क्या भारत और ईरान की जो मुलाकात होने वाली है उसमें प्रधानमंत्री मोदी और रुहानी के बिच क्या चर्चा हो सकती हैं?...


play
user
1:23

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

भारतीय प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और इमरान प्रधानमंत्री गिलानी के बीच में मुलाकात अमेरिका के अंदर कल हो गई है और दोनों के बीच सौहार्दपूर्ण वातावरण में मुलाकात हुई है भारत ने ईरान से चर्चा करके अमेरिका को कड़ा संदेश दे दिया है कि वह अमेरिका के किसी दबाव में नहीं होता है स्पष्ट कर दिया है भारत अपनी नीति और अपने आधार पर संबंधों के आधार पर चलेगा हमारी भारत में अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप किस मांग को भी फिर से खाली कर दिया है कि वह भारत और पाकिस्तान के बीच में कश्मीर मुद्दे पर समझौता वार्ता के लिए पेशकश कर सकते हैं भारत ने स्पष्ट कर दिया कि दोनों देशों के आपसी मामला है और भारत-पाकिस्तान इसके बारे में बात करेंगे तीसरे देश की मस्जिद नहीं की जाएगी कल से भारत में अमेरिका को स्पष्ट संकेत कर दिया है कि वह ईरान का मामला है पाकिस्तान का मामला भारत में ईरान और अमेरिका के बीच पेश कर दिया क्यों बिगड़ते रिश्ते को अगर अमेरिका और ईरान सकता है

bharatiya pradhanmantri narendra modi aur imran pradhanmantri gilani ke beech mein mulakat america ke andar kal ho gayi hai aur dono ke beech sauhardapurn vatavaran mein mulakat hui hai bharat ne iran se charcha karke america ko kada sandesh de diya hai ki vaah america ke kisi dabaav mein nahi hota hai spasht kar diya hai bharat apni niti aur apne aadhaar par sambandhon ke aadhaar par chalega hamari bharat mein american rashtrapati donald trump kis maang ko bhi phir se khaali kar diya hai ki vaah bharat aur pakistan ke beech mein kashmir mudde par samjhauta varta ke liye peshkash kar sakte hain bharat ne spasht kar diya ki dono deshon ke aapasi maamla hai aur bharat pakistan iske bare mein baat karenge teesre desh ki masjid nahi ki jayegi kal se bharat mein america ko spasht sanket kar diya hai ki vaah iran ka maamla hai pakistan ka maamla bharat mein iran aur america ke beech pesh kar diya kyon bigadte rishte ko agar america aur iran sakta hai

भारतीय प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और इमरान प्रधानमंत्री गिलानी के बीच में मुलाकात अमेरिका क

Romanized Version
Likes  94  Dislikes    views  1827
KooApp_icon
WhatsApp_icon
2 जवाब
no img
qIcon
ask
ऐसे और सवाल
Loading...
Loading...
qIcon
ask
QuestionsProfiles

Vokal App bridges the knowledge gap in India in Indian languages by getting the best minds to answer questions of the common man. The Vokal App is available in 11 Indian languages. Users ask questions on 100s of topics related to love, life, career, politics, religion, sports, personal care etc. We have 1000s of experts from different walks of life answering questions on the Vokal App. People can also ask questions directly to experts apart from posting a question to the entire answering community. If you are an expert or are great at something, we invite you to join this knowledge sharing revolution and help India grow. Download the Vokal App!