मैं हिमालय जाकर एक सन्यासी बनना चाहता हूँ। गुरु की तलाश कैसे करूँ?...


user

S Bajpay

Yoga Expert | Beautician & Gharelu Nuskhe Expert

2:45
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

आपने प्रतिक्रिया में आलस जाकर एक सन्यासी बनना चाहता हूं जिनकी तलाश के चित्र देखिए आप अपनी जगह आपकी इच्छा बहुत अच्छी है आप भी जगह बहुत सही लेकिन आपके चाहने में और ईश्वर की चाहने में अंतर हो सकता है मैं आपको एक बात बताता हूं आपकी मन की ना हो तो आप हमेशा और अधिक खुश हो जाओ यह सोच कर कि मेरे मन की नहीं हुई है तो ईश्वर ने अपने मन की की है और उसमें हमारा भला छुपा हुआ मैं आपको हमारे जाकर सन्यासी होने से नहीं होना चाहता हूं लेकिन मैं आपको सच्चे गुरु की तलाश कैसी करूंगी जरूर बताऊंगा क्योंकि सच्चे गुरु को सच्चा गुरु ढूंढने से नहीं मिलता है ढूंढने से सच्चा गुरु मिलता तो लोगों ने बहुत से ग्रुप बना लिए होते बहुत की गुरु मिल जाती है सच्चा गुरु आपके भाग्य में होगा आपकी किस्मत में होगा और आप के प्रारंभ में माला जाकर सन्यासी बनना होगा आपको खुद मिलेगा अब शुरू कीजिए अंजना साधु संतन से टकराती रहती हैं दिन-रात सच्चा गुरु क्या होता है कौन होता है कैसा होता है सच्चा गुरु पहले तो आप से रुपए कैसे की मांग नहीं करेगा किसी तरह का माया की मांग नहीं करेगा सच्चा दूध होगा तो आपसे ज्यादा से ज्यादा भोजन करें और भोजन करवाने में किसी को मैं नहीं समझता बहुत बड़ा वादा है सच्चा गुरु जो होगा आपका वह आप देखकर पहचान जाएंगे निर्लिप्त होगा दिन विचार होगा उसमें कोई इच्छा शेष नहीं बचा व्हाट्सएप भोजन का निवेदन करवा दें उसके बाद आप उसी प्रकार पहचान जाएंगे हमारे गुरु बन जाए और यदि संभव हो तो आप उससे थोड़ी ज्ञान धर्म की बात भी कर सकती हैं उसे भी आपको उसकी सतह का अंदाज लग जाएगा सच्चा घूमने से नहीं मिलता सच्चा गुरु प्रारंभ से ईश्वर की क्षमता है और मेरा आपको ही निवेदन है कि अनुरोध है कि जब आपको सच्चा गुरु मिल जाए तभी आप जाकर सन्यासी बनने की बात सोच

aapne pratikriya me aalas jaakar ek sanyaasi banna chahta hoon jinki talash ke chitra dekhiye aap apni jagah aapki iccha bahut achi hai aap bhi jagah bahut sahi lekin aapke chahne me aur ishwar ki chahne me antar ho sakta hai main aapko ek baat batata hoon aapki man ki na ho toh aap hamesha aur adhik khush ho jao yah soch kar ki mere man ki nahi hui hai toh ishwar ne apne man ki ki hai aur usme hamara bhala chupa hua main aapko hamare jaakar sanyaasi hone se nahi hona chahta hoon lekin main aapko sacche guru ki talash kaisi karungi zaroor bataunga kyonki sacche guru ko saccha guru dhundhne se nahi milta hai dhundhne se saccha guru milta toh logo ne bahut se group bana liye hote bahut ki guru mil jaati hai saccha guru aapke bhagya me hoga aapki kismat me hoga aur aap ke prarambh me mala jaakar sanyaasi banna hoga aapko khud milega ab shuru kijiye anjana sadhu santan se takarati rehti hain din raat saccha guru kya hota hai kaun hota hai kaisa hota hai saccha guru pehle toh aap se rupaye kaise ki maang nahi karega kisi tarah ka maya ki maang nahi karega saccha doodh hoga toh aapse zyada se zyada bhojan kare aur bhojan karwane me kisi ko main nahi samajhata bahut bada vada hai saccha guru jo hoga aapka vaah aap dekhkar pehchaan jaenge nirlipt hoga din vichar hoga usme koi iccha shesh nahi bacha whatsapp bhojan ka nivedan karva de uske baad aap usi prakar pehchaan jaenge hamare guru ban jaaye aur yadi sambhav ho toh aap usse thodi gyaan dharm ki baat bhi kar sakti hain use bhi aapko uski satah ka andaaz lag jaega saccha ghoomne se nahi milta saccha guru prarambh se ishwar ki kshamta hai aur mera aapko hi nivedan hai ki anurodh hai ki jab aapko saccha guru mil jaaye tabhi aap jaakar sanyaasi banne ki baat soch

आपने प्रतिक्रिया में आलस जाकर एक सन्यासी बनना चाहता हूं जिनकी तलाश के चित्र देखिए आप अपनी

Romanized Version
Likes  406  Dislikes    views  3710
WhatsApp_icon
4 जवाब
qIcon
ask
ऐसे और सवाल
Loading...
Loading...
user

Nitish Kumar

RRB Railway JE

0:20
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

आप पहले ही वाले चले जाए उसके बाद अपने गुरु की तलाश करें आपको गुरुजी अवश्य मिल जाएगी हमारे साथ अपना या फिर धर्म निभा रहे हैं इसलिए आप सन्यासी

aap pehle hi waale chale jaaye uske baad apne guru ki talash kare aapko guruji avashya mil jayegi hamare saath apna ya phir dharm nibha rahe hain isliye aap sanyaasi

आप पहले ही वाले चले जाए उसके बाद अपने गुरु की तलाश करें आपको गुरुजी अवश्य मिल जाएगी हमारे

Romanized Version
Likes  9  Dislikes    views  234
WhatsApp_icon
play
user

Dr Sampadananda Mishra

Sanskrit scholar, Author, Director, Sri Aurobindo Foundation for Indian Culture

4:50

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

जो इस प्रकार के सवाल करते हैं संसार में रहते हैं यह सन्यास बन जाओ सन्यासी बनने का इतना बढ़ जाता है या संसार में उपस्थित हो जाती है कि मैं क्या करूं यह करना पड़ेगा वास्तविक रूप में हम क्यों करना चाहते हैं उसका संकल्प या मन का कोई एक अंशु चाहता है क्योंकि हमेशा आप की कसम हम जितने भी नहीं करना ठीक नहीं करना चाहते हो तुम किसी भी प्रकार का डिसिशन प्रकार का निश्चय करें जीवन में कुछ करने का सही रहेगा सर्वाधिक व्यक्ति को भी देखना पड़ेगा अपने जीवन का लक्ष्य क्या है बाबू सरन सुनिश्चित रूप में क्या चाहती हैं मन सन्यासी सन्यासी चल सन्यासी बंदूक और उससे बात कर सकता हूं भाभी अगर आपके पास गुरु अपने आप किसी ना किसी रूप में मुझे गुरु शिव गुरु अपने आप बिना प्रवास मिल जाते हैं किसी ना किसी रूप से पंकज से पता नहीं होती है कुर्सी से प्रभावित अध्यात्म का नियम है हमारे सहायक बनते हैं लेकिन जो वास्तविक गुरु है जो वास्तविक ज्ञान है जो वास्तुशास्त्र हमारे अंदर ही है हमारे अंदर की आत्मा हमारे गुरु गुरु गुप्ता मार्ग हमको वाहेगुरु जलमार्ग बहादुर शास्त्री मार्ग को मिलता है संस्कृत में 102 से ज्यादा प्रयास नहीं करना पड़ता है बहुत कुछ है जो है तू स्वाभाविक रूप में होता रहता है जब यह होता है एक अंतरात्मा दुष्प्रचार का आनंद लगता है बच्चन का

jo is prakar ke sawaal karte hain sansar mein rehte hain yah sanyas ban jao sanyaasi banne ka itna badh jata hai ya sansar mein upasthit ho jaati hai ki main kya karu yah karna padega vastavik roop mein hum kyon karna chahte hain uska sankalp ya man ka koi ek anshu chahta hai kyonki hamesha aap ki kasam hum jitne bhi nahi karna theek nahi karna chahte ho tum kisi bhi prakar ka decision prakar ka nishchay kare jeevan mein kuch karne ka sahi rahega sarvadhik vyakti ko bhi dekhna padega apne jeevan ka lakshya kya hai babu saran sunishchit roop mein kya chahti hain man sanyaasi sanyaasi chal sanyaasi bandook aur usse baat kar sakta hoon bhabhi agar aapke paas guru apne aap kisi na kisi roop mein mujhe guru shiv guru apne aap bina pravas mil jaate hain kisi na kisi roop se pankaj se pata nahi hoti hai kursi se prabhavit adhyaatm ka niyam hai hamare sahayak bante hain lekin jo vastavik guru hai jo vastavik gyaan hai jo vastushastra hamare andar hi hai hamare andar ki aatma hamare guru guru gupta marg hamko vaheguru jalmarg bahadur shastri marg ko milta hai sanskrit mein 102 se zyada prayas nahi karna padta hai bahut kuch hai jo hai tu swabhavik roop mein hota rehta hai jab yah hota hai ek antaraatma dushprachar ka anand lagta hai bachchan ka

जो इस प्रकार के सवाल करते हैं संसार में रहते हैं यह सन्यास बन जाओ सन्यासी बनने का इतना बढ़

Romanized Version
Likes  18  Dislikes    views  142
WhatsApp_icon
user
0:12
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

मेरी नजर में एक अच्छे इंसान को सुनने से बनने की कोई जरूरत नहीं है अपने माता-पिता की सेवा करो वही सबसे बड़ा धर्म है

meri nazar mein ek acche insaan ko sunne se banne ki koi zarurat nahi hai apne mata pita ki seva karo wahi sabse bada dharm hai

मेरी नजर में एक अच्छे इंसान को सुनने से बनने की कोई जरूरत नहीं है अपने माता-पिता की सेवा क

Romanized Version
Likes    Dislikes    views  6
WhatsApp_icon
qIcon
ask
QuestionsProfiles

Vokal App bridges the knowledge gap in India in Indian languages by getting the best minds to answer questions of the common man. The Vokal App is available in 11 Indian languages. Users ask questions on 100s of topics related to love, life, career, politics, religion, sports, personal care etc. We have 1000s of experts from different walks of life answering questions on the Vokal App. People can also ask questions directly to experts apart from posting a question to the entire answering community. If you are an expert or are great at something, we invite you to join this knowledge sharing revolution and help India grow. Download the Vokal App!