अपनी मंजिल तक पहुंचने का एक आसान रास्ता क्या है?...


user

Damini

Study

0:28
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

मंजू किसी और की कहां जा रही है इसी कभी मत देखिए हमेशा यह दिखेगी समय आपको किस रास्ते पर ले जा रहा है आप खुद जब आपको समय जिस माहौल में ढाल है उसमें धागे जिस रास्ते पर ले जा रहा है उस पर चाहिए मजबूर करने का समय आपको जिस रास्ते पर जाने के लिए स्पीच चाहिए हाथ चलते जाइए जल्दी जाइए मंजिल वही होगी जहां वह आप को ले जाएगा

manju kisi aur ki kahaan ja rahi hai isi kabhi mat dekhiye hamesha yah dikhegi samay aapko kis raste par le ja raha hai aap khud jab aapko samay jis maahaul mein dhal hai usme dhaage jis raste par le ja raha hai us par chahiye majboor karne ka samay aapko jis raste par jaane ke liye speech chahiye hath chalte jaiye jaldi jaiye manjil wahi hogi jaha vaah aap ko le jaega

मंजू किसी और की कहां जा रही है इसी कभी मत देखिए हमेशा यह दिखेगी समय आपको किस रास्ते पर ले

Romanized Version
Likes  12  Dislikes    views  256
WhatsApp_icon
6 जवाब
qIcon
ask
ऐसे और सवाल
Loading...
Loading...
play
user

Dr.Nisha Joshi

Psychologist

0:25

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

अच्छा प्रश्न अपनी मंजिल तक पहुंचने का एक आसान रास्ता क्या है आसान रास्ता देखे कोई भी नहीं है जो भी मंजिल तक पहुंचना है मेहनत करनी पड़ेगी ईमानदारी और मेहनत से काम करें कभी ना कभी तो रास्ता मिल जाता है ठीक है बीच में रुकावट कुछ भी आता है लेकिन मिल जाता है ओके देर है लेकिन रखेगा

accha prashna apni manjil tak pahuchne ka ek aasaan rasta kya hai aasaan rasta dekhe koi bhi nahi hai jo bhi manjil tak pahunchana hai mehnat karni padegi imaandaari aur mehnat se kaam kare kabhi na kabhi toh rasta mil jata hai theek hai beech mein rukavat kuch bhi aata hai lekin mil jata hai ok der hai lekin rakhega

अच्छा प्रश्न अपनी मंजिल तक पहुंचने का एक आसान रास्ता क्या है आसान रास्ता देखे कोई भी नहीं

Romanized Version
Likes  309  Dislikes    views  8022
WhatsApp_icon
user
0:09
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

अगर आप पहली सीढ़ी पर कदम अच्छे से रखेंगे तो आप मंजिल तक आराम से सो जाएंगे इसमें कोई नहीं है

agar aap pehli sidhi par kadam acche se rakhenge toh aap manjil tak aaram se so jaenge isme koi nahi hai

अगर आप पहली सीढ़ी पर कदम अच्छे से रखेंगे तो आप मंजिल तक आराम से सो जाएंगे इसमें कोई नहीं ह

Romanized Version
Likes    Dislikes    views  1
WhatsApp_icon
user
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

अपनी मंजिल तक पहुंचने के लिए बहुत ही अच्छी कठिनाइयों का सामना करना पड़ता है परंतु हम अपनी हार कभी नहीं मानते हैं इसलिए अपनी मंजिल को पाने के लिए बहुत ही से कुछ नहीं तो सामना करना पड़ता है इसलिए कुछ नहीं कर सामना करते हुए अपनी मम्मी से छुपाते हैं

apni manjil tak pahuchne ke liye bahut hi achi kathinaiyon ka samana karna padta hai parantu hum apni haar kabhi nahi maante hain isliye apni manjil ko paane ke liye bahut hi se kuch nahi toh samana karna padta hai isliye kuch nahi kar samana karte hue apni mummy se chhupaate hain

अपनी मंजिल तक पहुंचने के लिए बहुत ही अच्छी कठिनाइयों का सामना करना पड़ता है परंतु हम अपनी

Romanized Version
Likes    Dislikes    views  3
WhatsApp_icon
user
0:12
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

अपनी मंजिल तक पहुंचने का रास्ता नहीं होता क्योंकि हमें अपनी जिंदगी में पढ़ते हैं अपनी मंजिल को पार करने के लिए

apni manjil tak pahuchne ka rasta nahi hota kyonki hamein apni zindagi mein padhte hain apni manjil ko par karne ke liye

अपनी मंजिल तक पहुंचने का रास्ता नहीं होता क्योंकि हमें अपनी जिंदगी में पढ़ते हैं अपनी मंजि

Romanized Version
Likes    Dislikes    views  
WhatsApp_icon
user

Pshyco

businessman and all rounder

1:43
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

अपनी मंजिल तक पहुंचने का एक आसान रास्ता या है कि आप तो लगातार कंटिन्यू रही किसी चीज को अगर पकड़ ली है तो जो पूरा अंत तक के लिए लेना था आपका और आपका वहां नहीं जाएगा आप जैसे कि कोई रास्ता क्यों करते हो अब दिल्ली का रास्ता चेंज कर रहे हो दिल्ली में बिल्ली एक रास्ता में जा रहा है और अब दूसरा रास्ता ले ली है तो दिलीप पहुंच पाएगा तुम मंजिल को पहला पहुंचने के लिए आप किसी चीज को टारगेट करना पड़ता है टारगेट करने के लिए रास्ता खुद खुद मिलेगा ढूंढने पर पहला टारगेट खोजना पड़ता है मंजिल सबसे पहला चीजें मंजिल इससे आपका रास्ता खुलता है ठीक है जैसे कि कोई घर है बाहर में ताला लगा हुआ है तुम्हें घर इस घर को जाना है तब ना मैं रास्ता खो जाऊंगा पहले चाबी भी ताला खोल लूंगा फिर धीरे-धीरे अंदर घुस लूंगा तब उस घर में जाऊंगा घर के बारे में पता कर लूंगा कहां पर है ऐसा है तो सबसे पहली बात है कि आप मंजिल को जैसे कि मंजिल को आप उस कीजिए और मंजिल का रास्ता खून निकल जाएगा जिसे कि अब मंजिल मंजिल मतलब जो जीत से हासिल किया जाए उसे मंजिल चाहते हैं तो मैं यही कहना है कि अजीत तो बहुत है बस मंजिल का टारगेट में रहिए ठीक है बाय

apni manjil tak pahuchne ka ek aasaan rasta ya hai ki aap toh lagatar continue rahi kisi cheez ko agar pakad li hai toh jo pura ant tak ke liye lena tha aapka aur aapka wahan nahi jaega aap jaise ki koi rasta kyon karte ho ab delhi ka rasta change kar rahe ho delhi mein billi ek rasta mein ja raha hai aur ab doosra rasta le li hai toh dilip pohch payega tum manjil ko pehla pahuchne ke liye aap kisi cheez ko target karna padta hai target karne ke liye rasta khud khud milega dhundhne par pehla target khojana padta hai manjil sabse pehla cheezen manjil isse aapka rasta khulta hai theek hai jaise ki koi ghar hai bahar mein tala laga hua hai tumhe ghar is ghar ko jana hai tab na main rasta kho jaunga pehle chabi bhi tala khol lunga phir dhire dhire andar ghus lunga tab us ghar mein jaunga ghar ke bare mein pata kar lunga kahaan par hai aisa hai toh sabse pehli baat hai ki aap manjil ko jaise ki manjil ko aap us kijiye aur manjil ka rasta khoon nikal jaega jise ki ab manjil manjil matlab jo jeet se hasil kiya jaaye use manjil chahte hain toh main yahi kehna hai ki ajit toh bahut hai bus manjil ka target mein rahiye theek hai bye

अपनी मंजिल तक पहुंचने का एक आसान रास्ता या है कि आप तो लगातार कंटिन्यू रही किसी चीज को अगर

Romanized Version
Likes    Dislikes    views  
WhatsApp_icon
qIcon
ask
QuestionsProfiles

Vokal App bridges the knowledge gap in India in Indian languages by getting the best minds to answer questions of the common man. The Vokal App is available in 11 Indian languages. Users ask questions on 100s of topics related to love, life, career, politics, religion, sports, personal care etc. We have 1000s of experts from different walks of life answering questions on the Vokal App. People can also ask questions directly to experts apart from posting a question to the entire answering community. If you are an expert or are great at something, we invite you to join this knowledge sharing revolution and help India grow. Download the Vokal App!