ask questions on 100s of topics related to love, life, career, politics, religion, sports, personal care etc. We have 1000s of experts from different walks of life answering questions on the Vokal App. People can also ask questions directly to experts apart from posting a question to the entire answering community. If you are an expert or are great at something, we invite you to join this knowledge sharing revolution and help India grow. Download the Vokal App!