गद्य एवं पद्य वाला वेद क्या है?...


user

Manish Bhargava

Trainer/ Mentor in Delhi education deptt.

0:26
Play

Likes  124  Dislikes    views  1974
WhatsApp_icon
4 जवाब
qIcon
ask
ऐसे और सवाल
Loading...
Loading...
user

Dr. Mahesh Mohan Jha

Asst. Professor,Astrologer,Author

0:36
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

नमस्कार आपका प्रश्न है गलत एवं पंडवाला वेद क्या है यजुर्वेद में मंत्रों को गद्य तथा पद्य दोनों में लिखा गया है इसका उच्चारण आधार वरीय नामक पुरोहित करता है इस वेद में अनेक प्रकार के यंत्र को संपन्न करने की विधियों का उल्लेख यजुर्वेद से उत्तर वैदिक काल की राजनीतिक सामाजिक एवं धार्मिक जीवन की जानकारी मिलती है धन्यवाद

namaskar aapka prashna hai galat evam pandavala ved kya hai yajurved me mantron ko gadya tatha padya dono me likha gaya hai iska ucharan aadhar variya namak purohit karta hai is ved me anek prakar ke yantra ko sampann karne ki vidhiyon ka ullekh yajurved se uttar vaidik kaal ki raajnitik samajik evam dharmik jeevan ki jaankari milti hai dhanyavad

नमस्कार आपका प्रश्न है गलत एवं पंडवाला वेद क्या है यजुर्वेद में मंत्रों को गद्य तथा पद्य

Romanized Version
Likes  7  Dislikes    views  68
WhatsApp_icon
user

Chandan Singh

want to become IPS Officer

1:42
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

सेंड गुड मॉर्निंग आपका सवाल गधे एवं पद वाला वेद क्या है दोस्त वेदों का संकलनकर्ता महर्षि कृष्ण द्वैपायन वेद व्यास ने किया था वेद जो है हिंदू धर्म का एक प्राचीन ग्रंथ है पवित्र ग्रंथ है और दोस्त वेद में सबसे पहले ऋग्वेद का निर्माण हुआ था जिसको कहा जाता है विचारों का संग्रह है अर्थात कई लोगों का संग्रह है और इसमें 10 मंडल बाल खिल सहित 1028 सूक्त जो है मिलते हैं और आपका दूसरा था यह दुवेद इसमें या की असल प्रक्रिया के लिए गधा और पद मंत्र है अर्थात आपका सवाल जो है गधे एवं पद वाला भी अजीब था आज दोस्त तीसरा है सामवेद सामवेद को संगीतमय वेद भी कहा जाता है क्योंकि इसमें गाने वाला मंत्र था याद में हवन में जो मंत्र गाया जाता है श्लोक की तरह वह सामवेद में ही व्याख्यान था अर्थ वेद जो चौथा वेद हैं उस वेद को अर्थ बार इसी द्वार रचना किए जाने के कारण ही नाम भी अर्थ वेद पड़ा इस बीच में जादू टोना सांप मुक्ति झाड़-फूंक बीमारी बगैरा के इलाज के बारे में व्याख्यान है मैंने आपको चारों वेद बता दिया आपका उत्तरी अजूबे इन है गधे एवं पद दोनों में चाहिए भेद व्याख्यान

send good morning aapka sawaal gadhe evam pad vala ved kya hai dost vedo ka sankalanakarta maharshi krishna dwaipayan ved vyas ne kiya tha ved jo hai hindu dharm ka ek prachin granth hai pavitra granth hai aur dost ved me sabse pehle rigved ka nirmaan hua tha jisko kaha jata hai vicharon ka sangrah hai arthat kai logo ka sangrah hai aur isme 10 mandal baal khil sahit 1028 sukta jo hai milte hain aur aapka doosra tha yah duved isme ya ki asal prakriya ke liye gadha aur pad mantra hai arthat aapka sawaal jo hai gadhe evam pad vala bhi ajib tha aaj dost teesra hai samved samved ko sangitmay ved bhi kaha jata hai kyonki isme gaane vala mantra tha yaad me hawan me jo mantra gaaya jata hai shlok ki tarah vaah samved me hi vyakhyan tha arth ved jo chautha ved hain us ved ko arth baar isi dwar rachna kiye jaane ke karan hi naam bhi arth ved pada is beech me jadu tona saap mukti jhad phoonk bimari bagaira ke ilaj ke bare me vyakhyan hai maine aapko charo ved bata diya aapka uttari ajoobe in hai gadhe evam pad dono me chahiye bhed vyakhyan

सेंड गुड मॉर्निंग आपका सवाल गधे एवं पद वाला वेद क्या है दोस्त वेदों का संकलनकर्ता महर्षि क

Romanized Version
Likes  15  Dislikes    views  137
WhatsApp_icon
play
user

Gulnaz

लेवल 1 (बिगिनर)

0:20

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

यकृत के अध्याय आवश्यक रूप से एक शेर और आशीर्वाद की बनाए गए हैं मैं कई प्रार्थनाएं और बनिए और मनाएं शामिल है यह कुवैत की अध्याय में अलग-अलग का बलिदान करने के लिए व्यापक विवरण दिया गया है

yakrit ke adhyay aavashyak roop se ek sher aur ashirvaad ki BA naye gaye hai kai prarthanaen aur BA niye aur manaaye shaamil hai yah kuwait ki adhyay mein alag alag ka BA lidaan karne ke liye vyapak vivran diya gaya hai

यकृत के अध्याय आवश्यक रूप से एक शेर और आशीर्वाद की बनाए गए हैं मैं कई प्रार्थनाएं और बनिए

Romanized Version
Likes  1  Dislikes    views  232
WhatsApp_icon
qIcon
ask

Related Searches:
ved kya hai ;

This Question Also Answers:

QuestionsProfiles

Vokal App bridges the knowledge gap in India in Indian languages by getting the best minds to answer questions of the common man. The Vokal App is available in 11 Indian languages. Users ask questions on 100s of topics related to love, life, career, politics, religion, sports, personal care etc. We have 1000s of experts from different walks of life answering questions on the Vokal App. People can also ask questions directly to experts apart from posting a question to the entire answering community. If you are an expert or are great at something, we invite you to join this knowledge sharing revolution and help India grow. Download the Vokal App!