आपके अनुसार ऐसी एक सलाह कौन सी है जो आपको एक बेहतर जीवन जीने में मदद करती है?...


user
3:14
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

गुड मॉर्निंग एडवांस सबसे पहली बात मैं यह कहना चाहूंगा कि आप अपने अपनी सोच में ऑब्जेक्टिव होने चाहिए आपके रास्ते क्लियर होने चाहिए और कभी भी अपने को दूसरों से कंपेयर कभी नहीं करना चाहिए आजा मैं आज इतना बड़ा समाज है हम समाज में उठते बैठते हैं बहुत छोटे बड़े हर तरह के इंसान मिलते हैं कोई कहता है महबूब हूं कोई कहता है यह है बहुत ऊंचे कद के पद के भी लोग मिलते हैं अगर आप उनके ही उनका कर उनके शानो शौकत ही देखते रहेंगे तो इसका मतलब आप अपने से कंपेयर करें कंपेयर मत कीजिए से फोकस अपने रास्ते पर फोकस किए और आगे बढ़ते रहिए बहुत बार ऐसी सिचुएशन आ जाती है जब आपको झुकना पड़ता है बहुत सारी ऐसी चीजों से जिन्होंने जिनको कभी आपने लाइफ में सोचा भी नहीं होगा ना ही कभी इसकी होगा तो हर तरह की मुसीबतों के लिए अटल रहे जुड़ रहे हैं और अपने आप को सबसे बड़ी बात खुद को हौसला हमें खुद को ही देना होगा खुद ही देना होगा दुनिया में दो तरह के लोग हैं मेरे हिसाब से अगर आप अच्छे काम कर रहे हो तब भी उनको प्रॉब्लम है अगर आप गलत काम भी कर रहे हो तब भी नहीं प्रॉब्लम है अगर आप घर पर बैठे हो तो भी प्रॉब्लम घर से बाहर हो तो भी प्रॉब्लम तो सब कुछ छोड़कर दूसरों की बातों के नाम सुनकर अगर आप का रास्ता अच्छा है आपकी सोच अच्छी है आपका काम अच्छा है आपको लगता है कि मैं नहीं जोड़ चुना है वह बहुत अच्छा आगे उसको लेकर जाना है क्योंकि जैसे-जैसे रास्ते में आप चलते रहते हो 1111111 चलने से रास्ते के लिए रोते रोते में चढ़ते जाते हैं निकलती जाती है अब उसी में कब कहां पर क्या प्रॉब्लम आ रही है यह आपको नहीं बता उस प्रॉब्लम को निकालते जाएं निकालते एक दिन आप जरूर छत तक पहुंचे हैं और छत के बाद आसमान ही नजर आता है और कुछ और आप नीचे देखोगे तो बहुत से ऐसे लोग उनके साथ थे और अब आप छत पर आ गए जब जब छत से आप नीचे देखोगे तो आपको गोल्फ खड़े देखेंगे जिनको आप कितना नीचे छोड़ चुके हैं और जवाब ऊपर देखोगे तो ऊपर आपको आपकी मंजिल भी नहीं सिर्फ आसमान और वह आसमान एक ऐसा है जहां पर खुला है रोशन है सबकुछ जहां पर कुछ ही सर आपको आपकी मंजिल तो आपको क्या बनना है यह आप खुद ही करें धन्यवाद

good morning advance sabse pehli baat main yah kehna chahunga ki aap apne apni soch me objective hone chahiye aapke raste clear hone chahiye aur kabhi bhi apne ko dusro se compare kabhi nahi karna chahiye aajad main aaj itna bada samaj hai hum samaj me uthte baithate hain bahut chote bade har tarah ke insaan milte hain koi kahata hai mahaboob hoon koi kahata hai yah hai bahut unche kad ke pad ke bhi log milte hain agar aap unke hi unka kar unke shano shoukat hi dekhte rahenge toh iska matlab aap apne se compare kare compare mat kijiye se focus apne raste par focus kiye aur aage badhte rahiye bahut baar aisi situation aa jaati hai jab aapko jhukna padta hai bahut saari aisi chijon se jinhone jinako kabhi aapne life me socha bhi nahi hoga na hi kabhi iski hoga toh har tarah ki musibaton ke liye atal rahe jud rahe hain aur apne aap ko sabse badi baat khud ko hausla hamein khud ko hi dena hoga khud hi dena hoga duniya me do tarah ke log hain mere hisab se agar aap acche kaam kar rahe ho tab bhi unko problem hai agar aap galat kaam bhi kar rahe ho tab bhi nahi problem hai agar aap ghar par baithe ho toh bhi problem ghar se bahar ho toh bhi problem toh sab kuch chhodkar dusro ki baaton ke naam sunkar agar aap ka rasta accha hai aapki soch achi hai aapka kaam accha hai aapko lagta hai ki main nahi jod chuna hai vaah bahut accha aage usko lekar jana hai kyonki jaise jaise raste me aap chalte rehte ho 1111111 chalne se raste ke liye rote rote me chadhte jaate hain nikalti jaati hai ab usi me kab kaha par kya problem aa rahi hai yah aapko nahi bata us problem ko nikalate jayen nikalate ek din aap zaroor chhat tak pahuche hain aur chhat ke baad aasman hi nazar aata hai aur kuch aur aap niche dekhoge toh bahut se aise log unke saath the aur ab aap chhat par aa gaye jab jab chhat se aap niche dekhoge toh aapko golf khade dekhenge jinako aap kitna niche chhod chuke hain aur jawab upar dekhoge toh upar aapko aapki manjil bhi nahi sirf aasman aur vaah aasman ek aisa hai jaha par khula hai roshan hai sabkuch jaha par kuch hi sir aapko aapki manjil toh aapko kya banna hai yah aap khud hi kare dhanyavad

गुड मॉर्निंग एडवांस सबसे पहली बात मैं यह कहना चाहूंगा कि आप अपने अपनी सोच में ऑब्जेक्टिव ह

Romanized Version
Likes  8  Dislikes    views  84
KooApp_icon
WhatsApp_icon
30 जवाब
no img
qIcon
ask
ऐसे और सवाल
Loading...
Loading...
qIcon
ask

Related Searches:
कौन सी मदद ;

QuestionsProfiles

Vokal App bridges the knowledge gap in India in Indian languages by getting the best minds to answer questions of the common man. The Vokal App is available in 11 Indian languages. Users ask questions on 100s of topics related to love, life, career, politics, religion, sports, personal care etc. We have 1000s of experts from different walks of life answering questions on the Vokal App. People can also ask questions directly to experts apart from posting a question to the entire answering community. If you are an expert or are great at something, we invite you to join this knowledge sharing revolution and help India grow. Download the Vokal App!