चिकन खाके राहुल गांधी की मंदिर में प्रवेश करने की आलोचना हुई।क्या भोजन धर्म से संबंधित है?...


user

Shubham

Software Engineer in IBM

1:22
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

विकी जो आलोचना अभी चल रही है कि राहुल गांधी चिकन खाकर मंदिर में गए यह उनकी पसंद है कि वह क्या करना चाहते हैं बुद्ध भगवान को मानते हैं तो मंदिर गए वह चिकन खा के मंदिर गए तो यह उनकी सोच है तू हमारे धर्म में क्या होता है कि हम अपनी जो सोचा वह दूसरे पर डालते हैं जबरदस्ती तुम्हें ऐसा नहीं करना चाहिए आपने तो सुना ही होगा कि काफी लोग मंदिर पूजा-पाठ काफी ज्यादा करते हैं फिर भी कुछ ऐसे गलत काम करते हैं जो कि हमारे धर्म में उसको बहुत गलत बताया गया है फिर भी वह करते हैं फिर भी हम उनको पूछते हैं क्योंकि वह मंदिर में पूजा पाठ ज्यादा करते हैं तो यह सब की सोच है अपनी-अपनी तो हमें इस बात पर नहीं ध्यान देना चाहिए कि वह चिकन खाकर मंदिर गए या नहीं गए उनकी पर्सनल भी है अगर उनको अच्छा लगता है तो वह गए और नहीं अच्छा लगता तो नहीं गए तो यह उनकी पर्सनल हमेशा आलोचना नहीं करनी चाहिए और अभी फिलहाल में BJP की पार्टी ने जो कर्नाटक में अभी जो यह आलोचना हो रही है तो BJP की पार्टी ने धावा बोला है राहुल गांधी पर तो मुझे लगता है यह सही नहीं है और इसको भी पॉलिटिक्स नहीं बनाना चाहिए और हमें हर चीज को धर्म से रिलेटेड नहीं करना चाहिए

vicky jo aalochana abhi chal rahi hai ki rahul gandhi chicken khakar mandir mein gaye yah unki pasand hai ki vaah kya karna chahte hain buddha bhagwan ko maante hain toh mandir gaye vaah chicken kha ke mandir gaye toh yah unki soch hai tu hamare dharm mein kya hota hai ki hum apni jo socha vaah dusre par daalte hain jabardasti tumhe aisa nahi karna chahiye aapne toh suna hi hoga ki kaafi log mandir puja path kaafi zyada karte hain phir bhi kuch aise galat kaam karte hain jo ki hamare dharm mein usko bahut galat bataya gaya hai phir bhi vaah karte hain phir bhi hum unko poochhte hain kyonki vaah mandir mein puja path zyada karte hain toh yah sab ki soch hai apni apni toh hamein is baat par nahi dhyan dena chahiye ki vaah chicken khakar mandir gaye ya nahi gaye unki personal bhi hai agar unko accha lagta hai toh vaah gaye aur nahi accha lagta toh nahi gaye toh yah unki personal hamesha aalochana nahi karni chahiye aur abhi filhal mein BJP ki party ne jo karnataka mein abhi jo yah aalochana ho rahi hai toh BJP ki party ne dhava bola hai rahul gandhi par toh mujhe lagta hai yah sahi nahi hai aur isko bhi politics nahi banana chahiye aur hamein har cheez ko dharm se related nahi karna chahiye

विकी जो आलोचना अभी चल रही है कि राहुल गांधी चिकन खाकर मंदिर में गए यह उनकी पसंद है कि वह क

Romanized Version
Likes  3  Dislikes    views  166
KooApp_icon
WhatsApp_icon
6 जवाब
no img
qIcon
ask
ऐसे और सवाल
Loading...
Loading...
qIcon
ask
QuestionsProfiles

Vokal App bridges the knowledge gap in India in Indian languages by getting the best minds to answer questions of the common man. The Vokal App is available in 11 Indian languages. Users ask questions on 100s of topics related to love, life, career, politics, religion, sports, personal care etc. We have 1000s of experts from different walks of life answering questions on the Vokal App. People can also ask questions directly to experts apart from posting a question to the entire answering community. If you are an expert or are great at something, we invite you to join this knowledge sharing revolution and help India grow. Download the Vokal App!