क्या भारत में वैलेंटाइन दिवस को शिवरात्रि से अधिक गंभीरता से लेतें है? ऐसा क्यों?...


play
user

Girish Billore Mukul

Government Officer

1:28

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

यह छोटी मानसिकता है अगर विश्व के सारे देश योग पर आकर्षित हो गए हैं और लोगों को पसंद भी है योगाभ्यास करना योग क्रियाएं करना तो हम वैलेंटाइन डे मना कर क्यों नाराजगी व्यक्त कर रहे हैं और ऐसी व्यवस्था से क्या हम अच्छी चीजें जो आत्मसात करने लायक थी उसे हटा देंगे उदाहरण के तौर पर 80 वर्षों पहले हमारे देश में पुरुष जिस तरह की पोशाक पहनते थे धोती कुर्ता या लूंगी इत्यादि उसे छोड़कर आप पेंट शर्ट पर आ गए जिस आपने अपना दिल तो उसे स्वीकार करने में आपका जो सांस्कृतिक वैभव समाप्त नहीं हुआ तो वेलेंटाइन दिवस पर अगर आपने ऐसा किया तो गलत क्या किया उसे सही करने में गलती क्या है कमी क्या है प्रेम का संदेश देने वाला कोई भी दे शिकारी होना चाहिए इसके प्रदर्शन में अनुशासन बहुत जरूरी है

yah choti mansikta hai agar vishwa ke saare desh yog par aakarshit ho gaye hain aur logo ko pasand bhi hai yogabhayas karna yog kriyaen karna toh hum valentine day mana kar kyon narajgi vyakt kar rahe hain aur aisi vyavastha se kya hum achi cheezen jo aatmsat karne layak thi use hata denge udaharan ke taur par 80 varshon pehle hamare desh mein purush jis tarah ki poshaak pehente the dhoti kurta ya lungi ityadi use chhodkar aap paint shirt par aa gaye jis aapne apna dil toh use sweekar karne mein aapka jo sanskritik vaibhav samapt nahi hua toh valentine divas par agar aapne aisa kiya toh galat kya kiya use sahi karne mein galti kya hai kami kya hai prem ka sandesh dene vala koi bhi de shikaaree hona chahiye iske pradarshan mein anushasan bahut zaroori hai

यह छोटी मानसिकता है अगर विश्व के सारे देश योग पर आकर्षित हो गए हैं और लोगों को पसंद भी है

Romanized Version
Likes  12  Dislikes    views  213
KooApp_icon
WhatsApp_icon
12 जवाब
no img
qIcon
ask
ऐसे और सवाल
Loading...
Loading...
qIcon
ask

This Question Also Answers:

QuestionsProfiles

Vokal App bridges the knowledge gap in India in Indian languages by getting the best minds to answer questions of the common man. The Vokal App is available in 11 Indian languages. Users ask questions on 100s of topics related to love, life, career, politics, religion, sports, personal care etc. We have 1000s of experts from different walks of life answering questions on the Vokal App. People can also ask questions directly to experts apart from posting a question to the entire answering community. If you are an expert or are great at something, we invite you to join this knowledge sharing revolution and help India grow. Download the Vokal App!