किसी यात्रा के दौरान आपका सबसे रोमांचक अनुभव क्या रहा?...


user

Rony

Psychologist

1:01
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

सवाल यह है कि किसी यात्रा के दौरान आपका सबसे रोमांचक अनुभव क्या रहा मेरे हिसाब से सबसे रोमांचक अनुभव वहां का वातावरण वहां की 80 लोगों की मुस्कुराहट मां का नेचर मां की प्रकृति वाह की ताजा हवा हवा का नया एहसास जो मैं बार-बार याद आता है अभी भी मुझे उस दिन याद आते हैं जब मैंने कहीं घूमने के लिए गया था सो प्लीज आप कहीं भी घूमने के लिए जाएं सिर्फ घूमने के लिए अपना अनुभव लेकर आए वहां से बहुत कुछ सीखने के लिए मिलता है प्रकृति के बारे में नेचर के बारे में रियलिटी के बारे में

sawaal yah hai ki kisi yatra ke dauran aapka sabse romanchak anubhav kya raha mere hisab se sabse romanchak anubhav wahan ka vatavaran wahan ki 80 logo ki muskurahat maa ka nature maa ki prakriti wah ki taaza hawa hawa ka naya ehsaas jo main baar baar yaad aata hai abhi bhi mujhe us din yaad aate hain jab maine kahin ghoomne ke liye gaya tha so please aap kahin bhi ghoomne ke liye jayen sirf ghoomne ke liye apna anubhav lekar aaye wahan se bahut kuch sikhne ke liye milta hai prakriti ke bare me nature ke bare me reality ke bare me

सवाल यह है कि किसी यात्रा के दौरान आपका सबसे रोमांचक अनुभव क्या रहा मेरे हिसाब से सबसे रोम

Romanized Version
Likes  6  Dislikes    views  213
WhatsApp_icon
25 जवाब
qIcon
ask
ऐसे और सवाल
Loading...
Loading...
user

Ansh jalandra

Motivational speaker & criminal lawyer

0:25
Play

Likes  151  Dislikes    views  2634
WhatsApp_icon
user

dr sakshi singh

skin Treatment Dietician All Body Problem Solution Normal Physician

2:23
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

मेरी लाइफ का सबसे गंदा और खराब हो रहा है क्या उस दिन के बाद आज तक में बहुत ही लाइफ में डिस्टर्ब हो संक्रांति प्रकाश को मुझे आंसर बताएं इस बातों का दिसंबर के बाद 2020 में सबसे टू सिस्टर्स बड़ी हुई थी उनका दुनिया छोड़कर तो से नफरत सी हो गई है वह इतनी स्मार्ट खूबसूरत हर कुछ महत्व देने वाली सिस्टर मेरी छोटी बहन की उन्होंने अचानक पटना चलना है चलो मैंने कहा मुझे नहीं जाना क्यों जाना होता पर उनको एक जिप्सी की चलना ही है चल नहीं सुनना है मुझे क्या पता आने वाला पल लिखकर आने वाले मैं बहुत खुश हूं यहां चलाएं मोबाइल से उस गांव में घूमने के लिए 7 तारीख को कहा कि सर में दर्द है उन्हें 3:00 बजे तक उनको हटा चप्पल और आज का दिन में कभी नहीं बोली मैं आज तक बिल्कुल निर्वस्त्र के बाद शास्त्री के बाद मुझे पूरी दुनिया घूम में ऐसा सफ़र मेरे लिए इतना बेड सफल रहा मैं बताने का 25 साल के बाद बचपन के बाद में 25 साल के बाद बिहार में कदम रखा मेरी बहन पत्नी मां की कसम मैं तुझको यह सब घटना भूलने के लिए बहुत कुछ करती हूं भगवान किसी के साथ उसको वासियों के अच्छे वाक्य मैंने संभाला था उसको बचपन से उसकी मां के जाने के बाद इतनी मुश्किल से सामना मुझे करना पड़ता है मेरी लाइफ पिक्चर चाहिए नहीं हो गई खत्म हो गई दुनिया में मैं लोगों को देखता हूं मुझे किसी से बात करने का मन नहीं करता है जो बंदे ने मोटर जिंदगी एकदम उसके लिए दुनिया में जीना जीरो के बराबर है तो मैं व्हाट्सप्प पर है तू 4:30 का पहला पहले महीने का

meri life ka sabse ganda aur kharab ho raha hai kya us din ke baad aaj tak mein bahut hi life mein disturb ho sankranti prakash ko mujhe answer bataye is baaton ka december ke baad 2020 mein sabse to sisters badi hui thi unka duniya chhodkar toh se nafrat si ho gayi hai vaah itni smart khoobsurat har kuch mahatva dene wali sister meri choti behen ki unhone achanak patna chalna hai chalo maine kaha mujhe nahi jana kyon jana hota par unko ek gipsy ki chalna hi hai chal nahi sunana hai mujhe kya pata aane vala pal likhkar aane waale main bahut khush hoon yahan chalaye mobile se us gaon mein ghoomne ke liye 7 tarikh ko kaha ki sir mein dard hai unhe 3 00 baje tak unko hata chappal aur aaj ka din mein kabhi nahi boli main aaj tak bilkul nirvastra ke baad shastri ke baad mujhe puri duniya ghum mein aisa safar mere liye itna bed safal raha main bata ka 25 saal ke baad bachpan ke baad mein 25 saal ke baad bihar mein kadam rakha meri behen patni maa ki kasam main tujhko yah sab ghatna bhulne ke liye bahut kuch karti hoon bhagwan kisi ke saath usko vasiyo ke acche vakya maine sambhala tha usko bachpan se uski maa ke jaane ke baad itni mushkil se samana mujhe karna padta hai meri life picture chahiye nahi ho gayi khatam ho gayi duniya mein main logo ko dekhta hoon mujhe kisi se baat karne ka man nahi karta hai jo bande ne motor zindagi ekdam uske liye duniya mein jeena zero ke barabar hai toh main whatsapp par hai tu 4 30 ka pehla pehle mahine ka

मेरी लाइफ का सबसे गंदा और खराब हो रहा है क्या उस दिन के बाद आज तक में बहुत ही लाइफ में डिस

Romanized Version
Likes  10  Dislikes    views  252
WhatsApp_icon
user

Tej Sahu

Author | Journalist

1:17
Play

Likes  5  Dislikes    views  93
WhatsApp_icon
user

Gayatri Shukla

Social Worker Director Of Smt Educational Society

1:11
Play

Likes  98  Dislikes    views  2435
WhatsApp_icon
user

Harender Kumar Yadav

Career Counsellor.

1:02
Play

Likes  533  Dislikes    views  7612
WhatsApp_icon
user

Virendra Pratap Singh Chundawat

Philanthropist & a Politician

0:52
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

एक बार आते वक्त फ्लाइट से मारा था मुंबई एयरपोर्ट की बात है तो मेरे पास में एक बॉलीवुड के कलाकार है वह खड़े थे उनके साथ उनकी महिला मित्र बिजी तो काफी देर तक हम लोग एक दूसरे को देखते हैं मैं उनको देखता रहा और वह सब बीच-बीच में लिख रहा है अपना लगेज लेकर मैं रिपोर्ट पर ही था जस्ट सेंड किया था मेरा पर लगी थी अब मेडिकल लगा और वहां से निकल कर जब अपने होटल पहुंचा तो वहां मैंने ऐसे ही टीवी ऑन किया मैंने देखा कि इस बंदे को मैं एयरपोर्ट से 15 से 20 मिनट दिखाओ एयरपोर्ट पर उतारा है उसे पहचान नहीं पाया था

ek baar aate waqt flight se mara tha mumbai airport ki baat hai toh mere paas me ek bollywood ke kalakar hai vaah khade the unke saath unki mahila mitra busy toh kaafi der tak hum log ek dusre ko dekhte hain main unko dekhta raha aur vaah sab beech beech me likh raha hai apna luggage lekar main report par hi tha just send kiya tha mera par lagi thi ab medical laga aur wahan se nikal kar jab apne hotel pohcha toh wahan maine aise hi TV on kiya maine dekha ki is bande ko main airport se 15 se 20 minute dikhaao airport par utara hai use pehchaan nahi paya tha

एक बार आते वक्त फ्लाइट से मारा था मुंबई एयरपोर्ट की बात है तो मेरे पास में एक बॉलीवुड के क

Romanized Version
Likes  4  Dislikes    views  141
WhatsApp_icon
user
0:07
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

पहाड़ी पर चढ़ना

pahadi par chadhna

पहाड़ी पर चढ़ना

Romanized Version
Likes  6  Dislikes    views  55
WhatsApp_icon
user

PRAMOD KUMAR

Retired IFS Officer | Advisor to TRIFED

2:44
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

आपने पूछा किस जात्रा के दौरान आपको सबसे रोमांचक अनुभव क्या रहा अभी चार-पांच महीने पहले मुझे एक चांस मिला था तुम लाख जाने के लिए आपने शायद आप नेट देख कर भी आप उसको जानकारी प्राप्त कर सकते हो तुम नाथ विश्व के सबसे उच्चतम सबसे हाईएस्ट पॉइंट पर शिवजी का मंदिर है शायद आपको पता होगा या नहीं मुझे नहीं जानता और दिस इस टू बामनिया ऋषिकेश से गए थे फिर अगस्त्यमुनि में हमने ओल्ड करके फिर अगस्त से अगस्त मुनि से करीब आपको चाचा पीठ पर जाने के बाद यह हाइट करीब 11000 फीट हाइट पर है और चढ़ाई जो है पूरा स्थित चलाइए चार चार से 5 किलोमीटर का और बड़ा स्तूप चलाइए और लगभग 11800 फीट का ऊपर मंदिर स्थित है जो कि केदारनाथ भगवान का आसपास दुर्गा तीन रूप होती है केदारनाथ तुंगनाथ रुद्रनाथ उसमें तुम नाथ मंदिर है शिवजी का एयरपोर्ट और उसको मारा जाता है कि वर्ल्ड का सबसे हाईएस्ट पॉइंट पर शिवजी का मंदिर कहां स्थित है यह का जात्रा बना रोमांचक था क्योंकि पुलिस दीप चाहिए और अभी तक पूरा हाई स्कूल हो गया होगा उस टाइम पास नहीं था और तू उसके जो परिवार से और जो ट्रैकिंग का जो अनुभव है बड़ा रोमांचक था ऊपर पहुंचने के बाद भी थोड़ा महसूस हो रहा था कि उस में ऑक्सीजन का थोड़ी सी कम महसूस हो रहा था बट फिर भी दर्शन करा कर और सुना ना और उसका जो नेचुरल सीनरी यह चारों तरफ का छोटा का तो उसमें स्विजरलैंड का जाते उत्तराखंड का सबसे बड़ा रोमांचक लड़की और एक गुलाब का बूटा में मैंने किया था उसे 8 महीने पहले टाइगर हिल का वह भी बड़ा चक्र 1520 की उपस्थिति चढ़ाई है और आपके ऊपर देखो बना उसका हिस्टोरिकल इंपॉर्टेंस शेयर होल्डर 207 एक्साइटिंग एक्सपीरियंस परमिट

aapne poocha kis jatra ke dauran aapko sabse romanchak anubhav kya raha abhi char paanch mahine pehle mujhe ek chance mila tha tum lakh jaane ke liye aapne shayad aap net dekh kar bhi aap usko jaankari prapt kar sakte ho tum nath vishwa ke sabse ucchatam sabse highest point par shivaji ka mandir hai shayad aapko pata hoga ya nahi mujhe nahi jaanta aur this is to bamniya rishikesh se gaye the phir agastyamuni mein humne old karke phir august se august muni se kareeb aapko chacha peeth par jaane ke baad yah height kareeb 11000 feet height par hai aur chadhai jo hai pura sthit chalaiye char char se 5 kilometre ka aur bada stupa chalaiye aur lagbhag 11800 feet ka upar mandir sthit hai jo ki kedarnath bhagwan ka aaspass durga teen roop hoti hai kedarnath tunganath rudranath usme tum nath mandir hai shivaji ka airport aur usko mara jata hai ki world ka sabse highest point par shivaji ka mandir kahaan sthit hai yah ka jatra bana romanchak tha kyonki police deep chahiye aur abhi tak pura high school ho gaya hoga us time paas nahi tha aur tu uske jo parivar se aur jo tracking ka jo anubhav hai bada romanchak tha upar pahuchne ke baad bhi thoda mehsus ho raha tha ki us mein oxygen ka thodi si kam mehsus ho raha tha but phir bhi darshan kara kar aur suna na aur uska jo natural scenery yah charo taraf ka chota ka toh usme Switzerland ka jaate uttarakhand ka sabse bada romanchak ladki aur ek gulab ka butta mein maine kiya tha use 8 mahine pehle tiger hil ka vaah bhi bada chakra 1520 ki upasthitee chadhai hai aur aapke upar dekho bana uska historical importance share holder 207 exciting experience permit

आपने पूछा किस जात्रा के दौरान आपको सबसे रोमांचक अनुभव क्या रहा अभी चार-पांच महीने पहले मुझ

Romanized Version
Likes  341  Dislikes    views  3561
WhatsApp_icon
play
user
2:11

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

मैंने संपूर्ण भारत के अधिकांश राज्यों की यात्रा की है और कई देशों की यात्राएं की है उसमें कई ऐसे रोमांचक पल आए लेकिन मैं आपके साथ शेयर करना चाहूंगा कि जब मैं आईलैंड सिंगापुर की यात्रा करता तो वहां पर मैंने कॉल आइसलैंड का लुफ्त उठाया जिसके साथ समुद्र के अंदर तल में हमें पैदल चलना होता है समाज के ग्रुप और उसके अंदर समुद्र के अंदर के जीव जंतुओं को देखने का एक सुखद आनंदित पल मुझे मिला वही वहां पर सफारी पार्क में जिंदा शेर के साथ में अपने आप को उसके साथ खड़ा रखकर बैठकर तस्वीर खिंचाई चिंपांजी के साथ तस्वीर की जाए और बहुत सारे ऐसे कारनामों को मैंने अंजाम दिया जो कि मेरे जीवन में एक रोमांचकारी रहे जिसमें पैराग्लाइडिंग हो छठी से उन्नाव करना हो हाई जंप ऐसे कारनामे थे जो हिंदुस्तान के अंदर मैंने चार धाम की यात्रा मेरे जीवन में सबसे रोमांचकारी रही जब बद्री केदार यमुनोत्री गंगोत्री और तुम जैसी खतरा है हम जीवन में करते हैं स्वामी मां की संस्कृति को जाना समझा है कोशिश की है और आगे भी मैं इस प्रकार की कोशिशों में उत्तराखंड में अपने आपको अनुरोध लगाए रखा हूं मेरे रोमांच अनुभव

maine sampurna bharat ke adhikaansh rajyo ki yatra ki hai aur kai deshon ki yatraen ki hai usme kai aise romanchak pal aaye lekin main aapke saath share karna chahunga ki jab main island singapore ki yatra karta toh wahan par maine call iceland ka luft uthaya jiske saath samudra ke andar tal mein hamein paidal chalna hota hai samaj ke group aur uske andar samudra ke andar ke jeev jantuon ko dekhne ka ek sukhad anandit pal mujhe mila wahi wahan par safaari park mein zinda sher ke saath mein apne aap ko uske saath khada rakhakar baithkar tasveer khinchai chimpanzee ke saath tasveer ki jaaye aur bahut saare aise karnamon ko maine anjaam diya jo ki mere jeevan mein ek romaanchakaaree rahe jisme pairaglaiding ho chathi se unnaav karna ho high jump aise kaarname the jo Hindustan ke andar maine char dhaam ki yatra mere jeevan mein sabse romaanchakaaree rahi jab badri kedar yamunotri gangotri aur tum jaisi khatra hai hum jeevan mein karte hain swami maa ki sanskriti ko jana samjha hai koshish ki hai aur aage bhi main is prakar ki koshishon mein uttarakhand mein apne aapko anurodh lagaye rakha hoon mere romanch anubhav

मैंने संपूर्ण भारत के अधिकांश राज्यों की यात्रा की है और कई देशों की यात्राएं की है उसमें

Romanized Version
Likes  50  Dislikes    views  2043
WhatsApp_icon
user

Mohammad Bilal

Accountant

0:55
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

हिसाब का सवाल है किसी यात्रा के दौरान आपके सबसे रोमांचक अनुभव क्या रहता है रोमांचक अनुभव लोगों से अपना बता रहे हैं लोगों से बात करके उनके भाव को समझना उनकी भाषा शैली को समझना उनके विचारों को समझना यह सबसे अच्छा और रोचक अनुभव हमें लगता है और उसे हम जरूर कुछ ना कुछ सीखने की कोशिश करते हैं जून में अच्छे गुण नहीं है वह और नजर आते हैं या महसूस करते हैं उसे बिलकुल छोड़ देते हैं या छुड़ाने की कोशिश करते हैं और जो अच्छे गुण होते हैं भले ही 1 हो तो उसे लेने की जरूरत कोशिश करते हैं या वैसा कुछ न कुछ उसमें अच्छा समझने की अच्छा करने की कोशिश जरूर करना चाहिए और करते हैं थैंक यू

hisab ka sawaal hai kisi yatra ke dauran aapke sabse romanchak anubhav kya rehta hai romanchak anubhav logo se apna bata rahe hain logo se baat karke unke bhav ko samajhna unki bhasha shaili ko samajhna unke vicharon ko samajhna yah sabse accha aur rochak anubhav hamein lagta hai aur use hum zaroor kuch na kuch sikhne ki koshish karte hain june mein acche gun nahi hai vaah aur nazar aate hain ya mehsus karte hain use bilkul chod dete hain ya chudane ki koshish karte hain aur jo acche gun hote hain bhale hi 1 ho toh use lene ki zarurat koshish karte hain ya waisa kuch na kuch usme accha samjhne ki accha karne ki koshish zaroor karna chahiye aur karte hain thank you

हिसाब का सवाल है किसी यात्रा के दौरान आपके सबसे रोमांचक अनुभव क्या रहता है रोमांचक अनुभव ल

Romanized Version
Likes  7  Dislikes    views  184
WhatsApp_icon
user

Prakash Kumar

Business Owner

0:39
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

इस यात्रा के दौरान आपका सबसे रोमांचक अनुभव क्या रहा मैंने कई तरीके से यात्रा की घूमने गया यस किसी भी तरीके से सब किया लेकिन जब मैं अपनी फैमिली वालों के साथ कहीं घूमने गया तो मुझे बहुत अच्छा लगा था इतना अच्छा तो शायद मुझे अपने फ्रेंड के साथ वगैरह जाने में भी अच्छा नहीं लगा था जितना मुझे अपनी फैमिली के साथ में जाने के अच्छा लगा तो मेरी तो यही अनुभव रहा है कि मेरी फैमिली वालों के साथ में मैं जितना अच्छा घुमा इतना अच्छा लगा मुझे सबसे अच्छा लगा

is yatra ke dauran aapka sabse romanchak anubhav kya raha maine kai tarike se yatra ki ghoomne gaya Yes kisi bhi tarike se sab kiya lekin jab main apni family walon ke saath kahin ghoomne gaya toh mujhe bahut accha laga tha itna accha toh shayad mujhe apne friend ke saath vagera jaane mein bhi accha nahi laga tha jitna mujhe apni family ke saath mein jaane ke accha laga toh meri toh yahi anubhav raha hai ki meri family walon ke saath mein main jitna accha ghuma itna accha laga mujhe sabse accha laga

इस यात्रा के दौरान आपका सबसे रोमांचक अनुभव क्या रहा मैंने कई तरीके से यात्रा की घूमने गया

Romanized Version
Likes  7  Dislikes    views  212
WhatsApp_icon
user

Kishan Kumar

Motivational speaker

1:22
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

हेलो फ्रेंड आप का क्वेश्चन है किसी यात्रा के दौरान आपका सबसे रोमांचक अनुभव क्या रहा है दोस्तों अभी में डेढ़ महीने पहले हिमाचल गया था वहां पर कई सारे स्टूडेंट आए थे उसमें से मैं भी था कई सारे स्टेट के थे तो हम लोग को सबसे अच्छा यह रहा कि हिमाचल में हम लोगों के घर जा जाकर रिसर्च कर रहे थे कि स्वरोजगार के बारे में और जिसकी गरम लोग एक पहुंच जाते थे वह लोग डिस्ट्रिक्ट बहुत अच्छे से करते थे हर एक चीज मिलाकर चाहिए तो बैठाना ऑफ अरिजीत पानी पिलाना और सब चीज पूछते थे और उनकी बात करने की शैली बहुत अच्छा लगा और बहुत लोग लोगों को मानते थे हम चाहते हैं कि जितना उनको हम लोग के जाने से प्यार करते हैं वह लोग एक बहुत मानते हैं ठीक उसी तरह प्यार मोहब्बत डिस्ट्रिक्ट दिल्ली जैसे शहरों में और अलग जैसे शहरों में होना चाहिए गांव में या मेरे अनुभव किया कि वहां पर रिस्पेक्ट बहुत अच्छी है और लोगों के प्रति सोच बहुत अच्छी है थैंक्यू या मेरा अनुरोध

hello friend aap ka question hai kisi yatra ke dauran aapka sabse romanchak anubhav kya raha hai doston abhi mein dedh mahine pehle himachal gaya tha wahan par kai saare student aaye the usme se main bhi tha kai saare state ke the toh hum log ko sabse accha yah raha ki himachal mein hum logo ke ghar ja jaakar research kar rahe the ki swarojgar ke bare mein aur jiski garam log ek pohch jaate the vaah log district bahut acche se karte the har ek cheez milakar chahiye toh baithana of arijit paani pilaana aur sab cheez poochhte the aur unki baat karne ki shaili bahut accha laga aur bahut log logo ko maante the hum chahte hain ki jitna unko hum log ke jaane se pyar karte hain vaah log ek bahut maante hain theek usi tarah pyar mohabbat district delhi jaise shaharon mein aur alag jaise shaharon mein hona chahiye gaon mein ya mere anubhav kiya ki wahan par respect bahut achi hai aur logo ke prati soch bahut achi hai thainkyu ya mera anurodh

हेलो फ्रेंड आप का क्वेश्चन है किसी यात्रा के दौरान आपका सबसे रोमांचक अनुभव क्या रहा है दोस

Romanized Version
Likes  8  Dislikes    views  265
WhatsApp_icon
user

Shubham Saini

Software Engineer

0:08
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

वहां की संस्कृति और वहां की प्रकृति सबसे अच्छा रोमांचक अनुभव रहा

wahan ki sanskriti aur wahan ki prakriti sabse accha romanchak anubhav raha

वहां की संस्कृति और वहां की प्रकृति सबसे अच्छा रोमांचक अनुभव रहा

Romanized Version
Likes  26  Dislikes    views  443
WhatsApp_icon
user
7:31
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

जी आपका जो सवाल है कि किसी यात्रा के दौरान आपका सबसे रोमांचक अनुभव कह रहा है मुझे अपने पुराने दिनों में सोचने पर मजबूर कर दिया तो बात सन 2016 की मैं सोच रहा था मैं हिमाचल प्रदेश में जिला है लाहौल स्पीति क्या हुआ था 2016 में क्या हुआ था और मैं कॉलेज में था फाइनल ईयर की बात की है मेरे पास ज्यादा पैसे नहीं थे आज ₹10000 मैंने कहीं से बचाई थे तो मैं रतलाम की ताजा खबर तो हुआ क्या कि हमने पूरा टिकट लिया था मनाली तक का जगह पड़ती है और ने बताया कि यहां पर बहुत ही ब्यूटीफुल इंस्ट्रक्टर करके समझा सकते हैं उन्होंने बोला कि यह जरूरी है हम लोग को बहुत ही टाइपिंग पुस्तक लगा कि यार यह भी कर सकते हैं कि मैं और मेरे मित्र मैंने बनाए थे और मिलाकर कुल्ला उतर गए और एकजुट है क्या वहां पर कुमकुम ला से चंद्रताल वह उसके लिए निकल पड़े जो औषध 4440 100 मीटर एंड 4000 मीटर यानी 4 किलोमीटर हमें लगा कि सही में से 7 किलोमीटर ट्रक है और हम लोगों ने उसकी प्लानिंग की थी ट्रक के लिए जैसे कि आपको तक पर जाने से पहले कुछ खाने पीने का सामान शुरू किया दो ढाई घंटे चलने के बाद एटीट्यूड बढ़ता गया और हम दो लोग और ट्रैक पर कोई नहीं पूरा सुल्तान ट्रैक का दोपहर का टाइम लगभग 2:30 बज चुके थे उस टाइम पर और तब मुझे वहां पर एक पॉइंट ऐसा आया जब मुझे और मेरे पास मैं पानी था ना कोई मेडिसिन और ना ही खराब हो गई कि मेरा सर जो है ना लगा और बहुत दूर तक और हमें हमारे पास पानी खत्म हो चुका था और हमारे पास खाने का पूरा कर पाना बहुत मुश्किल है और हम लोग बहुत बड़ा है और उसमें वापस भी आ सकता था फिर मेरे दोस्त ने धरना बना दे रहा था उस पास नहीं वहां से पानी वाली लेकर आया बोतल में तो थोड़ा गंदा पानी था लेकिन क्या मजबूरी है वह पीना पड़ा हमारे पास कंपास डाउनलोड कंपास चुप रेल बनी हुई थी इसलिए ज्यादा दिक्कत क्यों भटकने का खतरा कम था शुरू कर दिया फिर चलते चलते शाम के 5:00 बज गए अभी भी नहीं पहुंचे हम लोग हमें लगा कि क्या हम कहीं गलत रास्ते पर तुम्हारे पास खाना नहीं पानी नहीं कुछ नहीं मोनू नेटवर्क भी नहीं था मोबाइल में बोलती है वहां पर दो ही लोग के आसपास किसी आदमी का अता पता नहीं प्रणाम मोतिहारी हमें लगा कि आज ही अपना खरीदने नहीं हो पाएगा और हमें यहां पर बचा भी नहीं सकता कोई हमारे पास कुछ कोई ऑप्शन नहीं था लेकिन हम लोग शाम के 7:30 बजे तक हमें फिर पार की कसम लगती है तो हमें लगा कि यही चंद्रताल में थोड़ा सा भी गिरी के पास तो आ गए हैं हम लोग पर चले आधा घंटा और उसके बाद फैमिली चंद्रताल पहुंचे पहुंचने के बाद हमारी हालत यह थी कि मुंह से एक शब्द निकल रहा था जला इतना सूख चुका था इतना थक चुका था बस उस समय लगाता की बस कोई घर पहुंचा दे वहां से उठाकर लेकिन तमाम की स्थिति से गुजर कर आए हैं तो उन्हें गलत किया क्योंकि उनको पता था इस बारे में टॉपर ऑफ रुक जाना चाहिए और बच्चों पर चला नहीं जाना चाहिए लेकिन थोड़ा उसके बाद फैमिली जाकर हम लोग को थोड़ा सा थोड़ा सा यह बहुत ही रोमांचक देखता हूं तो मुझे बिल्कुल नया कॉलेज के बाद उम्मीद है कि आपको पसंद आया और अगर आप लेकिन के शौकीन है तो बिल्कुल आपको यह ट्रक सपना चाहिए लेकिन प्रॉपर प्लानिंग बहुत ही अच्छा ट्रक है बहुत ही खूबसूरत है और बहुत जल्दी है तो मजा आ जाएगा धन्यवाद

ji aapka jo sawaal hai ki kisi yatra ke dauran aapka sabse romanchak anubhav keh raha hai mujhe apne purane dino mein sochne par majboor kar diya toh baat san 2016 ki main soch raha tha main himachal pradesh mein jila hai lahaul spiti kya hua tha 2016 mein kya hua tha aur main college mein tha final year ki baat ki hai mere paas zyada paise nahi the aaj Rs maine kahin se bachai the toh main ratlam ki taaza khabar toh hua kya ki humne pura ticket liya tha manali tak ka jagah padti hai aur ne bataya ki yahan par bahut hi beautiful instructor karke samjha sakte hain unhone bola ki yah zaroori hai hum log ko bahut hi typing pustak laga ki yaar yah bhi kar sakte hain ki main aur mere mitra maine banaye the aur milakar kulla utar gaye aur ekjut hai kya wahan par kumkum la se chandratal vaah uske liye nikal pade jo awasadhi 4440 100 meter and 4000 meter yani 4 kilometre hamein laga ki sahi mein se 7 kilometre truck hai aur hum logo ne uski planning ki thi truck ke liye jaise ki aapko tak par jaane se pehle kuch khane peene ka saamaan shuru kiya do dhai ghante chalne ke baad attitude badhta gaya aur hum do log aur track par koi nahi pura sultan track ka dopahar ka time lagbhag 2 30 baj chuke the us time par aur tab mujhe wahan par ek point aisa aaya jab mujhe aur mere paas main paani tha na koi medicine aur na hi kharab ho gayi ki mera sir jo hai na laga aur bahut dur tak aur hamein hamare paas paani khatam ho chuka tha aur hamare paas khane ka pura kar paana bahut mushkil hai aur hum log bahut bada hai aur usme wapas bhi aa sakta tha phir mere dost ne dharna bana de raha tha us paas nahi wahan se paani wali lekar aaya bottle mein toh thoda ganda paani tha lekin kya majburi hai vaah peena pada hamare paas compass download compass chup rail bani hui thi isliye zyada dikkat kyon bhatakne ka khatra kam tha shuru kar diya phir chalte chalte shaam ke 5 00 baj gaye abhi bhi nahi pahuche hum log hamein laga ki kya hum kahin galat raste par tumhare paas khana nahi paani nahi kuch nahi monu network bhi nahi tha mobile mein bolti hai wahan par do hi log ke aaspass kisi aadmi ka ata pata nahi pranam motihari hamein laga ki aaj hi apna kharidne nahi ho payega aur hamein yahan par bacha bhi nahi sakta koi hamare paas kuch koi option nahi tha lekin hum log shaam ke 7 30 baje tak hamein phir par ki kasam lagti hai toh hamein laga ki yahi chandratal mein thoda sa bhi giri ke paas toh aa gaye hain hum log par chale aadha ghanta aur uske baad family chandratal pahuche pahuchne ke baad hamari halat yah thi ki mooh se ek shabd nikal raha tha jala itna sukh chuka tha itna thak chuka tha bus us samay lagaata ki bus koi ghar pohcha de wahan se uthaakar lekin tamaam ki sthiti se gujar kar aaye hain toh unhe galat kiya kyonki unko pata tha is bare mein topper of ruk jana chahiye aur baccho par chala nahi jana chahiye lekin thoda uske baad family jaakar hum log ko thoda sa thoda sa yah bahut hi romanchak dekhta hoon toh mujhe bilkul naya college ke baad ummid hai ki aapko pasand aaya aur agar aap lekin ke shaukin hai toh bilkul aapko yah truck sapna chahiye lekin proper planning bahut hi accha truck hai bahut hi khoobsurat hai aur bahut jaldi hai toh maza aa jaega dhanyavad

जी आपका जो सवाल है कि किसी यात्रा के दौरान आपका सबसे रोमांचक अनुभव कह रहा है मुझे अपने पुर

Romanized Version
Likes  8  Dislikes    views  233
WhatsApp_icon
user
3:28
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

मेरी सबसे और रोचक यात्रा जो थी वह मिल्क पाउच पैकिंग की जो आज से लगभग मैंने 1 साल पहले की थी और उसका नाम था हर कि आज हम लोग गए थे देहरादून के आगे उस जगह में उस जगह का नाम अर्चित होने से यहां से दिल्ली दिल्ली से देहरादून देहरादून से अलीगढ़ के नाम ताशा का थोड़ा-बहुत चार-पांच किलोमीटर फर्स्ट डे ब्लॉक 14 किलोमीटर है और मुकुल भाई इतनी सी बात है बहुत ट्रैकिंग वाली थी ना वह लड़की मैं मुझे विश्वास नहीं है इसके लिए थोड़ा लेकर चलो ठीक है तो फिर लास्ट में हम जान को पहुंचना था 10 स्तरीय थी तीन-चार दिन की पैकिंग थी उस दिन हमको पहुंचना था शाम तक दौड़ेगी हमारी लग रहा था कि मुझे सोने दो और उसमें एक सबसे अच्छी चीज क्या दंगल हो यार नदी हो और मैं आपको सोने मिलेगा तो वह मिली सबसे प्रेस की जोड़ी मैंने अभी तक जो भी घूमने गई आजा अभी मैं व्यस्त था और दूसरा वापस सुबह 7:00 बजे चलना है अरे वहां पर मस्त थोड़ा सा जंगल था बहुत सालों में हम लोग ऐसे से चलकर जाते थे नदी हमारे साथ साथ बहती थी और मस्त पर सोने मिलता था और दोस्त से हमारे साथ दोस्त हो तो ऐसा रहता है रात में हम लोग दूसरे जो हंसते बारे में पढ़ना चाहिए तो मैंने उसके बारे में एक ब्लॉग भी लिख रखा है तो मैं उस ब्लाक को कि जो लिंक है और नीचे कमेंट बॉक्स में है वो कर दूंगी आपके साथ शेयर कर दूंगी आप उसको पूरा डिटेल में पढ़ सकते और अगर आप जाना चाहते तो उसमें डिटेल भी दे दे दी गई है अब बिल्कुल जा सकते हैं तो ऐसा था मेरा हर की दून ट्रैक और सुनने के लिए फिर से तह दिल से आपका शुक्रिया

meri sabse aur rochak yatra jo thi vaah milk pouch packing ki jo aaj se lagbhag maine 1 saal pehle ki thi aur uska naam tha har ki aaj hum log gaye the dehradun ke aage us jagah mein us jagah ka naam archit hone se yahan se delhi delhi se dehradun dehradun se aligarh ke naam tasha ka thoda bahut char paanch kilometre first day block 14 kilometre hai aur mukul bhai itni si baat hai bahut tracking wali thi na vaah ladki main mujhe vishwas nahi hai iske liye thoda lekar chalo theek hai toh phir last mein hum jaan ko pahunchana tha 10 stariy thi teen char din ki packing thi us din hamko pahunchana tha shaam tak daudegi hamari lag raha tha ki mujhe sone do aur usme ek sabse achi cheez kya dangal ho yaar nadi ho aur main aapko sone milega toh vaah mili sabse press ki jodi maine abhi tak jo bhi ghoomne gayi aajad abhi main vyast tha aur doosra wapas subah 7 00 baje chalna hai are wahan par mast thoda sa jungle tha bahut salon mein hum log aise se chalkar jaate the nadi hamare saath saath behti thi aur mast par sone milta tha aur dost se hamare saath dost ho toh aisa rehta hai raat mein hum log dusre jo hansate bare mein padhna chahiye toh maine uske bare mein ek blog bhi likh rakha hai toh main us block ko ki jo link hai aur niche comment box mein hai vo kar dungi aapke saath share kar dungi aap usko pura detail mein padh sakte aur agar aap jana chahte toh usme detail bhi de de di gayi hai ab bilkul ja sakte hain toh aisa tha mera har ki doon track aur sunne ke liye phir se tah dil se aapka shukriya

मेरी सबसे और रोचक यात्रा जो थी वह मिल्क पाउच पैकिंग की जो आज से लगभग मैंने 1 साल पहले की थ

Romanized Version
Likes  4  Dislikes    views  139
WhatsApp_icon
user
0:31
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

मैं एक बार अमेरिका गया था और वहां पर मैंने बहुत सारी चीजें देखी जो इंडिया में नहीं थी अमेरिका में अब कचरा इसे खुलेआम नहीं खेल सकते हैं और यहां पर देख सकते हैं वहां पर सब सोच रखते हैं शौक नहीं रखते हैं तो मैंने यह अनुभव यही रहा कि अमेरिका बहुत ही अति कर गया और इंडिया भी बहुत पीछे है जो कि हमें उससे अब उसे अच्छा करना है अमेरिका से

main ek baar america gaya tha aur wahan par maine bahut saree cheezen dekhi jo india mein nahi thi america mein ab kachra ise khuleaam nahi khel sakte hain aur yahan par dekh sakte hain wahan par sab soch rakhte hain shauk nahi rakhte hain toh maine yah anubhav yahi raha ki america bahut hi ati kar gaya aur india bhi bahut peeche hai jo ki hamein usse ab use accha karna hai america se

मैं एक बार अमेरिका गया था और वहां पर मैंने बहुत सारी चीजें देखी जो इंडिया में नहीं थी अमेर

Romanized Version
Likes  3  Dislikes    views  69
WhatsApp_icon
user

Debidutta Swain

IAS Aspirant | Life Motivational Speaker,Daily Story Teller

2:00
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

यात्रा के दौरान मेरा रोमांचक अनुभव की तरह आप सभी के साथ शेयर करना चाहूंगा मैं उड़ीसा से बिलॉन्ग करता हूं और एक बार में एक पहाड़ी इलाके के तहत कोई दूसरे जगह को जाता था जा रहा था वहां पर रास्ते में मेरे को कुछ ट्राइबल लोग अपने कुछ सामान बेचते हुए पाए गए वह अपने कुछ सामान बेच रहे थे जो पहाड़ी बहुत गहरी जगह में थी ओके 1 घंटे के अंदर ही थी यू पहाड़ी वहां पर अंदर में ट्रेवल लोग रहते थे उनका शहर के साथ दूर दूर से इतना रिजर्वेशन नहीं रहता था किंतु वह शहरी जीवनशैली और शहरी संबंधियों के साथ इतना जाम के चलते ही नहीं तो वहां पर में जब मेरा प्लास्टिक वाटर बोतल पीने के लिए निकला तो वह लोग मेरे पास आ गया रो मेरे को बोले क्यों वॉटर बॉटल मेरे को दे दो हमको दे दो उसके बदलाव को जो सामान चाहिए आप ले लो तो फिर मैं उनको पूछा आप पानी कैसे देते हो फिर अगर वह मेरे को एकदम दिखा एक चीज दिखाएं जो कि 1 फुट के तहत बनाया जाता है उसका अंदर के सामान निकलते और उसमें पानी देते हो मेरे कुछ दिन की बहुत रोमांचक लगा कि आज की दुनिया में हम प्लास्टिक के लिए कितना स्ट्रगल कर रहे हैं कि प्लास्टिक को दूर करने के लिए हम कितना खुश कर रहे हैं राष्ट्रवादी बन के साथ इतना जुड़ चुका है बट हमारी इसी धरती में कुछ ऐसे भी लोग हैं जिनको प्लास्टिक को देखकर अपने सारा सामान बेचने को तैयार थे प्लास्टिक की बोतल के लिए ताकि उसमें अपनी वफा नहीं ले सके यह मेरी सबसे रोमांचक वक्त था

yatra ke dauran mera romanchak anubhav ki tarah aap sabhi ke saath share karna chahunga main odisha se Belong karta hoon aur ek baar mein ek pahadi ilaake ke tahat koi dusre jagah ko jata tha ja raha tha wahan par raste mein mere ko kuch trival log apne kuch saamaan bechte hue paye gaye vaah apne kuch saamaan bech rahe the jo pahadi bahut gehri jagah mein thi ok 1 ghante ke andar hi thi you pahadi wahan par andar mein travel log rehte the unka shehar ke saath dur dur se itna reservation nahi rehta tha kintu vaah shahri jeevan shaili aur shahri sambandhiyon ke saath itna jam ke chalte hi nahi toh wahan par mein jab mera plastic water bottle peene ke liye nikala toh vaah log mere paas aa gaya ro mere ko bole kyon water bottle mere ko de do hamko de do uske badlav ko jo saamaan chahiye aap le lo toh phir main unko poocha aap paani kaise dete ho phir agar vaah mere ko ekdam dikha ek cheez dikhaen jo ki 1 feet ke tahat banaya jata hai uska andar ke saamaan nikalte aur usme paani dete ho mere kuch din ki bahut romanchak laga ki aaj ki duniya mein hum plastic ke liye kitna struggle kar rahe hain ki plastic ko dur karne ke liye hum kitna khush kar rahe hain rashtrawadi ban ke saath itna jud chuka hai but hamari isi dharti mein kuch aise bhi log hain jinako plastic ko dekhkar apne saara saamaan bechne ko taiyar the plastic ki bottle ke liye taki usme apni wafa nahi le sake yah meri sabse romanchak waqt tha

यात्रा के दौरान मेरा रोमांचक अनुभव की तरह आप सभी के साथ शेयर करना चाहूंगा मैं उड़ीसा से बि

Romanized Version
Likes  4  Dislikes    views  40
WhatsApp_icon
user

RC DAN

Teacher

1:09
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

मेरी यात्रा का सबसे रोचक रोमांचक अनुभव है कि मुझे यात्रा के दौरान बहुत से लोगों से मिलने का अवसर मिला समय-समय पर यात्रा के दौरान मुझे उनसे इंटरेक्शन करने का मौका मिला मैं नहीं उनके इंजेक्शन से यह पाया कि लोगों में कितनी प्रतिभा है कितनी ब्रॉड सोच है वह जीवन में आगे बढ़ने के लिए क्या क्या प्रयास करना चाहते हैं और वास्तव में मुझे इतनी अच्छी-अच्छी जानकारियां मिली मेरा यह मानना है कि अनुभव किसी भी क्षेत्र का जो अनुभव है या तो एक जीवन जी के पाया जा सकता है या किसी के द्वारा लिखी हुई पुस्तक से प्राप्त किया जा सकता है और अगर मैं अपने वाककला है तो किसी से चर्चा करके उनके अनुभवों से लाभान्वित हुआ जा सकता है तो मेरी सबसे बड़ा अनुभव और रोमांचक अनुभव यह रहा कि लोगों से चर्चा करके मैंने बहुत से विषयों के बारे में गंभीर विस्तृत उपयोगी जानकारियां प्राप्त की

meri yatra ka sabse rochak romanchak anubhav hai ki mujhe yatra ke dauran bahut se logo se milne ka avsar mila samay samay par yatra ke dauran mujhe unse interaction karne ka mauka mila main nahi unke injection se yah paya ki logo mein kitni pratibha hai kitni broad soch hai vaah jeevan mein aage badhne ke liye kya kya prayas karna chahte hain aur vaastav mein mujhe itni achi achi jankariyan mili mera yah manana hai ki anubhav kisi bhi kshetra ka jo anubhav hai ya toh ek jeevan ji ke paya ja sakta hai ya kisi ke dwara likhi hui pustak se prapt kiya ja sakta hai aur agar main apne vakkala hai toh kisi se charcha karke unke anubhavon se labhanvit hua ja sakta hai toh meri sabse bada anubhav aur romanchak anubhav yah raha ki logo se charcha karke maine bahut se vishyon ke bare mein gambhir vistrit upyogi jankariyan prapt ki

मेरी यात्रा का सबसे रोचक रोमांचक अनुभव है कि मुझे यात्रा के दौरान बहुत से लोगों से मिलने क

Romanized Version
Likes  6  Dislikes    views  164
WhatsApp_icon
user
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

यात्रा के दौरान सबसे रोमांचक क्षण यादें ही रहती हैं

yatra ke dauran sabse romanchak kshan yaadain hi rehti hain

यात्रा के दौरान सबसे रोमांचक क्षण यादें ही रहती हैं

Romanized Version
Likes  3  Dislikes    views  76
WhatsApp_icon
user

Purushottam Choudhary

ब्राह्मण Next IAS institute गार्ड

0:41
Play

Likes  104  Dislikes    views  2079
WhatsApp_icon
user
0:38
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

किसी भी यात्रा के दौरान हम जीवन की वास्तविक झांकी का अनुभव करते हैं कि जीवन में वास्तविकता क्या है हर तरह के लोग मिलते हैं में फतवा की बातें होती हैं हर कदम से कल्चरल से रिलेटिव मिलते हैं जिनके रिलीज अलग होते हैं और जो सबसे पीछे होता है यह में जो वास्तविकता होती जीवन की उसको देखने का एक सबसे अच्छा हो सकता

kisi bhi yatra ke dauran hum jeevan ki vastavik jhanki ka anubhav karte hain ki jeevan me vastavikta kya hai har tarah ke log milte hain me fatwa ki batein hoti hain har kadam se cultural se relative milte hain jinke release alag hote hain aur jo sabse peeche hota hai yah me jo vastavikta hoti jeevan ki usko dekhne ka ek sabse accha ho sakta

किसी भी यात्रा के दौरान हम जीवन की वास्तविक झांकी का अनुभव करते हैं कि जीवन में वास्तविकता

Romanized Version
Likes  4  Dislikes    views  62
WhatsApp_icon
user
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

हाय फ्रेंड गुड मॉर्निंग आपके द्वारा बहुत बढ़िया क्वेश्चन किया गया और अब मैं आपको यह बताना चाहता हूं कि ऐसे में हर एक व्यक्ति के लिए है रोमांचक बात अलग अलग हो सकती है लेकिन सबके लिए एक बात कॉमन होती है जो शायद आप भी जानते होंगे या आप इस पर गौर नहीं किया होंगे सबसे अच्छी बात यह होती है कि आप यात्रा के दौरान किसी भी व्यक्ति से किसी भी प्रकार का भेदभाव नहीं कर रहे होते हैं चाहे वह धर्म के आधार पर हो या काट के आधार पर हो या जाति के आधार पर या गोरी काली का या अन्य किसी भी प्रकार से आप भेदभाव नहीं करते थे और यही सबसे रोमांचक बात होती है और यह सब लोग को जानना चाहिए थैंक यू

hi friend good morning aapke dwara bahut badhiya question kiya gaya aur ab main aapko yah batana chahta hoon ki aise me har ek vyakti ke liye hai romanchak baat alag alag ho sakti hai lekin sabke liye ek baat common hoti hai jo shayad aap bhi jante honge ya aap is par gaur nahi kiya honge sabse achi baat yah hoti hai ki aap yatra ke dauran kisi bhi vyakti se kisi bhi prakar ka bhedbhav nahi kar rahe hote hain chahen vaah dharm ke aadhar par ho ya kaat ke aadhar par ho ya jati ke aadhar par ya gori kali ka ya anya kisi bhi prakar se aap bhedbhav nahi karte the aur yahi sabse romanchak baat hoti hai aur yah sab log ko janana chahiye thank you

हाय फ्रेंड गुड मॉर्निंग आपके द्वारा बहुत बढ़िया क्वेश्चन किया गया और अब मैं आपको यह बताना

Romanized Version
Likes  18  Dislikes    views  146
WhatsApp_icon
user

Pallavi

Student

1:17
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

जब कहीं जाते हैं यात्रा यात्रा करने के लिए तो कंपनी का बहुत इफेक्ट पड़ता है अगर कंपनी अच्छी होती है तो घूमने में मजा भी आता है मैं अपने कल जन्मों के साथ घूमने जाती हूं और मुझे अपने कदम के साथ खुले में बहुत ही अच्छा लगता है फिर वह छोटी से छोटी जगह हो या बड़ी से बड़ी वैसे तो मैंने बहुत सी जगह की यात्रा की है जिसमें मुझे मेरी बहुत ही मरीज की है मैंने कश्मीर में लद्दाख कश्मीर में मैं कश्मीर गई थी तो वहां पर मैं दूध पथरी गई थी दूध पथरी में इतना सारा कीचड़ था पानी इतना ठंडा था इतना ठंडा इतना ठंडा उसमें चाहती दम लाल हो गए हम लोग सारे लोग कितना मजा किया उस पानी में इतना मजा किया उधर की मिट्टी थी जो प्लेन वाली थी तुम हम लोग इतने गिरे उसमें पूरे गंदे हो गए थे फिर उसी ठंडे पानी से नहाया बहुत ज्यादा मजा आए बहुत ज्यादा बहुत अच्छा लगा सब सब के सारे लोग और भैया की कुछ फ्रेंड्स भी थे हम कल दिन हुए थे शब्द

jab kahin jaate hain yatra yatra karne ke liye toh company ka bahut effect padta hai agar company achi hoti hai toh ghoomne me maza bhi aata hai main apne kal janmon ke saath ghoomne jaati hoon aur mujhe apne kadam ke saath khule me bahut hi accha lagta hai phir vaah choti se choti jagah ho ya badi se badi waise toh maine bahut si jagah ki yatra ki hai jisme mujhe meri bahut hi marij ki hai maine kashmir me ladakh kashmir me main kashmir gayi thi toh wahan par main doodh pathari gayi thi doodh pathari me itna saara kichad tha paani itna thanda tha itna thanda itna thanda usme chahti dum laal ho gaye hum log saare log kitna maza kiya us paani me itna maza kiya udhar ki mitti thi jo plane wali thi tum hum log itne gire usme poore gande ho gaye the phir usi thande paani se nahaya bahut zyada maza aaye bahut zyada bahut accha laga sab sab ke saare log aur bhaiya ki kuch friends bhi the hum kal din hue the shabd

जब कहीं जाते हैं यात्रा यात्रा करने के लिए तो कंपनी का बहुत इफेक्ट पड़ता है अगर कंपनी अच्छ

Romanized Version
Likes  4  Dislikes    views  71
WhatsApp_icon
user

Sahil Raza

Teacher

1:50
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

मेरा सारनाथ यात्रा के प्रति बहुत रोमांच रहा क्योंकि मैं जब पहली बार अपने मौसा जी के ज्ञान कहां गया बनारस हमारा बनारस से घर 110 किलोमीटर दूर सोनभद्र जिले में है जो 4 राज्य को अटैच करती है हम इस छोटे से शहर में रहते हैं हम उस समय क्लास 11 में पढ़ते थे हमारे रिजल्ट के नाम में हमारा नाम साहिल कुमार हो गया था पर मेरा वास्तविक नाम था साहिल खान तो मैं उसी को सुधर वाने के खैरियत से बनारस बोर्ड ऑफिस जाने के लिए गया मेरे मौसा जी एक सरकारी टीचर थे और उनके आजमगढ़ में तो वहीं रहते थे मेरी मौसी भी रहती थी तब मैं गया वहां तो उन्होंने मुझे सारनाथ घुमाया जब मैंने सारनाथ देखा इतनी लंबी स्तूप भगवान बुद्ध की बड़ी-बड़ी स्तूप है तो मुझे बहुत आश्चर्य हुआ कि दुनिया में इतनी अच्छी-अच्छी चीजें हैं हमें पता नहीं था बहुत अच्छा लगा जब मैं वहां गए स्तूप देखा भगवान बुद्ध की मूर्ति प्रतिमा देखी पत्थर की अशोक स्तंभ दिखा मुझे बहुत आनंद में लगा हुआ है और बनारस की बड़ी बड़ी बिल्डिंग थी मैंने सोचा भी नहीं था जीवन भी की बिल्डिंग कितनी बड़ी भी होती है क्योंकि हमारे साथ में तो कच्चे घर को देखते हैं शायद एक आपके घर दिखे वहीं कुछ पक्के होते हैं पर इतने बड़े नहीं जब नंबर बनारस में देखें और सारनाथ मुझे इतना आनंद में लगा पूछे नहीं मन को मोह अनियथा वहां कई केवल एक जाति का नहीं बल्कि नेपाली चीनी इंग्लैंड के ऑस्ट्रेलिया के सब दिखते थे में बहुत आनंद में हुआ कि अरे यह कौन कौन से हमने तो नहीं बस फिल्मों में देखा वास्ता भी नहीं और वह हमारे जीवन का एक अजीम चढ़ता चढ़ता

mera sarnath yatra ke prati bahut romanch raha kyonki main jab pehli baar apne mausa ji ke gyaan kaha gaya banaras hamara banaras se ghar 110 kilometre dur sonabhadra jile me hai jo 4 rajya ko attach karti hai hum is chote se shehar me rehte hain hum us samay class 11 me padhte the hamare result ke naam me hamara naam sahil kumar ho gaya tha par mera vastavik naam tha sahil khan toh main usi ko sudhar vane ke khairiyat se banaras board office jaane ke liye gaya mere mausa ji ek sarkari teacher the aur unke azamgarh me toh wahi rehte the meri mausi bhi rehti thi tab main gaya wahan toh unhone mujhe sarnath ghumaya jab maine sarnath dekha itni lambi stupa bhagwan buddha ki badi badi stupa hai toh mujhe bahut aashcharya hua ki duniya me itni achi achi cheezen hain hamein pata nahi tha bahut accha laga jab main wahan gaye stupa dekha bhagwan buddha ki murti pratima dekhi patthar ki ashok stambh dikha mujhe bahut anand me laga hua hai aur banaras ki badi badi building thi maine socha bhi nahi tha jeevan bhi ki building kitni badi bhi hoti hai kyonki hamare saath me toh kacche ghar ko dekhte hain shayad ek aapke ghar dikhe wahi kuch pakke hote hain par itne bade nahi jab number banaras me dekhen aur sarnath mujhe itna anand me laga pooche nahi man ko moh aniyatha wahan kai keval ek jati ka nahi balki nepali chini england ke austrailia ke sab dikhte the me bahut anand me hua ki are yah kaun kaun se humne toh nahi bus filmo me dekha vasta bhi nahi aur vaah hamare jeevan ka ek ajeem chadhta chadhta

मेरा सारनाथ यात्रा के प्रति बहुत रोमांच रहा क्योंकि मैं जब पहली बार अपने मौसा जी के ज्ञान

Romanized Version
Likes  5  Dislikes    views  187
WhatsApp_icon
qIcon
ask

Related Searches:
aapka yatra ;

This Question Also Answers:

QuestionsProfiles

Vokal App bridges the knowledge gap in India in Indian languages by getting the best minds to answer questions of the common man. The Vokal App is available in 11 Indian languages. Users ask questions on 100s of topics related to love, life, career, politics, religion, sports, personal care etc. We have 1000s of experts from different walks of life answering questions on the Vokal App. People can also ask questions directly to experts apart from posting a question to the entire answering community. If you are an expert or are great at something, we invite you to join this knowledge sharing revolution and help India grow. Download the Vokal App!