बर्फ पानी में क्यों तैरती है?...


user
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

हेलो फ्रेंड्स आप का क्वेश्चन है बर्फ पानी में क्यों तैरती है तो जो बर्फ होता है और पानी का घनत्व अधिक होता है बर्फ का घनत्व हल्का होता है क्योंकि जब पानी बर्फ बन जाता है तो वह ड्यूटी रियम ऑक्साइड के रूप में बदल जाता है इसलिए उसका घनत्व हल्का हो जाता है और वह पानी में तैरता रहता है

hello friends aap ka question hai barf paani me kyon tairti hai toh jo barf hota hai aur paani ka ghanatva adhik hota hai barf ka ghanatva halka hota hai kyonki jab paani barf ban jata hai toh vaah duty riyam oxide ke roop me badal jata hai isliye uska ghanatva halka ho jata hai aur vaah paani me tairata rehta hai

हेलो फ्रेंड्स आप का क्वेश्चन है बर्फ पानी में क्यों तैरती है तो जो बर्फ होता है और पानी का

Romanized Version
Likes  7  Dislikes    views  177
WhatsApp_icon
6 जवाब
qIcon
ask
ऐसे और सवाल
Loading...
Loading...

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

कोई भी चीज पानी में तकदीर थी जब उसके आयतन से जो उसका वजन होता है उससे अधिक मात्रा में वह पानी को हटा सके उस से निर्मित होने वाले उछाल के कारण उसको उस वस्तु को देना पड़ता है चाहे वह लकड़ी हो या फिर आपकी बर्फ वास्तव बस ईश्वर की बनाई हुई जल कैसे प्रकृति है जो अगर नहीं होता तो बहुत सारे जीव जंतु संसार से जल जीव जो होते हैं वह समाप्ति हो जाते हैं ईश्वर की असीम आया है या प्रकृति ने पानी इस प्रकार से बना है कि जब पानी ठंडा होता है तो उसके आयतन में वृद्धि होना शुरू हो जाती 4 डिग्री से लगाकर जीरो डिग्री तक पानी का आयतन बढ़ता चला जाता है अर्थात पानी से भर हल्की होना शुरू हो जाती है सर घनत्व कम हो जाता है या कहें कि वह जब पानी पर रहती है तो उसके द्वारा हटाए और पानी का उछाल इतना पता है क्यों तैरने लगी इसी लक्षण के कारण नदी तालाब समुद्र में जहां बहुत ठंडी है जहां स्थित होती है वहां का पानी वर्षों में बदल जाता है और वातावरण को कुछ नया कुछ सतह पर जमी हुई बर्फ से अंदर के पानी को गर्म ही रहता है पहाड़ स्वयंवर बन जाता है आप मेरा आशा समझ रहे हैं इसलिए बर्फ को देर में पड़ता है ईश्वर द्वारा दिया हुआ अब वरदान भी कह सकते हैं यह बहुत बड़ा प्रकृति का चमत्कार धन्यवाद

koi bhi cheez paani me takdir thi jab uske aytan se jo uska wajan hota hai usse adhik matra me vaah paani ko hata sake us se nirmit hone waale uchal ke karan usko us vastu ko dena padta hai chahen vaah lakdi ho ya phir aapki barf vaastav bus ishwar ki banai hui jal kaise prakriti hai jo agar nahi hota toh bahut saare jeev jantu sansar se jal jeev jo hote hain vaah samapti ho jaate hain ishwar ki asim aaya hai ya prakriti ne paani is prakar se bana hai ki jab paani thanda hota hai toh uske aytan me vriddhi hona shuru ho jaati 4 degree se lagakar zero degree tak paani ka aytan badhta chala jata hai arthat paani se bhar halki hona shuru ho jaati hai sir ghanatva kam ho jata hai ya kahein ki vaah jab paani par rehti hai toh uske dwara hataye aur paani ka uchal itna pata hai kyon tairne lagi isi lakshan ke karan nadi taalab samudra me jaha bahut thandi hai jaha sthit hoti hai wahan ka paani varshon me badal jata hai aur vatavaran ko kuch naya kuch satah par jami hui barf se andar ke paani ko garam hi rehta hai pahad sawamber ban jata hai aap mera asha samajh rahe hain isliye barf ko der me padta hai ishwar dwara diya hua ab vardaan bhi keh sakte hain yah bahut bada prakriti ka chamatkar dhanyavad

कोई भी चीज पानी में तकदीर थी जब उसके आयतन से जो उसका वजन होता है उससे अधिक मात्रा में वह

Romanized Version
Likes  19  Dislikes    views  384
WhatsApp_icon
user
0:52
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

प्रश्न है कि पर पानी में क्यों देखती है मैं इस प्रश्न का जवाब देता हूं कि बर्फ और पानी के बीच में संबंध है पानी सेवक का निर्माण होता है और बाप से पानी का निर्माण होता है परंतु दोनों की अवस्था में अंतर है पानी अर्थात वाटर द्रव अवस्था में होता है जबकि वर्ष तो संस्था में होता है जब हम किसी पानी को बर्फ बनाते हैं तो उसका घनत्व अधिक हो जाता है जबकि पानी का घनत्व कम होता है घनत्व के कारण ही पानी में बर्फ पड़ता है

prashna hai ki par paani me kyon dekhti hai main is prashna ka jawab deta hoon ki barf aur paani ke beech me sambandh hai paani sevak ka nirmaan hota hai aur baap se paani ka nirmaan hota hai parantu dono ki avastha me antar hai paani arthat water drav avastha me hota hai jabki varsh toh sanstha me hota hai jab hum kisi paani ko barf banate hain toh uska ghanatva adhik ho jata hai jabki paani ka ghanatva kam hota hai ghanatva ke karan hi paani me barf padta hai

प्रश्न है कि पर पानी में क्यों देखती है मैं इस प्रश्न का जवाब देता हूं कि बर्फ और पानी के

Romanized Version
Likes  2  Dislikes    views  65
WhatsApp_icon
user
0:18
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

आपका प्रश्न है कि पानी में बर्फ क्यों नहीं डूबता है तो दोस्तों आपके प्रश्न का उत्तर यह है कि पानी में बर्फ नहीं डूबता है इसका कारण यह है कि पानी का व्रत का जो घनत्व होता है वह पानी से बहुत कम होता है इसलिए बर्फ पानी में नहीं डूबता है

aapka prashna hai ki paani mein barf kyon nahi dubata hai toh doston aapke prashna ka uttar yah hai ki paani mein barf nahi dubata hai iska karan yah hai ki paani ka vrat ka jo ghanatva hota hai vaah paani se bahut kam hota hai isliye barf paani mein nahi dubata hai

आपका प्रश्न है कि पानी में बर्फ क्यों नहीं डूबता है तो दोस्तों आपके प्रश्न का उत्तर यह है

Romanized Version
Likes  41  Dislikes    views  847
WhatsApp_icon
play
user

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

बर्फ पानी में इसलिए करता है क्योंकि बर्फ का घनत्व पानी के घनत्व से कम होता है

barf paani mein isliye karta hai kyonki barf ka ghanatva paani ke ghanatva se kam hota hai

बर्फ पानी में इसलिए करता है क्योंकि बर्फ का घनत्व पानी के घनत्व से कम होता है

Romanized Version
Likes    Dislikes    views  4
WhatsApp_icon
user

Lucky patel

Youtuber

0:30
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

क्योंकि बर्फ हल्का रहता है उसमें एक ऐसा आकार रहता है जिसमें वर्ष में अंदर जो हमारे जाती है अंदर बूंदे रह जाती है जो जलते वक्त में तो उसके अंदर पांच बोलते हैं जो चाहे वह अंदर जमा हो जाती है तो फिर उसके हिसाब से वह हल्की रहती है और इसलिए पानी में तैरती है

kyonki barf halka rehta hai usme ek aisa aakaar rehta hai jisme varsh me andar jo hamare jaati hai andar bundein reh jaati hai jo jalte waqt me toh uske andar paanch bolte hain jo chahen vaah andar jama ho jaati hai toh phir uske hisab se vaah halki rehti hai aur isliye paani me tairti hai

क्योंकि बर्फ हल्का रहता है उसमें एक ऐसा आकार रहता है जिसमें वर्ष में अंदर जो हमारे जाती है

Romanized Version
Likes  3  Dislikes    views  102
WhatsApp_icon
qIcon
ask

Related Searches:
बर्फ पानी पर क्यों तैरती है ; बर्फ पानी गाना ;

This Question Also Answers:

QuestionsProfiles

Vokal App bridges the knowledge gap in India in Indian languages by getting the best minds to answer questions of the common man. The Vokal App is available in 11 Indian languages. Users ask questions on 100s of topics related to love, life, career, politics, religion, sports, personal care etc. We have 1000s of experts from different walks of life answering questions on the Vokal App. People can also ask questions directly to experts apart from posting a question to the entire answering community. If you are an expert or are great at something, we invite you to join this knowledge sharing revolution and help India grow. Download the Vokal App!