ऐसी कोई प्रेरणदायक कहानी या वाक़या बताएँ जिसने आपके जीवन को बदल दिया हो?...


user

Krishna Prajapati

Career Counsellor

3:54
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

एक प्रेरणादायक कहानी है जिसने मेरी जिंदगी को पूरी तरीके से बदल दिया मुझे याद है मैंने इस दिन की शुरुआत की थी रिजर्वेशंस को मैं कर रहा हूं और मैं अपने गोल के तरफ भाग राता में अपने लक्ष्य की तरफ भाग रहा था उनका पीछा कर रहा था लेकिन बहुत सारी प्रॉब्लम्स आ रही थी मुझे फाइनेंशियल प्रॉब्लम्स जा रही थी लोग भी कुछ ना कुछ बोल रहे थे बहुत सारे लोग रोक रहे थे बहुत सारी परेशानी आ रही थी उस समय मेरे गुरु हैं उन्होंने मुझे एक कहानी सुनाई और उस कहानी को सुनने के बाद वाकई में मुझे लगा कि कितनी भी परेशानियां कितने भी चैलेंज एस आय रेन अगर मुझे अपने लक्ष्य तक पहुंचना है अगर मुझे जीवन में कुछ बड़ा मुकाम हासिल करना है अगर मैं अगर मैं लोगों के सामने अपने आप करो प्रजेंट करना चाहता हूं या कुछ भी ऐसा हो रहा है मुझे जिंदगी में आगे बढ़ना है तो उसके लिए मुझे यह सब झेलना पड़ेगा क्योंकि बताया गया है कि कोई भी सफलता कुछ जोखिम उठाने के बाद आती है कुछ दर्द के बाद आती है तो मुझे की स्टोरी सुनाई मैं आपको समझाना चाहूंगा शेयर करना चाहूंगा एक बार की बात है एक बहुत बड़ा मंदिर था और बहुत बड़े मंदिर में एक बहुत ही खूबसूरत मूर्ति थी उस मूर्ति से जो पैरदान का एक पत्थर पूछता है कि तेरी किस्मत कितनी शानदार है हम एक ही प्रॉब्लम में आए थे एक की पहाड़ से कट कर आए थे उतरौला में आए थे एक ही मूर्तिकार के पहुंचते पास पहुंचे थे लेकिन तेरी किस्मत कितनी शानदार है कि तुझे मूर्ति बना दिया गया और जब मुझे पैरदान में लगा दिया गया तुझे लोग भी चढ़ाते हैं फूल चढ़ाते माला चढ़ाते हैं दूध चढ़ाते हैं मिठाई खिलाते हैं और मुझ पर आकर जूते उतारते हैं और चप्पल उतार तेरी किस्मत कितनी शानदार है तभी मूर्ति नहीं जवाब दिया ते हुए बोला तुझे वहां तक की कहानी याद है कि हम मूर्तिकार के पास पहुंची थी एक ही पहाड़ से कटकर आए थे कि टोला में आए थे और मूर्तिकार के पास पहुंच गई कहानी शायद तो भूल गया है सबसे पहले मूर्ति बनने का नंबर आया तेरा और जैसी एक मूर्तिकार ने टाकी हथोड़ा चलाना चालू किया उसने टंकी पर चढ़ा रखी मारना चालू किया तो सह नहीं पाया जेल नहीं पाया तो टूट गया और जब तक टूट गया तो क्या हुआ के तुझे साइड में रख दिया फिर नंबर आया मूर्ति बनने का मेरा एक मूर्तिकार बेली टाकी हथोड़ा चलाता था मुझे दर्द होता था टूटने का मन करता था लेकिन मैं टूटता नहीं था जब उठाती है थोड़ा चलाता था तो मैं बहुत रोता था बहुत पेन होता था बहुत दर्द होता था लेकिन लगातार वह हर दिन मारता रहा मैं हर दिन चलता रहा वह हर दिन मेरे अंदर मूर्ति तरसता रहा मैं तरसता रहा हो हर दिन लगा तार 6 महीने तक उस ताकि हथौड़ी की मार में नशीली है यह कारण है इंसान की सात पीढ़ियां मुझे यह लेंगी और तू 2 दिन भी उस ताकि हथौड़ी की मारकोनी जल पाया यह कारण है कि अब तक वीडियो को तू चलेगा तो इस स्टोरी से मुझे समझ में आया कि जिंदगी में सफलता पाने के लिए कहीं ना कहीं हमें जोखिम उठाने पड़ते हैं कहीं ना कहीं परेशानी आती है लेकिन उन को झेलते हुए करना होता है और इस वाक्य ने मेरे अंदर एक एनर्जी पैदा कर दी इस कहानी ने मेरे अंदर एक सफल होने की एनर्जी पैदा कर दी हो मैंने फिर से अपने काम पर अपने लक्ष्य पर फोकस करके मैंने काम चालू कर दिया और आज से उस काम की वजह से काफी कुछ अजीब कर चुका हूं मैं और यह स्टोरी कई सारे लोगों की जिंदगी बदल सकते हैं थैंक यू वेरी मच

ek preranadayak kahani hai jisne meri zindagi ko puri tarike se badal diya mujhe yaad hai maine is din ki shuruat ki thi reservations ko main kar raha hoon aur main apne gol ke taraf bhag rata me apne lakshya ki taraf bhag raha tha unka picha kar raha tha lekin bahut saari problems aa rahi thi mujhe financial problems ja rahi thi log bhi kuch na kuch bol rahe the bahut saare log rok rahe the bahut saari pareshani aa rahi thi us samay mere guru hain unhone mujhe ek kahani sunayi aur us kahani ko sunne ke baad vaakai me mujhe laga ki kitni bhi pareshaniya kitne bhi challenge S aay rain agar mujhe apne lakshya tak pahunchana hai agar mujhe jeevan me kuch bada mukam hasil karna hai agar main agar main logo ke saamne apne aap karo present karna chahta hoon ya kuch bhi aisa ho raha hai mujhe zindagi me aage badhana hai toh uske liye mujhe yah sab jhelna padega kyonki bataya gaya hai ki koi bhi safalta kuch jokhim uthane ke baad aati hai kuch dard ke baad aati hai toh mujhe ki story sunayi main aapko samajhana chahunga share karna chahunga ek baar ki baat hai ek bahut bada mandir tha aur bahut bade mandir me ek bahut hi khoobsurat murti thi us murti se jo pairdan ka ek patthar poochta hai ki teri kismat kitni shandar hai hum ek hi problem me aaye the ek ki pahad se cut kar aaye the utaraula me aaye the ek hi murtikar ke pahunchate paas pahuche the lekin teri kismat kitni shandar hai ki tujhe murti bana diya gaya aur jab mujhe pairdan me laga diya gaya tujhe log bhi chadhate hain fool chadhate mala chadhate hain doodh chadhate hain mithai khilaate hain aur mujhse par aakar joote utarate hain aur chappal utar teri kismat kitni shandar hai tabhi murti nahi jawab diya te hue bola tujhe wahan tak ki kahani yaad hai ki hum murtikar ke paas pahuchi thi ek hi pahad se katakar aaye the ki tola me aaye the aur murtikar ke paas pohch gayi kahani shayad toh bhool gaya hai sabse pehle murti banne ka number aaya tera aur jaisi ek murtikar ne taki hathoda chalana chaalu kiya usne tanki par chadha rakhi marna chaalu kiya toh sah nahi paya jail nahi paya toh toot gaya aur jab tak toot gaya toh kya hua ke tujhe side me rakh diya phir number aaya murti banne ka mera ek murtikar beli taki hathoda chalata tha mujhe dard hota tha tutne ka man karta tha lekin main tootata nahi tha jab uthaati hai thoda chalata tha toh main bahut rota tha bahut pen hota tha bahut dard hota tha lekin lagatar vaah har din maarta raha main har din chalta raha vaah har din mere andar murti tarsata raha main tarsata raha ho har din laga taar 6 mahine tak us taki hathodi ki maar me nashili hai yah karan hai insaan ki saat peedhiyaan mujhe yah leangi aur tu 2 din bhi us taki hathodi ki markoni jal paya yah karan hai ki ab tak video ko tu chalega toh is story se mujhe samajh me aaya ki zindagi me safalta paane ke liye kahin na kahin hamein jokhim uthane padate hain kahin na kahin pareshani aati hai lekin un ko jhelte hue karna hota hai aur is vakya ne mere andar ek energy paida kar di is kahani ne mere andar ek safal hone ki energy paida kar di ho maine phir se apne kaam par apne lakshya par focus karke maine kaam chaalu kar diya aur aaj se us kaam ki wajah se kaafi kuch ajib kar chuka hoon main aur yah story kai saare logo ki zindagi badal sakte hain thank you very match

एक प्रेरणादायक कहानी है जिसने मेरी जिंदगी को पूरी तरीके से बदल दिया मुझे याद है मैंने इस द

Romanized Version
Likes  3  Dislikes    views  47
WhatsApp_icon
30 जवाब
qIcon
ask
ऐसे और सवाल
Loading...
Loading...
user

Samreen Fatma

Principal

1:56
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

ऐसी कोई प्रेरणादायक कहानियां वाक्य बताएं जिसने आपके जीवन को बदल दिया हां मेरी लाइफ का एक ऐसी स्टोरी है जब मैं फर्स्ट टाइम मेरे पापा एक फैक्ट्री में जॉब करते थे लाल कुआं में नैनीताल के पास पड़ता है यह तो मैं आपके पास चली गई और उस फैक्ट्री में जब मैं घूमने के लिए गई ऐसा नहीं तो मैंने देखा कि मेरे पापा दिन भर बहुत मेहनत से धूप में धूल में मिट्टी में बारिश में काम कर रहे हैं बहुत ज्यादा काम कर रहे हैं और रात में वहां पर लाइट चली जाती थी तो रात भर वह सीढ़ियों पर बैठकर पंखा घुमाते हुए अपनी रात को जाते थे फिर सुबह होती थी फिर वह ऐसे काम में लग जाते थे और रात को फिर वह ऐसे हाथ से पंखा घुमाते हुए अपनी रात गुजारते थे तो मैं तीन-चार दिन में वहां पर रही तो मैंने जब यह देखा तो मुझे बड़ा दुख हुआ कि हमारे लिए घर पर पापा ने हर चीज हमें दी हुई है लाइट जाने पर इनवर्टर है जनरेटर सेट और सोलर सिस्टम सेट की मतलब हमें पता ही नहीं चलता कि लाइट कब जा रही है कब आ रही है हमारे लिए हर चीज की फैसिलिटी है गर्मी में एसिड है सर्दी में एयर कंडीशनर रूम है तो मतलब यह खबर तो यह मेरे लिए प्रेरणादायक कहानियां और जब मैंने ऐसा देखा उसके बाद उसे पहले मैं क्या करती थी बहुत ज्यादा फिजूलखर्ची करती थी सभी को मतलब अगर बैनर भी कोई आ गया तो मेरी पॉकेट में अगर 050 है जो भी हुए मैं उनको दे देती थी बट उस समय जब मैंने देखा कि मेरे पापा कैसे मेहनत कर रहे हैं कैसे हो बात कर रहे हैं अब मैं उसे देख कर बहुत ज्यादा इंप्रेस हुई और मैंने अपने आपको चेंज किया

aisi koi preranadayak kahaniya vakya bataye jisne aapke jeevan ko badal diya haan meri life ka ek aisi story hai jab main first time mere papa ek factory me job karte the laal kuan me nainital ke paas padta hai yah toh main aapke paas chali gayi aur us factory me jab main ghoomne ke liye gayi aisa nahi toh maine dekha ki mere papa din bhar bahut mehnat se dhoop me dhul me mitti me barish me kaam kar rahe hain bahut zyada kaam kar rahe hain aur raat me wahan par light chali jaati thi toh raat bhar vaah sidhiyon par baithkar pankha ghumate hue apni raat ko jaate the phir subah hoti thi phir vaah aise kaam me lag jaate the aur raat ko phir vaah aise hath se pankha ghumate hue apni raat gujarate the toh main teen char din me wahan par rahi toh maine jab yah dekha toh mujhe bada dukh hua ki hamare liye ghar par papa ne har cheez hamein di hui hai light jaane par inverter hai generator set aur solar system set ki matlab hamein pata hi nahi chalta ki light kab ja rahi hai kab aa rahi hai hamare liye har cheez ki facility hai garmi me acid hai sardi me air conditioner room hai toh matlab yah khabar toh yah mere liye preranadayak kahaniya aur jab maine aisa dekha uske baad use pehle main kya karti thi bahut zyada fijulakharchi karti thi sabhi ko matlab agar banner bhi koi aa gaya toh meri pocket me agar 050 hai jo bhi hue main unko de deti thi but us samay jab maine dekha ki mere papa kaise mehnat kar rahe hain kaise ho baat kar rahe hain ab main use dekh kar bahut zyada impress hui aur maine apne aapko change kiya

ऐसी कोई प्रेरणादायक कहानियां वाक्य बताएं जिसने आपके जीवन को बदल दिया हां मेरी लाइफ का एक ऐ

Romanized Version
Likes  10  Dislikes    views  114
WhatsApp_icon
user

Dr. J.Singh

Financial Expert || Ayurvedic Doctor

8:43
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

इसमें मैं आपको बताना चाहूंगा कि प्रेरणादायक कहानी आपको वह आप सबको मैं सुनाना चाहता हूं एक ही गांव में किसान सुबह 4:00 बजे अपना हाल लेकर की खेत में जाता था काम पर जाता था और पुलिस उसे 4:00 बजे अपना आशा करके नहा धोकर क्यों ना भगवान की पूजा में व्यस्त हो जाती भगवान की आरती करने से घंटी बजाते थे शाम को आदत बन चुकी करते हैं वरना मैं भी आज पूजा करूं उसे खेत में जाकर के पंडित पंडित अब खेत में सोचा कि कुछ काम होगा इसलिए पंडित जी ने बता दिया भी आपको सुबह फ्रेश होकर पूजा करेंगे तो आप धूप अच्छी लगाई है पूजा करिए दिया है जरा यह गीता क्योंकि करना इतना कुछ भी कर सकती है उसके बाद जवाब भोजन भोजन करते हैं तब आप पहले भगवान को भोग लगाइए भगवान भूख लगी भूख लग जाए भगवान भूख लगी आपको खाना खाना है और 19 के रूप में ले लिया और बहुत गंभीरता से लिया कर कि वही सब कार्य करने आज पूजा वर्क भगवान जी के घर में पत्थर को पूजते थे तो उनके सामने पहले जवाब होगा लेकिन भगवान जब तक आप नहीं खाओगे तब तक नहीं करूंगा एक घंटा हो गया के परिवार वाले परेशान हो गए हालांकि दोपहर हो गई सुबह से शाम हो गई यारा की लगने लगा पुस्तक के घर से पूजा कर रहा था उसको कोई लालच था उसे कुछ मांगा लगाए को दिलवा दिया और दूसरा भोजन बनाया और फिर सबको पता लग गया और इसके प्रति काम शाम तक भगवान जी के द्वार तक पकड़ी पाबूजी का पड़ गया तब भगवान को देखने लगा कि वास्तव में या की सच्ची तस्वीर तेरी पूजा करूं पत्थर में से एक हाथ निकला और उस हाथरस थाली में सीखने वाला निकाला और पत्थर के अंदर चला गया और यह देखकर किसान उछल पड़ा और पता नहीं कहां से आ गई और दूसरा आ गया पंडित श्री सोचा कि चलो चलो ठीक है अच्छा होगा ठीक है पूजा करती हो गए और मैं तो पूरे नियमों से पूजा करता हूं फिर भी आज तो भगवान जी मुझे तो 30 32 साल हो गए पूजा करती मुझे भगवान जी का दर्शन तेरे साथ में बैठकर कैसे खाना खा रही है पंडित जी आप सुबह-सुबह तब मैं आपको दिखाता हूं पंडित जी को अगली थी सारे लिखकर काम करने बाद किसान जो है पंडित जी को फिर लेकर आ गए बुलाकर लाओ एक खाली पंडित जी के पास 1 साल से जो भगवान रूपी पत्थर से उनके पास में रख दिया और अपने बाद फिर भी कहा कि भगवान जी खाना खाओ भगवान जी भोग लगाओ भगवान जी भगवान जी तो पता था कि यह तो किसान है यह 3 दिन पहले खाना नहीं खाया पानी नहीं पिया यह मौत के मुंह में जाने से बचा है तो खाना पड़ेगा और पत्थर लिखा तब तक एक घंटा लगा हो चुकी पंडित जी का प्रकाश निवासी पंडित जी अपना खाना शुरु कर दिया तभी कुछ देर बाद पत्थर में से एक हाथ निकला और किसान की जमीन तेरे रखी थी इसमें एक निवाला और पत्थर के अंदर पंडित जी ने देखा तो पंडित जी गुस्से से बोले कि भगवान जी यह क्या मुझे 35 साल 33033 साल हो गया की पूजा करते कोई नियम से पूजा करता हूं कि इस दिन ही छोड़ता हूं और तुषार को तीन-चार दिन मात्र पूजा करते हुए हैं आप रेट के साथ में खाना खा लिया मुझे आज तक वह अपने सपने में दर्शन दिए इसका क्या ऐसा करना या साल के साथ में कल गांव से बाहर आप का तालाब की किराने मंदिर है वहां पर आप दोनों पूजा करना और तब आपको मैं बताऊंगा इसका कारण क्या है उसी किसान ने भी आराम से खाना खाया कि नहीं खाया और भगवान के भोग लगाया अगले दोनों की शान और वह दोनों जैसी घर से पूजा की थाली सब कुछ करने बाद तैयार होकर एक खेत के लिए निकले क्षेत्र के लिए चल पड़े और खेत पर जाने के बाद पूजा शुरू की खतरनाक घनघोर बादल उठा और आंधी और तूफान के साथ में होली और मोटे मोटे होने पर से लग गए पंडिताई छोड़कर भाग गए मंदिर के अंदर घुस गए लेकिन किसान होता वही अपनी पूजा की थाली के ऊपर लेट गया और बोला कि भगवान जी मैं आपको नहीं भेज दे दूंगा मैं प्लीज एक जाऊं मुझे कुछ भी मैं आपको नहीं भेजने दूंगा मैं आपकी पूजा का सामान नहीं खराब होने दूंगा बारिश पड़ती गई जब तक तूफान चला किसान वही का वही अपने भगवान को ले उनके ऊपर लेटा रहा और पंडित मंदिर भगवान जी दर्शन देते हैं और बोलते पंडित पंडित जी किसान की पूजा में और आपकी पूजा में यही अंतर से पूजा कर रहे हैं लेकिन आपने कभी सच्चे मन से पूजा ने किया अपने स्वार्थ हो करके मेरी पूजा की है इसीलिए आपको सपने में दर्शन नहीं हुए और एक किसान ने निस्वार्थ होकर के सच्चे मन से मेरी पूजा की है इसलिए मुझे इसको दर्शन देना पड़ा और इसी के भाग्य से आज तुम्हें भी मेरे दर्शन हो गए इस कथा का सार निकलता है कि आप कोई भी कार्य कब्जे से भगवान की पूजा करते हैं अभी कुछ प्रश्न भी आते भी पीछे आया था कि भगवान होते हैं तो इंटरफेयर क्यों नहीं करते गलत कार्य होते तो भगवान अपने का प्रसाद चलाएंगे भंडारा कराएंगे हमारे बाद में वह भी हमारे पास अपना कुछ नहीं है सब उस प्रभु का दिया हुआ है उसी को अर्पण कर देते हैं उसको हम अपना मान देते और बहुत बड़े हमें सेक्स संतुष्टि होती है कि हमने बहुत बड़ी पूजा बहुत बड़ा हवन इतना पैसा खर्च किया है कि ने किया और हम और पढ़ाई के बारे में बता कोई भी कार्य किसी धर्म को अपने मानसिक शांति के लिए कर रहे हैं बाकी इससे ज्यादा मुझे कुछ यहां कुछ व्यक्ति हैं उस सच्चे मन से करते हैं इसलिए उनको ना तो इस संसार से कोई मतलब है ना किसी से कोई मतलब नहीं पूजा करते हैं जी बहुत-बहुत धन्यवाद

isme main aapko batana chahunga ki preranadayak kahani aapko vaah aap sabko main sunana chahta hoon ek hi gaon me kisan subah 4 00 baje apna haal lekar ki khet me jata tha kaam par jata tha aur police use 4 00 baje apna asha karke naha dhokar kyon na bhagwan ki puja me vyast ho jaati bhagwan ki aarti karne se ghanti bajaate the shaam ko aadat ban chuki karte hain varna main bhi aaj puja karu use khet me jaakar ke pandit pandit ab khet me socha ki kuch kaam hoga isliye pandit ji ne bata diya bhi aapko subah fresh hokar puja karenge toh aap dhoop achi lagayi hai puja kariye diya hai zara yah geeta kyonki karna itna kuch bhi kar sakti hai uske baad jawab bhojan bhojan karte hain tab aap pehle bhagwan ko bhog lagaaiye bhagwan bhukh lagi bhukh lag jaaye bhagwan bhukh lagi aapko khana khana hai aur 19 ke roop me le liya aur bahut gambhirta se liya kar ki wahi sab karya karne aaj puja work bhagwan ji ke ghar me patthar ko pujte the toh unke saamne pehle jawab hoga lekin bhagwan jab tak aap nahi khaoge tab tak nahi karunga ek ghanta ho gaya ke parivar waale pareshan ho gaye halaki dopahar ho gayi subah se shaam ho gayi yaara ki lagne laga pustak ke ghar se puja kar raha tha usko koi lalach tha use kuch manga lagaye ko dilwa diya aur doosra bhojan banaya aur phir sabko pata lag gaya aur iske prati kaam shaam tak bhagwan ji ke dwar tak pakadi pabuji ka pad gaya tab bhagwan ko dekhne laga ki vaastav me ya ki sachi tasveer teri puja karu patthar me se ek hath nikala aur us hathras thali me sikhne vala nikaala aur patthar ke andar chala gaya aur yah dekhkar kisan uchhal pada aur pata nahi kaha se aa gayi aur doosra aa gaya pandit shri socha ki chalo chalo theek hai accha hoga theek hai puja karti ho gaye aur main toh poore niyamon se puja karta hoon phir bhi aaj toh bhagwan ji mujhe toh 30 32 saal ho gaye puja karti mujhe bhagwan ji ka darshan tere saath me baithkar kaise khana kha rahi hai pandit ji aap subah subah tab main aapko dikhaata hoon pandit ji ko agli thi saare likhkar kaam karne baad kisan jo hai pandit ji ko phir lekar aa gaye bulakar laao ek khaali pandit ji ke paas 1 saal se jo bhagwan rupee patthar se unke paas me rakh diya aur apne baad phir bhi kaha ki bhagwan ji khana khao bhagwan ji bhog lagao bhagwan ji bhagwan ji toh pata tha ki yah toh kisan hai yah 3 din pehle khana nahi khaya paani nahi piya yah maut ke mooh me jaane se bacha hai toh khana padega aur patthar likha tab tak ek ghanta laga ho chuki pandit ji ka prakash niwasi pandit ji apna khana shuru kar diya tabhi kuch der baad patthar me se ek hath nikala aur kisan ki jameen tere rakhi thi isme ek nivala aur patthar ke andar pandit ji ne dekha toh pandit ji gusse se bole ki bhagwan ji yah kya mujhe 35 saal 33033 saal ho gaya ki puja karte koi niyam se puja karta hoon ki is din hi chodta hoon aur tushaar ko teen char din matra puja karte hue hain aap rate ke saath me khana kha liya mujhe aaj tak vaah apne sapne me darshan diye iska kya aisa karna ya saal ke saath me kal gaon se bahar aap ka taalab ki kirane mandir hai wahan par aap dono puja karna aur tab aapko main bataunga iska karan kya hai usi kisan ne bhi aaram se khana khaya ki nahi khaya aur bhagwan ke bhog lagaya agle dono ki shan aur vaah dono jaisi ghar se puja ki thali sab kuch karne baad taiyar hokar ek khet ke liye nikle kshetra ke liye chal pade aur khet par jaane ke baad puja shuru ki khataranaak ghanghor badal utha aur aandhi aur toofan ke saath me holi aur mote mote hone par se lag gaye panditai chhodkar bhag gaye mandir ke andar ghus gaye lekin kisan hota wahi apni puja ki thali ke upar late gaya aur bola ki bhagwan ji main aapko nahi bhej de dunga main please ek jaaun mujhe kuch bhi main aapko nahi bhejne dunga main aapki puja ka saamaan nahi kharab hone dunga barish padti gayi jab tak toofan chala kisan wahi ka wahi apne bhagwan ko le unke upar leta raha aur pandit mandir bhagwan ji darshan dete hain aur bolte pandit pandit ji kisan ki puja me aur aapki puja me yahi antar se puja kar rahe hain lekin aapne kabhi sacche man se puja ne kiya apne swarth ho karke meri puja ki hai isliye aapko sapne me darshan nahi hue aur ek kisan ne niswarth hokar ke sacche man se meri puja ki hai isliye mujhe isko darshan dena pada aur isi ke bhagya se aaj tumhe bhi mere darshan ho gaye is katha ka saar nikalta hai ki aap koi bhi karya kabje se bhagwan ki puja karte hain abhi kuch prashna bhi aate bhi peeche aaya tha ki bhagwan hote hain toh intarafeyar kyon nahi karte galat karya hote toh bhagwan apne ka prasad chalayenge bhandara karaenge hamare baad me vaah bhi hamare paas apna kuch nahi hai sab us prabhu ka diya hua hai usi ko arpan kar dete hain usko hum apna maan dete aur bahut bade hamein sex santushti hoti hai ki humne bahut badi puja bahut bada hawan itna paisa kharch kiya hai ki ne kiya aur hum aur padhai ke bare me bata koi bhi karya kisi dharm ko apne mansik shanti ke liye kar rahe hain baki isse zyada mujhe kuch yahan kuch vyakti hain us sacche man se karte hain isliye unko na toh is sansar se koi matlab hai na kisi se koi matlab nahi puja karte hain ji bahut bahut dhanyavad

इसमें मैं आपको बताना चाहूंगा कि प्रेरणादायक कहानी आपको वह आप सबको मैं सुनाना चाहता हूं एक

Romanized Version
Likes  10  Dislikes    views  181
WhatsApp_icon
user

bhaand's Theatre and Acting Classes

Acting And drama Coach Casting director Drama Director

1:12
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

यह एक प्रेरणादायक कहानी है छोटी सी जिसने मेरे जीवन में बहुत कुछ बदला है मैं गुजर रहा था और गुजर रहा था और मुझे प्रवचन ना सुनाई दे रहे थे कि अगर मैं झूठ बोला जाए या कोई आपसे झूठ बोल रहा है तो झूठ का जो जो जवाब होता है जो झूठा व्यक्ति आपको जो जवाब दे रहा है वह समय के अनुसार बदलते रहता वह एक जैसा नहीं होता है मैं अपनी लाइफ में छोटे-छोटे झूठ बोला करता था लेकिन जब वह वह मैंने प्रवचन सुना और मैंने लोगों के झूठ पकड़ना शुरू किया अपने खुद की छूट पकड़ना शुरू किए तो मेरा जीवन बदल गया तब से मैंने झूठ नहीं बोला मैं जो भी है ना सच बोल देता हूं या अगर मुझे ध्यान नहीं बोलना होता है सच या झूठ नहीं बोला होता वहां चुप रहता हूं तू यह कैसी घटना थी कि मेरा जीवन बदल गया

yah ek preranadayak kahani hai choti si jisne mere jeevan me bahut kuch badla hai main gujar raha tha aur gujar raha tha aur mujhe pravachan na sunayi de rahe the ki agar main jhuth bola jaaye ya koi aapse jhuth bol raha hai toh jhuth ka jo jo jawab hota hai jo jhutha vyakti aapko jo jawab de raha hai vaah samay ke anusaar badalte rehta vaah ek jaisa nahi hota hai main apni life me chote chote jhuth bola karta tha lekin jab vaah vaah maine pravachan suna aur maine logo ke jhuth pakadna shuru kiya apne khud ki chhut pakadna shuru kiye toh mera jeevan badal gaya tab se maine jhuth nahi bola main jo bhi hai na sach bol deta hoon ya agar mujhe dhyan nahi bolna hota hai sach ya jhuth nahi bola hota wahan chup rehta hoon tu yah kaisi ghatna thi ki mera jeevan badal gaya

यह एक प्रेरणादायक कहानी है छोटी सी जिसने मेरे जीवन में बहुत कुछ बदला है मैं गुजर रहा था और

Romanized Version
Likes  9  Dislikes    views  125
WhatsApp_icon
user

Yuvraj Mohite

Soft Skill Trainer

5:01
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

बहुत साल पहले मैं जब काम करता था कुछ तो मुझे बहुत निराशा होती थी कि मेरा काम हुआ नहीं है तो अभी मुझे क्या प्रॉब्लम होगा यह सारी चीजें के ऊपर दुख होता था और कभी-कभी और टूट चलाता था मतलब कैसा लगता है यार मैं कुछ कर पाऊंगा कि नहीं लेकिन मेरे जिंदगी में एक कहानी मुझे सुनने को मिली वह हमारे एक बहुत बड़े शहर थे उन्होंने बताई थी तो हुआ ऐसे हैं कि उस कहानी का शीर्षक था वह था मूर्तिकार तो मूर्तिकार जो होता है 1 दिन मंदिर चला जाता है और मंदिर जाने के बाद वहां पर उस एरिया जो होती मंदिर की उस पर सीरीज चढ़ता रहता है फिर से चढ़ने के बाद जयपुर मंदिर पहुंचता है तब उसको एक रोने की आवाज आती है रोने की आवाज आने के बाद जैसे ही रोने की आवाज आती है वहां वहां देखता लेकिन उसको कुछ दिखाई नहीं देता तो फिर वह वापस बची हुई सीढ़ियां चढ़कर वह आके चला जाता है आगे चला जाने के बाद फिर वह मंदिर में जो मूर्ति होती है उस मूर्ति को फूल लाल जो भी है पूजा वगैरह सब करके पूरा नाम उसका मूर्ति को प्रणाम करके वापस चला था वह पोस्टल आने के बाद वापस से जब सूरज प्रिया उतरते रहते हैं वह कभी वापस से रोने की आवाज आती है जैसी रोने की आवाज सुनते हो तो फिर रुक जाते हैं और वहां पर पूछते हैं कि भाई जो भी रो रहा है मेरे सामने आओ क्योंकि तब तक तुम मेरे सामने आकर आपके प्रॉब्लम को मुझे बताओगे नहीं तब तक मैं कैसे आपको आपके की प्रॉब्लम का सलूशन दे दूं तू होता है कि वहां से एक आवाज आती है और वह आवाज होती है उस सीडी की जिस पर खड़े होते हैं तो उसे नहीं बोलती कि मैं बोल रही हूं मैं रो रही हूं फिल्म मूर्तिकार भी आश्चर्यचकित हो जाता है यार तू क्यों रो रही है तुझे क्या हुआ तो सीढ़ी जो होती है वह बोलती कि मैं भी आपके पास मूर्ति बनने के लिए आई थी लेकिन आपने मुझे छोड़ दिया और मेरा सीधी करो बना दिया तो मूर्तिकार उनको जवाब देता है उस सीडी को जवाब देते हैं कि बोलते हैं कि मुंह मैंने जो तुझे तैयार करने के लिए आता हूं मूर्ति ही तैयार करने को लिया था लेकिन एक पत्थर के अंदर जो मूर्ति होती है उसको बनाने के लिए उसके अनचाही 100 को निकालना पड़ता है अब जब पंचायत निकालना है तो वहां पर छाने के घाव देने बहुत जरूरी होता है तभी वह अनचाही से निकाल सकते या फिर निकल जाते हैं लेकिन क्या हुआ मैं जब तेरे पर अनचाहे इसे थे उसको निकालने के लिए छानी के खाओ दयाल रहा था तब वह तुझे शहर नहीं हुए और उसे ना होने की वजह से तू टूट कर गिर गई अब जब तू टूट कर गिर गई तो तुझे कुछ ना कुछ तो बनाना था इसलिए मैंने तुझे सीढ़ी का रूप दिया लेकिन तू जो बोल रही है कि यहां पर जो सीरियल जो मूर्ति है उस मूर्ति को जो मैं पूछ कर आया हूं अभी-अभी उसके अंदर उसके ऊपर भी मैंने बहुत सारे घाव डालें लेकिन फिर भी वह तू उसने मेरा हर गांव सहा और आज देखो उसी मूर्ति को मैं पूछ रहा हूं जिसको मैंने खुद बनाया है क्यों क्योंकि उसने मेरे हर गांव से यह जो मैंने कहा नहीं सुनी तब मुझे पता चला कि जिंदगी भी एक ऐसी ही है लाइफ भी एक ऐसी है वह हमेशा आपके ऊपर कुछ ना कुछ किसी ना किसी तरह का घाव डालती ही रहती है लेकिन आपको टूटना नहीं आप कुछ करना नहीं है हर खाओ को सहन करके उसमें से कुछ सीखना है और उस सीखते सीखते सीखते आप जब खड़े हो जाओगे तो एक दिन जरूर ऐसा आएगा जब आप मूर्ति बन चुके होंगे हर लोग आपको पूछना स्टार्ट करने के लोग आपकी वाह-वाह करना स्टार्ट कर देंगे और आपकी सक्सेस को प्रणाम करेंगे यह ध्यान में रखो कि कभी भी रुकना मत कभी भी कभी भी टूटना में कितने भी चाहे परेशानी क्यों ना जी मूर्तिकार जो है यह हमारे प्रकृति है हमारे जीवन में जो होता है वह मूर्तिकार के खा होते हैं क्योंकि हर पर हमारे ऊपर से संकट आते वह हमारे गांव है उसको लगने के बाद ही हमारे अनचाही से निकल जाएंगे और हम मूर्ति के रूप में आ जाएंगे तो मेरा सब को कहना चाहिए कि निराश मत होइए कोई भी जो भी काम कर रहे हो उसमें अपना सा उसे उठा कर डाल दीजिए और 1 दिन ऐसा आएगा उस दिन आप खुद ब खुद एक मूर्ति बन जाओगे धन्यवाद दोस्तों मेरा नाम जीवराज मोहिते अगर आपको यह कहानी अच्छी लगी हो तो आप लाइक कीजिए शेयर कीजिए और भी कुछ करना हो तो उसको आपको बताने की जरूरत नहीं आई थी नमस्कार

bahut saal pehle main jab kaam karta tha kuch toh mujhe bahut nirasha hoti thi ki mera kaam hua nahi hai toh abhi mujhe kya problem hoga yah saree cheezen ke upar dukh hota tha aur kabhi kabhi aur toot chalata tha matlab kaisa lagta hai yaar main kuch kar paunga ki nahi lekin mere zindagi mein ek kahani mujhe sunne ko mili vaah hamare ek bahut bade shehar the unhone batai thi toh hua aise hai ki us kahani ka shirshak tha vaah tha murtikar toh murtikar jo hota hai 1 din mandir chala jata hai aur mandir jaane ke baad wahan par us area jo hoti mandir ki us par series chadhta rehta hai phir se chadhne ke baad jaipur mandir pahuchta hai tab usko ek rone ki awaaz aati hai rone ki awaaz aane ke baad jaise hi rone ki awaaz aati hai wahan wahan dekhta lekin usko kuch dikhai nahi deta toh phir vaah wapas bachi hui sidhiyan chadhakar vaah aake chala jata hai aage chala jaane ke baad phir vaah mandir mein jo murti hoti hai us murti ko fool laal jo bhi hai puja vagera sab karke pura naam uska murti ko pranam karke wapas chala tha vaah postal aane ke baad wapas se jab suraj priya utarate rehte hai vaah kabhi wapas se rone ki awaaz aati hai jaisi rone ki awaaz sunte ho toh phir ruk jaate hai aur wahan par poochhte hai ki bhai jo bhi ro raha hai mere saamne aao kyonki tab tak tum mere saamne aakar aapke problem ko mujhe bataoge nahi tab tak main kaise aapko aapke ki problem ka salution de doon tu hota hai ki wahan se ek awaaz aati hai aur vaah awaaz hoti hai us CD ki jis par khade hote hai toh use nahi bolti ki main bol rahi hoon main ro rahi hoon film murtikar bhi ashcharyachakit ho jata hai yaar tu kyon ro rahi hai tujhe kya hua toh sidhi jo hoti hai vaah bolti ki main bhi aapke paas murti banne ke liye I thi lekin aapne mujhe chod diya aur mera seedhi karo bana diya toh murtikar unko jawab deta hai us CD ko jawab dete hai ki bolte hai ki mooh maine jo tujhe taiyar karne ke liye aata hoon murti hi taiyar karne ko liya tha lekin ek patthar ke andar jo murti hoti hai usko banne liye uske anachahi 100 ko nikalna padta hai ab jab panchayat nikalna hai toh wahan par chane ke ghaav dene bahut zaroori hota hai tabhi vaah anachahi se nikaal sakte ya phir nikal jaate hai lekin kya hua main jab tere par anchahe ise the usko nikalne ke liye chani ke khao dayal raha tha tab vaah tujhe shehar nahi hue aur use na hone ki wajah se tu toot kar gir gayi ab jab tu toot kar gir gayi toh tujhe kuch na kuch toh banana tha isliye maine tujhe sidhi ka roop diya lekin tu jo bol rahi hai ki yahan par jo serial jo murti hai us murti ko jo main puch kar aaya hoon abhi abhi uske andar uske upar bhi maine bahut saare ghaav Daalein lekin phir bhi vaah tu usne mera har gaon saha aur aaj dekho usi murti ko main puch raha hoon jisko maine khud banaya hai kyon kyonki usne mere har gaon se yah jo maine kaha nahi suni tab mujhe pata chala ki zindagi bhi ek aisi hi hai life bhi ek aisi hai vaah hamesha aapke upar kuch na kuch kisi na kisi tarah ka ghaav daalti hi rehti hai lekin aapko tutana nahi aap kuch karna nahi hai har khao ko sahan karke usme se kuch sikhna hai aur us sikhate sikhate sikhate aap jab khade ho jaoge toh ek din zaroor aisa aayega jab aap murti ban chuke honge har log aapko poochna start karne ke log aapki wah wah karna start kar denge aur aapki success ko pranam karenge yah dhyan mein rakho ki kabhi bhi rukna mat kabhi bhi kabhi bhi tutana mein kitne bhi chahen pareshani kyon na ji murtikar jo hai yah hamare prakriti hai hamare jeevan mein jo hota hai vaah murtikar ke kha hote hai kyonki har par hamare upar se sankat aate vaah hamare gaon hai usko lagne ke baad hi hamare anachahi se nikal jaenge aur hum murti ke roop mein aa jaenge toh mera sab ko kehna chahiye ki nirash mat hoiye koi bhi jo bhi kaam kar rahe ho usme apna sa use utha kar daal dijiye aur 1 din aisa aayega us din aap khud bsp khud ek murti ban jaoge dhanyavad doston mera naam jivraj mohite agar aapko yah kahani achi lagi ho toh aap like kijiye share kijiye aur bhi kuch karna ho toh usko aapko bata ki zarurat nahi I thi namaskar

बहुत साल पहले मैं जब काम करता था कुछ तो मुझे बहुत निराशा होती थी कि मेरा काम हुआ नहीं है त

Romanized Version
Likes  5  Dislikes    views  135
WhatsApp_icon
user

Kishan Kumar

Motivational speaker

0:20
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

हेलो फ्रेंड एक वक्त मेरी जीवन को बदल दिया है जो उठो जागो तब तक नहीं रुको जब तक अपने लक्ष्य को प्राप्त न कर लो

hello friend ek waqt meri jeevan ko badal diya hai jo utho jaago tab tak nahi ruko jab tak apne lakshya ko prapt na kar lo

हेलो फ्रेंड एक वक्त मेरी जीवन को बदल दिया है जो उठो जागो तब तक नहीं रुको जब तक अपने लक्ष्य

Romanized Version
Likes  4  Dislikes    views  160
WhatsApp_icon
user

Ansh jalandra

Motivational speaker

0:35
Play

Likes  151  Dislikes    views  2533
WhatsApp_icon
user

Santosh Singh indrwar

Business Consultant & Life Couch

0:44
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

ऐसी कोई प्रेरणादायक कहानी अपाचे बताएं जिससे आपके जीवन को बदल दिया दोस्त भगवान श्रीकृष्ण से अच्छी प्रेरणादायक कहानी मुझे अपने जीवन में नहीं समझ में आती अगर आपको किसी की जीवन से प्रेरणा लेनी है तो भगवान श्री कृष्ण से लोग उनके कार्य करने के तरीके उनके व्यवहार से लोग उनकी कहानी को देखो दोनों मनन करो आपको ऐसे श्रेष्ठ कहानी संसार में नहीं मिल सकती और भी कोई देखना है तो श्री राम की कहानी देखो वहां से आपको संसार एक अनुभव मिलेंगे

aisi koi preranadayak kahani apache bataye jisse aapke jeevan ko badal diya dost bhagwan shrikrishna se achi preranadayak kahani mujhe apne jeevan me nahi samajh me aati agar aapko kisi ki jeevan se prerna leni hai toh bhagwan shri krishna se log unke karya karne ke tarike unke vyavhar se log unki kahani ko dekho dono manan karo aapko aise shreshtha kahani sansar me nahi mil sakti aur bhi koi dekhna hai toh shri ram ki kahani dekho wahan se aapko sansar ek anubhav milenge

ऐसी कोई प्रेरणादायक कहानी अपाचे बताएं जिससे आपके जीवन को बदल दिया दोस्त भगवान श्रीकृष्ण से

Romanized Version
Likes  8  Dislikes    views  123
WhatsApp_icon
user

अशोक गुप्ता

Founder of Vision Commercial Services.

1:33
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

हां मेरी जीवन में एक ऐसी घटना हुई कि पढ़ाई में अच्छे होने के बावजूद में फर्स्ट ईयर में फेल हो गया और मैंने वह विद्यालय छोड़कर खराब विद्यालय में एडमिशन ले लिया लेकिन वहीं पर मुझे संयोगवश आचार्य रजनीश का आगमन हुआ और उनके सानिध्य में सामने बैठकर 1 घंटे तक मैंने उनका दर्शन तो किया ही और उनकी अमृतवाणी का श्रवण किया मेरे जीवन में गुरु का स्तर पर भी सोना मेरे जीवन के लिए सबसे एक क्रांतिकारी और मूल्यवान घटना है आज ओशो हमारे जीवन के केंद्र पर हैं और उनके प्रति जो धन्यवाद का भाव है अनुभव है और मैंने उनसे दीक्षा भी ली उसके बाद मेरे जीवन में धीरे धीरे धीरे धीरे सहस ताती चली गई जीवन की समझ का विकास हुआ जितना भी हो पाया है यह दावा नहीं कर रहा हूं कि मैं पूरा जीवन समझ गया लेकिन यह समझ में आ गया कि कर जीवन थोड़े समझ के साथ जिया जाए थोड़ा होश के साथ जिया जाए इसी जीवन से आपको आनंद भी मिलता है और आप अपने जीवन के लक्ष्य को भी पा लेते हैं ईश्वर करें सबके जीवन में ऐसा कुछ न कुछ हो कि वह अपने जीवन को सही दिशा में जीना शुरू करें आप मेरा स्नेह स्वीकार करें अपने अच्छा प्रश्न पूछे हैं धन्यवाद

haan meri jeevan me ek aisi ghatna hui ki padhai me acche hone ke bawajud me first year me fail ho gaya aur maine vaah vidyalaya chhodkar kharab vidyalaya me admission le liya lekin wahi par mujhe sanyogavash aacharya rajnish ka aagaman hua aur unke sanidhya me saamne baithkar 1 ghante tak maine unka darshan toh kiya hi aur unki amritwani ka shravan kiya mere jeevan me guru ka sthar par bhi sona mere jeevan ke liye sabse ek krantikari aur mulyavan ghatna hai aaj osho hamare jeevan ke kendra par hain aur unke prati jo dhanyavad ka bhav hai anubhav hai aur maine unse diksha bhi li uske baad mere jeevan me dhire dhire dhire dhire sahas tatti chali gayi jeevan ki samajh ka vikas hua jitna bhi ho paya hai yah daawa nahi kar raha hoon ki main pura jeevan samajh gaya lekin yah samajh me aa gaya ki kar jeevan thode samajh ke saath jiya jaaye thoda hosh ke saath jiya jaaye isi jeevan se aapko anand bhi milta hai aur aap apne jeevan ke lakshya ko bhi paa lete hain ishwar kare sabke jeevan me aisa kuch na kuch ho ki vaah apne jeevan ko sahi disha me jeena shuru kare aap mera sneh sweekar kare apne accha prashna pooche hain dhanyavad

हां मेरी जीवन में एक ऐसी घटना हुई कि पढ़ाई में अच्छे होने के बावजूद में फर्स्ट ईयर में फेल

Romanized Version
Likes  11  Dislikes    views  175
WhatsApp_icon
user

Tej Sahu

Author | Journalist

0:15
Play

Likes  3  Dislikes    views  121
WhatsApp_icon
user
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

मेरे लिए सबसे मेरे प्रेरणादायक जो कहानी है वह सब कुछ मेरे पिताजी हैं और मैं इतना सब होता है एक बचपन एक उम्र होती है सभी करते हैं घूमते फिरते हैं अपने फ्यूचर को लेकर कोई भी इतना सीरियस नहीं रहता है एक समय ऐसा था कि वह सीरियस हो जाता है फिर तो ऐसा कुछ मेरे पिताजी की वजह से हुआ हम भी अपना रहते थे खुद का कम आना था ना पैसे की लत लग गई पढ़ाई के साथ-साथ दूसरों को देखते हुए तो मैं पैसे कमाना शुरू कर दिया पढ़ाई पर ध्यान कम दिया है ना तू करना चाहते थे वह नहीं कर पाए ठीक है अभी नौकरी करते करते के साथ में से दिल्ली की पिताजी बीमार हो गए ना अपनी शेविंग तो कुछ करके चलते नहीं थे उस वक्त सीखने में आ गया तो भाई पैसे बचाओ ठीक है और दूसरी चीज जो हम किसी को भी सीरियस नहीं लेते हो मेरे पिताजी ने आज तक मेरे बचपन से लेकर आज तक मिली जो भी किया वह हर एक एक मोमेंट मुझे याद आ गया उस दिन मेरे सामने आए तो मेरे लिए मेरे फादर हैं और सभी के पिता अपने बेटे के लिए भाजपा ही होते हैं जो अपने माता पिता की सेवा करें यार वही प्रेरणादायक होता वही संस्कार देते हैं सब

mere liye sabse mere preranadayak jo kahani hai vaah sab kuch mere pitaji hain aur main itna sab hota hai ek bachpan ek umr hoti hai sabhi karte hain ghumte phirte hain apne future ko lekar koi bhi itna serious nahi rehta hai ek samay aisa tha ki vaah serious ho jata hai phir toh aisa kuch mere pitaji ki wajah se hua hum bhi apna rehte the khud ka kam aana tha na paise ki lat lag gayi padhai ke saath saath dusro ko dekhte hue toh main paise kamana shuru kar diya padhai par dhyan kam diya hai na tu karna chahte the vaah nahi kar paye theek hai abhi naukri karte karte ke saath mein se delhi ki pitaji bimar ho gaye na apni shaving toh kuch karke chalte nahi the us waqt sikhne mein aa gaya toh bhai paise bachao theek hai aur dusri cheez jo hum kisi ko bhi serious nahi lete ho mere pitaji ne aaj tak mere bachpan se lekar aaj tak mili jo bhi kiya vaah har ek ek moment mujhe yaad aa gaya us din mere saamne aaye toh mere liye mere father hain aur sabhi ke pita apne bete ke liye bhajpa hi hote hain jo apne mata pita ki seva kare yaar wahi preranadayak hota wahi sanskar dete hain sab

मेरे लिए सबसे मेरे प्रेरणादायक जो कहानी है वह सब कुछ मेरे पिताजी हैं और मैं इतना सब होता ह

Romanized Version
Likes  6  Dislikes    views  128
WhatsApp_icon
user

Phool Kanwar

Business Owner

3:54
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

ऐसी कोई प्रेरणादायक कहानी यह वाक्य बताएं जिसने आपके जीवन को बदल दिया जरूर मैं बता सकता हूं मैंने किसी अपने सीनियर से कहानी सुना था एक किसान का उस किसान की कहानी है थी यह किसान होता है जो अपने क्षेत्र को बहुत अच्छे से रखता ही टाइप होता है करके फसल लगता है काफी प्रयास करने के बाद उसकी फसल हरी भरी होती थी तो शीशा उसका जीवन रोटी रोजी रोटी चलता था लेकिन एक बार उस गांव के अंदर अकाल पड़ जाता है जिसके कारण बहुत सारे लोग भुखमरी भुखमरी के कगार पर आ जाते हैं अनाज पैदा होता नहीं है इधर-उधर आदमी कमाने के लिए चला जाता है लेकिन वह जो किसान अपने खेत में जाता था उसको छोटा तक एक बार देखो किसान वहीं से गुजर रहा था तो आपने बैठक खेत को निहार रहा था उसने देखा कि एक राहगीर वहां से गुजरा और उसने अपने आम को जब मार्केट से उसने आम खरीदा था उसी आम को खाने के बाद उसकी पुत्री को उस खेत में फेंक दिया पकने के बाद 10 दिन 12 दिन तक किसान एशिया तारा जातारा तो देखा कि महीना गेट महीने के बाद उस को कड़ी से अंकुर फूटा एक पेड़ निकला और एक अंकुर फूटने के बाद उसकी टहनियां पड़ने लगी और 1 दिन हो जा कर बहुत बड़ा पेट भर गया इस कहानी से हमें एक निष्कर्ष एक बहुत ही अच्छा मोटिवेशन यह मिला था अगर हम प्रयास करेंगे चाहे हमारे जीवन में कितनी भी समस्या है हमारे जीवन में कितनी भी प्रॉब्लम साए इकोनामी प्रॉब्लम हो सकती है घर परिवार की प्रॉब्लम हो सकती है कर्ज की प्रॉब्लम हो सकती है और बहुत सारी प्रॉब्लम हमारे जीवन में आ सकते लेकिन अगर हम ट्राई करना बंद ना करें कोशिश करते रहे कि हमें अपने जीवन को बदलना है निश्चित तौर पर हम उसको बदल सकते हो मैं भी एक साधारण किसान फैमिली से बिलोंग करता हूं मेरे भी अपने कुछ सपने थे परिवार के सपने उम्मीदें तो मैंने भी सोचा कि मैं अपने जीवन में कुछ करो और मैंने जब एक्सप्रेस डेवलपमेंट किया मार्केटिंग लाइन से मैं डोर टू डोर जाकर मार्केटिंग करता था तेरी लगाता था तो बहुत सारे लोगों के कमेंट सुनने को मुझे मिलती थी कोई कहता था आर्मी ज्वाइन कर लो कोई कहता था लेकिन कहते हैं कि लक्ष्य निर्धारित होता है इंसान वही प्रिया सच्चे मन से करता मैंने प्रयास किया और आज मेरे पास उनका अपना एक ऑफिसर खुद का एक मार्केटिंग का ऑफिस है हर आदमी उसी कोशिश के बारे में कामयाब हुआ दोस्त यही एक कहानी थी जो मैंने किसान के माध्यम से अपने जीवन को बदला

aisi koi preranadayak kahani yah vakya bataye jisne aapke jeevan ko badal diya zaroor main bata sakta hoon maine kisi apne senior se kahani suna tha ek kisan ka us kisan ki kahani hai thi yah kisan hota hai jo apne kshetra ko bahut acche se rakhta hi type hota hai karke fasal lagta hai kaafi prayas karne ke baad uski fasal hari bhari hoti thi toh shisha uska jeevan roti rozi roti chalta tha lekin ek baar us gaon ke andar akaal pad jata hai jiske karan bahut saare log bhukhmari bhukhmari ke kagar par aa jaate hain anaaj paida hota nahi hai idhar udhar aadmi kamane ke liye chala jata hai lekin vaah jo kisan apne khet me jata tha usko chota tak ek baar dekho kisan wahi se gujar raha tha toh aapne baithak khet ko nihar raha tha usne dekha ki ek rahgir wahan se gujara aur usne apne aam ko jab market se usne aam kharida tha usi aam ko khane ke baad uski putri ko us khet me fenk diya pakne ke baad 10 din 12 din tak kisan asia tara jatara toh dekha ki mahina gate mahine ke baad us ko kadi se ankur futa ek ped nikala aur ek ankur futane ke baad uski tahniyan padane lagi aur 1 din ho ja kar bahut bada pet bhar gaya is kahani se hamein ek nishkarsh ek bahut hi accha motivation yah mila tha agar hum prayas karenge chahen hamare jeevan me kitni bhi samasya hai hamare jeevan me kitni bhi problem saye economy problem ho sakti hai ghar parivar ki problem ho sakti hai karj ki problem ho sakti hai aur bahut saari problem hamare jeevan me aa sakte lekin agar hum try karna band na kare koshish karte rahe ki hamein apne jeevan ko badalna hai nishchit taur par hum usko badal sakte ho main bhi ek sadhaaran kisan family se belong karta hoon mere bhi apne kuch sapne the parivar ke sapne ummeeden toh maine bhi socha ki main apne jeevan me kuch karo aur maine jab express development kiya marketing line se main door to door jaakar marketing karta tha teri lagaata tha toh bahut saare logo ke comment sunne ko mujhe milti thi koi kahata tha army join kar lo koi kahata tha lekin kehte hain ki lakshya nirdharit hota hai insaan wahi priya sacche man se karta maine prayas kiya aur aaj mere paas unka apna ek officer khud ka ek marketing ka office hai har aadmi usi koshish ke bare me kamyab hua dost yahi ek kahani thi jo maine kisan ke madhyam se apne jeevan ko badla

ऐसी कोई प्रेरणादायक कहानी यह वाक्य बताएं जिसने आपके जीवन को बदल दिया जरूर मैं बता सकता हूं

Romanized Version
Likes  2  Dislikes    views  71
WhatsApp_icon
user

Ravi Sharma

Accountant

5:00
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

मैं पहले क्रिकेटर के बर्तन मंत्र मुझे एक बहुत अच्छे से याद करते हैं तो हम लोगों की भाषा शैली उच्चारण दोष है जज्बात जज्बात को जज्बात मुक्त भी होते हैं उड़ते हुए लगाकर फिल्म कम तो यह मेरी शादी थी बहुत ही पूर्ण कि मैं नाटक करते-करते चार-पांच साल हो गए लेकिन अपने दोस्त में मुझे आज भी याद है कि संगीत प्राथमिक की एक व्हाट्सएप लगी थी हमारे यहां पर बस अब मैं नहीं पट से पेंट किया था टॉप में जो हमारे गुरु जी आए थे श्री पंच थाना जी तो शायद मेरे सर से व्हाट्सएप को बीते 3 या 400 दिन हो गए थे उसी समय एक एक शब्द को 10 बार विश्वास करके विक्रम दोस्त एक कमी है ज्यादा करें तो भी शायद उतना अच्छा नहीं कर पाते हमारे को कुछ ना करें सेक्स आज भी याद है कि 22 लोग थे व्हाट्सएप में नैतिक रसायन के फायदे और एक ऐड करके चुका उन्होंने कुछ शब्दों तक माफ किया हुआ मोनू मिली फिर उसे समझाया कि मैंने बोलना है यह तरीका कर दिया था मुझे नहीं मालूम था कि 2 दिन बाद वही पैराग्राफ मेरी जिंदगी में फिर से आए उसी पैराग्राफ को उन्होंने मुझसे दोबारा या 2 दिन के बाद पारदेसी मेरी गलतियां वही की माहिती इसके बाद पुलिस थाना जी ने ब्लाक करके मुझे सब लोगों के सामने नातेदार पड़ती है अब शादी करेंगे उन्होंने मुझसे एक बात कही कि तुम चैट अब छोड़ दो चैटिंग नहीं है तुम्हारे लाइफ शायद उसी पर की वजह से कह दीजिए मैंने कहा ना क्योंकि एक गंदी आदत होती है कि उनको कोई पोस्ट नहीं करता तब तक हम कुछ सीखने की कोशिश नहीं करते उसको पढ़ने मेरी जिंदगी पर ऐसा बदला कभी जब मैं आपसे बात कर रहा हूं तो शायद आप लोगों को भी लगेगा कि आज मेरी भाषा शादी उस दिन से इस बात को 25 25 से 30 तक साउथ बी सी का 25 साल 25 साल उस दिन से लेकर आज तक आशा एक कमांड के आकाशवाणी आश्रम में गुरुजी की वजह से आज मैं जो भी सीख पाया हूं थोड़ा बहुत थैंक यू

main pehle cricketer ke bartan mantra mujhe ek bahut acche se yaad karte hain toh hum logo ki bhasha shaili ucharan dosh hai jazbaat jazbaat ko jazbaat mukt bhi hote hain udte hue lagakar film kam toh yah meri shaadi thi bahut hi purn ki main natak karte karte char paanch saal ho gaye lekin apne dost me mujhe aaj bhi yaad hai ki sangeet prathmik ki ek whatsapp lagi thi hamare yahan par bus ab main nahi pat se paint kiya tha top me jo hamare guru ji aaye the shri punch thana ji toh shayad mere sir se whatsapp ko bite 3 ya 400 din ho gaye the usi samay ek ek shabd ko 10 baar vishwas karke vikram dost ek kami hai zyada kare toh bhi shayad utana accha nahi kar paate hamare ko kuch na kare sex aaj bhi yaad hai ki 22 log the whatsapp me naitik rasayan ke fayde aur ek aid karke chuka unhone kuch shabdon tak maaf kiya hua monu mili phir use samjhaya ki maine bolna hai yah tarika kar diya tha mujhe nahi maloom tha ki 2 din baad wahi Paragraph meri zindagi me phir se aaye usi Paragraph ko unhone mujhse dobara ya 2 din ke baad pardesi meri galtiya wahi ki mahiti iske baad police thana ji ne block karke mujhe sab logo ke saamne natedar padti hai ab shaadi karenge unhone mujhse ek baat kahi ki tum chat ab chhod do chatting nahi hai tumhare life shayad usi par ki wajah se keh dijiye maine kaha na kyonki ek gandi aadat hoti hai ki unko koi post nahi karta tab tak hum kuch sikhne ki koshish nahi karte usko padhne meri zindagi par aisa badla kabhi jab main aapse baat kar raha hoon toh shayad aap logo ko bhi lagega ki aaj meri bhasha shaadi us din se is baat ko 25 25 se 30 tak south be si ka 25 saal 25 saal us din se lekar aaj tak asha ek command ke aakashwani ashram me guruji ki wajah se aaj main jo bhi seekh paya hoon thoda bahut thank you

मैं पहले क्रिकेटर के बर्तन मंत्र मुझे एक बहुत अच्छे से याद करते हैं तो हम लोगों की भाषा श

Romanized Version
Likes  5  Dislikes    views  95
WhatsApp_icon
user

Kavita Panyam

Certified Award Winning Counseling Psychologist

3:18
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

मेरी जिंदगी में मेरे भाई आने की लेट मिलिट्री श्यामसुंदर उनकी कहानी और उनके लाइफ की जो बातें हैं उन्होंने मुझे बहुत प्रेरित किया है अल्टन्यू शार्ट मेरे भाई एक बहुत ही यंग बनी समीर ओल्ड आर्मी ऑफिसर था इन्फेंट्री ऑफिसर और पहले से बहुत ही ब्रेव उन्होंने काफी सर्जिकल स्ट्राइक कैरी आउट किया था single-handedly इन एलओसी कुवाड़ा मचल सेक्टर की बहुत ही नोटोरियस है विक्रांत सैन सुनो वहां पर कोई भी चौकस भी नहीं उड़ते हैं बगहा का मौसम बहुत खराब रहता है तो एवरीथिंग बाय फोटो नहीं करना पड़ता है तो वहां पर मेंटेनेंस में मेरे भाई सेटिंग कमांडर से इन मचल कुपवाड़ा सेक्टर जैन के और 1 दिन रेस्क्यू ऑपरेशंस के बाद आते वक्त मुझे सुनो पेट में सारे पलटन के जवान गिर गए थे उन्होंने पूरा रात जो है उन को बाहर निकाला उसका उसका खाई में से इसकी वजह से उनके लंच में समय चला गया और वह बीमार हो गए उनको आर्मी से लीव नहीं मिला दे उस वक्त वहां पर कोई नहीं था उसी कंडीशन में हो सर्जिकल स्ट्राइक करते रहे मुझे प्लीज मिला और जब वह आए तो देखा कि वहां पर चॉपर नहीं है तो 30 स्क्वेयर फिट हो पैदल उतरे उत्सव पहाड़ से पोस्ट से और वह जो कि बहुत ही इंपॉर्टेंट लेके सीक्रेट कंडीशन में उतरे उनका लंच में हेमरेज हो गया और बड़े टाइम हीरीच तो उनको कैंसर डायग्नोसिस जो कि पहले टीवी था और वो टाइम पर ट्रीटमेंट नहीं मिल पाया था तो खुद को उस वक्त जैन के में लाइन ऑफ कंट्रोल में थी बता दो भाई थे वह सिर्फ इतना सारा पैसा जो है अपने जो जवान है उनके पैरंट्स के ट्रीटमेंट के लिए पढ़ाई के लिए शादियों के लिए जो चाहे वह सब दे देते थे इससे बड़ी काफी लोगों की जान बचाई अपनी जान पर खेलकर हमेशा दूसरों के लिए उन्होंने उनकी जान बचाई बस ब्रेव ऑफिसर और जब वह कमांड हॉस्पिटल पुणे में थे तो वह जितने 6 महीने वहां पर थे सारे पेशेंट को जाकर हर एक वार्ड में उनसे बात करके गेम खेलकर कैरम बोर्ड कैसे हो गया उनके माता-पिता से बात करके रोते हुए वाइफ और फैमिली को सहारा दिया खुद ही इंसान जो जाने वाला है दूसरों को सहारा दिया और जो लोग उनसे मिलने आए थे प्रिंस लेटेस्ट उन्होंने मेरे मेरे भाई नमस्कार इन सबको एक-एक रिटर्न गिफ्ट दे देना उनके 24 का वह सब में उनके जाने के बाद सब को गिफ्ट दिया इसमें और जाने से पहले मेरे भाई ने मेरे पेरेंट्स का हाथ जो है मेरे हाथ में दिया डॉक्टर ने नर्स को बुलाया सबको थैंक यू बोला सब को गिफ्ट दिए और परमिशन लेकर गया यह कहानी एक ऐसे ब्रेव यंग आर्मी ऑफिसर की है जो एक्जामबाश सोल्जर था जिसमें सर्जिकल स्ट्राइक्स कैरी आउट करंट इवेंट्स सेक्स में उस वक्त मीडिया का कवरेज नहीं था वरना मेरा भाई डेफिनेटली वोडाफोन टीवी लेकिन एक कंपास नेटबीन जिसने हमेशा अपना इमोशन हेल्प सेंटी हो आइए में हो हमेशा सबकी मदद की इन द लास्ट डे इन हॉस्पिटल कमांड हॉस्पिटल में दूसरे पेशेंट को जाकर उनको सपोर्ट करना उनके आंसू पोछना उनके कटर आंसू पोछना ऐसे इंसान मैंने कहीं नहीं देखा है और मेरे भाई कहीं काम में आगे लेकर जा रही हूं चंद्रयान वोकल इंडिया टो हेल्प एवरीबॉडी हम दोनों का यही लाइफ परपस है कि दूसरों की मदद करें दूसरों के प्रॉब्लम से है उसको सॉल्व करें सोम वेरी प्राउड टू बी मेजर श्यामसुंदर सिस्टर

meri zindagi mein mere bhai aane ki late miltary shyamsundar unki kahani aur unke life ki jo batein hai unhone mujhe bahut prerit kiya hai altanyu shaart mere bhai ek bahut hi young bani sameer old army officer tha infentri officer aur pehle se bahut hi brave unhone kaafi surgical strike carry out kiya tha single handedly in loc kuvada machal sector ki bahut hi notoriyas hai vikrant sain suno wahan par koi bhi chaukas bhi nahi udte hai bagaha ka mausam bahut kharab rehta hai toh everything bye photo nahi karna padta hai toh wahan par Maintenance mein mere bhai setting commander se in machal kupawaada sector jain ke aur 1 din rescue apareshans ke baad aate waqt mujhe suno pet mein saare paltan ke jawaan gir gaye the unhone pura raat jo hai un ko bahar nikaala uska uska khai mein se iski wajah se unke lunch mein samay chala gaya aur vaah bimar ho gaye unko army se leave nahi mila de us waqt wahan par koi nahi tha usi condition mein ho surgical strike karte rahe mujhe please mila aur jab vaah aaye toh dekha ki wahan par chopper nahi hai toh 30 square fit ho paidal utare utsav pahad se post se aur vaah jo ki bahut hi important leke secret condition mein utare unka lunch mein hemrej ho gaya aur bade time hirich toh unko cancer diagnosis jo ki pehle TV tha aur vo time par treatment nahi mil paya tha toh khud ko us waqt jain ke mein line of control mein thi bata do bhai the vaah sirf itna saara paisa jo hai apne jo jawaan hai unke Parents ke treatment ke liye padhai ke liye shadiyo ke liye jo chahen vaah sab de dete the isse baadi kaafi logo ki jaan bachai apni jaan par khelkar hamesha dusro ke liye unhone unki jaan bachai bus brave officer aur jab vaah command hospital pune mein the toh vaah jitne 6 mahine wahan par the saare patient ko jaakar har ek ward mein unse baat karke game khelkar carrom board kaise ho gaya unke mata pita se baat karke rote hue wife aur family ko sahara diya khud hi insaan jo jaane vala hai dusro ko sahara diya aur jo log unse milne aaye the prince latest unhone mere mere bhai namaskar in sabko ek ek return gift de dena unke 24 ka vaah sab mein unke jaane ke baad sab ko gift diya isme aur jaane se pehle mere bhai ne mere parents ka hath jo hai mere hath mein diya doctor ne nurse ko bulaya sabko thank you bola sab ko gift diye aur permission lekar gaya yah kahani ek aise brave young army officer ki hai jo ekjamabash soldier tha jisme surgical strikes carry out current events sex mein us waqt media ka coverage nahi tha varna mera bhai definetli vodafone TV lekin ek compass netbin jisne hamesha apna emotion help centi ho aaiye mein ho hamesha sabki madad ki in the last day in hospital command hospital mein dusre patient ko jaakar unko support karna unke aasu pochna unke Cutter aasu pochna aise insaan maine kahin nahi dekha hai aur mere bhai kahin kaam mein aage lekar ja rahi hoon chandrayan vocal india toe help everybody hum dono ka yahi life parpas hai ki dusro ki madad kare dusro ke problem se hai usko solve kare Som very proud to be major shyamsundar sister

मेरी जिंदगी में मेरे भाई आने की लेट मिलिट्री श्यामसुंदर उनकी कहानी और उनके लाइफ की जो बाते

Romanized Version
Likes  943  Dislikes    views  13429
WhatsApp_icon
user

Dr. KRISHNA CHANDRA

Rehabilitation Psychologist

1:18
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

जब हमें ऐसा लगा कि मुझे उससे प्यार हो गया है प्रेम हो गया है लगाव हो गया है उसके लिए मैं चिंतन करने लगा हूं सोचने लगा हूं उसके अंदर उसी तक मेरा आकर्षण बढ़ रहा है बनता जा रहा है तो यह विचार सोच मेरे जीवन में परिवर्तन लाने की कोशिश करती है मेरे जीवन को परिवर्तित करने का सोच होती है हमारा किसी अपोजिट सेक्स के प्रति लगाव मेरे विकास के लिए भी बहुत आवश्यक है क्योंकि इसके द्वारा मुझे अपने अंदर झांकने समझने और तराशने के मौके मिलते हैं और हमको यह दर्शाने का कोई भी करना पड़ती है यहां मैं आपकी अंकुर हूं

jab hamein aisa laga ki mujhe usse pyar ho gaya hai prem ho gaya hai lagav ho gaya hai uske liye main chintan karne laga hoon sochne laga hoon uske andar usi tak mera aakarshan badh raha hai banta ja raha hai toh yah vichar soch mere jeevan mein parivartan lane ki koshish karti hai mere jeevan ko parivartit karne ka soch hoti hai hamara kisi opposite sex ke prati lagav mere vikas ke liye bhi bahut aavashyak hai kyonki iske dwara mujhe apne andar jhankane samjhne aur tarashane ke mauke milte hain aur hamko yah darshane ka koi bhi karna padti hai yahan main aapki ankur hoon

जब हमें ऐसा लगा कि मुझे उससे प्यार हो गया है प्रेम हो गया है लगाव हो गया है उसके लिए मैं च

Romanized Version
Likes  472  Dislikes    views  6651
WhatsApp_icon
user

Vinay Bhatia

Accountant

4:33
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

जीवन इंसान का बदल जाता है कोई ऐसी कहानी हर इंसान के जीवन में आती है या सभा के आता है किसके जीवन को एकदम टर्न ऑफ हो जाता है मैं आपको एक बताता हूं मैं पढ़ा लिखा इंसान हूं जॉब भी करता हूं और मैं भाग्य को कभी मना करता था ना ही नहीं सोचता था कि भाग्य भी कोई चीज होती है मैं सोचता था काम भाग्य अपने कर्मों से बनाते हैं लेकिन जीवन में कभी-कभी ऐसे बाकी हो जाते हैं कि जो आपके जीवन की सारी रणनीति को बदल देते हैं मेरे एक जुड़वा बच्चे हुए एक लड़का और एक लड़की उससे पहले तक मैं बिल्कुल अपने आप को बहुत ऊंचा इंसान समझता था समझता था कि मैं बहुत कुछ कर लूंगा बहुत कुछ कर जाऊंगा और मैं किसी को भाग इस बारे में ही सोचता था कि मैं ऐसा करूंगा वैसा करूंगा लेकिन जब मेरे में जुड़वा बच्चे हो रहे हैं बच्चों से मेंटल रेटरडेशन था 6 महीने बाद जब मुझे पता चला दो जुड़वा बच्चों में से किस की प्रॉब्लम है थोड़ी तब मुझे मैं उसको ले गया हॉस्पिटल ले गया दिखाया मैंने तो पता चला कि यह तो मैं डिलीट डिलीट है उसके बाद मैं फ्रस्ट्रेशन में आ गया बहुत ज्यादा रजिस्ट्रेशन में इतना आ गया कि हम मैं बैठे-बैठे रोने लगता था उसका इलाज कर आता था और मुझे लगता था कि ऐसा मेरे साथ ऐसा क्यों हुआ लेकिन मेरे जीवन में डाल लेना शुरू कर दिया और मैं जब अस्पताल में जाता था दिखाने के लिए कि इस तरह की कराना क्योंकि उसका मैं एलिमेंट लेता मेंटल रेटरडेशन था तो वहां जाके जमाने लोगों को देखा कि 20 साल के बच्चे बच्चे साल के 33 साल के लोग लड़के लड़कियां भी हसीन हैं तो मेरे जीवनाचा में अचानक बदलाव आया मैंने उस चीज को नोट किया मैंने अपने ट्रस्ट रेशन को खत्म करने की कोशिश करी बहुत ज्यादा कोशिश करी और उसके बावजूद मैंने ठान लिया कि यह जो मैं देख रहा हूं मैं आगे और पेरेंट्स को भी इंची इसमें लाभ पहुंचाने की कोशिश करूंगा उसके बाद मैंने एक संस्था बनाई 2000 अपने जबेरा बच्चा जो 4511 साल का था लगभग 2 किमी लोगों के साथ मिलकर मैंने एक संस्था बनाई और आज 20 साल हो गए और मैं अकेले ही लोग चले गए छोड़ गए सब चले गए लेकिन आज भी 20 साल से मानसिक विकलांग बच्चों के पेरेंट्स के लिए बहुत काम कर रहा हूं मैं उनको उनके हक दिलाने की कोशिश करता हूं मैं उनको वह चीज बताता हूं जो मैंने जी लिया मैंने जो दो दशक में जितना मैंने संघर्ष किया है वह मैं उनको कोशिश करता हूं कि वह उनको चार-पांच साल में ही पूर्ण हो जाए शाम के लिए पेंशन बनाता हूं मैन के लिए सरकारी सुविधाओं की उपलब्धि कर आता हूं मैं उनके लिए सर्टिफिकेट बनवाने की गोद प्रोग्राम देता हूं सबको पेरेंट्स को और आज मैं अपने आपको इतना संतुष्ट माताओं की मेरी लाइफ बदल गई मैं सोचता हूं का अगर ही बेटा ना होता तो मैं पता नहीं कौन सी ही दुनिया में सोता रहता और अपनी जिंदगी भी खत्म कर देता लेकिन असली जीवन का अब तो मुझे जब पता चला जब मैं लोगों की हेल्प करता हूं रोते हुए लोग मेरे पास आते हैं उनके आंसू में पहुंचता हूं तो वह सो जाते हैं यही मेरे जीवन का सबसे बड़ा 1 पॉइंट है जिसको यह सभा क्या है जिसने मेरे पूरे जीवन को बदल कर रख दिया और मैं एक ऐसे स्थान पर पहुंच गया हूं कि मैं आज लोगों की भलाई में अपने पैसों से ना उनकी सेवा कर पा रहा हूं लेकिन अपने तन मन से उनकी सेवा करता हूं और जो रोते हुए आते हैं उनके आंसू बोलता हूं तो मेरे जीवन का सबसे बड़ा यही क्षण होता है कि मैं लोगों के किसी काम आ रहा हूं यही है मेरे जीवन का सार मेरा जन्म धन्य हो गया मैं आज अपने बेटे को पाकर मैं बिल्कुल दुखी नहीं हूं मैं चाहता हूं कि जैसे मैंने संघर्ष की हम लोग हो सदस्य करें और पेरेंट्स से बच्चों को पूरा टाइम दें और उनकी जिंदगी बनाने की कोशिश करें और कभी हिम्मत ना हारे तो यह निकली दो लक्ष्मण के लिए कहता हूं ना मुंह छुपा के जियो ना सर झुका के जियो गमों का दौर भी आए तो मुस्कुरा के जियो धन्यवाद मैं विनय भाटिया

jeevan insaan ka badal jata hai koi aisi kahani har insaan ke jeevan mein aati hai ya sabha ke aata hai kiske jeevan ko ekdam turn of ho jata hai aapko ek batata hoon main padha likha insaan hoon job bhi karta hoon aur main bhagya ko kabhi mana karta tha na hi nahi sochta tha ki bhagya bhi koi cheez hoti hai sochta tha kaam bhagya apne karmon se banate hai lekin jeevan mein kabhi kabhi aise baki ho jaate hai ki jo aapke jeevan ki saree rananiti ko badal dete hai mere ek judwa bacche hue ek ladka aur ek ladki usse pehle tak main bilkul apne aap ko bahut uncha insaan samajhata tha samajhata tha ki main bahut kuch kar lunga bahut kuch kar jaunga aur main kisi ko bhag is bare mein hi sochta tha ki main aisa karunga waisa karunga lekin jab mere mein judwa bacche ho rahe hai baccho se mental retaradeshan tha 6 mahine baad jab mujhe pata chala do judwa baccho mein se kis ki problem hai thodi tab mujhe main usko le gaya hospital le gaya dikhaya maine toh pata chala ki yah toh main delete delete hai uske baad main frustration mein aa gaya bahut zyada registration mein itna aa gaya ki hum main baithe baithe rone lagta tha uska ilaj kar aata tha aur mujhe lagta tha ki aisa mere saath aisa kyon hua lekin mere jeevan mein daal lena shuru kar diya aur main jab aspatal mein jata tha dikhane ke liye ki is tarah ki krana kyonki uska main element leta mental retaradeshan tha toh wahan jake jamane logo ko dekha ki 20 saal ke bacche bacche saal ke 33 saal ke log ladke ladkiyan bhi Haseen hai toh mere jivanacha mein achanak badlav aaya maine us cheez ko note kiya maine apne trust ration ko khatam karne ki koshish kari bahut zyada koshish kari aur uske bawajud maine than liya ki yah jo main dekh raha hoon main aage aur parents ko bhi inchi isme labh pahunchane ki koshish karunga uske baad maine ek sanstha banai 2000 apne jabera baccha jo 4511 saal ka tha lagbhag 2 kilometre logo ke saath milkar maine ek sanstha banai aur aaj 20 saal ho gaye aur main akele hi log chale gaye chod gaye sab chale gaye lekin aaj bhi 20 saal se mansik viklaang baccho ke parents ke liye bahut kaam kar raha hoon main unko unke haq dilaane ki koshish karta hoon main unko vaah cheez batata hoon jo maine ji liya maine jo do dashak mein jitna maine sangharsh kiya hai vaah main unko koshish karta hoon ki vaah unko char paanch saal mein hi purn ho jaaye shaam ke liye pension banata hoon man ke liye sarkari suvidhaon ki upalabdhi kar aata hoon main unke liye certificate banwane ki god program deta hoon sabko parents ko aur aaj main apne aapko itna santusht mataon ki meri life badal gayi main sochta hoon ka agar hi beta na hota toh main pata nahi kaun si hi duniya mein sota rehta aur apni zindagi bhi khatam kar deta lekin asli jeevan ka ab toh mujhe jab pata chala jab main logo ki help karta hoon rote hue log mere paas aate hai unke aasu mein pahuchta hoon toh vaah so jaate hai yahi mere jeevan ka sabse bada 1 point hai jisko yah sabha kya hai jisne mere poore jeevan ko badal kar rakh diya aur main ek aise sthan par pohch gaya hoon ki main aaj logo ki bhalai mein apne paison se na unki seva kar paa raha hoon lekin apne tan man se unki seva karta hoon aur jo rote hue aate hai unke aasu bolta hoon toh mere jeevan ka sabse bada yahi kshan hota hai ki main logo ke kisi kaam aa raha hoon yahi hai mere jeevan ka saar mera janam dhanya ho gaya main aaj apne bete ko pakar main bilkul dukhi nahi hoon main chahta hoon ki jaise maine sangharsh ki hum log ho sadasya kare aur parents se baccho ko pura time de aur unki zindagi banane ki koshish kare aur kabhi himmat na hare toh yah nikli do lakshman ke liye kahata hoon na mooh chupa ke jio na sir jhuka ke jio gamon ka daur bhi aaye toh muskura ke jio dhanyavad main vinay bhatia

जीवन इंसान का बदल जाता है कोई ऐसी कहानी हर इंसान के जीवन में आती है या सभा के आता है किसके

Romanized Version
Likes  10  Dislikes    views  156
WhatsApp_icon
user
3:21
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

हमारे गुरुजी का करते थे कि बच्चों जीवन में जब भी प्रेरणा की कमी हो जाए तो एक कहानी सुनाता हूं इस कहानी को लिखकर अपने पास रख लो फिर आने जो समय आएगा तो इस कहानी को जिस तरीके से भी तुम बदल कर लोगों के सामने रख सको रखना मैं तुम्हारे लिए भी प्रेरणा होगा और हमारे लिए भी प्रेरणा होगा और जो नए लोग हैं उनके लिए देख प्रेरणा का माध्यम बनेगा काफी पुराना गाना है कि 1 दिन बिक जाएगा माटी के मोल जग में रह जाएंगे प्यारे तेरे बोल दूजे के होठों को देखकर अपने गीत कोई कहानी बोल फिर दुनिया से बोल 1 दिन बिक जाएगा माटी के मोल तुझे बहुत ही पुरानी मूवी है अगर आप यह मूवी देखेंगे मूवी की शुरुआत में गायक ने यह गाना दिया लेखक मिलेगा नदी और मूवी के आखिर में जब वह निराशावादी हो जाता है किसी बात से तो वह आत्महत्या करने का सोचता है और सोचते-सोचते जाते जाते जाते एक जगह पर पहुंचता है तो उसके कानों तक कुछ आवाज पहुंचती है बच्चों की और वह बच्चे उसी का लिखा हुआ यह गाना गा रहे होते 1 दिन बिक जाएगा माटी के मोल जग में रह जाएंगे प्यारे तेरे बोल और उस इंसान को अपने ही गाना से फिर से प्रेरणा मिलती है और वह अपना नया जीवन शुरू करता है तो अब इससे हमें यह सीखने को मिलता है कि दुनिया में कोई ऐसी कहानी जो आपको प्रेरणा दे सकती है तो सिर्फ आप ही की कहानी और दुनिया में कोई ऐसी कहानी जो आपको निराशावादी कर सकती है तो वह आप ही की कहानी है आप हर रोज अपने आप को क्या कहते हैं वही आपके लिए आपके लिए हकीकत में आप की कहानी बनती है और आपकी कहानी ही तय करेगी कि आप जीवन में सकारात्मक रहेंगे या नकारात्मक रहेंगे आशा करता हूं यह गाने के बोल आप तभी सुनेंगे इसका लाभ भी उठाएंगे और अपने जीवन को याद करके दोहराएंगे कि ऐसी कौन सी बातें जिससे मैं खुद से प्रेरणा ले सकता हूं ऐसी बहुत सारी घटनाएं छोटी-छोटी भी हमने की है जीवन में जिससे हमें प्रेरणा मिले तो आप अपने जीवन की घटनाओं की प्रेरणा से अपने आप को आगे बढ़ाइए और नई नई घटनाएं होती रहेंगी नई नई प्रेरणा आप खुद ही अपने आप को देते रहेंगे आशा करता हूं कि मैं आपके सवाल का जवाब आपको संतुष्टि पूर्वक दिया खुश रहे आबाद रहे आप को मेरा प्रेम पूर्वक धन्यवाद

hamare guruji ka karte the ki baccho jeevan mein jab bhi prerna ki kami ho jaaye toh ek kahani sunata hoon is kahani ko likhkar apne paas rakh lo phir aane jo samay aayega toh is kahani ko jis tarike se bhi tum badal kar logo ke saamne rakh Sako rakhna main tumhare liye bhi prerna hoga aur hamare liye bhi prerna hoga aur jo naye log hai unke liye dekh prerna ka madhyam banega kaafi purana gaana hai ki 1 din bik jaega mati ke mole jag mein reh jaenge pyare tere bol dooje ke hothon ko dekhkar apne geet koi kahani bol phir duniya se bol 1 din bik jaega mati ke mole tujhe bahut hi purani movie hai agar aap yah movie dekhenge movie ki shuruat mein gayak ne yah gaana diya lekhak milega nadi aur movie ke aakhir mein jab vaah nirashavaadi ho jata hai kisi baat se toh vaah atmahatya karne ka sochta hai aur sochte sochte jaate jaate jaate ek jagah par pahuchta hai toh uske kanon tak kuch awaaz pohchti hai baccho ki aur vaah bacche usi ka likha hua yah gaana ga rahe hote 1 din bik jaega mati ke mole jag mein reh jaenge pyare tere bol aur us insaan ko apne hi gaana se phir se prerna milti hai aur vaah apna naya jeevan shuru karta hai toh ab isse hamein yah sikhne ko milta hai ki duniya mein koi aisi kahani jo aapko prerna de sakti hai toh sirf aap hi ki kahani aur duniya mein koi aisi kahani jo aapko nirashavaadi kar sakti hai toh vaah aap hi ki kahani hai aap har roj apne aap ko kya kehte hai wahi aapke liye aapke liye haqiqat mein aap ki kahani banti hai aur aapki kahani hi tay karegi ki aap jeevan mein sakaratmak rahenge ya nakaratmak rahenge asha karta hoon yah gaane ke bol aap tabhi sunenge iska labh bhi uthayenge aur apne jeevan ko yaad karke dohraenge ki aisi kaun si batein jisse main khud se prerna le sakta hoon aisi bahut saree ghatnaye choti choti bhi humne ki hai jeevan mein jisse hamein prerna mile toh aap apne jeevan ki ghatnaon ki prerna se apne aap ko aage badhaiye aur nayi nayi ghatnaye hoti rahegi nayi nayi prerna aap khud hi apne aap ko dete rahenge asha karta hoon ki main aapke sawaal ka jawab aapko santushti purvak diya khush rahe aabaad rahe aap ko mera prem purvak dhanyavad

हमारे गुरुजी का करते थे कि बच्चों जीवन में जब भी प्रेरणा की कमी हो जाए तो एक कहानी सुनाता

Romanized Version
Likes  48  Dislikes    views  641
WhatsApp_icon
user

Brijpal Singh Chouhan

Sports Coach And Teacher

0:51
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

मेरी मम्मी जी ने एक दिन मेरे को कहानी सुनाई थी कि एक समुंदर होता है और एक घंटा होता है समुद्रों के अंदर से हम चाहे कितना भी पानी लेते हैं उसे कोई फर्क नहीं पड़ता है और खड्डे के अंदर थोड़ा सा पानी ले जाते तो खाली हो जाता मेरे को ही समझ में आ गया था कि वह क्या कहना चाह रहे हैं उन्होंने बोला कि चाय पानी इकट्ठा कितना भी लेकर जाए कोई फर्क नहीं पड़ता है खड्डे में खड्डे बनने से कोई मतलब नहीं है

meri mummy ji ne ek din mere ko kahani sunayi thi ki ek samundar hota hai aur ek ghanta hota hai samundro ke andar se hum chahen kitna bhi paani lete hain use koi fark nahi padta hai aur khadde ke andar thoda sa paani le jaate toh khaali ho jata mere ko hi samajh mein aa gaya tha ki vaah kya kehna chah rahe hain unhone bola ki chai paani ikattha kitna bhi lekar jaaye koi fark nahi padta hai khadde mein khadde banne se koi matlab nahi hai

मेरी मम्मी जी ने एक दिन मेरे को कहानी सुनाई थी कि एक समुंदर होता है और एक घंटा होता है समु

Romanized Version
Likes  4  Dislikes    views  139
WhatsApp_icon
user

Yog Guru Gyan Ranjan Maharaj

Founder & Director - Kashyap Yogpith

2:08
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

आपका क्वेश्चन है ऐसी कोई प्रेरणादायक कहानी यह बात क्या बताएं जिसने आपके जीवन को बदल कर रख दिया हो तो मैं बहुत लंबा कोई सच्ची में नहीं जाना चाहूंगा लेकिन संक्षिप्त एक बात मैं अपने जीवन का बताना चाह रहा हूं कि मैं 10 या 12 साल का मेरा एक होगा मैं उसी समय से कहा ना जाने कहां से हमको प्रेरणा मिली मेहक का कुछ न कुछ आसन करते रहता था मां बाप से छुपके दरवाजा बंद करके करते रहता था आसनों मेरा प्रणाम करते रहता था मेरी मां और मेरे पिताजी मुझे खाने के लिए खोजते रहते थे मैं खाने से भी ज्यादा महत्व क्यों खो देता था कितने बार स्लो खोजते खोजते परेशान हो जाते थे बाहर खोज देते दोसर कोसते थे खोज कर थक जाते थे फिर जाकर घर में क्योंकि बहुत बछड़ा मेरा घर है बहुत से अमेरिका घर पर खोजते रहते थे फिर अपना एक आध घंटे के बाद कुत्ता लगता किसी रूम में मैं हूं कुछ अधिक क्या करता था क्या मैं कुछ नहीं बताता था लेकिन धीरे धीरे धीरे धीरे करते करते करते करते मैं देखा कि हमारे शरीर पर मेरे मन पर मेरे मस्तिष्क में काफी परिवर्तन दिख रहा है मैं उस चीज को अपने जीवन का अभिन्न अंग बना लिया और मैं उस चीज को अपना लिया आज मेरे लिए मेरे समाज के लिए या मेरे परिवार के लिए बहुत बड़ी छाती योग के द्वारा हमें मिली उस समय को मैं धन्यवाद देना चाहूंगा जिस समय मैं चुप चुप के योग किया करता था धन्यवाद

aapka question hai aisi koi preranadayak kahani yah baat kya bataye jisne aapke jeevan ko badal kar rakh diya ho toh main bahut lamba koi sachi mein nahi jana chahunga lekin sanshipta ek baat main apne jeevan ka bataana chah raha hoon ki main 10 ya 12 saal ka mera ek hoga main usi samay se kaha na jaane kahaan se hamko prerna mili mehak ka kuch na kuch aasan karte rehta tha maa baap se chupke darwaja band karke karte rehta tha aasanon mera pranam karte rehta tha meri maa aur mere pitaji mujhe khane ke liye khojate rehte the main khane se bhi zyada mahatva kyon kho deta tha kitne baar slow khojate khojate pareshan ho jaate the bahar khoj dete dosar koste the khoj kar thak jaate the phir jaakar ghar mein kyonki bahut bachada mera ghar hai bahut se america ghar par khojate rehte the phir apna ek adh ghante ke baad kutta lagta kisi room mein main hoon kuch adhik kya karta tha kya main kuch nahi batata tha lekin dhire dhire dhire dhire karte karte karte karte main dekha ki hamare sharir par mere man par mere mastishk mein kaafi parivartan dikh raha hai us cheez ko apne jeevan ka abhinn ang bana liya aur main us cheez ko apna liya aaj mere liye mere samaj ke liye ya mere parivar ke liye bahut badi chhati yog ke dwara hamein mili us samay ko main dhanyavad dena chahunga jis samay main chup chup ke yog kiya karta tha dhanyavad

आपका क्वेश्चन है ऐसी कोई प्रेरणादायक कहानी यह बात क्या बताएं जिसने आपके जीवन को बदल कर रख

Romanized Version
Likes  30  Dislikes    views  945
WhatsApp_icon
user

HIMANSHU SINGH

Educator And Career Guidance For Student

2:47
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

देखिए मेरे जीवन में तो कोई ऐसी अभी ए मोटिवेशनल कहानी नई घटित हुई है ऐसी कोई भी घटना नहीं हुआ है यह मेरे पिताजी की यह बात मुझे हमेशा सीखने को मिलती है कि वह बता रहे थे कि उनके घर के घर भी नहीं था मतलब एक कमरा था उसके पर पड़ी पड़ी थी और उस पर पानी टपकता रहता था दूसरा कि उनको सबसे चौकानेवाले बाद मुझे तब लगी जब उन्होंने मुझे यह बताया कि मैंने पूरे पैसे कूड़े का जोड़ा ना होता है वहां से छूते उठाकर पहले तो यह बात मुझे हमेशा उनकी प्रभावित करती है और आज मैं 40000 का जूता पहनता हूं और 20 25 हजार का मोबाइल चलाता हूं यह सब उन्हीं के लिए है तो मैं उनसे बहुत प्रभावित होता हूं और उन्होंने ही मेरी कहीं भी कई जिंदगी भर ली है उन्होंने जो 1012 15 साल में अपने आप को अच्छी उपकरणों ने जो बनाया अपने आपको वह काबिले तारीफ है क्योंकि आपको सोचो कि जो बंधन कूड़े मेरे जूते उठाकर पहनना है और उसके बच्चे खुद 4000 का जूता पहनते हजार का जूता करनी थी तो वह बंदा कहां होगा तो मैं उनसे बहुत प्रभावित होता और कहीं नगर उन्होंने ही मेरे जीवन को बदल दिया है ठीक है थैंक यू और यह बाद में बहुत शौक से ज्यादा तो मुझे बताता हूं बड़ा अच्छा लगता कि मेरे पापा ने ऐसा किया मैं उनका द फ्रेंड भी नहीं कर पाया बेटा लेकिन हां मेरी कोशिश यही रहेगी कि आगे उनके श्री कृष्ण कुमार जी मैंने भी यही चाहते हैं कि मुझसे ज्यादा कुछ नहीं चाहते मसूरी चाहते हैं कि मैं कुछ खुशी तुमको बस बाकी कुछ ज्यादा कुछ मुझसे नहीं चाहते धन्यवाद

dekhiye mere jeevan mein toh koi aisi abhi a Motivational kahani nayi ghatit hui hai aisi koi bhi ghatna nahi hua hai yah mere pitaji ki yah baat mujhe hamesha sikhne ko milti hai ki vaah bata rahe the ki unke ghar ke ghar bhi nahi tha matlab ek kamra tha uske par padi padi thi aur us par paani tapakta rehta tha doosra ki unko sabse chaukanevale baad mujhe tab lagi jab unhone mujhe yah bataya ki maine poore paise koode ka joda na hota hai wahan se chhute uthaakar pehle toh yah baat mujhe hamesha unki prabhavit karti hai aur aaj main 40000 ka juta pehanta hoon aur 20 25 hazaar ka mobile chalata hoon yah sab unhi ke liye hai toh main unse bahut prabhavit hota hoon aur unhone hi meri kahin bhi kai zindagi bhar li hai unhone jo 1012 15 saal mein apne aap ko achi upkarnon ne jo banaya apne aapko vaah kabile tareef hai kyonki aapko socho ki jo bandhan koode mere joote uthaakar pahanna hai aur uske bacche khud 4000 ka juta pehente hazaar ka juta karni thi toh vaah banda kahaan hoga toh main unse bahut prabhavit hota aur kahin nagar unhone hi mere jeevan ko badal diya hai theek hai thank you aur yah baad mein bahut shauk se zyada toh mujhe batata hoon bada accha lagta ki mere papa ne aisa kiya main unka the friend bhi nahi kar paya beta lekin haan meri koshish yahi rahegi ki aage unke shri krishna kumar ji maine bhi yahi chahte hain ki mujhse zyada kuch nahi chahte masoori chahte hain ki main kuch khushi tumko bus baki kuch zyada kuch mujhse nahi chahte dhanyavad

देखिए मेरे जीवन में तो कोई ऐसी अभी ए मोटिवेशनल कहानी नई घटित हुई है ऐसी कोई भी घटना नहीं ह

Romanized Version
Likes    Dislikes    views  20
WhatsApp_icon
user

Vikas Singh

Political Analyst

9:32
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

आपका सवाल है कि ऐसी कोई प्रेरणादायक कहानी या वाक्य बताएं जिसने आपके जीवन को बदल दिया हो दिखे श्रीरामचरितमानस को जो पढ़ लिया पढ़ने के बाद जो देख लिया और देखने के बाद जो श्रीरामचरितमानस को जान लिया उसकी जिंदगी पक्का बदल जाएगी हम यह नहीं कहते कि पूरी तरह से सत्य का ज्ञान हो जाएगा लेकिन वह व्यक्ति सत्य के पथ पर चलने लगेगा मैं आपको कहानी बताता हूं भगवान श्री राम की भगवान श्री राम अयोध्या के राजा घोषित किए जाते हैं अब कल के दिन वह राजा बनने वाले हैं राजा बनने वाले कोई भी व्यक्ति होगा तो बहुत खुश होगा इतना खुश होगा कि उसे नींद नहीं आएगी रात में लेकिन भगवान श्रीराम खुश नहीं होते हैं ज्यादा खुश नहीं होते हैं बड़े पुत्र के राजा दशरथ जी के राजा घोषित किए गए और राजा के लायक विद थे खुश नहीं होते हैं ज्यादा तब तक 2 घंटा एक घंटा पहले उनको वनवास जाने का आदेश मिल जाता है अपने पिता के माध्यम से तो भगवान श्रीराम तुरंत गेरुआ वस्त्र पहनते हैं और कहते हैं कि मैं पापा से आज्ञा लेते हैं अपने पिताजी से कहते कि मैं बनवास जा रहा हूं दुखी नहीं होते हैं ताजा बनने वाले हैं खुश नहीं होते हैं और बनवा निकलते हैं तो दुखी नहीं होते हैं बनवास में जाते हैं तो आपने देखा होगा कितना कष्ट सहना पड़ता है उनको माताजी क्या कारण हो जाता है माता सीता का हरण होता है तो अपने धैर्य को नहीं खोते हैं आज के डेट में बेटा अगर किडनैप हो जाए ना तो परिवार वाले खाना खाना बंद कर देंगे रोना स्टार्ट करेंगे लेकिन भगवान श्रीराम कितने धैर्यवान हैं उनकी पत्नी का हरण होता है उसके बाद वह अपने धारी को खोते नहीं है दूसरा भाई रहता ना तो अपने छोटे भाई को खूब गाली देता आज आपका आपके घर कोई मेंबर है मार्केट में फस जाए रात हो जाए उसका फोन स्विच ऑफ हो जाए तो बड़ा भाई छोटे भाई को गाली देने लगेगा कि तुझे मैंने बोला था ना कि उसके साथ जा तू नहीं गया तो कह गया क्या रे वह उसने बोला कि वह अकेले ही जाएगा मैं क्या करता हूं कि बड़ा भाई उसे रात भर गाली देगा अपना धैर्य खो देते हैं आज के समय के लोग लेकिन भगवान श्रीराम ने अपना धैर्य नहीं खोया लक्ष्मण जी से बोला चलो कोई बात नहीं है भगवान श्रीराम ने बोला कि चलो ढूंढते हैं और 2 से 25 से पेड़ पौधों से पूछते हैं कि सीता कहां है कि रास्ता अपने आप बनता जाता है घूमते रहते हैं बेचारे धैर्य बनाकर रखते हैं तो फिर हनुमान जी से उनकी मुलाकात होती है फिर हनुमान जी उनको सुखदेव जी के ले जाते हैं सुग्रीव से भगवान श्रीराम प्रॉमिस करते हैं कि बाली ने आपके साथ नाइंसाफी की है बाली को मारा जाएगा बाली को मारते हैं हनुमान जी को भगवान श्रीराम भेजते हैं लंका लंका भेजते तो क्या बोलते हैं कि जाओ सीता का पता लगाकर आओ ठीक-ठाक है ना बस इतना ही बोलते हैं भगवान श्री राम आज की डेट में अगर आप आपका घर कोई दुकान है कोई काम करने वाला व्यक्ति आपके दुकान पर अगर उसको आप भेजोगे सामान लेकर ₹5000 का सामान लेकर कि यहां से वहां पहुंचा दो 50 बार फोन करते हो कि भैया कहां पहुंचे पहुंचे कि नहीं अभी रास्ते में ही हो वह बोलेगा कि पहुंचने वाला हूं फिर फोन करोगे अभी कहां पहुंचे भैया आप टेंशन में हो जाते हो कि कहीं वह 5000 का सामान लेकर भाग न जाए कहीं भूल न जाए यानी आपको अपनी इन प्लाई के ऊपर भरोसा नहीं है भगवान श्रीराम ने तो कुछ नहीं बोला हनुमान जी से हनुमान जी को यह नहीं बोला था कि आप जाना तो लंका को जलाना यह करना सब कुछ करना कुछ नहीं बोला था उन्होंने बोला बस हाल-चाल लेकर आओ सीता कैसी हैं और लंका में जाने के बाद हनुमान जी ने क्या-क्या किया आप सभी लोग जानते हैं भगवान श्री राम जब अयोध्या में थे तो राजाराम कहलाए भगवान श्री राम जब जंगल गए तो मर्यादा पुरुषोत्तम भगवान श्रीराम का लाए तो कहने का तात्पर्य है कि हमें अपना धैर्य नहीं खोना चाहिए हमें अपने संस्कार नहीं खोने चाहिए हम कितना भी एजुकेटेड हो जाएं कितना भी कुछ आगे बढ़ जाए लेकिन अपने संस्कार को अपने विचार को कभी नहीं खोना चाहिए अपने धर्म की हमेशा रक्षा करनी चाहिए आज के डेट में पढ़ाई तो हिंदुस्तान में कर रहे हैं बच्चे कनाडा चले जा रहे हैं अमेरिका चले जा रहे हैं इटली चले जा रहे हैं अब वह भैया 1 साल के बाद आए अपने देश को जानते हैं क्या भाषा बोलते हैं करते हैं यहां पर कुछ नहीं रखा है इंडिया में सब बेकार है मजा तो उधर ही है अरे भैया आज बेकार हो गया इंडिया पढ़ाई भी यहीं पर किए इसी मिट्टी में जन्म लिए और कनाडा चले गए अमेरिका चले गए तो अब इंडिया खराब हो गया ऐसे लोगों से मैं बहुत नफरत करता हूं ऐसे लोगों से मैं बोलना चाहता हूं कि आप लोग ऐसी भाषा मत बोलिए देश प्रेम की भावना रखी है अपने अंदर क्योंकि देश प्रेम की भावना होना अति आवश्यक है आप अमेरिका गए हो कनाडा गए हो जापान गए हो इसी देश में इसी मिट्टी में पढ़ाई-लिखाई करके गए हो तो ऐसा होता है भगवान श्री राम की कहानी हमें बहुत कुछ प्रेरणा देती है रामायण को गहराई से जानना बहुत जरूरी है भाई चारा का जो संबंध मिलता है रामायण में देखने को मिलता है अब भारत जीते भारत जी को जब पता चला कि राम जी वनवास में चले गए हैं तो भरत जी क्या अपनी वाइफ से जाकर पूछते हैं कि बताइए मैं अपने भैया से मिलने जाऊं कि नहीं जाऊं लेकिन आज के डेट के जो भाई लोग हैं जानते हैं क्या करते हैं भाई भाई से अगर मिलने जाता है तो अपनी वाइफ से पहले पूछता है कि श्रीमती जी बताइए कि मैं अपने भाई से मिलने जाऊं कि नहीं तो श्रीमतीजी कर देती है कि नहीं मत जाओ तो नहीं जाते यार वाइफ कौन होती है भाईचारे का जो संबंध है खून का रिश्ता है खून का रिश्ता सबसे बड़ा रिश्ता होता है आपकी वाइफ तो दूसरे घर की होंगे ना तो क्या आप के भाईचारे के संबंध को तोड़ देंगे नहीं उनको इतना अधिकार मत दीजिए कि आपको आपके भाई से अलग कर दें कोई भी चीज अपनी वाइफ से पूछिए मत रामायण को अगर आपने जान लिया तो समझ नहीं दिया अपने जीवन को जान लिया रामायण सब कुछ है हम लोग रामायण को एक धार्मिक ग्रंथ मानते हैं अमेरिका और यूरोप की यूरोपियन जितना भी कंट्री है और रामायण और महाभारत को साइंस की किताब मानता है वह सब रिसर्च करते हैं महाभारत और रामायण के ऊपर इसलिए वह डिवेलप कर रहे हैं तो हम लोगों को भी रिसर्च करने की जरूरत है रामायण महाभारत के ऊपर तभी हमारा देश आगे बढ़ेगा तरक्की करेगा हम लोग दूसरे देशों को बहुत फॉलो करते हैं अपने देश की संस्कृति को भूलते जा रहे हैं हम लोगों को अपनी संस्कृति को बरकरार रखना है देखिए महाकुंभ का आयोजन हुआ एक बार फिर से सनातन परंपरा पूरे विश्व में फैल गई सभी लोग सनातन धर्म को मानने लगे फिर से मारने को तो बहुत लोग मानते हैं आप इस्कॉन टेंपल में चले जाइए हिंदुस्तान के देखिए अंग्रेज लोग रहते हैं जिनको सत्य का ज्ञान हो गया है सारी प्रॉपर्टी छोड़कर वह भगवान श्री कृष्ण के भजन में लीन है क्यों नहीं नहीं भैया क्यों क्यों निष्पत्ति का ज्ञान प्राप्त हो गया है उन्हें पता चल गया है कि यह धर्म सबसे सर्वोच्च धर्म है सबसे बढ़िया धर्म है और राम को जानने के लिए कृष्ण को जानने के लिए वह अपना सारा सुखचैन छोड़कर हिंदुस्तान आते हैं और अपना जीवन खत्म कर लेते हैं पूजा-पाठ में आइए रामायण को जाने ताकि अपने जीवन को जाने धन्यवाद

aapka sawaal hai ki aisi koi preranadayak kahani ya vakya bataye jisne aapke jeevan ko badal diya ho dikhe Shriramcharitmanas ko jo padh liya padhne ke baad jo dekh liya aur dekhne ke baad jo Shriramcharitmanas ko jaan liya uski zindagi pakka badal jayegi hum yah nahi kehte ki puri tarah se satya ka gyaan ho jaega lekin vaah vyakti satya ke path par chalne lagega main aapko kahani batata hoon bhagwan shri ram ki bhagwan shri ram ayodhya ke raja ghoshit kiye jaate hain ab kal ke din vaah raja banne waale hain raja banne waale koi bhi vyakti hoga toh bahut khush hoga itna khush hoga ki use neend nahi aayegi raat mein lekin bhagwan shriram khush nahi hote hain zyada khush nahi hote hain bade putra ke raja dashrath ji ke raja ghoshit kiye gaye aur raja ke layak with the khush nahi hote hain zyada tab tak 2 ghanta ek ghanta pehle unko vanvas jaane ka aadesh mil jata hai apne pita ke madhyam se toh bhagwan shriram turant gerua vastra pehente hain aur kehte hain ki main papa se aagya lete hain apne pitaji se kehte ki main banvaas ja raha hoon dukhi nahi hote hain taaza banne waale hain khush nahi hote hain aur banwa nikalte hain toh dukhi nahi hote hain banvaas mein jaate hain toh aapne dekha hoga kitna kasht sahna padta hai unko mataji kya karan ho jata hai mata sita ka haran hota hai toh apne dhairya ko nahi khote hain aaj ke date mein beta agar kidnap ho jaaye na toh parivar waale khana khana band kar denge rona start karenge lekin bhagwan shriram kitne dhairyavan hain unki patni ka haran hota hai uske baad vaah apne dhari ko khote nahi hai doosra bhai rehta na toh apne chote bhai ko khoob gaali deta aaj aapka aapke ghar koi member hai market mein fas jaaye raat ho jaaye uska phone switch of ho jaaye toh bada bhai chote bhai ko gaali dene lagega ki tujhe maine bola tha na ki uske saath ja tu nahi gaya toh keh gaya kya ray vaah usne bola ki vaah akele hi jaega main kya karta hoon ki bada bhai use raat bhar gaali dega apna dhairya kho dete hain aaj ke samay ke log lekin bhagwan shriram ne apna dhairya nahi khoya lakshman ji se bola chalo koi baat nahi hai bhagwan shriram ne bola ki chalo dhoondhate hain aur 2 se 25 se ped paudho se poochhte hain ki sita kahaan hai ki rasta apne aap baata jata hai ghumte rehte hain bechaare dhairya banakar rakhte hain toh phir hanuman ji se unki mulakat hoti hai phir hanuman ji unko sukhadeva ji ke le jaate hain sugreev se bhagwan shriram promise karte hain ki baali ne aapke saath nainsafi ki hai baali ko mara jaega baali ko marte hain hanuman ji ko bhagwan shriram bhejate hain lanka lanka bhejate toh kya bolte hain ki jao sita ka pata lagakar aao theek thak hai na bus itna hi bolte hain bhagwan shri ram aaj ki date mein agar aap aapka ghar koi dukaan hai koi kaam karne vala vyakti aapke dukaan par agar usko aap bhejoge saamaan lekar Rs ka saamaan lekar ki yahan se wahan pohcha do 50 baar phone karte ho ki bhaiya kahaan pahuche pahuche ki nahi abhi raste mein hi ho vaah bolega ki pahuchne vala hoon phir phone karoge abhi kahaan pahuche bhaiya aap tension mein ho jaate ho ki kahin vaah 5000 ka saamaan lekar bhag na jaaye kahin bhool na jaaye yani aapko apni in ply ke upar bharosa nahi hai bhagwan shriram ne toh kuch nahi bola hanuman ji se hanuman ji ko yah nahi bola tha ki aap jana toh lanka ko jalaana yah karna sab kuch karna kuch nahi bola tha unhone bola bus haal chaal lekar aao sita kaisi hain aur lanka mein jaane ke baad hanuman ji ne kya kya kiya aap sabhi log jante hain bhagwan shri ram jab ayodhya mein the toh rajaram kahalae bhagwan shri ram jab jungle gaye toh maryada purushottam bhagwan shriram ka laye toh kehne ka tatparya hai ki hamein apna dhairya nahi khona chahiye hamein apne sanskar nahi khone chahiye hum kitna bhi educated ho jaye kitna bhi kuch aage badh jaaye lekin apne sanskar ko apne vichar ko kabhi nahi khona chahiye apne dharm ki hamesha raksha karni chahiye aaj ke date mein padhai toh Hindustan mein kar rahe hain bacche canada chale ja rahe hain america chale ja rahe hain italy chale ja rahe hain ab vaah bhaiya 1 saal ke baad aaye apne desh ko jante kya bhasha bolte hain karte hain yahan par kuch nahi rakha hai india mein sab bekar hai maza toh udhar hi hai are bhaiya aaj bekar ho gaya india padhai bhi yahin par kiye isi mitti mein janam liye aur canada chale gaye america chale gaye toh ab india kharab ho gaya aise logo se main bahut nafrat karta hoon aise logo se main bolna chahta hoon ki aap log aisi bhasha mat bolie desh prem ki bhavna rakhi hai apne andar kyonki desh prem ki bhavna hona ati aavashyak hai aap america gaye ho canada gaye ho japan gaye ho isi desh mein isi mitti mein padhai likhai karke gaye ho toh aisa hota hai bhagwan shri ram ki kahani hamein bahut kuch prerna deti hai ramayana ko gehrai se janana bahut zaroori hai bhai chara ka jo sambandh milta hai ramayana mein dekhne ko milta hai ab bharat jeete bharat ji ko jab pata chala ki ram ji vanvas mein chale gaye hain toh Bharat ji kya apni wife se jaakar poochhte hain ki bataye main apne bhaiya se milne jaaun ki nahi jaaun lekin aaj ke date ke jo bhai log hain jante kya karte hain bhai bhai se agar milne jata hai toh apni wife se pehle poochta hai ki shrimati ji bataye ki main apne bhai se milne jaaun ki nahi toh shrimatiji kar deti hai ki nahi mat jao toh nahi jaate yaar wife kaun hoti hai bhaichare ka jo sambandh hai khoon ka rishta hai khoon ka rishta sabse bada rishta hota hai aapki wife toh dusre ghar ki honge na toh kya aap ke bhaichare ke sambandh ko tod denge nahi unko itna adhikaar mat dijiye ki aapko aapke bhai se alag kar de koi bhi cheez apni wife se puchiye mat ramayana ko agar aapne jaan liya toh samajh nahi diya apne jeevan ko jaan liya ramayana sab kuch hai hum log ramayana ko ek dharmik granth maante hain america aur europe ki european jitna bhi country hai aur ramayana aur mahabharat ko science ki kitab manata hai vaah sab research karte hain mahabharat aur ramayana ke upar isliye vaah develop kar rahe hain toh hum logo ko bhi research karne ki zarurat hai ramayana mahabharat ke upar tabhi hamara desh aage badhega tarakki karega hum log dusre deshon ko bahut follow karte hain apne desh ki sanskriti ko bhulte ja rahe hain hum logo ko apni sanskriti ko barkaraar rakhna hai dekhiye mahakumbh ka aayojan hua ek baar phir se sanatan parampara poore vishwa mein fail gayi sabhi log sanatan dharm ko manne lage phir se maarne ko toh bahut log maante hain aap iskcon temple mein chale jaiye Hindustan ke dekhiye angrej log rehte hain jinako satya ka gyaan ho gaya hai saree property chhodkar vaah bhagwan shri krishna ke bhajan mein Lean hai kyon nahi nahi bhaiya kyon kyon nishpatti ka gyaan prapt ho gaya hai unhe pata chal gaya hai ki yah dharm sabse sarvoch dharm hai sabse badhiya dharm hai aur ram ko jaanne ke liye krishna ko jaanne ke liye vaah apna saara sukhchain chhodkar Hindustan aate hain aur apna jeevan khatam kar lete hain puja path mein aaiye ramayana ko jaane taki apne jeevan ko jaane dhanyavad

आपका सवाल है कि ऐसी कोई प्रेरणादायक कहानी या वाक्य बताएं जिसने आपके जीवन को बदल दिया हो दि

Romanized Version
Likes  302  Dislikes    views  2540
WhatsApp_icon
user

Pankaj Kr(youtube -AJ PANKAJ MATHS GURU)

Motivational Speaker/YouTube-AJ PANKAJ MATHS GURU

0:39
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

यदि आप प्रेरित होना चाहते तो आप महापुरुषों की जीवनी को पढ़ना पुरुषों की जीवनी को पढ़कर आपको बहुत सी ट्रेन मिलेगी जीवन में आगे बढ़ने के लिए आप समय का मास्टर रखें समय खुलवाने करें हमेशा सही कार्य करें अच्छा कार्य करके इंसान बहुत से काम को कर सकते हैं समाज में कल्याण कर सकते हैं एक दूसरे की भला कर सकते हैं इसलिए जीवन को बदलना चाहते हैं तो आप महापुरुषों की जीवनी अपने महापुरुषों के पुस्तकों पर हैं उसका अध्ययन करें इससे आपको बहुत सी ट्रेन मिलेगी और जीवन में एक अच्छे माफ एक सुयोग्य नागरिक बनने के लिए प्रेरित होंगे अभी महान कार्य कर सकते हैं

yadi aap prerit hona chahte toh aap mahapurushon ki jeevni ko padhna purushon ki jeevni ko padhakar aapko bahut si train milegi jeevan mein aage badhne ke liye aap samay ka master rakhen samay khulwane kare hamesha sahi karya kare accha karya karke insaan bahut se kaam ko kar sakte hain samaj mein kalyan kar sakte hain ek dusre ki bhala kar sakte hain isliye jeevan ko badalna chahte hain toh aap mahapurushon ki jeevni apne mahapurushon ke pustakon par hain uska adhyayan kare isse aapko bahut si train milegi aur jeevan mein ek acche maaf ek suyogya nagarik banne ke liye prerit honge abhi mahaan karya kar sakte hain

यदि आप प्रेरित होना चाहते तो आप महापुरुषों की जीवनी को पढ़ना पुरुषों की जीवनी को पढ़कर आपक

Romanized Version
Likes  236  Dislikes    views  2940
WhatsApp_icon
user

Harender Kumar Yadav

Career Counsellor.

2:26
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

ऐसी कोई प्रोडक्ट कहानी बताइए वाल्मीकि जीवन संघर्ष करो और वैसे कोई प्रेरणादायक कहानी नहीं है बल्कि संतोष करके यहां तक पहुंचा हूं और मैं शुरुआत अपने गांव से किया था और गांव बिल्कुल निरीक्षण गांव किसको कहा जाता है जहां पर कोई भी सुविधाएं नहीं हैं पढ़ने के लिए बिजली की व्यवस्था नहीं की लालटेन जला के छोटे-छोटे दिए जला के पढ़ाई करके महानगर में पहली बार यात्रा करके आए जो इस भीड़ को देख करके लगा कि दुनिया के हर इंसान में जहर बनाने चला रहा है और फिर जाकर अपनी पढ़ाई को मान कर के चला बड़ी निराशा हुई बड़ी निराश होना रंग बहारा ट्यूशन पढ़ाने लगा जब ट्यूशन पढ़ाने लगा तो बच्चे निकलने लगी वहां से हमें क्या लड़कियां पर पीएचडी किया नौ नगद स्कूलों में प्राइवेट स्कूलों में ज्वाइन कैसे बनता है

aisi koi product kahani bataye valmiki jeevan sangharsh karo aur waise koi preranadayak kahani nahi hai balki santosh karke yahan tak pohcha hoon aur main shuruat apne gaon se kiya tha aur gaon bilkul nirikshan gaon kisko kaha jata hai jaha par koi bhi suvidhaen nahi hain padhne ke liye bijli ki vyavastha nahi ki lantern jala ke chote chhote diye jala ke padhai karke mahanagar mein pehli baar yatra karke aaye jo is bheed ko dekh karke laga ki duniya ke har insaan mein zehar banane chala raha hai aur phir jaakar apni padhai ko maan kar ke chala badi nirasha hui badi nirash hona rang bahara tuition padhane laga jab tuition padhane laga toh bacche nikalne lagi wahan se hamein kya ladkiya par phd kiya nau nagad schoolon mein private schoolon mein join kaise baata hai

ऐसी कोई प्रोडक्ट कहानी बताइए वाल्मीकि जीवन संघर्ष करो और वैसे कोई प्रेरणादायक कहानी नहीं ह

Romanized Version
Likes  283  Dislikes    views  1990
WhatsApp_icon
user

Dinesh Yadav

Agriculturist

1:42
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

आपका प्रश्न है ऐसी कोई प्रेरणादायक कहानी वा या वा क्या बताएं जिसने आपके जीवन को बदल दिया हो तो इसके लिए मैं आपको बताना चाहूंगा कि कोई प्रेरणादायक कहानी या वाक्य तो आप यह समझ ले कि आपके अंदर आप अपने दिल से दिमाग से सिर्फ ना शब्द को निकाल दें बाकी आपकी जिंदगी बदल जाए आप अपने अंदर ना शब्द को 9:00 आने दे आप अपने आत्मविश्वास को इतना मजबूत करें कि चाहे आप किसी भी काम को हाथ मिले तो आप यह न समझें कि यह नहीं होगा जिस काम को आपने अपने हाथ में लिया है वह काम अवश्य होगा और यह आप दृढ़ संकल्प के साथ उस काम को करें सफलता मिलेगी यह कहा जाए कि आप अपने शब्दकोश के डिक्शनरी से आप अपने शब्दकोश से सीखना शब्द को निकाल दें बाकी सब कुछ अच्छा ही होगा धन्यवाद

aapka prashna hai aisi koi preranadayak kahani va ya va kya bataye jisne aapke jeevan ko badal diya ho toh iske liye main aapko batana chahunga ki koi preranadayak kahani ya vakya toh aap yah samajh le ki aapke andar aap apne dil se dimag se sirf na shabd ko nikaal de baki aapki zindagi badal jaaye aap apne andar na shabd ko 9 00 aane de aap apne aatmvishvaas ko itna majboot kare ki chahen aap kisi bhi kaam ko hath mile toh aap yah na samajhe ki yah nahi hoga jis kaam ko aapne apne hath mein liya hai vaah kaam avashya hoga aur yah aap dridh sankalp ke saath us kaam ko kare safalta milegi yah kaha jaaye ki aap apne shabdkosh ke dictionary se aap apne shabdkosh se sikhna shabd ko nikaal de baki sab kuch accha hi hoga dhanyavad

आपका प्रश्न है ऐसी कोई प्रेरणादायक कहानी वा या वा क्या बताएं जिसने आपके जीवन को बदल दिया ह

Romanized Version
Likes  29  Dislikes    views  164
WhatsApp_icon
user

Dr. Swatantra Jain

Psychotherapist, Family & Career Counsellor and Parenting & Life Coach

4:32
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

छत का प्रश्न है ऐसी कोई प्रेरणादायक कहानियां वाक्य बताएं जिसने आपके जीवन को बदल दिया हां मुझे याद आ गई है ऐसी प्रेरणादाई कहानी लेकिन प्यार नहीं आई है जब मैं टीचर थी तो मैंने कहानी पढ़ी थी सच बहाने की प्रेरणादायक किसी महिला के विदेशी महिला के बारे में तो कोई अमेरिकन महिला नीग्रो बच्चों की सेवा करना चाहती थी उनकी जिंदगी में बदलाव लाना चाहते थे जो निकाले तो उन लोगों की सेवा करना चाहते थे इन बच्चों के साथ अपना जीवन लगा कर उनको बातों पर बदलाव लाना चाहते थे लेकिन क्या है कि जब उनके पास जाती है उसे दूर चला बेटा क्यों नहीं मारेंगे हम से गलत व्यवहार करेंगे क्योंकि उनसे गलत बदतमीजी से पेश आते थे उनसे ज्ञान को वितरित करने की कोशिश करते अच्छे धाम क्या करूं बहुत परेशान हुई बहुत निराश होते थे कि क्या करूं क्या करूं क्या से क्या करोगे तुम बोलते नहीं मेरे पास ही नहीं आते कुछ सेवा करनी है बच्चों से संपर्क बढ़ाना है तो मुझे इनके जैसा बनना पड़ेगा बनना चाहिए तो उन्होंने अपने आप को काला पेंट कर लिया पूरा कला अपने मूवी काला हाथों में छाता लेकर के बच्चे उनको एक्सेप्ट करें क्योंकि सारे लोगों से बच्चों को कोई हक नहीं था कोई डर नहीं लगता था कोई दूरी नहीं थी इसलिए मैंने अपने आप को काला पेंट किया बच्चों को समझ याद ही नहीं रहा समझ में नहीं आई गइले टेंपो स्टैंड के पास गए थे उन्होंने उनकी इतना काम किया बहुत बच्ची कहानी को पढ़के मेरा जीवन को एक दिशा मिल गई ऐसी बात नहीं कि मैं बच्चों से पहले प्रेम नहीं करता मैं कुछ करना नहीं चाहती थी लेकिन मुझे समझ में आ गया कुछ करना चाहते हैं उनके ऊपर यह हमारा खुद परेशान हो इसलिए जो हम करना चाहते हैं अगर सचमुच करना चाहते तो उनके लिए हम कुछ भी इसे अब तक देख जाकर हमें करना चाहिए उनके लिए हमें अपना हुलिया ही बदल ना पड़े तो जहां चाहे आपकी सेवा करने की वह आ रहा तो खुद सो जाती है तो उनको ऐसे ही रहा सोचे कि उन्होंने अपने आपको ब्लॉक पिंकी कर लिया तो हम किसी भी तरीके से कोई भी अच्छा पवित्र शुद्ध साधन अपना कर जो करना चाहे कर सकते मुझे बहुत बहुत बदमाश को कभी नहीं भूलेंगे आपको पसंद आई होगी

chhat ka prashna hai aisi koi preranadayak kahaniya vakya bataye jisne aapke jeevan ko badal diya haan mujhe yaad aa gayi hai aisi preranadai kahani lekin pyar nahi I hai jab main teacher thi toh maine kahani padhi thi sach bahaane ki preranadayak kisi mahila ke videshi mahila ke bare me toh koi american mahila nigro baccho ki seva karna chahti thi unki zindagi me badlav lana chahte the jo nikale toh un logo ki seva karna chahte the in baccho ke saath apna jeevan laga kar unko baaton par badlav lana chahte the lekin kya hai ki jab unke paas jaati hai use dur chala beta kyon nahi marenge hum se galat vyavhar karenge kyonki unse galat badatamiji se pesh aate the unse gyaan ko vitrit karne ki koshish karte acche dhaam kya karu bahut pareshan hui bahut nirash hote the ki kya karu kya karu kya se kya karoge tum bolte nahi mere paas hi nahi aate kuch seva karni hai baccho se sampark badhana hai toh mujhe inke jaisa banna padega banna chahiye toh unhone apne aap ko kaala paint kar liya pura kala apne movie kaala hathon me chhata lekar ke bacche unko except kare kyonki saare logo se baccho ko koi haq nahi tha koi dar nahi lagta tha koi doori nahi thi isliye maine apne aap ko kaala paint kiya baccho ko samajh yaad hi nahi raha samajh me nahi I gaile tempo stand ke paas gaye the unhone unki itna kaam kiya bahut bachi kahani ko padhake mera jeevan ko ek disha mil gayi aisi baat nahi ki main baccho se pehle prem nahi karta main kuch karna nahi chahti thi lekin mujhe samajh me aa gaya kuch karna chahte hain unke upar yah hamara khud pareshan ho isliye jo hum karna chahte hain agar sachmuch karna chahte toh unke liye hum kuch bhi ise ab tak dekh jaakar hamein karna chahiye unke liye hamein apna huliya hi badal na pade toh jaha chahen aapki seva karne ki vaah aa raha toh khud so jaati hai toh unko aise hi raha soche ki unhone apne aapko block pinki kar liya toh hum kisi bhi tarike se koi bhi accha pavitra shudh sadhan apna kar jo karna chahen kar sakte mujhe bahut bahut badamash ko kabhi nahi bhulenge aapko pasand I hogi

छत का प्रश्न है ऐसी कोई प्रेरणादायक कहानियां वाक्य बताएं जिसने आपके जीवन को बदल दिया हां म

Romanized Version
Likes  339  Dislikes    views  1838
WhatsApp_icon
user

Gopal Srivastava

Acupressure Acupuncture Sujok Therapist

1:37
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

प्रेरणादायक वाक्य कुछ नहीं है जिंदगी में जैसे चल रहा है वैसे चलाओ सभी हिसाब से चलो सही है कि खुश हो खुश रखो कोई भी बात आती है आपके मन में उसे मुस्कुराते रहो बहुत ज्यादा मन दुखी हो अपने बचपन के टाइम को याद करो जब आप छोटे से पैरों पर चलते थे मैं आपको गोदी में लेती थी तो आपको तंग करते थे अब गोल मटोल से तो आपके गालों को भेजते थे तब जान जान के शैतानी करते थे बच्चों उठाकर फेंक देते थे उन सब टाइम को याद करो जवाब उस टाइम को याद करोगे तो आपको कोई कष्ट से होगा मैंने मुस्कुराहट आ जाएगी मुस्कुराहट आ गई अंदर ही अंदर से दिल खुश होगा कि बचपन की शैतानियां की होती है याद करो कभी अपनी मां की गोदी में कभी रिश्तेदार की गोदी में सुसु कर दिया था उसके कपड़े ले कर दिए थे ऐसे जो चीजें हैं उनको याद करो आपके चेहरे पर मुस्कुराहट आएगी कि आप सोचते रहोगे कि हमने क्या क्या करें यह सब बच्चे करते हैं कोई एक बच्चा नहीं होता खुश रहोगे चेहरे पर रौनक रहेगी आपकी उम्र का पता नहीं लगेगा

preranadayak vakya kuch nahi hai zindagi me jaise chal raha hai waise chalao sabhi hisab se chalo sahi hai ki khush ho khush rakho koi bhi baat aati hai aapke man me use muskurate raho bahut zyada man dukhi ho apne bachpan ke time ko yaad karo jab aap chote se pairon par chalte the main aapko godi me leti thi toh aapko tang karte the ab gol matol se toh aapke gaalon ko bhejate the tab jaan jaan ke shaitani karte the baccho uthaakar fenk dete the un sab time ko yaad karo jawab us time ko yaad karoge toh aapko koi kasht se hoga maine muskurahat aa jayegi muskurahat aa gayi andar hi andar se dil khush hoga ki bachpan ki shaitaniyan ki hoti hai yaad karo kabhi apni maa ki godi me kabhi rishtedar ki godi me susu kar diya tha uske kapde le kar diye the aise jo cheezen hain unko yaad karo aapke chehre par muskurahat aayegi ki aap sochte rahoge ki humne kya kya kare yah sab bacche karte hain koi ek baccha nahi hota khush rahoge chehre par raunak rahegi aapki umar ka pata nahi lagega

प्रेरणादायक वाक्य कुछ नहीं है जिंदगी में जैसे चल रहा है वैसे चलाओ सभी हिसाब से चलो सही है

Romanized Version
Likes  92  Dislikes    views  2103
WhatsApp_icon
user

DR OM PRAKASH SHARMA

Principal, Education Counselor, Best Experience in Professional and Vocational Education cum Training Skills and 25 years experience of Competitive Exams. 9212159179. dsopsharma@gmail.com

3:34
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

आपके जीवन में से कौन-सी प्रेरणादाई वाक्य कहानी है जिसने आपके जीवन को बदल दिया हां यह घटना घटी थी बचपन में और वह घटनाएं घटी थी परिवार की सदस्य हमारी चाची जी ने हमें एक उलाहना दिया था रोने नहीं दिया था जब हमारी चाची जी के बच्चे ट्यूशन पढ़ते थे तो एक टीचर 6 जून को कराची से जीने का मास्टर जी सीमा से जी के मारो जेठानी को छोड़ो है इनसे भी पूछो ना कुछ आवे या नहीं आवे यह बात करके उन्होंने मासी जी ने मुझसे इंग्लिश में टेंस के मेरे स्टेशन पहुंचने से पहले गाड़ी छूट चुकी थी मैंने उनका इंग्लिश में ट्रांसलेशन और मैंने उनका उत्तर दे दिया फिर नोनी और प्रश्न पूछा एक्टिव वॉइस पैसिव वॉइस का वह भी मैंने उत्तर दे दिया फिर मैंने कहा सर जी आपने मुझे आपसे एक प्रश्न पूछना है मैंने किसी और भाव से नहीं सिनमेक उत्तरी पूछना चाहता था कि हमारी चाची ने जिस भाव से मासी जी से कहा कि आप इनसे पूछे और उन्होंने पूछा तो मैंने उसी भाव से मासी जी से पूछा मैसेज मुझे एक इंग्लिश में ट्रांसलेशन नहीं आया कृपया करके आप बताइए वह ट्रांसलेशन हिंदी में क्या था शिक्षा के गिरते गिरते गिरते गिरते गिरते ही गया लेकिन मनी हमारा मास्टर जी का अपमान करना नहीं था सिर्फ एक बार भाव बार उठाओ तो मैं टेंथ में कब जाता मशीनरी नहीं जाना बंद कर दिया इसका परिणाम यह हुआ कि हमारी चाची जी ने यह जवाब दिया देखूंगी कहां तेरे बाप ने पढ़ा कन्याल करें यह सेंटेंस मेरे हृदय में उतर गया हमने कुछ नहीं कहा हमने प्रण कर लिया कि मुझे पढ़ना है इतना पढ़ना है इतना पढ़ना है इतना पढ़ना है कि अपनी माता-पिता का नाम रोशन करना है और मैंने उसे शांत दसवीं क्लास में प्रदेश टॉप किया और कठोर परिश्रम किया नागिन की नींद उड़ा दी जिनका चैन खो दिया अखियां और का परिणाम यह हुआ कि हमें परिवार में सम्मान मिला और वहां से मेरी जिंदगी बदल गई हमें ट्यूशन पढ़ाने लगा उसके बाद ट्यूशन की कमाई से मैंने अपनी जीवन की उच्चतम शिक्षाओं को हासिल किया

aapke jeevan me se kaun si preranadai vakya kahani hai jisne aapke jeevan ko badal diya haan yah ghatna ghati thi bachpan me aur vaah ghatnaye ghati thi parivar ki sadasya hamari chachi ji ne hamein ek ulahana diya tha rone nahi diya tha jab hamari chachi ji ke bacche tuition padhte the toh ek teacher 6 june ko karachi se jeene ka master ji seema se ji ke maaro jethani ko chodo hai inse bhi pucho na kuch aawe ya nahi aawe yah baat karke unhone maasi ji ne mujhse english me tense ke mere station pahuchne se pehle gaadi chhut chuki thi maine unka english me translation aur maine unka uttar de diya phir noni aur prashna poocha active voice passive voice ka vaah bhi maine uttar de diya phir maine kaha sir ji aapne mujhe aapse ek prashna poochna hai maine kisi aur bhav se nahi sinmek uttari poochna chahta tha ki hamari chachi ne jis bhav se maasi ji se kaha ki aap inse pooche aur unhone poocha toh maine usi bhav se maasi ji se poocha massage mujhe ek english me translation nahi aaya kripya karke aap bataiye vaah translation hindi me kya tha shiksha ke girte girte girte girte girte hi gaya lekin money hamara master ji ka apman karna nahi tha sirf ek baar bhav baar uthao toh main tenth me kab jata machinery nahi jana band kar diya iska parinam yah hua ki hamari chachi ji ne yah jawab diya dekhungi kaha tere baap ne padha kanyal kare yah sentence mere hriday me utar gaya humne kuch nahi kaha humne pran kar liya ki mujhe padhna hai itna padhna hai itna padhna hai itna padhna hai ki apni mata pita ka naam roshan karna hai aur maine use shaant dasavi class me pradesh top kiya aur kathor parishram kiya nagin ki neend uda di jinka chain kho diya akhiyan aur ka parinam yah hua ki hamein parivar me sammaan mila aur wahan se meri zindagi badal gayi hamein tuition padhane laga uske baad tuition ki kamai se maine apni jeevan ki ucchatam shikshaon ko hasil kiya

आपके जीवन में से कौन-सी प्रेरणादाई वाक्य कहानी है जिसने आपके जीवन को बदल दिया हां यह घटना

Romanized Version
Likes  345  Dislikes    views  3444
WhatsApp_icon
user

Shivam Kumar

Yoga Instructor

3:40
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

हेलो नमस्कार मैं हूं शिवम कुमार और महानुभव आपका प्रश्न है ऐसी कोई प्रेरणादायक कहानियां वाक्य बताएं जिसने अपने जीवन को बदल दिया वह कहते हैं कि जो भी होता है इस दुनिया में अच्छे के लिए होता है जहां तक मेरा मानना है और रही बात जीवन की बदलने की तुम मेरा एक को पढ़ाओ था जब मैं अपने गांव में रहा करता था पर चाहा तो ठीक ही कुछ करने की पर एक एक्टर है जिसने मेरी लाइफ को बदल दिया रितिक रोशन की मैं बात करूंगा उसके डांस नहीं मेरे को इतना इंस्पायर किया कि अभी तक मैं उसको फॉलो करता हूं उस एक्टर को फॉलो करता हूं उसने मेरी जीवन को एक नई दिशा दी है वह ऐसा एक्टर है जिसने मेरी लाइफ को बदल दी उसी को देख कर मैं आज डांस करता हूं डांस करता हूं और योगा भोपाल आने के बाद ही मैंने स्टार्ट किया है उसके बारे में मेरे को इतना नहीं पता था योग के बारे में इतना नहीं जानता था और यहां आकर भोपाल आकर मीनिंग योग के बारे में कुछ जाना और पहले मेरी स्टार्टिंग जर्नी जो हुई है वह ध्यान से और अभी भी मैं डांस करता हूं जो कि मैं फिट भी रहता हूं और इंजॉय भी करता हूं अपनी लाइफ और मेरठ टर्निंग प्वाइंट जो है वह है रितिक रोशन उसी के वह मेरा आईआईकॉन है मैं उसको आइकॉन मानता हूं ऐसा एक्टर जिसने मेरी लाइफ को बदल दिया और भोपाल आने के बाद ही मैं यह जान पाया हूं कि मैं योग के माध्यम से अपना जीवन कैसे बदल सकता हूं तुम्हें आज भी योगा करता हूं कराता हूं और अपनी लाइफ बखूबी अच्छे से जी पाता हूं और मेरा जो टर्निंग प्वाइंट रहा है वह है रितिक रोशन जिसकी वजह से मेरा लाइफ टर्न हुआ है उसकी डांस को देखकर मेरी लाइफ बदली है तो ऋतिक रोशन जी जो हैं मेरे आइडल है मेरा आईफोन है उन्हें मेरा जीवन को बदल दिया उन्हीं को देखकर मैं डांस को सीखा हूं सीखता अभी भी सीखता रहता हूं और इवेंट शो करते रहता हूं जो है डांस में अच्छी-अच्छी प्लेसमेंट दिलवा देता है तो अगर आप भी अपनी लाइफ को एक नया बदलाव देना चाहते हैं तो कुछ ना कुछ करते रहिए और अपना गोल अपना लक्ष्य निर्धारित करिए और उस पर आगे तो आपका जीवन बिल्कुल सफल हुआ यह कर्म भूमि है पृथ्वी कर्म भूमि है यह यहां आपको कर्म करना ही पड़ेगा अगर आप कर में नहीं करोगे तो अलसी बन जाओगे और निठल्ले कहलाओगे जो कुछ नहीं कर पाता इस दुनिया में उसको कायर ही बोलती है दुनिया तू जो करेगा उसको मिलेगा जो जैसा कर्म करेगा उसको वैसा फल मिलेगा तो अच्छे कर्म कीजिए अच्छे लोगों की पूछ होती है बुरे को तो कोई पूछता भी नहीं बदनामी करेगा बुरा भला बुरा भला कहेगा इसके लिए अच्छा है कुछ अच्छा करें और अपने जीवन को सफल बनाएं नमस्कार

hello namaskar main hoon shivam kumar aur mahanubhav aapka prashna hai aisi koi preranadayak kahaniya vakya bataye jisne apne jeevan ko badal diya vaah kehte hain ki jo bhi hota hai is duniya mein acche ke liye hota hai jaha tak mera manana hai aur rahi baat jeevan ki badalne ki tum mera ek ko padhao tha jab main apne gaon mein raha karta tha par chaha toh theek hi kuch karne ki par ek actor hai jisne meri life ko badal diya hrithik roshan ki main baat karunga uske dance nahi mere ko itna Inspire kiya ki abhi tak main usko follow karta hoon us actor ko follow karta hoon usne meri jeevan ko ek nayi disha di hai vaah aisa actor hai jisne meri life ko badal di usi ko dekh kar main aaj dance karta hoon dance karta hoon aur yoga bhopal aane ke baad hi maine start kiya hai uske bare mein mere ko itna nahi pata tha yog ke bare mein itna nahi jaanta tha aur yahan aakar bhopal aakar meaning yog ke bare mein kuch jana aur pehle meri starting journey jo hui hai vaah dhyan se aur abhi bhi main dance karta hoon jo ki main fit bhi rehta hoon aur enjoy bhi karta hoon apni life aur meerut turning point jo hai vaah hai hrithik roshan usi ke vaah mera aiaaikan hai usko icon manata hoon aisa actor jisne meri life ko badal diya aur bhopal aane ke baad hi main yah jaan paya hoon ki main yog ke madhyam se apna jeevan kaise badal sakta hoon tumhe aaj bhi yoga karta hoon karata hoon aur apni life bakhubi acche se ji pata hoon aur mera jo turning point raha hai vaah hai hrithik roshan jiski wajah se mera life turn hua hai uski dance ko dekhkar meri life badli hai toh ritik roshan ji jo hain mere idol hai mera iphone hai unhe mera jeevan ko badal diya unhi ko dekhkar main dance ko seekha hoon sikhata abhi bhi sikhata rehta hoon aur event show karte rehta hoon jo hai dance mein achi achi placement dilwa deta hai toh agar aap bhi apni life ko ek naya badlav dena chahte hain toh kuch na kuch karte rahiye aur apna gol apna lakshya nirdharit kariye aur us par aage toh aapka jeevan bilkul safal hua yah karm bhoomi hai prithvi karm bhoomi hai yah yahan aapko karm karna hi padega agar aap kar mein nahi karoge toh aalsi ban jaoge aur nithalle kahalaoge jo kuch nahi kar pata is duniya mein usko kayar hi bolti hai duniya tu jo karega usko milega jo jaisa karm karega usko waisa fal milega toh acche karm kijiye acche logo ki puch hoti hai bure ko toh koi poochta bhi nahi badnami karega bura bhala bura bhala kahega iske liye accha hai kuch accha kare aur apne jeevan ko safal banaye namaskar

हेलो नमस्कार मैं हूं शिवम कुमार और महानुभव आपका प्रश्न है ऐसी कोई प्रेरणादायक कहानियां वाक

Romanized Version
Likes  11  Dislikes    views  301
WhatsApp_icon
user

Dharamvir singh

Serviceman Indian Army

2:45
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

ऐसी कोई पहनाया कहानी वाक्य हमारे जीवन से संबंधित काफी चीजें हमारे जीवन में सामने आती हैं उनमें अपने जीवन में बहुत सारी चीजें मेरे जीवन में बहुत सारी चाहिए सामने आए हैं क्योंकि जीवन हर किसी का बहुमूल्य होता है सबसे पहले दूसरा लायक फिजिकल जीवन ही संघर्ष तो जीवन में अनेक कठिनाइयां आती है और उन कठिनाइयों को समाज और परिवार से किसी को मदद मिलती है किसी को नहीं भी फिर भी इंसान अपनी बुद्धि से उन समस्याओं को ठीक कर सकता है और ठीक करता भी मनुष्य को जीवन में सबसे पुराना बैंक चीज है अगर उसको अच्छा ग्रुप मिल जाए तो उसका जीवन ही बदल जाएगा दो रास्ते पर भी सही आएगा तो उसको सही ज्ञान की तरफ भी प्रवर्तक तू सबसे बड़ी प्रेरणा यही है कि मनुष्य को अगर सच्चा गुरु नहीं मिलता है तो वह इधर-उधर भटकता रहता है और उसका अधूरा ज्ञान ही आदि समस्याओं को जन्म देता है क्योंकि सही समझ का विकास करने के लिए उसको एक अच्छी गुरु की आवश्यकता होती है जब उसको अच्छा गुरु मिल जाए मैं भी उसमें शामिल हूं मुझे भी जब तक एक अच्छा गुरु नहीं मिल रहा था तो जीवन की जो समस्या है वह तो सभी के सामने रहती है हम को सुलझाने मेरी मदद मिली ग्रुप के द्वारा और उस परमात्मा के प्रति जो हमें रास्ता मिला वह सबसे सच्चा और सटीक मिला क्योंकि सत्य को पहचानने के लिए सच्चे गुरु की आवश्यकता होती है जब इंसान को स्वच्छता से प्रेरणा मिलती बातें बहुत कुछ है इन्हीं शब्दों के साथ अगर आपको इन बातों में कोई प्रेरणा मिलती है तो पैदल से मैं धन्यवाद करूंगा थैंक यू

aisi koi pahanaya kahani vakya hamare jeevan se sambandhit kaafi cheezen hamare jeevan mein saamne aati hain unmen apne jeevan mein bahut saree cheezen mere jeevan mein bahut saree chahiye saamne aaye hain kyonki jeevan har kisi ka bahumulya hota hai sabse pehle doosra layak physical jeevan hi sangharsh toh jeevan mein anek kathinaiyaan aati hai aur un kathinaiyon ko samaj aur parivar se kisi ko madad milti hai kisi ko nahi bhi phir bhi insaan apni buddhi se un samasyaon ko theek kar sakta hai aur theek karta bhi manushya ko jeevan mein sabse purana bank cheez hai agar usko accha group mil jaaye toh uska jeevan hi badal jaega do raste par bhi sahi aayega toh usko sahi gyaan ki taraf bhi pravartak tu sabse badi prerna yahi hai ki manushya ko agar saccha guru nahi milta hai toh vaah idhar udhar bhatakta rehta hai aur uska adhura gyaan hi aadi samasyaon ko janam deta hai kyonki sahi samajh ka vikas karne ke liye usko ek achi guru ki avashyakta hoti hai jab usko accha guru mil jaaye main bhi usme shaamil hoon mujhe bhi jab tak ek accha guru nahi mil raha tha toh jeevan ki jo samasya hai vaah toh sabhi ke saamne rehti hai hum ko suljhane meri madad mili group ke dwara aur us paramatma ke prati jo hamein rasta mila vaah sabse saccha aur sateek mila kyonki satya ko pahachanne ke liye sacche guru ki avashyakta hoti hai jab insaan ko swachhta se prerna milti batein bahut kuch hai inhin shabdon ke saath agar aapko in baaton mein koi prerna milti hai toh paidal se main dhanyavad karunga thank you

ऐसी कोई पहनाया कहानी वाक्य हमारे जीवन से संबंधित काफी चीजें हमारे जीवन में सामने आती हैं उ

Romanized Version
Likes  5  Dislikes    views  137
WhatsApp_icon
user

सुनील कुमार साह

शिक्षण कार्य

2:20
Play

Likes  7  Dislikes    views  77
WhatsApp_icon
qIcon
ask

Related Searches:
par karke pyar aapka jeevan badal gaya ;

QuestionsProfiles

Vokal App bridges the knowledge gap in India in Indian languages by getting the best minds to answer questions of the common man. The Vokal App is available in 11 Indian languages. Users ask questions on 100s of topics related to love, life, career, politics, religion, sports, personal care etc. We have 1000s of experts from different walks of life answering questions on the Vokal App. People can also ask questions directly to experts apart from posting a question to the entire answering community. If you are an expert or are great at something, we invite you to join this knowledge sharing revolution and help India grow. Download the Vokal App!