मूर्ति पूजा क्यों करते हैं?...


user

B.k.Narayana swamy

Yoga Instructor and Meditation Expert

2:58
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

हरि भगत गणों को नमन नमस्कार मूर्ति पूजा क्यों करते हैं पूजा है डीके धरती पर इंसान अपने को नहीं जानता है भगवान को भी नहीं जानता है और भगवान का असली पहचान भी नहीं जानता है इसलिए भक्ति मार्ग में लोगों को भावना मिटाया हैं भक्ति करने के लिए एक मार्ग बताया है जिस मार्ग पर इंसान हमको मूर्ति पूजा में रखा है मूर्ति अगर नहीं होती थी इंसान के अंदर भक्ति भी नहीं हो सकती थी भगवान हैं तभी तो भगवान के यादगार के रूप में मूर्तियां बनाई गई है उसमें सब से अच्छे से अच्छा मूर्ति हैं शिवलिंग शिवलिंग शिव परमात्मा की यादगार है भगवान शिव निराकार आए इसलिए उनको पूजा के लिए लिंग बनाया है भगवान शिव ज्योति स्वरूप है वह गुणों का सागर है प्रेम का सागर है आनंद का सागर है दया का सागर है करुणा का सागर है प्रेम का सागर है ज्ञान का सागर है पवित्रता का सागर है सर्वशक्तिमान है सर्वज्ञ है उनकी पूजा के लिए इंसान को एक मूर्ति दिया गया है परंतु मूर्ति की पूजा करते करते इंसान का बुद्धि ऊपर नहीं जा रहे आजकल तो उनको जानना बहुत जरूरी है समझने की चीज चाहिए सब जान ओ मां और उनको नेम तो याद करो भक्ति तो थ्रेसर जन्म करते आए हैं अभी भक्ति का फल भगवान खुदा करके दे रहे हैं भगवान खुद कहते हैं मैं निराकार हूं अव्यक्त हूं आयो निजी हो मृत्युंजय हो प्रकाश स्वरूप में मैं रहता हूं करके भगवान खुद अपना परिचय दिया है और भी पढ़ते आपको जाना चाहिए तो ब्रह्माकुमारी संस्था के राज्यों का सेवा केंद्र पर निशुल्क निशुल्क रूप से इन सभी बातों का समझाया जाता है इसलिए सभी भक्तजनों को हम आवेदन करते हैं अपनी नजदीकी सेवा केंद्र पर जाइए पूरा इन सभी बातों को समझने की प्रयत्न कीजिए धन्यवाद

hari bhagat ganon ko naman namaskar murti puja kyon karte hain puja hai DK dharti par insaan apne ko nahi jaanta hai bhagwan ko bhi nahi jaanta hai aur bhagwan ka asli pehchaan bhi nahi jaanta hai isliye bhakti marg me logo ko bhavna mitaya hain bhakti karne ke liye ek marg bataya hai jis marg par insaan hamko murti puja me rakha hai murti agar nahi hoti thi insaan ke andar bhakti bhi nahi ho sakti thi bhagwan hain tabhi toh bhagwan ke yaadgaar ke roop me murtiya banai gayi hai usme sab se acche se accha murti hain shivling shivling shiv paramatma ki yaadgaar hai bhagwan shiv nirakaar aaye isliye unko puja ke liye ling banaya hai bhagwan shiv jyoti swaroop hai vaah gunon ka sagar hai prem ka sagar hai anand ka sagar hai daya ka sagar hai corona ka sagar hai prem ka sagar hai gyaan ka sagar hai pavitrata ka sagar hai sarvshaktimaan hai sarvagya hai unki puja ke liye insaan ko ek murti diya gaya hai parantu murti ki puja karte karte insaan ka buddhi upar nahi ja rahe aajkal toh unko janana bahut zaroori hai samjhne ki cheez chahiye sab jaan O maa aur unko name toh yaad karo bhakti toh thresar janam karte aaye hain abhi bhakti ka fal bhagwan khuda karke de rahe hain bhagwan khud kehte hain main nirakaar hoon avyakt hoon aayo niji ho mrityunjay ho prakash swaroop me main rehta hoon karke bhagwan khud apna parichay diya hai aur bhi padhte aapko jana chahiye toh brahmakumari sanstha ke rajyo ka seva kendra par nishulk nishulk roop se in sabhi baaton ka samjhaya jata hai isliye sabhi bhaktajanon ko hum avedan karte hain apni najdiki seva kendra par jaiye pura in sabhi baaton ko samjhne ki prayatn kijiye dhanyavad

हरि भगत गणों को नमन नमस्कार मूर्ति पूजा क्यों करते हैं पूजा है डीके धरती पर इंसान अपने को

Romanized Version
Likes  390  Dislikes    views  3115
KooApp_icon
WhatsApp_icon
20 जवाब
no img
qIcon
ask
ऐसे और सवाल
Loading...
Loading...
qIcon
ask

Related Searches:
murti puja ; pooja karte ho ;

This Question Also Answers:

QuestionsProfiles

Vokal App bridges the knowledge gap in India in Indian languages by getting the best minds to answer questions of the common man. The Vokal App is available in 11 Indian languages. Users ask questions on 100s of topics related to love, life, career, politics, religion, sports, personal care etc. We have 1000s of experts from different walks of life answering questions on the Vokal App. People can also ask questions directly to experts apart from posting a question to the entire answering community. If you are an expert or are great at something, we invite you to join this knowledge sharing revolution and help India grow. Download the Vokal App!