लोगों की ऐसी कौन सी आदत है जो आपको सबसे ज़्यादा परेशान करती है?...


user

Santosh Singh indrwar

Business Consultant & Life Couch

0:20
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

लोगों की ऐसी कौन सी औरत है जो आपको सबसे ज्यादा परेशान करती है दोस्त मुझे तो लोगों की सबसे बड़ी एक आस्था बढ़ती है कि जिस का भरोसा करो वही धोखा देता है जिसको कुछ विश्वास कर लो वही बेईमानी कर लेता है वही गद्दारी कर देता इस समस्या से परेशान

logo ki aisi kaun si aurat hai jo aapko sabse zyada pareshan karti hai dost mujhe toh logo ki sabse badi ek astha badhti hai ki jis ka bharosa karo wahi dhokha deta hai jisko kuch vishwas kar lo wahi baimani kar leta hai wahi gaddari kar deta is samasya se pareshan

लोगों की ऐसी कौन सी औरत है जो आपको सबसे ज्यादा परेशान करती है दोस्त मुझे तो लोगों की सबसे

Romanized Version
Likes  9  Dislikes    views  126
WhatsApp_icon
25 जवाब
qIcon
ask
ऐसे और सवाल
Loading...
Loading...
user

Jitendra Singh

Social Worker

5:12
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

लोगों की ऐसी कौन सी आदत है जो आपको सबसे ज्यादा परेशान करती है और अगर इसको देखा जाए तो लोगों की सबसे जो बड़े मेंबर की आदत है वह है कि अपने जवान का किसी भी रूप में कही हुई बात का पुराना करना बच्चन हारी होना जो अपने वचनों की रक्षा नहीं करता वह किसी के लिए क्या रक्षा करेगा किसी के लिए क्या स्वभाव से अच्छा मीठा बोल सकता है जो अपने बच्चन की रक्षा नहीं कर सकता वह किसी की रक्षा नहीं कर सकता इसलिए जब पृथ्वी सृष्टि की रचना हुई तो सृष्टि को चार चरणों में हमने विभाजित किया सतयुग त्रेता युग द्वापर युग और कलियुग अब इन चारों में अंतर जो है वहीं से मापदंड है सिर्फ आपके बच्चों से सतयुग में आपकी वाणी हंड्रेड परसेंट सच में काम करती थी भगवान की विधि के अनुसार चलती के सामने वह पैमाने तय करने वाला जो भगवान ने तय कर दिया कुछ विधि के अनुसार कार्य चलता था उसको सचिव पैकेट फिर वाणी में गिरावट आई और त्रेता यानी कि तीन चरण उसके रह गए उन्हें एक चरण में आ गया के करीब 1 रन की वाणी गंदी हो गई एक चरण उसका जो है वह अपनी वाणी को तवज्जो नहीं देता था वाणिज्य रक्षा नहीं करता अपने वचनों को पढ़े हो वह पूरा नहीं करता था जैसे रावण ने धोखे से भिक्षा मांगी उठा गया ले गया सीता को यह बच्चन की रक्षा नहीं तो एक चरण होश में पापा आ गया उसमें तीन चरण फुल नेकेड उसके बाद में वाणी से ही लोगों की रक्षा हुई कि द्वापर हुआ वह पहले दो चरण पुण्य रह गया तो चरण पापा के यह भी आपने देखा और कलयुग को उन्होंने पुण्य पास ना तोल कर के अवगुणों से तोला है कैसे करें मौर्य से आवाज यानी कि जैसे कर्म करेगा वैसे ले मैंने आवाज उसके वचन नहीं होंगे जो वह कहेगा वह कभी नहीं करेगा यह कलयुग का गुण है इसीलिए आज वाणी सबसे ज्यादा दुख देती लोग कहते कुछ हैं करते कुछ हैं बच्चन का पालन ना करना ही सबसे बड़ा दुख है इसीलिए पहले से रघुकुल रीत सदा चली आई प्राण जाए पर वचन ना जाए लेकिन आज उसका उल्टा हो गया आज यह हो गया है कि हर पल के लिए ही सो हाई बच्चा न जाए पर शान ना जाए उल्टा हो गया है इसलिए युगों के गणना भी हमारे प्रश्नों पर आधारित कितने वचन गिरते हैं उसी प्रकार के योग बनते गए तथा हुए द्वापर हुए फिर कलयुग हुए आज सुनने युग में हम चल रहे हैं समेत 40 तक देखना सब बदल जाएगा यह भविष्यवाणी है इसीलिए हम लोगों को अर्थ जगत से बाहर निकल के स्कूलों और इसके बाहर निकल कर के हम आध्यात्मिक जगत की खोज में लग जाना चाहिए खाली समय हम को इसके लिए मिला श्रद्धांजलि जगत को खोजो वॉइस मेल लोगों और प्रभु से ईश्वर से उससे आराधना करूं तो आप जो है खूब अच्छी तरह समझ सकेंगे हम किसी के परेशान करने से नहीं सिर्फ परेशान होते हैं जब इस पूरे संसार वाणी की रक्षा करने वाला अपना ही नहीं किस ने वचन दिया है वह इसकी रक्षा नहीं करता तब मुझे सबसे ज्यादा कष्ट होता है धन्य

logo ki aisi kaun si aadat hai jo aapko sabse zyada pareshan karti hai aur agar isko dekha jaaye toh logo ki sabse jo bade member ki aadat hai vaah hai ki apne jawaan ka kisi bhi roop me kahi hui baat ka purana karna bachchan haari hona jo apne vachano ki raksha nahi karta vaah kisi ke liye kya raksha karega kisi ke liye kya swabhav se accha meetha bol sakta hai jo apne bachchan ki raksha nahi kar sakta vaah kisi ki raksha nahi kar sakta isliye jab prithvi shrishti ki rachna hui toh shrishti ko char charno me humne vibhajit kiya satayug treta yug dwapar yug aur kaliyug ab in charo me antar jo hai wahi se maapdand hai sirf aapke baccho se satayug me aapki vani hundred percent sach me kaam karti thi bhagwan ki vidhi ke anusaar chalti ke saamne vaah paimane tay karne vala jo bhagwan ne tay kar diya kuch vidhi ke anusaar karya chalta tha usko sachiv packet phir vani me giraavat I aur treta yani ki teen charan uske reh gaye unhe ek charan me aa gaya ke kareeb 1 run ki vani gandi ho gayi ek charan uska jo hai vaah apni vani ko tavajjo nahi deta tha wanijya raksha nahi karta apne vachano ko padhe ho vaah pura nahi karta tha jaise ravan ne dhokhe se bhiksha maangi utha gaya le gaya sita ko yah bachchan ki raksha nahi toh ek charan hosh me papa aa gaya usme teen charan full naked uske baad me vani se hi logo ki raksha hui ki dwapar hua vaah pehle do charan punya reh gaya toh charan papa ke yah bhi aapne dekha aur kalyug ko unhone punya paas na tol kar ke avagunon se tola hai kaise kare maurya se awaaz yani ki jaise karm karega waise le maine awaaz uske vachan nahi honge jo vaah kahega vaah kabhi nahi karega yah kalyug ka gun hai isliye aaj vani sabse zyada dukh deti log kehte kuch hain karte kuch hain bachchan ka palan na karna hi sabse bada dukh hai isliye pehle se raghukul reet sada chali I praan jaaye par vachan na jaaye lekin aaj uska ulta ho gaya aaj yah ho gaya hai ki har pal ke liye hi so high baccha na jaaye par shan na jaaye ulta ho gaya hai isliye yugon ke ganana bhi hamare prashnon par aadharit kitne vachan girte hain usi prakar ke yog bante gaye tatha hue dwapar hue phir kalyug hue aaj sunne yug me hum chal rahe hain samet 40 tak dekhna sab badal jaega yah bhavishyavani hai isliye hum logo ko arth jagat se bahar nikal ke schoolon aur iske bahar nikal kar ke hum aadhyatmik jagat ki khoj me lag jana chahiye khaali samay hum ko iske liye mila shraddhaanjali jagat ko khojo voice male logo aur prabhu se ishwar se usse aradhana karu toh aap jo hai khoob achi tarah samajh sakenge hum kisi ke pareshan karne se nahi sirf pareshan hote hain jab is poore sansar vani ki raksha karne vala apna hi nahi kis ne vachan diya hai vaah iski raksha nahi karta tab mujhe sabse zyada kasht hota hai dhanya

लोगों की ऐसी कौन सी आदत है जो आपको सबसे ज्यादा परेशान करती है और अगर इसको देखा जाए तो लोग

Romanized Version
Likes  4  Dislikes    views  109
WhatsApp_icon
user
0:34
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

लोगों से मुझे यही परेशानी है कि लोग अपनी गलती को नहीं देखते हैं लोग दूसरे की गलती को डिनोट करते हैं अपनी गलती को कर समझ ले अगर सभी लोग अपनी अपनी गलतियों को समझ ले तो उस दिन अपने देश से अपने पूरी दुनिया में कहीं गलती नहीं होगा अपनी गलती को समझना चाहिए बस खुद की गलतियों को समझते हैं मैं चाहता हूं कि सभी लोग समय से अपनी गलती को अपने आप को सुधार हेतु सभी लोग सुधर जाएंगे खुद-ब-खुद यह चीज को सबसे ज्यादा परेशान करती है

logon se mujhe yahi pareshani hai ki log apni galti ko nahi dekhte hain log dusre ki galti ko denote karte hain apni galti ko kar samajh le agar sabhi log apni apni galatiyon ko samajh le toh us din apne desh se apne puri duniya mein kahin galti nahi hoga apni galti ko samajhna chahiye bus khud ki galatiyon ko samajhte hain main chahta hoon ki sabhi log samay se apni galti ko apne aap ko sudhaar hetu sabhi log sudhar jaenge khud bsp khud yah cheez ko sabse zyada pareshan karti hai

लोगों से मुझे यही परेशानी है कि लोग अपनी गलती को नहीं देखते हैं लोग दूसरे की गलती को डिनोट

Romanized Version
Likes  4  Dislikes    views  148
WhatsApp_icon
user

Pankaj Kr(youtube -AJ PANKAJ MATHS GURU)

Motivational Speaker/YouTube-AJ PANKAJ MATHS GURU

0:29
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

निमकी सबसे खराब आदत होती है दूसरे की निंदा करना दूसरे की बुराई करना दूसरे का आलोचना करना और साथ ही साथ ज्यादा लोगों करना ज्यादा लोग का सबसे खराब खून है किसान इन वजह से लोग ज्यादा परेशान होते हैं बहुत ज्यादा सोचना मेहनत नहीं करना इससे लोग खुद परेशान होते हैं इसलिए इंसान को मेल करना चाहिए सही सोचा कि नहीं चाहिए

nimki sabse kharab aadat hoti hai dusre ki ninda karna dusre ki burayi karna dusre ka aalochana karna aur saath hi saath zyada logo karna zyada log ka sabse kharab khoon hai kisan in wajah se log zyada pareshan hote hain bahut zyada sochna mehnat nahi karna isse log khud pareshan hote hain isliye insaan ko male karna chahiye sahi socha ki nahi chahiye

निमकी सबसे खराब आदत होती है दूसरे की निंदा करना दूसरे की बुराई करना दूसरे का आलोचना करना औ

Romanized Version
Likes  356  Dislikes    views  3226
WhatsApp_icon
user

bhaand's Theatre and Acting Classes

Acting And drama Coach Casting director Drama Director

1:12
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

लेकिन मुझे लोगों की एक आदत है जो बहुत ज्यादा परेशान करती है कि उन्हें अगर आप बताएंगे कि फला गाना या फला म्यूजिक बहुत अच्छा है वह पहले नकार देंगे कि नहीं नहीं बहुत बुरा है लेकिन अगर वही चीज उनके बॉस बोल देते हैं कि यार वह गाना वाला गाना बहुत अच्छा है सब लोग हां में हां मिलाकर बहुत अच्छा है या फिर ऐसा हो कि आपके सामने कुछ एक्सेप्ट करने से मना कर दे कि नहीं नहीं ऐसा नहीं होता और दूसरे लोगों के सामने वही चीज अटैक करता ऐसे ही होता है तुम वैसे लोग मुझे बिल्कुल पसंद नहीं है जो लोग हर एक वक्त में एडिंग रहते हैं अपने फैसले पर टिके रहते हैं वह मुझे बहुत अच्छे लगते हैं वह भी चाहे मेरी बात माने चाहे ना माने लेकिन जो अपने फैसले पर अडिग रहते हुए बहुत अच्छे

lekin mujhe logo ki ek aadat hai jo bahut zyada pareshan karti hai ki unhe agar aap batayenge ki phala gaana ya phala music bahut accha hai vaah pehle nakar denge ki nahi nahi bahut bura hai lekin agar wahi cheez unke boss bol dete hain ki yaar vaah gaana vala gaana bahut accha hai sab log haan me haan milakar bahut accha hai ya phir aisa ho ki aapke saamne kuch except karne se mana kar de ki nahi nahi aisa nahi hota aur dusre logo ke saamne wahi cheez attack karta aise hi hota hai tum waise log mujhe bilkul pasand nahi hai jo log har ek waqt me aiding rehte hain apne faisle par tike rehte hain vaah mujhe bahut acche lagte hain vaah bhi chahen meri baat maane chahen na maane lekin jo apne faisle par adig rehte hue bahut acche

लेकिन मुझे लोगों की एक आदत है जो बहुत ज्यादा परेशान करती है कि उन्हें अगर आप बताएंगे कि फ

Romanized Version
Likes  6  Dislikes    views  143
WhatsApp_icon
user

Adv Anil Agarwal

Tanushka Associates, Advocate High Court

1:25
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

मेरा अपना यह मानना है लोगों की आदत है कुछ लोगों की आदत होती है दूसरे के फटे में टांग फसाना ऐसे स्तर से चौकीदारी करेंगे इस तरह से निगरानी करेंगे जैसे पता नहीं क्या है सामने वाला को आप ने खरीद लिया बस हर बात उसकी पता होनी चाहिए हर चीज पता होनी चाहिए अगर नहीं पता हो तो उनके पेट में दर्द शुरू हो जाता खाना ही नहीं पता उनका यह इंसान की सबसे बड़ी समस्या है यह वह लोग हैं जो मीठे जहर है जो इंसान को बर्बाद करते हैं धीरे-धीरे इंसान की तरक्की में रास्ता रोकते हैं आगे आकर खड़े हो जाते हैं टांग खींचते हैं उसकी उसको आगे नहीं बनने देते मुंह पर मीठा बोलते हैं पीठ पीछे बुराई करते हैं यादव सबसे बुरी इंसान की आदत है आप कुछ अच्छा करेंगे कभी समर्थन नहीं करेंगे आपने अगर कभी गलती से कुछ गलत बोल दिया तो दुनिया भर की बुराई बुराई में आपकी माथे मोड़ देंगे यह एक सबसे बड़ी प्रॉब्लम है ऐसे लोग इसलिए जो लोग दूसरों के फटे में टांग पास आते हैं दूसरों के लाइफ में इंटरफेयर करते हैं यह आदत चुनौती है यह बहुत खतरनाक होती है ऐसे लोगों से दूरी बनाकर रखें

mera apna yah manana hai logo ki aadat hai kuch logo ki aadat hoti hai dusre ke phate me taang fasana aise sthar se chaukidari karenge is tarah se nigrani karenge jaise pata nahi kya hai saamne vala ko aap ne kharid liya bus har baat uski pata honi chahiye har cheez pata honi chahiye agar nahi pata ho toh unke pet me dard shuru ho jata khana hi nahi pata unka yah insaan ki sabse badi samasya hai yah vaah log hain jo meethe zehar hai jo insaan ko barbad karte hain dhire dhire insaan ki tarakki me rasta rokte hain aage aakar khade ho jaate hain taang khichte hain uski usko aage nahi banne dete mooh par meetha bolte hain peeth peeche burayi karte hain yadav sabse buri insaan ki aadat hai aap kuch accha karenge kabhi samarthan nahi karenge aapne agar kabhi galti se kuch galat bol diya toh duniya bhar ki burayi burayi me aapki mathe mod denge yah ek sabse badi problem hai aise log isliye jo log dusro ke phate me taang paas aate hain dusro ke life me intarafeyar karte hain yah aadat chunauti hai yah bahut khataranaak hoti hai aise logo se doori banakar rakhen

मेरा अपना यह मानना है लोगों की आदत है कुछ लोगों की आदत होती है दूसरे के फटे में टांग फसाना

Romanized Version
Likes  20  Dislikes    views  300
WhatsApp_icon
user

A.k.Swarnakar

Founder&Director (Motivational Speaker)

4:08
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

लोगों की ऐसी कॉल किया था जो ज्यादा परेशान करती है लोगों की एक आदत जो परेशानी करना करती है वह होती है बिना पिक्चर सलाह देने कि हमारे देश में ही नहीं इस पूरे संसार में ऐसी बहुत लोग जो अपने आप को देखते हुए लोगों की या दूसरों की टिप्पणी करने में बहुत आगे आपको यह करना चाहिए आप ऐसा कर देते तो बहुत अच्छा होता है अपने चेहरे को या अपने ध्यान को देखने के लिए उनके पास समय नहीं रहता ठीक ऐसा ही होता है जैसे कि अगर आपके पड़ोस में रहने वाला कोई परेशान है तो कहा जाता है उसके कर्म ही ऐसे हैं उसके साथ ऐसा ही होता है यही होना चाहिए यह इसी लायक था लेकिन अगर वही परेशानी आपकी खुद के घर में होती है तब हमारा प्रश्न का उत्तर यही होता है हे भगवान हे अल्लाह हे येशु मैंने ऐसा क्या गलत किया जो मेरे साथ हुआ हमेशा मेरे साथ ठीक है मैं तो अच्छे इंसान तू सब करना छोड़ कर अपने आप से कुछ क्या मैं सही हूं क्या मैं सही करने जा रहा और दूसरी बड़ी बात जो मुझे लोगों की सबसे ज्यादा परेशान करने वाली होती है होती है खुदा सफल नहीं हो सका ऐसा करने से यह हो गया या टॉकीज में 2007 में जो लोग हैं उनके बीच में सृजनात्मक शक्ति है ऐसे लोग जो मेरा सब कुछ करने की हिम्मत नहीं हो सिर्फ वही जीवन जैसे बोलते हैं जो जानवर लोग जीवन जीते हैं रोटी खाया पानी पिया परिवार बनाए सोया सेक्स किया और पिक्चर के गाने यह तो पशु पशु से बेहतर इंसान का जन्म के अच्छे करते हुए इंसान के पीछे उसकी वह खराब लगती है कि यहां हर इंसान हमेशा किसी ना किसी से कुछ लेने की आशा यह नहीं सोचता मैं जीवन में एक उद्देश्य और उस उद्देश्य को पूरा करने के लिए कुछ नया कुछ ना कुछ लेकर जाएगा फिर भी अपने आप को किसी और से बेहतर बनाने के लिए या अपने यश प्राप्ति के यही मुझे

logo ki aisi call kiya tha jo zyada pareshan karti hai logo ki ek aadat jo pareshani karna karti hai vaah hoti hai bina picture salah dene ki hamare desh me hi nahi is poore sansar me aisi bahut log jo apne aap ko dekhte hue logo ki ya dusro ki tippani karne me bahut aage aapko yah karna chahiye aap aisa kar dete toh bahut accha hota hai apne chehre ko ya apne dhyan ko dekhne ke liye unke paas samay nahi rehta theek aisa hi hota hai jaise ki agar aapke pados me rehne vala koi pareshan hai toh kaha jata hai uske karm hi aise hain uske saath aisa hi hota hai yahi hona chahiye yah isi layak tha lekin agar wahi pareshani aapki khud ke ghar me hoti hai tab hamara prashna ka uttar yahi hota hai hai bhagwan hai allah hai yeshu maine aisa kya galat kiya jo mere saath hua hamesha mere saath theek hai main toh acche insaan tu sab karna chhod kar apne aap se kuch kya main sahi hoon kya main sahi karne ja raha aur dusri badi baat jo mujhe logo ki sabse zyada pareshan karne wali hoti hai hoti hai khuda safal nahi ho saka aisa karne se yah ho gaya ya talkies me 2007 me jo log hain unke beech me srijanatmak shakti hai aise log jo mera sab kuch karne ki himmat nahi ho sirf wahi jeevan jaise bolte hain jo janwar log jeevan jeete hain roti khaya paani piya parivar banaye soya sex kiya aur picture ke gaane yah toh pashu pashu se behtar insaan ka janam ke acche karte hue insaan ke peeche uski vaah kharab lagti hai ki yahan har insaan hamesha kisi na kisi se kuch lene ki asha yah nahi sochta main jeevan me ek uddeshya aur us uddeshya ko pura karne ke liye kuch naya kuch na kuch lekar jaega phir bhi apne aap ko kisi aur se behtar banane ke liye ya apne yash prapti ke yahi mujhe

लोगों की ऐसी कॉल किया था जो ज्यादा परेशान करती है लोगों की एक आदत जो परेशानी करना करती है

Romanized Version
Likes  2  Dislikes    views  66
WhatsApp_icon
user

Siyaram Dubey

YouTuber/Spiritual Person/Thinker/Social-media Activist

1:24
Play

Likes  214  Dislikes    views  2140
WhatsApp_icon
user

Ansh jalandra

Motivational speaker & criminal lawyer

0:28
Play

Likes  133  Dislikes    views  2565
WhatsApp_icon
user

Dr. J.Singh

Financial Expert || Ayurvedic Doctor

1:02
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

मित्र मुझे लोगों की सबसे गंदी आदत तक की सबसे घटिया दत्तक की है कि गलत सही बोल सही ना बोलना पक्षपातपूर्ण बातें करना आज आप जैसे दिखाओ कोई मुस्लिम का बचाव करता है कोई बात नहीं बोलते हैं पक्षपात करते हैं लोग जुड़े हुए हैं उनका कहां पर सवार जुड़ा हुआ है उनको काफी लाभ होगा उसका बचाव करेंगे जहां पर नुकसान हुआ उसका बचाव नहीं करते वहां पर उसको इग्नोर करते हैं बस यह मानसिकता जो कि सबसे खतरनाक मानसिकता है किसी भी वक्ता यह सबसे बड़ी मरघट तक हमारे समाज को नुकसान पहुंचाती उसके खुद के खुद से जुड़ा हुआ रहता है सर कहीं भी कुछ भी किसी तरह का नुकसान होता है

mitra mujhe logo ki sabse gandi aadat tak ki sabse ghatiya dattak ki hai ki galat sahi bol sahi na bolna pakshpatpurna batein karna aaj aap jaise dikhaao koi muslim ka bachav karta hai koi baat nahi bolte hain pakshapat karte hain log jude hue hain unka kaha par savar juda hua hai unko kaafi labh hoga uska bachav karenge jaha par nuksan hua uska bachav nahi karte wahan par usko ignore karte hain bus yah mansikta jo ki sabse khataranaak mansikta hai kisi bhi vakta yah sabse badi marghat tak hamare samaj ko nuksan pahunchati uske khud ke khud se juda hua rehta hai sir kahin bhi kuch bhi kisi tarah ka nuksan hota hai

मित्र मुझे लोगों की सबसे गंदी आदत तक की सबसे घटिया दत्तक की है कि गलत सही बोल सही ना बोलना

Romanized Version
Likes  9  Dislikes    views  114
WhatsApp_icon
user

Pradeep Solanki

Corporate Yoga Consultant

1:09
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

लोगों की आदत है कि जैसे ही व्हाट्सएप सोशल मीडिया पर कोई मैसेज आया उसकी जांच पड़ताल किए बिना उसको आगे बढ़ा देते हैं सिर्फ बढ़ाते ही नहीं लोगों को 50 लोगों को भेज देते पर चीन अमीर बन जाती है तो यह सबसे बुरी आदत लगती है मुझे लोगों की जैसे कि अभी ऐसा हुआ कि अगर बिजली बंद होगी तो सबके यह टीवी पर रुक जाएंगे आप ऐसा कर दो वैसा कर दो अरे भाई सरकार बताए कि सरकार ने यह फैसला लिया है तो उसके इंतजाम भी हो खुद करेगी सरकार ने सिर्फ इतना बोला है कि जो बिजली है उसको बंद करो लाइट बंद करने के लिए बोला है आपके फ्रिज बंद करने के लिए सरकार सही है या गलत है इंटरनेट पर चेक कर सकते हो फैक्टसेट बड़ी सारी वेबसाइट के बाद ही उसको आगे बढ़ाओ और पहले अपना विवेक से देखो किस को बढ़ाने से कोई नहीं हो सकते हैं सबसे गंदी आदत फटाक से आगे बढ़ाएं

logo ki aadat hai ki jaise hi whatsapp social media par koi massage aaya uski jaanch padatal kiye bina usko aage badha dete hain sirf badhate hi nahi logo ko 50 logo ko bhej dete par china amir ban jaati hai toh yah sabse buri aadat lagti hai mujhe logo ki jaise ki abhi aisa hua ki agar bijli band hogi toh sabke yah TV par ruk jaenge aap aisa kar do waisa kar do are bhai sarkar bataye ki sarkar ne yah faisla liya hai toh uske intajam bhi ho khud karegi sarkar ne sirf itna bola hai ki jo bijli hai usko band karo light band karne ke liye bola hai aapke fridge band karne ke liye sarkar sahi hai ya galat hai internet par check kar sakte ho faiktaset badi saari website ke baad hi usko aage badhao aur pehle apna vivek se dekho kis ko badhane se koi nahi ho sakte hain sabse gandi aadat fatak se aage badhaye

लोगों की आदत है कि जैसे ही व्हाट्सएप सोशल मीडिया पर कोई मैसेज आया उसकी जांच पड़ताल किए बिन

Romanized Version
Likes  43  Dislikes    views  452
WhatsApp_icon
user

मीनाक्षी शर्मा

Enterpreneur, Author, Teacher, Motivational Speaker, Career Counsellor.

0:18
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

अपने जीवन से ज्यादा दूसरों के जीवन में ताका झांकी करना उनके जीवन के बारे में हर वक्त खोजबीन करते रहना यह लोगों की मुझे सबसे ज्यादा परेशान करती है

apne jeevan se zyada dusro ke jeevan me taka jhanki karna unke jeevan ke bare me har waqt khojbin karte rehna yah logo ki mujhe sabse zyada pareshan karti hai

अपने जीवन से ज्यादा दूसरों के जीवन में ताका झांकी करना उनके जीवन के बारे में हर वक्त खोजबी

Romanized Version
Likes  8  Dislikes    views  134
WhatsApp_icon
user

Samreen Fatma

Principal

0:41
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

मुझे लोगों की एक आदत सबसे ज्यादा गर्मी लगती है जो कि सबसे ज्यादा इंडिया में होती है वह यह है कि लोग एक दूसरे के व्रत में इंटरफेयर जरूर करते लाइक किसी की लड़की कहीं जा रही है देखो उसकी लड़की की जा रही है अरे देखो यह सब बाहर क्यों खड़े लोगों में हमारे इंडिया के लोगों में यह सबसे ज्यादा प्रॉब्लम पाई जाती है बट मैं यह नहीं कहूंगी कि सभी लोग आते हैं बस कुछ लोग ऐसे हैं जो कि मुझे पसंद नहीं है

mujhe logo ki ek aadat sabse zyada garmi lagti hai jo ki sabse zyada india me hoti hai vaah yah hai ki log ek dusre ke vrat me intarafeyar zaroor karte like kisi ki ladki kahin ja rahi hai dekho uski ladki ki ja rahi hai are dekho yah sab bahar kyon khade logo me hamare india ke logo me yah sabse zyada problem payi jaati hai but main yah nahi kahungi ki sabhi log aate hain bus kuch log aise hain jo ki mujhe pasand nahi hai

मुझे लोगों की एक आदत सबसे ज्यादा गर्मी लगती है जो कि सबसे ज्यादा इंडिया में होती है वह यह

Romanized Version
Likes  9  Dislikes    views  102
WhatsApp_icon
user

DR OM PRAKASH SHARMA

Principal, Education Counselor, Best Experience in Professional and Vocational Education cum Training Skills and 25 years experience of Competitive Exams. 9212159179. dsopsharma@gmail.com

0:39
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

लोगों की ऐसी कौन सी आदत है जो आपको सबसे ज्यादा परेशान करती है जब लोगों का काम निकल जाते हैं तो वह लोग बात करना बंद कर देते हैं फोन उठाना बंद कर देते हैं आपसी रिश्ते तोड़ देते हैं और यह भूल जाते हैं कि मैं जीवन में फिर किसी दूसरे इंसान की द्वारा जरूरत पड़ेगी उनकी इन आदतों से मन और आत्मा को बहुत कष्ट पहुंचा

logo ki aisi kaun si aadat hai jo aapko sabse zyada pareshan karti hai jab logo ka kaam nikal jaate hain toh vaah log baat karna band kar dete hain phone uthana band kar dete hain aapasi rishte tod dete hain aur yah bhool jaate hain ki main jeevan me phir kisi dusre insaan ki dwara zarurat padegi unki in aadaton se man aur aatma ko bahut kasht pohcha

लोगों की ऐसी कौन सी आदत है जो आपको सबसे ज्यादा परेशान करती है जब लोगों का काम निकल जाते है

Romanized Version
Likes  354  Dislikes    views  5817
WhatsApp_icon
play
user

VC. Speaks

Soft Skill Trainer

2:54

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

लोगों की ऐसी कौन सी आदत है जो आपको सबसे ज्यादा परेशान करती है वैसे तो हमें लोगों की कोई आदत परेशान करती है तो वह यह दिखाती है कि कुछ हद तक कमी हमारे अंदर है कि हम किसी और की बात से परेशान हो रहे हैं लेकिन कहना आसान है और करना उतना आसान नहीं है हम सबको कोशिश जरूर करनी चाहिए कि हम अपनी खुशी और परेशानी दूसरे के हाथ में ना दे दे लेकिन फिर भी ऐसा होता है और हम सब के साथ होता है कि दूसरों की कुछ आदतें होते हैं जो हमें परेशान करते हैं तो मुझे एक चीज जो अच्छी नहीं लगती है वह बदतमीजी से बात करना बहुत सी चीजें हैं जो हमारे हाथ में नहीं होती जैसे किसी ने हम से मदद मांगी और हम नहीं कर पाया हमने किसी से मदद मांगी और वह नहीं कर पाए ऐसे बहुत से एग्जांपल्स हैं जिस जो हमें दूसरे में बुरे लग सकते हैं लेकिन यह एक दूसरे के साथ बात करना व्यवहार करना यह हमारे हाथ में होता है तो हम किसी से कड़वे बोल क्यों बोलते हैं यह चीज जरूर मुझे अच्छी नहीं लगती जब कोई दूसरा कड़वी भाषा का प्रयोग करता है मैं एक चीज मानता हूं हमें नहीं पता कि दूसरा जब हम दूसरे से मिले थे तो वह किस स्थिति से गुजर रहा था हो सकता है वह पहले से ही परेशान हूं हो सकता है उसके जिंदगी में कोई दुख हो हम फ्री में मुफ्त में एक चीज जो दूसरे को दे सकते हैं वह है प्यारे शब्द प्यारे बोल हमें कोई जरूरत नहीं होती है किसी भी स्थिति में किसी से कड़वे बोल बोलने की गुस्सा आता है सबको आता है लेकिन कम से कम जब गुस्से या लड़ाई वाली स्थिति ना हो तब हमें कोशिश करनी चाहिए कि हम सब से प्यार से बात करें इसमें हमारा कुछ नहीं जाता है हमारा कोई खर्चा नहीं होता है कोई पैसे नहीं लगते हैं हमें कुछ मेहनत नहीं करनी पड़ती है सबसे बेस्ट चीज है सुना ये चीज मैं आप सबको बोलूंगा किसी सब को बुरी लगती है इसलिए जब भी किसी से मिलने कोशिश करें प्यार से बात करें सुनने के लिए थैंक यू

logon ki aisi kaun si aadat hai jo aapko sabse zyada pareshan karti hai waise toh hamein logo ki koi aadat pareshan karti hai toh vaah yah dikhati hai ki kuch had tak kami hamare andar hai ki hum kisi aur ki baat se pareshan ho rahe hain lekin kehna aasaan hai aur karna utana aasaan nahi hai hum sabko koshish zaroor karni chahiye ki hum apni khushi aur pareshani dusre ke hath mein na de de lekin phir bhi aisa hota hai aur hum sab ke saath hota hai ki dusro ki kuch aadatein hote hain jo hamein pareshan karte hain toh mujhe ek cheez jo achi nahi lagti hai vaah badatamiji se baat karna bahut si cheezen hain jo hamare hath mein nahi hoti jaise kisi ne hum se madad maangi aur hum nahi kar paya humne kisi se madad maangi aur vaah nahi kar paye aise bahut se egjampals hain jis jo hamein dusre mein bure lag sakte hain lekin yah ek dusre ke saath baat karna vyavhar karna yah hamare hath mein hota hai toh hum kisi se kadve bol kyon bolte hain yah cheez zaroor mujhe achi nahi lagti jab koi doosra kadvi bhasha ka prayog karta hai ek cheez manata hoon hamein nahi pata ki doosra jab hum dusre se mile the toh vaah kis sthiti se gujar raha tha ho sakta hai vaah pehle se hi pareshan hoon ho sakta hai uske zindagi mein koi dukh ho hum free mein muft mein ek cheez jo dusre ko de sakte hain vaah hai pyare shabd pyare bol hamein koi zarurat nahi hoti hai kisi bhi sthiti mein kisi se kadve bol bolne ki gussa aata hai sabko aata hai lekin kam se kam jab gusse ya ladai wali sthiti na ho tab hamein koshish karni chahiye ki hum sab se pyar se baat kare isme hamara kuch nahi jata hai hamara koi kharcha nahi hota hai koi paise nahi lagte hain hamein kuch mehnat nahi karni padti hai sabse best cheez hai suna ye cheez main aap sabko boloonga kisi sab ko buri lagti hai isliye jab bhi kisi se milne koshish kare pyar se baat kare sunne ke liye thank you

लोगों की ऐसी कौन सी आदत है जो आपको सबसे ज्यादा परेशान करती है वैसे तो हमें लोगों की कोई आ

Romanized Version
Likes  137  Dislikes    views  1657
WhatsApp_icon
user
0:31
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

कुछ लोग बात को बहुत लंबा खींचते हैं जो मसला सिर्फ चंद क्षण घर का होता है उसे चीज काट के वह मेरे को इतना लंबा ले जाते हैं कि टेंशन हो जाती है और उसमें जो बाद में होता है ना तो परेशान होता है

kuch log baat ko bahut lamba khichte hain jo masala sirf chand kshan ghar ka hota hai use cheez kaat ke vaah mere ko itna lamba le jaate hain ki tension ho jaati hai aur usme jo baad mein hota hai na toh pareshan hota hai

कुछ लोग बात को बहुत लंबा खींचते हैं जो मसला सिर्फ चंद क्षण घर का होता है उसे चीज काट के वह

Romanized Version
Likes  8  Dislikes    views  299
WhatsApp_icon
user

Yog Guru Gyan Ranjan Maharaj

Founder & Director - Kashyap Yogpith

1:47
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

आपका क्वेश्चन है लोगों की ऐसी कौन सी ज्यादा है जो आपको सबसे ज्यादा परेशान करती है देखिए लोगों की सबसे ज्यादा परेशान करने वाली आदत है जो चीज मेरे दिमाग को यह मेरे शरीर को सूट नहीं करता है अगर वो काम कोई करता है मेरे सामने को चाहिए हमें काफी परेशान करती है क्योंकि मैं बचपन से एक भले मैं बैठ सकती हूं लेकिन मैं जीवन अपना एक जोगी की भांति बिताते आ रहा हूं और यह चाहूंगा कि व्यक्ति मेरे जैसा बने क्योंकि मैं एक नंबर स्पष्ट वादी आदमी और सत्य को साथ में लेकर चलता हूं अगर कोई और सत्य बोलता है मेरे किसी भी कार्य की कोई किसी भी तरह से जबकि मैं सही कार्य करना है क्योंकि इस संसार में ऐसे ही व्यक्ति है कि आपको सत्य के मार्ग पर चलते हैं तो आपको कोशिश करेगा व्यक्ति की आप भी आप सत्य के मार्ग पर चलें क्योंकि असत्य बोलने वाले और सत्य के मार्ग पर चलने वालों की संख्या इस संसार में बहुत ज्यादा ही बढ़ गई है तो मैं यही चाहूंगा कि हम जिस मार्ग पर हैं सत्य के मार्ग पर चल रहे उसी मार्ग पर चलने दिया जाए वहां से अगर हम वितरित कोई करने का प्रयास करता है यह चीज हमें काफी परेशान करती है धन्यवाद

aapka question hai logo ki aisi kaun si zyada hai jo aapko sabse zyada pareshan karti hai dekhiye logo ki sabse zyada pareshan karne wali aadat hai jo cheez mere dimag ko yah mere sharir ko suit nahi karta hai agar vo kaam koi karta hai mere saamne ko chahiye hamein kaafi pareshan karti hai kyonki main bachpan se ek bhale main baith sakti hoon lekin main jeevan apna ek jogi ki bhanti Bitate aa raha hoon aur yah chahunga ki vyakti mere jaisa bane kyonki main ek number spasht wadi aadmi aur satya ko saath mein lekar chalta hoon agar koi aur satya bolta hai mere kisi bhi karya ki koi kisi bhi tarah se jabki main sahi karya karna hai kyonki is sansar mein aise hi vyakti hai ki aapko satya ke marg par chalte hain toh aapko koshish karega vyakti ki aap bhi aap satya ke marg par chalen kyonki asatya bolne waale aur satya ke marg par chalne walon ki sankhya is sansar mein bahut zyada hi badh gayi hai toh main yahi chahunga ki hum jis marg par hain satya ke marg par chal rahe usi marg par chalne diya jaaye wahan se agar hum vitrit koi karne ka prayas karta hai yah cheez hamein kaafi pareshan karti hai dhanyavad

आपका क्वेश्चन है लोगों की ऐसी कौन सी ज्यादा है जो आपको सबसे ज्यादा परेशान करती है देखिए लो

Romanized Version
Likes  26  Dislikes    views  889
WhatsApp_icon
user

Vikas Singh

Political Analyst

2:14
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

आपका सवाल है कि लोगों की ऐसी कौन सी आदत है जो आपको सबसे ज्यादा परेशान करती है देखिए लोगों की जो झूठ बोलने वाली आदत है बेईमानी करने वाली आदत है नाइंसाफी करने वाली आदत है यह आदत मुझे बहुत परेशान करती है क्योंकि जब मैं किसी के ऊपर भरोसा करता हूं उसके लिए समर्पण का भाव रखता हूं उसके लिए अपने मन में हमेशा अच्छा भाव रखता हूं अच्छा से कर्म करता हूं अगर अगला मुझे जब धोखा देता है ना मुझे बहुत दुख होता है और मैक्सिमम लोगों को मैंने देखा है वह झूठ बोलने वाले हैं धोखा देने वाले हैं और बेईमानी से काम करने वाले हैं सभी लोग बस अपना फायदा सोचते हैं क्या बताइए जब सब अपना फायदा सोचेगा तो दुनिया कैसे चलेगी यार अपना फायदा सोचिए कोई गलत बात नहीं है लेकिन दूसरों का भी नुकसान मत सोचिए नुकसान अब करेंगे दूसरों का तो क्या आपका बढ़िया होगा आज बढ़िया हो रहा है कल हो सकता है बुरा हो जाए आपके साथ तो भगवान से तो दरिया परमात्मा है अभी तो पूरी दुनिया को चला रहा है तो भगवान से हम लोगों को डर के कोई भी काम करना चाहिए और झूठ तो कभी नहीं बोलना चाहिए हमेशा इमानदारी से रहना चाहिए हम लोग आजीवन धरती पर आने नहीं आए मौत सब की पक्की है कोई 100 साल जिंदा रहेगा कोई 70 साल कोई साथ साथ मरना सबको है आज के टाइम में जीवन का तो वैसे ही कोई ठीक नहीं है कि कब क्या हो जाए इसलिए मैं सब से निवेदन करना चाहता हूं बेईमानी का भाव मत रखिए ईमानदारी का भाव रखिए सत्य के पथ पर चलिए भ्रष्टाचार का विरोध करें गलत करने वालों का विरोध करिए और हमेशा अपने मन को दूसरों के प्रति अच्छा बना कर रखी है तभी देश आगे बढ़ेगा तभी आप आगे बढ़ेंगे धन्यवाद

aapka sawaal hai ki logo ki aisi kaun si aadat hai jo aapko sabse zyada pareshan karti hai dekhiye logo ki jo jhuth bolne wali aadat hai baimani karne wali aadat hai nainsafi karne wali aadat hai yah aadat mujhe bahut pareshan karti hai kyonki jab main kisi ke upar bharosa karta hoon uske liye samarpan ka bhav rakhta hoon uske liye apne man mein hamesha accha bhav rakhta hoon accha se karm karta hoon agar agla mujhe jab dhokha deta hai na mujhe bahut dukh hota hai aur maximum logo ko maine dekha hai vaah jhuth bolne waale hain dhokha dene waale hain aur baimani se kaam karne waale hain sabhi log bus apna fayda sochte kya bataye jab sab apna fayda sochega toh duniya kaise chalegi yaar apna fayda sochiye koi galat baat nahi hai lekin dusro ka bhi nuksan mat sochiye nuksan ab karenge dusro ka toh kya aapka badhiya hoga aaj badhiya ho raha hai kal ho sakta hai bura ho jaaye aapke saath toh bhagwan se toh dariya paramatma hai abhi toh puri duniya ko chala raha hai toh bhagwan se hum logo ko dar ke koi bhi kaam karna chahiye aur jhuth toh kabhi nahi bolna chahiye hamesha imaandari se rehna chahiye hum log aajivan dharti par aane nahi aaye maut sab ki pakki hai koi 100 saal zinda rahega koi 70 saal koi saath saath marna sabko hai aaj ke time mein jeevan ka toh waise hi koi theek nahi hai ki kab kya ho jaaye isliye main sab se nivedan karna chahta hoon baimani ka bhav mat rakhiye imaandaari ka bhav rakhiye satya ke path par chaliye bhrashtachar ka virodh kare galat karne walon ka virodh kariye aur hamesha apne man ko dusro ke prati accha bana kar rakhi hai tabhi desh aage badhega tabhi aap aage badhenge dhanyavad

आपका सवाल है कि लोगों की ऐसी कौन सी आदत है जो आपको सबसे ज्यादा परेशान करती है देखिए लोगों

Romanized Version
Likes  185  Dislikes    views  1630
WhatsApp_icon
user
0:48
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

यदि कोई भी मनुष्य किसी भी काम को करने के लिए उस काम का उद्देश्य यदि आत्मकथा नहीं है रात अध्यात्म रूप से या अध्यात्म रूप से उसे जोड़ा नहीं गया उस काम को तो वह परेशानी का कारण है उसके परेशानी कारण जो काम को कर रहा है और जब कोई मनुष्य परेशान होता है तो वह अध्यात्म से दूर है क्योंकि अनंतानंद अध्यात्म से प्राप्त होता है अध्यात्म से दूर है हर कार्य को अध्यात्म से जोड़ता है तो वह परेशान है और मेरी परेशानी यही है कि वह परेशान है

yadi koi bhi manushya kisi bhi kaam ko karne ke liye us kaam ka uddeshya yadi atmakatha nahi hai raat adhyaatm roop se ya adhyaatm roop se use joda nahi gaya us kaam ko toh vaah pareshani ka karan hai uske pareshani karan jo kaam ko kar raha hai aur jab koi manushya pareshan hota hai toh vaah adhyaatm se dur hai kyonki anantanand adhyaatm se prapt hota hai adhyaatm se dur hai har karya ko adhyaatm se Jodta hai toh vaah pareshan hai aur meri pareshani yahi hai ki vaah pareshan hai

यदि कोई भी मनुष्य किसी भी काम को करने के लिए उस काम का उद्देश्य यदि आत्मकथा नहीं है रात अध

Romanized Version
Likes  3  Dislikes    views  100
WhatsApp_icon
user
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

लोगों की हंसी एक आदत है जो मुझे बहुत परेशान करती है पूरी है कि बिना किसी कारण किसी वजह के दूसरे को नीचा दिखाने के लिए मरते गए अनेक प्रकार के शब्दों की बौछार जब मेरे कानों में कहते हैं करते हैं तो सच में मेरा दिमाग खराब कर देते हैं ऐसा नहीं किसी के ऊपर किसी के बारे में व्यस्त होना चाहिए हो सके तो मौन ही रहे और शांति बनाए रखने में मुझे अच्छा लगता है बस इतना कहना चाहता हूं

logo ki hansi ek aadat hai jo mujhe bahut pareshan karti hai puri hai ki bina kisi karan kisi wajah ke dusre ko nicha dikhane ke liye marte gaye anek prakar ke shabdon ki bauchar jab mere kanon mein kehte hain karte hain toh sach mein mera dimag kharab kar dete hain aisa nahi kisi ke upar kisi ke bare mein vyast hona chahiye ho sake toh maun hi rahe aur shanti banaye rakhne mein mujhe accha lagta hai bus itna kehna chahta hoon

लोगों की हंसी एक आदत है जो मुझे बहुत परेशान करती है पूरी है कि बिना किसी कारण किसी वजह के

Romanized Version
Likes  2  Dislikes    views  79
WhatsApp_icon
user

Debidutta Swain

IAS Aspirant | Life Motivational Speaker,Daily Story Teller

4:21
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

यह प्रश्न का उत्तर बता देना चाहूंगा लोगों के स्वास्थ्य पर था कि जो सेल्फिश आदत रहता है लोगों की इसके प्रति मेरा सबसे ज्यादा नफरत है वह सिर्फ इतने सीरियस निकले बहुत सारे फॉर्म में मेनिफेस्ट होता है जन्म लेता है जैसे कि आप रास्ते में जा रहे हो और आप कोई रिक्शावाला हो कोई सिर पर हो इन्हें कोई भी उनके साथ तक कुछ लोग होते हैं क्यों बुरी व्यवहार करते हैं हमेशा जैसे कि उस इंसानों के पास जिंदगी नहीं है कोई मतलब कि आज तांडव स्टेटस यह सब चीजों की जो दर्जनों रह जाते हैं लोग वह लोगों के साथ तो पूरी बुरी तरह से भी बाहर करते हैं छोटी-छोटी बातें हो या बड़ी से बड़ी बात और उनके साथ जनरल भी जब वह बातें करते हैं बहुत बुरी तरह से व्यवहार करते हैं ऐसा नहीं सोचते हैं कि वह इंसान मेरे को हेल्प कर रहा है वहीं मेरे काम को कर रहा है हर एक चीज को पहचान पाओगे कि मैं और मेरा काम किया काम कर रहा है इसी नजरिए से देख रहा हूं कि वह एक रिक्शावाला है और मैं यही हूं और यह एक पेपर है मैं वह हूं वह के कचरा उठाने वाली है और मैं यह जरूरत नहीं है लोग हर एक एक अच्छा दत्त हमेशा रखना चाहिए लोगों में क्या करें जो कभी काम भी कर देता है ओके और वह जितना भी नीचे मतलब कि युवा क्लब के काम करता हूं लेकिन कुछ भी आपके दिमाग के हिसाब से उनका इलाज कैसे हो क्या हो इसे अच्छे व्यवहार कीजिए खुद के परिवार की तरफ से मिली दुनिया बहुत बड़ी है यार और आप दुनिया के बहुत छोटे से हिस्से हो यह बुरी आदत क्यों है कि हम दोस्तों के साथ दुर्व्यवहार करने लग जाते हैं लाली में सेक्स हेयर चाहता हूं जहां पर लोग हर किसी के साथ ऐसे बातें करते हुए गांव की सुसाइड चाहता हूं और मैं दिल्ली का कैपिटल में रहता हूं भारत के कैपिटल में रहता हूं दिल्ली में कहीं ना कहीं अपने गांव बघेरा में भी चीज दिखाएं के लोगों के बीच में इतना डिस्टर्ब नहीं रहता है तो घर किस किस के साथ अच्छे से बात करते हैं वहां पर रहता है कास्ट के ऊपर में ओके अदर कास्ट के जो रहते हो रहते हो रहते हैं उनके साथ एक्टिविटी फिलिंग्स रहता है शहर में लेकिन यह सभी के प्रति रहता है मैं देख रहा हूं डिग्रेशन सभी के साथ शहर में कास्ट इतना मायने रखता है लेकिन यह शहर में हमेशा प्रोफेशन मायने रखता है क्या कि कोटेशन कितना बड़ा है गांव विलेज एरिया में कास्ट मायने रखता है बट शहर में प्रोफेशनल मतलब डेस्टिनेशन हर जगह पर है इंसान को समझना चाहिए कि हम इंसान हैं और हमारे सामने भी एक इंसान का फैशन शायद कुछ अलग है अब यह हमेशा बात याद रखना कि वह इंसान आज पेपर है या फिर ई रिक्शा चला रहा है या फिर कोई ऐसे काम कर रहा है हमारे प्रकाशन से थोड़ी नीचे मैन्युअल स्कैवेंजिंग कर रहा है और हम आज सपोर्ट कलेक्टर हो गए हैं तो बात यह बात याद रखें कि जो रिसर्च है ओके जो रिसोर्ट हमारी माता पिता ने हमको दिए हैं ओके वह रिसर्च उसको मिल नहीं पाया है उसके हक के रिसर्च को हम खा रहे हैं ओके एकरी सोर्स जो संसाधन होता है उसका डिस्ट्रीब्यूशन किया जाता है कुत्ते उसको मिला नहीं तो इतना हमको मिल गया है और आज हम इतने बड़े हो गए हैं हम उसका रिसर्च तो ले चुके हैं उनका संसाधनों को ले चुके हैं उसके लिए जो मौका था उस मौके कसम खा गए हैं तो उसके विभाग दिखाना जरूरत है ना यह तो उसके हक की बात है मुकेश तो हर एक मोमेंट अगर आप किसी को भी इंसान को देखो रास्ते में नहीं थे कहीं पर भी जो आपको नीचे लग रहे हो नीचे लग रहे हो जो जन वाले हमारे साइड में बिठाया गया है यह बात हमेशा याद रखो कि उस इंटर के साथ एक स्माइल कीजिए हाउ हाउ आर यू आप कैसे हो क्या हो गई से बात करने में कभी शर्म आई एम अ आपके व्यक्तित्व में ज्यादा निकला था और आपके आदत को और भी सुधार देता है और हम बस यही धन्यवाद इतना लंबा पेपर सुनने के लिए

yah prashna ka uttar bata dena chahunga logo ke swasthya par tha ki jo selfish aadat rehta hai logo ki iske prati mera sabse zyada nafrat hai vaah sirf itne serious nikle bahut saare form mein menifest hota hai janam leta hai jaise ki aap raste mein ja rahe ho aur aap koi rikshavala ho koi sir par ho inhen koi bhi unke saath tak kuch log hote hai kyon buri vyavhar karte hai hamesha jaise ki us insano ke paas zindagi nahi hai koi matlab ki aaj tandav status yah sab chijon ki jo darjanon reh jaate hai log vaah logo ke saath toh puri buri tarah se bhi bahar karte hai choti choti batein ho ya baadi se baadi baat aur unke saath general bhi jab vaah batein karte hai bahut buri tarah se vyavhar karte hai aisa nahi sochte hai ki vaah insaan mere ko help kar raha hai wahi mere kaam ko kar raha hai har ek cheez ko pehchaan paoge ki main aur mera kaam kiya kaam kar raha hai isi nazariye se dekh raha hoon ki vaah ek rikshavala hai aur main yahi hoon aur yah ek paper hai vaah hoon vaah ke kachra uthane wali hai aur main yah zarurat nahi hai log har ek ek accha dutt hamesha rakhna chahiye logo mein kya kare jo kabhi kaam bhi kar deta hai ok aur vaah jitna bhi niche matlab ki yuva club ke kaam karta hoon lekin kuch bhi aapke dimag ke hisab se unka ilaj kaise ho kya ho ise acche vyavhar kijiye khud ke parivar ki taraf se mili duniya bahut baadi hai yaar aur aap duniya ke bahut chote se hisse ho yah buri aadat kyon hai ki hum doston ke saath durvyavahar karne lag jaate hai laali mein sex hair chahta hoon jaha par log har kisi ke saath aise batein karte hue gaon ki suicide chahta hoon aur main delhi ka capital mein rehta hoon bharat ke capital mein rehta hoon delhi mein kahin na kahin apne gaon baghera mein bhi cheez dikhaen ke logo ke beech mein itna disturb nahi rehta hai toh ghar kis kis ke saath acche se baat karte hai wahan par rehta hai caste ke upar mein ok other caste ke jo rehte ho rehte ho rehte hai unke saath activity feelings rehta hai shehar mein lekin yah sabhi ke prati rehta hai dekh raha hoon digression sabhi ke saath shehar mein caste itna maayne rakhta hai lekin yah shehar mein hamesha profession maayne rakhta hai kya ki quotation kitna bada hai gaon village area mein caste maayne rakhta hai but shehar mein professional matlab destination har jagah par hai insaan ko samajhna chahiye ki hum insaan hai aur hamare saamne bhi ek insaan ka fashion shayad kuch alag hai ab yah hamesha baat yaad rakhna ki vaah insaan aaj paper hai ya phir ee riksha chala raha hai ya phir koi aise kaam kar raha hai hamare prakashan se thodi niche manual skaivenjing kar raha hai aur hum aaj support collector ho gaye hai toh baat yah baat yaad rakhen ki jo research hai ok jo resort hamari mata pita ne hamko diye hai ok vaah research usko mil nahi paya hai uske haq ke research ko hum kha rahe hai ok ekari source jo sansadhan hota hai uska distribution kiya jata hai kutte usko mila nahi toh itna hamko mil gaya hai aur aaj hum itne bade ho gaye hai hum uska research toh le chuke hai unka sansadhano ko le chuke hai uske liye jo mauka tha us mauke kasam kha gaye hai toh uske vibhag dikhana zarurat hai na yah toh uske haq ki baat hai mukesh toh har ek moment agar aap kisi ko bhi insaan ko dekho raste mein nahi the kahin par bhi jo aapko niche lag rahe ho niche lag rahe ho jo jan waale hamare side mein bithaya gaya hai yah baat hamesha yaad rakho ki us inter ke saath ek smile kijiye how how R you aap kaise ho kya ho gayi se baat karne mein kabhi sharm I M a aapke vyaktitva mein zyada nikala tha aur aapke aadat ko aur bhi sudhaar deta hai aur hum bus yahi dhanyavad itna lamba paper sunne ke liye

यह प्रश्न का उत्तर बता देना चाहूंगा लोगों के स्वास्थ्य पर था कि जो सेल्फिश आदत रहता है लोग

Romanized Version
Likes  3  Dislikes    views  108
WhatsApp_icon
user

Ashok Clinic

Sexologist

0:22
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

लोगों की ऐसी कौन सी आदत है जो आपको सबसे ज्यादा परेशान करती है कि लोगों का झूठ बोलना मत मारना और उसमें खुदगर्जी होना अपनी खुदगर्जी के लिए अपना काम साधने के लिए प्यार मोहब्बत दोस्ती बनाना है मेरे को तो बहुत परेशान करते हैं

logo ki aisi kaun si aadat hai jo aapko sabse zyada pareshan karti hai ki logo ka jhuth bolna mat marna aur usme khudagarji hona apni khudagarji ke liye apna kaam sadhane ke liye pyar mohabbat dosti banana hai mere ko toh bahut pareshan karte hain

लोगों की ऐसी कौन सी आदत है जो आपको सबसे ज्यादा परेशान करती है कि लोगों का झूठ बोलना मत मार

Romanized Version
Likes  474  Dislikes    views  5505
WhatsApp_icon
user

Gopal Srivastava

Acupressure Acupuncture Sujok Therapist

1:30
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

लोगों की कौन सी औरत है जो परेशान करती है देखो आते बहुत सारे लोगों के अंधे हैं किस-किस कंपनी करोगे अभी देख लो स्वच्छ भारत अभियान के अंदर उन्होंने हर जगह कूड़ेदान बना रखी है लेकिन उतना ही सोचते कि जहां उनकी प्लास्टिक की थैलियां थोड़ा आगे जाकर फेंकने कूड़ेदान के अंदर जवानी गाड़ी खुली उसका शीशा कोला डीजे गाड़ी साफ हो जाए आजा रे मुनिया का कोई कंट्री ऐसा नहीं है जहां पर आप सच में पूरा फेंक दें सड़क पर छोड़ दें लाल बत्ती होने के अलावा किस जगह जरूर दें डाल बच्ची पार कर जाए ठीक है कहीं भी जब भी करें इमेजेस जमाना है वहां पर अगर आप डाल बच्चे तीन क्रॉस करते हैं तो तीसरी चौथी लाइफ में आप को रोक लिया जाएगा 15 दिन का लाइसेंस बंद हो जाएगा आपका अपना हिंदुस्तान को मानता ही नहीं है

logo ki kaun si aurat hai jo pareshan karti hai dekho aate bahut saare logo ke andhe hain kis kis company karoge abhi dekh lo swachh bharat abhiyan ke andar unhone har jagah koodedaan bana rakhi hai lekin utana hi sochte ki jaha unki plastic ki thailiyan thoda aage jaakar fenkne koodedaan ke andar jawaani gaadi khuli uska shisha cola DJ gaadi saaf ho jaaye aajad ray muniya ka koi country aisa nahi hai jaha par aap sach me pura fenk de sadak par chhod de laal batti hone ke alava kis jagah zaroor de daal bachi par kar jaaye theek hai kahin bhi jab bhi kare images jamana hai wahan par agar aap daal bacche teen cross karte hain toh teesri chauthi life me aap ko rok liya jaega 15 din ka license band ho jaega aapka apna Hindustan ko maanta hi nahi hai

लोगों की कौन सी औरत है जो परेशान करती है देखो आते बहुत सारे लोगों के अंधे हैं किस-किस कंपन

Romanized Version
Likes  89  Dislikes    views  2655
WhatsApp_icon
user

Shubham Saini

Software Engineer

0:16
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

वह आदत होता है अगर कोई व्यक्ति जबरदस्ती अपनी बात मरवाता है या कोई जबरदस्ती तरीके से अपने नेचर को शो करता है तो वह कभी अच्छा नहीं होता

vaah aadat hota hai agar koi vyakti jabardasti apni baat marvata hai ya koi jabardasti tarike se apne nature ko show karta hai toh vaah kabhi accha nahi hota

वह आदत होता है अगर कोई व्यक्ति जबरदस्ती अपनी बात मरवाता है या कोई जबरदस्ती तरीके से अपने न

Romanized Version
Likes  234  Dislikes    views  1350
WhatsApp_icon
user

Prakash Kumar

Business Owner

0:55
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

लोगों की ऐसी कौन सी आदत है जो आपको सबसे ज्यादा परेशान करती है लोगों की कुछ आदत है जो सबसे ज्यादा परेशान करते हैं पहला तो किसी को अपना यज्ञ को के वो अच्छे से क्यों रह रहा है उसे देखकर बुरा लगना ऐसा क्यों दे रहा है सब खुश क्यों है एक तू ही आदत जलते हैं एक तो यह आदत दूसरा जो नशा करते हैं एक यह आदत तीसरा जो लड़कियों की तरफ गलत देखकर गलत कमेंट करते हैं यह तीसरा यह मुझे आदत सबसे ज्यादा बुरी लगती है और हां एक यह नशा करके आदमी उल्टी-सीधी बातें या गाली गलौज करता है एक यह मुझे सबसे ज्यादा बुरी बातें लगती है और यह मुझे सबसे ज्यादा परेशान भी करती हूं

logon ki aisi kaun si aadat hai jo aapko sabse zyada pareshan karti hai logo ki kuch aadat hai jo sabse zyada pareshan karte hain pehla toh kisi ko apna yagya ko ke vo acche se kyon reh raha hai use dekhkar bura lagna aisa kyon de raha hai sab khush kyon hai ek tu hi aadat jalte hain ek toh yah aadat doosra jo nasha karte hain ek yah aadat teesra jo ladkiyon ki taraf galat dekhkar galat comment karte hain yah teesra yah mujhe aadat sabse zyada buri lagti hai aur haan ek yah nasha karke aadmi ulti seedhi batein ya gaali galoj karta hai ek yah mujhe sabse zyada buri batein lagti hai aur yah mujhe sabse zyada pareshan bhi karti hoon

लोगों की ऐसी कौन सी आदत है जो आपको सबसे ज्यादा परेशान करती है लोगों की कुछ आदत है जो सबसे

Romanized Version
Likes  7  Dislikes    views  294
WhatsApp_icon
qIcon
ask

This Question Also Answers:

QuestionsProfiles

Vokal App bridges the knowledge gap in India in Indian languages by getting the best minds to answer questions of the common man. The Vokal App is available in 11 Indian languages. Users ask questions on 100s of topics related to love, life, career, politics, religion, sports, personal care etc. We have 1000s of experts from different walks of life answering questions on the Vokal App. People can also ask questions directly to experts apart from posting a question to the entire answering community. If you are an expert or are great at something, we invite you to join this knowledge sharing revolution and help India grow. Download the Vokal App!