क्या पैसे से सबकुछ खरीदा जा सकता है, इज़्ज़त भी?...


play
user

N. K. SINGH 'Nitesh'

Educator, Life Coach, Writer and Expert in British English Language, Author of Book/Fiction Lucky Girl (Love vs Marriage)

1:33

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

जी बिल्कुल नहीं पैसे सब कुछ नहीं खरीदा जा सकता हां पैसा आपके लिए मददगार जरूर साबित हो सकता है लेकिन पैसे नहीं है मान लीजिए कि आपके पास आपके गांव में रहते हैं और आपके पास बहुत पैसा हो गया है तो निश्चित रूप से आपको बहुत सारे लोग रिकॉग्नाइज करने लगेंगे आपके आसपास के करीब आने की कोशिश करेंगे और अपना लाभ निकालेंगे अपना उल्लू सीधा करेंगे इस तरह से आप पैसे से सब कुछ नहीं कर सकते हैं 40 साल के हो गए हैं और आप ऐसी नौकरी पाना चाहते हैं जिसकी अधिकतम 29 तारीख की बात कर रहे हैं सम्मान की बात करें उसमें भी पैसा सब कुछ तो नहीं है लेकिन बहुत कुछ जरूर है एक बार फिर मेरी बात सुनी है पैसा सब कुछ तो नहीं है लेकिन खुद को जरूर है यानी कि उससे बहुत कुछ कर सकते हैं बहुत हद तक उससे आपको लेकिन सब कुछ बिल्कुल है धन्यवाद

ji bilkul nahi paise sab kuch nahi kharida ja sakta haan paisa aapke liye madadgaar zaroor saabit ho sakta hai lekin paise nahi hai maan lijiye ki aapke paas aapke gaon mein rehte hain aur aapke paas bahut paisa ho gaya hai toh nishchit roop se aapko bahut saare log rikagnaij karne lagenge aapke aaspass ke kareeb aane ki koshish karenge aur apna labh nikalenge apna ullu seedha karenge is tarah se aap paise se sab kuch nahi kar sakte hain 40 saal ke ho gaye hain aur aap aisi naukri paana chahte hain jiski adhiktam 29 tarikh ki baat kar rahe hain sammaan ki baat kare usme bhi paisa sab kuch toh nahi hai lekin bahut kuch zaroor hai ek baar phir meri baat suni hai paisa sab kuch toh nahi hai lekin khud ko zaroor hai yani ki usse bahut kuch kar sakte hain bahut had tak usse aapko lekin sab kuch bilkul hai dhanyavad

जी बिल्कुल नहीं पैसे सब कुछ नहीं खरीदा जा सकता हां पैसा आपके लिए मददगार जरूर साबित हो सकता

Romanized Version
Likes  109  Dislikes    views  2179
WhatsApp_icon
5 जवाब
qIcon
ask
ऐसे और सवाल
Loading...
Loading...
user

Nitish Kumar

RRB Railway JE

0:16
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

पैसे से सब कुछ नहीं खरीदा सकता है पैसे जब अदालत की इज्जत नहीं खेलता जा सकता है इज्जत के लिए बहुत मेहनत करना पड़ता है पैसों को देना पड़ता है उसके साथ काम करना पड़ता है

paise se sab kuch nahi kharida sakta hai paise jab adalat ki izzat nahi khelta ja sakta hai izzat ke liye bahut mehnat karna padta hai paison ko dena padta hai uske saath kaam karna padta hai

पैसे से सब कुछ नहीं खरीदा सकता है पैसे जब अदालत की इज्जत नहीं खेलता जा सकता है इज्जत के लि

Romanized Version
Likes  10  Dislikes    views  201
WhatsApp_icon
user

Raman Rohilla

Engineer and Career Counselor

1:01
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

जी सवाल आपका बहुत ही सोचने योग्य है कि क्या पैसे से इज्जत भी खरीदी जा सकती है जो वैश्यालय बने हुए हैं वहां पर वैश्य अपनी इज्जत ही भेज सकती हैं तो बहुत सी जगह ऐसी है जहां पर इज्जत आप खरीद सकते हैं लेकिन सब जगह नहीं भारत एक सांस्कृतिक देश है यहां पर जहां पर संत महात्मा या फिर किसी धार्मिक स्थान है कोई और वहां पर इस टाइम पर भी कोई संत है और वह लोगों को अच्छी शिक्षा देता है तो उस जंगल के दायरे के अंदर इस तरह का काम आप नहीं कर सकते तो वहां पर ऐसा ही नहीं चलता वहां पर प्रेम चलता है पैसे से मोहनी कुछ खरीद सकते हां दिल साफ है और प्रेम सागर आप लोगों से कुछ भी मांग लो तो प्रेम से जायज आपकी इच्छा लोग पूरी करने के लिए सामने खड़े मिलेंगे आपको

ji sawaal aapka bahut hi sochne yogya hai ki kya paise se izzat bhi kharidi ja sakti hai jo vaishyalaya bane hue hain wahan par vaiishay apni izzat hi bhej sakti hain toh bahut si jagah aisi hai jaha par izzat aap kharid sakte hain lekin sab jagah nahi bharat ek sanskritik desh hai yahan par jaha par sant mahatma ya phir kisi dharmik sthan hai koi aur wahan par is time par bhi koi sant hai aur vaah logo ko achi shiksha deta hai toh us jungle ke daayre ke andar is tarah ka kaam aap nahi kar sakte toh wahan par aisa hi nahi chalta wahan par prem chalta hai paise se mohni kuch kharid sakte haan dil saaf hai aur prem sagar aap logo se kuch bhi maang lo toh prem se jayaj aapki iccha log puri karne ke liye saamne khade milenge aapko

जी सवाल आपका बहुत ही सोचने योग्य है कि क्या पैसे से इज्जत भी खरीदी जा सकती है जो वैश्यालय

Romanized Version
Likes  8  Dislikes    views  161
WhatsApp_icon
user

munmun

Volunteer

0:19
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

जी हां पैसे से जो हैं आपको कुछ भी जो है खरीद सकते हैं पर जो है अब इज्जत नहीं कर सकते हैं इज्जत जिन्हें कर एक बार चली जाती है बार-बार नहीं आती है कोई भी काम करें लाइफ में हमेशा यही सोचकर में काम करना चाहिए कि आप इमेज पर मेरे कोई भी सवाल नहीं उठना चाहिए

ji haan paise se jo hai aapko kuch bhi jo hai kharid sakte hai par jo hai ab izzat nahi kar sakte hai izzat jinhen kar ek baar chali jaati hai baar baar nahi aati hai koi bhi kaam kare life mein hamesha yahi sochkar mein kaam karna chahiye ki aap image par mere koi bhi sawaal nahi uthna chahiye

जी हां पैसे से जो हैं आपको कुछ भी जो है खरीद सकते हैं पर जो है अब इज्जत नहीं कर सकते हैं इ

Romanized Version
Likes    Dislikes    views  1
WhatsApp_icon
user
0:29
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

पैसे से हारी काम नहीं होती है पैसे में कुछ नहीं है पैसे से केवल एक दूसरे से संपत्ति लूट जा सका लेकिन इज्जत एक ऐसी चीज है ना दिल्ली की इज्जत चली जाएगी तो दुनिया में कोई ऐसा चीज़ नहीं है कि हम उसे हम पा सके सबसे बड़ी है इंद्र सिंह रहेगा तो पैसा बहुत ज्यादा रहेगा इज्जत ही नहीं रहेगा तो पैसा एक भी रुपए नहीं

paise se haari kaam nahi hoti hai paise mein kuch nahi hai paise se keval ek dusre se sampatti loot ja saka lekin izzat ek aisi cheez hai na delhi ki izzat chali jayegi toh duniya mein koi aisa cheez nahi hai ki hum use hum paa sake sabse badi hai indra Singh rahega toh paisa bahut zyada rahega izzat hi nahi rahega toh paisa ek bhi rupaye nahi

पैसे से हारी काम नहीं होती है पैसे में कुछ नहीं है पैसे से केवल एक दूसरे से संपत्ति लूट जा

Romanized Version
Likes    Dislikes    views  2
WhatsApp_icon
qIcon
ask
QuestionsProfiles

Vokal App bridges the knowledge gap in India in Indian languages by getting the best minds to answer questions of the common man. The Vokal App is available in 11 Indian languages. Users ask questions on 100s of topics related to love, life, career, politics, religion, sports, personal care etc. We have 1000s of experts from different walks of life answering questions on the Vokal App. People can also ask questions directly to experts apart from posting a question to the entire answering community. If you are an expert or are great at something, we invite you to join this knowledge sharing revolution and help India grow. Download the Vokal App!